देसी सेक्स बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,लड़की की गांड मारने की वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

इंग्लिश सेक्सी हीरोइन: देसी सेक्स बीएफ फिल्म, तब भी वो कुछ नहीं बोली।तब मैं बहन की गर्दन पर अपने होंठों से किस करने लगा।अपने दोनों हाथों को मैंने उसकी टीशर्ट के नीचे डालकर उसकी ब्रा के ऊपर से बहन की चूचियाँ दबाने लगा.

ब्लू इंडियन पिक्चर

अब मेरा मन किसी जवान लड़के के लिंग को देखने, छूने और उसको अपनी चूत में लेने के लिए करने लगा था. हिंदी बीएफ मूवीकुछ देर तक भाभी के दोनों होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसने के बाद मैंने भाभी को बिस्तर पर गिरा दिया और उनके ऊपर चढ़ गया.

फिर उसने कहा- क्या आज भी तुम मुझे प्रपोज़ नहीं करोगे?मैं उसके पास को गया और उसको अपनी बांहों में लेकर एक अच्छा सा हग किया. भोजपुरी बीएफ गांव कीमैं बोला- अरे भाभी, इसमें धन्यवाद की क्या बात है, ये तो इन्सानियत के नाते मेरा फर्ज भी था.

मैं तेज़ तेज़ झटकों से उसे चोदने लगा।कुछ देर बाद फिर से दोनों सेक्स के मजे में डूब गये थे.देसी सेक्स बीएफ फिल्म: मैंने तौलिया उतार दिया और वो मेरी ब्रा में कैद मेरी चूचियों को घूरने लगा.

तब भी एक बार शुरुआत हो जाने के बाद फिर सब कुछ वैसा ही हुआ, जैसा मैंने सोचा था.मैंने उनकी बात काटते हुए कहा- आप तो एकदम मस्त आइटम हो जी, मुझे तो जरा सिगरेट की तलब लगी, इसलिए मैं बाहर जा रहा था.

बीएफ ब्लू नई - देसी सेक्स बीएफ फिल्म

फिर मैंने उसको उठाया और घोड़ी बना लिया; उसकी चूत में पीछे से लंड डाला और उसकी कमर को पकड़ कर चोदने लगा.फिर उसकी गांड के नीचे एक तकिया रखा और अपना लंड डालने का प्रयास करने लगा.

दांत साफ करते हुए मैं सोच रहा था कि कैसी अजीब विडम्बना है ये कि मैंने मंजुला को किस भी कर लिया उसके होंठ चूस लिए, उसकी चूत चाट ली, उसने मेरा लंड चूस लिया और चुदाई भी कर ली पर दूसरे का टूथब्रश इस्तेमाल करने में ये झिझक क्यों होती है?चाय पीकर मैं अपने होटल चला गया और वहां से जल्दी नहा धोकर तैयार होकर अपना सामान समेटा और चेक आउट करके वापिस मंजुला के पास आ गया. देसी सेक्स बीएफ फिल्म मैंने उसकी आँखों में देख कर कहा- मेरा मन तुम्हारी चूत में लंड डालने के लिए कर रहा है.

वो मेरे दोनों दूध दबाते हुए मेरे गले को चूमने लगा।मैं- अरे इतनी जल्दी ये कैसे जाग गया? अभी तो सुलाया था.

देसी सेक्स बीएफ फिल्म?

क्योंकि आपको अपनी ज्वाइनिंग की मिठाई तो अपने ऑफिस में बांटनी चाहिए!”हां सर जरूर. ’मैं उसकी चूत में जीभ अन्दर तक डालकर चूस रहा था, जिससे नताशा को बहुत ही मज़ा आ रहा था. उसने अपने बारे में सब कुछ बताया जिसका संक्षेप ये है कि वो भी मेरी वाली फ्लाइट से ही गुवाहाटी जा रही है; उसका नाम मंजुला (बदला हुआ नाम) है और वो मध्यप्रदेश के एक छोटे से कस्बे से है, उसके पिता की खेती किसानी है और वो खूब अच्छे खासे संपन्न आदमी हैं.

