बीएफ वीडियो एचडी पोर्न

छवि स्रोत,गांव की सेक्सी वीडियो चलने वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

चाइनीस कामसूत्र: बीएफ वीडियो एचडी पोर्न, मुझे मेल करके जरूर बताएं कि मेरी xxx ग्रुप सेक्स पार्टी स्टोरी आपको कैसी लगी? मैं आप सभी के मेल का रिप्लाई जरूर दूंगी.

कुर्ता सेक्सी

उसने जैसे ही मुझे देखा तो उसका चेहरा मानो जैसे खिल सा गया हो और वो फौरन मेरे पास आया और बोला- यहां क्या कर रही हो?मैं बोली- मैं तो अपने कपड़े उतारने आयी थी. তেরি মা কি চুতमैंने उसकी गांड को पकड़ लिया और तेजी से उसकी चूत में लंड की पिलाई करने लगा.

जब मैं झड़ने वाला हुआ तो मैंने निगार आंटी को फर्श पर चित लिटा दिया और उनकी चुत में लंड पेल कर घपाघप चुदाई करने लगा. नेपाली सेक्सी चुड़ैवो दोनों मेरे रूम में चले गए जहाँ प्रीति कामवासना में मदहोश पड़ी थी.

दीदी मस्ती में आवाज निकालने लगीं और अपने हाथों को मेरे सिर पर फिराने लगीं.बीएफ वीडियो एचडी पोर्न: मगर आज भी उसको याद करता हूं तो मन एकदम से जैसे ताजगी से भर जाता है.

मेरी घुड़की सुनकर वो दोनों चुप गए और मेरे प्लान में साथ देने को तैयार हो गए.मुझे उम्मीद नहीं थी कि 52 साल की उम्र में भी आंटी के जिस्म में इतना जोश होगा.

सेक्सी दिवाली की - बीएफ वीडियो एचडी पोर्न

उन्होंने अपना आधा बदन मेरे ऊपर रखकर मेरी छाती पर सर रख दिया और मुझसे चिपक कर लेट गईं.मुझे यकीन नहीं हो रहा था कि एक अन्जान भाभी मुझे मिली और उसने मुझे नम्बर भी दे दिया है.

मेरा लंड बाहर आते ही उसने कसके अपने एक हाथ में पकड़ लिया और बोली- अरे रे रे इतना बड़ा है तुम्हारा साहब. बीएफ वीडियो एचडी पोर्न वो आपसे बात करने के लिए कह रही थी और कह रही थी आप उनके पास फोन कर लें.

जब आप लोग इस मुहल्ले में आये थे और आप पर मेरी नजर पड़ी थी, तभी मेरे दिल ने कहा था कि विजय, ये औरत भगवान ने तुम्हारे लिए ही बनाई है.

बीएफ वीडियो एचडी पोर्न?

नेल पॉलिश लगाते समय मैं बार-बार गीली तौलिया में उसके तने हुए मम्मों को देख रहा था. कुछ देर ऐसे रहने के बाद पूछने लगी- अब्बू आपका लंड दुबारा कब खड़ा होगा … आपको अपनी बेटी की गांड की चुदाई भी तो करनी है न!मैंने कहा- मैं तेरे सामने हूँ … तू जब चाहे तो मेरा लंड खड़ा कर सकती है. गुड़िया बुआ लंड चूसने में बहुत एक्सपर्ट मालूम पड़ रही थीं और बहुत अच्छी तरीके से लंड चूस रही थीं.

उसके बाद मैंने उसे गुड मॉर्निंग और गुड नाइट के मैसेज भेजने शुरू कर दिये. आह क्या मज़ा आने लगा था दोस्तो … मेरे दोस्त की सास लंड बहुत अच्छा चूसती थीं. जब मैं स्टूल पर ऊपर से सामान दे रहा था, तो उनके गहरे गले के ब्लाउज में साफ़ दिख रहे मम्मे मुझे मस्ती दे रहे थे.

वहां मेरे बच्चों ने मुझे बताया कि पापा आपके नहीं होने के बाद से एक दूसरी आंटी को घर में बुला रहे हैं. और अपना साढ़े आठ इंच का लंड बाहर निकाल कर उस पर मामी की ब्रा को रगड़ रहा था. आंटी ने मुझे अपनी बांहों में ले लिया और एक जोर का लिप किस करके गले से लगा लिया.

