देसी चाची बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,बीएफ हिंदी चूत की चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्स एचडी में: देसी चाची बीएफ वीडियो, साले बहनचोद ये परिवार वाले हमें चुदाई का मजा ज्यादा देर नहीं लेने देंगे और कहीं न कहीं ढूंढ रहे होंगे.

ब्लू सेक्सी गर्ल वीडियो

मैंने घड़ी की तरफ देखा, तब पता चला कि मुझे यहां आए करीब चार घंटे हो गए थे. इंडियन बीएफ पोर्न वीडियोइससे अच्छा तो अभी पहनूँ ही न।वो मुस्कुराया और मेरे पास आ कर बैठ गया।कहानी जारी रहेगी.

बात करते करते मैं श्वेता को किस करने लगा और शर्ट के ऊपर से उसकी चूचियाँ दबाने लगा जिसे देखकर शुभी हंसने लगी और बोली- तुम लोग बेशर्म हो. न्यू एक्स एक्स बीएफमैंने गहरी गहरी साँसें लेकर कुछ ही पलों में अपनी उत्तेजना पर काबू पा लिया.

नीतू … तुम्हें कब से यहां पर बाल आने शुरू हुए?”अंकल के इस सवाल पर मैं बहुत शर्मा गयी- मैं नहीं बताऊंगी, अंकल … तंग मत करो … आप अपनी रिसर्च छोड़ कर यह क्या सवाल पूछ रहे हो?ओह सॉरी, इतना सुंदर दृश्य देख कर खुद पर कंट्रोल नहीं रहा, अब नहीं पूछूँगा.देसी चाची बीएफ वीडियो: उनकी उम्र का अंदाजा लगा पाना तो मेरे लिए मुश्किल ही था पर वैसे देखने में मुझे अच्छे लगे; उनके बालों में सफेदी आ चुकी थी, चेहरे पर हल्की हल्की दाढ़ी मूंछें थीं जो उन पर भली लग रहीं थीं.

बाद में कल्पना ने बताया कि नेक्स्ट टाइम वो अपना अधूरी फैंटसी पूरा करना चाहेंगी.उसने मीरा के घुटने चादर से बाहर निकाल कर उसके घुटनों पर क्रीम को मलते हुए लगा दिया.

मथुरा की बीएफ - देसी चाची बीएफ वीडियो

मैंने बिना देर किए पीछे से लंड फच की आवाज के साथ उसकी चुत में डाल दिया ‘आउच अअअअअ यस यस.अब अगली सुबह की बात बता रहा हूँ:प्रीति ने ट्रे से ब्रैड उठाया और मुझसे बोली- आज मैं ही तुम्हारा नाश्ता हूँ जान, आ जाओ, खा लो मुझे.

उसका हाथ जैसे ही मेरी चूत पर आया, मेरे मुंह से एक जोर की आह हह की आवाज निकल गई. देसी चाची बीएफ वीडियो वैसे तो मुझे भी मेरे चिकने बदन को नितिन की जीभ से सहलवाना अच्छा लगता है.

फिर एक दिन ऐसा भी आ गया कि मुझे मेरी बहन की चुदाई करने का मौका मिल गया.

देसी चाची बीएफ वीडियो?

एक दिन आंटी ने मुझे घर पे बुलाया और कहा- मुझे तुझसे कुछ बात करनी है. मैंने पूछा- भाभी, जब मैं विशाल भाई को छोड़ने के लिए आपके घर पर आया था तो आपने बहुत टाइम लगा दिया था दरवाजा खोलने में. इधर आपकी भाषा मेरी खोपड़ी से ऊपर निकल रही है … क्या आप और अच्छे से नहीं समझा सकते हैं?ये सुनकर मैं उन लोगों को यूट्यूब पर वीडियो दिखाने लगा.

जवाब में वो बोली- मेरी फिकर ना कर … अपनी चूत को समभाल … मुझे पता है वो तेरी भी बजाएगा रात को. जब मुझे दर्द कम हुआ और मैंने आंखें खोलीं, तो अंकल ने बोला कि रानी अब आगे जारी रखूं?मैंने उनसे सर हिलाते हुए साफ मना किया और मरी सी आवाज में कहा कि मेरी यह हालत हो गई है और आपको शर्म नहीं आती. अब मैं और प्रिया एक दूसरे की आंखों में देख रहे थे और मैं प्रिया को धकापेल चोदता जा रहा था.

