शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,इंग्लिश सेक्सी इंग्लिश सेक्सी ओपन

तस्वीर का शीर्षक ,

इंग्लिश व्हिडिओ मराठी: शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो बीएफ, ’‘और सुन, जन्मदिन के फंक्शन का मस्त प्रोग्राम बना, मज़ा आना चाहिए’मैं मुस्कुरा दी, शैली को फोन करके बता दिया.

सेक्सी वीडियो 2019 की नई

सोनिया अपनी मम्मी को बोल रही थी- मम्मी मनदीप आया है, वो अन्दर सो रहा है. सेक्सी ओड़िया सेक्सीलंड को रगड़ रगड़ के सहलाते हुए लंड की सफाई होने से मुझे ये लग रहा था कि कहीं मेरा पानी उनके मुँह पर न फिक जाए.

इस चुदाई के दौरान मेरी प्यारी बीवी की चुत ने तीन बार पानी की धार बहा दी थी. पूजा की चुदाई सेक्सीनीतू … आहहहह … क्या मस्त खुशबू आ रही है, कौन सा परफ्यूम लगाती हो?”मैं बोली- कुछ खास नहीं, पर नहाने के बाद डीओ लगती हूँ.

सर्दी थी तो मैंने एक शाल ओढ़ लिया ताकि किसी को पता नहीं चले कि कौन है.शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो बीएफ: अब रूपा बोली- भैया, क्यों ना आप मुझको ही अपनी गर्लफ्रेंड नहीं बना लो.

एक दिन मैंने उसे अकेले में मिलने बुलाया क्योंकि कुछ दिन बाद मुझे काम से बाहर दूसरे शहर जाना था.भाभी बोलीं- ठीक है, तो रात को तेरे भैया घर नहीं आए, तो देखूंगी कि कितना पानी है तेरे में!ये कह कर भाभी ने फोन कट कर दिया.

बलात्कार सेक्सी एचडी वीडियो - शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो बीएफ

मम्मी ने हंस कर उनकी पैन्ट की तरफ देखा और बोलीं- अभी तो आप किसी भी औरत को प्रेग्नेंट कर सकते हो.कुंवारी भाभी की कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा था कि मुझे अपने ऊपर झुका देख कर मेरी इस हरकत का एहसास तो भाभी को भी हो गया था, पर उन्हें कोई आपत्ति नहीं थी, तो मैंने भी मौके का फायदा उठाकर अपना एक हाथ उनके उभरे हुए वक्ष पर रख दिया.

सच कहूँ तो मुझे सलोनी मौसी बहुत अच्छी लगती थीं और मैं अक्सर उनके नाम की मुठ मारा करता था, पर ये बात कभी बंटी को नहीं बताई. शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो बीएफ अपनी देसी गर्लफ्रेंड की Xxx कहानी को आज मैं आपके सामने बयान कर रहा हूं जो कि एकदम सच्ची घटना पर आधारित है.

मैंने उसके बूब्स पर हल्के हल्के होंठ फिराने शुरू किए और उसके निप्पल को दांतों में लेकर काटने लगा.

शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो बीएफ?

मैं यह सब सुन कर बहुत कौतूहल में था कि ना जाने रानी की सुस्सू का स्वाद कैसा होगा … अगर मुझे पसंद न आया तो?गुरू चेला की सेक्स कहानी जारी रहेगी. मैं दरवाजे की आड़ में बैठता था जिससे उन दोनों को मस्ती करने में आसानी होने लगी थी. उसने मेरे गुलाबी निप्पल को उंगली से छुआ और बोला- वाओ ब्यूटी!फिर वो मेरी चुत को चड्डी के ऊपर से सहलाने लगा.

मैं भी ज्यादा देर नहीं टिकने वाला था क्योंकि उसकी चिकनी चूत पहले से ही मेरे लंड को उत्तेजित कर रही थी. उसने मुझे अपनी बांहों में ले लिया और मुझसे बोला कि आज तो घर में कोई नहीं है. उसकी गांड को मैंने कैसे चोदा उसके बारे में मैं अपनी अगली कहानी में बताऊंगा.

मैंने उसे उसी की पेंटी से साफ़ किया और उसे बाथरूम ले गया और उसकी चूत की अच्छे से गरम पानी से सिकाई की. पर सगे भाई बहन एक सेक्स स्टोरी पढ़ कर मुझे लगा कि जब सगे भाई बहन सेक्स कर सकते हैं, तो हम दोनों में तो तब भी दूर वाला बहन भाई का रिश्ता है. मेरे सामने अंजलि अपनी टांगें खोल कर ऐसे पड़ी थी जैसे उसे मेरे लंड का इंतजार हो.

