राजस्थानी सेक्स बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,पुरी के सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो भेजा जाए: राजस्थानी सेक्स बीएफ वीडियो, उसने बाथरूम की दीवार के सहारे मेरी पीठ को लगा कर मेरी टांग उठा दी और वहीं पर मेरी चुदाई शुरू कर दी.

सुष्मिता सेन सेक्सी वीडियो

कोई पांच मिनट तक ऐसे ही पड़े रहने के बाद अर्चना उठी और बाथरूम में चली गयी. रानी मुखर्जी के नंगे फोटोउसको पलंग पर लिटा कर मैंने पहला ही झटका मारा कि वो चिल्ला उठी- आह साले … धीरे कर ना … कमीन चुत फाड़ दी मादरचोद.

उनकी गर्मी से मुझसे भी रहा नहीं गया और मैं भी उनकी चुत में झड़ने लगा. सेक्सी वीडियो 18 साल लड़की की चुदाईभाई को तो यकीन ही नहीं हुआ और जब हुआ, तो उनकी और बुआजी की खुशियां देखते बन रही थीं.

हालांकि ऑफिस के बाद कई बार तुम अपनी सहेली के घर भी तो जाया करती हो.राजस्थानी सेक्स बीएफ वीडियो: मैंने छत से ही उन्हें जोर से आवाज लगा के विश किया और नीचे की ओर भागा।हमारे घर में सीढ़ियां बाहर से ही बनी हैं, मुझे सीढ़ियों से कूद कूद कर आते देख वो नीचे ही इन्तजार करने लगी और बच्चों को चोकलेट देने लगी.

जब वह चलती है तो बुड्ढों का लण्ड भी खड़ा हो जाता है।मेरे परिवार में हम 4 सदस्य है मम्मी, पापा मेरा छोटा भाई और मैं!और मेरे चाचा के परिवार में चाचा, चाची, मेरी चचेरी बहन पुण्या और एक चचेरा भाई है। मेरा लण्ड 7 इंच लम्बा और 2 इंच मोटा है.इसलिए मैंने बिना रुके दूसरे झटके में लगभग आधा लंड मेरी भाभी की चुत में डाल दिया.

सेक्सी वीडियो गांव वाले - राजस्थानी सेक्स बीएफ वीडियो

मुझे पूजा की बातों को सुनकर खुशी महसूस हो रही थी कि मेरी बीवी समझदार तो बहुत है.उसने लंड की ठोकर देना शुरू की, तो मैंने उसके ऊपर से हट कर उसकी तरफ प्यार से देखा और उसके लंड को अपने हाथों में ले लिया.

मैंने देखा कि कुंवर साहब अपना लंड हिला हिला कर मेरे नाम से मुठ मार रहे थे. राजस्थानी सेक्स बीएफ वीडियो अपनी राय मुझे जरूर बतायें। मेरी आईडी हैं[emailprotected]फेसबुक: https://www.

आह क्या अहसास था!मैंने उससे बोला- पर एक समस्या है … तुझे एक ओरिजिनल सेक्स सीन देना होगा.

राजस्थानी सेक्स बीएफ वीडियो?

अब घर में अनीता का ससुर रह गया था जो अपने कमरे में खर्रांटे ले रहा था. फिर मैंने अपनी टांगों को हिलाते हुए उसके लंड को अपनी चूत में एडजस्ट कर लिया और उसने मेरी चूत में पूरा लंड घुसा दिया. ’ करने लगी और कहने लगी- हनी प्लीज़ लिक माई पुसी … खा जाओ मेरी चूत को!ये सुन कर मैंने उसकी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रखी और उसकी चूत चाटने लगा.

मैं ज़ोर ज़ोर से चाची की गांड मार रहा था और नीचे से हिना आंटी डिल्डो को चाची की चूत में अन्दर तक डालने में लगी थीं. अब हिना आंटी के दोनों पैर मेरे हाथों में थे और उनको दीवार के बल टिकाया हुआ था. वो उचक उचक कर मज़े में चिल्ला रही थीं- आअहह दामाद जी … आआओ और अन्दर आओ अपनी सास के … अया ऐसा दामाद भगवान सबको दे … ऊऊहहूओ हमम्म उम्म्म्म … जमाई बाबू आ जाओ और ज़ोर से चोदो अपनी सास को!ये कहते हुए वो अपनी चुत को अपने हाथों से मसलने लगीं और एक उंगली अपनी चुत में पूरी अन्दर तक डाल दी.

