सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वाला

छवि स्रोत,सेक्सी ब्लू पिक्चर ओपन वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

पहली फिल्म बीएफ: सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वाला, श्वेता बताने लगी कि अमितेश बात बात पर ग़ुस्सा करते हैं … और लड़ते रहते हैं.

करीना सेक्सी चुदाई

जब झड़ने को होता तो मैं चुत से लंड निकाल कर उनके मुँह में चोदना शुरू कर देता, तो कभी उनकी चूचियों में लंड फंसा कर मजा देने लगता. देसी बिहारी सेक्सी व्हिडिओएक एक पैग और पीने के बाद संगीता ने मयंक से कहा- आओ मयंक, मैं तुमको तुम्हारा रूम दिखा देती हूं.

मैंने उनकी पैंटी को भी टांगों से नीचे खींचा तो भाभी ने अपनी गांड उठा कर झट से पैंटी को उतर जाने दिया. सेक्सी फिल्म वीडियो फिल्म फिल्ममगर क्या आप सच में इतना मजा दे देते हो? मैं तो आपकी सेक्स कहानी पढ़ते हुए न जाने कितनी बार पानी पानी हो गयी!उसकी बात पर मैंने कहा- क्यों? आपको यकीन नहीं है कि मैं इतना मजा दे सकता हूं?वो बोली- मैं तो बस पूछ रही हूं.

कुछ मिनट के बाद भाभी ने लंड मुँह से निकाल दिया और मेरे मुँह पर अपनी चुत को रख कर बैठ गईं.सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वाला: वो उचक कर हल्के से चीख पड़ीं- आआह … इतनी जल्दी क्या है … आराम आराम से करो न!मैंने कहा- हां अब आराम से ही करूंगा.

प्रिय दोस्तो, मैं सोनिया कमल आपको इस चुदाई की कहानी में आपने ममता की उसके भाई अभय से चुदने की दास्तान को सुना रही थी.मैं सुबह देरी से उठा तो मैंने देखा कि मामी मेरे कमरे में झाड़ू लगा रही थीं.

सेक्सी गप्पा मराठी - सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वाला

मैंने कुछ नहीं कहा, तो बोली कि इसको लंड चूसने की आदत है गांड भी मरवा लेता है.मैंने उनकी तरफ देखा और एक निप्पल को मींजा, तो भाभी ने खुली और ढीली ब्रा को उतार दिया.

मम्मी- चल छोड़, बेकार की बातें मत कर!और यह कह कर मेरी मम्मी वहाँ से जाने लगी. सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वाला वो भी नीचे से अपनी कमर उठा उठा कर मेरा साथ देने लगी।अब मेरा लंड उनकी चूत में जड़ तक जाने लगा.

मैंने दीदी की गीली पैंटी को उठा लिया और उसे उल्टा किया, तो देखा कि जहां पर दीदी की चूत का छेद था … वहां पर सफ़ेद मलाई सा चूत का पानी लगा हुआ था.

सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वाला?

सेक्सी औरत की चुदाई कहानी के पिछले भागमेरे दफ़्तर का सेक्सी माहौलमें आपने पढ़ा कि मेरे दफ़्तर की पीयोन मेरी मालिश के लिए मेरे कमरे में आ गयी. पता नहीं मुझे क्यों ऐसा लगा कि अलवीना मुझसे चुदने के मूड में आ गई है. मैं बोली- जी डॉक्टर, मैं समझी नहीं कि आप कुआ कहना चाह रहे हैं!तो डॉक्टर बड़े बेशर्मी के साथ बोला- मैं जानना चाहता हूँ कि आपके पति आपकी चूत की आग बुझा भी पाते हैं? मतलब वे आपको पूरा मजा दे पाते हैं सेक्स का या नहीं?डॉक्टर की यह बात सुनकर मैं चौंक गयी और बोली- डॉक्टर साब, ये आप कैसी बातें कर रहे हैं?वो बोला- मधु यार … मैं सीधे मुद्दे पर आता हूं.

पूरे कमरे में एक अलग सी मादकता फैली थी और हम दोनों एक दूसरे में समाये जा रहे थे. बात करते करते अचानक से श्वेता की गर्दन में दर्द होने लगा- आह … मेरी गर्दन!मैं बोला- क्या हुआ?श्वेता- मेरी गर्दन अचानक से बहुत दर्द करने लगी. भाभी ने बाथरूम का दरवाजा खोला लेकिन मैंने अपना मुँह दूसरी तरफ किया हुआ था और भाभी को कपड़े देने लगा.

