नर्स की बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी पिक्चर फौजी

तस्वीर का शीर्षक ,

देहाती माल बीएफ: नर्स की बीएफ, दोनों एक दूसरे को मस्ती से किस करने लगे और दोनों के मुँह की लार का आदान-प्रदान और ज्यादा तेज गति से होने लगा.

स्कूलों की लड़कियों की सेक्सी वीडियो

अब अगली सेक्स कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने उनकी बेटी की चुदाई की और उससे शादी कर ली. हिंदी गर्ल सेक्सी पिक्चरसाथ में या तो उसकी चूत में उंगली कर देते या उसकी जांघों को सहला कर मसल देते या उसके मम्मों को मसल देते, उसकी गांड में उंगली कर देते.

अब मैंने उसकी पैंटी को भी उसके बदन से अलग कर दिया और उसकी टाइट चूत में एक उंगली दे दी. झारखंड का सेक्सी मूवीमकसद एक ही था, उसे चरम सुख देना।धीरज रोशनी की चमकती खुली गांड देख, उसमे अपना लंड सेट करने लगा।उधर दूसरी ओर धीरज भी मेरी चूत में लंड घुसाना चाह रहे थे.

उसकी ब्रा की हुक खुल चुकी थी परन्तु मम्मे अभी आज़ाद नहीं हुए थे क्योंकि मैंने उसके मम्मों को अपनी छाती से दबाया हुआ था.नर्स की बीएफ: हम लोग जिस डॉक्टर से बीमारी के समय इलाज कराते हैं, उसका खुद का हस्पताल है.

शायद उसने आज ही अपनी बुर के बाल की सफाई कर ली थी जिस कारण से जया की बुर एकदम चिकनी दिखाई दे रही थी.वो चला गया और जाते जाते फिर कह गया- तब तक हम भी तैयार होते हैं।इधर मैं अच्छे से साबुन लगा कर नहाया, नीचे काला अंडरवियर, उसके ऊपर नाईट लोअर पहना और ऊपर काली टी-शर्ट पहनी; परफ्यूम लगाया.

करिश्मा कपूर की सेक्सी ब्लू पिक्चर - नर्स की बीएफ

मैं आशा करता हूं कि इस करोना काल की सेक्स कहानी को आप सब पसंद करेंगे.उधर वो जरा सा ब्रेक लगाता और मैं कुछ ज्यादा ही जोर से अपने मम्मे भैया की पीठ से रगड़ देती थी.

फिर भी उनकी बातों का यकीन करने के लिए मैंने मकान मालिक को फोन करके बताया, तो वो बोले- हां वो मेरे आनन्द भईया और भाभी हैं और आज से वहीं रहेंगे. नर्स की बीएफ कहानी के पहले भागजवान भाई बहन की अन्तर्वासनामें आपने अब तक पढ़ा था कि नेहा ने अपने भाई विकास के साथ चुदने का मन बना लिया था.

वहां पहुंचने के बाद मैंने देखा कि किशोर शराब के नशे में चूर था क्योंकि उसे शराब पीने की आदत थी.

नर्स की बीएफ?

उस दिन उसने एक्सरसाइज वाला ड्रेस नहीं बल्कि वो एक नार्मल सा सलवार सूट पहनी हुई थी. इतने में मंजू रोहित की पीठ की तरफ गई और उसने रोहित को धक्का दे दिया जिससे उसका लंड मेरी चूत में घुस गया. मैंने मन में सोचा आज इसके गाल पर मजाक मजाक में चुम्मी लेकर ही रहूँगा.

उस रात काफी देर तक मैंने इसके बारे में सोचा कि जो मैं सोच रहा हूँ अगर वैसा हुआ तो क्या करना चाहिए. जल्द ही मैं दोनों पैरों पर बैठकर लंड पर उछलने लगी और लंड तेजी से अन्दर बाहर होने लगा. वो थोड़ा तेजी से खींच रही थी तो मुझे अन्दर से थोड़ा दर्द हो रहा था लेकिन मैं कुछ नहीं बोली.