दोस्तो पहली बार दीदी को नशे में और सिगरेट के साथ देखा, तो वो मुझे पूरी रंडी लग रही थीं. ताहिरा खाला की सिर्फ एक बेटी है और मेरी अम्मी की हम दो औलादें हैं मैं और मेरी आपा!मेरी आपा ज़ोहरा का निकाह 6 साल पहले रफ़ीक़ से हुआ था और आपा अपनी ससुराल वाले घर में रहती है. वो घर में सूट भी पहनती थी और पजामे के साथ टी-शर्ट भी पहन लेती थी। उसके गोल गोल मम्मे काफी बड़े थे.

मैंने एक जोरदार झटके के साथ अपना सारा लावा उसके अन्दर ही छोड़ दिया और उसके ऊपर ही लेट गया. आठ बज चुके थे और मुझे अपनी कांफ्रेंस के लिए कुछ डाटा भी रिव्यू करने थे. फिर अपनी मम्मी को चुदती देख देख कर खुश हो हो कर अपने हाथ ऊपर नीचे हिला हिला कर हंसने लगा; उसे लगा होगा कि उसकी मम्मी कोई खेल खेल रही है.

जैसे उसने चुत में घुसी अपनी उंगली निकाल कर मेरी मां के मुँह के पास की, मां का मुँह अचानक उस आदमी के होंठों छोड़ कर उंगली की ओर बढ़ गया और मां उस आदमी की उंगली को चूसने लगीं. अगली रात फिर कोई फंक्शन था और नौरीन उस रात में तो कयामत की खूबसूरत लग रही थी और मैं तो उसे देख कर जैसे पागल सा हो गया था.

मैंने मॉम से फ्लर्टिंग करते हुए कहा- मॉम, आप बहुत सेक्सी लग रही हो.

किरण उठी और मेरी जांघों पर चढ़ गई, उसने अपनी चूत के लब खोले और मेरे लण्ड के सुपारे पर बैठ गई.

तो मेरी रंडी बहन ने कहा- मुझे पिलाओगे नहीं क्या पापा?पापा मुस्कुरा दिये और कहा- ठीक है. रजक लाल ने आह करते हुए अपना लंड मुँह में खाली किया और अपने लंड को बाहर निकाल लिया. मैंने इठला कर पूछा- क्या कुछ और बात होती?तो अक्षय ने फट से जवाब दिया- तुम यूं मुझसे दूर न होती.

वो बोला- काश … इसकी मां जिंदा होती अंकित यार!मैंने पूछा- आप उनको बहुत याद करते हो क्या?वो बोला- हां, उसकी बहुत याद आती है. अमित- आह्ह चूस रंडी तेरा मुँह नहीं … भोसड़ा है साली … और चूस आहह आहह मेरे लंड का माल पियेगी मादरचोद रांड?मेरी बीवी गुं गुं करते हुए हां में सर हिला रही थी. मैंने अपना मेल आईडी नीचे दिया हुआ जिस पर आप लोग मुझे मैसेज कर सकते हैं.

उसने अलीमा की पीठ पर हाथ ले जाकर उसकी ब्रा का हुक खोल कर ब्रा को निकाल कर फेंक दिया.

इसी बीच मुझे अपनी कुंवारी छोटी बहन की बुर की चुदाई का मौक़ा कैसे मिला?नमस्कार दोस्तो, मैं राज आज एक नई कहानी को लेकर हाजिर हूँ।मेरी पिछली सेक्सी कहानीदोस्त की मम्मी की अन्तर्वासनामें आपने पढ़ा कि कैसे मेरे दोस्त की मम्मी ने मेरे से अपनी चूत चुदाई करवायी. हम दोनों की मादक आवाजों से कमरा गूंज रहा था। हमारी चुदाई की पच पच की आवाज हमें और उत्तेजित कर रही थी।मैंने 8-10 धक्के देने के बाद पानी निकाल दिया और मेरे साथ मंजू ने भी निकाल दिया. रफ़ीक़ जीजू की अच्छी नौकरी की वज़ह से अब्बू ने उनके साथ ज़ोहरा आपा का निकाह करवा दिया था.

मैं बोला कि आगे एक स्टेशन जाने की 6-7 ट्रेन हैं … मैं उनमें से किसी भी ट्रेन से चला जाऊंगा. उसके बाद फिर शादी हो गयी लेकिन जब भी घर आती मैं भाई का लंड जरूर लेती थी. कुछ देर बाद जैसे ही मेरे पीछे वाला लड़का मेरी गांड में झड़ा, उसकी जगह तीसरे वाले ने ले ली.

