इंडियन बीएफ पोर्न

छवि स्रोत,सेक्सी मजाक

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ जंगल की: इंडियन बीएफ पोर्न, वैसे भी तुमने ये सुना भी होगा कि ‘अनाडी का चोदना … चूत का सत्यानाश!’ ऐसे ही नौसिखिया से चुदोगी तो बहुत तकलीफ होगी.

तेरे सागर मधुर सेक्सी वीडियो

मेरी चूचियों पर हाथ फेरते हुए सर ने अपना लण्ड मेरी बुर में ठोंका लेकिन अन्दर नहीं गया. लाजवाब सेक्सी वीडियोमेरे ही सुहाग पर दिल आ गया तेरा तो … चल कोई बात नहीं, जल्दी ही तुझे भी वो लंड दिलवा भी दूंगी, बस जैसा मैं कहूं … तू करती जा.

वे बोले- लो बेटी, जिस लंड से तुम पैदा हुई हो, आज उसी को मुँह से चूसो और मज़े लो. हिंदी सेक्सी वीडियो स्कूल कीथोड़ी देर बाद पुष्पा का दर्द कम हुआ और फिर मैंने झटकों की रफ्तार बढ़ा दी.

मैं उसके पीछे आ गया और उसके हाथ के ऊपर हाथ रख कर दबाने लगा, तो दूध निकलना शुरू हो गया.इंडियन बीएफ पोर्न: सुरेश- अरे वो कुछ ध्यान नहीं देगी, मैंने उसको सब समझा दिया है, तुम्हारे मन में जो भी आए, बोलो.

सुरेश कुछ देर मीता के होंठों चूसता रहा, फिर उसने लंड को हरकत शुरू कर दी और लंड के धीरे धीरे झटके चूत में लगने लगे.मैंने ये सब सामान राहुल के घर के पते पर बुक करवा दिया और इसके बाद मैं उठ कर बाहर मम्मी को देखने के लिए गई कि वो क्या कर रही हैं.

लड़की की सेक्सी फिल्म - इंडियन बीएफ पोर्न

मैं वहां से निकला और चुपके से अपने रूम में आ गया।उस दिन मैं थक गया था तो दिन में ड्यूटी नहीं गया। रात को मैंने फिर से रेखा आंटी को अपने रूम में बुलाया.तो साहिल एकदम से चौंक के उठ गया और मुझे, राजसी को उसका लंड पकड़े देख वो उसको हटाने लगा.

बॉस ने एक दूसरे गिलास में पैग बना कर मुझे दे दिया और खुद का गिलास फिर से भर लिया. इंडियन बीएफ पोर्न वो तेरा सील बंद चूत को चोदने का पहला अवसर था और तूने एक मंजे हुए चोदू की तरह दिलकश की चूत की सील तोड़ चुदाई की.

लंड चूसने के बाद जब वो अलग हुई तो उसकी आंखों को देख कर लग रहा था जैसे उसने दो बोतल का नशा कर रखा हो.

इंडियन बीएफ पोर्न?

मुझसे ये दूरी अब सही नहीं जा रही थी, मैंने झट से अपने कपड़े उतारे और सिर्फ अंडरवियर और बनियान में हो गया. लेकिन मैंने उसके लंड को पकड़ लिया था जिससे उसका लंड और अन्दर नहीं जा सका. जैसे ही गीता की चुत ने पानी छोड़ा, तो उसके गर्म अहसास से दरोगा का लंड भी बह गया.

फिर मैंने भी जल्दी से टॉप और स्कर्ट उतार कर बाजू में फेंक दिए और उसके लंड को मुँह में लेकर जोर जोर से चूसने लगी. और मुझे भी अपने ऊपर गिरा लिया और मेरे होंठों को आहहह उम्ममम करते हुए चूसने लगी।इतनी बेकरारी मैंने आज तक कभी किसी लड़की में नहीं देखी जितनी शायरा में थी।होना भी लाजमी था. पिंटू- तू अकेली खुश मत हो, मुझे भी मेरे सारे सपने आज सच होते दिख रहे हैं.

मुझे बहुत तेज भूख लग रही है और मुझे नहीं मालूम कि इधर अच्छा खाना किधर मिल सकता है. उसके गर्म मुंह के अंदर मेरे लंड के टोपे पर लगती गर्म जीभ से मैं ज्यादा देर खुद को कंट्रोल नहीं कर पाया. उसने धीरे से अपना हाथ मेरा लोवर में डाला और अपनी नाजुक सी उंगलियों से मेरे लंड को पकड़ कर सहलाने लगी.

