ऑडियो की बीएफ

छवि स्रोत,सोलापुर सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू फिल्म इंग्लिश वाली: ऑडियो की बीएफ, वो मेरी मां की गांड को दबाते हुए उसको जोर जोर से भींचने लगा और उसका तना हुआ लंड मेरी मां की चूत के पास बार बार टकराने लगा.

देहाती सेक्सी वीडियो एचडी फुल एचडी

मेरे पास अब बोलने के लिए कुछ बचा ही नहीं था इसलिए हामी भर कर चुपचाप अपना सा मुंह लेकर मैं काम पर लग गयी. सेक्सी नंगी पोर्न वीडियोअगले दिन फिर पापा और रीता के जाने के बाद मैं मम्मी के नहाने का इंतजार करने लगा.

उसने फिर से अपने होंठों के बीच मेरा एक निप्पल दबाया और हल्के से खींचने लगा. भाभी और देवर की सेक्सी मूवी हिंदीमैंने भी रोहन की टी-शर्ट को उतार दिया और उसकी जींस के ऊपर से ही लंड दबाने लगी.

मैंने उस ढली उम्र वाली औरत की चूत के अन्दर अपनी पूरी जीभ डाल दी और उसको चुसाई का सुख देने लगा.ऑडियो की बीएफ: अगले दिन वो फिर से रोज़ी मुझे गेट पर खड़ी हुई मिली और बोली- अंकल आपने पैसे नहीं लिये चॉकलेट के लिये? ये लीजिये कल के पैसे.

मैंने सुनयना भाभी से कहा- अगर मैं आपको एक गिफ्ट दूं … तो क्या आप मुझे उसे अभी पहन कर दिखाओगी?सुनयना भाभी ने मुस्कुराकर हां में सिर हिला दिया और बोलीं- लाओ किधर है गिफ्ट?मैंने कहा- बस अभी लाया.भाभी अपना हाथ छुड़ाने की कोशिश करने लगीं, पर मैंने उनका हाथ कस कर पकड़ा हुआ था.

न्यू विदेशी सेक्सी - ऑडियो की बीएफ

उसने सूट-सलवार पहना हुआ था और कसी हुई चूचियां मेरी छाती से सटी थीं.मैंने उसको बांहों में भर लिया और उसके चूतड़ों पर अपनी टांगें लपेट लीं और मजे से चुदने लगी.

तू भी तो अपने माँ बाप को छोड़ कर आई थी मेरे संग जीवन अपना बिताने!मौसा जी मुझे अपनी पत्नी समझ ऐसे ही कुछ देर प्यार से समझाते रहे और मेरे बदन से खेलते रहे. ऑडियो की बीएफ मैंने उसकी काले रंग की पैंटी भी उतार दी और उसकी सांवली सी चूत मेरे सामने नंगी हो गयी.

बात करते करते उन्हें मेरे कंधे पर सिर रखकर कब नींद आ गई, पता ही नहीं चला.

ऑडियो की बीएफ?

वह भी मनोज के शारीरिक प्यार से अब अभिभूत होकर आनंद लेना चाह रही थी. इस गांव में बीमारी से कई लोग मर गए थे, इसलिए अब वो डॉक्टर बन रही है. एक बार तो मेरा दिल किया कि उन्हें धक्का देकर हटा दूं और नीचे भाग जाऊं या चिल्ला के कह दूं कि मैं उनकी बेटी जैसी रूपांगी हूं.

मैं उसकी बात का बुरा नहीं मानती थी क्योंकि वो अपने भाई की मदद कर रही थी. थोड़ी देर बाद मैंने रागिनी की चूत में अपना वीर्य छोड़ना शुरू कर दिया और लंड डाले हुए उसके ऊपर ही लेटा रहा. मेरे लंड में दर्द होने लगा था इतना उछल चुका था मेरा लंड।बस को चले हुए काफ़ी देर हो गयी थी.

मैंने अपना अंडरवियर नीचे किया और लण्ड दोनों पैरों के बीच में डाल दिया।वो टाँगें खोलने के लिए बिल्कुल भी तैयार नहीं थी और मैं रुकने का नाम नहीं ले रहा था। मैंने अंजू के संतरों पर फिर से हमला बोल दिया और उसकी सिसकारी निकलने लगी. मैंने भी सिंदूर की डिब्बी को अपने लंड के करीब किया और अपना लंड उसमें डुबो दिया. फिर उसकी कमर को दोनों हाथों से पकड़ कर लिंग को उसकी सेक्सी गांड के छेद पर रख लिया और दबाव डालने के साथ ही धीरे-धीरे लिंग का टॉप उसकी गुदा में समाता चला गया.

