बीएफ सेक्सी वीडियो जंगल में

छवि स्रोत,बीएफ कीजिए

तस्वीर का शीर्षक ,

बाबा राम रहीम का सेक्सी: बीएफ सेक्सी वीडियो जंगल में, मैं एक दिन अपने ब्वॉयफ्रेंड को कॉलेज में देखा कि वो एक लड़की से हंस कर बात कर रहा था.

पिक्चर बीएफ सेक्स

तब मौसी ने मम्मी को बोला- बहन तू होकर आजा, मैं अब शादी के बाद ही कहीं जाऊंगी. सेक्सी का वीडियो बीएफठीक है ना?मैं पूजा के नंगे चूतड़ों को सहलाते हुए बोला- मेरी रानी, तुमने तो मेरे मन की बात बोल दी.

मैंने उसको उठा के बेड पर गिरा दिया और उसके कमल की पंखुरी के जैसे होंठ चूसने लगा. साउथ हीरोइन की बीएफ सेक्सीमेरे लंड का कड़ापन इतना हो गया कि लगने लगा जैसे अब लंड टूट कर नीचे गिर जाएगा.

मैं गाँव से बीस किलोमीटर दूर शहर में बच्चों को पढ़ाई के लिये बीवी बच्चों के साथ वहीं रहता हूँ.बीएफ सेक्सी वीडियो जंगल में: वो औरत थी और वो हर मर्द की निगाह पहचान जाती थी पर मैं उसको कभी भी ऐसे नहीं देखता था कि उसको कुछ गलत सन्देश जाये उसके पति भी इंजीनियर थे और वो कुवैत में थे.

वहां एयरपोर्ट सी ऑफ करने के बाद मैं और भाभी दिल्ली के एक मॉल में कुछ शॉपिंग करने लगे.उनकी चूचियां अभी भी बिल्कुल किसी कुंवारी लड़की की तरह ही कसी हुई थीं.

सेक्सी बीएफ हिंदी में सेक्सी बीएफ हिंदी - बीएफ सेक्सी वीडियो जंगल में

सबसे पहले तो मैंने अपनी जीभ से चाटकर उसको साफ किया और फिर धीरे से अपनी जीभ को चुत की दोनों फांकों के बीच घुसा दिया.तभी मैंने अपना एक हाथ उसके कंधे पर रखा और वहां पर उसकी ब्रा की पट्टी से खेलने लगा.

भाभी इन बातों को लेकर मुझे कुरेदने लगीं- क्या हुआ है, मुझसे ठीक से बातें क्यों नहीं कर रहे हो. बीएफ सेक्सी वीडियो जंगल में मैंने सोचा क्यों ना रेवती के परिवार के साथ इस पल का आनन्द लिया जाए.

फिर हिमिका ने खुशी को किस करना शुरू कर दिया, दोनों एक दूसरे का भरपूर साथ दे रही थीं.

बीएफ सेक्सी वीडियो जंगल में?

फिर मैंने दीपक को बोला- अपना लंड इसकी चूत में घुसा।दीपक ने अपना लंड सुशीला की गांड से निकाल कर उसकी चूत में घुसा दिया. पतली कमनीय कटावदार कमर और उस पर कोहेनूर हीरे सी जड़ी गोल गहरी नाभि और ऊपर रसभरे दो यौवनकलश जिनके रस को मैं जितना पीता था, उतनी ही प्यास बढ़ती थी. वो खुश हो कर मुझसे बोली- ओह डियर, तुम्हारा हथियार तो बहुत ही तगड़ा है.

मैं खुश था क्योंकि मेम के साथ जा रहा था और बंगलोर घूमने को भी मिल रहा था. रेवती के पापा प्रश्नवाचक दृष्टि मेरी तरफ देखने लगे और पूछा- ये सब क्या है?हमारी बैंक की तरफ से एक पार्टी का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें हमें परिवार के साथ बुलाया गया है. 30 बजे खाना खाया औऱ सोने की इच्छा हुई तो चाची ने कहा- ऊपर वाले कमरे में जाकर सो जाओ.

वक़्त का फायदा उठा कर मैंने उसकी एक चूची को अपने मुँह में ले लिया और उसको जोर जोर से चूसने लगा. आपको तो मैं रोज चोदूँगा … बस आप प्लीज आप बड़ी चाची को मेरे लंड के लिए मना लो. और यह कहकर उसने मुझसे कहा- जीजू आओ ना … पायल को दिखाओ कि चूत में लंड किस तरह घुसता है.