मैं कुछ समझ नहीं पा रहा था कि क्या करूँ, कहाँ से शुरू करूँ?निशा बोली- अब उल्लू की तरह आँखें फाड़ कर देखते रहोगे या मेरे पास भी आओगे?मैंने पूछा- निशा ये रूप कौन सा है. मैंने नितिन की तरफ ग़ुस्से से देखा … मैं बियर लेती थी, पर उसके बॉस के सामने मैं बियर लेने में ऑकवर्ड महसूस कर रही थी और उनकी मिसेज भी नहीं थी.

मैं बोला: यहां दरवाजे पर खड़ा होकर नहीं कर सकता, इंपोर्टेंट बात है.

फिर डॉक्टर ने स्टेथोस्कोप से उसको चैक किया और कहा कि मैं तुम्हें एक दवाई लगा देता हूं.

इस बार जब मैं गांव आया था, तो मुझे पूरे 4 साल बाद गांव आने का मौका मिला था. मैं- फिर से शुरू करें?कल्पना ने कुछ बोला नहीं, सिर्फ सहमति में सर हिलाया. आह्ह … पूजा तेरे चूचे … ओह्ह पूजा नंगी … और ये गया पूजा की चूत में.

ज़रीना और मैं आज रात तुमको छोड़ने वाली नहीं हैं, पर उसका पहली बार है, इसलिए थोड़ा घबरा रही है. लंड बीवी के थूक से काफी चिकना हो गया था, इसलिये मेरा लंड मेरी बीवी के चुत में झट से पूरा अन्दर तक घुस गया. जिन्होंने मेरी पहले की कहानीप्यारी बीवी की गांड चोदकर वीर्य भर दियापढ़ी है, उन सबको मेरे बारे में पता होगा.

मैं अभी अपने ही ख्यालों में खोया ही था कि मुझे बाथरूम में हलचल महसूस हुई तो होल से देखा तो मौसी बाथरूम में रखे छोटे से स्टूल पर बैठ कर नहाने लगीं.

मुझे ऐसे देख और मेरी हरकतें और चरम सुख की प्राप्ति की कामुक आवाज सुन सुखबीर भी खुद को ज्यादा देर न रोक सका. इस बीच धीरे-धीरे दूर होने के कारण हमारे बीच दूरियां बढ़ती गईं और वो वहीं लोकल में और किसी लड़के के साथ सैट हो गई, जिसका मुझे बाद में पता चला. डाक्टर भी अन्दर आ गयी और मेरे पास खड़ी होकर बोली- अपनी पैंट और चड्डी नीचे करो, शर्माओ मत.

उसने भी मौके का फायदा उठा कर मेरे लंड को पकड़ कर गाल पर किस कर लिया और कहने लगी- इस लंड का ही तो कमाल है. अंडरगार्मेंट शॉप में जाते हुए मैंने रोहन को मना कर दिया क्योंकि मेरे पास पहले से ही बहुत सारे अंडरगार्मेंट थे. मैंने बाथरूम में जाकर भाभी को याद करके मुठ मारी, तब कुछ शान्ति हुई.

पांच मिनट बाद मैंने प्रिया को वाशबेसिन के सहारे डॉगी स्टाइल में कर दिया और पीछे से प्रिया की चूत को चोदने लगा.

शुरुआत में हम दोनों ने किसी न किसी काम को लेकर फोन पर बात करना चालू कर दिया. मैंने लंड पेलते हुए कहा- क्या भूल गया हूँ मैं?पूजा- आज कौन सा दिन है?मैं- मुझे याद नहीं.

शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो बीएफ धकाधक धकाधक धकाधक … फचक फचक फचक … रानी अब राजधानी एक्सप्रेस की गति से धक्के ठोक रही थी. जब ये फोन आया, तो उस आवाज से मुझे ये बिल्कुल भी नहीं लगा था कि वो इस उम्र की औरत होंगी.

शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो बीएफ मैंने बाथरूम में जाकर भाभी को याद करके मुठ मारी, तब कुछ शान्ति हुई. वो मेरे डर से अपनी मन की नहीं कर पा रहा था, वरना मर्दों के जोश के आगे तो हर औरत झुक जाती है.

फिर एक ही वक़्त मैंने और शैली ने अपनी टांगें उठाईं और दोनों भाइयों ने लौड़े घुसाए.