गोरी गोरी जाघें … और चूसने लायक रसील होंठ … बड़ी बड़ी आंखें … लम्बे और घने बाल. इस उम्र में ऐसा संयोग बहुत कम ही होता है कि ऐसी जवान लड़की की चूचियां इस तरह से देखने के लिए मिल जायें.

चूंकि दारू का नशा था और उस नशे में आदमी ज्यादा भावुक और रोमांटिक हो जाता है.

वो जैसे ही घूमी, उसका पीछे की तरफ से फिगर देख कर और उंगली करते हुए देख मुझसे रहा नहीं गया.

ये मुझे काफी बाद में पता लगा था कि उनके पति की उम्र उनसे काफी ज्यादा थी. वो मेरे लंड को तेल लगा कर दोनों हाथों से मेरे लंड को मसाज देने लगी. क्या धाकड़ जिस्म की मालिक थी वो!उसके चूचे एकदम टाइट थे और कमर ऐसी कि बनाने वाले ने अपना सारा हुनर उसे तराशने में लगा दिया हो.

मेरे चारों ओर के सारे लोग मेरे शरीर को अब बेतहाशा चूमने लगे। रोहन मेरी ब्रा से निकले हुए चूची के हिस्से को चूम रहा था. थोड़ी देर तक पड़े रहने के बाद मैं उठ कर निगार आंटी के बाजू में लेट गया. फिर मैंने कहा- माफ करना भाभी … पर कुछ तो कारण होगा?तो उन्होंने कहा कि सब होता है … पर पता नहीं क्यों मैं हमल से नहीं हो पाती.

मोहित अंकल- दीपक, तुम्हें हम माफ़ कर सकते हैं … लेकिन तुम्हें पूजा को खुश करना होगा.

उसके बाद कई दफा जब भी मेरी नजर उससे मिलती तो हम दोनों एक दूसरे को देख कर मुस्करा देते थे. उसने फिर एक जोरदार झटका देकर अपना पूरा लंड मेरे अंदर डाल दिया।मैं उसकी बांहों में बेबस पड़ी थी और चाह के भी कुछ नहीं कर पा रही थी।उसका बड़ा सा लंड मेरी चूत चीरता हुआ अंदर चला गया. मैंने उनको वहीं डाइनिंग टेबल पर ही चोदा। वो बहुत खुश हो गई और खुद से बोली- आज मामी की गांड चुदाई नहीं करनी क्या?उनकी बात पर मैं मुस्करा दिया और उनको गोद में उठा कर फिर से बेडरूम में ले गया.

जैसे ही मैंने भाभी की चुत पर जीभ को लगाया, उन्होंने मेरे बाल खींचना शुरू कर दिए. मैंने अन्तर्वासना पर पहले भी ऐसी अनेक कहानियां पढ़ी हुई थीं … इसलिए मुझे समझते हुए ज़रा भी देर नहीं लगी कि अन्दर क्या चल रहा होगा. आज की ये सेक्स कहानी मेरी और मेरे सामने रहने वाली नजमा आंटी (बदला हुआ नाम) के बीच हुई चुदाई की है.

इस उत्तेजना का पूरा आनंद लेने के लिए मैं चाह रहा था कि काश ये समय और ये रात ऐसी ही बनी रही.

इतना बोल कर उसने मेरे चूतड़ों पर किस किया और अपनी जीभ को मेरी गांड के छेद पर रख दी. उसने अंकिता को गोल गोल घुमा कर देखा और फिर उसको अपनी गोद में सोफे पर बैठा लिया.

बीएफ वीडियो एचडी पोर्न मैं उनकी तरफ देखता, तो वो नजरें चुरा लेतीं … और जब वो देखतीं, तो मैं नजरें घुमा लेता था. मैं दो तीन मिनट तक बुआ के दोनों स्तनों को बारी बारी से चूसता और मसलता रहा.