उस वीडियो में एक फिरंगी लड़की की चार अफ्रीकन हब्शियों के द्वारा ग्रुप चुदाई का वीडियो था. लिली ने अपनी नाजुक हथेलियां मेरी छाती पर रखीं और धीरे धीरे ऊपर नीचे होने लगी. मैंने कहा- मेरा भी नॉर्मल ही है मगर तेरे पति का नॉर्मल से बहुत कम है इसलिए तुझे मेरा बड़ा लग रहा है.

मैम के चूचे चूसते हुए मैं उनके गालों को सहला रहा था और मैम अपनी बुर को ऐसे सिकोड़ रही थीं जैसे कि लण्ड का रस निकाल रही हों. मैं- क्या खुशी इतनी दूर बैठकर जाहिर की जाती है?लिली मुस्कराई और उठकर मेरे साथ सोफ़े पर बैठ गई.

कभी वो जोर से मेरी कमर को खींच कर मुझे अपनी चूचियों से रगड़ देती, तो कभी गांड उठा कर स्पीड बढ़ा देती.

मैं ये क्रिया बार बार दोहराने लगी। मैं जितना कर रही थी प्रीति और अधिक गर्म और उत्तेजित हो रही थी।अब मैंने चूत की बड़ी भगोष्ठ को दो उंगलियों से फैला दिया और अपनी जुबान भिड़ा दी.

मैंने अपने होंठ उनकी तरफ कर दिए, तो दीदी मुझे होंठों पर किस करने लगीं. मैं क्या बताऊं … इतना मजा तो मुझे अब तक किसी कुंवारी लौंडिया ने भी नहीं दिया था. चलिए एक चुत की चुदाई से ही चूत और गांड की चुदाई कहानी का मजा शुरू करते हैं.

मैंने भी अपने लंड का सड़का मारा और अपना माल लंड से बाहर निकलने से पहले ही उसे अपनी मुट्ठी में जकड़ लिया क्योंकि इधर माल गिराने से गड़बड़ हो जाती. नीचे भाभी मेरा लंड चूस रही थीं और मैं यहां हेलीमा की चूत को ज़ोर ज़ोर से चूसने में लगा था. फिर तो मैंने आँटी के मम्मों को जगह जगह से चूस और काट कर लाल नीला बना दिया.

चौथे दिन इसी दौरान अचानक जब वह चिपकी बैठी थी, मुझे अहसास हुआ कि उसकी कठोर चूचियां मेरी पीठ पर धंसी हुई थीं और वो अपने मम्मे मेरे पीठ पर कुछ ज्यादा ही रगड़ रही है.

प्राची ने मेरे सीने पर अपना सर रखते हुए कहा- मैंने पहली बार किसी का वीर्य पिया है. एक मिनट बाद तो दीदी इतना अधिक झुक गईं कि उनकी चूचियों के निप्पल भी दिखने लगे. अब तो मुझे भी भूख लगी थी, तो मैंने भी प्राची के एक उरोज को मुँह में भर लिया और फ्रेश दूध पीने लगा.

पीछे पैंटी में बस एक पतली पट्टी थी जो उसके नितंबों की दरार में छुप गयी थी. मैं- अच्छा यामिना, तुम्हारी लड़की का नाम क्या है?यामिना- फ़लक!मैं- क्या वह तुम जैसी है या …यामिना- मुझ से भी ऊपर है. खड़े लंड को देखते ही उसके मुँह से निकल पड़ा- बापरे … इतना बड़ा, मनीष का तो इससे आधा भी नहीं है.

अगले दस मिनट तक मैं उसके गाल, निप्पल, चूचियों को चूसना और चूचियों को मसल मसल कर दबाने में लगा रहा.

मैं आपको प्राची के बारे में बता देता हूँ प्राची एक 27 साल की लड़की है, जिसकी दो साल पहले ही शादी हुई थी और उसको अब एक छह माह की छोटी बच्ची है. लेकिन फिर भी मेरे अंदर एक झिझक बनी हुई थी कि कहीं चाची मुझसे बेटे वाला प्यार तो नहीं निभा रही है?लेकिन मुझे यह बाद में समझ आया कि चाची भी एकदम खुलने में झिझक रही थी और वह नीचे लौड़े पर हाथ मार कर यह पक्का कर लेना चाहती थी कि मेरे ऊपर सेक्स का कोई असर है या मैं भी बेटा ही बना हुआ था.

सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वाला थोड़ी देर बाद मैंने एक इलेक्ट्रीशियन को बुलाया और भाभी के घर की लाइट ठीक करवाई. पूरे 9 इंच लंबा और 4 इंच मोटा लगभग मेरे हाथ की कलाई जैसा मोटा लंड था.

सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वाला थोड़ी देर में वो बोली- किसी दिन आप मेरे हस्बैंड से मिलोगे तो पता चलेगा. ऐसे में मैं रोज रात में बरामदे में पड़े तख्त पर सोता था और दोनों भाभी अपने अपने कमरे में सोती थीं.

अनु के साथ अब मैं इससे ज्यादा कुछ नहीं कर सकता था क्योंकि जोखिम था.

हिंदी सेक्सी फिल्म जानवर वाली

मैंने उसे लंड चूसने का इशारा किया, तो उसने इशारा समझ कर नजरअंदाज कर दिया. भाभी के मुँह से गालियां सुनने से मुझे मजा आ गया और मैं भी भाभी को गालियां देने लगा- साली बहन की लौड़ी रंडी … तेरी मां की चुत … छिनाल … इतनी देर से नाटक कर रही थी. फिर मैंने उनके पास जाकर उनकी आंखों पर पट्टी बांध दी और उनसे कहा- आपने मुझसे वादा किया था कि जो मैं करना चाहूंगी आप मुझे नहीं रोकोगे.

वो- बस्स आह आह जान … तुम्हारा लंड जब मेरी चुत में जाता है तो चुत की सारी खुजली भाग जाती है. मैंने आधा ही लंड अन्दर डाला बाकी का भाभी ने चुत उछाल कर पूरा लंड एक बार में ही अन्दर ले लिया. मैंने उससे कहा- अरे परेशान मत हो, कोचिंग और कॉलेज के लिए मैं तुम्हें पिक और ड्रॉप कर दिया दूंगा.

यामिना चौड़ी टांगें करती हुई बेड से उतर कर बाथरूम गई और आकर चुपचाप कपड़े पहनने लगी.

मैंने मयंक से पूछा- आज ऐसा क्या मिल गया भोसड़ी के … जो तुम इतना उछल रहे हो?मयंक ने जवाब दिया- अबे भैनचोद … सुन … मेरी कंपनी में एक लड़का काम करता है, उसने आज कमाल का आईडिया दिया है. ऑफिस Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मेरे ऑफिस में आयी नयी लड़की से कैसे मेरी दोस्ती हुई, मैंने उसकी मदद की काम में और फिर उसने मुझे अपनी चूत गांड की पार्टी दी. मैंने लिली की चूत पर पोजीशन ली और लिली की टाँगों को मोड़कर थोड़ा चौड़ा किया और चूत के छेद पर लण्ड का सुपारा रखा.

फिर निकाल कर बोले- तुम्हारी बहुत टाईट है … ज्यादा नहीं चुदी लगती है. शेखर बहुत खुले विचारों का था, वास्तविकता को हर हाल में अपना कर जीता था और ख़ुद भी सुंदरता का पुजारी था. इस सेक्स कहानी में मैं अपको पिंकी भाभी की जवानी के बारे में … और उनके साथ बिताई पहली रात के बारे में बताने जा रहा हूँ.

मामी लंड की मस्ती में बोल रही थीं- आह … कितना गहराई तक जा रहा है आह … फाड़ दे अपनी इस रांड की चूत को. बातें इतनी मज़ेदार हो चली थीं कि ना तो ललित रुक रहा था और ना ही शेखर!तभी बातों-बातों में पता चला कि धारा भी कभी-कभी दिल खोल कर चैटिंग पर अनजाने मर्दों से बातें करती थी और अपनी ख़्वाहिशों बयान कर देती थी.

मुझे रोहन नाम से एक आदमी ने फ़ोन किया और कहा कि मुझे उनकी बीवी को इंजेक्शन लगाना है. कभी मामी की चुचियों को चूस लेता, कभी उनकी गर्दन पर चुम्बन कर देता … कभी उनके होंठों को काटने लगता. अब आगे मेल जिगोलो सेक्स कहानी:संगीता ने मेहमाननवाजी करते हुए हमसे पूछा- तुम क्या लोगे पानी, खाना या फिर व्हिस्की?हम दोनों ने एक साथ संगीता से कहा- जी, हमें कुछ नहीं चाहिए.

