ओपन बीएफ हिंदी वीडियो

छवि स्रोत,देहाती बीएफ वीडियो में

तस्वीर का शीर्षक ,

कविन gov in: ओपन बीएफ हिंदी वीडियो, मैं यहां कुछ लम्बी चौड़ी नहीं फेंकूंगा कि मेरा लंड बारह इंच का है या दस इंच का है.

भाई ने बहन को चोदा हिंदी वीडियो

फिर उसने अपने एक हाथ की 4 उंगलियां भी मॉम की चूत डाल दीं और पूरी स्पीड से चोदने लगा. इंग्लिश ब्लू पिक्चर बीएफआप लोग यकीन नहीं मानेंगे, उसकी चूत में जब मेरा डोटेड कंडोम लगा लंड गया, तो वो इतनी जोर से चिल्लाई कि रूम के बाहर भी उसकी आवाज़ सबने सुन ली गई होगी.

उसने अपने मुँह से लंड निकाल कर कहा- जान कलाई छोड़ो ना!मैंने कलाई छोड़ दी और वो शमशुद्दीन जी की कमर पकड़ कर अच्छे से उनका लंड चूसने लगी. भाभी जी वाला पिक्चर बीएफबिल्कुल काला मोटा और करीब 6 इंच लंबा किसी काले नाग की तरह उसका लंड मेरी आंखों के सामने लहरा रहा था.

मेरे भैया की शादी को 5 साल हो गए थे, परन्तु अभी तक उनको बच्चा नहीं हुआ था.ओपन बीएफ हिंदी वीडियो: मैं- हां एक बार सेक्स करने के लिए हम दोनों मिले थे, पर हो नहीं पाया था.

इसलिए एक दिन बड़ी हिम्मत करके मैं भाभी के घर गया और उनको समझाने की कोशिश की- जो हो गया, उसके बारे में ज्यादा मत सोचो.मैंने कहा- ऐसा कर … तू शुक्रवार को शाम सात बजे ही आ जा!वो उस दिन सात बजे मेरे कमरे में आ गई.

एक्स एक्स एक्स साउथ बीएफ - ओपन बीएफ हिंदी वीडियो

फिर दोनों परीक्षक एक दूसरे की तरफ पैर करके लेट गए और लड़की को बोला गया कि वो दोनों लंड एक साथ जोड़कर अपनी चूत में ले.कुछ देर तक चूत चाटने के बाद सलोनी भाभी मेरे ऊपर आ गईं और मुझे किस करने लगीं.

खैर … दिन भर कार्यक्रम चलते रहे और शाम को लेडीज संगीत की तैयारी होने लगी. ओपन बीएफ हिंदी वीडियो भाभी पीठ के बल बिस्तर पर गिरीं तो उनके मम्मे मस्त उछलते हुए मुझे ललचाने लगे.

मैंने बोला- अरे मेरी जान इतना दर्द?भाभी कहने लगीं- चार महीने हो गए, ये सब नहीं किया.

ओपन बीएफ हिंदी वीडियो?

इससे भाभी और ज्यादा उत्तेजित हो गईं और मेरे बालों को नौंचने लगीं; मेरे माथे को जोर से दबा कर अपनी चूत में दबाने लगीं. मेरा मन कर रहा था कि साली को अभी ही पटक कर चोद दूं, मगर बीवी सामने लेटी थी. उसने रफ्तार बढ़ानी शुरू कर दी और जल्द ही पूरा पलंग जोर जोर से हिलने लगा.

विक्रम ने अपने हाथ से सारा वीर्य मॉम के मुँह पर और चूची पर मसल दिया और अपना हाथ मॉम को दिखाकर बोला- चल कुतिया इसे चाट चाट कर साफ़ कर!मॉम ने साफ़ कर दिया. चाची मेरे पांव के ऊपर बैठ गईं और मेरो जांघों पर अपने पैर लंबे कर दिए. मैं बियर के अलावा कुछ नहीं पीता था तो मेरे लिए बियर मंगवाई गई और महफ़िल जम गई.