सेक्स डॉट कॉम वीडियो एचडी

देखो बेटा, तुम्हारी चाहत को मैं समझता हूं तभी तो तुम मेरे साथ यहां तक आई हो, है कि नहीं? सोनम बेटा बात क्लियर हो तो बाद का टेंशन नहीं रहता; अगर तुम मुझसे अकेले में न मिलना चाहो, तुम्हारी कोई इच्छा न हो तो कोई बात नहीं, ये बातें यही समाप्त कर देते हैं, सिम्पल है. कभी उसके ऊपर वाले होंठ को तो कभी नीचे के होंठ को, कभी उसके कानों के पीछे चूम लेता तो कभी उसकी लड़ी को चूमता। अब उसकी सांसें तेज होने लग गई।एक हाथ से मैं चूची को दबा रहा था और एक हाथ से उसके टॉप को मैंने ऊपर कर दिया और ब्रा के ऊपर से चूचों को दबाने लगा।रात के अँधेरे में देख तो नहीं पा रहा था, बस महसूस कर रहा था।फिर एक हाथ को पीछे ले जाकर उसकी ब्रा के हुक को खोल दिया और ब्रा को ऊपर करके दबाने लगा. फिर सरिता मेरा सर बाहर खींचकर बोली- हर्षद बस करो अब … और नहीं सह सकती मैं … अब डाल दो अपना लंड मेरी चूत में … आंह जल्दी से चोदो मुझे!मैं खड़ा हो गया और सरिता को जोर से अपनी बांहों में कसकर उसके होंठों को चूसने लगा.

उन तीनों के अंदर आने के बाद मैंने उनसे कहा कि मैं कपड़े बदल कर वापस आती हूँ. ऐसे ही 15 मिनट चोदने के बाद वो नीचे लेट गए और अब उनके लौड़े को मजा देने की मेरी बारी आ गई थी. मैंने नितिन की तरफ ग़ुस्से से देखा … मैं बियर लेती थी, पर उसके बॉस के सामने मैं बियर लेने में ऑकवर्ड महसूस कर रही थी और उनकी मिसेज भी नहीं थी.

वो तो मैं अपने अंडरगारमेंट्स पर तेरे स्पर्म के निशानों से ही समझ गई थी … और बाकी तूने दो तीन बार मुझसे शादी की बात खुद बोल भी दी थी.

उस दिन से मुझे भाभी को चोदने का भूत सवार हो गया था और मैंने इरादा बना लिया था कि मैं अपनी भाभी को जरूर चोदूंगा. मैंने कहा- चाची, आपको शर्म नहीं आती कि आप अपने से उम्र में इतने छोटे लड़के के साथ ऐसी गन्दी हरकत कर रही हैं? आप मेरे भाई को फंसाना चाहती हैं?इतने में रोहित बोल पड़ा- दीदी, प्लीज आप चली जाओ. मीरा को आराम से उठते देख रितेश समझ गया कि मीरा ने सिर्फ़ कमर में चोट लगने का नाटक किया था.

तो क्या मेरे यूं रोज रोज खड़े रहने से अंकल जी पर कुछ असर नहीं होगा? उनके मन में ये प्रश्न नहीं उठेगा कि ये लड़की रोज रोज ऐसे क्यों दिखाई देती है मुझे?मेरे मन ने खुद ही इस प्रश्न का जवाब दे दिया कि जब सुबह के टाइम सब लोग घूमते हैं तो मैं भी तो वही कर रही हूं इसमें एक्स्ट्रा एफर्ट क्या है?मेरी कमी मुझे समझ आ गयी थी; अब मुझे अंकल जी का ध्यान अपनी तरफ खींचना था वो भी सादा सिंपल तरह से. दोस्तों कहानी इस प्रकार शुरू होती है कि मैं आपका प्यारा शरद इंग्लिश मीडियम स्कूल में एक अध्यापक के पद पर काम कर रहा हूँ. मैंने उसे नीचे उतारा और कहा- क्या तुम ठीक हो … और सॉरी तुम्हें मैं गिरने से नहीं बचा पाया.

मुझे भी इस ऐशोआराम की इतनी आदत पड़ गयी थी कि अब काम करने की सोचने से भी डर लगने लगा था. फिर मैंने उसको दोनों हाथों से एक घेरा बना कर उस से चिपक गई और अपने दोनों हाथ इस तरह से रखा कि वो उसके लंड के आस पास ही रहें.

मैंने उसके निप्पलों को अपने होंठों से काट लिया तो उसकी जोर से सिसकारी निकल गई. अब भाभी मेरे लंड के नीचे लटक रहे मेरी गोटियों को मुँह में लेने लगीं और फिर लंड चूसने लगीं. लिहाजा उसने एक ही बार में पूरा पेग खत्म कर दिया और तन्दूरी मुर्गे के टांग को मुँह में डालकर काटने लगी!उस समय मेरे मन में यही ख्याल आ रहा था कि ‘मीना, तुम अभी मुर्गे की टांग खाओ, बाद में मैं तुम्हारी जाँघों को भी ऐसे ही चाट चाट कर खाऊंगा.

निशा का हाथ मेरे लोअर के अन्दर था और वो मेरे लंड को पकड़ कर सहला रही थी.

