बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स

छवि स्रोत,माँ बेटा सेकस

तस्वीर का शीर्षक ,

देसी सेक्सी वीडियो हॉट: बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स, मोनिका- कोई दिक्कत नहीं है, दीदी घर आ गई हैं, तो हम शाम को उनसे मिलने चलेंगे.

एक्स एक्स हिंदी

आप ये जान लीजिए कि लड़की चाहे कितनी ही सुंदर क्यों न हो अगर वो मोटी नहीं है … और खास कर उसका पिछवाड़ा मस्त भरा हुआ नहीं है, तो मुझे वो जरा भी पसंद नहीं आएगी. हिंदी वीडियो सेक्सी एक्स एक्स एक्सवहां का लेखा जोखा रियासत का जागीरदार रखा करता था जो उधर का बलशाली ठाकुर होता था.

मैं अपनी आंखों से एक गैर मर्द के हाथ से अपनी बीवी के दूध दबाकर देखते हुए मस्त होने लगा. एक्स एक्स एक्स चलने वाला वीडियोभाभी एक तेज आवाज के साथ मेरे मुँह पर झड़ गईं और मैंने चूत का रस चाट लिया.

पापा ने थोड़ी देर चूचियों से खेला और उनको दबा दबा कर एकदम लाल कर दिया.बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स: अंधेरा होने के कारण दीदी को पता नहीं था कि मैंने कपड़े निकाल दिए और वो मुझे कुछ बोल भी नहीं सकती थी क्योंकि मैंने उसको पहले ही बोला था कि स्पा वाली मालिश करूंगा.

उसे 5 मिनट किस करने के बाद मैंने उससे पूछा- मेरे साथ मजा आ रहा है?वो हंस कर हां में सर हिलाने लगी.मैंने उनकी पैंटी नीचे की तरफ खींचा, आह … अन्दर का क्या मस्त नजारा था.

हिंदी में जबरदस्त चुदाई - बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स

चाचा ने हम सभी को पूरी बात बताई और पूछा कि तुम लोगों को तो इस शादी से कोई ऐतराज़ नहीं?हम तीनों ने भी समझदारी के साथ उन्हें कह दिया कि हमको किसी तरह का कोई ऐतराज नहीं है.फिर महेश सर उठकर बेड पर बैठ गए और मम्मी को उठाकर अपनी गोद में बैठा लिया.

अब प्रीति ने अपनी चूत बुआ के मुँह में रख दी और बुआ उसकी चुत चाटने लगीं. बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स मेरी बुआ उस समय 22 साल की थीं और उन्होंने 12वीं की पढ़ाई पूरी कर ली थी.

एक सफल कॉल ब्वॉय या कॉल गर्ल कैसे बनना है, इसके लिए मैं आपको रोज एक सीख दूंगी.

बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स?

तो मैंने पति का मूड समझने के लिए बता दिया कि वो मेरी हथेली पूरी तरह से दबाने लगा है और कभी कभी मौका मिलने पर पूरी बांह भी सहला देता है।पति ने चटकारे लेकर बोला- अब वो चोद के ही रहेगा तुझे!मैंने नाटक करते हुए कहा- अजी हां … रहने दो ऐसे ही दे दूंगी क्या मैं?और दिन तो उसकी मेरी छुआ छुई ही हो पाती थी; फिर आया सन्डे … उसने मुझे 1 घंटा लेट यानि 12 बजे बुलाया. कुछ पल बाद जैसे ही हम दोनों ने किस खत्म किया, तब मुझे अहसास हुआ कि मैंने कितना बड़ा कदम उठा लिया था. मेरी पैंटी 26 साइज़ की कमर को छोड़के 34 साइज़ के चूतड़ों से होती हुई अब मेरे पैरों में पड़ी थी.

चाय पीने के दौरान मैंने गौर से देखा कि उसकी आंखें गोल-गोल और एकदम चमकीली थीं. उन्हें देख कर मेरा लंड एकदम से उठ कर मेरे चड्डी को फाड़ कर बुआ के चूतड़ों में घुस जाना चाह रहा था. उसके बाद मैं उसे मेट्रो तक ड्रॉप करने गया क्योंकि वो दिल्ली के दूसरे इलाके में रहती थी और वो मुखर्जी नगर में कोचिंग के लिए आती थी.

[emailprotected]हॉट बॉलीवुड सेक्स कहानी का अगला भाग:बॉलीवुड अभिनेत्री को गाड़ी चलाना सिखाया- 2. लगभग एक घंटे बाद मीना रूम में आयी और बोली- जीजू खाने में क्या बनाऊं?मैंने कहा- जो तुझे पसंद हो. तुमको उस बाबा के उस्ताद के पास कब चलना है?उसने जैसे ही बाबा जी का नाम लिया, मेरी चूत में खुजली मचने लगी.