फिर बाद में मैंने पूछा कि आपने अपनी मां से क्या कहा?एक बार तो भाभी ने नहीं बताया. आधे से ज्यादा मूत मेरे मुंह से बाहर निकलकर मेरे जिस्म को नहला रहा था. मैं उन्हें किस करने लगा, कभी उनके गाल पर चूमता तो कभी उनकी गर्दन पर, तो कभी होंठ पर, तो कभी उनकी आंख पर.

मैंने उससे पूछा- तुमको पीछे ज्यादा दर्द नहीं हुआ, ऐसा क्यों?वो बोली- मेरा ब्वॉयफ्रेंड गांड मारने का शौक़ीन है. मामी को अपनीचूत के अन्दर गर्म मालमहसूस हुआ तो वो भी लम्बी लम्बी सांसें लेती हुई वीर्य को चूत में जज्ब करने लगीं.

उसके चेहरे पर आई मुस्कान से साफ पता चल रहा था कि वो ये कह रही है कि मुझसे झूठ मत कहो.

इसके बाद वह एक कदम और आगे बढ़ती हुई बोलने लगीं- कभी-कभी मन करता है कि बाहर के किसी लड़के को पटा लूं, लेकिन फिर डर जाती हूं कि कहीं कोई इसका फायदा उठाकर मुझे बदनाम ना कर दे.

वाकयी में मुझे ऐसा लग रहा था कि कोई ने मेरे लंड को कसके पकड़ रखा है. कभी दो लोग एक साथ अरुणिमा की चूत गांड मार रहे थे तो कभी कोई अकेला उसकी चूत या गांड मार रहा होता. एक मिनट तक मेरी चूत पर लौड़ा रगड़ने के बाद उसने मेरी चूत में हल्का सा तेल लगाया और अपना लंड आधा अन्दर डाल दिया.

पन्नी के जरा से खुले होने से मेरी नजर उसके घर पर पड़ी, तो नजारा देख कर मजा आ गया. [emailprotected]हॉट पंजाबी गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:बारिश में रिसेप्शनिस्ट की चूत चुदाई का मजा- 2. बाथरूम में जाकर मैंने अपनी चूत को अच्छे से साफ किया और ब्रा पैंटी पहन कर टॉवल बांध कर बाहर आ गई.

मैंने भी उनसे अगली सुबह मिलने को बुला लिया और मैं उनके शहर अगले दिन 10 बजे तक पहुंच गया.

तुम अपने हिसाब से करो, मेरा क्या मैंने तो दर्द कभी सहन नहीं किया इसलिए चिल्ला रही हूँ. जब मैं उनको रोमा आंटी बुलाता था तो वह कभी-कभी मजाक में बोलती थीं- मैं तुम्हें आंटी किस एंगल से लगती हूं?मैं इस पर बोलता कि आप मेरी फ्रेंड की मम्मी है इसीलिए तो आपको आंटी ही बुलाना पड़ता है. कुछ देर में मेरा हाथ उसकी चड्डी के अन्दर चला गया और उसके गांड की दरार में एक उंगली से गांड के छेद को रगड़ने लगा.

सर्दी से गीले बालों की वजह से ठिठुरन हो रही थी तो मैंने दोनों के बाल ड्रायर से सुखाए. नीचे ज्योति की चूत भी कभी बंद होती और कभी खुलती … मतलब ज्योति अपनी चूत की सिहरन को बर्दाश्त करने की कोशिश कर रही थी।हॉट लेडी Xxx स्टोरी में आपको मजा मिल रहा होगा. तो दूसरा बोला- नहीं सर, मुझे लगता है ये हमारा लंड देखने बार बार आता है.

वो फिर से ‘ओह ओह आह मेरा निकला …’ चिल्लाने लगीं और मेरे लंड पर पूरी तरह से बैठ कर पूरे लंड को अन्दर डाल लिया.

एक हाथ से उसका टॉप ऊपर उठाया और कंधे तक उठा कर उसके स्तन फिर से नंगे कर दिए. फिर बुआ ने मुझे इशारा किया तो मैं उठ गया और भाभी के पीछे आकर तेल में लंड को डुबो लिया.