पता नहीं क्यों उस दिन मेरे मन में उसके जिस्म को लेकर वासना के भाव आ रहे थे. डॉक्टर ने रोज उनके ऑपरेशन की जगह पर साफ करके क्रीम लगाने के लिए बोला था.

मीता- आह आइ उफ … करो आह जोर से करो … आह अब मेरा आ पानी आने वाला है.

दीपक को उसकी गलती का अहसास हुआ और मुझे गले लगा कर बोला- सॉरी अंजू, वो विडियो में देखा था ऐसे करते हुए, तो सॉरी गलती हो गयी.

थोड़ी देर में उसका हाथ मेरी चूत पर पहुँचा और उसने मेरे दाने को छेड़ा. उसने मेरे मोटे खीरे को पकड़ कर दबा दिया और बोली- आपका मोटा खीरा तो बहुत गर्म है. सर ने अपनी हथेली में तेल लेकर अपने लण्ड पर मला और फिर कॉण्डोम चढ़ा लिया.

लेकिन बाद में उसने अपना बैलेंस इस तरह बनाया कि वो लंड पर उछले, तो मेरा लंड चुत से बाहर नहीं आने पाए. राहुल जोर से मजे लेने लगा- अहह … याहहह … बेबी चोदो मुझे … आह और जोर से!ये सुन कर मुझे और ज्यादा जोश आ गया. लेकिन मुझे मेरी तरह कोई चाहिए था, जो हमेशा मेरा रहे, रियल लाइफ में मैं उसकी तरह रहूँ, जैसी मैं उसे पसंद हूँ … और हम दोनों की सेक्स लाइफ मेरी मर्ज़ी से चले.

मेरे बूब्स और गांड को देखकर वो अपने लौड़े को अपनी पैंट के ऊपर से ही मसलने लगा.

क्योंकि जब मैंने कल अपनी सहेलियों को बताया तो वो सब भी अपने बॉयफ्रेंड से संतुष्ट नहीं हैं. मैंने भाभी की चुत पर लंड रखा और धक्का लगाया, मगर उनकी चुत काफी कसी हुई थी. उसी दिन शाम को किचन में भी कुछ रखना था, तो उन्होंने फिर से मुझे बुलाया.

मैं सोफे पर बैठ गया और खड़ा होकर उसके मुँह को अपने लंड से भरकर चुसाने लगा. भाभी- अच्छा देखो … मेरे मुँह से सिगरेट की गंध तो नहीं आ रही ना?मैं- आप चिंता मत करो भाभी, मेरे पास बबलगम है. एक दो पल उन्होंने चुप्पी तोड़ी और कहने लगीं- तुम मुझे सप्ताह में दो या तीन दिन 3-4 घंटे के लिए अपना टाइम देना … दोगे न!मैं कुछ नहीं बोला.

मैं हंस दिया और बोला- क्या सच में तेरा इतना मन हो रहा है?तो वो बोला- सच कहूँ, तो आज से पहले मैंने कभी भी सेक्स नहीं किया था.

अब एक दो बार ऊपर से नीचे और नीचे से ऊपर तक चाटने के बाद मैंने जीभ को अंदर उसकी चूत में घुसा दिया. इस कॉलेज सेक्स की गरम कहानी बारे में आपका क्या कहना है वो भी बतायें.

इंडियन बीएफ पोर्न रेखा के नंगी होते ही जब मैंने उसको सामने से और अपने करीब से देखा तो मेरा कलेजा हलक में आने लगा. चूड़ी, पायल, मेकअप किट, लिपस्टिक, मस्करा, आईलाइनर, हेयर रिमूवल क्रीम, विग आदि सब था.

इंडियन बीएफ पोर्न मैंने उसे कैसे गर्म कर उसका लम्बा लंड लिया?दोस्तो, मैं बादशाह किंग एक बार फिर से अपनी गांड चुदाई की कहानी में स्वागत करता हूँ. वो दरअसल हुआ यूं कि मेरी लाइफ में घटी सबसे अलग और विशिष्ट अंदाज की घटना थी … जिसकी मैं तो कभी कल्पना नहीं कर सकता था.