बच्चों की जिम्मेदारी की वजह से अपने पति से वो बस रिश्ता निभा रही थीं.

फिर मैंने जिया को सीधा लेटा दिया और जिया की काली और सफाचट चूत के गुलाबी छेद को चाटने लगा. वो कहते हैं ना कि दाने दाने पर लिखा है खाने वाले का नाम, चूत पर लिखा है उसे बजाने वाले का नाम.

देसी सेक्स बीएफ फिल्म भाभी बूब सेक्स कहानी में पढ़ें कि सोशल मीडिया पर मैं सेक्स के लिए भाभी खोजता रहता था. राखी दीदी बोलीं- मैं क्या करूं … आपका बेटा ना जाने कब से आपको चोदने लिए तड़प रहा है, यहां तक कि उसने अपनी जीएफ भी छोड़ दी.

देसी सेक्स बीएफ फिल्म मेरे मामा की जवान बेटी की पहली चुदाई में आपको मजा आया? मुझे आपके ईमेल की प्रतीक्षा रहेगी. मैंने एक भी पल का समय ना गंवाते हुए अपने होंठों को उनके होंठों पर रख दिया और चूसने लगी.

अब मैं उनकी चूची को हाथ में पकड़ने लगा और धक्के मारने लगा मगर उनकी चूची मेरे हाथ में नहीं आ रही थी.

इंग्लिश पिक्चर नंगी पिक्चर इंग्लिश

सेठानी अब विरोध नहीं कर रही थी।सेठ ने बीवी का पेटीकोट खोल कर अपना लंड बाहर निकाला और सेठानी की चूत पर रगड़ने लगा. उसने मम्मी से कहा- दूध पिला दे जानू!मम्मी ने मादक स्वर में उससे कहा- पी लो न … मैंने कब मना किया है. इतने में मैंने अपने घुटनों पर होकर कम्बल ओढ़े हुए ही उसके होंठों पर लंड लगा दिया.

मैंने पूछा- बोलो ना!उसने बात पलट दी और कहने लगी- वो तेल से पैर की मालिश कर दे. फिर अगले दिन सेठ जी दुकान से घर आए तो कल्लू भी उनके पीछे आ गया और देखने लगा कि क्या हो रहा है. मैंने भी उससे पूछ लिया- आपका कोई बॉयफ्रेंड है?उसने साफ मना कर दिया.

कुछ देर के बाद मुझे किसी ने पीछे से आवाज दी तो मेरे दोस्त की मौसी ही थी.

मेरी मां भी मॉडर्न खयालों की है और उनको भी सजने संवरने का काफी शौक है. मैंने उनकी ड्रेसिंग टेबल से केश तेल की शीशी उठा ली और उनकी गांड के छेद पर शीशी से तेल टपकाने लगा. यह कहानी मेरी और मेरी बेस्ट फ्रेंड प्रियंका की है। स्कूल टाइम से ही हम दोनों दोस्त रही थीं.

यूं ही चोदते हुए कई मिनट हो गये और फिर एकदम से निधि की चूत ने पानी छोड़ दिया जो मुझे अपने लंड पर गर्म गर्म द्रव के रूप में महसूस हुआ. मुझे अपने कमेंट्स के जरिये बतायें कि हमारा रिश्ता कहीं गलत तो नहीं है. अपनी चुत पर पहले मर्द का चुम्बन पाते ही अलीमा की सीत्कार निकल गई- इस्स … मर गई!बलविंदर उसकी इस मादक आवाज से मस्त होने लगा था.

मैंने पूजा आंटी से पूछा- कैसा लगा मेरा साथ?उन्होंने जबाव दिया- जन्नत का सुख था. हॉट मामी की चूत की कहानी में पढ़ें कि मेरी मामी हमेशा चुदासी सी दिखने वाली माल लगती हैं.

मैंने हैलो बोला- कौन?उन्होंने बोला- मैं नताशा परमार बोल रही हूं … फॉरेस्ट एसडीओ … आपके पेपर कम्पलीट नहीं है ना!मैंने बोला- जी … गुड इवनिंग मैडम. मैं सोशल मीडिया पर भी बहुत समय देता हूं इसलिए भाभियों और आंटियों को पटाने की कोशिश करता रहता हूं. तो मेरी रंडी बहन ने कहा- मुझे पिलाओगे नहीं क्या पापा?पापा मुस्कुरा दिये और कहा- ठीक है.