इस समय पारिज़ा ने सफेद रंग की स्टाइलिश ब्रा पहनी थी, जो जल्द ही उतरने वाली थी. उसके हुस्न और उसके कातिल चुदाई की देवी जैसे सौन्दर्य को देख कर मैं बस उसे देखने में ही खो गया.

ये बोलकर मैंने उसकी पैंटी को नीचे ही नीचे उसकी चूत से खींच कर अलग कर लिया और पूरी तरह से टांगों से निकलवा दिया.

तो दोस्तो, उम्मीद है आप सब लोगों को मेरी देसी बुर की चुदाई कहानी पसंद आई होगी और लड़कों ने मुट्ठी और लड़कियों ने चूत में उंगली जरूर की होगी। अपनी अगली कहानी के साथ फिर से मैं लौटूंगा.

इसी बीच राहुल का हाथ मुझे मेरी कमर से होता हुआ मेरी गांड पर फिरता महसूस हुआ. अपनी चूत पर मेरा हाथ महसूस करते ही वो एकदम से ऐसे कांप गई, जैसे किसी ने पहली बार उसकी चूत को छुआ हो. इसलिए मैंने अपना साढ़े छह इंच का लंड भाभी की चूत के छेद पर सैट किया और धक्का दे मारा.

इस सेक्स कहानी में सभी पात्रों के नाम भले ही काल्पनिक बता रही हूं, लेकिन जो मैं आपको बताने जा रही हूं, वह किस्सा एकदम सच है. जिसके चलते कृतिका दीदी को जब भी अपने फोन में कोई दिक्कत आती थी, वो मुझसे बोल देतीं और मैं उनके फोन को मिनटों में सही कर देता था. [emailprotected]हॉट सेक्स मॉम स्टोरी का अगला भाग:मां और बहन की चुदाई का मजा- 2.

रघु- माफ़ करना बाबूजी, कभी किसी ने ऐसे छुआ नहीं ना … तो ये खड़ा हो गया.

सुरेश- हां तो मीता … अब बताओ, कहां दर्द है?मीता अपने संतरे जैसे मम्मों को छूकर बताने लगी- यहां हो रहा है. मुझे 2-3 मिनट तक लगातार किस करने के बाद वो बोली- अब खुश?अब मुझे हंस कर दिखा!मेरा मूड अभी भी उदास था. माहौल की मांग पर वर के कुछ सम्बन्धी वर की सुहागरात के लिये कुछ व्यंग्य और कुछ मजाक करते रहे जिससे मनोज के शरीर में सिरहन सी दौड़ रही थी.

उस सुबह चाची को बाथरूम गए काफी देर हो गई तो मैंने सोचा क्यूं ना बाथरूम जाया जाए. मैंने किसी तरह से अपनी आवाज़ को दबाया और हल्के स्वर में ‘आह … आह … उअफ. रात को चाची की लेने के बाद मैं सुबह से उनको खोजता हुआ जानवरों वाले बाड़े में गया तो चाची झुक कर काम कर रही थीं.

इस तरह से अंजू के साथ मेरा प्यार वाला सफर तो ज्यादा दिन नहीं चला लेकिन मैंने उसकी चूत की चुदाई जमकर की.

तभी मैंने पूछ लिया कि तुम्हारा कोई ब्वॉयफ्रेंड है क्या?उसने बोला कि हम जैसी लड़कियों को कौन जीएफ बनाता है. वो कुछ मिनट बाद बोली- भैया क्या सिर्फ प्यार ही करोगे … या पेलोगे भी?ये कहते हुए मेरी बहन ने मुझे आंख मार दी.

ऑडियो की बीएफ तो दोस्तो, यह था एक 60 साल की औरत ने मुझे एक महीने के लिए चुदाई के लिए बुक किया था. वो झट से मेरे लंड से उतर कर नीचे बैठ गई और उसने मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया.

