बीएफ हिंदी में आवाज में

छवि स्रोत,सेक्स बीएफ पाकिस्तान

तस्वीर का शीर्षक ,

मराठी बीएफ बीपी: बीएफ हिंदी में आवाज में, चिराग- तो फ्रेंड्स सबकी पैकिंग हो गई … हम 4 बजे निकलेंगे!सब एक साथ- यस सर.

सनी लियोन के बीएफ सेक्सी फिल्म

उसके चिकने हो चुके बदन को देखकर अब मैं अपने आपको अपने लंड को रगड़ने से नहीं रोक सकता था. सेक्सी बीएफ देहाती साड़ी वालीकुछ देर बाद दीदी ने हांफी भरना शुरू कर दिया और मैं समझ गया कि दीदी अब झड़ने वाली हैं.

हमारी आंखों के सामने गाड़ियां आती रहीं और एक एक करके तीन लड़के गाड़ियों में बैठकर चले गए. हिंदी फुल एचडी बीएफ वीडियोबाद में देखा कि उसकीचुत की सील टूट गईथी और खून की बूंदें चादर को खराब कर चुकी थीं.

अन्दर मेरी दीदी एकदम नंगी होने लगी थीं और कपड़े उतारते समय बड़ी मस्त माल लग रही थीं.बीएफ हिंदी में आवाज में: तो ना तो प्राची किचन में थी … और ना ही बेडरूम में, बच्ची भी बेडरूम में अकेले सो रही थी.

मैं हटा और उसे बिठा लिया; बिठाकर सबसे पहले उसकी चुन्नी उतारी और नाक पर चूमकर उसकी नथ उतार दी इसके बाद माथे पर चूमा और मांग टीका निकाल दिया.मगर मेरे लिए ये अच्छा ही था क्योंकि उसे भी तो पता चले कि मैं कितना बिन्दास हूँ.

जुदाई वाला बीएफ - बीएफ हिंदी में आवाज में

मगर मैंने लंड गांड में पेलते ही अपने एक हाथ से भाभी के मुँह को दबा दिया था, जिससे भाभी की चीख घुट कर रह गई.फिर मैं चाची के होंठ चूसते और मम्मे दबाते हुए घपाघप अपना लंड पेलने लगा.

अचानक हुए हमले से कांप गई रंजू के हाथ से अनु दीदी की बांहें छूट गई थीं. बीएफ हिंदी में आवाज में फिर मैंने धीरे धीरे करके पूरा टीशर्ट ऊपर तक कर लिया और उसकी चूचियां मेरी नजरों के सामने नंगी उसके सीने पर पसरी हुई थीं.

जल्दी जल्दी में मैंने ये ध्यान नहीं दिया कि वो जगह उसके स्तनों की है.

बीएफ हिंदी में आवाज में?

तब मैंने डिल्डो उनकी गांड के छेद पर रखा और धीरे धीरे अंदर डालना शुरू किया. नमस्कार दोस्तो!मेरा नाम पूजा है और मैं हिमाचल प्रदेश में रहती हूं। मैं अपनी पहचान को जाहिर नहीं कर सकती इसलिए शहर का नाम नहीं बता सकती।मेरी उम्र है 32 वर्ष; मेरी लंबाई 5 फीट 7 इंच, रंग गोरा शरीर की बनावट 34 – 30 – 36वैसे भी आप सभी जानते होंगे कि भारत में ठंडे प्रदेश की लड़कियां कितनी सुंदर होती हैं. लेकिन उस बस की भीड़ देखकर मेरी हिम्मत ना हो पाई तो मैं वहीं पर रुक गई.

इसी बीच हमारी कामुक आवाजों से हम तीनों ने ध्यान ही नहीं दिया और सोनल भाभी ने कमरे के दरवाजे की झिरी से सारा नजारा देख लिया. उसके शरीर से मेरा शरीर लिपट गया था और चुत में लंड का घर्षण चल रहा था. अब तक की इस गे सेक्स कहानी के पिछले भागनसीब से गांड की दम पर नौकरी मिली- 1में आपने पढ़ा था कि नसीम भाई ने अपना मशहूर हलब्बी लौड़ा मेरी कसी हुई गांड में पेल दिया था और मैं मीठे दर्द के साथ उनके पूरे लंड को अपनी गांड की जड़ तक लेकर पुरानी यादों में खोया हुआ था.

