सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी पिक्चर

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ वीडियो इंग्लिश सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सिंपल हाउस: सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी पिक्चर, फिर मैंने धीरे से लंड पर दबाव दिया और मेरा लंड पक् … करके मेरी मां की चूत के अंदर चला गया.

बीएफ फिल्म हिंदी नंगी

पहली बार किसी लड़की से ये सोच कर घुलने मिलने का प्रयास किया था कि अगर पट गई तब मजे लूंगा. एक्स एक्स एक्स बीएफ मिया खलीफामुझे ज़रा भी भनक नहीं थी कि मेरी सखी मेरी देसी इंडियन चुदाई कहानी की तैयारी कर रही है.

जैसे ही मैं आया, तो दीदी कहने लगीं- कब तक हाथ से काम चलाएगा?तो मैंने कहा- क्या करूं मेरी कोई जीएफ ही नहीं है. देसी कुमारी बीएफमगर जब वो रोज रोज पीछे की मांगने लगे, तो मैंने तरस ख़ाकर गांड मारने की इजाजत भी दे दी.

इसलिए मैंने लिंग बाहर निकाला, कॉन्डम को हटाया और उसको बैठा दिया और लंड चूसने को कहा.सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी पिक्चर: ये देख कर मैंने भी मन में ठान लिया था कि इस काम की शुरुआत सुबह ही की जाए.

वो हंसकर बोला- भाभी, आज पानी की नहीं बल्कि किसी और ही चीज की प्यास लगी हुई है.थोड़ी देर बाद जब मुझे होश आया, तो मैंने सुनयना भाभी की ओर देखा, उनके चेहरे पर भी एक सुकून सा दिख रहा था.

बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़कियों का - सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी पिक्चर

एक हाथ में मैंने टॉर्च ली और दूसरे हाथ से उसकी चूत की फांकों को खोल कर देखने लगा.बहन की चूत की कहानी में पढ़ें कि बहन को नंगी देखने के बाद मैंने उसकी चूत में उंगली भी की.

फिर मैं अंजू को उसके रूम पर छोड़कर जम्मू चला गया। जब मैं जम्मू से वापस आया तब उसके पास गया. सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी पिक्चर मैंने अपनी चुटकी में सिंदूर लिया, तो उसने मुझे रोक दिया और बोली- अपने लंड से सिंदूर लगाओ.

चाची जब भी कहीं बाहर जाती थीं, तो वे अपने मुँह पर दुपट्टा बांध लेती थीं.

सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी पिक्चर?

मैंने एक सवाल पूछा- और कितने लोग मेरे वीडियो के बारे में जानते हैं?उसने कहा- कोई नहीं जानता, जिसकी बात तुमने अभी सुनी थी वो मेरा पर्सनल सेक्रेटरी है, उसके साथ मैं दारू पीता हूं, इसलिए गलती से उसके सामने मुंह से निकल गया था. फिर वो अपना हाथ मेरी चड्डी में आगे से अन्दर ले गईं और मेरा लंड हिलाने लगीं. मैंने बहार को बेड पर सीधा लेटाया और उसकी बुर के ऊपर लंड का टोपा रखा और एक जोरदार धक्का मारा.

उन्होंने मुझे रोक लिया और बोले- यार विशु, हमारे साथ क्रिकेट खेल ले. फिर मैं अंजू को उसके रूम पर छोड़कर जम्मू चला गया। जब मैं जम्मू से वापस आया तब उसके पास गया. जैसे ही चूत में अंदर टॉर्च पड़ी तो अंदर से मॉम की लाल लाल चूत मुझे दिखने लगी.

मैंने कहा- क्या हुआ मां?वो बोली- लगता है किसी कीड़े ने काट लिया मुझे प्राइवेट पार्ट पर!मैंने तुरंत बैग से अपना छोटा फोन निकाला और उसकी टॉर्च जलाकर मॉम की चूत पर मारने लगा. मेरी सेक्सी सिस्टर की चुदाई कहानी के पहले भागछोटी बहन की चुदाई की चाह- 1में अब तक आपने पढ़ा कि मेरे पास विजय नाम के एक पाठक ने अपनी बहन की चुदाई की कहानी लिख कर भेजी थी, जिसमें उसने अपनी बहन के लोअर को उतार दिया था और उसकी चुत में हाथ फेरने लगा था. उससे नजर मिलते ही मेरा कलेजा धक से हुआ, और वो भी उठकर अन्दर भाग गई.