उसके सोने के बाद मैं उसके सामने की तरफ मुंह करके लेट गया।फिर अपना हाथ धीरे-धीरे भावना के पेट पर रख दिया. गांड फटी के कारण मेरा लंड तो बैठ गया मगर मन में से आंटी के लिए चुदास और बढ़ गई. सर अपने हाथ से उनके मम्मों को मसलते हुए उनको चोद रहे थे, धकापेल धक्के लगा रहे थे.

मैंने उसको बताया कि जिस प्रकार आदमी का वीर्य छूटता है उसी प्रकार लेडी का भी वीर्य छूटता है. उधर नीचे मेरी चूत गीली हो चुकी थी और अंकल जी का गर्म, कठोर लण्ड मेरी जांघों से रगड़ रहा था जिससे एक अलग ही आग मेरे भीतर सुलग उठी थी.

मैं कुछ बोल नहीं पा रही थी मगर सच में मुझे बिल्कुल भी अच्छा नहीं लग रहा था उस समय क्योंकि मैं नहीं चाहती थी कि मेरी सहेली पिंकी उसकी आंखों के सामने मेरे साथ ये सब होता हुआ देखे।अभी तो एक ही पेपर हुआ है, 5 तो बाकी हैं ना, सेंटर में इतनी सख्ती कर दूँगा कि एक दूसरे से भी कुछ पूछ नहीं सकोगी.

गुलाबो भी दर्द के मारे चिल्लाने लगी- आहहह उम्म्ह… अहह… हय… याह… आई उउउइइई ओह्ह बहुत दर्द हो रहा है.

”तुम्हें नहीं पता जो मुझ से कहलवाना चाहते हो?”उस वक़्त हम लोग किस पार्क की झाड़ियों में छिपे थे. अमर कभी पिंकी के गालों पर, कभी नाक, कभी माथे पर तो कभी गर्दन पर किस करने लगा था. तो उसने कहा कि तुम तो बहुत अच्छे लगते हो यार … तुम्हें देख कर तो कोई भी लड़की मना नहीं करेगी.

हम अगली बार टाइम ज्यादा मजा लेंगे और जगह भी दूसरी देखेंगे, तब बताना मज़ा आया या नहीं. मैंने खुद पर बड़ी ही मुश्किल से कंट्रोल किया और श्वेता के डांस करने के बाद गेम फिर से शुरू हुआ. मैंने अपने आपको रोका और जूली की तरफ देखते हुए बोला- तुम अपनी कमर को क्यों उचका रही हो?वो बड़ी ही साफगोई से बोली- मेरी चूत के अन्दर जहाँ-जहाँ खुजली हो रही है, तुम्हारे लंड से वहाँ-वहाँ खुजलाने का मन कर रहा है! कितनी मीठी होती है यार ये खुजली.

वेलम्मा नीचे अपने घुटनों पर बैठ गई और मेरे लौड़े को अपने मुँह में ले लिया.

वो बेसिन का सहारा लेकर थोड़ा झुक गई और बोली- मार पीछे से … चढ़ जा साले हरामी. मैंने सोनू के कान में पूछा- मजा आ रहा है?उसने कहा- हां, बहुत मजा आ रहा है, करते रहो. सोनू की चूत ने पानी छोड़ दिया और उसने कस कर मुझे अपनी ओर खींच लिया.

मैंने पूछा- अब तक आपने क्या सिर्फ लड़कों की गांड मारी है या औरतों की गांड भी मारी है?वो बोले- मैंने अब तक छह लुगाइयों की और चार लड़कों की गांड मारी है. क्या तुम मुझे दे सकते हो?मैंने उसका चेहरा अपने हाथों में लेकर कहा- सरिता, आज से तुम मेरी पत्नी हो … जो मांगना है, बिना झिझक मांग लो. परन्तु मैं वर्जिन साली की बुर फ़ाड़ूँ … तो कैसे?तभी मेरी पत्नी ने अपनी छोटी बहन से कहा- ऋतु, हाथ पांव धो लो.

चूंकि मुझे रोहन के दोस्तों के लंड से चूत चुदवानी थी तो थोड़ी वैक्सिंग भी करवानी थी, इसलिए रोहन ने भी बोल दिया कि मसाज ब्वॉय को बुला कर मैं अपनी बॉडी की मसाज और वैक्सिंग करवा लूँ.