बीएफ वीडियो एचडी पोर्न वो बोली- किस बारे में मॉम?मैंने कहा- मैं तुझे कुछ दिखाना चाहती हूं. मैं अपने हाथ को थोड़ी नीचे को ले गया और उसकी चूत पर ऊपर से ही फेरने लगा.

दीदी इस समय बेशर्म होकर अपने पति के सामने अपने भाई के लंड को सहला रही थीं.

मारवाड़ी सेक्सी चुदाई दिखाइए

फिर मैंने उससे पूछा कि आपका कैसा चल रहा है?उन्होंने मुझे बताया कि मैंने अपने पति को छोड़ दिया है. मैं अन्दर गया, तो ममता आंटी बोलीं- मनीष, तुम अपना नम्बर मुझे दे दो. अब मुझे समझ में आ रहा था कि दीदी के चेहरे पर वे आनंद के भाव कैसे आ रहे थे.

मैंने अपने लंड को और ज्यादा बाहर निकला और उसे धीरे धीरे सहलाना शुरू कर दिया. कोमल ने भी कपड़े पहने और फिर मैं वहां से जाने लगा ताकि उसकी मां को मेरे बारे में शक न हो जाये. मुझे उसकी जांघों के बीच से एक सख्त सी चीज अपनी जांघों पर चुभती हुई महसूस हो रही थी.

जब सुबह मैं उठा, तब कोई बाथरूम में नहा रहा था इसलिए मैंने कन्फर्म करने के लिए जीजा जी का नाम लिया.

वो मेरी बीवी के बदन को ऐसे चूम रहे थे जैसे कि कोई कुत्ता मांस के टुकड़े को खाता है. जब मुझसे रहा न गया तो मैं सीधा बाथरूम में गया और मामी के नशीले जिस्म को याद करते हुए अपने लंड को हाथ में लेकर हिलाने लगा और मुठ मारने लगा. क्योंकि मैं भी दिल्ली में नहीं था और तुम बताओ कैसी हो?वह मुझसे अलग होकर बोली- बहुत जल्दी में हो क्या? बाहर से ही भागना है क्या? अन्दर आओ, इतने दिनों बाद मिले हो.

मैंने भी सोचा कि जब बॉस खुद ही अपनी बीवी के साथ मुझे रोमांस करने के लिए कह रहा है तो मुझे इस बात में क्या दिक्कत हो सकती है. मैंने कहा- क्या मैम?उसने कहा- ट्रुथ एंड डेयर!मैंने कहा- ठीक है मैम. मैंने अपनी सहेली से कहा- मैं बाहर लेट जाती हूं और ये यहां पर लेट जाएंगी.

थोड़ी देर तक मैं उसकी बुर को रगड़ता-मसलता रहा और उसकी चूचियों को दबाता रहा।मिनी अपना हाथ मेरी पैंट के ऊपर से मेरे लण्ड पर रखे थी। उसने अपने हाथ से मेरे लण्ड पर दो थपकियाँ लगाईं।मैं उसका इशारा समझ गया और अपनी चैन खोलकर लण्ड निकाला और मिनी के हाथ में दे दिया।लण्ड एकदम कड़क हो रहा था, मैंने मिनी से कहा- तुम्हारी यह बहुत प्यासी है. मैंने उसे ख़त्म किया और शौचालय चला गया, इस चड्डी का एक लाभ तो था ही कि बिना जांघिया उतारे बस लिंग को टेढ़ा बाहर करके निकाल लो और आराम से मूत्र त्याग कर लो.

जब मैं उसके ऊपर से हटा तो देखा कि जितनी जगह पर वो थी उतना बिस्तर पसीने से भीग गया था और उसकी गांड के नीचे चादर पर खून का एक गोल घेरा बन गया था. ललिता की चूत के लबों को फैला कर मैंने अपने लण्ड का सुपारा रखा तो ललिता ने अपनी टांगें फैला दीं. मैंने तुरंत उसकी चुटिया जड़ से पकड़ी और उसको खींच कर बेड से नीचे उतार लिया.

बड़ी मुश्किल से मैंने उनके बाल साफ किये जिसमें मुझे पूरे 15 मिनट लग गये.