जब मेरा लण्ड उनकी गांड में जाता तो मेरे टट्टे उनकी चूत से टकरा जाते जिससे फट … फट … की आवाज़ निकल रही थी।उस आवाज़ ने मुझमें और जोश भर दिया था.

उसके जंगली तरह से किस करने से मैं भी गर्म होने लगी और मैं भी अरमान का साथ देते हुए उसको किस करने लगी. उसकी आह्ह … निकली और उसकी चूत ने गर्म गर्म पानी मेरे मुंह में छोड़ दिया. वो भी अब लंड को बर्दाश्त कर रही थी और मेरा साथ देने की कोशिश कर रही थी.

भाभी के मम्मों को दबाकर और चुत में उंगली करके उसे कामुकता के शिखर पर ला दिया. रात के 11 बजे उसकी माँ उसके रूम में गयी लाइट बंद करने!इधर मैं सोच रहा था कि वो कैसे रिप्लाई नहीं कर रही है.

हवलदारों को शायद इशारे की देर थी, दोनों हवलदारों ने मेरे स्तनों को सहलाना और मसलना शुरू कर दिया, दोनों ने मेरे गले, और गाल को चूमना भी चालू कर दिया. मेरे शौहर फिर बोल पडे़- आराम से साहब, क्या कर रहे हैं?अचानक टी टी बिफर पडा़- तू सिखाएगा कि क्या करूं और क्या न करूं, बहुत देर से देख रहा हूं कि टांय टांय कर रहा है. पर मुझे मेरेबॉयफ्रेंड से चुदाईमें भी इतना मजा नहीं आता था जितना भाई के लंड से चुदवाने में आता था.

काजल राघवानी की चूत की फोटो

वो अपने खड़े लंड से मेरी जांघों पर धक्का मार रहे थे, जिस कारण मैंने गर्मा कर अपनी जांघें खोल दीं.

मैंने एक गिलास दारू से भरा और जिया को पिला दिया कि ले स्वाद ठीक हो जाएगा. मैं समझ गया कि अब हथौड़ा मारने का सही समय है।मैंने उसकी चूत पर अपने लंड का टोपा सेट किया और एक अच्छा सा झटका उसकी चूत में दे मारा. मुझे बिना चादर के नींद नहीं आती, तो मैंने चादर अपने ऊपर कर ली और आधे पैर सीधे करके बैठ गया.

मैंने कहा- तो अपनी दीदी की बुर भी दिलवा दो न? मैं तुम्हारी दीदी की बुर में लंड को डालना चाहता हूं. वो एकदम से मस्ती में भर गयी और मोबाइल फोन पर सेक्स कहानी पढ़ते हुए अपनी चूत को ऊपर उठाने लगी. हिंदी सेक्सी ब्लू फोटोअपने कम्पार्टमेन्ट के गेट से पहले मैंने ब्लाऊज के सारे बटन खोले और ब्रा ऊपर सरका दी.

उसकी चूत में अब जलन होने लगी और वो बोली- बस भैया … अब बर्दाश्त नहीं हो रहा … बाहर निकाल लो प्लीज।फिर मैंने लंड को बाहर निकाल लिया. मुझे हॉस्टल में काफी कुछ सीखने को मिला और मैंने बहुत सारा मजा किया.

उसके कुछ दिन बाद फिर श्वेता भी जान गयी कि उसकी मां की चुदाई भी मैं ही करता हूं. रजक लाल के दोनों हाथ में कपड़े थे, इसलिए उसने रोहन को कुछ नहीं बोला. मैंने बोला- अभी नीरजा तुमसे गुस्सा है, शायद इसी लिए नहीं जाना चाहती है.

अब जब सात साल से मेरे पति बिस्तर पर हैं, तो मुझे जीवन में काम सुख तो बिल्कुल कम ही मिला है. धीरे धीरे करके मैंने अपना पूरा लंड उसकी चूत में आहिस्ता आहिस्ता से अंदर उतार दिया. वो कभी कभी मेरी मां से मिलने आते थे लेकिन उनके बीच कोई सेक्स सम्बन्ध नहीं था.

हम दोनों की चूत गीली हो गयी थीं और आपस में चूत टकराते हुए बड़ा मजा आ रहा था.