ऑडियो की बीएफ फिर मैंने अपनी साड़ी और पेटीकोट को कमर के ऊपर तक सरका लिया और अपनी पैंटी में हाथ घुसा के अपने योनि-केशों को उँगलियों से कंघी करने लगी तो योनि रस से मेरी उंगलियां गीलीं हो गयीं. मैं नीचे बैठ गया और भाभी की एक टांग को ऊपर उठाकर किचन की स्लिप पर रख दिया और उनकी चुत में मुँह लगाकर चुत चाटने लगा.

वो बोला- प्रियंका, बस एक बार मैं तुम्हें पूरी नंगी देखना चाहता हूं.

हिंदी सेक्सी बातें करने वाली

अब मेरा लंड फिर से तन चुका था और मैं मौसी की चूत चुदाई के लिए और इंतजार नहीं कर सकता था. फिर मैं अंजू को उसके रूम पर छोड़कर जम्मू चला गया। जब मैं जम्मू से वापस आया तब उसके पास गया. मैंने बिस्तर उठा कर छत पर बिछा लिया और मोनिषा को भी छत पर ही सोने को कहा.

दिशा ने मेरा लंड अपने मुँह से बाहर निकाला और बोली- आह … धीरे से करो ना डियर … मैं भागी नहीं जा रही हूँ. तभी मुझे कॉलेज छोड़ना पड़ गया तो …सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार। मेरा नाम सुमित है और यह मेरी पहली कहानी है. जब मुझसे रहा न गया तो मैंने उसकी चूत में उंगली दे दी और अंदर बाहर करने लगा.

मेरा उनको देख कर मन कर रहा था कि अभी कमरे में घुस जाऊं और दानिश की अम्मी को पटक कर चोद दूं.

अतः मैं अपने दोनों स्तन अपने हाथों से खूब ताकत से दबाती मसलती और अपनी योनि के दाने या मोती को खूब सहलाती रगड़ती और मिसमिसा कर योनि को चांटे मारती जब तक कि वो शांत नहीं हो जाती. ग्यारहवीं क्लास में आते आते मुझे मेरी ब्रा का नंबर बदलना पड़ा, वो पहले वाली ब्रा टाइट होने लगी थी. मैं उसके अधनंगे जिस्म को निहारने लगा तो इतने में ही उसने मुझे धक्का देकर बेड पर गिरा लिया और मेरी पैंट खोलने लगी.

मैं बाहर खड़ा था और वो आधी कार में थीं और अपनी गांड कार के बाहर किये हुए इस पोजीशन में थीं कि अपनी गांड में लंड लेने के लिए मचल रही थीं. रूम में पहुंचते ही विनी रूम का दरवाजा बंद करके मुझसे लिपट गई और मुझे छेड़ने लगी और मुझे बिस्तर पर गिरा कर मेरे ऊपर चढ़ गई. उसने जल्दी से अपना लंड पैंट में किया और गीता से कहा- तुम भी जल्दी से बाहर आ जाओ.

मैंने धीरे से उसके सोये हुए लंड को छुआ तो बदन में करंट सा दौड़ गया. तभी दूसरा आदमी मुझसे बोला- क्यों रे? तेरी बाइक का नम्बर हमारे पास है.

टॉर्च जला कर वो पूजा का घूंघट उठाने लगा तो पूजा ने उसके हाथ को पीछे करना चाहा. इसी बीच मैंने जिप खोल अपना लंड बाहर निकाला और एक हाथ उसकी पीठ पर कोहनी के साइड से रख कर उसे दबाए रखा. मैं रूम की तरफ बढ़ी, तो उसने मुझे रोका और कहा- मैडम ब्लाउज को बिना ब्रा के ट्राई कीजिएगा … नहीं तो साईज और फिटिंग का अंदाजा नहीं हो पाता है.

मैं काफी देर तक धीरे धीरे चाची को पेलता रहा और अब चाची के मुँह से सिसकारियां आने लगी थीं.

वो कराहते हुए बोली- भैया अब मत घुसाओ … नहीं तो मेरी गांड ही फट जाएगी. मैंने उनकी चूत में उंगली डाली और चूत के पानी को लेकर उनकी गांड पर फिराने लगा. फिर उसने अपने पर्स से एक क्रीम निकाली और गांड के छेद में लगाने के लिए कहने लगी.