जो मित्र सेक्स चैट, फोन सेक्स या अन्य जानकारी के संबंध रखना चाहते हैं, वे मुझसे[emailprotected]पर संपर्क कर सकते हैं. फिर बोला- कब तक डाले रहोगे?मैंने कहा- जब तक तुम चालाकी करोगे! चुपचाप ढीली करके लेटो तो जल्दी निबट जाऊंगा, वरना डाले रहूंगा. दोस्तो, मैं रवीश कुमार, आप सब लोगों ने मेरी पिछली कहानीमेरी क्लासमेट कॉलगर्ल के रूप में मिलीको बहुत पसंद किया। बहुत सारे मैसेज आए जिसमें बहुत लोगों ने कहानी की तारीफ की, लेकिन सब यही कहते हैं कि उनको सोनाली को चोदना है।लड़कियां और भाभियों ने अच्छा रिस्पांस दिया है, सबको कहानी बहुत अच्छी लगी और उन्होंने अपने मर्दों को खुश किया.

मैंने लपक कर उन्हें पकड़ा और उन्होंने भी संभलने के लिए मुझे पकड़ लिया. मेरी मज़बूरी एक तो ये थी कि मुझे किसी को ये नहीं बताना था कि वो मेरी बहन है.

दूसरे लड़के ने कहा- मैडम को दोनों चूची एक साथ पिलाने को मन कर रहा है.

कबीर ने मेरी चूत में लंड को लगभग पूरा फंसा कर अब मेरी चूत को चोदना शुरू कर दिया.

उसने एक सेक्सी नाइटी पहनी हुईं थी, उसके साइज 38 के बूब्स आधे बाहर दिख रहे थे. मैं इनके वीर्य तो अपने अन्दर महसूस कर रही थी। मैं औरत बन चुकी थी, मेरी नथ भी उतर चुकी थी।अगली सुबह मैं अपने घर वापस आ गयी।इस तरह से मैंने अपनी सुहागरात की तमन्ना पूरी की।दोस्तो, यह मेरी रियल स्टोरी थी, मुझे ईमेल करके बताएं कि आपको मेरी कहानी कैसी लगी।[emailprotected]. इसलिए अपना लंड डालने से पहले मैंने अपने जीभ पर बहुत सारा थूक लगाया और उसकी फुद्दी को अन्दर तक गीला कर दिया.

हाँ … उस दिन के बाद से मैं तुम्हारे बारे में सोचना बंद ही नहीं कर पायी. मैं- चिकन लेकर जाएंगे और वहां पापा ने ग्रिल बनाई है … हम ग्रिल चिकन बना कर खाएंगे. लेक़िन वो नहीं माने।थोड़ी देर बाद मुझे भी इस दर्द में मजा आने लगा था।थोड़ी देर चूमने के बाद उन्होंने एक जेल की ट्यूब ली जोकि पास की मेज पर रखी थी और उसे मेरी गांड में भरने लगे.

ऐसा कहते हुए चाचा ने मुझे दोबारा किस किया और वो अब थोड़ा और ज्यादा उत्तेजित हो गये थे.

अब मैंने अमायरा को बिस्तर पर लिटाया और उसकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया. अपनी नाक चुत के अन्दर डाल कर उसकी सुगंध लेते हुए जीभ को मेरी चुत की दरारों पर फिराया. मैंने सविता को कहा कि वो बच्चों को लेकर घर चली जाये और मैं ऑफिस का काम खत्म करके वापस आ जाऊंगा.

”मैं समझ गयी कि कोई मम्मी का चोदू यार है।चौधरी साहब आप समझ तो सब गए हैं पर मेरे मुंह से सुनना चाहते हैं। ठीक है, आपका लण्ड कैसा है?”अरे उसी के लिए तो तुझे फोन किया है, फुल खड़ा है, मैं आ रहा हूँ, तेरी लेनी है. उसने फिर से लंड चूसना शुरू किया और मेरे आंड चाटते हुए उसने मेरी गांड पर ज़ुबान फेर दी. इस बीच में मैंने उनके स्तन और पेट पर कई बार चूस चूस कर निशान बना दिए.

अबकी बार राहुल ने पहले सीधे उसके मम्मे चूसे फिर उसकी चूत में उंगली कर दी.

हम दोनों ही मैच्योर तरीके से तो सेक्स नहीं कर पाए थे, लेकिन जैसे भी हुआ था, बहुत मजा आया था. उसने कहा- वो तुम मुझ पर छोड़ो … उसे क्या और कैसे कहना है, वो मैं सब संभाल लूँगी और तुम्हारा नाम भी नहीं आएगा.

