बीएफ सेक्स वीडियो दिखाना

छवि स्रोत,बीएफ चुदाई सेक्सी वीडियो में

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ अंग्रेजी इंग्लिश: बीएफ सेक्स वीडियो दिखाना, इसलिए मैं भी यह बोल कर कि डेविड तुम फिल्म देखो, मैं चेंज करके आती हूँ.

जनावराचा बीएफ

हुआ यूँ कि एक मेल मेरे पास आया कि आपकी दूसरी स्टोरी ‘आपा के साथ सुहागरात. फुल एचडी बीएफ सेक्सी चुदाईइसका मतलब नीति मैडम ने रात की चुदाई का सारा प्रोग्राम उसे बता दिया था.

रात 9 बजे… बिज़ी नेशनल हाईवे पर खड़ी कार में प्रेम-आलाप… अव्वल दर्ज़े की मूर्खता के सिवा कुछ और हो ही नहीं सकता. बीएफ बड़ेमैंने धीरे से गांड पे हाथ फेरा और चूतड़ को हल्के से दबाया तो मुझे उसकी मुलायम गांड पर हाथ फेरने में मजा आ गया.

मेरी वाइफ ने उसकी और कोई ध्यान ही नहीं दिया और ऐसे ही टांगें खोल कर बैठी रही.बीएफ सेक्स वीडियो दिखाना: वैसे और भी लड़के हैं, जो मेरी चुत में डालने के लिए अपना लंड खड़ा किए रहते हैं मगर वो कम पैसे देते हैं, इसलिए मैं उनसे नहीं चुदवाती हूँ.

ये बात करीब आठ साल पहले की है, जब मैं पटना में रहता था और एक ऑफिस में काम करता था.पहले तो वो नॉर्मल रहीं, फ़िर ठंडक का अहसास होते ही भाभी उछल पड़ीं- भैनचोद, क्या डाला तूने चूत में.

सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी - बीएफ सेक्स वीडियो दिखाना

अब विनय ने मेरी पेंटी को अपने दोनों हाथों से नीचे खींच दिया और मेरी टाँगों को फैला कर मेरी चूत में मुँह लगा कर चूसने लगा.थोड़ी देर बाद जब मिंकी अपनी चूत साफ करने के लिये उठी तो उससे चला नहीं जा रहा था.

मेरे प्यार दोस्तो, कैसे हो आप सब… मेरा नाम हरी है, मैं गाज़ियाबाद के पास मोदीनगर शहर में रहता हूँ. बीएफ सेक्स वीडियो दिखाना तो उन्होंने कहा कि चलो कोई बात नहीं लेकिन अब तो दर्द नहीं हो रहा ना!मैंने कहा- नहीं अभी तो नहीं हो रहा लेकिन जब होगा तो बता दूंगा.

दस मिनट के बाद भाभी को मैंने अपने नीचे ले लिया और उनकी ब्रा पेंटी निकाल दी.

बीएफ सेक्स वीडियो दिखाना?

उन दिनों अंकल भी किसी काम से बाहर गए थे और दो हफ्ते बाद आने वाले थे. भैया ने कहा- नहीं यार, तुम मत जाओ, रिया तुम्हें नंगी होने की ज़रूरत नहीं है, तुम खाली अपनी पेंटी उतार लो और साड़ी ऊपर कर लो, बाकी मैं कर लूंगा, उन्होंने ऐसा ही किया. मेरी बहन ने एक नज़र मेरे लंड को देखा और वापस अपनी आँखें बंद करके लेटी रही.

एक तरफ तो मेरी इज्जत और सास के रुतबे का ख्याल आ रहा था, दूसरी तरफ मुझे मेरी बेटी के भविष्य की चिंता भी हो रही थी. मैं तो भाई साहब के साथ छेड़खानी करने के कारण गरमाई हुई थी ही, सो लंड के कुछ ही प्रहार से स्खलित हो गई. वैसे तो वो अच्छी औरत थी, लेकिन वो टोटका आदि करती थी और शराब बेचती थी तो कोई उसे पसंद नहीं करता था.

मैंने उन्हें एकटक देखा ओर अपना मुँह मैंने ब्रा के ऊपर रख दिया जिससे उनकी सिसकारी निकल गई ‘ईश्श्शशहह. उम्म्ह… अहह… हय… याह… साले फाड़ दो मेरी चुत को… लव यू जान…मैं उसको और तेज़ चोदने लगा. तभी पायल बोली- वीशु जी, आराम से चोदो, मैं कहाँ भागी जा रही हूँ… और अभी कस्टमर्स के आने में भी बहुत समय है, इसलिये आराम से करो न प्लीज!मैं धीरे धीरे धक्के लगाने लगा और रेहाना के दूध दबाने और पीने लगा.