नर्स की बीएफ अकेली सविता को खुश करने के लिए अशोक पड़ोस में रहने वाले दो लड़कों को रात के खाने पर आमंत्रित करने को कहता है।पर अशोक को नहीं पता कि हमारी भाभी उन दो लड़कों को भोजन के अलावा और क्या क्या खिलाने वाली है. लेकिन मैं मन मार कर रह गया; बस अपने मोबाइल में वो सब सेव करता जा रहा था.

नर्स की बीएफ वो- अच्छा ऐसा क्या दे दिया मैंने?मैंने उसके दोनों दूध को ब्लाउज के ऊपर से ही हाथ में लिए और मसलते हुए बोला- अपनी ये जवानी दे दी. उन्होंने कहा- मैं मोटी हूं फिर भी?उसके जवाब में मैंने उनसे कहा- उससे क्या फर्क पड़ता है भाभी.

तभी मेरे घर से फोन आया तो मैंने उनसे झूठ बोल दिया कि मैं एक दोस्त के घर पर हूँ और बारिश रुकते ही आ जाऊंगा.

चुत चोदाई

कुछ देर में वो लड़का दीवार कूद कर अन्दर आ गया और दोनों कमरे में चले गए और दरवाजा लॉक कर लिया. फिर मैंने पूछा- तो मैथ्स क्यों लिया?वो बोली- मेरे साथ की सहेलियों ने मैथ्स सब्जेक्ट लिया था, इसलिए मैंने भी ले लिया. मैंने यह बात अन्तर्वासना में ही कहीं पढ़ी थी और आज संजना की गांड मारते समय मुझे वो बात याद आ गई.

X आंटी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी दुकान के ऊपर घर में मालिक के भाई भाभी रहने आये. इसलिए मैंने मन बना लिया और हैरी के बताए हुए रूम नम्बर में जाने का फैसला कर लिया. मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा हो गया था और उससे लिपटते ही उसकी चड्डी के ऊपर से ही चूत में सट गया.

कभी कभी चाची दोपहर में सोई रहती थीं, तो उनकी साड़ी ऐसी सिमट जाती थी कि एक खास एंगल से देखो तो 90% जांघ दिख जाए.

तभी उसने मेरे सुपारे को बाहर निकाला और किसी कुल्फी की तरह अपने मुँह में भर लिया. तू पहले मेरी चूत की आग शांत कर … वर्ना तेरी बहन चोद दूंगी!वो यह सुनकर हंसने लगी. मैंने कहा- तभी तो मजा आएगा मेरी जान कुछ देर दर्द सहन कर ले मेरी रंडी … फिर तुझे जन्नत का सुख मिलेगा.

इसी बीच उन्होंने मेरा हाथ पकड़ कर अपने एक चूचे पर रख दिया और बोलीं- आज से ये मोटी अब तुम्हारी है. इतने में नीग्रो लड़का उस हीरोइन को चित लेटाकर उसकी चूत को चाटने लगा. रोहित उठा और मेरे पैर छूने लगा और अपने हाथ को ऊपर की तरफ बढ़ाने लगा.

अभी 15 दिन पहले की बात है, मैं एक सवारी को छोड़ने बाईपास के नजदीक गया था. बातों बातों में इतना पता चल गया था कि उसका कोई बॉयफ्रेंड नहीं था और मैंने भी उसको जानबूझ कर बता दिया था कि मेरी भी कोई गर्लफ्रैंड नहीं है.

उसके बाद उसने अरुणिमा के चूतड़ों को अलग किया और उसकी गांड में अपना लंड घुसा दिया. लेकिन मुझ पर वासना का भूत सवार हो चुका था, मैं रुका ही नहीं और उसी पोजिशन में उनकी चूत का भोसड़ा बनाने लगा. अब आगे रोड सेक्स हिंदी कहानी:उस दिन के घटना के बाद सात दिन तक न किसी का कॉल आया ना कोई खुद आया.

उस वक्त मैंने बाहर आकर बुआ से भी कुछ नहीं कहा और कुछ देर रुक कर वहां से घर आ गया.

मैंने उसको 9 बजे से 10 बजे तक अच्छे से पढ़ाया ताकि उसके दिमाग में कुछ पढ़ाई की बात ही जाए. लगभग दस मिनट बाद भाभी खुद चल कर मेरे कमरे में आईं और मेरे बिस्तर पर बैठ गईं. मैं बेबस कसमसाती रही और उसका साथ पाने की बेचैनी से खुद को दो चार करती रही.