मैंने यामिना को घुमा कर अपना लौड़ा उसके चूतड़ों की गहरी घाटी में अड़ा दिया और अपने दोनों हाथों से उसकी 36 साइज की चूचियों को धीरे धीरे सहलाने लगा. कुछ ही देर बाद ज़ारा झड़ने लगी तो मैंने धक्के तेज कर दिये और उसका चेहरा अपनी ओर घुमाकर किस करता हुआ झड़ गया. ’ क्या होता है?मैंने कहा- खुल कर बता दूँ क्या?वो बोली- हाँ बताओ जीजू?मैंने कहा- बुरा तो नहीं मानोगी?वो बोली- नहीं मानूँगी … आप कहो तो.

हनीमून सेक्स स्टोरी कैसी लगी?[emailprotected]इस कहानी को यहीं पर समाप्त किया जा रहा है. जया मस्ती से मचलने लगी और बोली- आप लोगों की वजह से आज मेरी बेटी आशा बहुत खुश है.

उसके बाद धीरे धीरे मैं चुंबन करते हुए उसके कान के नीचे आया और एक प्यारी सी किस दी.

जैसे ही मैंने लंड चुत से बाहर निकाला, सुलतान ने मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगा.

लंड की लंबाई 7 इंच के आस पास ही है, लेकिन मोटा इतना है कि किसी भी चूत में आसानी से नहीं जाएगा … सामने वाली की आंखों में आंसू ला देगा. ’ की आवाज करने लगी और मुझे अपनी ओर खींच कर होंठों से होंठ लगाते हुए ऐसे चूसने लगीं जैसे बहुत प्यासी हों. वहां जाकर मैंने अपनी शर्ट उतार दी और ब्रा भी। मैंने खुद को रुमाल से सुखाया और शर्ट का पानी निचौड़ा.

अब आगे गंदा सेक्स:मैंने शराब की बोतल देखते हुए कहा- भाभी जी इसकी क्या जरूरत है … हम दोनों पहले ही इतनी ज्यादा पी चुके हैं … प्लीज अब और नहीं!भाभी जी- डोन्ट वरी … इसमें ज्यादा नशा नहीं होता. मैं उसे अपनी गोद में बिठा कर शर्बत दे ही रहा था कि भाभी ने मना किया और जो गिलास खुद के लिए लाई थीं, वो उसे दे दिया. मेरा एक भाई जो कि मेरे मामा जी का लड़का है, वो दिल्ली में नौकरी करता है.

ये हॉट ऑफिस सेक्स स्टोरी पिछले साल जुलाई की है जब मैं बरनाला, पंजाब में जॉब के लिए आयी थी.

मैंने लंड को हिल़ाया तो वो कहने लगा- अरे लग रई यार … आपका बहुत मोटा है. जैसे ही मेरा पानी उनकी गांड में गिरा, बुआ की चुत ने भी अपना झरना छोड़ दिया और हम दोनों रस से सराबोर हो गए. उस दिन की चुदाई से उसकी पूरी बॉडी दर्द करने लगी थी जिससे उसको बुखार भी हो गया था.

भाभी उठी और बोली- राज … अब आ जाओ, पायल की चूत चोदने का टाइम हो गया. अनु दीदी की मस्त जवान चुत से बाहर निकल रहे गर्म पानी को अपने हाथों में लेकर मैंने रंजू की गांड और चुत पर मल दिया, जिससे उसकी पानी छोड़ रही चुत में चिकनाई हो गई. पापा मम्मी की बात सुनकर मैं डर गया कि अब मुझे अलग कमरे में सोना पड़ेगा और मॉम डैड सेक्स देखने को नहीं मिलेगा.

यामिना फिर से गर्म होने लगी लेकिन उसने कहा- सर, अब बस करें … मुझे देर हो रही है.

उसने बैग में से विलायती शराब निकाली जो देखने में काफी महंगी लग रही थी. उसकी फैमिली में वो, उसकी खूबसूरत बीवी शबाना और एक बेटा शाहिद और एक बेटी हिना थी.

बीएफ हिंदी में आवाज में बाहर बरामदे की लाइट जल रही थी जिससे रोशनदान से आ रही लाइट से अंदर का सब कुछ साफ दिखाई दे रहा था. मगर मैंने जब उससे पूछा कि क्या तूने पोर्न में लंड चुसाई नहीं देखी?वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुराने लगी.