”पिंकी ने मना किया तो गोलू रोते हुए जोर से बोला- पिंकी, तुम्हें मेरे लंड पे किस करना है. तभी उन्होंने अपनी रफ़्तार बढ़ दी और आअह्ह हहह हहहह कर के झड़ने लगी- लव यू शिव… लव यू शिव… बोल कर मेरे ऊपर गिर गयी.

मेरे इसका” बुरा हाल है।मैं लण्ड की तरफ इशारा करते हुए बोला। जैसे ही मधु ने मेरी उंगली के इशारे की तरफ देखा.

उसने भी पलटकर मेरे अंडरवियर को निकाल दिया और मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ कर उस के टोपे को चाटने लगी.

अब मैंने धीरे से उसकी चुत के ऊपर अपना लंड टिका दिया और धीरे धीरे रगड़ मारने लगा. वो हाथ अन्दर ले जाना चाहता था पर मैंने ही मना कर दिया कि अभी ये बाकी के दोस्त देख लेंगे. आपकी भेजी हुई मेल्स मुझे बताएंगी कि आपको मेरी लिखी हुई रियल सेक्स स्टोरी कैसी लगी.

मुझे पता था कि मॉम नीचे कुछ नहीं पहनती हैं, तो मैंने मॉम की मैक्सी धीरे धीरे ऊपर करना शुरू की और उनकी गांड से ऊपर तक उठा दी. भाभी जी पैर खोल कर लंड लीलने की तड़फ दिखाई, इससे मुझे उनकी चुत का छेद लपलप करता दिख गया. तभी बालू बोले- ऐसी भी क्या जिद है? चलो देखता हूं, कैसे अभी रह पाओगी बिना मेरा लोड़ा घुसवाये!मैं बोली- देख लो, आजमा लो, पागल तो मुझे कर ही दिया है!उसी समय फिर एक हाथ से मेरे नंगे बूब्स दबाने लगे, एक हाथ से चूत में अपनी उंगली डाल दी, बालू को मुझे तड़पाने में बहुत मजा आ रहा था.

मैं खामोशी तोड़ते हुए बोला- भाभी आपको ये दर्द भरी चुदाई क्यों चाहिये?सेजल भाभी मुस्कुराईं.

मैंने रोशनी की मम्मी से पूछा- आंटी, क्या रोशनी और मैं मिलकर एक न्यू इंग्लिश ट्यूशन क्लास चलाएं, यहाँ काफी लोग इंग्लिश पढ़ना चाहते हैं, हम पैसे भी कमाने लगेंगे और हमारी भी प्रॅक्टिस होती रहेगी. इससे आगे मैं कुछ बोलता, तो उसने रोक दिया और बोली- अब तो मिलना ही पड़ेगा. अब मैंने उनकी चिल्लपों को नजरअंदाज किया और जोर जोर से धक्के मारने लगा.

मेरी बीवी बोली- पहले खाना खा लीजिएगा जनाब!खाना खाने के बाद हम तीनों रेडी थे. मैंने अपनी बेल्ट खोली और पैन्ट को थोड़ा नीचे किया और अंजलि को थोड़ा नीचे करके लन्ड उसके मुँह में दे दिया; अंजलि मेरा लन्ड जोर जोर से चूसने लगी. हम दोनों एक दूसरे की बांहों में लिपट कर अपनी गरम साँसों को एक दूसरे से साझा करने लगे.

ऊऊऊ ऊऊहह ऊऊऊ…” अपने मुंह से किसी गाय का पीछा करते सांड जैसी धवनि निकलता आर्थर जवान, कमसिन, अलौकिक सुन्दर लड़की की गांड के अंदरूनी हिस्सों को अपने सुपर लंड से छिन्न भिन्न करता चला गया.

तो मैंने झट से मोबाइल पर अंतरवासना डॉट कॉम खोल कर दिल्ली वाली भाभी की कहानी उनको दे दी कि इसको पढ़िए, ये मैंने ही लिखी है. फिर मेरा नम्बर कैसे मिला?तो उसने बोला- मैंने याद कर लिया था और ऑटो से उतरने के बाद अपने मोबाइल में नोट भी कर लिया था.

बीएफ सेक्स वीडियो दिखाना वो गर्म होने लगी तो मैंने उसके कपड़े उतार दिए और उसके उभरते हुए मम्मे चूसे. फोन लेते हुए बोलीं- किसी ने दिल तोड़ा है क्या?मैं- आपको ऐसा क्यों लगता है?वो- गानों का कलेक्शन बता रहा है.

बीएफ सेक्स वीडियो दिखाना मैं अपने जीवन में पहली बार किसी का कामरस चाट रहा था, उसके कामरस से एक मीठी सी खुशबू आ रही थी, जो मुझे और पागल कर रही थी. मुझसे कंट्रोल नहीं हुआ और मैंने सोचा क्यों न एक बार अपना लंड मॉम की चुत पर टच किया जाए.