” वह पलट कर बोली।ठीक है, जैसा तुम चाहो।” मैंने सारी शर्तें मान ली।उसके बाद वह चली गयी।रात को खाना वाना खाकर मैं अपने कमरे में बैठा रूपा का इंतजार कर रहा था।करीब दो घंटे बाद रूपा आयी।चले?” उसके आते ही मैं उठ खड़ा हुआ।पट्टी बांधनी है. कुछ ही पल बाद कुछ ऐसा हुआ कि हम चारों लड़कियों की एक साथ एक तेज चीख निकली.

थोड़ी देर तो आयेशा मेरे ऊपर लेटकर ही मुझे चोद रही थी मगर जब वो थक गयी तो वो मेरे उपर से उठ गयी. यह बात रोमा आंटी को नहीं मालूम थी, पर हां उन्हें कुछ अंदेशा था कि हम दोनों के बीच बहुत कुछ गहरा है. इस बार खड़ा होने पर फहीमा ने मुझे सीधा लिटाया और मेरे लौड़े पर चढ़ कर अपनी चूत को फैला कर मेरे लौड़े पर सैट करके धक्के मारने लगी.

এক্স এক্স ভিডিও বিএফ

क्या जान ही ले लोगे, तब चोदोगे क्या?मैंने कहा- ले ले मना किसने किया है रानी.

उसने कहा- यार, मैंने इतना बड़ा लंड कभी नहीं देखा, कैसे किया इतना बड़ा?मैंने बताया- यह बस ऐसा ही है. मॉम मेरे करीब आकर बोलीं- रेक्स, तुझे याद है, मैंने उज्जैन के महाकाल मंदिर में एक मन्नत मांगी थी. आयेशा और अमित खड़े खड़े ही एक दूसरे को खा जाने की नियत से चूस रहे थे.

मैं उनको धकेल कर नीचे करने की कोशिश में लगा था और वो एक एक अंग किस करते हुए नीचे बढ़ती गयीं. थोड़ी देर बाद मैं पूरे लंड को अन्दर बाहर करने लगा और वो भी मेरा साथ देने लगी. बजरंग सेक्सी वीडियोतो रिया ने मुझसे कहा- यार, यह बात किसने बोली थी, मैंने ध्यान ही नहीं दिया था!मैंने कहा- उसका नाम मैं अभी नहीं बताऊंगी, इस बात का जवाब तो उसे तब मिलेगा, जब उसकी गांड मारी जाएगी.

मुझे लगा कि दस मिनट बाद वो लोग आ जाएंगे, पर इंतजार करते करते लगभग एक घंटा हो गया, लेकिन वो नहीं आए. मैंने फिर से अच्छे से लंड को सैट किया और इस बार थोड़ा जोर से धक्का मारा.

वो मेरे पास आई और मुझसे बोली- मुझे आपकी बात मंजूर है मगर मेरी भी कुछ शर्त है. ’उसके बाद मैंने एक किस वाला इमोजी भेजा, बदले में उसने भी वैसा ही इमोजी भेजा. उन्होंने तुरंत मेरा लंड मुँह में ले लिया और उसे चूस चूस कर खड़ा कर दिया.

तब अम्मी बोलीं- कैसा भोग बाबा?बाबा बोला- तेरे पति मरे 6 महीने हुए हैं न?अम्मी बोलीं- जी हां, लेकिन उससे क्या लेना देना?बाबा अम्मी की बात काटते हुए बोला- है लेना देना … तेरा यह घर भोग मांग रहा है. लेकिन वो तो चूतिया लौंडा था उसने मेरे नंगे बदन को देखते ही अपनी आंखों पर हाथ लगा लिए. मैंने हॉस्पिटल वालों से उस रिपोर्ट को गोपनीय रखने की बात कही तो डॉक्टर ने भी एक बच्चे होने की बात कही.

उसने अपने पैर मेरी कमर पर जकड़ लिए और एक हाथ से मेरा लंड अपनी चूत पर सैट कर दिया.