बीएफ हिंदी में आवाज में पर जैसे जैसे हमारी बातचीत बढ़ने लगी थी वह खुल कर बात करने लगी थी।कुछ नॉर्मल चैट और सेक्स चैट के बाद मैं उस पर भी सेक्स स्टोरीज लिखने लगा था।शुरू में कहानियाँ पढ़ कर वह बहुत शरमाती थी, उसमें लिखे लंड, चूत, चूची ऐसे शब्दों पर उसे आपत्ति होती थी. कितनी सुंदर चूत थी उसकी … दोनों किनारे खोलते ही सामने योनिद्वार जो हल्का सा गुलाबी था … चूत के दोनों होंठ चिपके थे।रेनू नितंबों को हिलाने लगी.

सेक्स स्लेव पोर्न कहानी में पढ़ें कि लिफ्ट में एक लड़के ने मेरी गांड पर अपना लंड लगा दिया.

ब्लू फिल्मे ब्लू फिल्में

उसका एक हाथ अब सोनम की चुदी-चुदाई चुत में दो उंगलियां घुसाकर उसे भी जिन्दा रखे था. मगर मेरी बात भी बिल्कुल सही थी, तो उन्होंने एक मिनट सोचा और अपनी ब्रा और पैंटी उतारने का फैसला ले लिया. पैंट की चैन आधी बन्द होने से और ऊपर का बटन बन्द न हो पाने के कारण सामने से पैंट इतनी खुली हुई थी कि चाची की छोटी सी पैंटी दिखाई दे रही थी.

कोई 5-7 मिनट तक भाभी की चुत चोदने के बाद मेरा भी वीर्य निकलने वाला हो गया था. उसकी चुत एकदम टाईट थी तो उसे तकलीफ हो रही थी लेकिन उस तकलीफ में भी उसे बड़ा सुकून मिल रहा था. मैंने बीस मिनट चुदाई करने के बाद फिर से भाभी को पेट के बल लेटा दिया और उनकी चूत में लंड डाल कर फिर से चुदाई करना चालू कर दी.

यदि कहानी में कोई कमी हो तो वो भी बताएं ताकि उसको सुधारा जा सके।आपसे ये भी अनुरोध है कि यदि इस भानजी की चुदाई कहानी में कोई खूबियां हो तो वो भी बताएं ताकि उनको और अधिक निखारा जा सके.

जब उसे लम्बे समय के लिए अपनी पत्नी से दूर रहना पड़ा तो उसे अपनी तनहा रातें काटना दुश्वार हो गया. कार जैसे ही घर के लिए चली तो जीनिया अपने भाई रिचर्ड से अपनी भाषा में बातें करने लगी. बाद में मालूम पड़ा कि वो अधिकतम समय ट्रेडमिल वाले सेक्शन में ही आती थी.

रात को खाना खाने के बाद कुछ देर सबने बातें कीं और फिर सोने के लिए अपने अपने कमरों में चले गए. पल्लवी, विराज के बगल में, स्नेहा आकाश के साथ हो गई, जिससे तन्वी समीर के पास बैठ सके. मैं बहुत खुश था कि मैं अपनी प्यारी भाभी के साथ सेक्स करने जा रहा हूँ.

रोजाना के दूध की तरह ये दूध पतला नहीं था बल्कि क्रीमी था और हल्की सी मिठास भी थी. मैं कुछ आवाज़ कर पाती तब तक एक ने मेरे मुंह में अपना पूरा लंड दे दिया.

वो भी शायद वासना की आग में जल रही थी तो वो बोली- ठीक है मैं दूध देने के बहाने से आ जाऊंगी. रेणु, शेखर की पत्नी एक बहुत ही ख़ूबसूरत और गदराए हुए जिस्म की मालकिन है। आज भी मौहल्ले के मर्द उसे देख कर आहें भरते हैं और शायद अपने नवाब को अपने हाथों में लेकर उसके ख्यालों में अपना काम-रस निकालते होंगे. न्यूड भाभी की मस्त चुदाई कहानी के पिछले भागमस्त शादीशुदा पड़ोसन को पटाने की कोशिशमें अब तक आपने पढ़ा कि मैं खिड़की से झांकती हुई श्वेता के मस्त मम्मों को देख ही रहा था कि उसने मुझे चाय पीने के लिए अपने फ्लैट में आने को कहा, तो मैं उसके फ्लैट में चला गया.