मैंने करवट लेने के अंदाज में पलटते हुए अपने हाथ सीधे मां के ऊपर रख दिया तो भौंचक्का रह गया.

साउथ बीएफ फुल एचडी

चर्रर… की आवाज़ के साथ कैंची का एक हिस्सा पैंटी में घुस गया और फ़िर मैं धीरे धीरे उनकी पेंटी काटने लगा. यह देख कर मुझसे रहा नहीं गया और मैंने उन्हें अपने मुंह में ले लिया और जोर जोर से चूसने लगा।मामी एकदम से जोर जोर से सिसकारियां लेने लगी।थोड़ी देर बाद मैं स्तनों को चूसते चूसते नीचे उनकी पेट पर किस करने लगा और एक हाथ से उनके पेटिकोट का नाड़ा खोल दिया तो उनकी लाल रंग की पैंटी दिखने लगी।मैं तुरंत उनकी पैंटी उतार कर उनकी काली चूत को देखने लगा. दोस्तो, जैसा कि आपने पिछलीसेक्सी कहानी मकान मालकिन की चुत चुदाई कीमें पढ़ा था कि किस तरह मैंने और निशा ने सेक्स की शुरुआत की.

वो बहुत खुश लग रही थीं, फिर कुछ देर बाद खाना बन गया वो मुझे चुम्मी देकर बाय कहते हुए चली गईं. दोस्तो, मेरे दूध बहुत सेक्सी हैं… बड़े बड़े, गोल गोल, मुलायम और बेहद नर्म. मैं- थैंक्स मेरी तरफ से भी मुझे तुमसे अपनी चुत चुदाई करवा कर बहुत अच्छा लगा.

यकीन मानिए अगले कुछ पल मेरी जिन्दगी के वो पल थे, जिनका मैंने कभी सपने में भी गुमान नहीं किया था.

पर कुछ डाक्यूमेंट्स की प्रॉब्लम हो गई थी, इसलिए वापस आने में समय लग गया. जिस दिन चाचा जी को जाना था, तो उन्होंने मेरे घर फोन किया कि आज घर पर चाची और बेटा अकेले हैं तो आज हार्दिक को बोल दो कि वो इधर ही सो जाएगा. उसकी गांड का छेद बहुत छोटा सा था, उसमें थोड़ा चूत का अमृत चला गया था, साथ ही में छोटे छोटे बाल चिपके हुए थे.

फ़िर एक थप्पड़ जोर से उनकी चूत पर मारा, इस बार वो कुछ नहीं बोलीं, सिर्फ उनके मुँह से एक दर्द भरी आहह निकली. ”प्रिया ने मुदित आँखों से मुझे देखा, मुस्कुरायी और फिर प्यार से मेरे होंठों को चूम लिया. मैंने उनकी चुत से उंगली बाहर निकाली और स्थिति बनाते हुए उनके मुँह की तरफ लंड कर दिया.

वो एकदम से चुदासी सी हो गई और मुझे अपनी चूची अपने हाथ से पिलाने लगी. उस दिन मैंने जानबूझ कर ढीले कपड़े पहने हुए थे, जिसमें से उसको मैं मम्मों की दूधिया घाटी और अपनी चड्डी की झलक भी दिखा सकूँ.

शायद उनका इस तरह से पहली बार था पर साला मेरे मुँह से भी आवाज़ निकल गई, दर्द मुझे भी हुआ. मैंने उनसे कहा- चाची अब जरा डॉगी स्टाइल में आ जाओ… मुझे पीछे से आपकी गांड मारनी है. कुछ देर बाद वो झड़ गया, उसका कंडोम मैंने निकाला और लंड का क्रीम चाटने लगी.

कुछ ही देर में मैं एक बार और झड़ गई और इस बार चिंटू भी मेरी चूत का सारा रस पी गया.

मैंने भी कम टाइम को देखते हुए जल्दी से सेक्स करना ठीक समझा क्योंकि मम्मी भी आने वाली थीं. मैंने उससे पूछा- क्या मेरी बात रवि से हो सकती है?तो उसने मुझसे बोला- वो अभी घर पर नहीं है. भाभी चीख रही थी और मैं उन पर रहम करना नहीं चाहता था।और फिर मैंने उनको छोड़ा और उनको बिस्तर पर लिटा दिया और उनकी कमर के नीचे एक तकिया रखा जिससे उनकी चुत खुल कर मेरे सामने आ गयी, मैंने एक बार में ही लंड उनकी चुत में पेल दिया, भाभी की तो जैसे जान ही निकल गयी, बोली- अबे साले, तू आदमी है या शैतान? रहम नाम की चीज नहीं है क्या? मैं भी इंसान हूँ, मुझे भी दर्द होता है.

करीब बीस मिनट चोदने के बाद उसने मां को खड़ा किया और वापस उनकी चूत में आगे से टांग उठा कर लंड पेला और मां को चोदना स्टार्ट कर दिया. अचानक मैंने धक्कों की स्पीड कम कर दी और बहुत ही हौले हौले लंड पेलना शुरू किया.