रिया- तुम अभी क्या कर रहे हो?मैं- मैं अभी पढ़ाई के लिए यहां रहता हूं. उनकी चूत फिर से पानी छोड़ने लगी थी और ये देख कर मेरे लंड में भी हलचल होने लगी.

देसी चाची बीएफ वीडियो ”मेरे हां बोलने से पहले ही अंकल ने अपना मुँह मेरे पेट पर रखा, उनकी मूंछें मेरे पेट पर गुदगुदी करने लगी थी; तो मैं हिलने लगी. जीजू- फिर शिवांगी, मैं तुम्हें जबरदस्ती चोदूंगा चाहे कुछ भी हो जाए.

देसी चाची बीएफ वीडियो इस पर अमर भी उसका साथ ठीक उसी तरह से देने लगा, जैसे पिंकी उसको चूस रही थी. मुझे मालूम था कि इसका मन बहलाने के लिए ऐसा करना जरूरी है वर्ना ये चूत नहीं चुदवाएगी.

वो अपनी गांड उठाती हुई जोर जोर से बोलने लगी- आंह भाई मजा आ रहा है … आंह चोद डालो … अपना पूरा लंड डाल दो अपनी छोटी बहन की बुर में … आंह डाल दो पूरा.

बीपी सेक्सी वीडियो बीपी एचडी

मैंने आंटी से पूछा- मेरी मम्मी कल घर जाने को क्यों बोल रही थीं?आंटी ने जो बताया, वो सुन कर मैं भौचक्का रह गया कि मम्मी का दिमाग कितना चलने लगा. उसने बोला- तुमको मुझसे बात करने में कोई ऐतराज तो नहीं होता है?मेरे मन तो किया कि उससे कह दूँ कि मैं तुमको ही अपनी गर्लफ्रेंड बना लेता हूँ. ये देख कर उन्हें लगा कि मुझे ठंड लग रही है और इसलिए उन्होंने मुझे अपनी चादर में घुसा लिया.

मैं सरप्राइज देने के मकसद से उसे हैप्पी बर्थडे कहते हुई उसके रूम में घुस गयी. आन्या बोली- सर आप जो कहेंगे, मैं वहां आपकी बात मान लूंगी, लेकिन एक बार चांस दे दीजिएगा प्लीज़. अगले दिन मैं फिर मैंने जैसे ही अंकल जी को आते देखा और मैं अपने घर के सामने सिर झुका कर किसी अपराधी की भांति समर्पण की मुद्रा में खड़ी हो गयी और अपना दुपट्टा अपनी उँगलियों में लपेटने लगी.

नम्रता ने मुझे चिकोटी काटी थी, मेरे इस तरह सकपका कर देखने से वो बोली- जनाब कहां खो गए थे आप?मैं- सच कहूँ तो आपकी चूत चुदाई की याद में खो गया था.

मैंने पूरी ताकत से ब्रेक मारे, पर मुझसे स़्कूटी नहीं संभली और मैं वहीं गिर गई. मेरी भी जांघें सरिता की जांघों से सटी हुई थीं तो मेरी जांघें भी गीली हो गयी थीं. शीतल भाभी कहने लगीं- यहीं खड़े रहकर ही मुझको देखते रहोगे या अन्दर भी आओगे.

मेरा ध्यान उस कमरे की तरफ गया तो मैंने देखा कि उस पर कोई दरवाजा नहीं लगा हुआ था. फिर थोड़ी देर बाद जब आराम हुआ तो बोली- तुम्हारा लण्ड इतना लम्बा और मोटा है. मैं नवाज भाई को यह बता नहीं पाया कि उनसे गांड मराए दो महीने हुए हैं, उन्होंने मेरी कसके रगड़ दी थी.

वो ‘ह्हाआ ह्ह्ह ऊओह्ह ह्ह आअह ह्ह्ह्ह …’ की मादक आवाजें निकाली जा रही थी. वो मस्त हो गई और बोली- बस रवि जो करना है … जल्दी करो … मुझसे रहा नहीं जाता.

प्राची ने मुझे किस करते हुए मिनी के साथ अच्छे से सेक्स करने की बात कही. मैं अपने हाथ को भाभी के मम्मों से हटा कर धीरे धीरे नीचे लेकर जाने लगा. कुछ ही देर में उसने मेरे लंड को झड़ने पर मजबूर कर दिया और पूरा वीर्य पी लिया.