आज रात जब तक मेरे लंड में दम है, तब तक मैं तुम्हें चोदूँगा, तुम्हारी चूत मारूँगा और तुम अपनी टांगें फैलाए मेरे लंड से अपनी चूत चुदवाती रहोगी, समझी?पूजा मुझसे बोली- तुम बहुत बड़े चोदू हो. मैंने अपनी चूत में जीजू का लंड सटकते हुए फ़ोन उठा कर कहा- हां दीदी क्या कह रही हो … अच्छा आधे घंटे में आओगी … ठीक है … हां जीजू आ गए हैं.

अब जब भी वो मुझे मिलती तो मेरे मम्मों को दबाती और बोला करती थी कि इनका कोई इलाज करवाना हो तो मुझे बताना.

इसलिए मैंने अपने घरवालों को यह बोल दिया कि मैं अपनी सहेलियों के साथ घूमने जा रही हूँ। मेरे घरवाले भी जल्दी ही मान गए.

मैंने भी अब सोचा कि शायद वो मेरा वहम था, इसलिए कुछ देर बाहर की बातें सुनने के बाद मैं वापस अपने बिस्तर पर आकर लेट गया. आज तक हमने कभी भी इतनी सेक्सी खूबसूरत और इतनी मस्त फिगर की लड़की नहीं देखी है. अब मयूरी अपने दोनों भाइयों के सामने एकदम आदमजात नंगी खड़ी थी, उसके शरीर पर एक भी वस्त्र नहीं था.

वो बोली- अच्छा … इस पटाखे को फोड़ना चाहोगे?मैंने कहा- माचिस भी तैयार है … आप जगह तो बताओ. मैं पूजा के चूतड़ों को सहलाते हुए कभी कभी उसकी गांड के छेद को भी सहलाता रहा. शीतल- अच्छा?मयूरी- हाँ… और इसीलिए दोनों आपको एक साथ चोदना चाहते हैं… एक आपकी गांड में और एक आपकी चूत में लंड डालकर आपको चोदना चाहते हैं.

मैंने उसको बिना सोचे समझे ही हाँ कर दी क्योंकि सिनेमा हॉल में तो मैं उसके साथ कई बार जा चुकी थी.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:बीमारी ने दिलायी प्यासी भाभी की चूत-2. मैंने अपना लंड उनके गले तक डाल दिया और लंड चुसवाने का मजा लेने लगा. उसका चेहरा लिटाते वक़्त मेरे करीब आया, मैंने उसकी तेज़ सांसें महसूस की.

नीरू ने पायल से कहा- पायल, अगर कोई परेशानी ना हो तो मैं जीजू से तेरे कपड़े उतरवाकर तुझे नंगी कर दूं?पायल मना ना कर सकी, उसने हामी भर दी. अमीश की माँ परिणीता बहुत ही सेक्सी थीं, जिनकी उम्र कुछ 37 साल की होगी. बात शुरू होती है हमारे ऑफिस की एक भाभी से जिनकी शादी 3-4 साल पहले ही हुई थी, वो मेरे ऑफिस में ही काम करती थी.

पर मैंने इस तरह से मम्मी को कभी देखा नहीं था, उनके बारे में सुना जरूर था.

मैंने उनको घोड़ी बनने को कहा और पीछे से लौड़ा उनकी चूत में फ़िट करके शुरू हो गया. एक दिन जब वो साईकल चला रही थी तो एक जगह अपनी साईकल भिड़ा दी और उसे साईकल के पाइप से नीचे लग गई.

बीएफ सेक्सी वीडियो जंगल में मैं सतीश के ऊपर थी, जिससे उसकी छाती मेरे मम्मों से मिल गई, मेरे होंठ सतीश के होंठों से जुड़ गए. मैं पूजा की चूत चार करारे धक्के मार कर बोला- रानी, एक बात बताओ? लगती तो तुम बहुत सेक्सी और चुदक्कड़ भी, लेकिन तुम कहती हो कि तुम्हारे पति देव एक गांडू इंसान हैं.

बीएफ सेक्सी वीडियो जंगल में उससे भी रुका नहीं गया और मेरी टांगें उठा उसने लंड मेरी फुद्दी पर रख दिया. दोस्तो, लेस्बियन सेक्स देखने में बहुत मजा आता है, कभी जरूर करना और डर्टी सेक्स में भी बहुत मजा है.

उन्होंने अपना वादा पूरा किया और मैं अब सब समझ भी गई कि मेरी मम्मी सच में कैसी हैं.