मैं उसे चूमते हुए नीचे आने लगा, तो उसने मुझे चूत पर जाने से रोकना चाहा. अब हम एक दूसरे के काफ़ी करीब आ गए थे और चुदाई के मौके ढूंढते रहते थे.

फिर मैंने उनकी दोनों टांगों को अलग किया और नीचे बैठ कर उनकी चूत को चाटने लगा. मेरी नींद उड़ गयी, मैंने मां-पापा की लाइव चुदाई देखी।नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम राहुल शर्मा है. इधर मेरे नीचे प्रेरणा भाभी थी और पीछे की ओर अपनी चूत में उँगली करती पड़ोसन भाभी को देख कर मेरा जोश बढ़ गया.

करीना कपूर का सेक्सी वीडियो में

मैंने कहा- तो इसमें मैं क्या कर सकती हूं!तभी साथ वाले आदमी ने कहा- ये फ्रस्ट्रेट होकर आपकी वीडियो आपके पति को भी दिखा सकते हैं.

चौथे आदमी ने जाकर मॉम के हाथ में लंड दिया और फिर वो उन दोनों के लंड को बारी बारी से चूसने लगी. उसने बोला- भैया पहली बार गांड मरवा रही हूं … आप मेरी गांड को ही अपने अमृत वीर्य रस से सींच दो. बहुत ही कामुक का अहसास मिल रहा था उसके होंठों का स्वाद लेते हुए। साथ ही मैं उसकी चूचियों को भींच रहा था.

उसकी गर्म सांसें मुझे मेरे होंठों पर लगने लगीं और देखते ही देखते उसके होंठ मेरे होंठों पर आ टिके. एकाएक मालिनी ने फिर अपना पानी छोड़ा जो कि इस बार सीधा अंगिका के मुंह में गया. desi hot सेक्सीवो थोड़ी सहज नहीं हो रही थी मगर फिर बाद में अच्छे से मेरा साथ देने लगी.

वो बोलीं- तो क्या हुआ … अभी तो तुमको मुझे लगातार एक महीना चोदना है. मैंने उनसे इस विषय में ज्यादा बात नहीं की क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि इस समय माहौल कुछ दूसरा बने.

मनोज ने अपने को स्थिर किया और पूजा को बांहों में समेटने की कोशिश करते हुए चूमने लगा. मुखिया- राम राम … राम राम … अरे वाह ये छोटी सी दुल्हन भी साथ आई है. इधर प्रेरणा भाभी को भी अपने बूब्स चुसवाने और दबवाने में बहुत मजा आ रहा था.

वो मेरे करीब आई तो पायल को अपने पास बैठाकर उससे पूछा- तुम बहुत उदास रहती हो, क्या बात है … मुझे बताओ?पायल मेरी बात को टालने लगी और कहने लगी- कुछ नहीं है ससुर जी. कालू- लेकिन मालिक गांव के सब लोग हवेली के भूत के बारे में जानते हैं. करीब 8 महीने पहले उसके पति का एक एक्सीडेंट में एक पोता (गोलियाँ) डैमेज हो गई थी और अंदर ही अंदर सेप्टिक फैलने की वजह से एक पोते को निकालने की नौबत आ गयी.

हमारा ग़ाज़ियाबाद में संयुक्त परिवार है, जिसमें हम दो भाई और माता पिता रहते हैं.

उस सेक्स कहानी का लिंक ऊपर दिया है, चाहें तो एक बार फिर से चुदाई का रस लें. इस सेक्स कहानी में सभी पात्रों के नाम भले ही काल्पनिक बता रही हूं, लेकिन जो मैं आपको बताने जा रही हूं, वह किस्सा एकदम सच है.

तभी मैंने पूछ लिया कि तुम्हारा कोई ब्वॉयफ्रेंड है क्या?उसने बोला कि हम जैसी लड़कियों को कौन जीएफ बनाता है. इस पर उसने तुरन्त खुल कर पूछा- सील पैक हो या चटक चुकी हो?उसका सवाल का जवाब मैंने जिस तरह दिया, मुझे खुद यकीन नहीं था कि मैं इस तरह से उसे उत्तर दूंगी. फिर वो उठी और उसने पास रखे मंगलसूत्र को उठा कर मेरे लंड पर लपेट कर लंड से निकल रहे प्रीकम से मंगलसूत्र को भिगोया और उसे मुझे अपने गले में बंधवा लिया.