तो मैंने उसके हाथ को दबाकर उसकी आंखों में आंख डालकर देखते हुए कहा- मेरी जान मुझे तुम्हारे मुँह से खुलकर सुनना है कि तुम क्या चाहती हो?नम्रता- मैं चाहती थी कि मेरा पति मुझे रंडी समझ कर चोदे.

मैंने रूपा को नजर भर कर देखा और उसे उठा कर उसकी चड्डी उतार दी और अगले ही पल उसकी ब्रा भी उतार दी. वह खाली बोतल थी, तो मैं उसके ढक्कन की तरफ से अपनी चुत में डालने लगी थी. तब तक आप अपने लौड़े को हिलाते रहें … और अगर आपके पास चूत है, तो उस चूत में अपने लौड़े की हाजिरी देते रहें.

वो बोलती थी कि जितना पीना है, पतीले से डाल कर पी लो लेकिन आज उसने गिलास में डालकर क्यों दिया है!मैं समझ गया कि मेरे दूध में इसने नींद की गोली मिलाई है. उस दिन की चुसाई ने सोनू के निप्पलों का आकार भी थोड़ा बड़ा कर दिया था.

मैंने उसकी तरफ देख के कहा- क्या बात है, अभी लन्ड को थोड़ा आराम भी करने दो. रात को तय प्लानिंग के साथ भाभी जी मेरे पास आ गईं, वे अपने साथ बियर की दो बोतल भी लाई थीं. मीना एकदम चौंक सी गयी- ये क्या कर रहे हो आप?मैं- वही जो तुम्हें देखकर कोई भी कोई भी पागल होकर कर जायेगा.

हिंदुस्तानी पिक्चर सेक्सी

लंड का पानी झड़ जाने के बाद मुझे राहत मिली और मैं वापस अपने बेड पर आ गया.

अब सुनो सरिता, मेरे जाने के बाद तुम विलास से हर रोज आठ दिन तक चुदवा लेना. पहले गले पर, फिर और भी नीचे और फिर उसकी उभरी हुई छाती पर चूमने लगा. दोस्तो, मां बेटे की इस सेक्स कहानी में अब तक आपने सत्य को पढ़ा था इसके अगले भाग में मैं आपको एक फंतासी से भरी हुई सेक्स कहानी का मजा दूँगा.

यह तो साधारण मिलन था … तुम बहुत प्‍यारे और मासूम हो इसलिये मैं तुम्‍हें अपने बेटू जैसा खुश करते रहूंगी. मेरा फूला लंड देख कर बोली- आह इसे कहते हैं लंड … उस साले का तो मरा हुआ मेंढक है. സെക്സ്സ് കഥകൾशायद इसी वजह से उसने अपना हाथ अपनी सलवार के अन्दर डाल दिया और धीरे धीरे आहें भरने लगी.

वसुंधरा ने सारे हालात पर कुछ क्षण सोचा, फिर बोली- नया नाड़ा कहाँ से मिलेगा? नाड़ा कौन काटेगा? आप रिपेयर कर के मुझे लहंगा कितने समय में लौटायेंगे? मैं लहंगे के बिना कहाँ रहूंगी?”हे भगवान्! फिर से वही पुरानी सड़ियल वसुंधरा जागने क़ो थी. उसके नुकीले नाखून मुझे कई जगह चुभ गए लेकिन उस समय मैं इसकी परवाह बिल्कुल नहीं कर रहा था.

उसको दर्द होने लगा तो मैंने तुरंत उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया. एक बात की ख़ुशी है मुझे कि आशा भाभी के मुकाबले मैं ज्यादा बड़ा, ज्यादा मोटा और ज्यादा काला लंड चूसती भी हूँ और अपनी चूत और गांड में लेती भी हूँ. अचानक से भाभी नेअपनी चुत में उंगलीडाल ली और दूसरे हाथ से अपने एक मम्मे को मसलने लगीं.

उन दोनों को ये नहीं पता था कि इस टॉयलेट में पीछे से भी एक दरवाजा था जिससे मैं धीरे से अन्दर घुस गया था. उस समय ताई का सोने का समय होता था और वो अपने नाती पोतों के साथ सोती थीं. मेरा मुंह मेरी बांहों में छिपा था पर इस तरह कि मैं तिरछी नज़र से अंकल जी को देख सकूं.

उन दिनों मैं घर पर बहुत बोर हो रहा था, बस हर टाइम चूत चोदने का दिल करता रहता था.