खैर ये कहानी मैं आपको अगली बार सुनाऊंगा।मेरी ये सेक्स कहानी अच्छी लगी होगी. मैंने कहा- ठीक है आंटी … मैं सुबह आ कर सामान ले लूँगा और प्रीति को दे आऊंगा. अगर मां को प्रॉब्लम होती तो वो उस दिन के बाद से आपके साथ कभी नजर ही नहीं मिलाती.

मेरी चूचियों लाल हो गयी थीं और वर्मा उनको लगातार दबाते हुए पी रहा था. उसकी नज़र मेरे हब्शी लंड पर पड़ी, तो उसकी आंखें फटी की फटी रह गयी थीं.

फिर मैंने बाथरूम में ही दीदी को कुतिया बना कर चोदा और नहाकर मैं अपने कमरे में आ गया. फिर मैं पूरा नंगा होकर कंडोम पहनकर दीदी के ऊपर चढ़कर किस उन्हें करने लगा. अब मुझे उसकी शर्ट का बटन खोलना था ताकि मैं उसके दूधों को हाथ में ले सकूं.

एनिमल सेक्सी विडियो

मेरा चिकना लंड तैयार था उसकी गांड मारने के लिए … मैंने उसे घोड़ी बनाया, उसकी गांड पर लंड रखा.

आंटी हंस कर बोलीं- इसमें क्या शर्माना … तुम कोई लड़की हो … कर लो यहीं चेंज. मेरे पिता इस बात से चिंतित थे कि प्रतिभावान होते हुए भी मैं परीक्षा में सर्वश्रेष्ठता की दौड़ में भाग नहीं लेता था. मगर उसका फोन आया था कि काम बन गया है और उसे उधर पन्द्रह दिन रुकना पड़ेगा.

अगले दिन ऑफिस में मेरी मीटिंग का नंबर दोपहर के बाद ही था, तो मैंने ऑफिस फ़ोन किया कि शायद मुझे देर हो सकती है. मैं बड़बड़ाने लगा- आह्ह्ह चूत में क्या मजा आ रहा है … बड़ी टाइट चूत है मेरी बिटिया की. एक्स एक्स इंडियन सेक्सी मूवीकुछ देर यूं ही चोदने के बाद मैंने दीदी को घोड़ी बना दिया और दीदी की मस्त गांड पर चपत लगाकर पीछे से उनकी गांड में लंड घुसा कर जोरों से कमर पकड़कर धक्के मारने लगा.

मैं बुरी तरीके से हांफ रहा था और निशा की सांसें भी सामान्य नहीं हो पाई थी. क्या बताऊं दोस्तो … भाभी की गांड साड़ी के ऊपर से ही बहुत सॉफ्ट लग रही थी.

आंटी ने मुझे अपनी बांहों में ले लिया और एक जोर का लिप किस करके गले से लगा लिया. आराम से नहीं डाल सकता था? आह्ह … मर गयी … ऊईई … आह्ह … निकाल ले एक बार बाहर। मुझे मार डालेगा क्या? इतना बड़ा लंड कोई एक बार में डालता है क्या? कुत्ते!मुझ पर हवस का जानवर सवार हो गया था. फिर मैंने उनको नीचे पटक लिया और उनकी टांगों को उठा कर उनकी चूत में मुंह देकर चाटने लगा.

भाभी का रंग गोरा था और उनके मस्त फिगर का नाप यही कोई 32-28-34 का था. मगर मैं समझ गया कि वो कहना चाह रही थी कि अब मुझे और मत तड़पाओ और मेरी चूत में अपना मूसल पेलकर मेरी चुदाई करो. आगे से पहल करते हुए मैंने पूछा- तुम्हें मेरे साथ लेट कर मेरे लिए कुछ फील हो रहा है क्या?उसने मेरी बात का कोई जवाब नहीं दिया.

मुझे बहन की चूत का ख्याल कैसे आया और मैंने क्या किया?दोस्तो, मेरा नाम रंगीला है.

मैं तुम्हारे कमरे में जा रही हूं तुम जल्दी से मेरे कमरे से प्रोटेक्शन लाकर आ जाओ. जैसे ही मैंने बाम उनके माथे पर लगाया मेरे शरीर में एक अजीब सी हरकत हुई और मेरा मन करने लगा कि मैं आँटी के पास चिपक कर सो जाऊँ.