दो तीन दिन तक ऐसा ही चला और अब मैं जब भी उनकी मालिश करता, मेरे मन में उन्हें चोदने का ख्याल आने लगा और लण्ड खड़ा हो जाता जिसे वो देख लेती थी पर कुछ नहीं कहती।अगले दिन‌ मैंने हिम्मत की और उनके घुटनों तक मालिश करने लगा. हम दोनों अपनी गीली चूत आपस में रगड़ने लगे और दोनों उत्तेजना भरी आवाजें निकालने लगीं.

कल्पेश ने उसकी पीठ पर हाथ फेर कर उसे सहलाया और उससे कहा- कोई दिक्कत नहीं है मीरा … तुम चिंता मत करो.

देसी वर्जिन Xxx कहानी एक कुंवारी लड़की की है जो अपने पिता के दोस्त को पसंद करती थी.

जब मैंने महसूस किया कि मेरे लंड के भी परखच्चे उड़ गए हैं, कई जगह से मेरा लंड भी छिल गया है और उसकी बुर के साथ मेरे लंड से भी थोड़ा बहुत खून आ गया है. अब वो भी बड़े मजे से मेरा साथ दे रही थी।फिर अचानक पता नहीं क्या हुआ, भाभी छूटकर चली गई और मैंने भी भाभी को नहीं रोका।अब जब भाभी मुझे देखती तो तो एक सेक्सी स्माइल दे देती।फिर कुछ दिन बाद मेरे पापा अपने मामा के यहाँ चले गए।और फिर बाद में सभी लोग एक शादी में में चले गए. अनिल ने मेरी मॉम से बोला- चल भैन की लौड़ी साली बुरचोदी … अपनी गांड चौड़ी करके मेरे लंड पर बैठ जा.

मैं आज आपको अपनी गर्लफ्रेंड की बहन की चुदाई की कहानी बताने जा रहा हूँ. लंड चुसवाने के बाद मैंने बाहर निकाला और उसको थोड़ा किस किया, उसके दूध चूसे. मेरे लेटते ही दीप ने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और मुझे चूसने लगा.

उसने ये बोल कर नम्बर लिया था कि हमें सभी किराएदारों का नम्बर लिख कर रखना होता है.

वह भी जोर जोर से सिसकारियां लेने लगीं और मेरे सीधे मेरे पेन्ट पर हाथ रख दिया. मैडम तब भी मेरे मुरझाए लंड के साथ लगी रहीं और गाली देती रहीं- मादरचोद, बस इतना ही था तेरे लंड में दम … झड़ गया हरामी. रात को भी मेरा मूड ठीक नहीं था और मुझे ऐसा लग रहा था, जैसे मैंने कोई बहुत प्यारी चीज खो दी है; मुझे अब कभी नहीं मिलेगी शायद.

ऐसे ही धीरे धीरे दिन बीतते गए और एक दिन मैंने उसे पकड़ लिया।वो किसी लड़के से बात करती थी तो मुझे बहुत गुस्सा आया. दोस्तो, मैं राजीव … आपने मेरी गे सेक्स कहानीपहाड़ी लड़के ने पहली बार गांड मरवाईमें पढ़ा था कि रणवीर ने मेरी गांड मारी. और मैं कहां मानने वाला था … मैंने एक और धक्का मारा तो लंड पूरा अंदर चला गया.

हाथ लगते ही बहू जोर से चिल्लाई- खाली हाथ ही लगाएगा मादरचोद या मुझे चोदेगा भी?नौकर कुछ समझता, तब तक बहूरानी ने अपनी चूत नौकर के मुँह के पास कर दी.

मैंने उसके पानी में अपनी उंगली को भिगोया और जब उसको चटाया तो वो कहने लगी- समीर भाई ये कैसा रस है, बड़ा मजेदार है. हेमा- क्या हुआ फोन कैसे किया?मैंने झूठ-मूठ में उससे प्यार मुहब्बत की बात करना शुरू कर दी- बस ऐसे ही किया डार्लिंग.

बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स तुम ठीक से रहना और हां अनुराग जी के दोपहर का भोजन और रात के भोजन का ख्याल रखना. मैं बहुत खुश हुआ क्योंकि मैं बहुत दिन से रिशू की बुर चोदना चाहता था.

बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स पर क्या करता, इस बार वर्क फ्रॉम होम के साथ ये काम भी मेरे हिस्से में आ गया था. अब मैंने अपना मुँह उसके मुँह पर रखा और होंठों से उसके मुँह को बंद कर दिया.

मैंने नज़रें दूसरी ओर घुमा ली तो वो बोला- उसको देखने पे कोई टैक्स नहीं है.

सेक्सी वीडियो फोटो भेजो

ये सब कैसे हुआ?नमस्कार दोस्तो, मैं आपका पिंटूमेरी पिछली कहानी थी:कुंवारी पड़ोसन को बियर पिलाकर मस्त चोदाअब मैं आपके लिए नई और दिलकश कहानी ले कर आया हूँ. मैंने अपना टीशर्ट और लोवर निकल दिया और ज्योति के ऊपर लेटकर उसके चेहरे को पकड़ कर चूमने लगा. मेरे घर में सब नौकरी करते हैं, इसलिए ज्यादातर सभी बाहर ही रहते हैं.

उसने मेरी नजरों का पीछा किया और बोली- अच्छा ये चाहिए?मैं बोला- क्या है इसमें?अनन्या- तुम्हारा गिफ्ट. मैं उसको विज्ञापनों में देख कर मुठ मारा करता था। एक रात मैं उसकी वीडियो देख कर सोया. ये देख कर रमेश जो नीचे से लगा था, उसने उसकी चूची के एक निप्पल को ज़ोर से मरोड़ दिया, तो मीरा का ध्यान अपनी गांड से हट कर निप्पल पर आ गया और उसी वक्त मिहीन का लंड उसकी गांड को चीरता हुआ अन्दर चला गया.

पूरी थाली सजी पड़ी थी बस हाथ धोकर श्री गणेश करना बाकी था।पर एक डर ने मुझे शुरुवात करने से रोक रखा था।हॉट बॉलीवुड सेक्स कहानी पर अपने विचार मुझे जरूर बताएं.

ये देख कर रमेश जो नीचे से लगा था, उसने उसकी चूची के एक निप्पल को ज़ोर से मरोड़ दिया, तो मीरा का ध्यान अपनी गांड से हट कर निप्पल पर आ गया और उसी वक्त मिहीन का लंड उसकी गांड को चीरता हुआ अन्दर चला गया. अब आगे लेस्बियन मॉम सेक्स कहानी:इसके बाद हमने आपस में बात की कि हम दोनों अपनी मॉम को एक साथ एक बिस्तर पर लाएंगे और उन्हें लेस्बियन सेक्स करने के लिए कहेंगे. मैंने तुरंत जाकर फोन उठाया और नजदीक के होटल में एक रूम बुक करवा लिया.

मेरा लंड सलामी देने लगा था, मन कर रहा था कि अभी जाकर चाची को जमकर चोद दूँ. मैंने इस बार 20 मिनट तक मैडम को अलग अलग स्टाइल में चोदा और उनके पूरे बाल और कपड़े खराब कर दिए. कुछ ही देर में उसकी चूत फिर से गीली होने लगी और वह लंड को चूत में लेने की कोशिश करने लगी.

मैंने ट्यूशन जरूर कोमल दीदी से ली थी पर मेरा सारी समस्याओं का हल सिर्फ मोनिका के पास होता था. मैं उसे लेने चला गया और ले भी आया। मैं अपनी साली के आने से बहुत खुश था।अब होती है असली कहानी शुरू!जब वो हमारे घर आई तो बहुत खुश हुई और मैं भी बहुत खुश था।उसके 2-3 दिन बाद मैंने गौर किया कि वो किसी से चोरी छिपे बात करती है.

वो बोला- कोई बात नहीं, फिर कभी दिखा देना!हमारी हर रोज़ बात होती, मैं दीप और नीता से बिना बात किये सो ही नहीं पाती थी. मैं बोला- वो घर पर अकेली कैसे रहती होगी?अंजलि बोली- मेरे घर काम वाली बाई के पास रहती है. मैं अपनी गांड उठाकर अंकल के मुँह में अपनी चूत देने की कोशिश कर रही थी.

जैसे ही मैंने एक मम्मा पकड़ कर चूसा, उसकी मादक सिसकारी निकल गयी- आअ ह्ह्ह ऊऊह्ह उम्म!मैं उसके मम्मे चूसता, कभी पेट पर किस करता, कभी उसके पेट की साइड पर … जिससे वह और मचल जाती और आहें भरने लगती.