चूंकि उसका हमारे घर भी आना जाना था तो मैं सही मौके की तलाश करने लगा.

मेरे मम्मे शायद उससे कह रहे थे कि अशोक अगर तुझमें दम है, तो आ और भंभोड़ ले हमें. उन्होंने थोड़ी क्रीम लेकर मेरी बीवी की गांड के छेद पर लगाई और अपना मोटा सुपारा उसकी गांड के छेद पर लगाकर एक धक्का मारा. मैंने खड़े लंड को गांड के छेद पर लगा दिया और चाची को गांड ढीली छोड़ने को कहा.

मैंने उसकी गांड के नीचे तकिया लगाया और फिर पूरी ताकत से उसकी चूत मारने लगा. वे पैंट पहन रहे थे कि मैंने छेड़ा- एक बार और हो जाए?वे न न करने लगे, फिर खुद ही पैंट उतार का टांग दी.

कुछ समय बाद मयंक का मेरे पास फोन आया- भाई तेरी बहुत ज्यादा याद आ रही है. आप लोगों से निवेदन करना चाहूंगा कि कृपया करके मुझसे मेरी क्लाइंट की डिटेल ना पूछें, मैं वो सब आपको नहीं दे पाऊंगा. मैं- बस थोड़ा और … अभी गांड न सिकोड़ना … थोड़ी देर ढीली रखें कॉपरेट करें … हल्की हल्की जल रही होगी.

ভিডিও এক্স এক্স

मेरी चूत में भी खुजली होनी शुरू हो गई थी क्योंकि मुझे पता था कि अब आगे क्या होने वाला है।लगभग 10 मिनट बाद मैंने देखा उनमें से एक लड़का मेरे बराबर में आकर खड़ा हो गया और धीरे-धीरे मुझे अपने हाथों से छूने लगा.

कुछ देर तक ये अब मजा करने के बाद हम दोनों ने अपने कपड़े पहने और कमरे पर चल कर बाकी की चुदाई का मजा लेने का तय कर लिया. चाची गुदगुदी और मस्ती के मारे कामुक आहें निकाल रही थीं और अपनी गांड मेरे मुँह पर दबाती जा रही थीं. मैंने चॉकलेट चाटनी शुरू की तो रेनू ने दोनों टांगें चौड़ी करके घुटनों तक मोड़ लीं.

मैं हर बार की तरह अपनी खिड़की में खड़ा था, तभी मुझे कुछ झगड़ने की आवाज़ें आने लगीं. हम दोनों ने अपने फोन नंबरों का भी आदान-प्रदान किया और अब फोन पर बातचीत करना शुरू कर दी. मेरठ के बीएफमैंने पूछा- क्या हुआ कुछ तो बोलो!उसने बोला- अमितेश बात बात पर नाराज़ हो जाते हैं … और बहुत कुछ बोल देते हैं.

तब भी मैंने हिम्मत जुटा कर कहा- क्यों, इसमें क्या बुराई है?भाभी- ऐसे वीडियो नहीं देखा करते. वहां पर दस बारह लड़के हाथ पर कोई ना कोई रंगीन कपड़ा बांधकर खड़े हुए थे.

उनकी चुत के नमकीन रस से मैंने शराब की कड़वाहट को खत्म किया और उनके निप्पल पर फिर से मुँह लगा दिया. मैं देखना चाहती थी कि अमन की नज़र उस नकली चूत पर जाती है या नहीं।वो कमीना मेरी इंटरनेट ब्राउजिंग की सारी खोज को चेक कर रहा था कि मैं क्या देखती हूं इसमें!फिर उसकी नजर उस रबर की चूत पर चली ही गयी. साथियो, देसी सेक्स की मनघड़न्त कहानी के लिए आप मेरे साथ अन्तर्वासना से जुड़े रहें.

मैंने बिल्कुल एक ही शेप की ऐसी खूबसूरत चूचियाँ और उनके ऊपर अति सुंदर भूरे गुलाबी रंग के गोले आज से पहले कभी नहीं देखे थे. अपने शरीर को साफ किया और रूम में खड़ी होकर अंकल को आवाज दी, पर उनका कोई जवाब नहीं आया. मेरी इस बात को सुनकर जो लड़के ट्रेनी अब तक चुप थे, वो बाहर आ गए और मेरा सपोर्ट करने लगे.