चूंकि मैं खड़ा था … तो ऊपर से उसके बोबों पर मेरा ध्यान बार बार जा रहा था.

मैं बोला- कुछ नहीं … तुम तो सुंदर हो ही और तुम्हारा शरीर और भी ज्यादा सुंदर है. लेकिन एक दिन मैंने देखा कि मेरे पापा, मम्मी के ऊपर नंगे होकर चढ़े हुए हैं और वो अपने शरीर को ऊपर नीचे कर रहे थे. राजवीर(राजू)- पर अभी एक बार मेरा लंड चूस ले … बस बाकी तेरी जो मन में चुदवाना हो … वो रात को चुदवा लेना.

मैं हैरान था कि लड़की कह रही थी कि वह पहली बार चुद रही है और 8 इंची लौड़ा गप्प से अन्दर ले जाती है. देसी भाभी न्यूड कहानी में पढ़ें कि मैं भाभी के घर होली खेलने गया तो मैंने भाभी की चूची पकड़ कर दबा दी.

आह बड़ा नमकीन टेस्ट लग रहा था चूत का … मामी भी पूरी ताकत से अपने हाथ से मेरा सर अपनी चूत पर दबा रही थीं. उस दिन मैं नहीं गया क्योंकि मेरी नींद नहीं खुल सकी थी, मैं सोता रह गया था. एक संडे के दिन मेरे मॉम और डैड को कहीं किसी रिश्तेदार के यहां जाना था.

मद्रासी सेक्सी मद्रासी

जैसा कि मैंने बताया है कि मैं एक सरकारी ऑफिस में वरिष्ठ अधिकारी के पद पर हूँ और वो मुझसे मेरे ऑफिस में अपने किसी काम के चलते मुझसे मिला था.

उसके गले पर काटने के साथ साथ मैं उसकी गांड भी दबाने लगा और अब मैंने फिर से उसके होंठों को चूमते हुए उसकी गांड पर ज़ोर से एक चपत लगा दी।मेरी यह हरकत उसको भी बहुत अच्छी लगी और उसने अपनी ब्रा के हुक खोल दिए. दोस्तो, ये बात बिल्कुल तय है कि जो किस्मत में होता है, उसे कोई नहीं बदल सकता. मैंने उसके होंठों पर किस दिया, फिर उससे इशारे में पूछा- मेरा लंड चूसना चाहोगी?वो बोली- कैसा लगता है ये?मैं बोला- करके देखो.

प्राची भी अपने दुधारू मम्मों से पंप निकाल कर कमीज डालकर बाहर आ गयी. निखिल ने बड़ी तेजी से मेरे ब्लाउज के हुक खोल दिए और ब्लाउज निकाल दिया. हॉट सेक्सी पोर्न फोटोचिराग- दोस्तो, हम दो दो के ग्रुप में बंट जाते हैं और चार रूम में एडजस्ट कर लेते हैं.

थोड़ी देर बाद मैंने अपना लंड निकाला और श्वेता से कहा- अब सीधी लेट जाओ पलंग पर!उसने वैसा ही किया. मैंने घुटनों के बल बैठ कर निखिल के लंड को पकड़ कर धीरे से अपने मुँह में ले लिया.

बेड पर आकर अंकल मेरे बाजू में बैठ कर मेरी गर्दन पर चुम्मी करने लगे. चूत को तो मैंने हाथ से शांत कर लिया लेकिन मन प्यासा था।मेरे भीतर कविता के साथ संभोग करने की, लेस्बियन लव की तीव्र इच्छा उत्पन्न हो रही थी।बहुत मुश्किल से मुझे नींद आयी उस रात!फिर अगले दिन से बेचैनी शुरू हो गयी।अकेले में कविता से बात की मैंने और अपना सारा हाल उसे बता दिया।उससे संकोच करने की बात ही नहीं थी. बस खाने पीने का खर्च लगेगा, तो अब बोलो क्या कहते हो सब!फिर एक मिनट रुकने के बाद समीर ने सबकी तरफ बारी बारी से देखते हुए कहा- अब बोलो विराज?आकाश, जो कम ही बोलता था.