और फिर मेरी गाँड चाटने लगा।कुछ देर तक ऐसे ही मेरे पूरे बदन और बूब्ज़ को चूमता रहा. उसने अपना लौड़ा इतनी ताकत से अंदर घुसाते हुए धक्का दिया कि उसका लंड मेरी गांड से घुस कर मेरे हलक से निकल आयेगा. मैंने अपना मुँह उनकी चुत पर और हाथ उनके दूध से भरे मम्मों पर रख दिया.

साथ ही मैं मन में यह भी सोच रही थी कि मैं ऐसे हवस में बह कर ये क्या कर रही हूं! मगर चुदने की ऐसी लालसा थी कि मैं सब कुछ पीछे छोड़ती जा रही थी. मौसा का सफेद अंडरवियर जो जांघों तक को ढके था, उसमें उनका 9 इंची लौड़ा इतना भयानक रूप ले चुका था कि मेरे बदन से पसीना छूटने लगा था. मां को अब पता चल चुका था कि मैं भी जागा हुआ हूं क्योंकि नींद में ही इतना सब कुछ होना संभव नहीं था.

बीएफ वीडियो एचडी पोर्न मैंने उनको अपने नीचे लिटा कर दोस्त की सास की चूत में एकदम से अपना लंड डाल दिया. उनकी गहरी नाभि को चाटते हुए मैंने अपने एक हाथ की बीच की उंगली को सरकाते हुए बुआ की चूत में घुसा दिया.

रंडी की फिल्म सेक्सी

बोरियत दूर करने के लिए मैंने पड़ोस के गांव की एक लड़की कोमल (बदला हुआ नाम) से दोस्ती कर ली. अब तक मैं समझ चुकी थी कि मेरे लिए मौसी को चोदने का रास्ता बिल्कुल साफ़ है … बस एक पहल की देरी है. सामने जीजा जी हम दोनों भाई-बहन के चुदाई के खेल को रिकॉर्ड कर रहे थे.

टीचर दीदी की चुदाई कहानी का अगला भाग:ट्यूशन टीचर के घर स्टूडेंट की चुदाई-7. मैं अच्छी तरह जानती हूं कि जब मर्द और औरत के जिस्मों के बीच में इतना कम फासला हो तो इस तरह की भावनाएं आना स्वाभाविक है. हिंदी में सेक्सी फिल्म दिखानाएक बार जब वो झुकीं, तो मैंने सबकी निगाह बचाते हुए उनके कान में कह दिया- मैं अपने दोस्त की सास की चुदाई करने आया हूँ.

मुझे रघु की लुल्ली लेने की जरूरत थोड़ी पड़ती फिर?मैं बोला- गलती हो गयी मां.

मैंने पूछा- क्या?उन्होंने लंड मसलते हुए कहा- ये … जो मुझे चुभ रहा है. मेरे अब्बू कंपनी में एक कर्मचारी है जो अक्सर काम में काफी व्यस्त रहते हैं.

कहने लगी कि जो मजा सेक्स करने में है वो मजा दुनिया की किसी और चीज में नहीं है. चाहे उनके वक्ष हों या गांड, उनके बदन का हर अंग, हर हिस्सा बहुत ही कोमल और मदहोश कर देने वाला था. मैंने एक एक करके दोनों के लंड को बारी बारी से मुंह में लेना शुरू कर दिया.

गांड को चिकनी करने के बाद मैंने लंड को धीरे धीरे उनकी गांड में पेलना शुरू कर दिया.

मैं तो भाभी की बात सुनकर एकदम से खुश हो गया- थैंक्यू भाभी … वैसे आपके पति बहुत लकी हैं!रेशमा- आपको ऐसा क्यों लगता है?मैं- इतनी सुंदर किसी की बीवी हो, तो वो लकी तो होगा ही ना!रेशमा- आप मुझे मक्खन मत लगाओ … मैं इतनी भी लकी नहीं हूँ. उनकी मोटी गांड और बड़े बड़े चूचे देख कर कोई भी उनको चोदने के लिए पागल हो सकता है. वो तीनों मेरे बालों को पकड़ कर मेरे सिर को अपने लौड़ों की ओर धकेल रहे थे.

