गुजराती भाभी बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी देवर भौजाई की चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

राजस्थानी रंडी की सेक्सी: गुजराती भाभी बीएफ, मैं अपने हाथ से भाभी की चुत को मसल रहा था, जिससे उनकी चूत की पंखुड़ियां खुल बंद हो रही थीं.

त्यामुळे सेक्सी व्हिडिओ

मैं धीरे से चल कर उसके पास गयी तो देखा कि वो मुझे देख कर मंद मंद मुस्करा रहा था. सुहागरात वाली सेक्सी वीडियो डाउनलोडमेम को रोकते हुए मैंने कहा- मेम अगर आप मेरे लिये भी बना रही तो प्लीज नहीं बनाना.

किधर से सीखा?दीदी ने आंख मारते हुए कहा- सनी लियोनी को चूसते देखा था. ओपन सेक्सी फिल्म मराठीमैं प्रतिदिन जिम जाता हूं इसलिए मेरा शरीर गठीला है जो कि मेरे पेशे के लिए आवश्यक भी है.

मेरी जीभ उसके मुँह में चली गयी और उसने मेरी जीभ चूसी, तो फिर उसने अपनी जीभ मेरे मुँह में दे दी और मैंने उसकी जीभ चूसी.गुजराती भाभी बीएफ: सर ने पूछा- तुमने वो उस दिन वाली बात किसी को बताई तो नहीं ना?मैंने कहा- नहीं सर, मैं ऐसा कैसे कर सकता हूं.

तभी मैंने एकदम से उनको पलट दिया। अब मामी जी की भारीभरकम गांड मेरे सामने पड़ी थी और मेरा लन्ड मामी जी की गांड पर निशाना लगाए बैठा था।गजब नज़ारा था यारो, जो मामी थोड़ी दर पहले चूत देने के लिए तैयार नहीं हो रही थी, अब वो मेरे नीचे थी और मैं उस पर चढ़ा हुआ था.वो बोला- भाभी अपनी दूसरी टांग भी उठाकर मेरी कमर को जकड़ लो।जब मैंने अपनी दूसरी टांग उठायी तो ऐसा लगा कि कहीं मैं गिर ना जाऊँ.

सेक्सी कॉमेडी वाली - गुजराती भाभी बीएफ

सेक्सी सुनीता भाभी Xxx कहानी में पढ़ें कि वो हमारी दूकान की नियमित ग्राहक थी.और एकाएक मुझे एक दिन एहसास हुआ कि मैं तो इसकी एक रखैल बन कर रह गया हूँ.

अगली सुबह मैंने सोचा कि इस बारे में दिव्या से बात करूं लेकिन मेरी हिम्मत नहीं हुई उससे बात करने की. गुजराती भाभी बीएफ आज मैं आप लोगों को अपने साथ घटी एक घटना के बारे में बताना चाहता हूं.

खुल्लम खुल्ला ब्लू फिल्मों में काम करके मैं अपनी शादीशुदा जिन्दगी बर्बाद नहीं कर सकती.

गुजराती भाभी बीएफ?

मेरी और विवेक की चुदाई की डर्टी सेक्स गर्लफ्रेंड स्टोरी को आपनेसहेली के इंतजार चुद गई उसके यार सेमें पढ़ लिया होगा. इसी बीच मुझे पेशाब लगी तो मैं उसको अपने पैरों के पास बैठा कर उसके मुँह पर मूतने लगा. हुआ यूं कि मेरी कहानी पढ़ कर मुझे राजस्थान से एक 24 साल के जवान लड़के अजय का ईमेल आया.

मेरी ननद मुझे छेड़ते हुए बोली- भाभी, आज तो बहुत से लड़कों का आप पानी निकाल देंगी. अगर ऐसा हो गया, तो हम इन दोनों बहनों स्नेहा और रिया को गांड चुदाई का मजा भी दे सकते हैं. उसने मेरी बेटी को बेड के नीचे घुटने बल बिठाया और खुद भी टांगें खोल कर उससे अपना लंड चुसवाना शुरू कर दिया.