वह मुँह से बहुत ज्यादा आवाजें निकालने लगी थी- आह संतोष … और जोर से चोदो मुझे आज ठंडा कर दो … आह मजा आ रहा है. वो हंसकर बोली- हराम का माल नहीं है कि जहां चाहे घुसेड़ लो! पहले अपनी बीवी की गांड मारना और एक बार मेरे पति से अपनी गांड मरवाना, तब मेरी गांड की सोचना।रमण ने चुपचाप उसकी चूत की पिलाई शुरू की. मैंने प्राची की लगभग नंगी चूचियों को देख लिया था, जिससे मेरा लंड खड़ा हो गया था.

मानस का वो लम्बा काला लौड़ा अब सोनम की बच्चेदानी चूम रहा था और उसके टट्टे उसको गारी गांड चूम रहे थे.

कुछ देर चूमकर मैं थोड़ा नीचे हुआ और उसकी चूचियां चूसते हुये चूत को भी रगड़ने लगा तो ज़ारा मेरे सिर को अपनी चूचियों पर दबाने लगी. मैंने उनसे कहा- देवर जी, बड़ी देर से समझ पाए … मैं तो कबसे आपका प्यार पाने के लिए तरस रही थी.

जिस तरह से वो अपनी गांड को बार बार हिलाने लगी थी उससे ये प्रतीत हो रहा था कि उसकी योनि पूरी गीली हो चुकी है और उसकी योनि को अब मर्द के हाथ, लिंग या मुंह में से कोई न कोई के स्पर्श जरूर चाहिए है. गोरे चिकने लम्बे तगड़े और आपका लंड तो मेरी गांड में अभी चल ही रहा है … बड़े मजे दे रहा है. जब मैंने उसकी तरफ देखा तो वो तृप्त और संतुष्ट लग रही थी।मगर मैं अभी पूरी तरह से प्यासा था.

मैंने कमरे में झांक कर देखा तो सच में निखिल और नेहा का रोमांस अपने चरम पर था. उसकी चुत झड़ने के बाद मैं भी कुछ पल बाद झड़ने वाला हो गया था तो मैंने भी अपना वीर्य उसके मुँह में ही डाल दिया. हैलो फ्रेंड्स, मैं आपका दोस्त शुभ एक बार फिर से अपनी सेक्स कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.

सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वाला आपको जवान कुंवारी बुर की चुदाई की ये होटल रूम सेक्स स्टोरी पसंद आ रही हो तो मुझे अपने मैसेज भेजते रहें. उसके इस समर्पण से मैं भाव-विभोर हो गया और उसके चेहरे पर चुम्बनों की बारिश कर दी मैंने.

बिहारी सेक्स वीडियो डॉट कॉम

उसकी चुत झड़ने के बाद मैं भी कुछ पल बाद झड़ने वाला हो गया था तो मैंने भी अपना वीर्य उसके मुँह में ही डाल दिया. कमरा बंद नहीं था, केवल जाली का दरवाजा बन्द था और उसमें से बाहर का साफ दिखाई दे रहा था. अब मेरी हालत ऐसी थी कि 2 लड़के मेरे बूब्स दबा रहे थे और पीछे वाले 2 लड़के मेरी गांड सहला कम दबा ज्यादा रहे थे.

नेहा- पर कैसे किया जाए?स्नेहा- एक रास्ता मेरे दिमाग में है, आप कहो तो बताऊं?नेहा- क्या?स्नेहा- आप अपने कमरे की खिड़की थोड़ी सी खुली छोड़ देना … बस. मेरे दूसरे झटके से मेरा पूरा लंड उसकी चूत को फाड़ता हुआ अन्दर जा घुसा. नंगी सेक्सी बीपी सेक्सीएक बार चाची ने मुझसे अपनी पैन्ट की बेल्ट का बटन बंद करवाने की कोशिश की थी.

कुछ देर उसी अवस्था में चोदने पर श्वेता का शरीर अकड़ेने लगा और वो झड़ गयी.

फिर उन्होंने अपना तेल में डूबा हथियार मेरी गांड पर टिकाया और धक्का दे दिया. जब वो मेरी ओर मुड़ी तो मैं बेचैनी में अपने पैर को जोर जोर से हिला रहा था.

जितनी भी पोजिशन मैंने पोर्न देख कर सीखी थीं वो सब उस रात मैंने अपनी बहन को चोदकर आजमा लीं. मैंने दिव्या के होंठों को चूमने के बाद उसकी ठोड़ी और गले के निचले भाग को अपनी जीभ से सहलाना शुरू कर दिया. हम तीनों अपने-अपने पैग हाथों में लेकर सिप सिप कर पीने लगे और करने लगे.