मौसी जोर जोर से सिसकारते हुए बोली- अब जान निकालेगा क्या मेरी? डाल दे इसे अंदर … आह्ह … मेरी चूत की सोई हुई प्यास को तूने फिर से आज जगा दिया है, अब इसे जल्दी से बुझा नहीं तो मैं तेरे लंड को काट खाऊंगी. मां की चूत सहलाते हुए पापा ने कहा- पोर्न देखोगी जान?मां बोली- राहुल उठ जायेगा. रात को चाची की लेने के बाद मैं सुबह से उनको खोजता हुआ जानवरों वाले बाड़े में गया तो चाची झुक कर काम कर रही थीं.

ऑडियो की बीएफ मैंने फिर से एक और झटका मारा, तो मेरा पूरा का पूरा लंड मैडम की चूत में चला गया. वो बार बार बोल रही थीं- छोड़ो … ये गलत है … मैं तुम्हारी भाभी हूँ … छोड़ो.

सेक्सी हॉट डाउनलोड

वो सलवार कुरते को ठीक करते हुए मुझसे बोलीं- अब तू जा … किसी से कुछ मत बोलना … नहीं तो मार खाएगा. तो उसने बोला- तुमने अपना हाथ ऐसी जगह रखा ही क्यों?इस पर मैंने इतना ही बोला कि मुझे क्या पता था कि वहां ये सब गंदा होगा. उसकी पैंटी में मुझे उसकी मक्खन गांड का स्पर्श मिला, तो मैं उसकी गांड मसलने लगा.

तभी मेरा ध्यान टूटा और मैं जोर से बोला- ये आप क्या कर रही हैं पायल भाभी … छोड़िये न इसे. मेरी तो जैसे चीख निकल गई लेकिन उसने मेरे होंठों को अपने होंठों से कस लिया और मुझे दबोच लिया. मियां खलीफा सेक्सी डॉट कॉमअब पूजा सेक्स में गुजरते वक्त के साथ खुल गयी है और अपने पति का लंड भी मुंह में लेकर आराम से चूस लेती है.

उस समय उसने जींस और टॉप पहना हुआ था, जिसमें वो बहुत मस्त माल लग रही थी.

मेरी इस कास्टिंग काउच सेक्स स्टोरी के बारे में अपने विचार प्रकट करने के लिए आप कमेंट बॉक्स में अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर छोड़ें अथवा मुझे मेरी ईमेल पर संपर्क करें. फ्रेंड्स जब मुनिया मुखिया के लंड से चुदेगी, तब चुदाई की कहानी आपको पूरा मजा देगी.

जब मैंने नीचे की ओर झुक कर उसका चेहरा देखने की कोशिश की तो देखा कि उसका पूरा चेहरा लाल हो गया था. काम क्रिया मेरे लिये नया अनुभव नहीं था मगर कोई अन्जान आदमी मेरे साथ ये सब कर रहा था और दो अन्जान लोग मुझे ये सब करवाते हुए देख रहे थे. मैं एक हाथ से अपनी चूत सहला रही थी और एक हाथ से उसका लंड पकड़कर चूस रही थी.

मैं वापस उस लड़की के दूध देखने लगा और मन ही मन बुदबुदा उठा- आह क्या हॉट सेक्सी दिखती हो तुम श्रुति!मैं फिर से अपने भूतकाल में चला गया.

इस समय वह पूजा के शरीर की बनावट को देखते हुए उसके रूप के मद में खोकर असीम सुख का अनुभव कर रहा था. ब्रांडी के नशे में हम दोनों बहुत देर तक एक दूसरे के लंड चुत चूसते रहे. वही हुआ … सुरेश की वासना जाग उठी और वो मीता के मम्मों को हल्के हल्के दबा कर मज़ा लेने लगा.

जिम के सेक्सी वीडियोमैंने अपने दिमाग को करीब 10 मिनट तक दौड़ाया लेकिन कोई तरीका ऐसा नहीं मिल रहा था जिससे प्रेरणा भाभी मुझसे अकेली कम से कम 2 घंटे के लिए मिल सके. करीब 10 मिनट बाद जब हम लोग नॉर्मल हुए, तो मैंने उनसे बोला- अब मैं बहुत थक गया हूं.