मेरे हाथ उसके पूरे बदन पर फिरने लगे और वो जैसे मेरी बांहों में ही मोतियों की माला सी मोती मोती करके टूटने लगी.

मुझे उसकी बालों से ढकी चूत बहुत प्यारी लग रही थी।मैंने पीछे से उसकी ब्रा के हुक खोल दिये. उसने पहले मेरे कपड़े पूरे निकाल कर मुझे नंगा किया और मेरे पूरे शरीर को चूमने लगी.

मेरी और ममता जी की बातें सुनकर वो भी शायद अब यही सोच रही होगी कि मैं कितना बड़ा कमीना हूँ जिसने अपनी भाभी को भी नहीं छोड़ा. उसकी चूचियों की सख्ती से लगता था कि उसके पति ने उसकी चूचियों को अच्छे से दबाया नहीं था. लेकिन मेरा लंड पर सूजन के कारण और लंड भी ज्यादा लंबा और मोटा हो गया था.

मैंने लगातार चार पांच शॉट लगाए तो चूत से पच … पच फुच फुच … की मस्त आवाज आने लगी थी. दिनकर ने अपना लंड हाथ में ले रखा था लेकिन वो नगर के रीतिरिवाजों के चलते अपनी बीवी के साथ कुछ कर ही नहीं पाया. उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था और रस के कारण उसकी चूत पूरी चमकने लगी थी.

बीएफ हिंदी में आवाज में मोना को और सूरज को देखना … और यश, अपनी भाभी का कोई सामान वगैरह लाना हो, तो ला देना. मयंक ने कहा- संगीता जी कोई बात नहीं … आप आराम से आर्यन के साथ अपने पल इंजॉय करो.

बाप बेटी की नंगी चुदाई

परंतु जब बाद में उसे पता चला कि उसके प्रेमी का भी एक चक्कर था तो वह उससे अलग हो गई थी. और यार तेरी पूजा दी का कुछ हुआ?समीर- नहीं यार … पता नहीं कहां से साला हिजड़ा लिखा था दी की किस्मत में … उस मादरचोद का लंड ही खड़ा नहीं होता. पता नहीं क्यूँ लेकिन उसे ये विश्वास था कि आज उसे धारा से बात करने का मौक़ा मिल सकता है.

जब मेरी पड़ोस कीचाची से मेरे जिस्मानी संबंधबन गए, तो अब मैं चाची को मौक़ा मिलते ही चोदने लगा. इस पर मयंक ने जवाब दिया- मैडम हम दोनों को पैसे की जरूरत है इसलिए इधर आ गए थे. बिहार के सेक्सी बीएफ चाहिएवैसे तेरा पति भी दिख रहा है … ये भोसड़ी का शूट पर क्या करता है?आशा- अरे यार, चुदाई के लिए लंड खड़ा चाहिए होता है, तो वो मेरी चुत के लिए अपने मुँह में लंड लेकर खड़ा करता है.

वहां पर जितने भी लड़के खड़े थे, हम दोनों उन सबसे हैंडसम और स्मार्ट दिख रहे थे.

कुछ देर ऐसे ही मैं संगीता को प्यार करता रहा, कभी उसकी गर्दन को चूमता, तो कभी कान की लौ को चूमता. आज तक उसने जितनी भी लड़कियां पेली थीं, उनमें से आधी तो पहले झटके से बेहोश हो गयी थीं और उसके बाद फिर से कभी उन्होंने उसके नीचे आने की हिम्मत नहीं दिखाई थी.

इसके बाद बिजनेस की मीटिंग शुरू हो गई और मीटिंग में डील को लेकर बातें हो रही थीं. पूरे 9 इंच लंबा और 4 इंच मोटा लगभग मेरे हाथ की कलाई जैसा मोटा लंड था. दोस्तो, मैं आपका प्यारा सा आजाद गांडू एक बार फिर से अपनी गांड मराने की सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ.

उन्होंने ऊपर आते ही मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया पर मैंने बुआ की चुत से पहले उनकी अंदरूनी जांघों पर हमला किया.