गुलचीन मेरा लंड लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी और मेरे लंड के सुराख में अपनी जीभ डाल कर चूसने लगी.

एचडी सेक्सी बीएफ एचडी में

मैं उठने को हुआ, तो भाभी ने मुझे नीचे गिरा दिया और सिक्सटी नाइन में हो गईं. मेरी अम्मी के मुँह से आवाज़ निकलने लगी थी- आह उफ़्फ़ हए ददइया छोड़ दो प्लीज … उई एईई ओफ्फ् क्या कर रहे हो. कुवारी लड़की की Xxx Chut कहानी पर अपनी राय दें और नीचे दी गयी ईमेल पर अपना संदेश भेजें.

मैंने अपने खड़े लंड को हाथ से पकड़ा और उसकी चुत के मुँह पर लगा कर तेजी से रगड़ने लगा. पिछले भागफ़िल्मी हीरोइन और रिसेप्शनिस्ट की चुदाई- 2में अब तक आपने पढ़ा था कि हीरोइन मुझसे चुदवाने के लिए फिर से मेरे सामने थी. वो मेरी हर हरकत का मजा ले रही थीं और बच्चों के जैसे किलकारी मार रही थीं.

वो बोली- अरे मुझे भैंस के नीचे घुसाएगा क्या … इसने मेरे ऊपर पैर रख दिया तो!मैं- भाभी, ये दूध निकलते हुए हिलती भी नहीं है … आप आराम से बैठ जाओ.

थोड़ी ही देर के बाद उसने मेरे सिर को अपने हाथों से चूत पर दबाया और उसकी चूत का झरना मेरे मुंह में छूट पड़ा. अब्बू- तुम्हें मज़ा आता है न इस तरह सुबह सुबह की छेड़खानी में, इसलिए कर रहा था. वो इतना अच्छा लंड चूसती थी कि मुझे अपना लंड उसके मुँह से निकालने का मन ही नहीं कर रहा था.

तभी गुलचीन ने अपनी टांगें मेरी कमर से लपेट कर कहा कि नहीं मेरे राजा, लंड मत निकालियो … बस अभी कुछ देर बाद मुझे भी मजा आने लगेगा. अब उसकी दर्द भरी आवाजें बंद हो गयी थीं और सिसकारियां निकलना शुरू हो गयी थी. भानू सिंह ने अपने शरीर की पूरी ताकत लगा कर शालू को चोदना शुरू कर दिया.

दूसरा ग्रुप अंकित और आकांक्षा का था और तीसरे ग्रुप में मैं और सायली थे. मैंने अब राज के लोवर को नीचे करके उसका लंड बाहर निकाल लिया और ऊपर नीचे करने लगी.

दोस्तो, एक बात कहना चाहता हूं कि अगर आप किसी भी महिला के साथ सेक्स कर रहे हो और आपने उसकी चूत को नहीं चाटा या पीया तो सेक्स में कोई मजा नहीं. आपने मेरी सेक्स कहानी के पहले भागगर्म चूत की धकाधक चुदाई- 1में पढ़ा था कि सायली और अंकित ने खुली छत पर ताबड़तोड़ चुदाई का मजा लिया था, जो मैंने अपने मोबाइल में रिकॉर्ड कर लिया था. फिर मैंने उसकी दूसरी चूची भींची, तो वो मस्त हो गई और बोली- भाई … अब तो तू चोद दे.

कुछ मिनट बाद जब में चाची के ऊपर से हटा, तो मैं फिर से चाची को किस करने लगा.

जैसे ही अंगूठा चुत के अन्दर गया, अम्मी बड़ी जोर से चिल्ला दीं- हाय अब मैं झड़ जाऊँगी, अब और नहीं रोक पाऊँगी अपने आप को. मेरे धक्कों की रफ्तार बढ़ती ही जा रही थी और आंटी का मजा अब दर्द में बदल रहा था. इस पोजीशन में लंड आधा ही अन्दर गया था कि मामी दर्द के मारे तिलमिला उठीं.

और सच कहूँ तो तुम्हें देखकर मेरा हमेशा से ही तुम्हारा भी रस पीने का दिल करता था मगर सोचता था कि पता नहीं, तुम मानोगी या नहीं. लेकिन उसके लिए मेरा लंड पहला नहीं था, इसलिए उसने ज्यादा कुछ चिल्लपौं नहीं की.