वसुन्धरा ने अपने पांवों की कैंची सी बनाकर जुड़ी हुईं अपनी दोनों एड़ियां मेरे नितम्बों पर टिका दी. किस करते करते मैंने उसकी टांगों को खोला और उसकी गीली हो चुकी चुत पर अपना लंड रख दिया. शीतल- आह मेरी जान … मस्त चोद रहा है … आह मजा आ रहा है उफ्फ आज चोद दे … आह रौंद दे भोसड़ी के आज मेरी चूत को … इसे लाल करके छोड़ना इसे … साली बहुत परेशान करती है बेटीचोद ये … उई मां मर गई … आह उफ्फ चोदते रह मजा आ रहा है.

तब भी मैं आदतों को पसंद नहीं करती थी, बाकी उसके अन्दर सब कुछ ठीक था. मैंने मुड़कर पति के लंड को देखा, तो मेरे पति का लंड मेरी चुत के पानी से पूरा लथपथ हो चुका था.

फिर मैंने भाभी की मस्त चूचियां मसल दीं जिससे भाभी की सीत्कार भरी एक आह निकल गयी. तो मैंने जीजू के सर को अपनी चूत पर से हटाया और जीजू को खड़े होने के लिए कहा. कुछ ही दिनों में मुझे ऐसा लगने लगा था कि वो खुद मुझे नजदीकी बढ़ा रही हैं.

पंजाबी सेक्सी पंजाबी सेक्सी पिक्चर

तू इसको लेकर इतनी परेशान क्यों है? इतना हो-हल्ला करने की क्या जरूरत है?मैं पापा को अजीब सी नजरों से देख रही थी कि पापा ये बोल क्या रहे हैं?पापा बोले- सेक्स तो औरत और मर्द के बीच में ही होता है.

इस प्रक्रिया में वसुन्धरा की दोनों टाँगें मेरी निचली पीठ तक फ़िसल गयी. वैसे ही उसके मुँह से तेज तेज आह … निकलता हुआ मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. उसका नितम्ब सहलाना मेरी जांघों में आग लगा रहा था, पर मुझे जो चाहिए था, वह रिस्पांस मुझे नहीं मिल रहा था.

मैंने बताया, तो उसी तरह के सवालात हुए और इन्हीं बातों में पता चला कि भाभी का नाम सृजन है और वो दो साल से यहीं अपने पति के साथ रहती हैं. मैंने चूत पर हाथ लगाया तो वह सूज चुकी थी, एकदम सुर्ख लाल हो गयी थी. नंगी अंग्रेजी सेक्सीदीपक अंकल ने मुझे बांहों में जकड़ लिया, मैंने बहुत इंकार किया, पर वो नहीं माने.

और दिलिया की तरह झूले पर चढ़ गयी और मुझे नीचे लिटा कर ऊपर आ गयी फिर गोल घूमी … फिर हम दोनों घूमते रहे और झड़ गए. मैं उसका निचला ओंठ चूस कर अपना लण्ड हल्का से पीछे करता था फिर कस कर धक्का लगा कर उसका ऊपरी ओंठ चूसने लगता था जिससे चूत लण्ड को जकड़ लेती थी, उसकी जीभ को चूसने लगता था तो जैसे चूत लण्ड को अंदर खींच कर चूसने लगती थी.

उसके चेहरे पर संतुष्टि का भाव था।यह कहानी तीसरे भाग में जारी रहेगी। आशा करता हूँ कि मेरी बहन के साथ आपको मेरी यह कामुक कहानी पसंद आ रही होगी. मैंने इधर एक दूसरी कंपनी ज्वाइन कर ली और इस कंपनी ने मुझे वहीं एक सोसाइटी में रहने की लिए फ्लैट दे दिया. तू खुद देख लेना अबकी बार अगर तूने लण्ड नहीं चूसा तो वो तेरी चूत भी नहीं चाटेंगे.

खैर … फिर मैंने आंटी से कहा- जी आंटी बताइए, क्या काम था?उन्होंने कहा- मुझे बाज़ार से कुछ सामान मंगवाना था और अल्मारी के ऊपर अचार की बर्नियां रखी हैं, उन्हें उतरवाना था. थोड़ी देर बाद उन्होंने मुझे घोड़ी बना दिया और पीछे से मेरी चूत को चीर कर मेरी चीख निकलवा दी. इसके बाद मैंने उन्हें ज़ोर से अपनी बांहों में खींच लिया और नीचे से पूरा नंगी हालत में ही चिपक कर सो गया.

लगातार कोशिश करता रहा मैं!आखिर मेरी मेहनत रंग लाई और उसने एक दिन सुबह 7:00 बजे मुझे फोन किया- अभी आ सकते हो, तो घर पर आ जाओ, घर पर कोई नहीं है.