मैं भी संगीता की गर्म आवाज सुनकर और ज्यादा उत्तेजित हो गया और लंड को बाहर निकाल तेजी से फिर एक जोर का शॉट लगा दिया.

मुझे लग रहा था कि उस कागज में सेक्स कब करना है वक्त, दिन और जगह वगैरह के बारे में लिखा होगा. बॉस ने मुझे बोला है कि मुझे उनका थोड़ा ध्यान रखना है जिससे कि मेरी डील फाइनल हो जाए. हम सबको कैंटीन खाना खाने के लिए ले जाया गया। हम सबकी तब तक आपस में पहचान हो चुकी थी.

अक्षरा हीरोइन का सेक्सी वीडियोमैंने देखा कि पापा मम्मी के पीछे लेटे हैं और उनसे अपने पलंग पर चलने को कह रहे हैं. जब उसने लंड चुत में पेला, तो मुझे तो लगा कि कोई खिलौना मेरी चुत में अन्दर बाहर हो रहा है.

कौमार्य भंग

मुझसे अब रुका न गया और मैंने उठकर उसका ब्लाउज जल्दी से उधेड़ खींचा और उसकी चूचियों को भी नंगी कर लिया. चाची ने अपनी चुत में उंगली डाल कर उसे साफ की और मेरे लंड को भी प्यार से साफ कर दिया. उन्होंने मुझे तब देखा था, जब मैं स्कूल में पढ़ने वाला एक चिकना माशूक लौंडा था जो उनके सामने नंगा होकर कई लड़कों के साथ तालाब में नहाता था.

वो बोली- प्रकाश के आने का वक़्त हो गया। मुझे शॉर्ट्स भी चेंज करनी है।ये बोलकर अनीता नीचे चली गयी और रमण इस जुगाड़ में लग गया कि कैसे आज की छुट्टी ली जाये।तभी अनीता का फोन रमण के पास आया और वो बोली- आज रात को प्रकाश की ड्रिंक पार्टी है घर पर, तो मैं प्रकाश को झूठ बोल दूंगी मुझे मूवी देखने जाना है. उसने मेरी चड्डी को नीचे करते हुए अलग कर दिया और लंड को फिर से हाथ में लेकर सहलाने लगी. पूरे लॉकडाउन में मैंने प्राची को कैसे कैसे चोदा, मुझे उसकी गांड मारने का मौका मिला या नहीं … प्राची के दूध का कैसे उपयोग किया और प्राची ने मेरे वीर्य का क्या किया.

फिर वे मेरे ऊपर आ गए और सीधे अपना लंड मेरी चूत पर रख कर धीरे से एक धक्का लगा दिया. अब बताओ आगे क्या करना है?”पता तो हम दोनों को था कि क्या करना है … पर उनकी इस बात का मेरे पास अभी कोई जवाब नहीं था. [emailprotected]लड़की की कामवासना स्टोरी का अगला भाग:गेस्ट हाउस की मालकिन- 2.

उसने अपनी एक उंगली अपनी चूत में से निकलने वाले मेरे वीर्य में भिगोई और उसे अपने मुँह में डाल लिया. मैंने उसकी तरफ गुस्से से देखा क्योंकि मैं नहीं चाहती थी कि वह मुझे कुछ चालू माल समझे.

इस चुदाई से वो लड़की या भाभी अपने चोदू को एक रात के अच्छे पैसे दे देती हैं.

लंड को मुँह में आगे पीछे करते करते बीच में ही मैंने पूरा लंड उसके मुँह में डाल कर उसके सिर को मेरे लंड पर दबाये रखा. अक्षरा और नैतिक की सेक्सी वीडियोइस बार मैंने भाभी से गांड में लंड लेने को कहा मगर उन्होंने मना कर दिया. फुल सेक्सी पिक्चर पिक्चरये सुनकर मैं मुस्करा दिया और मेरी बीवी हल्की सी लंगड़ाती हुई अंदर चली गयी. मैं- क्या हुआ … ऐसे क्या देख रही हो?श्वेता- कुछ नहीं … इसे देखकर लग रहा है कि मैंने कोई बाथरूम में गिरने का ड्रामा करके कोई गलती नहीं की.

जया अजय के ऊपर गांड रख कर चढ़ गई और उसका लंड अपने गांड में लेकर बैठ गई.