अब फराह और मैं अक्सर कोई न कोई तरकीब लगा कर एक दूसरे से मिलने का मौका निकाल लेते थे. मैंने फोटो देखा तो पता चला उस फोटो में वो आधी नंगी थी और मुझे अपने बूब्स दिखा रही थी.

उसने नीचे से फिर से एक धक्का दे दिया और इस बार उसका समूचा लंड मेरी चुत में बच्चेदानी तक घुसता चला गया.

फिर मैं क्यों दूसरों के बारे में सोचूं?मैं उसके अकेलेपन को समझ रहा था.

मैडम की चूत में लंड डाल कर उन्हें चोदते हुए उनकी गांड को उंगलियों से भी चोद रहा था. मैं पहले से अनाथ हूँ, लेकिन आज मेरे पास सुंदर बीवी है और पारिज़ा के अब्बू बशीर भी हमारे साथ ही रहते हैं. मम्मी ने सारा काम खत्म किया और नहाने के लिए कपड़े निकाल कर बेड पर रख दिए.

मैं भी उनके शरीर पर पेशाब करने लगा और थोड़ा मूत उनके मुँह में भी डाल दिया. सेक्सी औरत की चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि कैसे बड़ी उम्र की एक लेडी ने मुझे एक महीने के लिए बुलाया अपनी अन्तर्वासना को शांत करवाने के लिए. आज तुम मुझसे जितने पैसे मेरी चुदाई के बदले माँगोगे मैं तुम्हें दूंगी मगर तुम आ जाओ.

उस वक़्त रात के 12 बज रहे थे, पर उसका शौहर सोने का नाम नहीं ले रहा था.

मैं हंसते हुए बोला- अब इसमें मेरा क्या कसूर … जब अंकल को तुम्हारी चुत इतनी पंसद आई है … तो मेरा क्या?पारिज़ा- शटअप. मैंने उंगली को उसकी चूत में घुसा दिया और उंगली से ही चूत पेलने लगा. कुछ ही झटके में मेरा सारा माल उसके मुँह में निकल गया और वो रांड सब पी गयी.

बारिश बहुत तेज़ चल रही थी और हम लोगों को ठंड भी लग रही थी, तो मैंने भाभी को गले से लगा लिया. जब उसे कुछ आराम मिला तो उसके बोलने पर मैं धक्के लगाने लगा। उसे शुरू में चुदवाने में दर्द होता रहा मगर पांच मिनट के बाद वो अब सिसकारते हुए चुदने लगी थी. पता नहीं मेरे मन में क्या आया कि मैं मां के सामने ही अपने लंड को हाथ में लेकर हिलाने लगा.

मैरिड वुमन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी पड़ोसन भाभी ने मुझे मुठ मारते देख लिया.

मैंने भी पहले उसे रोने दिया, जब वो थोड़ी ठीक हुई, तो मैंने पूछा- आखिर बात क्या है बेटी तुम क्यों रो रही हो?वो बोली- पापा मैं तो आज भी लंड को तरसती ही हूँ. अपनी कास्टिंग काउच सेक्स स्टोरी के पहले भागमैं हिरोइन बन गयी- 1में मैंने आपको बताया था कि एक पार्टी में मेरे पति को छत्तीसगढ़ी फिल्म डायरेक्टर योगेश दास मिले और मुझे फिल्म का ऑफर दिया.

सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी पिक्चर दिखने में मैं बिल्कुल फिट हूँ। अपने शरीर का काफी ध्यान रखता हूं और हल्की फुल्की कसरत भी कर लेता हूं. मगर मैं अरुण को कहूं कि गांड में अंदर मुंह देकर खा ले तो ये उसको खा भी लेगा.

सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी पिक्चर देखते ही देखते थोड़ी देर बाद वह अपने पिछवाड़े को उचकाने लगी।इस तरह से अब रवीना को भी मेरे लंड से चुदने में मजा आने लगा और उसका दर्द जैसे गायब सा हो गया था. लेकिन उसने मुझे पकड़ लिया और बोला- मुझे अच्छा लग रहा है प्लीज़ करती रहो.

अंजू कुछ कपड़ा अपने शरीर को ढकने के लिए देख रही थी तब तक मैं सिर्फ़ अंडरवियर में रह गया था.

फुल सेक्सी

कुछ देर की चुदाई के बाद हम दोनों का पानी निकल गया और हम इतने थक गए कि ऐसे ही नंगे एक दूसरे की बांहों में सो गए. रिया- हां किया है मैंने किस।मैं- किसके साथ?रिया- बस सच बता दिया इतना काफी है. जब मैंने दरवाजा भीतर से बंद करना चाहा तो देखा कि अन्दर से बंद करने का तो कोई इंतजाम ही नहीं था वो शायद इसलिए कि इस कमरे को भीतर से बंद करने की जरूरत ही नहीं समझी गयी होगी.

मैंने उसका हाथ पकड़ कर सोफे पर बैठाते हुए कहा- तो चलिए आज इस दिन को और भी हसीन बना देते हैं. सुबह तक मैं मौसी के जिस्म से खेलता रहा और वो मेरे लंड से खेलती रही. इतने में ही उसने मुझे जोर से भींच दिया और अपना लंड एकदम से कसकर मेरी चूत में ठोक दिया.

उसका हाथ सहलाते हुए मैंने पूछा- तुम दोनों बच्चा नहीं चाहते या कोई प्रॉब्लम है? शादी को दो साल हो गए हैं।वो बोली- आकाश में प्रॉब्लम है, दवा चल रही है.

फिर मेरे पति देव ने भी हां में हां मिला दी और तीसरा पैग भी रेडी कर दिया. कुछ ही देर में मेरे लंड में दर्द होने लगा था लेकिन मैं कुछ नहीं कर सकता था उस समय. उसके बाद पारिज़ा ने घुटनों के बल बैठे ही मेरे लंड को मुँह में ले लिया और लंड चूसने लगी.

मैं मन ही मन सोच रहा था कि अब इनको कौन बताए कि मुझे तो संजू की चूत खानी है … और उसके दूध चूसने हैं. मनोज ने अभी तक अपनी धर्मपत्नी के दर्शन चेहरे से नीचे किये ही नहीं थे, केवल उसकी शारीरिक बनावट से ही अवगत था. जल्दी ही मेरी अगली सेक्स कहानी आएगी, जिसमें आपको मैं आगे की चुदाई का मजा सुनाऊंगा.

अब मम्मी मेरे सामने केवल लाल ब्रा और लाल पैंटी में खड़ी थीं, जिसे देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया. खाना खाते समय मेरी नज़र उनके बूब्स पर टिकी हुई थी, जो कि कयामत लग रहे थे.

सविता- सच में इतना बड़ा है तेरे पति का … बाप रे, तेरी तो ताबड़तोड़ चुदाई होती होगी. अब भी वो मेरा विरोध कर रही थी।मैंने अंजू की एक न सुनी और उसके नंगे बदन पर टूट पड़ा। अंजू का वज़न भी 50 किलोग्राम ही था और मेरा 78 किलोग्राम था. मां उठी और अपने नंगे जिस्म को अपने हाथों से छिपाने की नाकाम कोशिश करने लगी.

(अब मैं रंडियों की तरह बात कर रही थी)आदमी- ठीक है 35000 में पक्का।फिर मैं बोली- अब तो तुम्हें जो करना है कर लो और जितनी बार करना है उतनी बार कर लो.

मैंने कहा- तुम चिंता मत करो, मैं तुम्हें वैसे ही मजा दूंगा मेरी जान, जैसे तुम चाहती हो. वो मना करने लगी मगर मैंने जबरन वो नोट उसके हाथ में रख दिया और तेज़ तेज़ चलता हुआ बाहर की ओर चल दिया।उस दिन के बाद से हमें जब भी मौका मिलता हम सेक्स का मजा लेते। अब वो भी मेरे लंड की आदी हो गयी थी. फिर मैं दरवाजे पर खड़ी होकर देखने लगी तो तुम्हारा लंड रेशमा की चूत में था.