बाथरूम के सेक्सी वीडियो

दोस्तो, कैसे हो आप सब लोग, मैं विपुल कुमार उत्तरप्रदेश के एक नगर में रहता हूँ गोपनीयता बनाए रखने के लिए मैं नगर का नाम नहीं लिख रहा हूँ। दोस्तो समय नहीं मिल पाने के कारण कहानी नहीं लिख पा रहा था जिन लोगों ने मेरी पिछली कहानीपढ़ी थी, वे तो पहचान ही गये होंगे और जिन्होंने नहीं पढ़ी है, वो लोग जाकर पढ़ सकते हैं. मैं भी नहा कर अपना सूट, टाई डाल के तैयार हो गया और एक पटियाला पैग ढाल के कुर्सी पर बैठ के आराम से चुस्कियां लेने लगा. वास्तव में तो अब तक मेरी धर्मपत्नि इतनी निढाल हो चुकी थी कि उसके लिए अब मुंह चला पाना भी मुश्किल हो चुका था और हम दोनों लड़के ही अपने-अपने लंड एक बार अन्दर, एक बार बाहर कर रहे थे.

दर्द होने के कारण वह काफी तेज स्वर में सिसकारियां ले रही थी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’तो मैंने उसे ज्यादा आवाज करने से मना कर दिया. मेरे हाथों में ठण्ड लग रही थी, जिस कारण मैंने हिम्मत करके उसके हाथों को पकड़ लिया उसके हाथ भी बर्फ की तरह ठण्डे थे. उसकी बातों से मेरे अन्दर हिम्मत जगी और थोड़ा सोचने के बाद मैंने हां कर दिया.

इतना कहने के बाद मैं पूजा की चूत के अन्दर झड़ गया और पूजा की चूत ने भी मेरे साथ साथ अपना पानी छोड़ दिया.

तुम तो बोल रही थी कि पैसा कम लाये हो। इसीलिए एक ही कमरा लिया। तुम अगर मेरे साथ सोना नहीं चाहती हो तब नीचे सो जाना … मानसी मेरे साथ सो जाएगी … क्यूं बेटी?मानसी उछल कर- हाँ क्यों नहीं … मैं अंकल के साथ सो जाऊंगी।सुशीला गुस्से से- नहीं तुम नीचे सोना!उसके मुँह से निकल गया।मैं- मुझे क्या एतराज हो सकता है।वो थोड़ी देर सोचने लगी … फिर भी कुछ नहीं बोल पाई. चाची ने अपने दोनों पैर ऊपर करके फैला दिए और चाचा ने चाची के दोनों पैरों के बीच में आकर अपना लंड चाची की चूत के छेद पर जैसे ही लगाया, चाची जोश के मारे हिनहिना उठीं. उसने कहा- बताओ न?मैंने कहा- इसे मुँह से बता नहीं सकते, करके बता सकते हैं.

थोड़ी देर के बाद वह कहने लगीं- अब मुझे छोड़ दो, जलन हो रही है, मैं दो बार छूट चुकी हूँ. मैंने बोला- वहां पर क्यों?तो दीदी बोलीं- यहां रूम कम हैं … तो अंकल ने कहा कि बेबी मेरे घर में जाकर रह सकती है … इसलिए ये वहां पर रेस्ट कर लेगी, तुम बस इसका सामान उधर रखवा दो. मेरी तो हर बात में हां है; अब जो सोचना जो करना है वो आप जानो; मैं तो हर जगह आपके संग हूं.

नेहा की ब्रा को उतारने के बाद मैंने अब फिर से उसे बिस्तर पर लेटा दिया और अपने दोनों हाथों से उसके हाथों को पकड़कर उसकी चूचियों पर से हटा दिया. तभी चाचा ने जोर से अपना लंड ठेला और चाची ने नीचे से अपने चूतड़ों को जोर से उछाल दिया.

कुछ देर में भाभी ने अपना पैर से मेरी कमर दबा कर मुझे थाम लिया और आहें भरने लगीं. मयूरी- आह… आ… माँ… आह… मुझे बहुत… मजा आ रहा है मेरे बहनचोद भाइयो… तुम मुझे स्वर्ग की सैर करा रहे हो. दो मिनट बाद मैडम ने चाय लाकर मुझे दी और खुद भी मेरे साथ बैठ कर चाय पीने लगीं.

फोन कट करके उसी मोबाइल से जल्दी से दो-तीन फोटो क्लिक की, वह भी मेरी चूत में उंगली डाले हुए … मैं तो पागल हो रही थी.