शावर लेते हुए एक बार फिर से मैंने उसके लंड को चूस चूस कर खड़ा कर दिया. हां बेटी, पिता तुल्य हूँ, इसीलिये ये सब कर रहा हूँ, मुझसे तुम्हारा अकेलापन देखा नहीं गया.

मेरे सुहागरात के सपने थे कि मेरा पति ही मुझे पहली बार चोद कर मेरी उफनती जवानी का सारा रस निचोड़ लेगा. मनजीत दूसरे कमरे में चली गई और मैं वहीं लेट कर अन्तर्वासना पर सेक्स स्टोरीज पढ़ने लगा. बड़े सलीके से बंधी साड़ी को मैंने धीरे धीरे किरण के शरीर से अलग किया, फिर उसका ब्लाउज और पेटीकोट उतार दिया.

नीरजा देवी अपना होश खो चुकी थीं और शारीरिक भोग का आनन्द ले रही थीं. मैंने उसके मस्त मम्मों को देखते हुए कहा- आप मेरे साथ चलो, अगर कोई परेशानी न हो मैडम. चूत पर थोड़ा खून और चूत का रस लगा था। वो उंगली से धीरे धीरे अपनी चूत साफ कर रही थी.

देसी सेक्स बीएफ फिल्म मेरे साथ बात करके उसका आत्मविश्वास भी जाग उठा था और अब वो खुश नज़र आ रही थी. पर मैंने उसकी तरफ बिल्कुल ध्यान नहीं दिया और उसके होंठ चूसता रहा। उसने गुस्से में मेरा होंठ भी काट दिया था।थोड़ी देर वह सामान्य सी होने लगी और मैंने धीरे-धीरे उसकी चूत में धक्के मारने शुरू कर दिए।कुछ ही देर में संगीता मेरा साथ देने लग गई पर उसे बहुत दर्द था। वह अपने चूतड़ मेरे लंड पर मारने लगी.

अन्तर वासना

जो पाठक नये हैं उनको बता दूं कि मेरा नाम प्रिया है और मैं मध्य प्रदेश की रहने वाली हूं. उसने मुझसे कहा- पहले बच्चों को सोने दो, फिर मुझे चोद लेना।फिर हमने खाना खाया और फिर दोनों बच्चों को नीचे वाली सीट में सुला दिया और हम ऊपर वाली सीट पर सो गए. दोस्तो, लुगाई को फुल स्पीड में चोदने में जो मजा आता है, वो कहीं भी नहीं है.

चूसती रहो अच्छे से!मैं और अच्छे से उसका लंड चूसने लगी क्योंकि मुझे भी अब लंड चूसने में काफी मजा आने लगा था. मैं- अम्मी … आखिर बात क्या है?अम्मी गुस्से में- ज़ोहरा की सास कह रही है कि अगर इस बार ज़ोहरा के हमल ना रुका तो अगली बार रफ़ीक़ की दूसरी शादी करवा देगी. छोटी लड़की सेक्सी बीएफसीमा अपने दोनों हाथों की उंगलियों को मेरे बालों में घुमाते हुए सिसकारी भरी- ओह्ह सीईईई अभिमन्यु … बसस्स ओर्रर बर्दाश्त नहीं हो रहा, तुम जल्दी से पेल दो ओह्ह्ह!मुझे सीमा को ज्यादा तड़पाना ठीक नहीं लगा, उसकी चूत पर से अपना मुँह हटा लिया और सीधा होकर घुटनों के बल बैठ गया.

अनूप जी पीछे से मेरी पीठ को सहलाने लगे और मैंने भी उनको कस के गले लगा लिया.

धीरे धीरे अब मैं उनसे ज्यादा क्लोज़ होने लगा था और उन्हें टच करने के बहाने खोजने लगा था. उसको भी चूत चोदने की ललक मची होगी … क्यों न मैं अपनी चूत की प्यास उसी के लंड से ही बुझा लूं?अब मेरे दिमाग में हर वक्त समर का लंड ही घूम रहा था.

वो गाली देते हुए मेरी नंगी बीवी के ऊपर चढ़ गया और अपना लंड उसकी गीली चूत में घुसा दी. मन कर रहा था कि उसकी चड्डी को उतार कर उसकी चूत में लंड को घुसा दूं लेकिन मैं जल्दबाजी नहीं करना चाह रहा था. फिर मैंने उसे कैसे चोदा?दोस्तो, मेरा नाम सागर है और मैं बदरपुर (दिल्ली) में रहता हूं.