मैं भी ये आधे घंटे में मैं भी 3 या 4 बार झड़ चुकी थी और अब हम दोनों बहुत थक गए थे. फिर मैंने मैडम से कहा- मैडम आपका वजन कितना है?मैडम बोलीं- याद नहीं … शायद 90 केजी होगा. तभी प्रिंसिपल साहब ने मेरा टॉप ऊपर खिसका दिया और मेरी ब्रा पर हाथ फेरने लगे.

सेक्स वीडियो बीएफ इंग्लिश

अनुराधा क्या हम दोनों एक दूसरे को जिस्मानी खुशी नहीं दे सकते हैं?मैं भाई साहब की बातें सुन रही थी … मगर कोई जवाब नहीं दे पा रही थी.

फ्रेश वगैरह होकर नीचे खाने के लिए चला गया।शादी का घर था तो सबका खाना एक ही जगह था। फिर खाना खाकर अपने रूम में आ गया।तभी मेरे दरवाजे पर किसी ने नॉक किया।मैंने देखा तो वो प्रिया थी. फिर अपने पैर से सहलाते हुए नीचे को आई और धीरे धीरे मेरे लंड को पैरों से जकड़ने लगी. मेरी दर्द भरी स्थिति खत्म होते देख कर उसने मेरे मुँह से टेप निकाल दिया.

उन्होंने पूरा गिलास एक ही घूँट में खाली किया और मुझे देखते हुए कहा- मोना मैं आज से तुम्हारे लिए सिर्फ मयंक हूँ. मैडम मेरे पास आकर बैठ गईं और बोलीं कि रिजल्ट आने में अभी समय लगेगा. डॉन सेक्सीदोस्तो, काफी बार मैंने सेक्स किया था लेकिन आज जो मजा आ रहा था अलग ही था.

मेरा लंड आज भी उसकीगुलाबी चूतके लिए तड़प उठता है।प्रिय पाठको, मुझे आशा है कि आपको इस छोटी सी लेकिन रोमांटिक कहानी में मजा अवश्य आया होगा. कभी कभी मैं भाभी की चूची के निप्पल को अपने दांतों से हल्के से काट भी लेता था, जिससे उनको दर्द भी हो रहा था.

टोपे से दो इंच अंदर तक लंड घुस गया था और रेखा भाभी दर्द भरी आवाजें करती हुई छटपटाने लगी- ऊईई … आआ … नहीं … ओह्ह … निकालो … उफ्फ … ईईई … मर गयी. अभी वो कॉलेज जाती है। उसका बदन अभी भरा नहीं है लेकिन वो बहुत सुंदर और कातिल जिस्म की मालकिन है. सारिका भी मस्ती के मूड में थी और वो भी नाईट क्लब की रंगीनियाँ देखना चाहती थी.

मैं तुम्हारी पत्नी कैसे हुई?तब सुरेश बोला- मादरचोद … अभी बित्ते भर की है लेकिन बात करती है बड़ी बड़ी!वो बोला- तू मेरी पत्नी है बस!इतनी देर में उसका लंड फिर खड़ा हो गया. मेरी गांड में बटप्लग लगा था और चुत में डॉटेड स्ट्रैपऑन का तीन इंच हिस्सा घुसा हुआ था. मैं ये तो समझ रहा था कि वो ज्यादा व्यस्त रहती है लेकिन फिर भी देर सवेर वो मुझे रिप्लाई ज़रूर कर देती थी।मैं रात को जब भी उसे याद करता था तो मेरा लण्ड खड़ा हो जाता था और मैं उसके नाम से पानी निकाल देता था अपना।एक दिन मैंने मौका पाकर उससे कहा- मुझे उससे दोस्ती करनी है.

उसके बाद मैंने इशिका की चुत साफ़ की और हम दोनों ने बिना सेक्स किए ही कपड़े पहन लिए.

मैंने कहा- आपको मुझसे क्या चाहिए?उन्होंने कहा- पहले तो मैं तुम्हें सिर्फ शारीरिक सुख के लिए बुलाना चाहती थी. नूपुर मेरे पड़ोस के घर में रहती है, पड़ोसन होने की वजह से हमारा और उसके परिवार के संबंध बहुत ही बढ़िया थे.