मैं अपने आपको भाग्यशाली महसूस कर रही थी। उन पलों में मेरी कामुकता और बेशर्मी की सीमा न थी। मैंने जेठजी की तरफ मुस्कुराते हुए देखा और महसूस हुआ कि वो भी बहुत खुश लग रहे थे। मुझे एहसास हुआ कि मैंने जेठजी को प्यार देने में कोई कसर नहीं छोड़ी. वो दोनों लड़के माफी मांगते हुए बोले- आंटी, हमें एक सप्ताह का टाइम दे दो. फिर रवीन्द्रनाथ ने कहा- जिस औरत की चूचियां बड़ी नहीं होती हैं, मुझे उसे पेलने में मजा नहीं आता है.

तो दोस्तो, इस कहानी पर आपकी क्या राय है मुझे मेरी ईमेल आईडी पर रिप्लाई देकर जरूर बतायें. जब मैं चाय नाश्ता लेकर गेस्ट रूम में पहुंची, तो मैंने देखा कि माया दीदी मेरे भाई का लौड़ा चूस रही थीं.

ये बात उन दिनों की है, जब मैं कॉलेज खत्म करके यूं ही फ्री घूमता था एवं छोटे-छोटे काम कर लिया करता था.

मैं अपने घर पर यह बोल कर निकल गया कि एक दोस्त की इंगेजमेंट में जा रहा हूं.

2 मिनट वो बेचैन सी होकर बैठी रही और फिर उठकर जाते हुए बोली- मैं बाद में आ जाऊंगी. मौसी ने मुझसे प्रॉमिस लिया कि जब भी हमें चूत में खुजली होगी, हम हमेशा ऐसे ही एक दूसरे साथ सेक्स करेंगे. मैंने अपनी आवाज़ को दबाया और किसी तरह से लंड के दर्द को जज्ब करने लगी.

उसने बताया कि वो पार्टी से निकलना चाहती है, कॉफ़ी बोर हो रही है, लेकिन घर नहीं जाना चाहती, तो क्या मेरे पास आ सकती है?मैंने थोड़ा सोचकर उसको अपना पता दे दिया. योगेश जी ने सब बाते क्लियर कर दी हैं न?मैंने सिर हिलाया और बाथरूम में घुस गई. मेरे पड़ोस में एक महिला नीमा रहती थी, वो मेरे अच्छे मिलने वालों में से थी.

आपको मेरी जिन्दगी की कहानी कैसी लगी? मुझे इसके बारे में अपने कमेंट्स में जरूर बताना.

मैं उपर से उठा और बगल में लेट गया।उसने जल्दी से अपनी पाजामी पहनी और बिना ब्रा डाले टॉप डाल लिया और बिना लाइट जलाए बाथरूम चली गई. मैंने साड़ी पहनी थी और जाह्नवी ने जीन्स टॉप।जाह्नवी को देख कर वो बोला- वाह … मां से डबल तो बेटी है. इस बीच मैंने सलमा की तरफ देखा, तो वो चुदाई को बड़े ध्यान से देख रही थी और अपनी बुर को सहला रही थी.

फिर उसने मेरी चूत में तीन उँगलियां अंदर डाल दीं और उसको उंगलियों से ही खोदने लगा. मगर बारिश अभी थमी नहीं थी इसलिए आंटी ने मुझे वहीं रुक जाने के लिए कहा. उसके चेहरे की चमक देख कर साफ पता चल रहा था कि वो मेरी खूबसूरती से कितना प्रभावित हुआ है.

कभी मेरे कंधों पर तो कभी मेरी छाती पर किस करके वो मुझे तड़पा रही थी.

अनीता भाभी ने खुद को ऐंठाते हुए कहा कि आह और जोर जोर से चोद दे भोसड़ी के … मजा आ रहा है … आह हरामी चोद मादरचोद. मेरी उदासी देख कर भाभी मेरे से गले लग गईं ओर हम वापिस शादी में आ गए.

गुजराती भाभी बीएफ मैंने उसे अपनी बांहों में लेकर एक बार चूमा और पलंग पर ले जाते हुए लिटा दिया. दो मिनट के बाद ही मेरी बहन का हाथ मेरी जांघ से होता हुआ आया और उसने मेरे लंड पर अपना हाथ रख दिया.