अब अंकल मेरे टीशर्ट के ऊपर से मेरे बूब्स दबा रहे थे और मुझे किस भी किए जा रहे थे. उस दिन के बाद से मैंने भाभी से बात करना बंद कर दिया और अपने रूम में ही दिन बिताने लगा. फिर हमको क्लाइंट के बताए हुए एड्रेस पर जाना होगा और चुदाई का काम करना पड़ेगा.

बीएफ पिक्चर पूरीमैंने तीन बार लगातार शायरा के दरवाजे को‌ जोर जोर से पीटा, तब जाकर कहीं उसके घर का दरवाजा खुला और वो बाहर आई. जिसके कारण मैं गर्मी बर्दाश्त नहीं कर सकी और मेरी चूत ने अपना अमृत निकाल दिया, जिसे उसने पूरा पी लिया.

सेक्स वीडियो जबर्दस्त

मैंने कहा- अब कब बुलाओगी?भाभी ने बोला- पहले जल्दीो से घर की लाइट ठीक करवाओ, किसी इलेक्ट्रीशियन को बुलाओ. वो किंजल को डराता रहता था कि तू यदि मेरे साथ बात नहीं करेगी या मेरे साथ घूमने फिरने नहीं चलेगी, तो मैं तेरी सारी बातें तेरे मंगेतर और होने वाले पति के सामने ओपन कर दूंगा. ऐसे ही कुछ दिन और निकल गए, मैंने अमितेश और श्वेता से कोई ज्यादा बात नहीं की.

चाची की बड़ी सी गोल मटोल गांड पीछे को उठी हुई है, जो बहुत ही सेक्सी लगती है. सोनम भी अब पूरे जोश में नीचे से अपनी गांड उठाते हुए उसके लौड़े का स्वागत अपनी चुत में कर रही थी. वहां से मैं बाहर आया तो देखा वो लेटा हुआ था, शायद मेरा इंतज़ार कर रहा था.

मेरे आते ही उसने अपना लौड़ा मेरे मुँह में डाल दिया और मैं उसके लंड को चूसने लगा. वो गर्म होने लगी और एकदम से उसने मेरे हाथ को चूत के पास पकड़ लिया और उसको चूत पर दबा दिया. मैंने संध्या चाची को पीछे से हग करते हुए उनके गाल चूम कर कहा- गुड नाईट एण्ड टेक केयर चाची.

शेखर जानता था कि लड़के अक्सर लड़कियों के नाम से मस्ती किया करते हैं इसलिए ज़्यादा सीरीयस ना होकर हल्के-फुल्के लहजे में बात शुरू की. जब वो दूसरी साइड के कंधों पर हाथ बढाती थी तो उसके भारी मम्मे मेरी छाती से टच हो जाते थे.

मुझे अकसर ऑफिस में देरी हो जाने के कारण में घर पहुंचने में कई बार देरी हो जाती थी.

‘आअह अह्ह्ह्ह ह्म्म्म धीरे करर्रर भोसड़ी के … आह्ह्ह्ह फाड़ ही देगा क्या मेरी चुत साले मादरचोद … और जोर से मार मेरी गांड कुत्ते … आह फाड़ दे मेरी गांड, रंडी बना दे मुझे अपनी साले हिजड़े. सेक्सी बीएफ हिंदी में बिहारीदोस्तो, सेक्सी दीदी की कहानी के पहले भागबड़ी बहन को नंगी नहाती देखामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपनी बहन की चुदाई के लिए गर्म होने लगा था और मेरा लंड खड़ा होने लगा था. बीएफ लड़कियों की बीएफवे थोड़ी देर रूके … फिर तेल की शीशी मेरे हाथ में देकर बोले कि अब तू मेरी मारेगा. तभी मामी बोलीं- कोई दिक्कत नहीं तू जोर लगा कर दम से चोद!इतना सुनने के बाद मैं और जोर से अपनी कमर को हिलाते हुए झटके मारने लगा.

एक के बाद एक 3-4 बार हमारी मुलाकात हो चुकी थी मगर अभी तक सब कुछ सिर्फ बातों तक सीमित था.

मैंने पूछा- आपके हबी का काम नहीं करता क्या?वो विषाद भरे स्वर में धीमे से बोली- गांडू है माँ का लौड़ा. इस पेज पर आपको बेहतर तरीके से पता चल पायेगा कि आखिर वो कितना हॉट माल है. पोर्न भाभी सेक्स कहानी में पढ़ें कि पड़ोस की एक भाभी को स्कूल की ऑनलाइन पढ़ाई के लिए टैब चाहिए था.