पांच मिनट बाद मैंने लंड उसकी चूत में से बाहर निकाल लिया और बेड पर लेट गया. लंड अन्दर जाते ही वो मचल उठी- नहीं … मुझे बहुत दर्द हो रहा है … प्लीज़ रहने दो. थोड़ी देर मम्मे चूसने के बाद मैंने उसकी पैंट भी उतार दी और पैंटी को भी निकल दिया.

उसी समय मुझे अपना प्लान रखना था, सो मैं रुक गया और अपना लंड उसकी चूत से निकाल लिया. उनके लौटने के बाद क्या हुआ, पढ़ियेगा अगले भाग में!आपको यह माल चुदासी लड़की पटाना कहानी में मजा आ रहा है ना?[emailprotected]माल चुदासी लड़की पटाना कहानी का अगला भाग:बबीता और उसकी बेटी करीना की चुदाई- 2. चाय पीने के बाद आंटी कप रखने के लिए किचन की ओर गईं तो उनके मटकते चूतड़ों ने मेरा लण्ड टनटना दिया.

इंडियन बीएफ पोर्न पांच मिनट के बाद उसको मजा आने लगा और उसकी गांड ने मेरे लंड को अंदर जगह देना शुरू कर दिया. जब मैंने इसका कारण पूछा, तो चाची बोलीं- सेक्स की तड़प जितनी ज्यादा होती है … मजा उतना ही ज्यादा आता है.

भाभी का बीएफ सेक्स वीडियो

वो बोली- कुछ भी? नहीं पागल, मुझे पता है कि मैं क्या हूं और किन कपड़ों में कैसी लगूंगी. लंड देखते ही संगीता भी घुटनों के बल बैठ गई और उसने अपने दोनों हाथों से मेरा लंड पकड़ लिया. उसके जाते ही मैंने अंकिता का हाथ पकड़ा और अपने लोवर के ऊपर ले जाकर उसके हाथों में अपना लंड थमा दिया.

मैं बोला- भाभी तुझे लगे के मेरे जैसे से कोई छोरी सैटिंग करेगी के!भाभी बोली- नू तो पता बहुत दिन से है … देखने लग रही तू मेरे से भी एक दो बार बोला होगा. मेरा लंड हल्का छिल चुका था तो ज्यादा जोर नहीं लगा रहा था, मगर गले तक लंड रगड़ रहा था. हिंदी सेक्सी खुला सेक्सीकुछ दिनों बाद भाई साहब ने सब कुछ ईश्वर की मर्जी मान कर खुद को समझा लिया.

फिर मैंने उसे धक्का देते हुए कहा- तुम बहुत बत्तमीज़ हो।और उठ कर कमरे में चली गई।वो अगली सुबह बहुत शर्मिंदा लग रहा था। मुझसे नजरें नहीं मिला रहा था.

उसकी काले कलर की पैंटी जो कि चूत की जगह से गीली हो गई थी उसको ऊपर से सूंघ कर मैं उसकी खुशबू लेने लगा. वो एक अदा से बोली- बस हाथ ही मुलायम हैं क्या?मैं भी समझ गया कि आंटी भी पूरे मूड में है.

अब विदा लेता हूँ दोस्तो, ये हिंदी चुत सेक्स कहानी आपको कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताना. वो शायद मुझसे मिलने के लिए बेचैन थीं इसलिए पार्क में समय से कुछ पहले ही पहुँच गई थीं. ममता- अरे तो चूस लेती! इसमें क्या बड़ी बात थी?शीतल- लण्ड कैसे चूसती यार, वो तो गंदा रहता है.

मैंने उससे कहा- वैसे तो संडे को आओगी ही, मगर बीच में जरूरत पड़े, तो आ जाना.

लंड चुसवाते ही मेरी तो हालत पतली हो गई और सच में लंड फिर से फनफना उठा. ऑन करके उसके ऊपर चढ़ गया।उसके बूब्स को मसलते हुए उसके लिप्स चूसने लगा। वो भी गर्म होने लगी. मेरा जोश और ज्यादा बढ़ गया और मैं चूत की फांकों को हल्के दांतों से काटते हुए जीभ से चूत को चोदने लगा.

ब्लू पिक्चर सेक्सी चोदी चोदा वीडियोमैं सुबह होते ही भाभी को चूमकर बाहर निकल गया अपने कमरे में जाकर सो गया. लड़कियों का यही बूब्स दिखाने-छिपाने का अंदाज मर्दों को पागल बनाता है.