गुजराती भाभी बीएफ सोना बाथरूम जाने को बोली और मैं और अल्पना चाय बनाने किचन में चल दिए. मेरा नाम राज शुक्ला बदला हुआ नाम है, फिलहाल मैं एक सरकारी नौकरी में लग गया हूं.

आपका प्रेम सिंह[emailprotected]मेरी न्यू कामुकता कहानी फ्री का अगला भाग:शादी में मिली प्यासी भाभी से प्यार और चुदाई- 3.

बूढ़े आदमी की बीएफ

मैं- क्या हुआ साली रंडी … ज्यादा दर्द हो रहा है क्या?नेहा- जान मर जाऊंगी … लंड निकाल लीजिये. मैंने नीचे जाकर उससे पूछा- यहां कैसे?तो उसने बताया कि मैं पार्टी में जा रही थी. मेरी बेटी को जिगर ने घोड़ी बना दिया और उसकी गांड बजाना शुरू कर दिया.

फिर माया दीदी मेरे भाई का लंड चूसते हुए ऊपर आ गईं और वो राज के निप्पल चूसने लगीं. सुनील, मैं सच कह रही हूं, हरी भैया से चुद कर मुझे वो सुख मिला है जिसको मैं शब्दों में बता नहीं पा रही हूं. वो लोग लाईट्स और कैमरे को ऑन करने लगे और फिर कपड़े उतार कर बिस्तर पर आ गये.

तब नानी ने कहा- आज मेरी बेटी के साथ सो लो, लेकिन रोज रोज नहीं मिलेगी.

मैंने एक ऐप के जरिये दिल्ली के होटल में सेक्स के लिए रूम बुक किया था. उसके कमरे से बाहर आकर मैंने उसकी अम्मी के कमरे के दरवाजे को बाहर से खोल दिया. फिर भी मैं वीकेंड पर मौसी के यहां चली जाती हूँ और दो दिन में पूरे हफ्ते भर की कसर निकाल लेती हूँ.

उसके बाद उनमें से एक ने मुझे दीवार पर सटाया और मेरी जांघें फैला कर मेरी चूत में अपना लंड घुसा दिया. दस मिनट की धमाकेदार चुदायी के बाद मैंने उसको अपनी गोद में उठा लिया और दीवार के पास खड़ा कर दिया. फिर दीदी ने एक दिन मेरी आईडी पर मैसेज किया- हां मेरा भाई मुझे अपनी बहन के जैसे ही देखता है.

वो गया और अलमारी से एक शेविंग सैट निकाल लाया और उसने वो सैट मुझे दिखाया. आप दूसरे तरह से पेमेन्ट कर सकती हैं … इसलिए फिलहाल आप इस चेन को फ्री में ले जाइए.

उसकी स्थिति पर मुझे दया आती थी इसलिए मैं उसके साथ अच्छे से बात करता था. उस दिन मैंने सोच लिया था कि आज की रात ससुर जी का लंड अपनी चूत में किसी भी तरह ले ही लूंगी. थोड़ी देर बाद मैंने कहा कि क्या सरप्राइज है बताओ?सोनम बोली- उस दिन तुमने किस करने को बोला था, तो मैंने करने नहीं दिया था.

मेरे लण्ड से पिचकारी छूटने को हुई तो मैंने मौसी से पूछा- माल कहां गिराना है?वो बोली- अन्दर ही गिरा मेरे लाल.

वैसे भी मैं घर में भाभी से सही से बात नहीं कर सकता था … क्योंकि सब होते हैं. मुझे एहसास हुआ, जैसे मौसी पूरी नंगी हो गई थीं … पर उन्होंने खाली पैंटी पहनी हुई थी. उसकी मॉम बिना कुछ बोले बस मज़े ले रही थीं … वो किसी भी तरह का कोई विरोध भी नहीं कर रही थीं.