एक दिन उसने मुझसे मिलने के लिए बोला तो हम दोनों ने 25 दिसंबर को मिलने का तय किया. मिकी ने सुस्ती में उठ कर अपने कपड़े समेटे और पहन कर उसके साथ चल दी.

भाभी भी मस्ती में इतनी सराबोर हो गई कि वो मेरा सारा बीज पी गई और चाट चाट कर ही मेरा लंड साफ किया. सीमा जी के काले और मोटे भोसड़े को चोदने के बाद हम दोनों सुस्ताने लगे थे. बस अब मैं समझ गया था कि शुरुआत मुझे करनी पड़ेगी क्योंकि मैं समझ गया था कि चाची विधवा हैं, शायद इसीलिए शर्मा रही हैं.

सेक्सी वीडियो फुल फुल एचडी

चाची एकदम मचली जा रही थीं, बार बार मेरा लंड पकड़ रही थीं, अपनी चूत मेरे लंड से सटा दे रही थीं.

मेरे दोस्त की अम्मी की चुत का रस मेरे पूरे मुँह पर लगा पड़ा था और मेरी आंखें वासना से लाल हो गई थीं. आप जब पूरी कहानी पढ़ेंगे, आपका लंड खड़ा हो जाएगा … और चुत वालियों अपनी चुत में उंगली करने लगेंगी. पर मैंने उसकी एक नहीं सुनी और उसको घोड़ी बना कर पीछे से उसकी चूत को चोदने लगा.

देसी चुत स्टोरीज में पढ़ें कि कुंवारी कमसिन लड़की के मन में भी सेक्स को लेकर काफी उत्तेजना थी. जब मुझे लगा कि उसने मुझे नहीं देखा, तो मैंने घड़ी में देखा और वो टाइम नोट करके मैं अपने फ्लैट में चला गया. देहाती देसी बीएफ हिंदीऐसा कभी कभार ही होता है कि हम किसी से मिलें और पहली बार में ही सेक्स हो जाये.

वो ब्लाउज के अन्दर हाथ डालकर मेरे चूचों पर रंग लगाने लगा और चूचियों को रंग लगाने के बहाने जोर से दबाने भी लगा. उस बस में मुझे सीट भी आगे वाली मिली, जहां पहले से एक मैडम बैठी थीं, जो हिसार ही जा रही थीं.

मैंने भाभी से उनकी सेक्सी गांड का राज़ पूछा तो वो बोली- इसको भी वो बहुत पेलते थे. फिर मैंने बोतल एक तरफ रखी और दोनों हाथों से उसकी कमर को पकड़ कर पूरी ताकत से एक झटका लगा दिया. मैंने एक ही झटके में मकान मालकिन की चूत में अपना पूरा लंड गहराई तक घुसेड़ दिया.

मेरा एक एक धक्का उसकी चूत को चीरता हुआ उसके पेट तक जा रहा था और मुझे महसूस हो रहा था कि जैसे मेरा शिश्न अन्दर किसी और चीज से रगड़ रहा हो. क्या तुम मुझसे शादी करोगी?वो बोली- हां भैया, यही तो मैं भी कह रही हूँ. रोहन ने फिर से धक्का मारा और अपना पूरा लंड मेरी गांड के अन्दर पेल दिया.

मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया, तो मैंने कहा- अब एक बार लंड चूस लीजिए.

फिर वो मेरे मम्मों को चूसते हुए बोले कि टीना मैं तुम्हें पाने के लिए न जाने कब से तड़प रहा था. जब वो बाहरवीं पास करने वाली थी तो उसको एक लड़के ने प्रपोज भी कर दिया था.