उस दिन के बाद आज का दिन है ‘वो है … उसकी याद है … उसके साथ गुजारे पलों की यादें अब भी ताज़े गुलाब के जैसी ही ताज़ा हैं. मेरे रिप्लाई करने के थोड़ी देर बाद ही मुझे 2-3 फोटो और अगले मेसेज में नाम- पूर्वी शर्मा (काल्पनिक), पता लिखा मिला. वे पूछ रही थीं- क्या बात हो रही है?तो उसी ने बोला- पढ़ाई से रिलेटिड बात चल रही है.

और अशोक का आदेश पाते ही घर के सब लोग यहाँ तक की अशोक खुद भी मयूरी के शरीर एक एक-एक हिस्से पर लगे केक को मुँह से खाने लगे. उसे किस करते हुए मुझे थोड़ा अजीब टेस्ट का अहसास हुआ तो मैं समझ गया कि यह मेरा ही वीर्य है जिसे मुझे ना चाहते हुए भी पीना पड़ा और मैं उसका साथ देने लगा।कुछ देर उसी अवस्था में रहने के बाद हम दोनों एक दूसरे के जिस्म को चूसने का काम करते रहे.

केवल जब मैं उन्हें दूध नहीं पिलाती, तब वो मेरे लिए मेरे साथ पीते है. वओओओ … म्म्मममउ … मुझे प्रेस से करेंट लग गया!” प्रिया ने घबराई सी आवाज में हकलाते हुए कहा. मैंने उसे कहा- साधना तुम कल दिन में आना, मैं भी आऊंगा और बूटी खोजने में तुम्हारी मदद करूंगा.

बॉलीवुड सेक्सी पिक्चर हिंदी

चूंकि अब मेरे और चांदनी जी के बीच अच्छे सम्बन्ध बन चुके थे, तो मैं उनके घर जाता रहता था और उनका बाजा बजाता रहता था.

हम दोनों एक दूसरे के होंठों को चूस रहे थे, काट रहे थे, जीभ से जीभ लड़ा रहे थे. मैं बहुत असमंजस में थी और स्वयं निर्णय नहीं कर पा रही थी कि जो मेरे साथ हो रहा, उसे रोकूं या होने दूँ. जीजू उस दिन हमारे घर रुके थे, लेकिन रात को हम दोनों लोग सेक्स नहीं कर पाए क्योंकि घर के सारे लोग रात को आ गए थे.

मैं बड़ी चाची के बारे में बोल बोल कर छोटी चाची को चोदने लगा- काश … आपकी तरह मुझे बड़ी चाची की चूत चोदने का सौभाग्य प्राप्त हो जाता. आज घर पर बोल दो कि ऑफिस से लेट आओगी, मैं तुमको किसी से मिलवा दूँगी. हिंदी सेक्सी वीडियोस बीएफजब हम दोनों शांत हो गए तो मैंने उसकी चूत में से अपना लंड बाहर निकाल लिया.

अब मैं भी अपने जीजा के साथ अपनी एक मदमस्त चुदाई की कहानी लेकर आई हूं. मैंने उनसे फिर से लंड अन्दर डालने का कहा, तो जीजू ने मेरी कमर को पकड़ कर अपना लंड मेरी चूत में एक झटके में ही पूरा पेल दिया और मुझे चोदने लगे.

पूजा की चुदासी चुत को देखकर मेरी वासना सीमा लांघ रही थी, मैं पूजा से बोला- रूको मेरी छिनाल रानी, अभी मैं तेरी चूत को मेरे लंड से चोद चोदकर भोसड़ा बनाता हूँ. थोड़ी देर बाद फिर उसी नंबर से मुझे एक फोटो मिला और उसके अगले मेसेज में नाम अदिति (काल्पनिक) और पता लिखा मिला. जीजू ने मेरे कपड़े निकालने के बाद मेरी ब्रा और पेंटी भी निकाल दिए और मेरी चूचियों को दबाने लगे.

ये देख कर मैं तो चौंक गया … मुझे नहीं पता था कि मेरी मम्मी इस खेल की इतनी बड़ी खिलाड़िन होंगी. अब उसकी चुत गीली होने के कारण लंड बड़ी आसानी से अन्दर बाहर हो रहा थाअब चुदाई में ‘धप … धप …’ आवाज आ रही थी. नेहा की बगल‌ में बैठकर मैंने अब पहले तो एक‌ नजर उसके चेहरे की तरफ‌ देखा.

उसके पूरे जिस्म को चूमने के बाद उसकी चुत के पास आया और उसकी चुत को पैंटी के ऊपर से ही चूमा.