अब आगे जवान भाभी की चुदाई कहानी:मैंने उसी रात दस बजे मिताली के मोबाइल पर फोन किया. अनिल मुझसे बोला- चल आ जा अंकित, अब तुम भी अपना लंड अपनी मॉम की चूत में पेल डालो. डलहौज़ी में हम उनके किसी रिश्तेदार के पास रुकने वाले थे जो कि एक विधवा आंटी थीं और उनका कोई बच्चा भी नहीं था.

मेरे इतना कहते ही प्रियंका ने अपना शर्ट ऊपर किया और ब्रा नीचे करके अपने दोनों बूब्स बाहर कर दिए. मैंने अपनी जीभ से अंडरवियर के ऊपर से ही लंड पर लगा दी और लंड चाटना शुरू कर दिया.

ये कहानी मेरे एक दोस्त सागर की जुबानी है, उसी हॉट वर्जिन फर्स्ट सेक्स कहानी को आपको सुना रहा हूँ. लेकिन दोस्तो, आपको तो पता ही है कि एक मर्द के लिए औरत अपने मन में क्या रखती है. फिर मेरे पति का फोन आ गया।मैंने उनसे फोन में झगड़ा कर लिया; मैंने कहा- तुम आज के दिन भी नहीं आए.

कामुक कथा

उस दिन पहली बार मैंने मम्मी की जांघ को बड़े ध्यान से देखा था, वो इतनी गोरी थी कि जैसी मम्मी रोज़ाना दूध से नहाती हों.

हालांकि मेरी गांड फटने को थी लेकिन उसने कोई विरोध नहीं किया और वह भी प्यार से मेरी तरफ देखने लगी. अगले दिन मैं और मोनिका कॉलेज में मिले और पार्क में ही वो मुझे अपने साथ चिपकाने लगी तो मैं उसे टॉयलेट में ले गया और दोनों ने चुदाई की जो जल्दी ही खत्म हो गई. मैंने उसके पानी में अपनी उंगली को भिगोया और जब उसको चटाया तो वो कहने लगी- समीर भाई ये कैसा रस है, बड़ा मजेदार है.

मगर मैं जानती थी कि एक दिन मेरे पति ने मेरी हर ख्वाहिश पूरी कर देनी है; तो मैं भी अपने पति का पूरा साथ देती, उनके प्रति पूरी वफादारी से उनकी बीवी होने का हर फ़र्ज़ निभा रही थी. अ न्यू Xxx कहानी में पढ़ें कि शादी के कुछ साल बाद सेक्स लाइफ नीरस होने लगती है. भाई बहन की सेक्सी फिल्म वीडियोउनकी बात से मेरे दिमाग में एक तरकीब आ गयी कि क्यों ना अम्मी को शराब पिला कर उनकी चुदाई की जाए.

वो उस वक्त तो कुछ नहीं बोली थी मगर आज जब उससे मेरी बात हुई तो मैं समझ नहीं पा रहा था कि ये मेरी बात मानेगी या नहीं. आह … मेरी बुआ की गांड सलवार से पूरी तरह ऐसे चिपकी थी और इतने बड़े बड़े गोल गोल चूतड़ थे कि बुआ की सलवार से 7 से 8 इंच बाहर को निकले हुए थे.

मैंने कहा- बताओगी या मैं बता दूँ?भाभी बोलीं- क्या बताओगे?मैंने कहा- यही कि तुम कौन हो और कहां रहती हो. तो मैंने उसे इशारे से कहा कि विशु से सब क्या है?लेकिन विशु कुछ नहीं बोला. उसी के साथ साथ साईट पर नंगी लौंडियों की तस्वीरें भी थीं, जिससे रवीना की चुत मचल उठी.

ए सेक्स स्टोरी ऑफ़ लस्ट में आप पढ़ेंगे सेक्स से वंचित एक नवविवाहिता भाभी की कहानी. उस वक्त मैं अपनी दादी के कमरे में पढ़ रहा था और दादी सो रही थी।भाभी को अचानक देखकर मुझे मजा आ गया. तभी मुझे मैडम की मूतने की आवाज सुनाई दी ‘शर्र सर्र सशर्र… ’ये आवाज सुनते ही मेरे दिमाग में खुराफाती आईडिया ने जन्म ले लिया कि क्यों न मैडम को पेशाब करते देखा जाए.

लिखने को तो और भी बहुत कुछ है मगर अब मैं इस सेक्स चूत चूत की कहानी का यही सम्मान जनक समापन करूंगा.

अब आगे की कहानी :जैसे ही मेरी निद्रा भंग हुई, मुझे महसूस हुआ कि ये तो एक प्यारा सपना था. वो इतनी बुरी हालत में आ गई थी कि ऐसा लग रहा था कि वो बहुत दूर से भाग कर आई हो.