अंकल ने मेरे एक हाथ को पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया और बोले- तुम भी कुछ करो न!मैं भी बिना कुछ बोले उनके लंड को सहलाने लगी।कुछ ही देर में उनका लंड पूरी तरह से खड़ा हो गया। मैं जोर जोर से उसे हिलाने लगी. मन तो मेरा भी करने लगा था कि उन लड़कों के लंड को बारी बारी से चूसूं और दोनों के लौड़े अपने दोनों ही छेदों में डलवा लूं.

मैंने पूछा- क्यों? उसका देर तक नहीं चला था … इसलिए?वो बोली- तुम्हें जब सब मालूम है तो क्यों पूछ रहे हो. उसके जी स्पॉट को पहले चूसा, फिर एक हाथ से मम्मे दबाते हुए उसे गरम करता जा रहा था. उसने मेरी चड्डी को नीचे करके मेरा 6 इंच का लंड बाहर निकाल लिया और उसे हाथ में पकड़ कर देखने लगी.

बीएफ वीडियो में देखना है

मैंने मामी जी की कोई बात नहीं सुनी। मैं लगातार मामी जी की चूत में लंड को अंदर बाहर करने लगा। मामी जी की टांगें चौड़ी हो चुकी थी।अब मामी जी की टांगें हवा में लहरा रही थी। मैं लगातार मामी जी की चूत को चोद रहा था। मेरा लन्ड अब पूरी तरह से मामी जी की मखमली चूत को अंदर तक कुरेद रहा था.

मैंने फिर से एक और झटका दिया, जिससे रीता को बहुत दर्द हुआ और उसकी आंखों से आंसू आने लगे. मगर ससुर का मोटा लिंग जिसके दर्शन मैंने सुबह सुबह किये थे उसके खयाल मन से नहीं निकल रहे थे. मीना ने अपनी सासु मां से कहना शुरू किया- मम्मी जी, मुझे भी इनके लंड से चुदाई करवा दो.

सनी का लंड देखकर अल्पना मुझसे बोली- यार, सनी का तो मेरे विवेक से ज्यादा बड़ा है … काश मेरे वाले का लंड भी ऐसा होता, तो मज़ा आ जाता. मेरा लंड अब पूरे जोश में था और एकदम से टाइट होकर मेम की जांघों को छू रहा था. सेक्सी पिक्चर पंजाबी सेक्सी वीडियोसुनीता भाभी मेरे लंड पर मस्त उचक रही थी … साथ ही उसके चूचे हवा में थिरक रहे थे.

काम करने के कारण उनके अवैध संबंध खेत के मालिक रविन्द्रनाथ से हो गए थे. उनमें से 2 तो हम ही थे और बाकी मेरे क्लासमेट थे जिनमें तीन लड़कियां और एक लड़का था.

कहां मैं एक नॉर्मल गृहिणी थी और कहां अब मैं इस धंधे में फंसती ही जा रही हूं. मेरी फ्री हिंदी सेक्स कथा में पढ़ें कि कैसे एक रोंग नंबर से मुझे काल आयी तो मैंने कालबैक किया. मैंने कहा- हां, आज सर्दी भी ज्यादा है इसलिए मैं तुम्हारे साथ कहीं बाहर नहीं जाऊंगा.

मेरे भाई को बीच-बीच में व्हिस्की भी पिलाई जा रही थी और उसकी गांड भी चोदी जा रही थी. फिर सोना ने रफ़्तार और तेज़ कर दी अब उसने लंड पर धकापेल उचकना शुरू कर दिया था. हम लोगों ने ड्रिंक किया और ड्रिंक के दौरान ही उसने मेरी बीवी की तरफ अपना हाथ बढ़ाया, तो मेरी बीवी मुझे देखने लगी.

इसके बाद मैंने भाबी को बेड पर चित लिटा दिया और उनके ऊपर चढ़ कर उनके होंठों से होंठ लगाते हुए उन्हें किस करने लगा.

बस अंतर ये था कि ये मेरी एक्टिंग की नहीं बल्कि मेरे जिस्म के द्वारा की गयी कमाई थी. मां की छोटी छोटी चुचियों को बाहर निकाला, तो उनकी एकदम दूध जैसी सफेद चुचियों को देखकर उस लड़के ने अपना आपा खो दिया.