मैंने कहा- ठीक है, रात को जब तुम्हारी बहन सो जाए, तो तुम अन्दर वाले कमरे में आ जाना. उस दिन के बाद से मैं आए दिन रमेश के घर जाने लगा और उसके घर में एकदम घुल मिल सा गया. यहाँ मेरी और अम्मी के पेट की भूख मिटने के बाद अब बारी थी जिस्म की जानकारी लेने की, अम्मी ने मुझे अपने रूम में ले जा कर बैठा दिया और बताने लगी कि कैसे आदमियों को कहाँ छूने से वो पागल हो जाते हैं और मर्द औरतों को कैसे छूते हैं, कहाँ छूते हैं तो औरतें जल्दी गर्म होती हैं.

मोटी औरतों की सेक्सी बीएफ वीडियो

अब मैंने उनका गाउन उतारा और भाभी को बेड पर लिटा कर उनके ऊपर चढ़ गया.

अब साहब ने मेरी चूत में पीछे से लंड डाल दिया और जल्दी जल्दी चोदने लगे. उसके बाद परीक्षित मेरी चूत को चाटने लगे, जो मेरी चूत से रस निकल रहा था, इन्होंने उसे भी चाट लिया. मैंने कहा- आंटी, आप तेल से मेरे लंड की मालिश कर दो, फिर आसानी से चला जाएगा.

प्रिया की योनि में से कामरस के साथ साथ जैसे आग की लपटें निकल रही थी. वो बोले- चलो रचना… अब जल्दी से घोड़ी बन जाओ… इसी तरह मुझे औरतों को चोदना पसंद है. सनी लियोन की बीएफ पिक्चर वीडियोतो वो बोला- ठीक है!और इतने में किसी आवाज दी तो वो बाहर चला गया तो भाभी ने मुझे थैंक्स बोला.

तो उसको अपनी नानी याद आ गई। उसके सारे अंजर-पंजर ढीले होने लगे। वो मुझे छोड़ देने को गिड़गिड़ाने लगी।वो तब तक 3 बार झड़ चुकी थी. !मैंने कहा- पहले माल तो दिखाओ मेरी जान, आगे का खेल तो बाद में होगा.

बदले में मैंने जवाबी कार्रवाई करते हुए उनको खींचकर दीवार के बाहर खड़ा कर दिया. मैंने कई बार नीति मैडम को समझाया कि आप कैसे भी उस जाटणी (रुचिका चौधरी) को चुदवा दो. उतार ही डालो सब कुछ, वैसे भी अभी कुछ देर बाद उतारना ही है न” मैंने हंस कर कहा.

फिर पूरे सुपारे को मुँह में भरके चूसने लगी, तो मैं भी अपने लंड को उसके मुँह में अन्दर डालने लगा. वो बड़े ही खूबसूरत और भरे हुए जिस्म की मालकिन है, वो हमेशा ही सादे कपड़ों में रहने वाली लड़की है, बड़ी कंटीली लड़की है, एकदम गोल चेहरा, मस्त गुलाबी होंठ, पांच फीट दो इंच की हाईट, परफेक्ट गोल चूतड़, थोड़ा बाहर को निकला हुआ पेट, जो कि मुझे बहुत पसंद है. फिर उसने बोतल के इंजेक्टर को अपनी चूत में घुसेड़ कर अपने दोनों हाथों से दबा- दबा कर गर्म पानी अपनी ओवरी में घुसाना शुरू कर दिया.

उस दिन पूरा दिन मेरे हाथ कुछ नहीं लगा, लेकिन रात में सोने की प्राब्लम सामने खड़ी हो गई.

हाय दोस्तो, आप सभी को मेरा नमस्कार! मैं शिव राज हाजिर हूँ!मेरी पुरानी कहानीदिल्ली वाली भाभी की चूत चुदाईको आप सभी का बहुत प्यार मिला, उसके लिए थैंक्स!आज फिर मैं आप सब चूतों को हेल्लो करता हूँ और सारे लंड को नई नई चूत मिलती रहे… ऐसी कामना करता हूँ. मेरी कहानी शुरू करने से पहले मेरा सभी चूत की मालकिनों को अनुरोध है कि वे सभी कहानी पढ़ते वक्त अपनी चूत को खुली रखें ताकि आसानी से चुत में उंगली कर सकें.

थोड़ी देर इसी तरह पड़े रहने के बाद दीदी ने करेला अपनी चुत से बाहर निकाला और वहीं किचन काउंटर पे रख दिया. वैसे तो विशाल और मुझको भोजन से ज्यादा एक दूसरे की बीवी की भूख ज्यादा लगी हुई थी।हम लोग खाना खाने बैठ चुके थे और यह सही भी था क्योंकि नीलम पूरी तरह से नशे में नहीं थी।खाना खाते खाते मैंने नीलम को कोल्ड ड्रिंक में दो पेग और पिला दिए, नीलम पूरी तरह से नशे में हो चुकी थी, अब यही समय ठीक था. अब हम दोनों ही बड़ी बेताबी से एक दूसरे को चूमने चूसने और मसलने लगे… हमारी सारी शर्म खत्म हो गई थी.