’शैली बोली- क्यों अंकल, एक और राउंड करना है?‘नहीं शैली … मैं तो नहीं, पर पापा के जन्मदिन पे बच्चों को भी तो मज़ा आना चाहिए … क्यों मालिनी?’‘हाँ जी ज़रूर. मैंने बाथरूम में रखी तेल की शीशी से भाभी की गांड में तेल भर दिया और उंगली की, तो भाभी को मजा आने लगा.

कुछ ही धक्कों के बाद मेरे लंड ने वीर्य छोड़ दिया जो उसके मुंह के अंदर गिरने लगा. फिर उसे ज्यादा तड़पाने का निर्णय नहीं लेते हुए मैं अपने लौड़े को उसकी चूत के ऊपर सहलाने लगा. दस मिनट के बाद भाभी ने अपनी चूत का पानी छोड़ दिया जिसे मैं सारा पी गया.

नफीसा- जुल्फी कोई देख लेगा, तो क्या सोचेगा?मैंने अपना लंड निकाल कर उसका हाथ मेरे लंड पर रख दिया. मेरा बदन इतना दुख रहा था कि कोई मेरी चूत में तीन लंड भी डाल दे तब भी मुझे पता न चले. भाभी मुझसे दूर होती हुई अपने हाथों से अपनी दोनों चूचियों को छुपा कर खड़ी हो गईं.

शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो बीएफ वो मेरे जोर देने के कारण अपने मुँह में पूरा का पूरा लंड लेना सीख गई हैं. मैंने पहले भी बोला था कि तुम पहली नज़र में मुझे अच्छी लगीं, तभी जब पता लगा कि हम दोनों की मंजिल एक है तो … आगे तुम खुद जानती हो.

सेक्सी वीडियो गांव देहाती

मैंने यह कह कर फोन कट कर दिया कि आप मेरी मम्मी को बिना कपड़े के बेड पर लेटे रहने को बोल देना, उन्हें आंखों पर पट्टी लगाने की बोल देना. ऐसे ही आदमी को वही लड़की प्रिय लगती है जो उनके अंगों को भरपूर प्यार दे. उसके निप्पल एकदम कड़क हो चुके थे और उसकी आंखों में वासना का सागर साफ़ हिलोरें मारता दिखाई दे रहा था.

मैं वैसे तो काफी रईस परिवार से हूँ लेकिन पढ़ाई के लिए मुम्बई में किराये के मकान में रहता हूं. मेरा लंड देखकर मेरी पत्नी खुश हो गयी, बोली- अभी रुक जाओ, मेरी बहन आयी है!उसे क्या पता कि मेरा लंड तेरे लिए नहीं साली के लिये तैयार था. गैलरी सेक्सी दिखाओअमर को चुत चोदते हुए दस मिनट हो गए थे, उसने पिंकी को सीधा होने के लिए कहा.

दीदी की चुत पे छोटे छोटे सुनहले से बाल थे, ऐसा लग रहा था कि कभी किसी ने इसको छुआ भी न हो.

मेरी माँ चाहती थी कि वह अच्छे से सिलाई व बुटीक का छोटा-मोटा काम सीख जाए। फिर मेरी मम्मी ने उसकी मम्मी को फ़ोन करके यहां रहने के लिए बोल दिया था और उसकी माँ मान भी गई थी।भावना के बारे में मुझे एक बात पता थी कि उसका कई लड़कों से चक्कर चल रहा था और अभी भी उसका एक बॉयफ्रेंड है। ये बात पता चलने के बाद मैं भी उसे चोदने की फिराक में लगा हुआ था. फिर 5 मिनट बाद मैंने भी उसकी चूत के अन्दर ही मेरा सारा माल भर दिया और मैं उसके ऊपर लेट गया.

मेरा और मौसी का घर थोड़े ही दूर पर है, जिससे हमारा एक दूसरे के घर पर आना जाना लगा रहता है. रूपा बोली- भैया, क्या आपकी कोई गर्लफ्रेंड है?मैं बोला- नहीं, पर तुम आज अचानक यह क्या बोल रही हो. आंटी ने अपनी सलवार और पैंटी उतारी, मम्मी के चेहरे के दोनों तरफ अपने पैर रखे और बैठ गईं.

शारदा चाची घोड़ी बनी हुई थी और उनका भाई कपिल उन्हें पीछे से चोद रहा था!मैं ये मौका गंवाना नहीं चाहता था.

हर राखी और भाईदूज पर मैं धीरज को राखी बाँधती और तिलक करती थी जिससे सब हमें सगे भाई बहन समझा करते थे. अब मीना थोड़ी खुल भी गयी थी और शराब का असर भी उसे एक और लेने को मना नहीं कर पाया. आप प्लीज अपनी कहानी बताइये ना!अंकल बोलने लगे- अरे बेटा अभी रहने दो, फिर कभी देखते हैं.