अब मैं मामी जी के होंठों को खाने लग गया।मामी जी अभी भी अपने आप को छुड़ाने की कोशिश करने में लगी हुई थी।मैं मामी जी के नखरे समझ चुका था कि मामी जी थोड़े तो नखरे दिखाएगी ही। आखिर कोई भी चूत हो, वो इतनी आसानी से चुदने के लिए तैयार नहीं होती है. मैंने एक बैग में तीन चार जोड़ी कपड़े रखे और दीदी के घर जाने को रेडी हो गई. अल्पना- पर तू ये सब कैसे करेगी?मैं- मैंने बोला न … तू हां बोल … और अपनी चूत चुदवाने के लिए तैयार हो जा.

मीना ने मुझसे कहा- हितेश, कल रात की चुदाई में मुझे इतना मजा आया था कि क्या बताऊं. उसके बाद से ये बेचारा लंड फिर अबकी बार 40 के पार के इंतजार में बैठा है. मैं उन्हें फ़ोन कर बोल देता हूँ मैंने सामान दे दिया है, अब मैं जा रहा हूँ.

गुजराती भाभी बीएफ आपको मेरी इस मदमस्त कर देने वाली दो चूत की रगड़ाई वाली लेस्बियन सेक्स स्टोरी को लेकर क्या कहना है … और आपको मेरी लेस्बियन सेक्स स्टोरी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल जरूर करें. वो कभी दर्द में कराह उठती तो कभी फिर से आनंद में आहह … चोद … आह्ह चोद … करने लगती.

शर्मा बीएफ

मैंने उसकी चूत पर लंड लगाया और ख़ड़े खड़े ही उसकी चूत में अंदर घुसा दिया. करीब दस मिनट बाद मैंने बोला- आपकी चूत में पानी बहुत है … लाओ चाट कर साफ़ कर दूं. वो मेरी नाभि में जीभ घुसा रहे थे और उनकी कोहनी मेरे स्तनों को दबा रही थी.

! अपने यार से एक पल मिलने के लिए महीनों की तैयारी और हर बात पर उसकी मर्जी सम्भालने की चिंता. एक तो मेरा लंड काफी मोटा था और जिया मेम की गांड का छेद काफी छोटा था. सेक्सी हिंदी भाई बहन कीरिया दी कमरे के अन्दर का नजारा देख कर जोर से बोली- ये क्या हो रहा है?जेठानी जी बोलीं- सब मिल के जल्दी इन दोनों को कुर्सी पर बांध दो.

अब दूसरी फैमिली मेरी बड़ी ननद की है, उनकी फैमिली का परिचय भी बता देती हूँ.

मैं उपर से उठा और बगल में लेट गया।उसने जल्दी से अपनी पाजामी पहनी और बिना ब्रा डाले टॉप डाल लिया और बिना लाइट जलाए बाथरूम चली गई. जब आप पूरी तरह बंधे हों तो उस समय लंड को चूसने का अलग ही मजा होता है.

मुझे उसके चूसने की कला से कहीं से ऐसा नहीं लगा कि वो पहली बार लंड चूस रही है. उस दिन के बाद से मैंने ठान लिया कि मैं अनु को पटाने की पूरी कोशिश करूंगा. उसे इस रूप में देख कर मैंने अपने कपड़े उतार दिए और सिर्फ चड्डी में आ गया.

कुछ ही देर की चुदाई के बाद वो मेरे ऊपर आ बैठी और मेरे लंड को अपने हाथ से पकड़ कर अपनी चूत में ले लिया और खुद ही चुदने लगी.

मैंने कहा- ठीक है … तुम वापस अपने कमरे में जाओ और अपने लैपटॉप को लेकर आ जाओ. पररर … सच्चे प्यार को भी मोहब्बत सच में सिर्फ आप से ही होगी!!मुझे उसका शायराना अंदाज बहुत पसंद आया. इतने में ही दादाजी के दोस्तों ने मेरे बदन पर हाथ फिराना शुरू कर दिया.