इस बार वो थोड़ा सा चिल्लाई, लेकिन मैंने अपने होंठ उसके होंठों पे रख दिए और उसको चूसने लगा. मैं सोचता था कि मेरी मॉम तो पट नहीं रही हैं, इसी को पटा कर चोद लूँ. मंदिर में कॉलोनी के सभी लोग आते जाते रहते हैं, कोई उसे घूरते हुए मुझे देख लेगा, तो क्या सोचेगा.

बीएफ सेक्स वीडियो दिखाना अब मैंने अपनी नई कहानी आपके आगे रख रहा हूँ, उम्मीद है कि मेरा यह यादगार लम्हा आपके लिए भी अच्छा दिन या फिर अच्छी रात साबित होगी, इस घटना को पढ़ कर आपकी कामुकता जागृत होगी तो उसके बाद आप अपने साथी से मजेदार सेक्स का मजा ले पायेंगे. फिर उसने मुझसे पूछा- और तुम्हें मजा आया?मैंने कहा- हाँ… बहुत!उस दिन मैंने उसको रात को पूरे 3 बार चोदा हम दोनों को काफ़ी मज़ा आया.

बीएफ ब्लड वाला

उस लंड को देखकर मेरे मुँह में पानी आ गया क्योंकि मुझे गुलाबी टोपे वाले लंड बहुत पसंद हैं और ऊपर से उस स्किन ने लंड पर चार चाँद लगा दिए थे!मैंने झट से फोन नीचे रखा और दोनों हाथों से लंड को पकड़ लिया और बस यही दुआ करने लगा कि अब ये पकड़ कभी ढीली ना हो!बस उसी समय मैंने वो शानदार लंड अपने मुँह में ले लिया. मैं अपने बारे में मधु को सच बताऊँ कि मैं उसके साथ पढ़ा था। मुझे अब ये डर था कि कहीं ये जानकर वो मना न कर दे। मना कर दे. अब तुझे क्या करना है मालूम है?मुझे समझ नहीं आया तो मैं बोला- क्या करना है.

अभी कुछ ब्लेंक रिकॉर्डिंग बाकी थी क्योंकि मॉम की रिकॉर्डिंग रात की थी और मैंने दस बजे कैमरा निकाला था. अब आगे:यह सही था कि अब प्रिया अक्षत-योनि नहीं थी क्योंकि पिछले साल मैंने ही तो प्रिया को सुहागिन बनाया था तदापि सवा साल पहले के किये गए एक बार के मैथुन का असर तो कब का योनि पर से विदा हो चुका था. बीएफ ब्लू वीडियो सेक्सीआज अगर तुमने मुझे रोक लिया तो बहुत जल्दी तुम्हें आज के दिन के लिए रोना होगा, तब मैं तुम्हारे पास नहीं रहूँगा.

करीब 15 मिनट की चूसा चुसाई के बाद अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था तो मैंने उसे सीधा बेड पे लिटाया और उसके होठों पे होंठ रख दिए.

हाय मेरी माँ मैं भोले राजा पर सड़के जॉन… राजे देख यह मिस्टर तो तन तना गए… फूल के कुप्पा हुए पड़े हैं महाशय… पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च. मैंने हैरानी से अपनी पत्नी की आँखों में झाँका, तो वो एक आंख भींच कर मुस्कुरा दी!वाह! शानदार… गज़ब!” मेरे मुंह से निकला.

फिर मैंने थोड़ा थूक लगा कर फिर से झटका मारा तो मेरा लंड मेरी बहन की बुर को चीरता हुआ 3 इंच अन्दर घुस गया. प्लीज़ बस करो।पर उसने मेरी एक ना सुनी बल्कि उस साले ने अपनी स्पीड और तेज कर दी। उसके आंड मेरी गांड से खूब जोर से टच हो रहे थे। उसने अपने हाथ आगे लाकर मेरे मम्मों को पकड़ लिया और अपनी स्पीड बढ़ा दी।फिर थोड़ी देर बाद उसके मुँह से ‘अहह. जब उन्होंने पट्टी लगाई तो उनके शरीर की मादक खुशबू ने मुझे मदहोश कर दिया.

मैंने सबको नाश्ता करवाया, मेरे पति अपनी दूकान पर चले गए तो जमाई जी मुझे चुपके से बोले- सासू जी, जाने से पहले एक बार और?मैं मुस्कुरा दी।मैंने अपनी बेटी रचना को दिन में उसकी सहेली से मिल कर आने को कहा तो वो अपनी सहेली के यहाँ चली गयी।अब मैं और जमाई जी अकेले थे। उन्होंने मुझे आँगन में ही पकड़ लिया और मेरे ब्लाऊज को खोलने लगे.