मैं नंगी थी तो मुझे शर्म आ रही थी इसलिए मैं बाथरूम में नहाने चली गई. हाउस मेड पोर्न कहानी में पढ़ें कि मेरी बीवी मायके गयी तो मैंने अपनी जवान कामवाली की खूब चुदाई की.

सविता का अपना व्यक्तिगत ट्रेनर है जो भाभी को फिट रखने के लिए सब कुछ करता है।लेकिन जब सविता की सहेली शोभा (मिस इंडिया वाला भाग) उसके साथ जिम में शामिल होती है तो सविता मुसीबत में पड़ जाती है।तब सविता ने अपनी सेक्सरसाइज जारी रखने के लिए क्या किया?इस बीसवें एपिसोड की वीडियो देखकर पता लगाएं कि सविता भाभी ने अपनी सहेली के सामने भी जिम ट्रेनर की मदद ली?. जब मैंने उसे कोई जवाब नहीं दिया तो वो मेरे रूम में मुझे देखने आने लगा. दोस्तो, मैं शालिनी आपको अपनी चूत गांड की चुदाई की कहानी में अगले भाग में मिलूंगी.

जैसे जैसे मैं धक्का दे रहा था, उनकी मादक आवाज मुझे और जोश दिला रही थी. मैंने झट से उनकी चूचियां छोड़ दीं और उनका पेटीकोट खोल कर साड़ी समेत दूर फेंक दिया. ये सुन कर भाभी बोलीं- अरे यार, अभी तो लड़का जवान हुआ था और तुरंत ही उसका लंड काट दिया.

नर्स की बीएफ तब मैंने कहा- अब रहने दो अंकुश, मैं अपने हाथ से तुम्हारे लंड को हिलाकर तुम्हारा वीर्य निकाल देती हूँ, मेरी चुदाई काफी हो गई है, अब मुझे चूत में जलन हो रही है. जब वो ड्रेस साफ़ करके वहां से वापस हो रही थीं, उसी वक़्त मैं उनके सामने चला गया; इस बात का ध्यान रखते हुए कि ये ऐसा लगे कि अनजाने में हुआ हो.

सेकस वीडियो

अब मैंने मॉम की चूत को चोदना शुरू कर दिया और उनको अपनी बांहों में भींच कर ताबड़तोड़ चोदने लगा. मैं अपने आपको लड़की महसूस कर रहा था, मुझे लग रहा था कि मैं सजनी ही हूँ. इस तरह से हम दोनों ने अलग अलग पोजीशन में काफी देर तक चुदाई का मजा लिया.

जब वो थोड़ा हिलीं, तो लंड निकालने को बोलने लगीं पर मैं नहीं माना और धीरे धीरे धक्के लगाने लगा. मैंने महसूस किया था कि चाची मुझसे खुलने की कोशिश करती हैं मगर मैं जरा सी भी कोशिश नहीं करता था क्योंकि मुझे डर लगता था. सेक्सी पिक्चर चोदा चोदी चोदीमदन जी ने मेरी माँग में सिंदूर भर दिया और बोले- संजय, आज से जब हम अकेले होंगे.

उसने पहले अपनी जीभ को नुकीला करके मेरे सुपाड़े के मुँह में घुसाना शुरू कर दिया, फिर लंड के सुपारे से लेकर लंड की जड़ तक जीभ से चाटने लगी.

मैंने हाथ ऊपर ले जाकर उसकी चड्डी को किनारे किया और उसकी चूत में उंगली करने लगा. मैंने कहा- अच्छा एक बार फिर से वही बोल कर देख?वो बोली- क्या बोल कर देखूँ?मैंने कहा- वो ही जो तूने अभी झेलने वाली बात को लेकर कहा था.

मेरी कहानी के पहले भागवासना की पुजारिन चुदक्कड़ लड़कीमें आपने पढ़ा कि मैं वीनस सेक्स को पसंद करने वाली लड़की हूँ, एक ऑफिस में काम करती हूँ. जब वो आई तो उसने अपनी सामने से खुलने वाली नाइटी के फीते को कुछ ढीला कर दिया था जिससे उसकी मादक चूचियों का आधे से ज्यादा भाग दिखने लगा था. फिर आखिरकार वो दिन भी आ ही गया, जब वो मेरे लंड से चुदने के लिए राजी हो चुकी थी.