छोड़ा सेक्सीमैं रो दिया- प्लीज़ अंकल आंटी … अब मुझे छोड़ दीजिए … मुझे जाने दीजिए. अब मैं मामी जी के होंठों को खाने लग गया।मामी जी अभी भी अपने आप को छुड़ाने की कोशिश करने में लगी हुई थी।मैं मामी जी के नखरे समझ चुका था कि मामी जी थोड़े तो नखरे दिखाएगी ही। आखिर कोई भी चूत हो, वो इतनी आसानी से चुदने के लिए तैयार नहीं होती है.

हिंदी में बीएफ फिल्म बीएफ फिल्म

मैंने उसकी पीठ को सहलाते हुए अपने लंड पर उसके गरम पानी को महसूस करने लगा. कोई दस मिनट बाद सनी ने मेरी गांड में से अपना लंड खींचा और अल्पना को अपनी भुजाओं में उठा कर उसे कुतिया बना दिया. दिया का तो ब्व़ॉयफ्रेंड भी था और वो उसके साथ काफी मजे किया करती थी.

मैं मां को समझाने की कोशिश कर रहा था।मैंने मां से कहा- आप इतना मत सोचिए. दोस्तो, मैं आपको बताना चाहता हूँ कि मैं पैंट, जीन्स या बरमूडा के अंदर कुछ भी नहीं पहनता हूँ. फिर मेरी ननद ने पूछा- भाभी कैसी रही रात … नींद आई या नहीं?मैंने कहा- अच्छी रही.

वो जिस पति को मेरे सामने गालियां देती थी, उसकी तारीफ उसके मुँह से सुनता रहा. दोस्तो, यह घटना पंद्रह दिन पहले की है जब मैं पीयूष की शादी के बाद उसके घर गया था. एक दिन राज को अकेला पाकर मैंने पूछा- तुम खुश तो हो ना!तो वो बोला- हां दीदी, मैं यहां आ कर बहुत खुश हूँ.

मेरी टांगें फैलाकर सलवार के ऊपर से खुद को घिसना … उसका हमेशा का काम था. एक मिनट के बाद ही वो मेरे कंधों से मुझे नीचे की ओर धकेलने की कोशिश करने लगा.

आज मैं आपके सामने एक कहानी प्रस्तुत कर रहा हूं जो पूरी तरह से काल्पनिक सोच पर आधारित है.

सेक्सी सुनीता भाभी Xxx कहानी पर आप सभी अपनी राय मुझे मेल करके जरूर बताएं. सेक्सी सेक्सी पिक्चर दाखवाकहानी के पिछले भागबॉस की बीवी की चुदाई का सपना-1में मैंने आप लोगों को बताया था कि मेरे बॉस की बीवी पर मेरा दिल आ गया था. देसी सेक्सी हॉट फोटोएक बार फिर उसने मेरी चूचियों को हाथों में भर लिया और मुँह से उनके हल्के भूरे रंग के निप्पलों को चूसने लगा. अब मुझसे रुका न गया और मैंने नीचे बैठ कर उसकी जीन्स को नीचे खींच कर उसकी पैंटी को भी साथ में खींच लिया.

जैसा कि मां ने बताया था कि वो कभी भी अपनी गांड मरवाने से नहीं डरती थीं.

तीस सेकंड के बाद मैं बोली- पेमंट अभी चलेगा?उसने अपने भाई की तरफ देखा, तो मैंने कहा- कोई दिक्कत नहीं है … उसे भी बुला लो. वो बोली- ये क्या है?मैंने बोला- जानेमन … आज कुछ मत पूछो … आज सिर्फ तुम मजा लो. कमरे में पहुंच कर रूपा ने मुझे एक क्रीम दी जिससे चूत के बाल साफ करते हैं.

डैड पहले से ही काफी फिट थे और डैड को सेक्स की जरूरत मॉम नहीं दे सकती थीं. पेटीकोट सरसरा कर नीचे गिर गया। वो नाभि ने नीचे तक साक्षात् रति लग रही थी. उसके बाद मैंने उसके बूब्स पर हाथ रख दिये और उनके प्यार से दबाने लगा.