मैं अपनी चूत उछाल उछाल कर संघर्ष करते हुए उनके लंड से जबरदस्त लोहा लेने लगी थी. करीब 30 मिनट तक उसकी चूत को चाटने के बाद उसका पानी निकल गया, जिसे मैं लगभग पूरा ही पी गया. मुखिया- अरे ओ गीता, जरा यहां तो आ … इतनी जल्दी में कहां भागी जा रही है?गीता- वो मैं बापू को खाना देने जा रही हूँ काका.

सुबह जब मैं घर आ रहा था, तो ज्योति मैडम ने मुझे कुछ इनाम देना चाहा, लेकिन मैंने मना कर दिया. इसलिए जैसे ही मैं खड़ा हुआ और चलने लगा, तो मेरा पैर फिसल गया और मैं उसकी बांहों में जा गिरा. मुझे धक्का लगा कि इस दूसरे आदमी को वीडियो के बारे में कैसे पता है!मैंने कहा- आप मुझे ब्लैकमेल कर रहे हैं?योगेश जी बोले- ब्लैकमेल नहीं कर रहा हूं.

सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी पिक्चर तो दोस्तो, इस प्रकार मैंने प्रिया की चूत में अपना लन्ड घुसाया। उस रात मैं प्रिया की चूत को अच्छी तरह से चोद तो नहीं पाया लेकिन उसकी चूत में लगे वो कुछ धक्के ही मुझे संतुष्ट कर गये. मुझे मज़ा नहीं आया इसलिए मैंने एक ज़ोर का झटका मारा तो भाभी एकदम सिहर उठी और आंसू भी आ गए.

इंदिरा गांधी सेक्स

टॉर्च की रोशनी में पूजा के दमकते चेहरे से मनोज की नजर हट ही नहीं रही थी. मैंने उसकी तरफ देखा और उससे आंखों के इशारे से ही पूछा कि मूड है?उसने हंस कर मुझे आंख मार दी. वो पूरा लंड बाहर निकालती, फिर अन्दर तक भर लेती … आह क्या मस्त लंड चूस रही थी.

महक के दोनों पैर मैंने अलग कर दिए और उसकी मस्त मखमली चूत पर अपने होंठ रख दिए. उसी समय काम करते हुए मेरी नजर पारिज़ा की मस्त गांड पर पड़ गई और मेरे अन्दर का शैतान जाग उठा. की लड़की के बीएफअक्सर इतनी ज्यादा पी लेते थे कि मुझे ही उनको उनके बिस्तर पर ले जाना पड़ता था.

उसके चूतड़ मेरी चूचियों पर टिके थे और उसका लंड मेरी ठोड़ी के पास था.

मैं- तुम चाहो, तो मैं तुम्हारी हेल्प कर सकती हूं … क्योंकि एक तुम ही हो, जो इस टूर पर मेरा साथ देने वाले हो. पार्टी के दूसरे दिन जब मैं ऑफिस पहुंचा तो देखा रोज़ी नाइट सूट में अपने गेट पर खड़ी थी.

मैंने कहा- यार जरा कॉफ़ी पीने का मन हो रहा है, पहले कॉफ़ी पी लें?वो बोली- हां चलो, इधर एक अच्छी कॉफ़ी शॉप है. मेरी कोशिश कितनी सफल रही?हैलो फ्रेंड्स, मैं विवेक जोशी एक बार फिर से आपको अपनी भाभी सुनयना की चुदाई की कहानी सुनाने हाजिर हूँ. लेकिन ऐसे बिना दरवाजा बंद किये मैंने खुल के खेल भी तो नहीं सकती थी पर मुझ पर वासना हावी थी सो मैंने कोठरी का बल्ब निकाल कर एक तरफ रख दिया जिससे अंधेरा हो गया.

अब अंजू सिसकारी में मेरा नाम भी बुलाने लगी थी- हाय … सुमित … ऊई … सुमित … आह सुमित … आह्ह।मैंने अंजू से कहा- कोई बाहर सुन लेगा आवाज़ मत कर।अंजू ने हाँ में सर हिलाया। अब उसके संतरे जितने मेरे मुँह में आ रहे थे उतने मुँह में लेकर मैं उनको अपनी तरफ़ खींच रहा था। बिल्कुल नर्म संतरे थे, बहुत रसीले, बहुत मज़ा आ रहा था.