हमने एक दूसरे का मूत पीने का नेट पर पढ़ा था कि मूत पीने से कोई बीमारी या खतरा तो नहीं था. लेकिन फिर सोचती कि शायद उसका दिल साफ होगा इसलिए वो मेरे लिए कुछ नहीं सोचता है. दोस्तो, मैंने दीदी को दो बार चोदा और दोनों एक दूसरे को पकड़ कर सो गए.

गांव की देहाती सेक्सी बीएफ वीडियोपर 4 दिन की चुदाई ने मेरी चूत और गांड की 2 महीने की प्यास नहीं बुझा पाई थी. पापा खाने के बारे में पूछ रहे थे कि खाया के नहीं, मैंने मना कर दिया.

बीएफ नंगी दिखाएं

अब खुल कर चुदवाओ, जब तुमने ही मुझे चुदवाना सिखाया है, तो आगे का पाठ भी तो आप ही सिख़ाओगी ना. मैं और मेरा दोस्त इलाहाबाद से मुंबई के लिए घर से निकले और एक लम्बे सफर के बाद हम मुंबई पहुँच गए. थोड़ी देर में मैं ऐसे ही सो गई।जब सुबह मेरी नींद खुली तो मैंने देखा कि जमाई जी मेरी बगलमे नागे पड़े सो रहे थे.

लेकिन मेरी मां कोई कुंवारी लौंडिया तो थी नहीं, जल्दी ही उनकी चूत ने लंड से सैटिंग कर ली और मां को चुदाई में मजा आने लगा. वो दस मिनट में मेरे पति की लुंगी बाँध कर बाहर आ गया उसका नंगा चौड़ा सीना देख कर मेरी चुत में कुलबुली होने लगी. कुछ ही देर में मां के दोनों छेद, यानि एक मुँह और दूसरा उनकी चूत में लंड अपनी मस्ती बिखेर रहे थे.

उसे ऐसा पति मिला कि वो आज मजबूर होकर किसी और के साथ वो काम करने को तैयार है. मुझको इतना बड़ा ओर मोटा लंड लेने की आदत नहीं है, मेरे पति का पतला सा लंड है. ”ठीक है भैया मैं कल से टी-शर्ट और जीन्स ही पहना करूंगी, वैसे भी मेरी मम्मी को कोई ऐतराज नहीं है.

अभी कुछ ही कदम चली होऊंगी कि अचानक मुझे लगा कि इस मौके का मैंने पूरी ज़िन्दगी इंतज़ार किया है, तो अब मुझे इसे पूरी तरह से जीना चाहिए. आह चोद और सुन, आज का पूरा दिन और पूरी रात हम दोनों को नंगा ही रहना है.

थैंक्यू वन्द्या आज के लिए!और फिर मैं तैयार होकर अंकल के घर से निकल गई, जीजा भी मेरे साथ आए और अपनी बाइक से मुझे बस स्टॉप तक पहुंचा दिया।जैसे ही बाइक से उतरी, चलने में बहुत तकलीफ होने लगी, मेरी कमर, पीछे गांड और आगे चूत में बहुत दर्द होने लगा, मैंने सामने मेडिकल स्टोर से पेन किलर की टैबलेट ली और खा ली, मुझसे 7 दिन तक ठीक से चलते नहीं बन रहा था.

फिर हमने एक दूसरे के नंबर्स एक्सचेंज किए और उसके बाद से ऑफिस कैंटीन में भी बात होने लगी. नंगी फिल्म सेक्सी बीएफमैंने उसको बेड ले ज़बरदस्ती लिटाया और उसकी गांड में आयिल लगा कर दबाव दे कर उसकी गांड में लंड का सुपारा फंसा दिया, वो फिर दर्द से शोर करने लगा. देहाती बीएफ इंडियनवो 4-5 मिनट बाद उठी नाश्ते की प्लेट लेकर आई और मेरे बाजू में बैठ कर बोली- अच्छा लो मैं आ गई तुम्हारे बाजू में. तो उसके नीचे से कमर हिलाने से मुझे भी जोश आ गया तो मैंने भी धीरे धीरे धक्के लगाना शुरू कर दिया जिससे मेरे और मिंकी के धक्कों की प्रतियोगिता सी होने लगी.

अब मेरा हाथ उनकी चूत को सहला रहा था और वो आंखें बंद किये पूरा मजा ले रही थी.

उसने मुझे पूरा कस के अपने मम्मों से ऐसे चिपका लिया था, जैसे अब वो भी देर नहीं कर सकती थी. वह मुझ पर नाराज होने लगी, कहने लगी कि तुम बहुत गंदे हो तुम्हें बिल्कुल भी मुझ पर तरस नहीं आया था. उसकी रसीली खुशबूदार चूत के बारे में तो पूछो ही मत… उसके बारे में कहानी में आगे आगे बताता जाऊंगा.