टॉयलेट वाली बीएफ

कुछ देर के मुखमैथुन के बाद ही उसका बदन अकड़ने लगा और उसकी चूत से रस की धार फूट पड़ी. लेकिन जब मैं 19 की हुए और 11वीं क्लास मैं आयी, उस समय मेरे बापू जी की तबीयत अचानक खराब हुई. तो मैंने बोला- क्या?वो बोली- यार मेरी कुछ फ्रेंडज़ साहिल से मिलना चाहती हैं … और मैं भी एक बार और … तो बता तेरे घर आ जायें हम लोग?मैंने पूछा- मिलना मतलब?तो राजसी ने साफ बोल दिया- वो दोनों और मैं उससे चुदवाने आऊंगी.

सुयश का रूम समता के रूम के सामने वाला था।समता रूम में जाकर फ्रेश होकर सुयश के रूम में आई. अब मैं उसके घर रात में छत के रास्ते चला जाता हूं और वो भी मेरे घर आ जाती है, अब आशी और मेरी हफ्ते में 3 दिन चुदाई होती है. मैंने तुरन्त उनके मुँह से अपना लंड बाहर निकाला और कहा- लंड चूसने का मजा चुत चुसवाने के साथ ले लियो.

आगे भी मैं आप लोगों को अपने सच्चे किस्से बताऊंगा कि कैसे मैंने बहुत सी भाभियों को चोदा है। आप लोगों को टीचर सेक्स कहानी कैसी लगी मुझे ईमेल करके जरूर बताना. मीता के होंठ आजाद हुए तो वो लम्बी सांस लेते हुए कहने लगी- आह आइ मर गई मम्मी रे … उफ्फ बहुत दर्द हो रहा है. अगर तू किसी दिन कहीं चला गया, तो कौन निकालेगा!मैं बोला- भाभी, दो मिनट रुक … जब थोड़ा सा रह जावेगा, तब निकाल लेना.

स्कूटी को बैलेंस करते हुए चाची धीरे धीरे उसे आगे बढ़ाने लगीं … और मैं चाची के पीछे उनकी गांड से चिपक कर बैठा रहा. प्लान के मुताबिक हमने ऐसा समय तय किया था जब उसके बच्चे स्कूल चले जाते थे और उसका पति काम पर चला जाता था.

वो रुक तो गए थे लेकिन वो लंड निकालने से मना करने लगे और बोले- तुझे आज कैसे छोड़ सकता हूँ मोना डार्लिंग … तुझे चोदने के लिए ही तो बुलाया है.

”उसके चुचे इतने नर्म थे कि जैसे लग रहा था कि कॉटन हाथ में ले लिया हो. सेक्सी पूरा ओपनमैं जब भी उनकी दुकान पर जाता तो ऐसे चलता ताकि उनका भी ध्यान मेरे ऊपर जाए और वो मेरी गांड को देखकर मेरी ओर आकर्षित हों. देसी रंडी की सेक्सी फिल्ममैडम ने दूसरे हाथ से मेरी पैन्ट के ऊपर से ही मेरे लंड को पकड़ा और बोलीं- अपने इस मूसल से तुमको मुझे भी खुश करना पड़ेगा. मैंने उनके दोनों पैर मेरे कंधे पर ले लिए और मेरे होंठ अब भाभी की चुत के सामने थे.

मैं उठा और बियर लेने जाने लगा, तो वो बोली- मुझे स्ट्राबेरी फ्लेवर बहुत पसंद है … अगर कुछ मीठा लाए, तो ध्यान रखना.

तब चौधरी बोला- सब बाहर जाओ!जितने भी लोग वहां पर थे, सब बाहर चले गये. कुछ देर बाद अस्मा फिर से गर्म हो गई और कासिब से बोली- भाई अब बर्दाश्त नहीं हो रहा … प्लीज़ अब जल्दी से अपने लंड से मेरी चूत फाड़ दो. मैं तुमसे हर बात शेयर कर सकूं … तो ये मेरे लिए सोने में सुहागा होगा.

इधर मैं फुल स्पीड में बिना ब्रेक के पूजा की गांड को चोदे जा रहा था. मैंने लंड हिलाते हुए भाभी से पूछा- भाभी, कंडोम?भाभी ने एक ड्रावर की ओर इशारा किया. इससे वो बिलबिला गई और गाली बकने लगी- साले लौड़ा क्यों निकाला मादरचोद.