पिंकी बस कामुक सिसकारियां लिए जा रही थी और अपने मम्मे भी दबा रही थी.

मैं इंडियन आर्मी का लवर हूँ और मैंने आर्मी के लिए बहुत तैयारी की है. बोल तेरी परेशानी क्या है?तब अम्मी फोन पर पूरी बताती हुई बोलीं- क्या हालत हो गई है बाबा आप मेरी परेशानी दूर करें. देखो अब यहां सब एक दूसरे से चुदाई करेंगे मगर पहले कौन करेगा इसका फैसला लकी ड्रा से करते हैं.

हिंदी सेक्सी मूवी फुल ओपनआखिर वो वक्त भी आ गया जब कॉल के साथ साथ रोहित के लंड से ज्योति की चूत चुदाई होने वाली थी. मैंने ध्यान दिया कि केवल लंड के ऊपर ही हल्दी नहीं लगी थी, बल्कि टोपे के अन्दर भी हल्दी लगाई गई थी.

सेक्सी वीडियो खपाखप

वो मेरी जांघें पकड़कर मेरी चूत चाटने लगा और जोर जोर से मेरे मुँह में धक्के देने लगा. जान साफ़ बताओ तुम्हें मुझसे क्या चाहिए?मैं सुलेमान के साथ सोफे पर बैठ गयी. मैंने उससे पूछा- आप मेरी बाइक पर जाएंगी तो आप भीग जाएंगी क्योंकि मेरे पास रेनकोट नहीं है.

इसलिए मैंने सोचा कि आज मैं भी अपनी सेक्स कहानी आप लोगो के साथ साझा करूं. मैंने कविता का बैग अलग रखा और उसे अपनी तरफ़ खींचते हुए अपनी जांघों पर लेटा लिया. मैंने कहा- फिर क्या उंगली से काम चलाती हो?वो- हां साहब … मैंने बहुत बार खीरा भी मेरी चूत में डाला था, मैंने बहुत कुछ किया है अपनी चूत को शांत करने के लिए … मगर बिना लंड के इसे चैन कहां मिलता साहब.

उसने धीरे धीरे मेरे लंड को हाथ से सहलाया और अपने मुँह में लेना शुरू कर दिया. इस कारण मैं अपनी गोटियां जल्द से अपने पाले में पहुंचाने की जल्दी करने लगा. छह पतियों के लाड़ प्यार और हर पति के साथ अलग अलग दिन यौन क्रीड़ा से मैं बहुत खुश थी.

मैंने फहीमा को वह गिफ्ट दिया और कहा- मेरी जान, ये सुहागरात पर तुम्हारी मुँह दिखाई का तोहफा, आज हमारी सुहागरात है. अपने हाथ नीचे ले जाकर पापा ने मम्मी के कंधे में फंसे ब्लाउज को पकड़कर थोड़ा नीचे सरका दिया.

हम दोनों भाई बहन हैं, लेकिन उससे पहले तो एक लड़का और लड़की ही है ना!नेहा बड़े अनुराग से अपने भाई को बोलता हुआ सुन रही थी.

उस वक्त मैं 25 बरस की हुआ करती थी और मेरे पहले और दूसरे आशिक को अपनी जिंदगी से निकाल चुकी थी।मेरे मैनेजर धीरज वैसे तो बहुत अच्छे थे, पर रह रह कर वो घुमा फिरा के यही पूछते कि मैं शादी कब करने वाली हूं. बड़े स्तन की सेक्सीमैं तो ये सोच कर खुश हो रहा था कि पिछली रात जिस लड़की को मैंने पहली बार देखा और उसके बारे में इतनी गंदी गंदी बातें सोच लिया था, वो मेरे ही घर पर रहने के लिए जा रही थी. कर्नाटक सेक्सी बीपी व्हिडिओकुछ समय में हमारे खेल में स्थिति यह थी किसी की भी गोटी अभी मुख्य केंद्र में नहीं गयी थी. मेरे दिमाग में हैरी के दस इंच लम्बे और काफी मोटे लंड का जादू चलने लगा.