बिस्तर पर उसके खून से लाल निशान हो गया था, पर मैं उसके चूत को रवां कर देना चाहता था ताकि उसे अगली बार कोई परेशानी न हो. फिर मैंने उन्हें बिस्तर पर घोड़ी बनाया और पीछे से दीदी की चूत में लंड घुसा दिया. दीप्ति के मम्मों को सहलाते हुए मेरी उत्तेजना बहुत ज्यादा बढ़ गई थी.

हैलो फ्रेंड्स, मैं आपको अपनी भाभी की चुदाई की कहानी सुनाने के लिए हाजिर हुआ हूँ. चुत की मालिश करते करते मेरा हाथ जब चूत में गया, तब पता चला कि दीदी की चूत पूरी गीली हो चुकी थी. देसी बुर चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी गर्लफ्रेंड ने मुझे उसके पड़ोस की एक नै जवान हुई लड़की की चूत दिलाने के लिए अपने घर बुलाया.

बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स उसे 5 मिनट किस करने के बाद मैंने उससे पूछा- मेरे साथ मजा आ रहा है?वो हंस कर हां में सर हिलाने लगी. वो मेरे लंड को पीछे की ओर ले जाती और ऊपर के पिंक भाग को अपनी जीभ से चाटती थी, जिससे मेरे शरीर में मुझे अजीब से झुरझुरी होने लगती थी.

सेक्सी 9 साल

सुमन आंटी बोलीं- फिर मेरा क्या होगा?अनिल बोला- जब शालिनी आंटी की चुदाई होगी, तब आपको नाचना होगा. अंत में मैंने तारीफ़ वाले शब्दों को माफीनामे से काट दिया।मैसेज भेजने के बाद मैं कई बार उसकी फोटो को देख रहा था और कई बार ये चेक कर रहा था कि उसने मेरा मैसेज पढ़ा या नहीं।मैं पता नहीं कब बिना खाये ही सो गया. दस मिनट में ही मेरे लंड ने हार मान ली और मैंने पानी उसकी गांड में ही छोड़ दिया.

उसका फोन भी स्विच ऑफ़ है, तो कैसे क्या हो सकता है … प्लीज़ बताओ!उसने मुझे दस मिनट बाद व्हाट्सैप पर वीडियो कॉल करने के लिए बोला ताकि वो मुझे कार सुधारने के लिए वीडियो कॉल से बता सके. अब उस्ताद जी ने अपनी धोती अपनी जांघ तक ऊपर की और कहा- आ जा, बैठ जा मेरी जांघ पर. चूत चुदाई सेक्सी पिक्चरउसने कहा- जब तक मैं तुम्हें देख न लूं और तुम्हारे बारे में जान न लूं, तब तक मैं हां नहीं कर सकता.

मैंने जोर जोर से अंतिम झटके मारे और मिताली को कमर से पकड़ कर जोर से भींच लिया.

दोस्तो, क्या बताऊं … बहुत ही मस्त दूध थे!फिर मैंने अपनी बहन की पेंटी को नीचे कर दिया और अपना लन्ड बाहर निकाल कर पहले रिशू के हाथ में दिया. मैं समझ गया कि ये दोनों मेरी मॉम को चोदना चाहते हैं और मॉम मेरे सामने उनसे खुल नहीं पा रही थी.

उनके ऐसा करने पर मुझे चुत के अन्दर का गुलाबी भाग दिख रहा था, जो वाकयी लाजवाब था. उसने बोला- मेरी भी एक फंतासी है कि तुम मेरे स्लेव डॉग बनो और मैं तुम्हारी मालकिन बनूंगी. तो मैंने अपनी बहन की सील कैसे तोड़ी?दोस्तो, मेरा नाम अमन है आज मैं आपको अपनी छोटी बहन रिशू की चुदाई की कहानी बताऊंगा!रिशू मेरे चाचा की बेटी है, मुझसे 1 साल ही छोटी है.

वो बोलती रही, दीप चोदता रहा, और मैं सेक्स के आवेश में उसकी चूत भी चाट गई.

उसकी टांगें खुल गई थीं जिससे रमेश को उसकी गोरी चूत की दरार दिखाई देने लगी थी. अब वो ब्लाऊज़ पर हाथ रखे थी और दूसरा हाथ पेंटी के ऊपर से चूत पर!मैंने पेट पर तेल डाला और मलने लगा।पेट को मलते मलते उनके बूब्स तक हाथ ले गया और उनका हाथ हटा दिया. पिछले भागसेक्सी लड़की को नंगी देखामें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी साली मीना मुझसे चुदने के लिए लगभग राजी हो गई थी.