मेरी चीखें निकलने लगी- अह्ह आह येस अह्ह येस्स आह्ह अह्ह आह मजा आ गया. मैंने फ़ौरन वसुन्धरा का ऊपर वाला कन्धा (दायां) अपने ऊपर वाले (बायें) हाथ से बिस्तर पर लगा कर वसुन्धरा को सीधा किया और खुद उसके ऊपर चढ़ गया.

मम्मा ने अपनी टांगें फिर से खोल दींमैंने धीरे धीरे लंड अन्दर डालना शुरू कर दिया, साथ ही मम्मा के रस भरे स्तनों से खेलना शुरू कर दिया. मेरी दिनचर्या ये थी कि मैं सुबह अपने कॉलेज जाता और दोपहर से शाम तक घर में रहता या फिर दोस्तों के साथ बाहर चला जाता. तो दोस्तो, यह थी मेरी सच्ची आपबीती मेरे मामा की बेटी के साथ सेक्स की कहानी … मैं उम्मीद करता हूँ कि आप सभी को काफ़ी पसंद आई होगी.

थोड़ा सा चिपचिपा रस मेरी चूत से निकल कर उनके मुंह में समा गया तो कुछ रस चारों तरफ फैल गया. भाभी तिरछी नजरों से मुझे देख रही थीं, साथ साथ जब मैं भैंस को आवाज देते हुए सैट कर रहा था, तो भाभी मुस्कुरा रही थीं. मैंने प्रिया की चूत को दो उंगली डाल कर खोला, अन्दर से गुलाबी थी और बहुत गीली.

देसी चाची बीएफ वीडियो सुमन ने कहा कि जब छोटू (एक छोटा लड़का, मेरे साथ रहकर पढ़ाई करता था) और आप उठो, उस समय आप जब चाय बनाओ … तब मेरे लिए चाय बना कर ला देना. अब मेरे सामने तीनों लौंडियां बिना कुरता के बैठी थीं, जिसमें राधिका ने लाल रंग की ब्रा, दिशा ने प्रिन्टेड ब्लू कलर की ब्रा और सोनल ने एक जालीदार ब्लैक कलर की ब्रा पहनी हुई थी.

ट्रिपल सेक्सी व्हिडीओ बीपी

सोनिया अपनी मम्मी को बोल रही थी- मम्मी मनदीप आया है, वो अन्दर सो रहा है. रिया- तुम अभी क्या कर रहे हो?मैं- मैं अभी पढ़ाई के लिए यहां रहता हूं. मैं- ले … और तेज!प्रिया- हां भैया और तेज तेज …मैं- मज़ा आ रहा है न मेरी बहन को चुदने में!प्रिया- हां भैया, बहुत मज़ा आ रहा है.

कुछ समय तो मुझे कुछ समझ में नहीं आया कि सब कहां चले गए दरवाजा खुल्ला छोड़ कर?मैं थोड़ा और अन्दर की तरफ गया, तभी मुझे बाथरूम से पानी गिरने की आवाज सुनाई दी. इस तरह पति और देवरानी के सामने खुलकर तुम्हारे लंड को गांडउठा उठाकर नहीं ले पाऊंगी।वीणा- सच कहा भाभी. शिल्पा शेट्टी सेक्सी व्हिडीओशाम को नफीसा ने मुझसे मेरे घर मिलने का कहा, मैंने कहा- ठीक है भाभी.

उसने मेरे सिर को टांगों से टाइट जकड़ लिया और जोर-जोर से सिसकारियां लेने लगी। उसके मुंह से बस आआ उम्म्ह … अहह … हय … याह … आहह ओह मुंऊ … उम्मईं आआहह … ही निकल रहा था।फिर मैंने उसे मेरा लंड चूसने को कहा.

बाद में उस हबशी ने घूम-घूम कर लड़कियों को अपना लंड छुवाया।डेविड ने रोज़ी से पूछ कि क्या वो छूना चाहेगी. इसके बाद वो घुटनों पर बैठ कर अपने सर और बालों पर अपने हाथ हाथ ले जाती.

मेरी चूत ने भी पानी छोड़ना शुरू कर दिया था।तो यह थी मेरी और मेरे जीजू के बीच की पहली चुदाई की सत्य घटना!उस रात जीजू ने मुझे तीन बार और चोदा और पिछले 3 बरस से लगातार चोद रहे हैं।आपको मेरी कहानी कैसी लगी जरूर लिखना. उफ्फ … भाभी का वह चेहरा अब मुझे याद आता है तो मेरी चूत में कुलबुली मच जाती है. 2-3 धक्के के बाद मेरा पूरा लन अंदर चला गया क्योंकि मैंने सरनी की फुद्दी पर बहुत सारा थूक लगा दिया था.