राजस्थानी सेक्स बीएफ वीडियो बहू ने कुछ देर तक अपने ससुर के लंड के टोपे को चाटने के बाद उसे अपने मुँह से निकाल दिया और बहुत ज़ोर से हाँफने लगी।पिता जी ने सच कहा था. वो मुझे चूमते हुए बोलीं- आज हमारा पहला मिलन है … हमारी सुहागरात है.

राजस्थानी सेक्स बीएफ वीडियो इसके बाद मॉम को होश आया, पर चुदास बढ़ाने वाली दवा का असर और सेक्स की भूख अब तक बहुत बढ़ चुकी थी. मैं ये कहानी तब की बताने जा रहा हूं, जब मैं काम करने हरियाणा गया था.

मैंने कहा- मैं तो नहीं चाहती कि तुम कुछ भी कहो, मगर मैं इस बारे में कुछ नहीं बोलूँगी.

एक्सएक्सएक्सी बीएफ वीडियो

तभी वो मुझसे अलग होकर बोली- ले बस हो गई तेरे मन की … अब चुपचाप बैठ कर मुझे पीने दे. अमित ने मुझे मेल किया उसने मुझे बताया कि वह (अमित) 30 वर्षीय युवक है, नोयडा में जॉब करता है और पूजा 25 वर्षीय हाउसवाइफ है. तभी वहां एक काम करने वाले भैया बोले- तुम हमारे साथ रह लो, कंपनी का ही रूम है, भाड़ा भी नहीं देना पड़ता है.

मगर मेरी बीवी बीच में एक दो बार जरूर गई थी लेकिन मुझे यह अवसर नहीं मिल सका था. शबनम ने ध्यान दिया कि उसके शब्दों ने अंकित पर जादू कर दिया है, उसके दिमाग में अब शरारत सूझ रही थी, उसने मुस्कुराते हुए कहा- आह! तो तुम अपनी माँ के साथ भी ये करना चाहते हो. सागर- ठीक है … आप कोशिश कीजिए अपने आपको मेरी जगह पर लाने के लिए और फिर विचार कीजिए कि आप किस नतीजे पर पहुंचेंगी.

”हट … ” गौरी एक बार फिर शर्मा गई।इस बार उसके शर्माने में उलाहने के बजाय रूपगर्विता होने का भाव ज्यादा था।गौरी तुम्हारा बहुत-बहुत धन्यवाद इस समर्पण के लिए!”दीदी आपको कितना भोला समझती ही और आपने …?”मैंने क्या किया?”अच्छा जी मेला सब कुछ तो ले लिया ओल बोलते हो मैंने त्या किया?”गौरी क्या तुम नाराज़ हो?” मैंने उदास स्वर में पूछा.

न जाने कब से मुझे अपनी कहानी आपसे साझा करनी थी, पर कर ही नहीं पाया. वैसे आप बताइए … क्या आपका कोई ब्वॉयफ्रेंड है?सोनिया- हां, हैं मेरे पति. खाना खाते वक़्त वो बोली- आज मुझे तुम्हारी चुदाई ने एकदम संतुष्ट कर दिया है.

हो सकता है कि ये अंकित है जिसकी वजह से वो उसके साथ इस तरह से पेश आ रही है. रोनित ने उसकी खूबसूरती की तारीफ़ की और उसे खींच कर अपने बगल में बिठा लिया. तभी उसने पीछे पलट कर देखा, तो मेरा हाथ लोवर के अन्दर था और लोवर में मेरा लंड तना हुआ अलग ही दिख रहा था.

पहले सबके हाल-चाल लिया, फिर बोली- मैंने जो रात में भेजा था उसका मतलब आपको नहीं पता है?मैंने कहा- मुझे पता है उसका मतलब! मगर आप तो जानती हो कि आपके भाई मेरे पक्के मित्र हैं. और ‘हो हो’ कर हंसने लगे- तुम्हारे गाल भी मेरे जैसे नहीं!वे मेरे गालों पर भी इस बहाने हाथ फेरने लगे।मैंने कहा- मामा जी, आप थके हुए हैं, रात में ठीक से सो नहीं पाए.

जब उसका दर्द खत्म हो गया तो वो खुद को गालियां दे कर कहने लगी- चोद दो मुझे, फाड़ दो मेरी कमीनी चूत को, दो दिन तक लंड को बाहर मत निकालना. उसने मुझे फिर एक बार माथे पर किस किया और कहा- बाय भाभी।उसका यही तो नटखट अंदाज मुझे पसंद था बार-बार मुझे चूमते रहना मेरे लिए हमेशा खड़े रहना. उसने अपने आपको अलग किया और अंकित ने उसको ऐसे देखा जैसे उसकी दावत छिन गयी हो.

मैं बस आह्ह … उह्ह … चोदो मुझे … ओह्हह … जैसी आवाजें करते हुए अपनी गांड को चुदवा रही थी.