माधुरी पिक्चर सेक्सीवह ऐसी गोल-मोल बातें कर रही थी और लग रहा था जैसे घूम फिर कर सेक्स पर आना चाहती है. मैंने अपना मुँह खोला तो उसने मेरी जीभ निकाल कर चूसने लगा और इधर कमर उछाल उछाल कर अपने लंड को मेरी चुत में रगड़ने लगा.

खेत नापने वाला एप्प

एक दिन भाभी मुझसे बोली- आप भी इंजीनियर हो, तो सुरभि को कभी कभी किसी सब्जेक्ट में हेल्प कर दिया करो. मैंने उसको बताया कि जिस प्रकार आदमी का वीर्य छूटता है उसी प्रकार लेडी का भी वीर्य छूटता है. वो भी बड़े चाव से मुझे अपने दूध पिला रहे थे और तरह तरह की आवाजें निकाल रहे थे- आह … ऊंहहहह … उम्म्ह… अहह… हय… याह… चूस लो मेरे दूध … मेरे पतिदेव … आज अपनी पत्नी को पूरी तरह खुश कर दो … बहुत दिनों से तड़प रही हूँ चुदवाने के लिए.

दारू की मधुर मदहोशी मुझ पर चढ़ रही थी और मैं उसके हुस्न को आंखों से चोद रहा था. कल्पना- कहां?मैं समझ गया कि ये क्या सुनना चाहती है मेरे मुँह से, फिर भी मैंने भी उन्हें और तड़पाने का सोच लिया- अभी थोड़ी देर पहले ही आपने बोला ना कि आपके पैरों के बीच दर्द कर रहा है, तो वहीं सिकाई करनी पड़ेगी ना. कपिल और शारदा चाची बाहर निकलने ही वाले थे इसलिए तब मैं भी वहीं से भागा, लेकिन भागने के कारण जो आवाज हुई उसकी वजह से शायद शारदा चाची का ध्यान दरवाजे की तरफ गया और दरवाजा हल्का खुला हुआ देख कर वह तुरंत समझ गई होगी कि कोई देख रहा था.

तभी भाभी ने अपने बिस्तर पर ही मुझे बैठने को बोला- आप कुछ देर यहीं रुक जाओ, इनका दर्द रूक जाए तभी जाना. बस फिर क्या था … आते ही मेरी चूत पर भूखे कुत्ते की तरह टूट पड़ा और चुदाई शुरू कर दी. मुझसे क्यों शरमा रहे हो? अभी तो हम दोनों के अलावा यहाँ पर कोई भी नहीं है.

मेहँदी-रचे दोनों हाथों से दोनों साइडों पर अंगूठे और तर्जनी की चुटकियों में से लहँगा रह-रह कर छूट-छूट सा जा रहा था और उसके पूरे जिस्म में बार-बार एक झुरझुरी सी उठ रही थी. आन्या बोली- सर आप जो कहेंगे, मैं वहां आपकी बात मान लूंगी, लेकिन एक बार चांस दे दीजिएगा प्लीज़.

वो बोली- आज तुम घर पे ही हो, तो चलो शॉपिंग करने चलते हैं और डॉक्टर को भी दिखा आते हैं.

अभी तक मैंने कई चूत के दर्शन भी किये और अपने लंड को चूत में भ्रमण भी कराया था, पर मुझे आज तक ऐसी चूत कभी नहीं मिली थी. 84 सेक्सी फोटोबस मस्त हो के चुदवा … अगर कुछ हो भी गया तो मुझे देसी दवा पता है; आयुर्वेदिक मेडिसिन है वो, सब ठीक हो जाएगा, बस तू एन्जॉय कर!”डॉली ने मुझे हिम्मत बंधाई. गांव की लड़की हिंदी सेक्सीमगर जिस छोटे से गांव से मैं ताल्लुक रखता हूँ, उधर ये सब इतना खुला नहीं था. शाम हुई, मैं और अजय टेबल पर बैठ गये, रम की बोटल सामने थी, साथ में था तन्दूरी चिकन … मतलब शराब थी, कवाब था; बस शवाब की कमी थी.

सर ने बोला- ये क्या है?मम्मी धीरे से बोलीं- जो भी करना है, अन्दर से करो.

कौन हो तुम? यहां क्या कर रहे हो?मैं बोला- डरिए मत मैडम, मैं आपको ही देख रहा था. अब उसके दिमाग में कुछ और चलने का मुझे अंदेशा सा होने लगा था क्योंकि जब मैं उसके रूम पे जाती, तो वह टी शर्ट नहीं पहनता था, सिर्फ हाफ पैंट में ही रहता. निशा का हाथ मेरे लोअर के अन्दर था और वो मेरे लंड को पकड़ कर सहला रही थी.