बहन भाई की ब्लूजब मैं उसके घर से निकल कर ऑटो में बैठ कर जाने लगा तो मेरी गर्लफ्रेंड की बहन बोली- मुझे तुम्हारे और आपा के बारे में सब पता है. मैं मन बना लिया था कि आज मैं अपनी बीवी हेमा की चुदाई का लाइव शो देखूंगा.

fancy साड़ी का रेट

मैं उनकी इन बातों को सुन कर उनकी चूचियों को और ज्यादा जोर से काटने लगा था, जिससे भाभी की एकदम से सिसकारियां निकली जा रही थीं,मैं अब धीरे धीरे उनके पेट पर किस करने लगा और साथ ही साथ दूध भी दबा रहा था. तब दीदी ने बोला कि शिव मैं तुमसे नाराज नहीं हूँ, बस अब तुमसे दूर होना चाहती हूं … मेरी शादी हो रही है. इसी तरह विभा भी कह रही थी- हाय मेरे राजा अंकित … मेरी बुर फाड़ डालो यार.

सूट सलवार में मेरी पतली कमर, मोटी गांड और पकने को रेडी मस्त बूब्स थे. जब मैं वहां गया, तो मैंने व दीदी ने रूम चेंज करने का सोचा क्योंकि उस फ्लैट में एक बेडरूम और एक किचन ही था. उसने हंस कर कहा- अच्छा क्या सजा मिलेगी … जरा बताओ तो?मैंने कहा- वो तो मिलने के बाद ही पता चलेगा, जितनी देर और परेशान करोगी, सजा भी उतनी ही बड़ी होगी.

तब इसका हल ये निकला कि मेरी सास, ससुर के साथ हॉस्पिटल में ठहरेंगी और मेरा देवर मेरे साथ घर जाएगा. और लास्ट में जो गर्म पानी पिया उसका टेस्ट थोड़ा थोड़ा अच्छा लगा। मेरी तो चूत और गांड पूरी फूल गई है। अब तो मैं तपिश को कुछ दिन हाथ नहीं लगाने दूँगी।मैंने कहा- यार, एक काम करो … तुम दोनों लंच पर हमारे घर आ जाओ. पर मैं तुम्हारे अन्दर अपना वीर्य और नहीं छोड़ूँगा क्योंकि तुम्हारा इस उम्र में मां बनना अच्छा नहीं लगेगा.

लंड के थोड़ा सा घुसते ही उसे दर्द हुआ मगर वो खेली खाई थी और एक बच्चे की मां भी थी. इस बार मेरा प्रहार इतना तेज था कि एक बार मैं ही मैंने अपना पूरा लंड उसकी चुत में घुसा दिया था.

इसलिए हम तुझसे पहले ही पूछ रहे हैं कि क्या तुम हम सबको एक साथ संभाल पाओगी?तो मैंने कहा- मैं सोच कर बताती हूं.

मैं भी सोचता कि किसी न किसी दिन जब ये पकड़ी जाएगी, तब इससे पूछूंगा कि मंगल ग्रह की आब-ओ-हवा कैसी लगी. বিএফ ভিডিও ব্লু ফিল্মहम दोनों सेक्सी आवाज करने लगे ‘आह … ओह …’फिर मैंने उससे तेज तेज करने को बोला तो वो तेजी से गांड मारने लगा. क्सनक्सक्स.इसलिए मैं कह रहा हूँ कि मेरी दीदी बहुत बड़ी चुदक्कड़ हैं, उनको चोदना बहुत आसान है. तभी वो मुझसे बोली- मेरा दूध पीना है तो पी लो … लेकिन ज्यादा जोर से मत दबाना!लेकिन फिर मैं कहाँ मानने वाला था … मैंने हाथ से उसके चूचे दबाए और खूब सारा दूध पिया, साथ साथ उसके होंठों पर गुलाबी लिपस्टिक लगी हुई थी, उसे चूस चूस कर साफ़ कर दिया.

मैंने उससे कमरे की चाबी भी ले ली और चंचल के आने का इंतज़ार करने लगा.

भाभी मादक आवाज में बोलीं- अब ये माल जैसी प्रिया सिर्फ तुम्हारी है जान, जैसे चाहो वैसे अपनी पत्नी के शरीर को लूट लो. वो इतना झीना था कि जेनीका की पिंक टाइट ब्रा और टाइट बिकिनी पैंटी साफ़ दिख रही थी. इससे आंटी लम्बी सांसें लेने लगीं ‘आआहहाअ ऊओह डार्लिंग और पियो मेरे बूब्स … आंह बड़ा मज़ा आ रहा है.