मेरे ऑफिस जाने के बाद कोमल नीतू के कमरे में गई, तो देखा कि नीतू सो रही थी. फिर मैं दिल्ली छोड़ कर चला गया और पिछले साल लॉकडाउन से पहले उसकी भी शादी हो गई. कुकोल्ड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि जब पति ने अपने दोस्त को घर बुलाकर अपनी बीवी को उसके लंड का मजा लेने को कहा तो गर्म बीवी ने क्या किया?कहानी के पिछले भागहॉट बीवी को दोस्त के लंड से चुदवाने की तमन्नामें आपने पढ़ा कि पति ने अपने दोस्त को घर बुलाकर अपनी बीवी के सामें दोस्त का नंगा लैंड पेश कर वदिया और चूसने को कहा.

मैं बोली- सच बोलूं तो शुरूआत में सब ठीक था, पावर भी सही था लेकिन …ननद बोली- लेकिन क्या भाभी?मैं बोली- वो मुझे ठंडी नहीं कर पाए. चाची अभी भी नींद में थीं और मेरा लंड अभी भी चाची की चुत में ही था लेकिन मुरझा गया था, जिसकी वजह से मैं धक्के नहीं लगा पा रहा था.

मैं उसके दोनों मम्मों को बारी बारी से भींच भींच कर चूसने लगा और मसलने लगा.

भाभी का चिकना शरीर ऐसा कामुक था कि कोई भी देखे, तो उन्हें चोदने के सपने देखने लगे.

अपनी जेब से मैंने कंडोम निकाल कर लंड पर चढ़ाया और संगीता भाभी की चूत पर रख कर लंड को उस पर घिसने लगा. लगातार दस मिनट तक दूध चोदने के बाद पापा अपने लंड को मम्मी के मुँह में डालकर मुखचोदन करने लगे. वे समझ नहीं पा रहे थे कि कोई पूल को देख कर लौड़ा क्यों हिलाएगा।तभी मुझे एक तरकीब सूझी, क्यों ना धीरज और दीपक दोनों को अपनी और सफाई कर्मचारी की चुदाई का लाइव पोर्न दिखाया जाए।मैं पूल से गीला बदन लिए बाहर निकली.

भाभी मुझसे बोलने लगी- आज किचन में सारा दिन खड़े रहने की वजह से मेरे पैरों में बहुत तेज दर्द है. किशोर मेरी चड्डी के अन्दर हाथ डालकर मेरे बड़े बड़े चूतड़ों को सहलाता और दबाता जा रहा था. मैं धीरे धीरे लंड आगे पीछे करने लगा, लंड थोड़ा थोड़ा सरक सरक कर पूरा अंदर चला गया.

कुछ देर तक मैंने लंड उनकी चूत में पड़ा रहने दिया और उन्हें चूमता रहा.

उनका एक हाथ मेरी चूचियों पर आ गया था, वो पागलों की तरह मुझे चूम रहे थे, साथ में वो मेरी चूचियों को भी मसल रहे थे. मैंने बोला- अरे मेरी जान इतना दर्द?भाभी कहने लगीं- चार महीने हो गए, ये सब नहीं किया. मॉम ने कहा- तू फिक्र मत कर कोई कुछ नहीं कहेगा, बस मुझे इस दर्द से छुटकारा दिला दे.

मैं तुम्हारे लंड की भूखी हूँ विक्रांत … मुझे अब हितेश का लंड पुराना सा लगता है. अचानक भाभी ने मेरे सुपारे को दांत से हल्का हल्का सा काटना शुरू कर दिया. मैं खुश होकर वहीं रुक गया और भाभी को गोद में उठाकर फिर से बेडरूम में ले गया.

इस पर भाभी ने मासूमियत से कहा- क्या मतलब है आपका?मैंने कहा- कुछ नहीं यार.

वो मेरे बदन से खेलती हुई कब मेरे लंड से खेलने लगी, मुझे पता ही नहीं चला. कोमल- ये बात अंकित को पता चल गई तो जानते हो क्या होगा?मैंने कहा- मैं सब संभाल लूंगा.

ओपन बीएफ हिंदी वीडियो यादगार इसलिए क्योंकि उस जैसी खूबसूरत और जवान लड़की को चोदने के बारे में मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था. कुछ देर बाद मैंने दीदी को कुतिया बनाया और पीछे से चूत में लंड डालकर चोदने लगा.

ओपन बीएफ हिंदी वीडियो अब मैं उनसे आंखें नहीं मिला पा रही थी और वह मुझे देखकर हल्के से मुस्कुरा रहे थे. अब मैंने सीधे भाभी को अपनी बांहों में ले लिया और उनके होंठों पर किस करने लगा.