बुर से निकले स्वादिष्ट माल को पी जा प्यारे भाई!उसकी बुर फड़फड़ा रही थी और उसकी गांड में भी कम्पन हो रहा था. एक दिन मैं जिम जल्दी पहुँच गया, तो मैंने देखा कि शीतल भाभी भी जिम के बाहर अकेली खड़ी हुई थीं. वो बोले- कितने दिन से गांड नहीं मरवाई है?मैंने कहा- इस बार काफी लम्बा समय हो गया है और मैं बहुत ज्यादा प्यासा हूँ.

उद्या सेक्स

अपनी गर्दन घुमा कर मेरी तरफ गुस्से से देखा, जैसे आगे से वैसा न करने को बोल रही हों. मेरे तनकर खड़े लंड पर धीरे धीरे दिलिया अपनी चूत दबाकर लंड को अंदर घुसा रही थी। और मैं आपको बता नहीं सकता कि मुझे उस समय कितना मज़ा आ रहा था। वो मेरे लंड पर धीरे से उठती और फिर नीचे बैठ जाती जिसकी वजह से लंड अंदर बाहर हो रहा था और मेरी नयी ब्याहता बहुत मज़े कर रही थी।सच कहूँ तो मेरी दिलिया बहुत मादक लग रही थी, उनके रेशमी सुनहरी बाल चारों तरफ फ़ैल गए थे. अबकी बार चूंकि चूत के अंदर मेरा वीर्य भी लगा हुआ था तो फच-फच की आवाज आने लगी.

वो भाभी जैसी ही दिखती थी, पर उसके चूच्चे भाभी से कुछ बड़े थे, शायद किसी ने उसके खूब दबाये होंगे.

मैंने पहली बार उसकी शर्ट में से उसकी गुलाबी रंग की ब्रा को देखा और उसमें उसके दोनों कबूतर कसे हुए देखे.

हम दोनों ने चुदाई के अपने अपने कपड़े पहने और पढ़ने का नाटक करने लगे. मैं अपनी उंगली पर थोड़ा सा थूक लगा कर उनकी चूत के दाने को मसलने लगा. भाभी की ब्लू पिक्चर सेक्सी वीडियोजीजू की नजर जैसे ही मेरे ऊपर पड़ी तो वे मुझे ऊपर से नीचे तक निहारने लगे मैं भी एकदम स्तब्ध खड़ी रही। सब इतना अचानक हुआ था कि मुझे यह याद ही नहीं रहा कि मैं एकदम नंगी हूं, जैसे ही मुझे याद आया कि मैं तो एकदम नंगी हूं और जीजू मुझे नंगा देख रहे हैं तो मैं वापस बाथरूम में भागी।बाथरूम में आकर मैं जीजू से बोली- सॉरी जीजू, मुझे नहीं पता था कि आप वापस आ गए हैं.

पर जैसे ही मेरा हाथ मेरी साड़ी के अन्दर घुसा, चुत पर उगे हुए हल्के हल्के बालों ने मेरा रास्ता रोक दिया. अब मेरा खुद को रोकना मुश्किल हो गया तो मैंने अपने होंठ उनकी कुंवारी बुर पर रख दिए. मुझे तो नींद आने की गुंजाइश ही नहीं थी क्योंकि एक तो मेरी बांहों में मेरी ड्रीम गर्ल थी और ऊपर से मैं पूरी तरह से उत्तेजित था.

दो मिनट में ही मेरा लंड फिर से अकड़ गया और मैंने टाइम ना गंवाते हुए उसे नीचे लेटाया और उसे टांगें खोलने को कहा. पर जैसे ही मेरा हाथ मेरी साड़ी के अन्दर घुसा, चुत पर उगे हुए हल्के हल्के बालों ने मेरा रास्ता रोक दिया.

फिर मैंने जल्दी से हील्स पहन ली जो कि मैं बाथरूम में अपने साथ ही लेकर घुसी हुई थी.

अबकी बार वो मुझे सीधे बेडरूम में ले गए और पहले मुझे कोल्ड ड्रिंक पीने को दी फिर मुझे बांहों में भर लिया और चूमा चाटी करने लगे. मैंने अपना लंड गांड में से पूरा बाहर निकाला, उंगली पर वैसलिन लेकर फिर से गांड में डाली और पूरी उंगली गांड में अन्दर बाहर करने लगा. झट से मैं उसकी गोद में से नीचे उतर गई और अपने सलवार और पैन्टी अपने हाथ में लेकर बैठ गई.

सेक्सी डबल सेक्सी सेक्सी आशा है कि आपको मेरी सेक्स कहानी अच्छी लग रही होगी, मुझे आपके मेल का इन्तजार रहेगा. मैंने उसे हाथ में ले लिया और उनकी आंखों में देख कर कामुक इशारा कर दिया.