अगले दिन एक तो इतवार की छुट्टी थी और दूसरा नेहा व प्रिया के कारण मैं रात भर ठीक से सोया भी नहीं था, इसलिए अगले दिन मैं काफी देर तक सोता रहा‌. बुद्धू … उस रात मैं भी तो उसी कमरे में सो रही थी मगर तुम्हारी और नेहा दीदी की उह …आह …” ने मुझे सोने ही नहीं दिया.

आंटी का बदन एकदम दूध सा गोरा है और उनके कटावदार फिगर की वजह से वो और भी कामुक दिखती हैं. इधर मैं तो हमेशा की तरह हाथ से लंड हिलाने में खोया हुआ था, मुझे पता ही नहीं चला कि कब वो अन्दर आ गई. उसके बाद कमलेश मेरी गोद में लेट गया और उसको नींद आ गई लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी.

मेरे और रेखा के बीच में मेरी भान्जी और रेखा के मामा की लड़की सोई हुई थी. वो आकर मुझसे ढेर सारी बातें करती थीं, मेरे कॉलेज के बारे में मुझसे बहुत सारी बातें करना उन्हें पसंद था. मैं- चाची अब मैं झड़ने वाला हूँ … जल्दी बोलो, क्या करूँ?चाची- मेरी गांड के अन्दर ही रस झाड़ना.

बीएफ सेक्सी वीडियो जंगल में मस्त क्या मजेदार सीन था!तभी मैंने अपने लंड का सुपारा उसकी गुलाबी चूत पर रखा और एक हल्का सा धक्का लगाया, मेरा सुपारा नीरू की चूत के अंदर चला गया. फिर हम दोनों साथ में नहाए और सोनाली को रेस्टोरेंट ले जाकर साथ में डिनर करके उसे उसके फ्लैट तक छोड़ दिया.

सेक्सी लंड सेक्सी वीडियो

उस वक्त मैंने ट्राउजर पहना था, फिर भी मेरा लंड पजामा फाड़ के बाहर आने को तैयार था. उसकी आँखों में वासना देख कर मेरे अन्दर भी अब चिंगारी आग बनने लगी थी. और मुस्करा दी। फिर बोली- मैं जानती थी कि आज हमारे बीच सब हदें टूटेंगी क्योंकि तुम्हारी आँखों में मैं अपने लिए प्यार पढ़ चुकी थी और मैं भी तुम्हें चाहने लगी थी.

फिर उसकी आंखें अपनी नग्नी सुन्दरता को देखकर चमक उठीं और वो शरमाना छोड़ धीरे धीरे मुस्कुराने लगी. अब तक चार बच्चे उसने जने थे और शायद बहुत से मर्दों से भी संभोग भी किया होगा. बीएफ दिखाओ मूवीमनीष और भाभी बेड पर बैठ कर बातें कर रहे थे, मनीष भाभी का सर सहला रहा था.

‘हांआ … हांआआ … तुम्हें डर क्यों लगेगा? वे दोनों तुम्हें दवाई जो दे रही हैं … तुम्हें तो डर नहीं, मगर मुझे तो अपनी बदनामी का डर है …” सुलेखा भाभी ने अब थोड़ा गुस्सा दिखाते हुए कहा और मेरे चेहरे को अपने से दूर हटा दिया.

जब उसने मेरा लंड देखा तो बोली- इतनी छोटी उम्र में इतना बड़ा लंड कैसे हो गया?मैं बोला- मैं रोज़ दीदी के नाम से लंड की मुठ मारता था, इसलिए ये खिंच कर इतना लम्बा हो गया. मैंने उसे और उकसाते हुए कहा- तुमको भी अच्छा लग रहा था, तुम्हारी उत्तेजना देख कर वे लोग भी उत्तेजित हो रहे थे.

मैंने उसको अपने नीचे लिया और लंड को चूत के छेद पर लगा कर जोर से उसकी चुत में पेल दिया. उससे भी रुका नहीं गया और मेरी टांगें उठा उसने लंड मेरी फुद्दी पर रख दिया. मैंने सोचा क्यों ना जो आग रेवती के सीने में जल रही है, उसे थोड़ा और भड़कने दिया जाए.

कुछ देर बाद भाभी खुद ब खुद मेरे और करीब होकर बैठ गईं, जिससे उनकी जाँघें मेरी जांघों से एकदम सट गईं और मेरा लंड फिर से तम्बू का बम्बू बन गया.