मेरा बेटे अपनी अम्मी की शक्ल पर है तो किसी को कोई शक भी नहीं होता कि वो अपनी अम्मी के शौहर की औलाद नहीं है. कुछ देर मिशनरी पोजीशन में चोदने के बाद मैंने लंड उसकी चूत में दिए हुए ही उसे उठा कर अपनी गोद में बिठा लिया और उसे झटके देने लगा. कोई दस मिनट की मस्त चुसाई के बाद मुखिया ने सुमन को घोड़ी बना लिया और मज़े से उसको चोदने लगा.

बीएफ चूत कामैंने महक को गुलाब से लेकर चॉकलेट तक सब कुछ दिया और वैलेंटाइन के दिन मैं एक प्यारा सा गुलाब और एक गिफ्ट लेकर उसके पास गया. हम दोनों एक दूसरे के जिस्मों से खेल रहे थे कि बीच में अंगिका की बेस्ट फ्रेंड का कॉल आ गया.

सेक्सी वीडियो हिंदी एचडी फिल्म

मैंने धीरे से उनको दोनों हाथों में लेकर देखा तो काफी वजनदार माल था. ‘महक … महक … तू ठीक तो है ना?’इस आवाज से मेरा ध्यान टूटा, जो उस हुस्न परी के सीने पर नजरों में गड़ा हुआ था. मगर हम दोनों की आंखों में एकवासना की प्यासथी, जो कभी भी एक सेक्स स्टोरी बन सकती है.

पैकेट को मुंह से फाड़कर कॉन्डम को खोला और मेरे डंडे जैसे सख्त लंड पर पहना दिया. मैंने उससे कहा- मुझे ऑफिस का कुछ काम है इसलिए मैं कंप्यूटर रूम में जा रहा हूं. एक जो चौथा बच गया था वो मेरी पहरेदारी करने लगा ताकि मैं वहां से भाग न जाऊं.

फिर उसने मेरी योनि पूरी तरह से चौड़ी कर के खोल ली और भीतर झाँकने लगी. मैंने कॉल अटेंड की तो भैया ने पूछा- विशु तू अभी कहाँ है?मैंने कहा- भैया मैं अपने घर पर हूँ. मैंने पूछा- क्या बात करनी है आपको?सुरजीत सर ने कुछ देर तक मुझे देखा, फिर मेरे कम्बल को एक झटके में फेंक दिया.

फिर वो भी चुपके से रूम के अंदर आ गई और वो हमारी चुदाई कमरे के अंदर से देखने लगी. उन्होंने आगे कहा- ये तो बहुत अच्छी बात है, क्योंकि हम लोग कॉन्डम इस्तेमाल नहीं करते.

वो उफ्फ … उफ्फ … करके दर्द भरी सिसकारी लेती रही मगर मैं उसको सहलाता रहा.

मैं अपना एक हाथ धीरे धीरे सुनयना भाभी के ब्लाउज के ऊपर ले गया और उनके मोटे और नरम बूब्स को दबाने लगा. ब्लूटूथ पे बीएफउनकी चुत एकदम गर्म थी और टाइट भी बहुत थी, जिसके कारण लंड में एक अजीब सी जलन हो रही थी. एक्स एक्स डब्ल्यू डब्ल्यू बीएफफिर मुश्किल से दिन काटा और फिर उसके लिए केक काटने का वक्त भी आ गया. मेरी शादी तो बहुत पहले हो गई थी मगर उम्र कम थी, तो लुगाई नहीं लेकर आए थे.

इस बार वह बेहोश हो गई। मैंने टेबल पर रखा पानी उसके चेहरे पर मारा तो उसे होश आया और तेज दर्द के कारण वह फिर से रोने लगी.

आधे घन्टे बाद अपनी बीवी को मेरे कमरे में पहुंचा देना और सुबह आठ बजे आकर उसे ले जाना. भर दे इसको अपने माल से मेरे लाल।फिर मैंने मां की गांड को थाम लिया और जोर जोर से नीचे से धक्के लगाने लगा. सुरेश- आपके हालत ठीक नहीं है, तो आप कैसे घर को चला पाती हो?सुलक्खी- बाबूजी अब क्या बताऊं, बस मर मरके जी रहे हैं.