ब्लू सेक्सी पिक्चर बीपी वीडियोहम दोनों खाना खाकर उठे, तो मामी ने अपने बेड के बगल में मेरा बिस्तर लगा दिया और बोलीं- इधर सो जाओ. भाभी ने रूम में आते ही दरवाजे को अन्दर से लॉक कर दिया और मुझे अपनी तरफ खींचते हुए अपने नरम गुलाबी रक्तिम होंठों को मेरे होंठों से चिपका कर होंठों का रसपान करने लगीं.

सेक्सी सेक्सी वीडियो 2017

वो तीन नयी चूत मुझे कैसे मिली और मैंने उनकी चुदाई कैसे की, वो सब बातें मैं आपको अपनी आने वाली कहानियों में बताऊंगा. जैसे ही उसने अपने दोनों मोटे मोटे चूतड़ नीचे दबाये तो आनंद के मारे मेरी भी सिसकारी निकल गयी. रेखा का निचला होंठ अपने होंठों से पकड़ कर मैंने अपनी जीभ रेखा के मुंह में डाल दी, रेखा भी मेरे होंठों का रसपान करने लगी.

उस दिन आंटी जैसे ही अपने रूम में आईं, तो मैंने उनको छिप कर देखा, पर मैं बाहर नहीं गया. चूत में लंड लेने में कैसा दर्द होता है? कैसा मजा आता है? किसी लड़के के होंठों को चूसने में कैसा रस होता है? ये सब बातें मेरे दिमाग में पहली बार घूम रही थीं. उनको रंग लगाते समय मेरे हाथ उनके गालों की मुलायमियत का अहसास कर रहे थे.

जब बबलू ने भी ग्रेजुएशन पूरी कर ली तो उसकी नौकरी भी मैंने अपने परिचित के यहां लगने में उसकी मदद कर दी. मेरे पास कंडोम था लेकिन मैं उसे बिना कंडोम के चोदना चाह रहा था।करीब तीन बज रहे होंगे. अब चुदाई करते हुए 8-10 मिनट हो गये थे और मेरे पूरे बदन में पसीना आ गया था.

उसने अपनी चूत से मेरा लंड निकाल दिया और घूम कर मेरे लंड पर बैठ गई और ऊपर नीचे होने लगी. उन्हें धोना है बाकि सब को वापस तह कर करके अलमारी में रखना है!वो अलमारी के वस्त्रों को तह करने लगा और मैं चिह्नित करने लगा.

मैं अन्दर जाकर बाथरूम में देखने लगा और आंटी को इमेजिन करने लगा कि कैसे आंटी बैठी होंगी और कैसे उन्होंने चूत खोल कर यूरिन निकाली होगी.

मगर मैं भी बेशर्म बन कर उसके सामने ही अपना तना हुआ लंड लेकर खड़ा रहा. तृषा का सेक्सीमैंने उस नई भाभी की चुदाई कैसे की? असल में मकान मालिक ने मेरा परिचय उनसे करवाया दिया था. शादीशुदा औरत को पटानालेकिन ये तुम्हें सबक सिखाना चाहता था कि ब्लैकमेल किसे कहते हैं … और शायद तुम समझ भी गयी होगी. आह्ह और चोद मुझे।कुछ देर की इस गांड फाड़ चुदाई के बाद उसने मेरी गांड के छेद में ही अपना माल भर दिया.

फिर मैंने बोला- जरूर पिंकी मैं समझ सकता हूं, तुम्हारा पति तुम्हें छोड़ कर जा चुका है और तुम्हें भी मर्द की जरूरत होती होगी.

मैंने उससे पूछा कि तुम्हारी शादी को तो चार-पांच महीने हो चुके हैं … तब चूत से खून कैसे आ रहा है?तब उसने बताया- मैंने कहा था ना आपसे कि मैं आपको एक ऐसा गिफ्ट दूंगी, जो मैं कभी दुबारा नहीं दे सकती हूँ … यह वही गिफ्ट था. मैं एक हाउस वाइफ हूं। मैं पिछले काफी समय से अंतर्वासना पर हर तरह की सेक्स कहानियां और लेख पढ़ रही हूं।मुझे अंतर्वासना पर कहानी पढ़ना बहुत अच्छा लगता है। वहां पर मुझे लोगों के ख्यालों के बारे में पता लगता है। अपने यहां के लोगों की सोच के बारे में पता लगता है।खैर, आज मैं आप लोगों के सामने अपनी भी एक कहानी लेकर आई हूं. मेरी पिछली गांडू स्टोरीबड़े लड़के से मेरी गांड की चुदाई कहानीमें आपने पढ़ा था कि कैसे सेक्सी किताबों के लालच ने मेरी गांड मरवा दी थी चाहे आधी अधूरी ही सही.