तो वो जोर से हंस पड़ी और बोली- मैंने तुम्हें दिन में ही कहा था कि तुम बहुत दिलचस्प आदमी हो. शर्म आती है?”एकदम से ऐसी स्थिति बन जाना कि जिसकी पहले कभी उम्मीद न की गयी हो, थोड़ी झिझक तो पैदा करता ही है। पहले इसे ही रहने दीजिये. मैं पूजा को बिस्तर पर बैठा कर खुद भी बिस्तर पर बैठ गया और उसकी चूची से खेलने लगा.

बीएफ सेक्सी फोटो नंगाजब तेरे मामा आते थे तो उनका लंड लेने से पहले भी मैं उनकी गांड के साथ खेलती थी. मैंने उनके एक चुचे मुँह में लेके चूसना चालू किया तो भाभी मुझे अपना दूध चुसाने लगीं.

2 साल लड़की की सेक्सी वीडियो

वो अभी भी आँखें बंद किये लेटी थी।थोड़ी देर बाद उसने अपनी आँखें खोली और मुझसे लिपट गयी, मेरे होंठो पे किस किया और मुझे थैंक्स बोलने लगी।मैंने पूछा- थैंक्स किस लिए?तो बोली- मुझे आज पहली बार प्यार मिला! नहीं तो मेरा हस्बैंड सिर्फ अपनी प्यास बुझाने से मतलब रखता था. मैडम के स्तन चूसते चूसते ही मैंने उनकी लटकती ब्रा को उनके जिस्म से अलग कर दी. फिर थोड़ी उदास होती हुई बोली- आज तक सिर्फ़ एक बार ही मेरे पति ने एक रात दो बार सेक्स किया था मेरे साथ … और हर बार 10 मिनट के अंदर ही उनका पानी निकल जाता है.

” उसने शर्माते हुए कहा और अपने लोवर व पेंटी को फिर से ऊपर करने‌ लगी. भाभी बहुत सटीकता से लंड चूस रही थीं और कुछ ही पलों में ही उन्होंने मेरा पानी छुड़वा दिया. सविता बोली- हां नीरू, अब मेरा भी करा दे … मैं बर्दाश्त नहीं कर पा रही हूं, मेरे शरीर में कुछ कुछ हो रहा है.

हमारी सांसें स्थिर हो चली थी … प्यार के गुजरे मादक और अविस्मरणीय पलों की महक और उन पलों को कहीं अंदर ही रेकार्ड कर लेने की कोशिश करते हुए हम दोनों की एक दूसरे के शरीर को पुनः अहसासों से भरता हुआ महसूस करने लगे. हम लोगों के बीच अब जिस्मानी सम्बन्ध बनने की राह तैयार होने लगी थी, पर मौका और जगह की कमी के कारण चुदाई में देरी हो रही थी. जब मैंने ऐसा कहा तो वह डर गया और डरते हुए दरवाजा खोल दिया, दरवाजा खुलते ही मैं अन्दर आ गया और अन्दर से दरवाजा बंद कर लिया।मैंने कहा- कौन है तू? यहाँ क्या कर रहा था? दरवाजा क्यों नहीं खोल रहा था, और कौन है यहाँ तेरे साथ?इस तरह मैंने चार-पांच सवाल एक साथ कर दिये.

लेकिन उसके होंठ मैंने अपने होंठों से बंद करके रखा था, इसलिये उसके चिल्लाने की आवाज मुँह में ही दब गई. अब मैंने उसकी कमर पर दोनों तरफ़ हाथ रखे और ऊपर करते हुए कमीज़ और ब्रा दोनों एक साथ निकाल दिए.

फिर धीरे धीरे उसे सहलाने शुरू हुआ, तो मेरी पत्नी ने बिस्तर की चादर को कचोटना शुरू कर दिया.

फिर उसने एक डीवीडी पर लेस्बियन पिक्चर चला दी और बोली- अच्छी तरह से देख लो, हमें यही सब करना है. लंड बुर की चुदाई सेक्सी बीएफइस तरह की बातों से जब वो गर्म हो जाती तो कहती कि मुझे चुदवाने का मन कर रहा है. सेक्सी बीएफ कुमारी लड़की काजबकि वैगानार में आराम से ड्राइवर को छोड़कर सिर्फ तीन पीछे और एक आगे, कुल 4 ही बैठ सकते थे. मैं एक भारतीय हूँ, इंग्लैण्ड में अपनी पत्नी संग रहता हूँ, एक संस्थान में शिक्षक हूँ.