जब भाभी ने उससे पूछा तो उसने गर्दन हिला कर दर्द रूक जाने के संकेत दिया लेकिन उसे नींद आ गयी क्योंकि उस पर अभी भी शराब का नशा था.

प्रिय दोस्तो, मैं यश अग्रवाल हूँ, अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली चुदाई की कहानी है. मेरे दोनों मम्मों को सहलाया और उनको धीरे से पीना शुरू किया जैसे कोई अबोध बच्चा दूध पी रहा हो. वो सिसकारियाँ भर रही थी और एकदम मादक आवाजों से मुझे भी मोहित कर रही थी.

बीएफ पिक्चर इंग्लिश चुदाईवो भी सामान्य होने की कोशिश में लगी हुई थी। मेरे बदन के स्पर्श से उसे काफी आराम मिला। वो धीरे-धीरे सामान्य होने लगी।मैंने उसके गाल, कानों पर तथा कानों के पीछे गर्दन पर किस करना चालू किया. तभी मुझे एक शैतानी सूझी और नम्रता से बोला- जानेमन, मैं तुम्हारी मलाई चाटकर तुम्हारी पैन्टी में पहन लूंगा और जिस दिन तुम मुझे अपनी चूत का मजा दोगी, उस दिन मैं तुम्हें वापस करूँगा.

मुसलमानी सेक्सी फिल्म वीडियो

उसके बूब्स ऐसे थे जैसे किसी ने सीने पर 32 नंबर की दो रुई की कटोरियां रख दी हों. उस पर एक बार कोई लौंडा उन्हें जम जाए, तो यो बिना उसे निपटाए छोड़ते नहीं. वो फिर से रोने लगी, लेकिन मैंने अब उसकी परवाह ना करके उसकी जोरदार चुदाई चालू कर दी, लंड के लम्बे लम्बे धक्के देता रहा.

ऊपर वाले से बस यही दुआ करता था कि जल्द से जल्द कोई आइटम चोदने को मिल जाए. उसने देखा और शरमाकर अपनी नजरें नीचे कर लीं और वह वहाँ से चली गयी और रसोई में खाना बनाने लग गयी. किसी तरह मेरा ये तड़पना ये मचलना खत्म हो जाए, पर आशीष उठकर मुझे बिना कुछ बोले जल्दी से मुझसे अलग हो गया.

मैंने सुबह अपने घर बोल दिया कि मैं चाचा जी के घर स्टडी करने जा रहा हूं. उसने मुझसे बोला- प्लीज़ थोड़ा धीरे करो … मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूँ. मगर फ्यूज बल्ब भी भला कभी जलता है? उन्होंने मुझे आवाज दी और कहने लगे- देखो सुधा, बल्ब नहीं जल रहा है.

अब तो वह सिर्फ बाली रानी थी, एक लौंडिया और मैं सिर्फ राजे था, बाली रानी का दीवाना. उसने भी मुझे और मेरे खड़े लंड को देखा और शरमा कर मुझसे दोबारा लिपट गयी.

प्रिया ने मेरी आंखों में देखा- बहुत अच्छी लगती हूँ मैं आपको!मैं- हां.

भाभी मेरे सामने बहुत बार इशारे करतीं, मुझे छू लेती थीं, पर तब भी मेरे दिल में उनके लिए कोई ग़लत ख्याल नहीं आया था. सेक्सी मूवी वीडियो बीएफबारह बजे प्राची ने होटल के बाहर आकर मुझे कॉल किया और मुझे दरवाज़ा खोल कर रखने को बोला. सेक्स बीएफ वीडियो हिंदीमैंने मौके को समझा और उसके कंधे पकड़े हुए लंड पर प्रेशर बना कर पूरा जोर से झटका उसकी चूत में दे मारा. मुझे अपने आप से ऐसा लगने लगा था कि मुझे आशीष अपने बांहों में लेकर मेरे जिस्म से चिपका रहे और वैसे ही मेरे होंठों को चूमता रहे.

सब बटन खोलने के बाद उन्होंने शर्ट के आगे की साइड को मेरी छाती से अलग किया.