अगर मिलकर कोई बदमाशी की तो देख लेना।उसी हामी सुनकर मैं बहुत खुश हुआ और हम दोनों ने लगभग डेढ़ घंटे तक मैसेज पर फ़ोन सेक्स किया और दोनों को ही खूब मज़ा आया।फ़ोन सेक्स पर क्या बातें हुई यह सब बताकर मैं आपका वक़्त बर्बाद नहीं करूँगा. उसने मुझे 2 डब्बी ग्लिसरीन की देते हुए कहा- लो ये रखो, अब हम दोनों आगे भी मिलते रहेंगे. फिर हाथ में लंड लेकर बोले- मोटा भी बहुत है … मेर जैसा ही है … वाह मेरे शेर.

नंगा सेक्स नंगा सेक्स

मैं यह देख कर हैरान रह गया कि थोड़ी देर पहले तक मम्मी पापा को मना कर रही थीं और अब उन्हें मेरे सामने नंगी होने भी शर्म नहीं थी. शेखर भी रेणु की हर तरह से मदद करता और जब भी मौक़ा मिलता उसे ख़ुद से चिपकाए रहता. मुझे साड़ी की वजह से चुत सहलाने में दिक्कत हो रही थी इसलिए मैंने साड़ी हटाते हुए पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया.

एक तरफ़ मैं ऊपर से उसके चुचे दबा रहा था और नीचे से उसकी चूत फाड़ रहा था.

फिर मैंने पूछा- कोई तकलीफ तो नहीं हो रही?वह हंसा- अरे सर, कितनी बार पूछोगे … कैसे मरे मरे तो कर रहे हो, खुल कर करो न!उसकी बात सुनी तो अब मैं जोरदार झटके देने लगा.

मैंने पूछा- तो आपसे जो मैंने पढ़ने के लिए कहा था, वो पढ़ा आपने?वो बोली- हां, मैंने पढ़ा. विदेशी का लंड लंबा और मोटा था जिसके घुसते ही अंकिता की हॉट देसी इंडियन चुत के होंठ पूरी तरह से फैल गए थे. ब्लू पिक्चर हिंदी बीएफ हिंदीपार्टी में अनु दीदी ने दोनों बहनों के साथ अपने हुस्न का तड़का लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी.

डॉक्टर ने बोला- ऐसा क्यों?मैं बोली- मैं मिक्स स्पर्म से बच्चा चाहती हूँ. उसके झांटों के बाल मुँह में आ रहे थे।रेनू आँखें बंद करके लेटी थी और मैंने तना हुआ लण्ड उसकी चूत में एक ही झटके में पेल दिया. हालांकि उसकी चूत प्यासी थी लेकिन अब वो दूसरे राउंड के प्लान में रात काली नहीं करना चाहती थी.

इधर मेरी चुत अभी सिर्फ एक बार ही चुदी थी और उसे भी काफी समय हो गया था. कुछ ही देर में मैंने भाभी को लेटा दिया और उनके ऊपर आकर कभी उनके गालों को चूमता, तो कभी उनकी गर्दन को जोर जोर से चूसता चूमता, जिससे मोना भाभी को भी बहुत अच्छा लग रहा था.

धीरे-धीरे हमारी बातें गांव में फैल गईं और सभी जान गए कि मेरे और ललित के बीच में क्या संबंध हैं.

किंजल अपनी प्यारी सी नशीली आंखों से देख कर मुझे स्माइल पास कर देती. बस नसीम भाई ने उसकी गर्दन में बांह का घेरा डाल कर अपनी तरफ उसका मुँह किया और उसके होंठ चूसने लगे. अभी अगर उसमें कोई भी घर्षण होगा, तो हमारी बॉडी में गर्मी का अहसास होगा.

शादीशुदा लड़की का बीएफ मदमस्त औरत की चुत जब वासना की आग में जल रही हो और उसकी चुत पर उन्मुक्त मर्द का हाथ खेलना शुरू कर दे, तब कामांध औरत का क्या हाल होता है ठीक वैसा ही इस समय मोना भाभी का हो रहा था. एक दिन मेरी मम्मी और दादी को पापा के पास कुछ काम से 4-5 दिनों के लिए शहर जाना पड़ा.