मेरी चूत का पानी नमकीन था और मेरी मौसी का लड़का मेरी चूत को चाट कर मजा लिए जा रहा था.

मैं समझ चुका था कि सविता मेरी और नीरू की चुदाई देखकर गर्म हो चुकी है. यह कहते हुए वो बहुत जोर जोर से मेरी गांड में पीछे से धक्का मारने लगा. थोड़ी देर बाद मुझे लगा कि पूजा के सारे बदन में कम्पकपी सी होने लगी है.

वो झड़ कर मुझसे लिपट गया और साथ ही हांफने लगा, दो-तीन मिनट वो मुझसे लिपटा रहा, फिर बोला- इसको चोदने में बहुत मजा आया … गजब की लड़की मिल गई यार … क्या किस्मत थी हम दोनों की. आज उसने हरे रंग की साड़ी पहनी थी, जिसमें उसकी चुचियां बहुत ही बड़ी लग रही थीं. इधर मैंने उसकी चूत में लंड का प्रवेश कर दिया और लगा धमाधम धक्के लगाने.

सनी लियोन की सेक्सी वीडियो सनी लियोन की

तो मैंने जैसे इंटरनेट शुरू किया और उसकी हिस्ट्री चैक की, तो उसमें सब सेक्स से रिलेटेड साईट दिखाई दीं. थोड़ी देर के बाद पूजा मेरे सामने सिर्फ़ अपने लाल रंग की ब्रा और लाल रंग की पेंटी पहने खड़ी थी. उसी शाम को शायना भाभी ने कहा- आज कोई नहीं है, तो बाहर से खाना लाते हैं.

अंत में सबके लंड पर लगे केक को पूरी तरह चाट-चाट कर साफ़ करने के बाद अपनी माँ की चूत पर लगे केक को भी चाट-चाट कर खाकर ख़त्म किया.

मैंने रिया भाभी की गांड काफी देर तक मारी और मयूरी भाभी के दूध चूसे.

इतने में मैंने देखा कि एकता भाभी ने अपनी गांड उठा कर मुझे आंख मारी और मैं मुस्कुरा दिया. पहले तो वो थोड़ा हैरान रह गयी, फिर खुद को संभालते हुए वो भी मेरा साथ देने लगी. देवर भाभी का बीएफ वीडियो सेक्सीलेकिन मेरी प्यारी बीवी के होंठों पर हल्की सी दर्द मिश्रित मुस्कान थी.

दोस्तो इस दौरान उनकी चूत की चुदाई चल ही रही थी … थोड़ी देर बाद उनका शरीर ऐंठने लगा और वो झड़ गईं. मेरी सफ़ेद परी अपनी तपती हुई चूत को अपने हाथों से मसल रही थी, अपनी लम्बी उँगलियों से कुरेद रही थी. अब भाभी आसमानी रंग की पेंटी और उसी रंग की ब्रा में बहुत सेक्सी लग रही थीं.

अगले दिन एक तो इतवार की छुट्टी थी और दूसरा नेहा व प्रिया के कारण मैं रात भर ठीक से सोया भी नहीं था, इसलिए अगले दिन मैं काफी देर तक सोता रहा‌. उसकी बातों से मेरे अन्दर हिम्मत जगी और थोड़ा सोचने के बाद मैंने हां कर दिया.

मैंने पास रखी पानी की बॉटल से उस पर थोड़ा पानी डाला, तो वो होश में आई और रोने लगी.

मैं- चाची अब मैं झड़ने वाला हूँ … जल्दी बोलो, क्या करूँ?चाची- मेरी गांड के अन्दर ही रस झाड़ना. पता नहीं मैं कितनी देर सोया, लेकिन जैसे ही लगा कि शायद मॉम डैड आ गए हैं, तो मैं बहन से थोड़ा दूर होकर सो गया. क्या तेरी बहन तेरी इन बातों के बारे में जानती है?मैंने हंसते हुए बोला- भाभी ऐसी कोई बात नहीं है.

बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी ब्लू फिल्म पर मुझे ज़रूरत थी किसी मूसल लंड की, जो मेरी फुद्दी की प्यास को अच्छे से बुझा सके. कितनों की चूत चोदेगा तू?मैं- बस एक बड़ी चाची की चूत मिल जाए!इसी तरह मैं बड़ी चाची के बारे में बातें करते हुए छोटी चाची को ताबड़तोड़ चोद रहा था.