अपने लंड को चुसवाते हुए ही आर्थर ने मेरी हमसफर को ऊपर उठा लिया और खुद सोफे पर जा लेटा. वो बोले- चलो रचना… अब जल्दी से घोड़ी बन जाओ… इसी तरह मुझे औरतों को चोदना पसंद है. मॉम ने मुझे एक दिन टोका कि जो उस लड़के के साथ किया, यदि वो बहन के साथ किया तो तुझे मार डालूँगी.

बीएफ बंगाली का

मैंने उनकी टांगों को उठा कर कंधे पर रख लीं और लंड को भाभी की चूत के छेद पर लगा कर जोर का धक्का दे दिया. मुझे आज गांड ही मरवानी है मगर तेरा लंड जोश में मेरी गांड फाड़ ने दे इसलिए चुत को ही और चौड़ी कर दे. लगभग 15 मिनट तक मुझे चोदने के बाद उसने मेरे सर पर अपना लंड झाड़ दिया.

फिर वो एक एक करके अपने उतारे हुए कपड़े बर्थ पर फेंकने लगीं जो मेरे ही ऊपर गिर रहे थे; पहले साड़ी फिर ब्लाउज… फिर पेटीकोट… पैंटी और अंत में उसकी ब्रा मेरी गोद में आन गिरी.

उसकी मादक आवाजें सुनकर मैं अपनी स्पीड बढ़ाने लगा और ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा.

अन्तर्वासना के पाठको, आपको मेरी मॉम के व्यभिचार की यह हिंदी सेक्स स्टोरी कैसी लगी, मुझे मेल करके बताएं. उनके घर में ऐसे कोने नुमा जगहें बहुत बनी हुई थीं कि कहीं भी छुप जाओ तो दिख नहीं सकते थे. बीएफ ब्लू पिक्चर ब्लूमैं तेरे बीज को अपने अन्दर लेना चाहती हूँ चोद दे मुझे… और ज़ोर से आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… आहह ऐसे ही आहह आह आहह आ आ आहह आहह मज़ा आ रहा है.

फिर हमने बियर पी, फिर मस्त चुदाई की दो बार… दोनों बार चूत औरगांड की चुदाईकी. ”ठीक है भैया मैं कल से टी-शर्ट और जीन्स ही पहना करूंगी, वैसे भी मेरी मम्मी को कोई ऐतराज नहीं है. बस फिर थोड़ी ही देर में साली साहिबा दरवाजे पर आई, क्या कमाल की माल लग रही थी, बिखरे हुए बाल, अस्त व्यस्त कमीज, जिसे वो ठीक करने की कोशिश कर रही थी.

कैमरे के रियल टाइमर के हिसाब से ये सुबह के आठ बजे की रिकॉर्डिंग थी. मैंने कहा- आह चाची, बहुत अच्छा लग रहा है… थोड़ा तेज कीजिए ना… आह… थोड़ा तेज…अब वो तेज तेज अपना हाथ ऊपर नीचे करने लगीं, जिसको मैं सह नहीं सका और झड़ गया.

उसके जाने के बाद मैं दो बार उसके नाम की मुठ मार चुका था और तब भी अपने आपको शान्त नहीं कर पा रहा था.

इधर अर्पिता की चूत ने भी पानी छोड़ना शुरू कर दिया क्योंकि मेरी उंगली अर्पिता की चूत में हलचल मचा रही थी।इसी के साथ हम दोनों सामान्य हो गए, एक दम शांति, पर शायद ये तूफ़ान के पहले की शांति थी।अभी मुझे लगता है कि कहानी को एक विराम देना चाहिए. मैंने अब उसके ऊपर के झांटों में वी का शेप देना स्टार्ट कर दिया, उसके लिए मैंने ट्रिमर से बालों को धीरे धीरे छोटे छोटे करके काटना स्टार्ट किया. लेकिन मेरी मां कोई कुंवारी लौंडिया तो थी नहीं, जल्दी ही उनकी चूत ने लंड से सैटिंग कर ली और मां को चुदाई में मजा आने लगा.

देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो में तो आपकी कहानी‘सुहाग रात का असली मजा’ मिली और यह कहानी मुझे अपनी जैसी लगी। आप फरीदाबाद के पास के हो, ये जानकर मैं खुश हो गई और आपसे बात करने की सोची। फिर सोचा कि पहले आपकी भाभी से बात करूँगी। इसके दो कारण थे एक तो वो मेरी परेशानी को अच्छे से समझ लेतीं, क्योंकि उनके भी साथ वही हुआ था. मेरी बहन का दीवाना देवर मुझे अपने कमरे में लाकर नंगी कर चुका था मेरी चूत चुदाई के लिए… मुझे मजा आ रहा था लेकिन मैं दिखावे के लिए उसका विरोध कर रही थी.