इस बार वो मेरे और भी करीब सट कर बैठी थीं जिससे मेरी जांघ उनकी जांघ को छू रही थी. मैंने कुछ गलत कहा है क्या?मैंने कहा- सही गलत की बात बाद में देखी जाएगी … अभी तो आप मुझे साफ़ साफ़ बताओ कि आप मेरी इतनी तारीफ़ क्यों कर रहे हो. मैंने सोचा कि मैं आज घर जा रहा हूँ इसलिए मकान मालकिन ने मेरे लिए कुछ बनाकर दिया है इसलिए.

इसलिए मेरी सोसायटी की भाभियों और लड़कियों में मेरी चर्चा बनी रहती है. अपना लंड ममता जी की चुत से बाहर निकालकर मैंने पहले तो एक नजर खिड़की की ओर देखा, फिर ममता जी की बगल में ही लेट गया. ” शेखर ने रघु को जवाब दिया और उसे अपने कमरे से विदा करते हुए दरवाज़ा फिर से बंद कर लिया.

दिसावर की खबर आज की क्या है

दीदी चिल्ला पड़ीं- आआह मर गई … मम्मी रे … आह मेरी फाड़ दी साले इतना बड़ा लंड एकदम से पेल दिया हरामी उउउफ्फ मर गई. अब मैं भी अपनी गांड को उठा उठा कर उसका साथ दे रहा था।तभी उसने अपना लंड मेरी गांड से निकाला और मुझे घोड़ी बनने को कहा. दो मिनट बाद वो भाभी जी एक मेडिसिन बॉक्स लेकर आईं और उसमें से कोई क्रीम निकाल कर उन्होंने मेरे पूरे लंड पर लगा दी.

और फिर तुम लड़की होकर मेरी गांड कैसे मार सकती हो?तो मैंने बराबर में ड्रावर में रखा डिल्डो निकाला और अंकल को दिखाया.

इस समय नेहा पूरी तरह नंगी थी और नीचे बैठ कर निखिल के लंड को चूस रही थी.

मैंने जब मोना भाभी के ब्लाउज़ को खोला था, तो देखा था कि भाभी ने ब्रा भी पहनी हुई थी. अपनी कमर को नचा नचा कर रीना दीदी अपनी चुत के हर कोने में लंड की चोट लगवा रही थीं. मास्टर का सेक्सी वीडियोमैडम ने कहा- तुम दोनों देखने में अच्छे घर के लग रहे हो, एस्कॉर्ट बॉयज तो नहीं लग रहे हो.

इसके बाद के सपने में मैं देख रहा था कि एक बार चुदाई होने के बाद अब तो हर रोज मैं पिंकी भाभी की चुदाई अलग अलग तरीकों से करने लगा था. मानस अपना पूरा लंड उसके चुत के द्वार तक बाहर निकालता और फिर उसी तेजी से उसे अन्दर धकेल रहा था ताकि सोनम की चुत अपने आप खुल जाए और मानस का लंड बिना किसी अड़चन हुए अपना काम करता रहे. जिससे मोना भाभी की उत्तेजना और भी ज्यादा हो गई और वो जोर जोर से सिसकारियां निकालने लगीं.

उसी अवसर पर आधारित एक घटना को आज मैं गाँव की सेक्सी भाभी की चूत चुदाई कहानी के रूप में लिख कर सुनाने जा रहा हूँ. उन्होंने हमें हॉट ऑफिस सेक्स करते रंगे हाथ पकड़ लिया और हम दोनों ने उनसे सॉरी कहा और बोला कि आगे से कभी ऐसा नहीं होगा।मगर वो माने नहीं.

अब मैं आराम से उसकी चूत की चुदाई करने लगा और वो भी चुदने का मजा लेने लगी.

मैं जब उसके घर गया तो उसने अपने मम्मों से दो बोतल दूध निकाल कर मेरे पीने के लिए रख छोड़ा था. इस समय दीदी सामने वाशबेसिन से अपने शरीर को झुकाए हुए पीछे हाथ करके अपनी गांड में प्लग ले रही थीं. वह मुझको जंगलियों की तरह ऐसे चोद रहा था, जैसे आज तक उसे कोई गांड ही नहीं मिली हो.

घोड़े लड़की की सेक्सी वीडियो मैं उसे फोन पर ही ज्ञान बांटता रहता था और उसको अपनी ओर खींचने की कोशिश करता. मेरा हाथ डालने पर जूली कुछ नहीं बोली, उसने बस गर्म सांस छोड़ कर अपनी उत्तेजना दिखाई.