वो एक सुंदर और संस्कारी परिवार से थी लेकिन ऐसी बात नहीं थी कि वो बहुत ही सीधी हो. भाभी की देसी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं फ़ौज से छुट्टी पर आया तो साथ वाले घर की भाभी पर मेरे नजर पड़ी. वो अपने दोस्त को बोला- अबे पकड़ ठीक से इसके दोनों हाथ … बस कस के पकड़ … फिर बताता हूं साली को, सबको बांटती है और हमसे नाटक दिखा रही है.

पोजीशन बनाने के बाद मैंने सरिता को लंड पर अपनी गांड रखकर बैठने को कहा. ऊषा के साथ हुई घटना को केंद्र बनाकर मैंने अपने पति को मामी के सामने नंगा करवा दिया और मामी ने भी इसमें मेरा पूरा साथ दिया. अमर समझ चुका था कि रास्ता एकदम साफ़ है, बस एक मौका मिलने का इंतजार करना बाकी है.

सेक्सी वीडियो सील टूटती

मगर उस समय मैं अंजलि को नहीं चोद सकता था क्योंकि उसकी बहन शायद इस बात से बुरा मान सकती थी. आप अपने सुझाव व जवाब मुझे जीमेल या फेसबुक पर इसी आईडी पर दे सकते हैं. मैं धीरे धीरे चलाते हुए जैसे तैसे अपने ऑफिस पहुंचा, तो मुझे देर हो गई थी.

नैना ने भी कनखियों से ये सब देख लिया था और वो मंद मंद मुस्कराने लगी.

मैंने मौके को समझा और उसके कंधे पकड़े हुए लंड पर प्रेशर बना कर पूरा जोर से झटका उसकी चूत में दे मारा.

धीरे-धीरे वह इसकी आदी होने लगती है और वहीं से मर्द और औरत के जिस्मानी रिश्तों में मिठास कम होता चला जाता है जो वक्त के साथ बिल्कुल ही खत्म हो जाता है. अब तो मैं अक्सर उसके रूम पे जाती रहती थी और कभी उसका रूम साफ करने में मदद करती. xxxxx भोजपुरीआह्ह … जमाई जी का लंड जब अंदर गया तो मेरी चूत की धधकती आग में जैसे घी डाल दिया गया हो.

मैं प्रिया की जांघों के पास बैठ गया और कस कसके प्रिया की चूत का रस पीने लगा. अमर ने पूछा- मतलब?पिंकी बोली- दीदी ने मुझे बताती थीं कि आप उनको काफी देर देर तक चोदते हो. जैसे ही मेरे होंठ उनकी चूत के पास पहुंचे, मैंने अपने होंठों से उनकी चूत के नीचे के होंठों को चूम लिया.

सी … आह … ह … ह … ह!”अब तक तो मेरी उंगली ने वापसी का सफर शुरू कर दिया था. हम दोनों मुस्कुरा उठे और एक दूसरे की आंखों में काफी देर तक देखते रहे.

फिर मैंने अपनी मम्मी के शरीर को हल्के हाथों से छुआ, तो वो सिहर उठीं.

मैं भी उसके सर के बालों को पकड़ कर जोर जोर से उसके मुँह में झटके देने लगा. वो जोर जोर से सिसकारियां भर रही थी और आंखें बंद किए हुए बोल रही थी- आह … यश आराम से. मैंने पहली बार उसकी शर्ट में से उसकी गुलाबी रंग की ब्रा को देखा और उसमें उसके दोनों कबूतर कसे हुए देखे.

गांव की लड़कियां कैसे चुदवाती है अंकल आंटी बहुत ही अच्छे और हंसमुख स्वाभाव के थे, इसलिए मैं उनकी बहुत ज़्यादा इज्जत करता था. इसका लाभ यह हुआ कि वो फिर से दोनों टांगें सीधी करके लेट गयी और मेरा साथ देने लगी!मैंने उसको पलट दिया अब उसकी पीठ मेरी तरफ थी.

अंकल ने मुझसे पूछा- बेटा आजकल कहाँ हो, दिखते नहीं हो?मैंने कहा- अंकल, काम में बिज़ी था इसलिए तो आज स्पेशल टाइम निकाल कर घर पे आया हूँ. मुझे घर पर छोड़ने के बाद वो वापिस चला गया और मेरे घर के अंदर भी नहीं आया. मैंने सोनू को आवाज लगाई- सोनू!वो बोली- हां रवि भईया?मैं बोला- बाबू तुमको कोई दिक्कत तो नहीं … अगर मैं कुछ और टाइम ले लूँ तो?वो बोली- रवि भैया आप नीरजा की दिक्कत आज पूरी तरह से खत्म कर दो … मुझको कोई दिक्कत नहीं है.