जब कोई ग्राहक गुलाम का खेल खेलता है, उस समय कुतिया की तरह चलने को कहता है. और उसने मुझे निकिता का नंबर लाकर दे दिया।मेरी खुशी का कोई ठिकाना नहीं था।चाची ने बताया- शाम को वो कॉल करेगी।मैंने कहा- ठीक है।शाम को करीब 6 बजे उसका एक अज्ञात नंबर से मुझे फोन आया. उन्होंने गोल्डन कलर की साड़ी, ब्लैक स्ट्रिप वाले गोल्डन ब्लाउज को पहना था.

एचडी प्लेयर

हैलो फ्रेंड्स, मैं आरव आपको एक ऐसी महिला के साथ सेक्स करने की दास्तान सुना रहा था, जो मुझे हाइवे पर मिली थी और अपनी कार खराब होने से परेशान थी. वो मेरे होंठों को चूसते हुए ही आगे बढ़ा और उसने मेरे मुँह में अपनी जीभ डाल दी. मेरे दोनों हाथ उसके कंधों पर थे और उसके दोनों हाथ मेरी कमर पे जो की पूरी पीठ का जायज़ा ले रहे थे.

मैं कोमल दीदी के पास आ गया और उनके कपड़े उतारने लगा क्योंकि मुझे उनकी मोटी चूचियों के दर्शन करने का बहुत देर से मन था.

मैंने दीदी से कहा- दूसरा कंबल निकाल कर तुम्हारे बेड पर बिछा देता हूँ.

उसने मेरी चूत में जोर से धक्का मारा लेकिन उसका लंड मेरी चूत से फिसल गया. वो मेरे सर को अपने हाथों से ऐसे दबाने लगी, जैसे कि वो मेरे सर को ही अपने बुर में घुसा लेगी. मिट्टी खाने के नुकसान इन हिंदीमैंने पूछा- फिर?थामस- फिर क्या … रात भर मैंने उसकी बीवी चोदी और उसने मेरी बीवी चोदी.

वो- अब कब खाली करोगे?मैं- एक बार गांड मारने दे तब!उसने घड़ी में देखा और खड़ी होकर हट गई. मुझे तो लगा कि मानो मैं स्वर्ग में चला गया हूं।उस दिन वह चूत बिल्कुल साफ करके आई हुई थी।अब मैंने भी उसकी चूत चाटनी थी तो हम 69 की पोजिशन में आ गए. उसे तो बस पता था कि उसके ब्लाउज के अंदर एक बलिष्ठ सा हाथ उसकी चूचियों को दबा दबाकर उसके शरीर की आग को बढ़ा रहा था और उसके हाथ में एक लिंग था जिसके आकार का उसे पता नहीं था जो उसे बस मिलने ही वाला था।तभी मेरे मुंह से निकला- मैडम आप बहुत सुंदर हो।और अपने हाथ से दाइशा की चूची को ब्लाउज के ऊपर से दबाने लगा.

कसम से वो सीन मुझे बहुत अच्छा महसूस हो रहा था लेकिन मैंने अपना हाथ हटा लिया. किधर चलना है?वो बोलीं- एक काम से चलना है, पहले मुझे आपसे कुछ बात करनी है, फिर चलेंगे.

उसकी पैंटी इतनी टाइट थी कि शॉर्ट टॉप से जेनीका का सफेद दूध जैसा पेट, जो एकदम सपाट था, कयामत ढा रहा था.

उसकी चुत की गर्मी से मेरा भी निकलने वाला था तो मैंने लंड चूत से बाहर निकाल कर मोनिका के मुँह के पास कर दिया. चाचा- ओह्ह्ह … रेखा … रेखा मेरी जान … ओह्ह्ह … आआह्ह … बहुत अच्छा लग रहा है. बिस्तर पर उसके खून से लाल निशान हो गया था, पर मैं उसके चूत को रवां कर देना चाहता था ताकि उसे अगली बार कोई परेशानी न हो.

नंगी करके चुदाई दूसरी पारी में मैंने विशाल की बीवी चोदी, विशाल ने अमित की बीवी चोदी और अमित ने मेरी बीवी चोदी. मैंने धीरे-धीरे करते हुए अपने लंड को भाभी की चूत में चलाना शुरू कर दिया.