उसकी चूत से हल्का रस बाहर निकल आया था जिसकी खुशबू पैंटी में फैल चुकी थी. इस दौरान रिचर्ड बार बार मुझे देखता, इससे मैं समझ गया कि शायद मेरे बारे में बात हो रही है. जिसने मेरी पुरानी कहानी नहीं पढ़ी है वो ऊपर दिए लिंक पर क्लिक कर मेरी सारी कहानियां पढ़ सकते हैं।तो आज आप सब के लिए मैं Xxx बस सेक्स कहानी लायी हूँ.

पति-पत्नी को रात में कैसे सोना चाहिए

स्नेहा- और भोसड़े किसके किसके देखे हैं?नेहा- मॉम का भोसड़ा तो हमेशा देखती रहती थी. मनीष भी अब अधिकतम वक्त मेरे साथ अस्पताल में ही रहता है और इतना बड़ा लंड मेरी चूत ने पहली बार ही लिया है. स्नेहा- और भोसड़े किसके किसके देखे हैं?नेहा- मॉम का भोसड़ा तो हमेशा देखती रहती थी.

मैं- पर मैं कैसे?श्वेता- क्यों क्या हुआ? नहीं कर सकते क्या?मैं- वो बात नहीं है … अच्छा बताओ कहां दर्द हो रहा है?श्वेता उल्टा लेट गयी और बोली- लेफ़्ट साइड में दर्द हो रहा है. मैंने ही क्या हर इंसान ने जिसने भी वैशाली दीदी को देखा होगा, उन्हें दिमाग में रख कर एक न एक बार मुठ ज़रूर मारी होगी.

तीन तीन पैग लेते ही हम दोनों को सुरूर चढ़ने लगा और पुरानी बातें याद करके एक दूसरे की खिंचाई करने लगे.

मैं मिशैल के कामुकता भरे डांस के कारण लंड में उठ रही लहरों का विरोध नहीं कर पा रहा था और खुद को मुठ मारने से रोक नहीं सकता था. कुछ देर उसके बदन को सहलाने के बाद मैंने अपना हाथ उसकी पैंटी पर रखा और उसकी योनि को छुआ. मुझे जहां दीपक भाई, रीना और रंजू नाम की दोनों बहनों … साथ ही अनु दीदी की चौकड़ी के साथ रंगरेलियां मनाने का अवसर मिला था.

मनीष ने नेहा को उठाया और बिस्तर पर पटक कर एक ही झटके में आधा लंड उसकी रस बहाती चुत में पेल दिया. मेरा दिल जोर-जोर से धड़क रहा था क्योंकि ये पहली बार होने जा रहा था कि एक पति अपनी पत्नी को मुझसे चुदवा रहा है. अब हुई वो आपे से बाहर और तो कुछ कर नहीं सकती थी मेरे निपल्स को सहलाने लगी.

ये सब कैसे हुआ? मजा लें पढ़ कर!नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम हृकेश है (बदला हुआ नाम).

सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वाला: जब मैं रूम में गया तो चाचा बेड पर लेटे हुए थे और उन्हें नींद आ रही थी. उसके हाथ अब सोनम की कमर पर आ चुके थे और वो किसी जंगली सांड की तरह आंखें बंद करके सोनम को चोद रहा था.

लेकिन अमन कहां मानने वाला था, उसने मेरी बहन रीना को जोर से पकड़ लिया और उनकी बुर पर अपना लंड रखकर धक्का दे दिया. इसके बाद बिजनेस की मीटिंग शुरू हो गई और मीटिंग में डील को लेकर बातें हो रही थीं. चूंकि मैंने यहां पर बहुत सी कहानियां पढ़ी हैं तो हो सकता है कि शब्दों में कुछ समानता देखने को मिले लेकिन फिर भी मेरी कोशिश रहेगी कि मैं आपका पूरा मनोरंजन कर पाऊं.

उसको खुला छोड़कर अब मानस ने अपनी उंगलियां फिर से सोनम की फुद्दी में पेल दीं और उसको जोर जोर से रगड़ने लगा.

मैंने दीदी को अपने सामने इस अवस्था में पहली बार देखा था, तो उनकी चूचियों को देखकर मैं पागल होने लगा. रंजू काम वासना में मतवाली कसमसा कर बोलने लगी- आह … मेरी चूत में चींटियां रेंग रही हैं. ऐसे ही भाभी ने अपने दूसरे चुचे को मेरे मुँह में दे दिया और उसको भी दबा दबा कर पिलाया.