हालांकि चुत की सील टूटने से दर्द भी हुआ था, पर जो वो अपनी सहेलियों से सुनती आई थी, वैसा उसके साथ कुछ नहीं हुआ था. मुझे उसने अपना कार्ड दिया और कहा- जब कभी चुदने का मन करे तो एक फोन कर देना. सुरेश- अरे क्या बताऊं यार, काफ़ी टाइम बाद दवाखाना खुला, तो आज काफ़ी भीड़ थी.

इंडियन सेक्स डॉट कॉम वीडियो

मैं- चाची कहां हैं?सुनयना भाभी- वो खाना खाकर अपने रूम में सो गईं, तुम सीधा ऊपर मेरे रूम में आ जाओ. मैंने कहा- भाई साहब, खाली मिठाई से काम नहीं चलने वाला है, बिटिया इतना अच्छा मार्क्स लाई है, पार्टी तो बनता ही है।मेरे साथ मेरे दूसरे साथी भी हां में हां मिलाने लगे. आपने अभी तक पिछले भागएक्स-गर्लफ्रेंड के साथ दोबारा सेक्स सम्बन्ध- 3में प्रिया के मुंह से सुना कि कैसे उसने अपने बॉयफ्रेंड से चुदवाने के बाद मुझे तड़पाया.

मुखिया- साली रंडी क्या हुआ … कपड़े क्यों पहन रही है?सन्नो- बस मुखिया जी … बहुत थका दिया आपने.

वो मेरे स्तनों को चूसने लगा और मेरी पानी पानी हो रही योनि में उंगली से कुरेदने लगा.

फिर उसने मेरी कमर में हाथ डाल दिया और सहलाते हुए बोला- आप परेशान मत होइये. अभी मेरी शादी नहीं हुई है तो आप समझ सकते हैं कि अभी मैं लण्ड का इस्तेमाल हाथ से ज्यादा करता हूं. एक्स वीडियो बीएफ सनी लियोनमुझे इसके जरिये यहां पर घर भी मिल जाएगा और प्रमाण पत्र मिलने में कोई दिक्कत नहीं होगी.

राज- अच्छा … मतलब सारे रुपए अपने आप पर ही ख़र्च करोगी?मैं- अरे नहीं … तू भी चलना साथ … वैसे भी तू ही तो मेरा यहां एक सहारा है. उन्होंने गहरे गले का सूट पहना था, तो उनके झूलते हुए गोल गोल आकार के मम्मे मेरी आंखों के सामने खटकने लगे थे. चूंकि मैं अपने घर में अकेली रहती थी तो मिनल भी मेरे साथ ही रहने लगी.

मैं आपको ये बताना तो भूल गया कि सिर्फ मेरी पड़ोसन भाभी को पता था कि मैं क्या काम करता हूं, बाकी सभी समझते थे कि मैं किसी ऑफिस में काम करता हूँ. तभी सुरेश को लगा कोई आ रहा है, तो उसने कहा- ठीक है, तुम जल्दी से कपड़े पहनो … बाकी का चैकअप बाद में करूंगा.

उसकी गर्म सांसें मुझे मेरे होंठों पर लगने लगीं और देखते ही देखते उसके होंठ मेरे होंठों पर आ टिके.

मम्मी मुझे अंडरवियर में देख कर चौंक गईं और बोलीं- ये सब क्या है अनीस!मम्मी ने इस वक्त अपना साया अपनी चूचियों के ऊपर बांधा हुआ था. वो सूजी हुई थी … और किसी समझदार इंसान के लिए ये समझना मुश्किल नहीं था कि ये बुरी तरह से चुदाई करवा कर आई है. धीरे धीरे उसके गालों से गर्दन पर होते हुए मेरे हाथ उसकी चूचियों पर पहुंच गये.

बुर्ज खलीफा का बीएफ सविता कमरे में नंगी खड़ी एक किनारे खड़ी होकर हम दोनों की चुदाई को देख रही थी. तू अब दूर हो जा मेरे से।मगर मैंने भी सोच रखा था कि अडल्ट वाला प्यार करना ही है.