पीछे से लंड लगाकर उसने धक्का मारा तो मेरी दर्द भरी आह्ह … निकल गयी. जब मेरी ओर से कोई विरोध नहीं हुआ तो उसने मेरी चूचियों को अपने हाथों में कस कर जकड़ लिया. मैं बोला- कौन?आंटी बोलीं- इतनी जल्दी भूल गए … मैं ममता बोल रही हूँ.

सेक्सी दिखाना सेक्सी सेक्सी

कुछ देर बाद रोशन लाल का पानी फिर से छूटा और उसने पूरा पानी अलीज़ा की गांड में ही छोड़ दिया. वो मदहोश करने वाली आवाजें निकाल रही थी।मैं और तेजी से उसके मम्में दबाने लगा. अभी कुछ देर पहले ही आशीष यहां खड़ा हुआ था और मुझे देख कर मुस्करा रहा था.

जाते ही निशा ने मुझे अपने ऊपर खींच लिया और बेड पर मेरे साथ लेटते हुए नीचे आ गयी.

वो बोला- ठीक है, कहां जा रही हो सिमरन मैडम?उसकी इस बात पर हम दोनों ठहाका मार कर हंस पड़े.

दीदी घोड़ी बन गयी और मैंने पीछे से अपना लंड दीदी की चूत में डाल दिया. जब मुझे मालूम चला तो मैंने भी जानबूझ कर अपनी जलवे दिखाने शुरू कर दिये. తేలుగు సేక్స్ వీడియోలుमैंने पूछा कि क्या बात है भाभी?मेरी सलहज कुछ देर बाद बोलीं कि यहां से किसी दूसरे होटल में चलो.

मेरे बाहर आते ही तीनों अन्दर घुस गए और अन्दर से दरवाजा बंद कर लिये. हम दोनों ने उस रात तीन बार चुदाई का मजा लिया और सुबह अपने अपने रास्ते चले गए. मैंने कहा- क्यों … आपके पति कहां हैं?वो बोलीं- मेरा डाइवोर्स हो चुका है.

कभी मेरे निप्पल्स को काटने लगता तो कभी मेरी चूत को सहलाते हुए चूचियों को चूसने लगता. मां पूजा को आवाज दे रही थी- पूजा! पूजा!मैंने बिना आंखें खोले हुए ही कहा- पूजा डार्लिंग, मां आवाज दे रही है.

करीब बीस मिनट की गांड चुदाई के बाद अब मैं अपनी चरम सीमा पर आ गया था.

कहानी के पिछले भागबॉस की बीवी की चुदाई का सपना-2में मैंने आपको बताया था कि इतने महीनों को इंतजार के बाद मैंने अपने बॉस की बीवी की चुदाई कैसे की. मैं जानता था कि उसको क्या लेकर आना है क्योंकि उसका सामान तो मैंने ही छुपाया हुआ था. वो अपने दोनों हाथ मेरी छाती पर रखते हुए बोली- अमन जी, मुझे भी मार्केट ले चलो.

लग्नाला सेक्सी व्हिडीओ मैंने उससे कहा- बिना कंडोम के लेना है क्या?उसे एकदम से याद आया और उसने तकिया के नीचे से कंडोम का पैकेट फाड़ा और अपने हाथों से मेरे लंड पर कंडोम पहना दिया. जीजा जी अपनी ही धुन में कहते जा रहे थे- आज से पहले तुम दोनों भाई-बहन मस्ती मजाक करते थे … और आज बेड पर मस्ती करोगे.