मैं उसका लंड देखकर इतना ज्यादा आश्चर्य में थी कि अचानक से बोल पड़ी- ये क्या है?मैं मन ही मन सोच रही थी कि बच्चों का छोटा सा होता है. ज्योति भी नीचे से अपनी कमर को हिलाकर चुदाई में मेरा भरपूर साथ दे रही थी।कुछ देर ज्योति को ऐसे ही लगातार चोदने के बाद जब मेरी उत्तेजना ज्यादा बढ़ी जा रही थी. दो घंटे के बाद मैंने उनको जगाया तो वो उठकर बाथरूम गईं और फ्रेश होकर बाहर आ गईं.

फिल्म सावन को आने दो

अब हम‌ दोनों एक दूसरे से चिपके हुए थे, एक दूसरे की गर्दन, लिप चूम रहे थे और धीरे धीरे चुदाई चल रही थी।मैं थोड़ा ऊपर उठा और चुदाई थोड़ा तेज कर दी. थोड़ी देर बाद मैंने उससे कहा- घोड़े की तरह मेरी गांड मारेगा?वो बोला- हां चलो मारता हूँ. सब उसे पीठ पीछे कॉलगर्ल बोलते थे पर उसे इन सब बातों से कोई फ़र्क नहीं पड़ता था.

वो एकाएक रुकी और नीचे झुकी- यही है पत्थर!उसने झुक कर पत्थर पकड़ा तो मुझे उसकी गांड दिखी. नीता ने मेरी नाईट ड्रेस के सामने के सभी बटन खोल कर मेरी ड्रेस खोल दी और मेरी शर्ट उतरवा दी.

जब मैं अन्दर बेडरूम में गया, तो मैंने देखा कि भाभी ने दुल्हन का जोड़ा पहना हुआ था.

फिर थोड़ी देर ऐसी ही बात करते करते उसने बताया- कोरोना के कारण मैंने अपने ब्वॉयफ्रेंड से दो हफ़्तों से सेक्स नहीं किया है और अब मुझसे रहा जाता है. मैंने उनकी गांड में लंड डाल दिया तो वो छटपटाने लगीं और भागना चाहती थीं लेकिन मेरी पकड़ मजबूत थी. दीदी की छोटी छोटी चुचियां जोर जोर से हिल रही थीं और उनकी मादक आवाज आ रही थी- आह आह उई उइ उइ मम्मी रे … आंह पापा बड़ा मज़ा आ रहा है … और जोर से चोदो अपनी बेटी को … फाड़ दो मेरी चूत … साले बेटीचोद और जोर जोर से पेल हरामी.

इस बीच मैं झड़ने को हुई तो मैंने सुनील को कस कर मेरी बाँहों में जकड़ लिया और उससे जोर जोर से झटके मारने को कहने लगी. इस दौरान मैंने कई बार रश्मि की तरफ देखा मगर वो किसी भी तरह का कुछ भी रिएक्ट नहीं कर रही थी. भाभी बोलीं- लो दूध पी लो मेरे प्यारे देवर जी, तभी तो रात भर चोद पाओगे.

पर मैं रोज ही अन्डरवियर में सोया करता और कभी मामी तो कभीश्वेता आन्टी की चूत चुदाईको सोच कर लण्ड को सहलाया करता।कुछ दिन और बीते.

बीएफ इंडियन वीडियो सेक्स: मेरी बीवी अनिता भी मस्त होकर चुदवाने लगी और अपनी तमन्ना पूरी करने लगी. मैं जाने लगी तो नीता बोली- अरे जाने से पहले एक बार गले तो मिल जा!तो मैं नीता के तरफ घूमी पर उसने मुझे दीप की तरफ मोड़ दिया.

रश्मि ने बोला- अंकल, ये नीचे से क्या चुभ रहा है?मैंने कुछ नहीं बोला. हमारे बीच में अब आप वाली औपचारिकता खत्म हो गई थीउसने पूछा- तुम अकेले ही रहते हो?मैं बोला- हां अंकिता जी. तो दादा जी ने चाचा को इस बारे में बात करते हुए समझाया- देख बेटा, लड़की देखने में समय लगता है या आज का माहौल को तो तू जानता ही है.

फिर मैंने पूछा कि आपके पति कहां हैं?भाभी ने बताया कि वो सो रहे हैं.

मिहीन जो अब तक शांत था, वो अपने सारे कपड़े उतार कर मीरा के पास आ गया. मैंने उनकी गांड में लंड डाल दिया तो वो छटपटाने लगीं और भागना चाहती थीं लेकिन मेरी पकड़ मजबूत थी. सच बोलूं तो मुझे भी अच्छा लग रहा था कि एक इतना हैंडसम बंदा मेरे बदन के मज़े ले रहा है.