उसके बाद हम दोनों फिर शुरू हो गए और एक दूसरे को चूमना शुरू कर दिया.

ये लम्बी कथा है, पहले तुम अपना काम कर लो, फिर तुम्हें फुर्सत में बताती हूँ. हॉट कजिन सेक्स कहानी मेरी उस चचेरी बहन की है जिसे मैं पहले भी चोद चुका था. खोल दे अपनी बुर … और ले ले अपने भाई का लंड अपनी बुर में … और यदि तेरी गांड फटती है तो मुझे बुला ले एक रात.

यह उसकी चूत गांड की भी वास्तविक चुदाई थी क्योंकि वह अपने मरहूम शौहर की साथ ऐसी चुदाई का कभी मजा नहीं ले पायी थी. लेकिन अनुष्का का बॉयफ्रेंड बोला- तुझे तो रोज ही चोदता हूँ बाबू, आज मेरे लंड को हबीबा की चूत का रस पिला लेने दे. मीनू वहीं पर बाजरे के खेत में घुटनों के बल बैठ गई और अंकल के पैंट की चैन खोलने लगी.

ತಮಿಳು ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೋಸ್

लंड की चमड़ी मीनू ने पीछे सरकाई तो अंकल के लंड का लाल सुपारा बाहर निकल आया. उसका लंड काफी मोटा था तो मैं दो इंच से ज्यादा अन्दर नहीं ले पा रही थी. अब मैं अपने प्लान पर काम करने लगा कि कैसे उसे अपने लौड़े के नीचे लाऊं.

दोनों मादक भाव से चीख रही थीं ‘आआह आआह … उईई …’मैंने आज पहली बार अपनी बहन को दो लंड एक साथ लेते देखा था.

नहाने के बाद फिर मैंने उसको गर्भ निरोधक गोली लाकर खिलाई, जिससे वो प्रग्नेंट न हो.

लल्ला का असली मजा तो तेरे साथ ही है, काश पिंकी भी साथ में होती तो और मजे आते. दीपक और धीरज दौड़ते हुए पानी के बोतल लेकर आए, धीरज ने मेरे बाल पकड़े और दीपक पानी से मेरा मुंह धोने लगे।मैं झुकी हुई थी तो दीपक मेरी झूलती हुई, चूचियां साफ देख पा रहे थे. औरत का चुदाई सेक्सी वीडियोजल्द ही हम दोनों झड़ गए और Xxx अंकल ने अपना पूरा माल मेरी गांड में डाल दिया.

इसके बाद कुछ ऐसा हुआ कि मैं अंकल के साथ उनके घर में ही दारू पार्टी करने लगा. वो आई तो मैंने उसे अपनी बांहों में कस लिया और हग किया; उसके होंठों को अपने होंठों से चूम लिया. मैंने जब पूछा कि बाकी लड़कियों को क्यूं नहीं खिलाई, तो उसने कहा- बाकी लड़कियों को क्यूं? इन दो दिन में तो चुदाई सिर्फ तुम दोनों की हुई है ना … तो तुम दोनों ही तो दवा खाओगी.

अब उसका नग्न स्तन उसके बालों के बीच से साफ देखा जा सकता था जिस पर निप्पल कड़क हो रखा था. कुछ देर में चुदास की गर्मी बढ़ी तो नेहा बोल पड़ी- विकास अब हमारे बीच कपड़ों का क्या काम है.

थ्रीसम सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मेरी बुआ ने अपनी सहेली को वादा किया था मेरा लंड दिलाने का.

प्रिया भी मेरे पूरे बदन पर तेल लगाने के बाद मेरे लंड पर मालिश करने लगी. मैं उठकर जाने लगी तो रोहित बोला- क्यों जा रही हो भाभी, भैया तो सो रहे हैं न. योजना के अनुसार जब चारों खाना खाने आए तो मैंने अपनी ब्रा, पैंटी बाथरूम के वाशबेसिन के पास टांग दी.

एचडी सेक्सी 12 साल मैंने हाथ पीछे ले जाकर उसकी ब्रा भी उतार दी और उसके बूब्स दबाने शुरू कर दिए. मैंने लंड को पकड़ा और उसे अपनी चूचियों पर चढ़ी ब्रा से रगड़ कर पौंछ लिया.