मैंने कहा- अच्छा अब समझा कि आप मेरी छोटी गाड़ी की वजह से नहीं बैठ रही हो. उस दिन वो मेरी साड़ी ब्लाउज़ की तारीफ करने लगे- उज्ज्वला आज तुम्हारी साड़ी बहुत अच्छी जंच रही हैमैं- थैंक्यू सर. भाभी के मम्मों की दूधिया घाटी के थोड़ा ऊपर किस करने लगा और चाटने लगा.

साथ ही अपना प्यार अपने मैसेज और कमेंट के जरिये हम तक पहुंचाना न भूलें. तरस आता भी क्यों नहीं … वो थी ही गजब की माल … उसका साइज़ तो पता नहीं … क्योंकि मुझे आंखों से साइज़ मापना नहीं आता, पर उसकी मोटी गांड और मोटी चुचियां दिखने में बड़ी जबरदस्त थीं.

मनोज ने दीपा को बताया कि उसका हॉस्टल में एक रूममेट था सुनील … वो अब दुबई में व्यवसाय करता है. उसको अगले दिन मेरे फ्लैट पर आना था तो मैंने पहले ही पास की दुकान से कंडोम, चॉकलेट और फल खरीदे और सुबह होने का इंतज़ार करने लगा।अगले दिन सुबह नौ बजे मैं उसको लेने के लिए निकल गया. अगर तुम भी मुझे चाहती हो तो मुझे किस करने से मत रोकना।बेशक मैं नशे में थी मगर बेहोश नहीं थी, मैं वैसे ही लेटी रही.

2021 बीएफ वीडियो

वो बोला- दिखाओ कौन से पैर में चोट आई है?मैंने पूछा- तुम्हें कैसे पता कि मेरे पैर में चोट आ गई है?उसने कहा- आज सुबह ही तेरे भाई का फ़ोन आया था.

मैंने उसके निप्पल को मुंह में भरा और एक बच्चे की भांति उनको चूसने लगा. आज यही कारण है कि मैं भी तुम्हें जानती नहीं थी और तुम्हारे साथ एक अजीब सा रिश्ता बना लिया. मेरी चूत और छाती एक साथ मर्द के हाथों का मजा ले रही थी। मैं अपनी टाँगें फैलाए अपने भतीजे के हाथों सेक्स का मजा ले रही थी.

एक दिन बिस्तर में मैंने कहा- भाभी, अर्चना को पटाने में हेल्प कर दो. वर्जिश से मेरी बॉडी काफी शेप में है और दौड़ने की आदत की वजह से ज्यादा मोटा भी नहीं लगता।आते हैं कहानी पर … तो मैं अपने घर की छत पर व्यायाम ख़त्म करके घूम ही रहा था कि मेरी नजर एक महिला पर पड़ी जो गेट से घर में प्रवेश कर ही रही थी. दिव्या भारती की सेक्सीवो तब भी नहीं मानी तो मैं अपना लंड उसके मुंह में घुसाने की कोशिश करने लगा.

” महेश ने अपनी बहू को देखते हुए कहा।पिता जी आप ये क्या कर रहे हो?”अरे बेटी कुछ नहीं … बस तुम्हारे साथ एक बार नहाने का सपना पूरा कर रहा हूँ. मैंने बिना देर किए पूछा- क्या दिखा तुझे उस बुड्डे में … या उसने तुझको ब्लैकमेल किया … बता!उसने बताया- मैं घर में रहते रहते बोर हो गई थी.

मैं अपने रूम में गयी, तो देखा, तो बेड पे एक बॉक्स रखा था, ऊपर ‘हैप्पी बर्थडे टू यू रसिका’ लिखा था. चूंकि हमें 1500-1500 रुपये की पेमेंट मिल गई थी और हमें घर जाने को बोल दिया गया था. धीरे धीरे उसने मेरी मदनमणि को अपने होठों में पकड़ा और उसे जीभ से छेड़ने लगा। मैंने अपने हाथों से उसके बालों को पकड़ा और उसके सर की मेरी चुत पर दबाने लगी.

उन्होंने भी झट से मेरे बॉक्सर की साइड से हाथ डाल कर मेरा बॉक्सर निकाल दिया. इस तरह मेरी ज़िंदगी में पहली बार एक साथ दो विदेशी गोरी लड़कियों के साथ सेक्स सम्बन्ध कायम हुए. आप मेरी कहानी पे कमेंट जरूर करना ताकि अन्तर्वासना पर मेरी रसीली कहानियों का सिलसिला यूं ही चलता रहे.