रोजाना के दूध की तरह ये दूध पतला नहीं था बल्कि क्रीमी था और हल्की सी मिठास भी थी. आपको जवान कुंवारी बुर की चुदाई की ये होटल रूम सेक्स स्टोरी पसंद आ रही हो तो मुझे अपने मैसेज भेजते रहें. थोड़ी देर में भाभी ने फिर से आवाज लगाई- यश!मैंने बोला- हां जी भाभी जी!मोना भाभी बोलीं- यश जरा बेड पर मेरा पेटीकोट और ब्लाउज़ रखा है … दे दोगे मुझे!मैंने कहा- ठीक है … लाता हूँ.

एचडी ब्लू

मैं ये सब देख कर भी अंजान बनी रही क्योंकि मेरा मकसद पूरा हो चुका था. गुजरे पांच साल में प्रकृति ने मुझे नारी को वश में करने की अद्भुत क्षमता दी है. एक दिन मैंने भाभी से बातों ही बातों में पूछ लिया- भाभी, भाईजान तो कई कई दिन बाहर रहते हैं, आपका दिल नहीं करता कि रात में उनकी जगह किसी और से मदद ले लो.

जब मैं बेडरूम में गया तो बाथरूम से मुझे मम्मी पापा की आवाज सुनाई दी. भाभी कामुक हंसी हंसते हुए बोलीं- यश तुमने मेरे अरमानों को पंख लगा दिए हैं.

अलवीना ने कहा- अगर तुम चाहो तो हम दोनों किसी बार में ड्रिंक करने चल सकते हैं.

मैंने बड़े मजे से उसे चाटकर साफ़ किया और उन्होंने मेरे मुंह में ही अपनी गर्मा गर्म माल गिरा दिया. मेरी नजर भाभी कमर पर पड़ी, तो भाभी ने साड़ी का पल्लू कमर में खौंस रखा था. और मुझे तो यह आईडिया भी नहीं की बात किस टॉपिक पर करूँ?तब उन्होंने बोला- अच्छा तो ये प्रॉब्लम है … कोई बात नहीं, तुम्हारी हिचक हम दूर कर देंगे.

एक लम्बी सिसकारी भरकर पायल बोली- विजय अअ अ!लोहा गर्म था लेकिन अभी और तपाने की जरूरत थी. मुझे एक बार फिर निखिल का बचपन याद आ गया था कि कैसे इन्हीं स्तनों से मैं इसकी भूख शांत करती थी. फिर मैं ऐंट्री भरने लगा तो मैंने मेरी बीवी के रूम को भी देख लिया जो 305 नम्बर था.

एकदम दूध सा गोरा-चिट्टा मखमल जैसा बदन, भरे हुए चुचे ब्रा से बाहर आने को आतुर हो रहे थे और नीचे उनकी कोमल कोमल चिकनी टांगें मेरे लंड की मां चोदने को उतारू थीं.

बीएफ हिंदी में आवाज में: मेरा एक भाई जो कि मेरे मामा जी का लड़का है, वो दिल्ली में नौकरी करता है. सुन्दर और सुडौल गोरे मम्मे के चारों ओर गुलाबी रंग का घेरा और उसके ऊपर किशमिश जैसा कत्थई रंग का निप्पल था.

मैंने पापा का लंड निकाल कर मुँह से साफ कर दिया और मम्मी की चूत से निकलते हुए मालपानी को मुँह से चूस लिया. ऐसा करने से बूब्स में रक्तप्रवाह बढ़ता है और ऐसा करने से बूब्स की बिगड़ी हुई शेप भी सुधरने लगती है. हम दोनों दारू के गिलासों को होंठों से लगाए हुए धीरे धीरे सिप लेते हुए एक दूसरे की आंखों में देख रहे थे.

मगर जब मैंने उसे दूसरी बार फिर से पकड़ा तो इस बार वो पूरी गर्म हो गई क्योंकि वो लंबे समय से सेक्स की भूखी थी.

वे बोले- प्रभात झांसी में पोस्टेड है उसकी शादी झांसी में ही हो रही है. मेरी एक नजर ममता जी पर थी, तो दूसरी शायरा पर थी … जो कि अब बेखौफ खिड़की से खड़े होकर हमारी चुदाई देख रही थी. सुबह मम्मी किचन में पापा से कह रही थीं कि गोलू ने रात सब देख लिया था.