इंडियन बीएफ वीडियो इंडियन

फिर रात को चुदाई के दौरान बीवी ने मेरे बड़े भाई हरी से चुदने की बात कही. फिर रत्ना ने कुछ सोचा और दुबारा से कहा- वैसे जाओगे कहां … इधर किसको जानते होगे. मैंने उसे जल्दी जल्दी चोदने की सोची लेकिन मेरा लंड कभी भी किसी सिचुएशन को नहीं समझता और अपने उसी अंदाज से उतना ही समय लेता है जितना सबके साथ लेता है.

मैंने अँधेरे में अपने कपड़े देखे। हाथ मैं उसकी पैंटी लगी तो उससे मैंने अपना लन्ड साफ किया और फिर अँधेरे में ही कपड़े पहन लिए।वो वापस आई तो मैंने उसको पैंटी दे दी।मैंने उसके कान में कहा- मुझे बाथरूम जाना है.

मैंने निगार आंटी को वॉट्सएप किया और हैलो लिख कर … उनसे उनके बारे में पूछा.

जब शालिनी की चूत लेकर फ्री हुआ तो देखा कि पारुल का फोन था जिसका मैं सुबह से इंतज़ार कर रहा था. कुछ देर बाद ही सनी का लंड फुल स्पीड में अल्पना की चुत में आतंक मचाने लगा हुआ था. अशोक जी के सेक्सीभाभी- हां पेल न कमीने … साले बड़ा अन्दर तक पेल रहा है … आह मजा आ गया.

भाभी मुझसे बोलने लगीं- वो हील्स की वजह से मुझसे बड़ी दिखती है और तुम मेरा मजाक बनाने में लगे हो. वो मेरे स्तनों को दबाते हुए मेरी योनि का मैथुन करने लगा और 15 मिनट तक रगड़ने के बाद वो मेरी योनि में ही स्खलित हो गया. कभी दिन में और कभी रात में … जब भी हम अकेले होते तो एक दूसरे को चूसने लगते और फिर जोशीली चुदाई का मजा लेते.

चूत दिखाते हुए मैं पैंटी के ऊपर से ही उसे सहलाने लगी और उसे कामुक नजरों से ताड़ने लगी. मैंने अब आंटी की मैक्सी उतार कर उन्हें बेड पर गिरा दिया और उनके ऊपर चढ़ गया.

बाकी चार सीटों पर बीच में पापा ने अपने दोनों दोस्तों को सोने के लिए कहा.

मेरी इस बात से वो रिलेक्स हुईं और बोलीं- ओके … चलो अब!फिर मैंने अपनी बाइक निकाली और उनसे बैठने के लिए बोला. वीर्य छूटने के बाद भी मैं सहज सहज से मामी की चूत में लंड को अंदर बाहर करता रहा. मामी का सेक्सी जिस्म मेरे सामने था और मैं भी केवल अंडरवियर में था और मेरा लंड एक बार फिर से मामी की चूत में जाने के लिए बेकरार था.

सेक्सी फिल्में एक्स एक्स बीच-बीच में कभी मेरे गालों को चूमता तो कभी मेरी पलकों को तो कभी मेरे होंठों को चूम लेता. एक बार हम अपनी ननद के घर गए तो ननद की मदद से मैं ननदोई जी के लंड पर चढ़ कर कूदी.

मैं- आपके पति ने कभी आपको ब्लो जॉब के लिए नहीं बोला!ऐश्वर्या- कई बार बोला है, लेकिन मैं मना कर देती हूँ … क्योंकि मुझे वो सब पसंद नहीं है. फिर जब हम शांत हुए तो मैंने पूछा कि मिलने के लिए कब आना है?उसने मिलने से मना कर दिया. उसके हाथों ने जब मेरी चूत की फांकें पकड़ कर झांटों को साफ़ किया तो मेरी हालत काफी खराब हो गई थी.

इंडियन देहाती सेक्स बीएफ

भाभी मेरी तरफ मुड़ीं और मुझसे बोलीं- मेरी गांड अच्छी लगे तो खा लो ना इसको!मैंने भाभी की गांड को अच्छे से बर्फ से सेंका और गांड पर किस करते हुए उनको सॉरी बोला. मैंने उसको वही वाला वीडियो चलाने के लिए बोला, जो वो अपने कमरे में देख कर अपनी चुत में उंगली कर रही थी. मैं अपने भरे हुए चूचों को मसलते हुए विशाल के लंड की कल्पना करने लगी.