मैं उनकी साइड में उसकी बगलों को सूंघता हुआ, उनके कंधे पर सर रख कर लेट गया.

शेफाली बोली- यार आकाश, कल तेरी दीदी बहुत रोने वाली है, ये तो डर रही है. फिर बोली- यार, वैसे तुझे मिलकर करना क्या है क्योंकि सेक्स तो मैं तेरे साथ करने से रही.

मैडम मजे लेते हुई आवाज़ निकाल रही थीं- आह … और ज़ोर से संतोष … इस चुत का भोसड़ा बना दे. मेरी जवानी शुरू होने बस मेरी यही ख्वाहिश थी कि एक बार मैं अपनी बहन समीरा को खूब चोदूं … कितनी ही बार मैंने उसके नाम की मुठ मारी है. दोस्तो, मेरा नाम रवि साहू है और मैं छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से हूँ.

दोनों की शादी को 3 साल हो गये हैं, वैवाहिक जीवन भी सुंदर चल रहा है. तो निशा भाभी बोली- प्लीज इन्हें बेड तक छोड़ दीजिए … ये मुझसे नहीं सम्हलने वाले!अब मैं मुकेश को लेकर उसके बेडरूम तक छोड़ने गया. मेरी बहन मेरा सारा माल पी गई और उसने मेरे लंड को चाट चाट कर साफ कर दिया.

राजस्थानी सेक्स बीएफ वीडियो दूसरे ही पल मुझे मेरे स्तनों के ठीक ऊपर के भागों में मेरे सीने पर उसके हाथ महसूस हुए. अंकित ने जैसे ही शबनम के निप्पल को काटा, उसको लगा जैसे उसके शरीर में एक सनसनी सी दौड़ गयी हो.

बीएफ देसी भाभी

मुझे ऐसा लग भी रहा था कि मेरी पत्नी को भी रवि की उपस्थिति की कोई परवाह नहीं है।हमने खूब सेक्स किया। रात में कई बार सेक्स किया. फिर उसने एक हाथ से मेरी गांड में उंगली डाल दी और मेरी चूत में लंड पेल दिया. उस मकान मालिक से मेरा बहुत अच्छा सम्बन्ध हो गया था उनकी पत्नी और उनकी लड़कियों से मेरी पत्नी के भी बहुत अच्छे सम्बन्ध हो गए थे।उन्हीं की जान पहचान का एक लड़का हमारे कस्बे में ही प्राइवेट परीक्षा का इंटरमीडिएट का इम्तिहान देने आया.

मैं तो बस देखता ही रहा भाभी की पीले रंग की पैन्टी पूरी साफ दिखाई दे रही थी. मैंने उसके होंठों और गालों को चूम लिया। मैं धीरे-धीरे उसके बदन को सहलाने लगा। गौरी की आँखों में सुनहरे सपनों के साथ लाल डोरे से तैरने लगे थे। उसकी साँसें तेज़ होने लगी थी और दिल की धड़कन सुनाई देने लगी थी।गौरी प्लीज अब इन कपड़ों को उतार दो. भाई बहन का सेक्सी वीडियो भोजपुरीये मेरा फेवरेट आसन है, इस तरह से चुदाई में भाभी को थोड़ी तकलीफ हुई और वो रोने लगीं.

चूंकि मैं अपने ब्वॉयफ्रेंड के लंड को भी चूसती थी इसलिए चाचा के लंड को चूसने में मुझे कोई परेशानी नहीं हो रही थी.

धीरे धीरे मुझे पता नहीं क्यों मोहन भैया से बात करने में अच्छा लगने लगा था. मैं उदास होकर बैंगलोर के लिए निकला, लेकिन वहां और मज़ेदार चीज़ मिलने लगी.

फिर मैंने कहा- क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?उसने बोला कि हमारी ऐसी किस्मत कहां है. उसने खुराफाती नजर से मेरे जिस्म को निहारा और कामुकता से होंठ काट लिए. मसाज वाली ने मम्मी से पूछा- आप चुदाई से मन नहीं भरता क्या?मम्मी ने बोला- मेरे पति मुझे संतुष्ट नहीं कर पाते हैं, वे बहुत पहले झड़ जाते हैं.

कुछ देर बाद वो लड़का वापस खड़ा हुआ और वो मॉम के चूतड़ों में थप्पड़ मारने लगा … जिससे मेरी मॉम के चूतड़ लाल गुलाबी हो गए.