उसको ससुराल बहुत अच्छी मिल गई, इसलिए उसकी चिंता से मुक्त हो गई हूँ.

ट्रेन तेज चलने के कारण मेरा हाथ हिल रहा था और मैं उसी का फायदा लेते हुए उनकी गांड को सहला भी रहा था. पर जब कभी वो मेरे सामने आतीं, तो मैं उन्हें जी भरकर देखता और लाइन मारने की कोशिश करता रहता था. उन्होंने अपना गुस्सा मुझ पर निकालना शुरू कर दिया कि सुबह देर तक उठता है, कोई काम नहीं करता है वगैरह वगैरह.

बीएफ इंग्लिश वीडियो मेंमैंने उसे जफ्फी डाल ली और हल्के हल्के से हाथ उसके हाथों में ले लिया. इस वक़्त ज़ोहरा 24 साल की है और जीजू करीब 33 साल के … ज़ोहरा आपा के निकाह के 6 साल बाद भी अभी तक उनकी कोई औलाद नहीं हुई थी.

चोदा चोदी चोदा चोदी चोदा चोदी चोदा

अब वो उस लड़के के लंड को बारी बारी से चूसने लगीं और लड़का एक की चूचियों को पीते हुए दूसरी की चूत में उंगली करने लगा. बलविंदर को तो इस बात की उम्मीद ही नहीं थी कि अलीमा उससे गुस्सा होगी. पर मैं डरता था कि कहीं वो मना ना कर दे, इसलिए मैंने उसे प्रपोज नहीं किया.

उन्होंने तेज तेज धक्के मार कर मेरी चुत में ही अपना माल भर दिया और मेरे पास लेट गए. वो कॉलेज से आ कर अपने कपड़े बदल ही रही थी कि उसी समय बलविंदर ने उसे पकड़ लिया था. वो चोली उनके हाथ की कोहनी तक उतर गई। अब बाजी ने उसको बिल्कुल उतार दिया.

भाई के शादी में बहुत काम होते हैं, इसमें अरमान ने घर के सदस्य की तरह हमारा साथ दिया और उसने बढ़ चढ़ कर बहुत सारा काम किया. शुरु में गर्लफ्रेंड कीमाँ की चूत में लंडबहुत टाइट जा रहा था क्योंकि वो बहुत दिनों से चुदी नहीं थी।मैंने उनको दो बार चोदा 10 बजे से 12 बजे तक. अपनी चूत की आग ससुर जी से बुझवाने की मेरी योजना पर दो सवालिया निशान थे.

मेरे शौहर फिर बोल पडे़- आराम से साहब, क्या कर रहे हैं?अचानक टी टी बिफर पडा़- तू सिखाएगा कि क्या करूं और क्या न करूं, बहुत देर से देख रहा हूं कि टांय टांय कर रहा है. उसमें आवाज आ रही थी- पापा मुझे चोदो और जोर जोर से चोदो, फाड़ डालो इस आपकी ही दी हुई अमानत को!ऐसी आवाज़ पूरे कमरे में गूंजने लगी.

फिर उसने मुझे बेड पर लेटा दिया और मेरी साड़ी और ब्लाउज दोनों उतार दिए.

गठीला शरीर और लौड़ा मेरा 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है।आइए अब इंडियन हॉट गर्ल सेक्स कहानी पर चलते हैं।यह कहानी मेरी जिंदगी का सबसे पहला अनुभव है जो मुझे सेक्स को लेकर हुआ था. गांव की देसी लड़की को चोदाफिर अगले दिन मैं जॉब से घर आया, तो थोड़ी देर बाद चाची मुझे कुछ सामान लेने के बहाने बाहर ले गईं. एक्स एक्स एक्स बीएफ फिल्म इंग्लिश मेंफिर मैं जिया से बोला- तुझे अब तक बच्चा क्यों नहीं हुआ?जिया बोली- बच्चा नहीं हुआ असलम … शायद मेरे पति में कमी है. मुझे लगा उसको गुस्सा आ जाएगा तो मैंने भी अपने कपड़े उतार कर लंड बाहर निकाल दिया और बाजी की तरफ गया।मैंने बाजी की कमर पकड़ी और उन्हें झुका दिया तो बाजी के हाथ से सलवार छूट गई और उनकी लाल पैंटी दिखने लगी।तो मैंने बाजी को कहा- बाजी आप सिलेंडर पर हाथ रख लो.