मैं अपने प्रशंसकों को बताना चाहूंगी कि मेरे बड़े बड़े बूब्स की सबसे बड़ी खासियत दोनों बूब्स पर 1-1 छोटे अंगूर के दाने है. अब आप मेरी चूत को अपने लंबे और मोटे लंड का पानी पिलाओ क्योंकि मेरी चूत आपके लंड की प्यासी है.

मैंने उसको जबरदस्ती मना लिया और अपने लंड को उसकी गांड में सैट करके धक्के लगाना शुरू कर दिया.

रोहन बोला- तुम भी पॉर्न फिल्म देखती हो क्या?मैंने कहा- एक दो बार देखी हैं मैंने. बहाने से अपने लंड को बाहर निकाल कर ऐसे लटका लेते थे जैसे वो खुद ही बाहर निकल आया हो. अब हम सही जगह पर आ गए हैं। यहां से कोशिश करने के बाद भी कोई भी हमें नहीं देख सकता है। मगर तू सब कुछ जल्दी जल्दी कर लेना। पिछली बार भी तूने बहुत टाइम लगाया था।मैंने कहा- ठीक है मामी जी। मैं जल्दी से आपकी चूत चोद कर अपना माल निकाल लूंगा.

तीन-चार मिनट तक उंगली करने के बाद मैंने फिर से उसकी चूत में जीभ दे दी और उसकी चूत को जीभ से ही चोदने लगा. इस बीच मैंने उसी प्यासी हुई चूत को सहलाना जारी रखा … और मैंने उसे समझा दिया कि अगर सनी का मैसेज आए, तो तू उससे बात कर लेना. गरम चूत की कहानी में पढ़ कर देखें कि मैंने आंटी की चूत चुदाई कैसे की.

जाह्नवी ने उसके लंड को ऊपर से सहलाते हुए कहा और गुर्जर ने उसकी चूचियों को दबा दिया.

गुजराती भाभी बीएफ: वो मुझे वीडियो कॉल पर नंगी होकर अपनी चुत दिखाती और मैं उसे अपने लंड से ठंडा करने की कोशिश करता रहता. उनके उठने के बाद मैं वैसे ही पड़ी रही और वो लोग फिर से बीयर पीने बैठ गये.

मेरे बीवी की चूत बहुत गीली हो गयी थी, तो मैं उसे चाट चाट कर साफ करने लगा. मैं कमरे में आई और अपने सारे कपड़े उतार कर शीशे के सामने नंगी खड़ी हो गई. उसने अपने पैर फैला दिए जिससे उसका लंड सीधा खड़ा होकर लहराने लगा। मैंने झट से उसका लंड अपने हाथ में लिया.

दोस्तों मैं सच कह रहा हूँ कि एक बार आप अपनी मम्मी या बहन की चुदाई के बारे में सोचते हुए मुठ मार कर देखो … फिर आपको पता चल जाएगा कि जो अपनी मम्मी को या बहन को चोदने में मज़ा है … वो किसी और को चोदने में नहीं है.

फिर पेन्टी के अन्दर छुपी हुयी मेरी चूत को चाटते हुए मेरी नाभि, पेट, चूचियों के बीच की घाटी को, फिर ठुड्डी को, कान को, गाल को, फिर मेरे दायें कान को, गाल को और फिर उसी क्रम में चाटता हुए दूसरे पैर के पंजे तक पहुंचा।मैं आनन्द के सागर में गोते लगा रही थी।फिर उसने मुझे हल्के से करवट दिलायी और फिर मेरे पीछे के हिस्से को चाटने लगा. अब उस बाराती ने रानी के घाघरे को ऊपर उठाया और उसकी चड्डी को उतार कर अलग कर दिया. कहां मैं एक नॉर्मल गृहिणी थी और कहां अब मैं इस धंधे में फंसती ही जा रही हूं.