रेप का सेक्सी

कोरोना काल में अब लोग स्पा-सेंटर पर आने से घबरा भी रहे थे, तो काम नाममात्र ही आता था. रितेश को लेकर मीरा की सोच बदलने लगी और उसकी कामुकता फिर से अंगड़ाई लेने लगी. कई बार देखा जाता है कि मर्द अपना वीर्य निकालते ही एक तरफ गिरकर सो जाते हैं.

मैं दर्द से तिलमिला उठा और मामा से कहने लगा कि मुझे छोड़ दो, लेकिन मामा तो चुदासे थे, तो उन्होंने मेरा मुँह बंद कर लिया और एक जोरदार धक्का मारकर पूरा लंड मेरी गांड में पेल दिया. मेरे ऐसा करने से वो पूरी तरह तड़प उठीं और नींद में होने के नाटक में ही चाची ने अपने पैरों को फैला दिया.

वो अकेला है, उसको कोई परेशानी ना हो, इसलिए में उसके पास रुक जाऊंगी.

लेकिन जिम में जाने के कारण उनके लचीले जिस्म ने मेरे लंड को अपनी चूत में अन्दर तक आराम से चले जाने दिया. मैंने भी अपने हाथ से राधिका के बाल पकड़ लिए और पूरे लंड को उसके गले तक पेल कर मुँह चोदन में जुट गया. ’कुछ देर बाद उसे भी मजा आने लगा और हम दोनों जोर जोर से चोदन में लग गए.

कहानी पर कमेंट्स और अपनी राय के लिए नीचे दिए गए मेल आई-डी पर मेल करें. कुछ देर के बाद उसका दर्द छू मंतर हो गया और मैंने उसके होंठों से होंठ हटाए तो वह सिसकारी ले रही थी. उसने हाथों से मेरे चूतड़ पकड़ कर हवा में उछालना शुरू कर दिया और प्रीति को गाली देता हुआ बोला- बहनचोद प्रीति … तू क्यों नहीं चुदाती ऐसे.

मैं ऑफिस जाने के लिए घर से निकला तो मुझे जानकारी हुई कि स्कूटी की ब्रेक काम नहीं कर रहे हैं.

देसी चाची बीएफ वीडियो: वैसे भी मैं अपने कॉलेज का हीरो था, पर मैंने अब तक कभी किसी लड़की को भाव नहीं दिया. एक दिन मैंने हिम्मत करके एक पर्ची पर मेरा फोन नम्बर लिख कर उनके प्लाट में फैंक दिया, जिसे भाभी ने देख लिया था.

मैंने उसको कहा- जब भी मैं बुलाऊँगी, तुम्हें मेरी चूत को चोदने आना पड़ेगा. कपिल- ओह मेरी रांड … लंडखोर … कुतिया … साली मेरे लिए रूक … मेरा भी अब निकलने ही वाला है … ओह … रानी मेरे लंड के पानी को भी अपने बुर में ले … ओह ले … ओह सीईईई …कपिल ने भी आआहह … आआअहह करके झड़ना शुरू कर दिया और अपना वीर्य शारदा चाची की बुर में निकालना शुरू कर दिया. मैंने नमस्ते की, उन्होंने कहा कि निशा अन्दर अपने कमरे में है और मेरा इन्तज़ार कर रही है.

कहाँ मैं उसको चोदने की प्लानिंग कर रहा था मगर वो पहले से ही मुझसे चार कदम आगे निकली.

कुछ देर के बाद जब मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ तो मैंने शुभी की चूत पर अपना लंड सेट किया और तेजी से चूत में डाल दिया. मैंने घबराकर उनका हाथ अपनी छाती से हटाने की कोशिश की पर उन्होंने मेरी चूचियों पर से हाथ नहीं हटाया।क्या हो गया बेटी? इतनी घबरा क्यूँ रही हो? आराम से पेपर करती रहो ना … ये देखो … अंजलि कितने आराम से कर रही है. इधर मैं भी किसी सख्त मोटे लंबे लंड की तलाश में थी जिससे शादी कर सकूँ.