कुछ देर में जब वो कुछ नार्मल हुई, तो मैंने अपना लंड लगभग सुपारे तक बाहर निकाला, बस एक इंच लंड चूत के अन्दर रहने दिया. उसके निप्पल ऐसे तने थे जैसे उन दोनों कटोरियों के ऊपर दो किशमिश रखी हों. अब मुझसे और कंट्रोल नहीं हुआ और मैंने उसका हाथ पकड़ कर उसके होंठों पर अपने होंठों को रख दिया.

साउथ इंडियन हीरोइन की नंगी फोटो

कामदेव मुझ पर रह-रह कर काम-बाण चला कर मुझे पीड़ित किये जा रहे थे और वसुंधरा साक्षात मेनका के समकक्ष मुझ से रति-दान लेने पर उतारू थी और मैं बेचारा, काम के इस भयावह बवण्डर में तिनके की तरह कभी इधर (कभी हाँ), कभी उधर (कभी न) डोल रहा था. रात को जब सोने की बारी आई तो जगह कम होने के कारण सबको अड्जस्ट करना पड़ा. थोड़ी देर गांड चोदने के बाद मैं अपना लंड गांड से बाहर निकालता और फिर से अपना लंड गांड में अन्दर डालकर चोदने लगता.

मैंने कहा- जीजू, यह क्या कर रहे हो आप? यह गंदी है प्लीज, यह मत करो!लेकिन जीजू कहां रुकने वाले थे, उन्होंने तो मेरी चूत पर झड़ी लगा दी, कभी जीजू मेरी चूत की फांकें चूम रहे थे तो कभी चूत के दाने चूम रहे थे. मैं और मस्ती से अपना मुंह खोले हुए तेज तेज मुठ मारने लगी।फिर लण्ड ने सारा वीर्य मेरे मुंह में ही उगल दिया.

नशा भी काफी हो गया था, तो हम सबने तय किया कि अभी कुछ देर रुकने के बाद पैग वाला नियम जारी करेंगे.

भाभी कराह कर बोलीं- आंह दर्द हो रहा है … धीरे कर!मैंने भाभी की एक बात नहीं सुनी और दूसरा तेज धक्का लगा दिया. काफी देर सन्नाटा सा रहा; फिर सलोनी बोली- राहुल जो तुम कह रहे हो वो सच है या सिर्फ मेरा दिल रखने को बोल रहे हो?”मैं बोला- मैंने जो भी बोला वो बिल्कुल सत्य है. मैं उनको अभी कुछ और देर चोदना चाहता था लेकिन मम्मा की चूत झड़ने से बहुत ज्यादा गीली हो गई थी जिससे मज़ा खराब हो गया.

मैंने पूछा- भाभी, जब मैं विशाल भाई को छोड़ने के लिए आपके घर पर आया था तो आपने बहुत टाइम लगा दिया था दरवाजा खोलने में. इस बार जब मैं गांव आया था, तो मुझे पूरे 4 साल बाद गांव आने का मौका मिला था. मैंने देखा कि इस उम्र में भी ताऊ की चुदाई किसी नौजवान के लंड से कम नहीं थी.

एक मिनट के बाद चाची मेरे लिए कुछ तेल जैसा लेकर आईं, जो कि शायद अंकल काम में लिया करते थे.

शिल्पा शेट्टी की सेक्सी वीडियो बीएफ: लंड तो खड़ा हो गया और वो भी अकेले में, फिर हाथ कैसे न जाता उसके पास. फिर मैंने धीरे से महसूस किया कि उसने मेरी ज़िप खोल दी और अंडरवियर को हटा दिया.

साली पूरी ताकत से लन्ड को अपने भोसड़े में ले रही थी और बाहर निकल रही थी, मेरे बूब्स को मसल रही थी और लगातर गाली दे रही थी- मुदित मादरचोद आह … कुत्ते और जोर से! याह … और जोर से … यस यस यस … कम ऑन मुदित … भोसड़ा फाड़ दे मेरा … आह आह आह. चूचों की मिंजाई से दिशा मोन करने लगी और उसने अपनी आंखें बंद कर लीं. नैना ने भी कनखियों से ये सब देख लिया था और वो मंद मंद मुस्कराने लगी.

उनके लिए ये एक नई फ़ीलिंग थी और वो समझ ही नहीं सकी थीं कि वो कैसे रियेक्ट करें.

नहाते नहाते मैंने भाभी को याद करके मुठ मारने का बहुत सोचा पर जैसे तैसे मैंने खुद को कंट्रोल कर लिया. अब तक तो मैं उसे अच्छा दोस्त और मददगार समझ रही थी, पर अब मेरे मन में उसके लिए भावनाएं बदल रही थीं. मैंने कहा- आगे आगे देखो, भाभी होता है क्या … आज मुझे अपने हथियार का उद्घाटन समारोह करना है.