जिस तरह से मैंने पल्लवी के साथ किया, ठीक उसी तरह पल्लवी मेरे साथ कर रही थी। वो मजे से मेरे दानों काट रही थी और जीभ से खेल रही थी। मेरे निप्पल कड़े हो चले थे और तो और झुरझुरी तो ऐसी हो रही थी कि सुपारे में एक मीठा सा मादक अहसास हो रहा था।मैं अपनी भावनाओं पर काबू रखना चाहता था लेकिन हो काबू हो नहीं पा रहा था, मैंने कस कर उसके चूचुक को दबाना शुरू कर दिया और निप्पल को जोर-जोर से मलने लगा. मेरे घर पर तो दरवाजे में एक छोटा सा सुराख था, जिसका किसी को पता नहीं था. मैंने कहा- इसमें क्या है?तो उसने सबको देखते हए और आँख मारते हुए मुझसे कहा कि जब देखेगी तभी तो पता चलेगा.

सेक्सी फिल्म पंजाबी फिल्ममैं भी पूजा की कमर पकड़कर उसकी चुत में दनादन अपना लंड घुसेड़ने लगा और बाहर खींचने लगा. वेबकैम ने आखिरकार उसकी तस्वीर दिखाना शुरू कर दिया … उसे देखकर मैं सन्न रह गया …वह बेहद खूबसूरत थी.

कविता भाभी का बीएफ

कम्मो लेट गयी तो मैंने दो तकिये उसकी कमर के नीचे लगा दिए जिससे उसकी चूत अच्छे से उठ गयी. दोस्तो, मुझे लिखियेगा कैसी लगी आपको यह मस्ती भरी पति बीवी की अदला बदली की कहानी?आप में से अनेक पाठकों ने मुझे अपने सेक्स अनुभव और फंतासी शेयर की हैं कि मैं उस पर कहानी लिखूं. उसने मुझे फिर एक बार माथे पर किस किया और कहा- बाय भाभी।उसका यही तो नटखट अंदाज मुझे पसंद था बार-बार मुझे चूमते रहना मेरे लिए हमेशा खड़े रहना.

शबनम ने अपनी टांगों को और फैला लिया और अंकित की पीठ पर उसको रख दिया. आह … मैं उनका लौड़ा अपनी गांड में महसूस कर रहा था और मजा ले रहा था. मैंने एना की दोनों टांगें अपने कंधों पर रख लीं और जोर जोर से झटके मारने लगा.

तो क्या फिर समीर से तुम्हारी बात हुई?” महेश ने दूसरा सवाल किया।नीलम ने रोते हुए अपने ससुर को सारी बात बता दी जो भी समीर और उसके बीच पहली रात को हुई थी।बेटी अपने आपको सम्भालो, तुम्हें अगर अपने पति को वापस पाना है तो उसे जलाना होगा. कुछ देर के चुम्बन के बाद मैंने आंटी की साड़ी खोल दी और उनके मम्मे ब्लाउज के ऊपर से ही मसलने लगा. क्योंकि मैं कुछ अपने में ही मस्त रहती थी, इसलिए मुझे सभी कहा करते थे कि यह अपने आपको कुछ ज्यादा खास ही समझती है.

अब आगे:वो तड़फ कर बोली- आअहमम्म … माय बेबी आह क्या मज़ा आ रहा है … तुमको वहां मेरी स्मेल आ रही होगी. मेरा पानी आने वाला है … कहाँ निकालूँ जल्दी बोलो?मम्मी- मुझे तुम्हारा वीर्य पीना है। मेरे मुंह में निकाल दो।फिर मम्मी घुटनों के बल बैठ गई और विक्की भैया के लंड को हाथों से सहलाने लगी।कुछ ही सेकेंड में विक्की भैया ने अपनी वीर्य की धार मम्मी के मुंह में निकाल दी जिसे मम्मी पूरा पी गई.

इस पर उसने पूछा- आप ड्रिंक करते हैं या नहीं?मैं बोला- हां मैं करता तो हूँ, लेकिन भाभीजी बुरा ना मान जाएं.

इसलिए मैंने भी रिश्ते के लिए हां कह दी। उन्होंने भी मुझे पसंद कर लिया था. ब्लू सेक्सी फिल्म दिखाओ वीडियोप्रीति ने बिलबिला कर मेरे होंठ छोड़ दिए और मेरी तरफ सवालिया निगाहों से देखा. सेक्सी पिक्चर एचडी सॉन्ग” महेश ने अपनी बहू की बात को सुनकर कहा।नहीं पिता जी मैं यह नहीं कर सकती. उस वक़्त मैं लगभग 21 साल का था और सुनीता दीदी, हाँ! उनका नाम सुनीता था, वो लगभग 35 साल की थी.

” कह के मम्मी ने उठाया।कुछ सुना और जी, ज़रूर” कह के रख दिया।मेरी तरफ देख के मुस्कुराई और बोली शाम को तुझे बुलाया है, चौधराईन मिलना चाहती है.