मेरी मामी के मुँह से मस्त आवाजें निकल रही थीं, जिससे मेरा जोश और भी तेज होता जा रहा था.

तभी उसने इमरान हाशमी की तरह मेरा नीचे वाला होंठ अपने होंठों में लेकर स्मूच किया. धीरे धीरे वो मुझसे खुलने लगी, हम दोनों में जोक्स आदि शेयर होने लगे. उनकी नोक खड़ी हो गई और मैं चूची बुरी तरह दबा कर दूध निकालने की कोशिश करने लगा.

अब मेरा रोज का काम हो गया कि मैं रात को अपनी बीवी शनाज़ को एक बार जोर से चोद कर ठण्डी कर देता और फिर आधी रात के बाद ज़ोहरा आपा के कमरे में जाकर मैं आपा की चुदाई करता. मेरी गर्लफ्रैंड की माँ के बारे में बता दूं … वो बहुत बड़ी चुदक्कड़ औरत थी. वो एक गोरा और गबरू पंजाबी मर्द था और देखने में बड़ा ही सजीला लगता था.

ज्यादा सर्दी लगने पर क्या करें

मैं पहली बार स्खलित हुई और मुझे ऐसा आनंद मिला कि मुझे इसकी आदत सी लग गयी. [emailprotected]परिवार में चुदाई की कहानी का अगला भाग:बेटी के ससुर, देवर और पति से चुदी- 4. कुछ पल बाद मैंने नीचे की गुफा का मुयाअना करने की सोची मगर पर नीचे उस जन्नती द्वार तक मैं नहीं पहुंच पाया.

आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद।तब तक आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पर सेक्स कहानियों का मजा लेते रहिए और जुड़े रहिये.

इस कहानी की मुख्य नायिका हैं मेरी बड़ी मम्मी मतलब तायी जी, जो लगभग 48 साल की है और उनका फिगर साइज़ 36-30-40 का है.

इसका ये असर हुआ कि आकांक्षा का दर्द कम होने लगा और उसकी चुत भी अन्दर से गीली होने लगी थी. फिर समधी जी ने मेरी दोनों टांगों को फैलाया और टांगों के बीच में बैठ कर वो मेरी चूत में उंगली करने लगे. एक्स एक्स एक्स बीपी वीडियो हिंदी मेंमैंने कमरे में आते ही अपने कपड़े बदल कर वही नाइटी पहनी और चुत को ब्लैक कलर की पैंटी से ढक लिया.

अब बारी पापा की थी, पापा ने तेल डाला पहले बेटी की गांड में … फिर अपने लण्ड में लगाया।मैंने पूर्वी के होंठों को अपने मुंह में भर लिया ताकि वो चिल्लाये न!फिर पापा ने अपनी बेटी की गांड में धीरे धीरे लंड डालना शुरू किया।पूर्वी छटपटाने लगी. मैंने उसकी टांगों को मेरी कमर पर रखा और अपने एक हाथ से लंड पकड़ कर उसकी गुलाबी चुत की फांकों के बीच फंसा दिया. मैंने कहा- कहीं कुछ बवाल हो गया तो?उसने मुझसे कहा कि मैं तुमें स्टोर रूम छुपा दूंगी और रात को तुम्हारे पास आ जाऊंगी.

मैंने अपनी लोअर ऊपर कर ली और दोनों अपने अपने अलग कंबलों में सो गये. फिर उठकर मैंने ढेर सारा बॉडी लोशन को उनके पूरे नंगे जिस्म पर डाल के लगाया.

अपनी देसी लड़कियों की ये खास विशेषता है कि वो किसी से एक दो बार चुद लें तो फिर साथी के साथ सगी बीवी की तरह अधिकार पूर्वक बात करने लगतीं हैं और अपनी बात मनवा कर ही दम लेतीं हैं.

मेरा ब्रश तो होटल में था सो मैंने टूथपेस्ट उंगली पर ही ले कर दांत साफ कर लिए. चूंकि कार में अंधेरा था तो मैं बातें करते हुए गरिमा के बदन को छू रहा था. मैं बर्दाश्त नहीं कर पा रही थी लेकिन वो दोनों किसी वहशी दरिंदे की तरह मुझे चोदे जा रहे थे.