नाबालिक की सेक्सी पिक्चर

वहाँ मैं टॉयेलट सीट पर बैठा और फिर उसे अपनी गोद में बिठा कर नीचे से धक्के देने लगा। अब तक हमारी चुदाई को 1 घंटा हो गया था मगर मेरा अभी नहीं हो रहा था। मेरे पेट की नसें खिंचने लगी थीं. ठंडा मक्खन लेकर मैडम ने थोड़ा मेरे लंड पर लगाया और लंड को चूसने लगीं. शायद नियति को भी ये मंज़ूर था और भाभी बाल्टी लेकर मुझे देखने के बावजूद ऊपर छत पर आ गयीं.

उसकी चूत से पानी रिसना शुरू हो गया था और मुझे उसका गीलापन हथेली पर लगने लगा था. मैं सोचता था कि रंडी की चुदाई में क्या मजा आता होगा लेकिन मेरा अनुमान गलत था. मेरी चीखें निकलने लगीं और उसके मुंह से मस्त कामुक मजे की सिसकारियां फूट रही थीं.

ट्रेन सेक्स की कहानी में पढ़ें कि रेलगाड़ी में रात का सफर करते हुए एक बुर्के वाली भाबी मेरे सामने बैठी थी. अन्दर घुसते ही एक चौक, फिर दो नीचे कमरे, ऊपर छत पर भी शायद एक कमरा था … नीचे किचन … किचन के पास से ऊपर को जाती हुई सीढ़ियां. मैं अपनी नंगी गांड पर उसके खड़े लंड को महसूस कर सकती थी।मैं झट से खड़ी हो गई और उसे धन्यवाद बोल कर दौड़ती हुई बंगले की तरफ भागी.

अगले दिन फिर पापा और रीता के जाने के बाद मैं मम्मी के नहाने का इंतजार करने लगा. मैं भी झड़ने वाला था मगर मैं रात से ही कॉन्डम में अपना वीर्य खराब कर रहा था जो अब मैं नहीं करना चाहता था.

उसका ब्लाउज स्लीवलैस था जिसमें से उसकी साफ़ बगलें मुझे लगातार उत्तेजित कर रही थीं.

मनीषा ने मेरी तरफ करवट ली और अपनी एक टाँग मेरी टाँग पर रखकर अपनी चूत मेरे लण्ड से सटा दी. शिल्पा शिल्पा सेक्सीइसलिए कई बार घर में जब कोई भी नहीं होता था तो मैं रिया की अलमारी में उसकी ब्रा देखा करता था. देहाती सेक्सी भाभी का वीडियोदो दिन तक सामान्य क्लास चलती रही और सर की तरफ से मुझे कोई संकेत नहीं मिला, तो मुझे लगा सर कुछ नाराज हो गए हैं शायद. मैंने उन्हें अपनी बांहों में भरा और उनकी गर्दन पर चुम्मी लेते हुए अपने हाथ पीछे करके उनकी ब्रा की पट्टी को दो बार खींच कर छोड़ दिया.

मेरे सामने एक हुस्न की परी थी, जो आगे जाकर मेरे दिल की धड़कन बनने वाली थी.

मैं भी हेल्प करने के बहाने रसोई में चला गया और पीछे से धीरे धीरे उनके चूतड़ों की दरार में अपने लंड को फंसाने लगा. फिर पारिज़ा ने दराज से कंडोम का पैकेट निकाला और अपने अब्बू के कमरे में चली गई. सुषमा मैडम ने मुझे थैंक्स कहा और पूछने लगीं कि तुम कौन से विंग में रहते हो?मैंने कहा- आपकी विंग से एक विंग आगे.

ये मेरी पहली सेक्सी मालिश चुदवाई स्टोरी है, इसलिए मुझसे लिखने में कोई गलती हो जाए तो प्लीज़ नजरअंदाज कर देना. मुझे मौसी के बूब्स पीने में क्या मजा आ रहा था दोस्तो बस क्या बताऊं मैं आपको! इतनी मस्त मोटी चूची थी मौसी की. तभी वो बोले- अब क्या छुपा रही हो? इस लड़के से चुदने का मजा ले रही थी तू?फिर वो मेरे से बोले- क्यों रे? इतनी सेक्सी आंटी की चुदाई तू अकेले अकेले कर रहा है? तेरे घर में पता है कि तू यहां है और इस आंटी की चुदाई यहां पर ऐसी हालत में कर रहा है?मॉम घबरा गयी थी.