मगर जब कोई इन्सान सेक्स वीडियो देखता है तो अधिकतर लोग फैमिली सेक्स की कहानी, मां-बेटी की कहानियां सर्च करते हैं. आखिर में मैंने उसकी पैंटी उतारने की बजाय फाड़ ही दी और उसको पूरी नंगी कर दिया. उसके न तो चूचे ही आकर्षक नहीं थे और न ही पिछवाड़े में कोई दम थी, इसलिए मुझे उसमें ज्यादा इंट्रेस्ट नहीं थाक्योंकि मुझे भरी हुई लड़कियां, भाभियां या आंटियां ही पसंद आती हैं.

मराठी सेक्सी फिल्मे

उस रात मैंने इतनी चुम्मियां की थीं, जितनी आज तक कभी किसी को नहीं की होंगी. एक घंटे पहले से ही इसको खिला देना ताकि पार्टी में कोई व्यवधान न हो. फिर मैंने उन्हें दिखाते हुए अपना लोवर उतार दिया और अंडरवियर के ऊपर से ही अपना लौड़ा मसलने लगा.

ये मेरी ज़िंदगी का बेहद ही हसीन और ख़ुशगवार वाकिया हुआ था, जब एक लड़के से मेरी मुलाक़ात हुई थी. मैंने उनके घर जाकर देखा, तो निगार आंटी एक झीनी सी मैक्सी में मेरा वेट कर रही थीं.

फिर भाभी उधर से आगे को बढ़ गईं, मैं भी गिलास हाथ में लिए उनके पीछे जाने लगा.

तुम्हारे भैया का लंड भी इतना मजा नहीं दे पाता है जितना कि तुम दे रहे हो. उन्होंने मेरी उंगलियों से सिगरेट ले ली थी और एक पफ ले कर धुंआ मेरे लंड पर छोड़ दिया. पहले वो कह रही थी- छोड़ो मुझे!लेकिन कुछ देर बाद कह रही थी- और तेजी से चोदो मुझे!उसकी यह बात सुनकर मैं बेड पर गिरा.

नायरा अब तुम बहन-भाई अन्दर कमरे में जा सकते हो … क्योंकि मैं अभी यहीं पर बैठना चाहूँगा. फिर अचानक मंजू ने मुझे उल्टा कर दिया और पीछे से हाथ डाल कर मेरे लंड के नीचे लटक रहे बॉल्स को पकड़ कर ऊपर की तरफ पुल किया. आंटी साइन करने के लिए थोड़ी झुकीं, तो उनकी साड़ी का पल्लू नीचे गिर गया.

वो मेरे तंबू को घूरने लगी और फिर हंसते हुए बोली- तू तो अब बड़ा हो गया है.

बीएफ वीडियो एचडी पोर्न: फिर उसने मेरी चूत को काफी देर तक चूसा और मेरी टांगों को चौड़ी करके मेरी चूत में अपना लंड पेल दिया. फिर वो धीरे धीरे मेरे ब्लाउज के ऊपर से मेरे बूब्स को दबाने लगा जिससे मैं धीरे धीरे पागल होने लगी.

आंटी बोलीं- मस्त लंड है … लम्बा तो मेरे पति के जैसा है, पर तुम्हारा मोटा ज्यादा है. पांच मिनट तक दीदी मेरे लंड अच्छी तरह से चूसती रहीं, फिर वो खड़ी हो गईं और उन्होंने मेरे सामने अपना लोवर और पैंटी निकाल दी. अब मैं एक रंडी बन गई हूँ … मेरी चुदाई की बहुत सारी कहानियां हैं … जिसे मैं बारी बारी से सुनाऊंगी.

उनके शरीर को मैंने पूरी तरह से अपने नीचे कर लिया और उनके बदन के हर हिस्से को छूकर देखने लगा.

मन कर रहा था कि बस मौसी की चूत में लंड दे दूं और उनको पटक पटक कर चोद दूं. उन्होंने जिया के बदन पर बचा हुआ आखिरी कपड़ा भी हटा दिया और उसको पूरी नंगी कर दिया. तभी वो पूरी ताकत लगा कर लगभग मुझे घसीटते हुए स्विचबोर्ड के पास पहुंची और लाइट ऑफ कर दी।उसका गर्म जिस्म मेरी बाँहों में था.