अभी लिखते हुए भी आँखें भर आयी है जिन्होंने सच्चा प्यार किया है वो इस वक़्त मेरे दिल की हालत समझ सकते होंगे खैर कोई बात नहीं. मेरी तो ये सब देखते हुए ही हालत खस्ता हो गई थी … पर क्या कर सकता था. जब कामवासना पूरी जल उठी तो राहुल ने पिंकी को बेड पर लिटाया और उसके ऊपर चढ़ गया.

कुछ देर उसी पोजीशन में रहने के बाद मैंने दीदी को कुतिया बना दिया और पीछे से अपना लंड दीदी की फुद्दी पर घुमाने लगा. गांड को चाटते चाटते मैंने भाभी की गांड में अपना पूरा मुँह घुसा दिया था और पीछे से चूतड़ों को चौड़ा करके चूत को चाटने लगा था. शालिनी जी बहुत ही ज्यादा गोरी थी, बदन भरा भरा था मगर मोटी नहीं कह सकते थे उसको, पेट भी समतल था.

बीएफ वाला सेक्सी

मैं चुप हो गया और सोचा की ड्रिंक्स करते हुए पूछूंगा, तभी बात खुल कर हो पाएगी. आज उनके इस सलवार को पहने हुए ही मैं नंगे लंड से उस सलवार को गीला कर रहा था. उसके बाद मैंने वन्दना से सरप्राइज के बारे पूछा, तो वो बोली- तुम थोड़ी देर के लिए रूम से बाहर जाओ … और जब मैं बुलाऊँ, तो आना.

मैं समझ गया कि भाभी डर रही थीं कि अर्चना को उनके और मेरे बारे में कुछ पता ना चल जाए.

क्यों भाईसाब (पापा)?पापा- हाँ, बड़ा तो हो गया है जॉब भी लग गयी है वैसे भी रिश्ता होते होते 1-2 साल तो लग ही जाते हैं.

वो धीमे-धीमे सीत्कार भी कर रही थी- आह … उंह … अब बस भी कर … मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा. मुझे जैसे मोक्ष प्राप्ति हो गयी हो और जोर ज़ोर से साँसें भरने लगी।आकाश ने दुबारा अपना लंड डाला और आखिरी बार चोदना चालू कर दिया. सेक्सी हॉट सेक्सी फोटोबोलकर नहाने चली गई।मैं वहां चेयर में बैठा तो सुहानी भी ‘अभी आती हूं.

दर्द और आनन्द से उसके मुंह से एक लम्बी आह निकल गयी- उम्म्ह… अहह… हय… याह…एक लम्बी चीख शबनम के मुंह से निकली. मैंने अपनी झाँटों को अच्छे से साफ किया रेजर से और तैयार होकर निकल लिया होटल के लिए. फिर उसने पैरों को मेरी तरफ किया और उसका मुंह मेरी चूत की तरफ चला गया.

माँ बोलती जा रही थीं- आज क्या हो गया … ज़रा ज़ोर से ज़ोर से लगाओ ना धक्के … आह आज क्या हो गया है. रात को ही सबसे उपयुक्त समय हो सकता था लेकिन रात में अनीता का यानि कि हमारा नन्हा मुन्ना उसको हिलने नहीं देता था.

वह प्यार भरे सेक्स के मजे वाली कहानी आंखों के सामने सपने की तरह तैर जाती है।शादीशुदा लोगों को जरूर कहानी पसंद आई होगी मुझे यकीन है। यह मेरी जिंदगी का एक राज है जो आज मैंने कहानी के रूप में आप सबको शेयर किया है।सच में अपनी चुदाई किसी दूसरे को दिखाना बहुत ही बहुत ही मजेदार गेम है.

वो बोलीं- दीपक अब और न तड़पाओ … जल्दी से डाल दो अपना लंड मेरी प्यासी चुत में. मंजिल पर पहुँचने के बाद हम सभी अपने पहले से बुक किए हुए एक होटल में पहुँच गए और नहाने के बाद घूमने के लिए निकल पड़े. यहाँ तो सारा किस्सा ही उल्टा शुरू हो गया था, इसकी उम्मीद तो मैंने दूर दूर तक नहीं की थी, और मैं वैसे ही घूर घूर के मामी को देख रहा था.

b f सेक्सी फिर हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए और एक दूसरे की चटाई चुसाई करने लगे. मैंने कम्मो को समझा दिया कि अगर कोई पूछे तो बोल देना कि डांस करते टाइम पैर मुड़ गया था.