बीएफ बीएफ सेक्सी हॉट

फिर मैंने राजसी से अलग जाकर पूछा- तू तो कह रही थी कि तीन लड़कियाँ है. मैं चाय की चुस्कियां लेते हुए अपनी कुछ चुदाई की कहानी को सोचने लगा. फिर पहला आदमी बोला- चूसो इसे!कोमल जीभ से लंड का टोपा चाटने लगी और मस्त आवाजें करने लगी- ऊऊम्म् … अअईई … आह्ह।लगभग 15 मिनट तक जीभ से पूरा लंड चाटती रही और आंड भी.

जैसे ही लौड़ा बाहर आया … तना हुआ लोड़ा काफी लंबा और 3 इंच मोटा लग रहा था।देखते ही मेरे मुंह में पानी आ गया.

हमको भी आपके जैसा ही पति चाहिए जो अपने कड़क लन्ड से मेरी जवानी को संतुष्ट कर पाए।अपने लन्ड के मछली के छिद्र जैसे बिल पर से चिपचिपे रस को उंगली से पोंछते हुए मैं बोला- जानू! तुम अभी हमको अपना पति ही समझो.

दीदी की उम्र 24 साल है और जीजू की 27 साल।मैं पिछली होली पर दीदी के ससुराल गयी थी। दीदी और जीजू एक रूम में सोते थे. उसको दर्द नहीं हुआ तो वो बोली- कितना बड़ गया?तो मैंने बोला- आधा!वो बोली- तेरे भाई ने एक दिन पूरी जोर से धक्का मारा, मेरी गान्ड ही फाड़ दी होती. सेक्सी सुहागरात इंडियाजल्दी ही हमारी उत्तेजना बढ़ गई और इस मैंने उसको कई पोज़िशन में चोदा.

लंगड़ा क्यों रही हो?मधु ने जवाब दिया कि ये सब उसी वजह से हुआ, जो थोड़ी देर में आपकी चूत के साथ भी होने वाला है. मैं ये देख कर खुश हो रही थी और बिना रुके लंड को अन्दर बाहर कर रही थी. सेक्सी सेक्सी लड़की की कहानी में पढ़ें कि कैसे एक फिल्मी एक्ट्रेस ने मेरी पसंद की सेक्सी हॉट लड़की की चूत चोदने में मेरी मदद की.

आज भी जब को याद करता हूं तो हाथ से काम चलाता हूं क्योंकि आजकल कोई नहीं मिलती इतनी आसानी से. नूपुर- पिंटू मेरे बूब्स को थोड़ा धीरे धीरे सहलाओ ना!पिंटू- हां क्यों नहीं.

ये आंनद-क्रीड़ा ही मुझ जैसे उम्र दराज लोगों के लिए मनोरंजन का साधन होता है.

दोस्तो, एक बात कहना चाहता हूं कि अगर आप किसी भी महिला के साथ सेक्स कर रहे हो और आपने उसकी चूत को नहीं चाटा या पीया तो सेक्स में कोई मजा नहीं. हम दोनों की किस इतनी उत्तेजक थी कि दोनों के मुँह में से लार बाहर टपक रही थी. उस नवविवाहिता जवान लड़की की कुंवारी चूत में मैंने उंगली डाल कर देखा तो उसकी चूत चिकनी हो चुकी थी.

देहाती सेक्सी वीडियो फुल ओपन भाभी का ब्लाउज हवा में झूलने लगा था और उनकी लाल रंग की रेशमी ब्रा रह गई थी. दो साल पहले ही उसके पति की डेथ हुई थी … वो एक बेहतरीन शैफ है और जॉब करती है.

[emailprotected]सेक्सी लड़की की वासना की कहानी का अगला भाग:कुंवारी पड़ोसन को बियर पिलाकर मस्त चोदा- 2. फिर अम्मी ने अब्बू के गालों को काटा और बोलीं- ज्यादा मत छेड़ो, नहीं तो अभी एक घंटे तक कायदे से निचोड़ दूंगी. अब करीना और बबिता दोनों चुदती हैं और श्यामली को मैंने कुलजीत के हवाले कर दिया है.