इसलिए आंटी को लंड को मुँह में लेना जम नहीं रहा था, पर थोड़ी देर बाद वो मेरे लंड को लॉलीपॉप के जैसे चूसने और चाटने लगीं. दीदी ने मेरे बालों को पकड़ कर अपने चूचों पर दबाना शुरू कर दिया। अब मैंने नीचे खिसकते हुए दीदी को पेट पर चाटना किस करना शुरू किया, दीदी बार बार ‘स्स्स धीरे करो न आर्य… प्लीज स्स्स हल्के से…’ प्लीज बोल रही थी।मैंने दीदी की गोल नाभि में अपनी जीभ डाल कर घुमाना शुरू कर दिया. जब मेरी रसीली चूत में डालकर कुटाई करते हैं, तो मैं जन्नत की सैर करने लग जाती हूँ.

मियां खलीफा बीएफ एक्स एक्स एक्स

पर जैसे ही ये सोचा कि मुझे बाहर जाना है, ये सोच कर मेरी हालत खराब हो गई. पारुल ने ब्रांडेड और काफी कॉस्टली ब्रा पहनी थी जिसमें वो बहुत ही सेक्सी लग रही थी. अगले 15 मिनट तक मैं उनके मम्मों को चूसता रहा और वो दीवार के सहारे खड़ी कामुक आहें भरती रहीं.

उसकी जुबान का गीला गीला अहसास मेरे लंड पर स्वर्ग का मज़ा दे रहा था. मेरा लंड थोड़ा बड़ा और मोटा है तो हो सकता है कि शुरू में दर्द ज्यादा हो… लेकिन यह गारंटी है कि बाद में बहुत मजा आएगा.

उनके कपड़े भी दिनों दिन उनकी शरीर की हर गोलाई और हर कटाव को दिखाने लगे थे.

रोशनी क्या तुमने कभी अपनी झांटें साफ़ नहीं की?”उसने मासूम सा चेहरा बना कर मेरी तरफ देखा और ना” में सर हिला दिया. ”लेकिन यक़ीनन तेरी शादी से पहले!”देखेंगे!!” प्रिया के हाव भाव में फिर से शरारत लौट आयी. उसने मेरे बाल पकड़ लिए और मेरे पूरे चेहरे को अपने मम्मों पे खींच लिया.

मैं अपने बिस्तर पर से उठा और दीदी और दिव्या के बीच में जाकर लेट गया. मैंने सोचा कि यदि भाभी को मेरी बधाई अच्छी लगेगी तो ये खुद मुझसे गले लगेगी तभी इसकी चूचियों को दबा कर मजा ले लूँगा. कुछ देर बाद मैंने अपनी शोर्ट को नीचे खिसका कर अपना लंड बाहर निकाला और अपनी फुफेरी बहन के हाथ में थमा दिया.

मैं बहुत खुश हो गई थी कि मुझे भी अपनी गोद में बच्चा लेने का सौभाग्य प्राप्त होगा.

बीएफ सेक्स वीडियो दिखाना: मेरे राजा।ऐसा बोल कर वो मेरे सर चूत में दबाने लगी। मुझे समझ आ गया कि इसे चोदने का टाइम आ चुका है।मैंने अपना मुँह उसके चूत से हटा लिया। वो बिन पानी की मछली की तरह तड़प उठी।बोली- रुक क्यों गए और करो न प्लीज!मैंने कहा- मेरे को भी तो मज़ा चाहिए।उसने- और क्या करोगे तुम. अब मुझे सर का सानिध्य मजा देने लगा था, मैंने भी सर को चूमना शुरू कर दिया.

पर सच बताऊँ दोस्तो, उसके पास जाने की मेरी हिम्मत ही नहीं हुई, बात करना तो बहुत दूर की बात है. ऐसा जब दो तीन बार हुआ तो भाई साहब ने भी हिम्मत कर मेरे हाथों को सहलाना शुरू कर दिया. मैंने झट से अपना हाथ उसके मुँह पे रख दिया और मैं कुछ देर के लिए रुक गया.

मैंने फिर कुछ बोला नहीं और धीरे से अपना हाथ उसकी गांड पर रख कर फिराने लगा.

जैसे ही मैंने ये बोला, उन्होंने पागलों की तरह मुझे किस करना चालू कर दिया. एक दिन वो गहरी नींद में थीं, मैंने उनकी मैक्सी को ऊपर किया और उनकी चुत पर जीभ लगा दी. अब भाभी मेरी अंडरवियर खींचने लगीं और जैसे ही मेरा अंडरवियर मेरे लंड से हटा, मेरा 7″ का लंड किसी गुस्साए हुए नाग की तरह फन उठा कर हवा में झूलने लगा.