बीपी सेक्सी फिल्म राजस्थानी

मैंने उसे सब बता दिया, तो उसने कहा- सिर्फ ब्लाउज पहनने से आप सेक्सी नहीं दिखेंगी. उसकी चूत से पानी रिसना शुरू हो गया था और मुझे उसका गीलापन हथेली पर लगने लगा था. इतनी तेज बारिश में कैसे घर जाएंगे?मैंने सुषमा मैडम से पूछा- आपने कहां जाना है?सुषमा मैडम कहने लगीं कि मुझे तो इधर पास में ही जाना है.

वो अपने हाथ में मेरे लंड की मुठ मारते हुए इतनी मस्ती से मेरे सुपारे पर जीभ चला रही थी कि मेरी आंखें बंद होने लगी थीं.

शायद वो यही देखना चाहते थे कि पराये मर्द के सामने मैं कैसे चुदाई करवाती हूं.

हमारा किस लगातार 20 से 25 मिनट चला … क्योंकि हम दोनों को क़िस करना बहुत पसन्द है. उसके होंठों पर अपने होंठ चिपका कर मैंने उसकी जीभ को अपने मुंह में खींच लिया. सेक्सी वीडियो 2021 का दिखाइएमैंने हल्के से दोनों हाथ हटाए, तो मेरे सामने दो बड़े बड़े गदराये हुए कड़क चूचे मेरे सामने आ गए.

पहले तो मैंने योनि को चार पांच चपत लगाईं कि वो मुझे इतना तंग क्यों करती है. मैं भी मुस्कराता हुआ उसके करीब जा पहुंचा और पूछा- कैसी हो?वो बोली- ठीक हूं. अब उन्हें मजा आ रहा था और वो बीच बीच अजीबोगरीब आवाजें निकालने लगीं- आअह्ह … ऊऊओ … और जोर से करो ओह.

जब मैं पीछे मुड़ा, तो मैंने देखा कि चाची के गीले बाल उनकी कमर और पीठ को ढके हुए थे … पर चूतड़ों को नहीं ढक पा रहे थे. मैंने भी मौके की नजाकत को देखते हुए उन पर लंड चूसने के लिए ज्यादा दबाव नहीं दिया.

उसके बाद जब हिमानी का दर्द थोड़ा कम हुआ तो वो भी नीचे से कमर हिलाने लगी.

नाड़ा खोलते ही वो बोली- जल्दी करना, अगर कोई आ गया तो दिक्कत हो जाएगी।फिर मैंने सुनीता को फ़टाफ़ट आगे की तरफ झुकाया और उसकी सलवार और पैंटी को नीचे करके झट से अपना लौड़ा उसकी चूत में उतार दिया और उसे पीछे से चोदने लगा। मेरी इस बात से फट रही थी कि कोई आ ना जाए।इसलिए मैं उसे जल्दी जल्दी जोर जोर से चोदने लगा. वो मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछने लगी तो मैंने उनको मना कर दिया. कुछ ही देर बाद चाची ने अपनी चुत का रस झड़ा दिया तो मेरा पानी भी चाची की चूत में निकल गया.

मियां खलीफा मियां खलीफा सेक्सी वीडियो मैं ये फीलिंग बता नहीं सकती कि मुझे अपने मोती के मोटे लंड से चुदने में कितना अधिक मजा आया था. चोद चोदकर तेरी चूत का भोसड़ा बना दूंगा मैं।इस तरह मैं पूरी ताकत के साथ उसकी चूत को अंदर तक पेलने लगा.

मैंने अपना अंडरवियर उतार दिया और दोनों टांगें खोल कर खूब सारा तेल डालकर लंड की मालिश करने लगा. मैंने सिर्फ मुस्कुराना ठीक समझा, लेकिन पायल भाभी जिद कर रही थीं कि कुछ तो बोलो. मैं और अपने हाथों को उसकी छाती पर ले गया और दोनों हाथों से उसके स्तनों को दबाने लगा और उसकी गर्दन पर किस भी करने लगा.