नमस्कार दोस्तो, कैसे हो आप सभी! आप सभी के ईमेल पढ़ कर बहुत खुशी हुई कि आप सभी को भाई बहिन सेक्स की कहानीछोटी बहन की गांड चुदाईपसंद आई. उस समय भाभी की चूचियां दरवाजे के सामने थीं, जो मुझे एकदम तनी हुई दिख गई थीं और भाभी ने भी मुझे खुद की तरफ देख लिया था. सुनयना भाभी की चुत लगातार पानी छोड़ रही थी, जिसके कारण रूम में थप थप की आवाज गूंजने लगी थीं.

सपने में किसी को पैसे देना कैसा होता है

आपने कोई अनहोनी अपने साथ की तो रूचि की शादी की खुशियां गम में बदल जायेंगी. मैं हंस दिया और थोड़ी देर ऐसा करने के बाद मुझे लगा कि अब भाभी की गांड लंड लेने के लिए तैयार है, तो मैंने उनकी कमर पकड़कर अपना लौड़ा के गांड के छेद में सैट कर दिया. मैं सिर्फ पेटीकोट में थी और ऊपर सिर्फ वो डोरी वाला अधखुला ब्लाउज था.

मैं उसकी दाहिनी चूची को दाहिने हाथ से भींचते हुए उसकी चूत मारने लगा. मेरे पति के 3 साल पहले देहांत के बाद आज पहली बार मेरे दिल में जज्बात काबू नहीं रहे.

फिर वो घुटनों के बल नीचे बैठ गयी और मेरे लंड को उसने मुंह में भर लिया.

प्रीति से कविता भी मेरे बारे में बातें किया करती थी इसलिए प्रीति से हम दोनों कुछ नहीं छुपाते थे. मेरी अन्तर्वासना उसकी गर्म चूत की चुदाई करके शांत हो गयी और उसकी चूत की भूख भी मिट गयी. नजरें मिलते ही भाभी एकदम से झेंप गईं और उन्होंने जल्दी से आगे बढ़ कर दरवाज़ा बंद कर दिया.

लग रहा था कि उसका जोश पूरे शवाब पर आ गया है और वो किसी भी वक्त खाली हो सकता है. मैं- तो फिर अरुण के साथ तूने क्यों किया?रिया- सॉरी भैया, आज के बाद ऐसी गलती नहीं होगी. देर न करते हुए उसने मेरे समीज को निकाल दिया और मुझे ऊपर से नंगी कर दिया.

फिर मैंने धीरे धीरे से लंड को उसकी गांड में अंदर बाहर करना शुरू किया.

सेक्सी पिक्चर बीएफ हिंदी पिक्चर: वो मेरे करीब आईं और मेरे गाल पर किस करके बोलने लगीं- तुमने सच में अभी तक किसी लड़की के साथ कुछ नहीं किया?मैं- नहीं, सच में नहीं किया. सविता- अरे यार कल मेरा बहुत बुरा हाल हो गया था … इतनी ज्यादा चुदाई हुई थी कि मेरी अभी तक हालत खराब है.

थोड़ी देर उनके मुँह को चोदने के बाद मैं फिर से उनकी चूत को चाटने लगा. अजय बोला- यार उससे बात कर, किसी तरह से उसको मना और बता कि मैं उसको कितना पसंद करता हूं. दरअसल रागिनी की बातों से पता चल रहा था कि वो पति के साथ चुदाई में जरा भी मजा नहीं ले रही है.

खुद ही प्यार प्यार चिल्लाती रहती थी लेकिन अब जब कुछ करने का समय आया तो उसकी गांड फट गयी.

अब हमारे घर जाने का टाइम हो गया था … तो हम दोनों उठ कर नहाए और तैयार होकर घर चल दिए. इतनी जल्दी होने से मुझे बहुत बुरा लगा और मैं उसके ऊपर 2 मिनट पड़ा रहा. उनकी तरफ से कोई भी प्रतिरोध न पाकर मैं उनके मम्मों को भी दबाने लगा.