तो चाची ने कहा- आज मैं तुझे जाने नहीं दूँगी, अब बहुत देर हो गयी है, कल सुबह चाचा की रोटी लेकर चले जाना. वैसे तू मुझे गलत मत समझना, मैं सच बोलूं तो मुझे भी गांड मारना ही पसंद है यहाँ तक की मैं लड़कों की गांड भी पैसे देकर मारता हूं. जिसे उस मॉल के दो युवकों ने समझ लिया था और उन दोनों ने मुझे शीशे में उतार लिया था.

बंगाली सेक्सी वीडियोxxx

मुझे फंसवाएगा क्या?उसने कहा- आपका सारा बकाया माफ़… बस एक बार मुझे नेहा मेमसाब के दूध पीना है और उसे चोदना है. मैंने भी उनके होंठों को होंठों में डाल जवाबी वार किया और उनसे लिपट कर उनके होंठ चूसने लगी. मैं डैड की बात भी नहीं टाल सकता था क्योंकि भाभी इस हालत में नहीं थीं और अगर वे जाने की बात करतीं, तो डैड को अच्छा नहीं लगता.

फिर मयूरी भाभी ने रिया भाभी की गांड में तेल लगाते हुए अन्दर गांड में उंगली भी कर दी. मैं तो पूरी गर्म होने ही वाली थी लेकिन उसने बीच में ही सारा मज़ा खराब कर दिया.

मैं भी ढीठ हो गया था, इसलिए मैं अब फिर से फिसलता हुआ उनकी चुत के पास आ गया‌ और आऊं भी क्यों ना? उनकी चुत की उस मादक महक और स्वाद ने मुझे दीवाना जो बना दिया था.

मैंने श्यामा से मज़ाक में कहा- यह क्या हो रहा है… जगेश तो तेरा कज़िन भाई है ना. मैंने बेख़ौफ़ होकर आंटी की चूत को जोरों से चाटना शुरू किया, मैं पूरी ताक़त से अपनी जीभ चूत के अन्दर बाहर करने लगा और नीता आंटी सिसकारियां भरने लगीं ‘अहह आआ आअह्ह उम्म्ह… अहह… हय… याह… आअम्म्म्म ओह्ह्ह ओह शशीई … कम ऑन!अब मैं पूरी ताक़त से आंटी की चुत को चूसे जा रहा था, मुझे वो बहुत ही मस्त लग रही थी. गाड़ी लगभग एक किलोमीटर आगे बढ़ी, तभी वहां पर दो लोग खड़े थे, कार रोक दी गई.

स्तनों को लगातार ढका रखने के कारण वे कुछ ज्यादा ही गोरे हैं और उसकी चूचियो के निप्पल सुनहरे रंग के हैं, जिसको देखते ही काटने को मन करता है. आज हमेशा की तरह स्त्री मर्द के यौवनांगों के मैथुन घर्षण मात्र से कोई काम नहीं चलने वाला था. अब तक मैंने आपका मसाजर स्टाफ से तो परिचय नहीं कराया था, अब जान लीजिएगा.

ऐसे ही सिगरेट पीते हुए हम सभी लेटे लेटे गन्दी बातें करते रहे और इसी बीच मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

बीएफ सेक्सी वीडियो जंगल में: मुझे उम्मीद है कि आपको इस हसीन तरीन पूजा के संग समय काटने के साथ साथ उसकी रंगीन जवान चूत चुदाई की कहानी भी मजा दे रही होगी. उसने अपनी साड़ी ठीक की और मुझसे बोली कि बुक्स पढ़ने का नाटक करो, ताकि किसी को शक ना हो.

कामवासना के चलते मैंने एक बार वहां भी भाभी की चुदाई की, फिर बाहर आकर उन्होंने अपना गाउन पहना और मेरे लिए चाय बनाई. ’ करती हुई माइक के लिंग को और भीतर लेने का प्रयास करते हुए पानी छोड़ने लगी. मैं भी थोड़ा घबरा गया और उठ कर उनकी पीठ को हल्के हाथ से सहलाने लगा.

मैं काफी समय से सोच रहा था कि अपनी कहानी अन्तर्वासना के माध्यम से लिख कर आप सभी से साझा करूँ, लेकिन नहीं लिख पाया.

शायद सुलेखा भाभी को मालूम नहीं था कि ऐसा करने से मैं उनकी प्यास को और भी भड़का दूँगा. फिर वो मेरी तरफ देख कर हल्के से मुस्कुराई, मैंने भी मौके फ़ायदा उठाते हुए अपने होंठ उनके होंठों पर रख दिये. वे इतनी मुलायम थी कि मैंने उसे कस के पकड़ लिया और उस पर अपने दांत से काट लिया.