बालवीर एक्स एक्स ये देख कर उसने मेरी मम्मी के नीचे हाथ लगाया और उनके नीचे के कपड़े उतारने लगा. लगातार धक्के लगाने के बाद उन्होंने मेरी चूत और गांड में पानी छोड़ दिया.

मुझे पता चल गया कि इसकी चूत जरूर खुजली कर रही होगी।बाजी उठी और राबिया को देख कर बोली- क्या हुआ? मज़ा नहीं आया?वो कुछ नहीं बोली तो बाजी ने कहा- अरे … करेगी तभी तो मज़ा आएगा. मैंने भाभी के हाथों को पकड़ कर उनको अपने ऊपर खींच लिया और उनको अपनी बांहों में भर लिया. मैंने चुदाई को विस्तार से न बता कर चुदाई तक पहुंचने की बात को ही लिखा है.

चूत फट गई

रजक लाल को डर था कि कोई आ ना जाए, इसलिए उसने रोहन के बाल पकड़े और रोहन के मुँह को धकाधक चोदने लगा. मेरा नाम टीना गुप्ता है और मैं 24 वर्ष की अविवाहित लड़की हूँ … मगर मैं कुंवारी नहीं हूँ. 15-20 मिनट तक हम लोगों के हँसी मजाक किया और उसके बाद मुझे मेरा कमरा दिखा दिया गया.

वो मेरे जांघ को सहलाते हुए बोले- कहां चलना चाहती हो घूमने के लिए? हम अभी चल पड़ते हैं. मैंने निधि मामी के कान में धीरे से पूछा- होने वाला है मेरा, कहां निकालना है?वो बोली- अंदर मत डालना.

मेरी मेल पर बतायें ताकि मैं अपनी और कहानियाँ लिख सकूं।[emailprotected].

फिर मैं दरवाजे के पास अनजान बनकर गया और खटखटा कर बोला- कौन है अंदर? मुझे भी नहाना है. मेरे जिस्म से लिपटते हुए नौरीन ने मेरे सारे कपड़े उतार दिए और मेरे लंड को चूसने लगी. मैंने आरिया से पूछा कि कितनों से चुदवा चुकी है?आरिया हंस कर बोली- अभी सिर्फ दो से … आप तीसरे हो.

बाहर कुछ लोग नाचने गाने में लगे हुए थे इसलिए किसी को कुछ सुनाई भी नहीं पड़ रहा था. देसी न्यूड गर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि हमारे किरायेदार की एक जवान बेटी थी. और वो मेरे लंड को गले तक खाने लगी।उसकी चूत चाटते चाटते वो इतनी गर्म हो गई कि अपने चूतड़ मेरे मुँह की तरफ धकेल रही थी.

यूं तो ये सब मेरी मर्जी से नहीं हो रहा था पर मेरे तन में आग लग रही थी.

देसी सेक्स बीएफ फिल्म: मगर इससे पहले मैं अपने काबू से बाहर होता उसने अपनी ब्रा को खोलना शुरू कर दिया. उसके बाद भाभी ने मुझे नीचे ही लिटाए रखा और मेरे लण्ड को मुँह में लेकर चूसना शुरू किया.

इस तरह बेहद लजीज नाश्ता करने के बाद मंजुला ने रूम सर्विस को चाय का आर्डर कर दिया. एक दिन गुरप्रीत नहीं आई तो मैंने फोन करके पूछा तो उसने बताया- उसका पीरियड शुरू हो गया है, इसलिये तीन दिन नहीं आयेगी. तो वो बोली- अरे पेपर तो हो ही जाएगा और वैसे भी साल भर से पेपर के लिए ही तो पढ़ रहे हैं.

मुझे भी उसकी दी की बात से डर लग रहा था कि क्या करूं … दोनों के रहते हुए किसी एक से सेक्स करूंगा, तो दूसरी बुरा मान जाएगी.

मैं अपने कमरे में आने के बाद सोचने लगी कि अगर इसी तरह इनके घर का माहौल खराब रहेगा, तो इसका बुरा असर मेरी बेटी पर पड़ेगा. अपने लंड पर मैंने थोड़ा सा थूक लगाया और भाभी की चूत के छेद पर रख कर धक्का लगाया, तो पूरा लंड आराम से भाभी की चूत में चला गया. चुत से खून भी निकल आया था, पर अब सास पर वासना फिर से हावी हो गई थी.