हिंदी बीएफ वीडियो भेजिए

मेरे पड़ोस में एक परिवार जिसमें मेरे चाचा राहुल और चाची संजू और उनका दो साल का लड़का रहते हैं. मैंने कहा- तो इतनी सी बात थी? इसके लिए तो आप मेरे ऑफिस में आ जातीं?उसने कहा- अगर मैं बार बार ऐसे आपके ऑफिस में जाऊंगी तो आपके साथियों और स्टाफ को शक हो जायेगा. मैंने जैसे ही अपना मुँह खोला की संगीता ने अपनी लार से मेरा मुँह भर दिया और फिर अपने होंठों को मेरे होंठों पर जड़ दिया.

फिर मुझे नीचे लिटाकर मेरे मुंह में लंड दिया और मेरी गांड में उंगली डालकर चोदने लगे. फिर मुझे अपनी बांहों में लेकर किस करके बोले कि मोना बेबी कल से तुम ऑफिस से छुट्टी ले लो, कुछ दिन और रात तुम मेरे दूसरे बंगले पर रहोगी.

वो नीचे बैठ कर कासिब का लंड चूसने लगी और कासिब अस्मा के चूचे मसलने लगा.

लेकिन जब उस गधे ने अपनी जेब से रूमाल निकाला, उसी समय उसकी जेब से नकल का पुर्जा निकल गया और मैडम ने देख लिया. फिर मैंने बातों बातों में उसकी तारीफ की।हम बैठे तो उसने पहला सवाल यही पूछा- तो बोलो, क्यों मिलना चाह रहे थे?मैंने कहा- बस … ये तो आपसे मिलने का बहाना था. संगीता आकर सीधे मेरे वाले सोफ़े पर ही बैठी और मेरे सामने देखते हुए बोली- तो … आज तुम्हारा पूरी नाइट जागने का प्रोग्राम है?मैं- नहीं, लेकिन अब मुझे नींद नहीं आएगी.

मैं एक पल के लिए रुका और पूछा- वो कैसे?मामी- मुझे लगता है कि मुझे कुछ करने की जरूरत ही नहीं पड़ने वाली है. अम्मी बेकाबू होकर बोलने लगीं- हाय चिंटू के अब्बू … अब लंड डाल के झटके दो, नहीं तो मैं बिना लंड का मज़ा लिए झड़ जाऊँगी. मैं जानबूझकर आंटी के शरीर को कातिल निगाहों से घूर रहा था, एक दो बार आंटी से नजर मिली तो उन्होंने आँखें नीचे कर लीं.

मैंने उसको अपने मजबूत हाथों से पकड़कर बिस्तर पर लिटा दिया और कामुक हो झटपट साड़ी खोलने लगा लेकिन मेरा लन्ड इंतजार करने को बिल्कुल भी तैयार नहीं था.

इंडियन बीएफ पोर्न: चुदाई के बाद स्वरा ने अपने बैग से सिगरेट निकाली और सोफे पर बैठकर पीने लगी. मेरा हाथ उसके मुंह पर लगा था और वो हूंऊऊ … हूँऊऊ … की दर्द भरी आवाज कर रही थी.

मैंने कहा- नहीं, वो अभी यहां क्या करेगी?उसने कहा- वो मेरी फ्रेंड है … मुझे डर लग रहा है प्लीज़ मुझे उसे बुला लेने दो. अभी भाभी कुछ बोल पातीं कि उससे पहले मैंने धीमे से धक्का लगा दिया और लंड अन्दर सरक गया. जैसे ही मैंने उसके एक आम को चूसा … वो किलकारी भरते हुए आह आह करने लगी.

अंकल के चले जाने के बाद जब से मैंने आंटी के चूचे देखे थे, उससे तो मेरी हालत और भी खराब हुई जा रही थी.

लगभग दस मिनट तक चूसने के बाद मेरे लंड में अब फिर से तनाव आने लगा था. तो मेरे प्रिय पाठको, आपनी मेरी बुआ सेक्स की हिंदी कहानी कैसी लगी? आप मुझे ई-मेल करके बता सकते हैं।मुझे फैमिली सेक्स बहुत पसंद हैं।इसके बाद मैंने कैसे मेरी मम्मी को चोदा, ये भी बताऊंगा।[emailprotected]. अम्मी अब अपने हिसाब से अपनी गांड से झटके मार सकती थीं … क्योंकि अब पूरा नियंत्रण अम्मी के हाथ में आ गया था.