कुछ देर यही चलता रहा और फिर जब वो झड़ने वाले थे, तो दोनों ने लंड मेरे मुँह में ठूंस दिए और मेरे हाथ भी पकड़ लिए. मैं- अपना माल तेरे मुँह में छोड़ दूँ?परवीन- हां … तू प्लीज जल्दी लंड निकाल दे. इसलिए मैंने अपना मुंह खोला पर मेरे मुंह से कुछ बात ही नहीं निकल रही थी.

बीएफ नेपाली लड़की

उसने दूसरी सिगरेट सुलगा ली … नीचे उसकी चूत से राहुल का वीर्य टपक टपक कर टॉवल के नीचे से जमीन पर गिर रहा था … पिंकी इस सबसे बेखबर अपनी मस्ती में थी. रशीद अपने चूतड़ों की रफ़्तार बढ़ाने में लगा था और सलमा उसके पलंग पर अपने भाई से चुद रही थी. मेरे परिवार में मैं, मेरी 48 साल की मॉम और 51 साल के डैड के अलावा मेरी 19 साल की मदमस्त बहन रचना है.

पहले तुम ऊपर नीचे हो कर धक्के लगाओ। फिर मैं लगाऊंगा।” मैंने दोनों हाथ उसकी कमर पर सपोर्ट के लिहाज से जमाते हुए कहा।ओके जानेमन. वे मुझे किस कर रहे थे और उनका लंड मुझे नीचे अपनी चूत पर महसूस हो रहा था.

अगर तुम्हारी पढ़ाई पूरी हो चुकी हो, तो मैंने तुम्हारे लिए एक जॉब अपने यहां पर रिज़र्व की हुई है.

मुझे अब भी यक़ीन नहीं हो रहा है कि मैंने वाक़यी में तुम्हें ये मैसेज भेजा था. वे एक डेढ़ घंटे पहले ही अनिल की मार चुके थे अतः थके हुए थे, जल्दी ही हांफने लगे. उनकी चुदास देख कर मैंने अपने दोनों हाथों से उनकी चूत फैला दी और उसमें अपनी जीभ डाल दी.

अब रोज चुदाई का काम चलता था, आज भी जब कभी अजमेर जाता हूं, तो जरीना से जरूर मिलता हूँ. मैंने उसे बताया- मैं उसकी बगलें क्या … सभी औरतों की इसी स्मेल का दीवाना हूँ … और ये स्मेल ही मुझे उत्तेजित करती है. मैं शायद चाहता था उसे।गाँव गया तो प्लान बना मामाजी के घर घूमने का … तो मैं पापा की बाइक लेकर जा पहुंचा मेरे ननिहाल।जहाँ इंतज़ार कर रही थी एक कहानी अन्तर्वासना के एक पाठक को अन्तर्वासना लेखक बनाने का।जैसा कि होता है यहाँ मेरा जोरदार स्वागत हुआ… मामा-मामी और सब बड़ी खुशी से मिले.

उन्हें इस वक्त कोई होश ही नहीं था कि कमरे के अन्दर वेटर आ गया है और उससे अपनी ये सब हरकतें छुपाना हैं.

राजस्थानी सेक्स बीएफ वीडियो: इसी बीच मुझे वंदना का फ़ोन आया कि वो कल अपने भाई के घर देहरादून जा रही है. उस दिन हम लोग वहीं पर रुक गए। सुमोना और मैं साथ में बैठे हुए थे। वह मेरे साथ अच्छा समय बिता रही थी। रात हो चुकी थी और हम दोनों उसके घर की छत पर बैठे हुए थे और बातें कर रहे थे.

उनकी इन हरकतों का असर यह हुआ कि मेरे लंड ने वीर्य छोड़ दिया था और पैंट के ऊपर भी भाभीजी की चुत से निकले पानी का निशान पड़ चुका था. अभी लो पूजा रानी, और मुझे एक बार फिर से तुम्हारी चूत को चाट चाट उसका रस पीना है. मेरे हर धक्के के साथ उसकी चूत में जब लंड जा रहा था तो वो पीछे सरक जाती थी.

मैंने तो अपना वीर्य निकाल लिया था लेकिन उसके बारे में मैंने नहीं सोचा.

भाबी- इसस्स … अह ईश धीईईरेए … करो प्लीज़ …मैंने भाबी की ब्रा खोल दी और उनके मम्मों को आज़ाद कर दिया. कुछ 3-4 मिनट तक पेशाब की धार लगातार चल रही थी और फिर रुक रुक कर मेरे मुँह पर गिरने लगी. इस पर भाभीजी ने बताया- संजय का वीर्य काउंट कम है और इस वजह से मुझको बच्चा नहीं हो रहा है.