भाभी भी खूब तेज तेज सिसकारियां लिए जा रही थीं मानो उनका भी निकलने वाला ही हो. विक्रम का लौकी सा मोटा लंड अचानक से गांड में घुसने से मेरी चीख निकल गयी. फिर मैं नहा कर बाहर आया और हम लोग मंदिर मन्नत पूरी करके कमरे में वापस आने लगे.

एचडी ब्लू फिल्म एचडी ब्लू फिल्म

मेरी गंदी नजर हर उस लड़की या औरत पर पड़ जाती है, जो मुझे सेक्सी लगती है. थोड़ी देर बाद अचानक ऐसा लगा जैसे मेरी चूत में एक बड़ी सी चीज़ घुस गई हो. दोनों ताबड़तोड़ गांड मारे जा रहे थे और दोनों ने अपना अपना वीर्य अम्मी और बहन की गांड में छोड़ दिया.

हमें ऐसे लग रहा था जैसे आज का समय यहीं रुक गया है और शाम भी ज़ल्दी होने में नहीं आ रही है. जैसे ही मैंने उसकी पैंटी को ऊपर से उतारा, उसने हाथ छुड़ाते हुए कहा- नहीं वहां कुछ नहीं करना.

उसका लंड काफी बड़ा था, मेरे मुँह में आधा ही जा रहा था लेकिन मुझे मजा भी बहुत आ रहा था.

मैंने पिछली बार देखा था कि मेरी अनुपस्थिति में लोग अरुणिमा को वहशी की तरह चोदते हैं. कहानी के पिछले भागलूडो के खेल के बहाने लड़की के कपड़े उतरवाएमें अब तक आपने पढ़ा था कि हमारे बीच सेक्स की स्थितियां बनने लगी थीं. लेकिन वो मुझे फ़ोन नहीं देना चाहती थी इसलिए वो और आगे होती जा रही थी.

ये सुन कर भाभी बोलीं- अरे यार, अभी तो लड़का जवान हुआ था और तुरंत ही उसका लंड काट दिया. वो बोले- मुझे खर्चे का फ़िक्र नहीं, वो सब उठा लेंगे, पर सालों को पीस एकदम जोरदार और कम चली हुई होना चाहिए. लंड चूत के अन्दर डाल के मैंने संजना से कहा- जान, अब तुम मेरे लंड पर मूतो.

मैंने पूछा- कौन किसके साथ सेक्स करना चाहता है?मोहित ने आयेशा की तरह इशारा किया और पुलकित और अमन ने मेरी तरफ इशारा किया.

नर्स की बीएफ: उसके बाद तो मैंने चाची को न जाने कितनी बार चोदा और अभी भी चोदता हूँ. शादी के पहले भी हम लोग एक दूसरे के बूब और चूत पर हाथ फेरती थी इसलिए हमें कोई ऐतराज नहीं था.

प्रिया चौंकती हुए बोली- दो चार दिन?मैं- तो क्या हुआ … मेरे साथ रहने में क्या कोई दिक्कत है?वो- नहीं, दिक्कत कुछ नहीं है. मेरा नियम था कि एक पति के साथ जब मैं रात को रहती हूँ, तो दूसरे पतियों के साथ किए सेक्स बारे में बात नहीं करती थी. वो जहाँ किराये पर रूम लेकर रहती थी वहां उसके मालिक-मकान के घर का रास्ता मुख्य दरवाज़े से था जबकि किरायेदारों के लिए उन्होंने एक अलग गेट लगवाया हुआ था.

मुझे देख वो हल्के से मुस्कुराई और बोली- कुछ देर रुकिए, मैं नाश्ता लेकर आती हूँ.

थोड़ी सी उन्ह आह के बाद उसने मेरे लंड से अपनी गांड मरवाने का मजा लेना शुरू कर दिया. वो हंसने लगी और बोली- क्यों तेरे में कांटे लगे हैं क्या, जो मैं झेल नहीं पाऊंगी. मैं बहुत जोर जोर से शॉट लगाने लगा था और उसके चूतड़ों पर थप्पड़ मारने लगा था.