सेक्सी सेक्सी एचडी वीडियो फिल्म

एक हाथ में मैंने टॉर्च ली और दूसरे हाथ से उसकी चूत की फांकों को खोल कर देखने लगा. इसके उलट पूजा इन सब क्रियाओं से अन्जान थी मगर फिर भी वह अपनी स्थिरता बनाये रखे हुए थी और मनोज की किसी हरकत का विरोध नहीं कर रही थी. मोती- क्या डालूं भैनचोद?प्रिया- अरे मादरचोद … अब क्यों तड़पा रहा है … डाल दे अपना लंड मेरी चूत में और बना ले रंडी अपनी … आह जी भर के चोद दे मुझे, आह साले आज से मैं तेरी रंडी हूं.

हमारे परिवार वाले राहुल की फैमिली को अच्छे से जानते थे, सो उन्होंने तुरन्त हां कर दी. कमरे से फच्छ फच्छ की आवाजें आ रही थीं … साथ ही सीमा जी की कामुक सिसकारियों से पूरा रूम गूंज रहा था.

फिर मुझे बहुत अच्छा स्वाद आया, तो मैंने अपने दोनों हाथों से उसके चूतड़ों को थोड़ा सा फैला दिया और गांड खोल कर अपनी लंबी जीभ उसकी गांड में अन्दर तक डाल दी और गांड चाटने लगा.

मेरी भाभी, जिनका नाम हम लोग सुविधा के लिए विभा रख लेते हैं, ने मुझे थोड़ी देर के लिए अपना बच्चा थामने को बोला. कोई भाग्यवान ही इस चूत में लंड पेल पेल के इसे चोदेगा दम से!” विनी बोली और उसने अपना मुंह मेरी गीली योनि पर रख दिया और योनि के होंठ चाटने लगी. मैंने बोला कि प्लीज़ संजू मेरा लंड चूसो न!उसने कुछ बोले सीधा अपने मुँह में लंड ले लिया और आइसक्रीम की तरह चूसने लगी.

फिर मैंने उसकी कच्छी को अपनी पैंट में अंदर अपने अंडरवियर में घुसाते हुए लंड पर रख लिया. थोड़ी देर चुप रहने के बाद रिया से मैंने पूछा- तुमने पहले भी किस किया है किसी को क्या?रिया- तुझे क्या लगता है?मैं- हां किया है, मुझे तो ऐसा लगता है. एक दिन 12 फरवरी को सभी लोग भात नौतने के लिए गए तो आंटी ने मुझे अलग से बुलाया कि हम लोग भात नौतने जा रहे हैं इसलिए तू अपनी दीदी का ख्याल रखना.

मैंने अपना लंड चाची की देसी बुर में डाल दिया और आराम से आगे पीछे करने लगा.

ऑडियो की बीएफ: अब मैंने नीचे से थोड़ा सा झटका दिया जिससे अंगिका के पूरे शरीर में एक बिजली सी दौड़ गई और वो मेरे ऊपर से उठ गई और अपने पेट को पकड़ते हुए मेरे बाजू में लेट गई. छुकपुक चलती ट्रेन में भाबी गांड देख कर तो मेरे लंड ने धुकपुक करना शुरू कर दी थी.

अब तक पिछले भागगाँव के मुखिया जी की वासना- 6में आपने पढ़ा था कि मीता की बहन गीता अपनी मां सुलक्खी के साथ डॉक्टर सुरेश के पास दिखाने के लिए आई थी. उस दिन तो हम सब घर पर ही रहे, लेकिन यह सिलसिला अभी भी जारी रहने वाला था. मेरे चूतड़ों और चूचियों को देख कर सभी कामुक लोगों का लंड खड़ा हो जाता है.

मैं चादर के अन्दर मोबाइल में लीड लगाकर पोर्न देखने लगी, मगर करवट लेने की वजह से मेरी कोहनी के नीचे लीड दब गई और मोबाइल से अलग हो गई.

मेरी गंदी कहानी मेरे और मेरी और मुझे एक डेटिंग साइट पर मिली लड़की के बीच की है. इतने दिनों बाद उसे इस तरह अपने जिस्म से चिपकाने का जो सुकून मिला, वो मैं बयां ही नहीं कर सकता. इसलिए मैंने मालिनी को रुकने के लिए कह दिया और अंगिका से कहा कि मुझे तुम दोनों के होने से कोई दिक्कत नहीं है.