और फिर ब्रा पहनी जिसमें चूचियां दिख रही थी।फिर बुआ ने नाईटी पहनी और मेरे पास आकर बोली- राज देख!मैंने देखा तो बुआ बिल्कुल सैक्सी मूवी की हीरोइन लग रही थी।मैं उसे शीशे के सामने ले गया.

सेक्सी कॉल गर्ल नंबर

अब आगे फ्री सेक्स इन ओपन:दीदी की चुदाई के बाद हम दोनों ने अपने कपड़े सही किए और वहां से सड़क पर आ गए. धीरज फूले सांस के साथ पानी पीने लगा।दीपक निरोध के अंदर मेरी चूत में ही झड़ गए।मैं बता नहीं सकती, उनका लंड लेकर बड़ा सुकून मिला।इस आदमी को सुबह से चोदने के ख्याल से में गीली हुए जा रही थी।स्विमिंग पूल सेक्स कहानी पर अपने विचार जरूर लिखें. वो बोली- क्या क्या सेवा कर लेता है?मैंने कहा- आपकी चूत चुदाई और गांड मारने का काम तो करता ही हूँ … बाकी आप जिसकी भी लेने की कहोगी, उसकी भी चोद दूँगा.

विक्रम मॉम की छाती पर बैठ गया और बोला- चल साली मां की लौड़ी, अपनी दोनों मोटी चूचियों के बीच में मेरा लंड दबा. कसम से दोस्तो, इतना मजा आ रहा था, जिसके बारे में मैंने न कभी सोचा था और न ही उस अनुभव को मैं शब्दों में बयान कर सकती हूं. अरुणिमा सहित सब हंसने लगे, बस मैं ही अपनी वाइफ हार्ड सेक्स देखते हुए गांडुओं सा चुप खड़ा था.

मैं चलते चलते आंटी की गांड को मटकते हुए देख रहा था और इसमें मज़ा भी बहुत आ रहा था.

मैंने नीचे फर्श पर लेट गया और भाभी चालू हो गयी, उन्होंने मेरे मुँह में चूत लगा कर सुसु कर दी. भाभी की फिगर की बात कहूँ तो उनका 38-32-40 का मदमस्त बदन देख कर किसी का भी सोता हुआ लंड तुरंत खड़ा हो जाएगा. थोड़ी देर बाद मम्मी आईं तो मैंने बताया कि सलोनी भाभी आई थीं और आपके बारे में पूछ रही थीं.

हमने बीयर पीते हुए आराम से खाना खाया और फिर रात को 11 बजे से लेकर सुबह 3 बजे तक हमने फिर सेअलग-अलग पोजमें चुदाई की. हमारे समाज ने भी एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया था जिसमें विवाह योग्य लड़के लड़कियों के बायोडाटा डाले जाते थे और एक दूसरे के बारे में जानकारी मिल जाती थी. नाश्ते में भाभी ने मुझे एक केला दिया जिसे देखकर मैंने कहा- भाभी, इतना बड़ा केला मैं नहीं खा पाऊंगा.

मेरे बाद तुम मेरी गांड मारोगे ना?मैं बोला- नहीं यार, मैं तेरे जैसा हरफनमौला नहीं हूँ. थोड़ी देर बाद मुझे ध्यान आया कि आंटी की चूत में दोनों लंड एक साथ डालते हैं.

मैंने कहा- अनुराग भैया, क्या बात है … आप तो मुझे ही निहारे जा रहे हैं. जब मैंने ध्यान से सुना तो मुझे समझ आ गया कि यह राजेश और शर्मा अंकल की आवाज़ है. आंटी ने कहा- तो फिर देर किस बात की?मैं झट से आंटी को शॉवर में ही किस करने लगा.

अब जब भी मैं उसे चाय देने उसके रूम में जाती तो देखती कि उसका लंड अक्सर खड़ा रहता था जो मुझे साफ साफ उसके अंडरवियर में उभरा हुआ दिखाई देता था.

कुछ नहीं मिलता तो लड़के लड़कियां हस्तमैथुन से ही अपनी यौन तृप्ति करते हैं. अभी उनकी चूत में जब मेरा हब्शी बन चुका लंड अन्दर जाएगा, तब क्या हाहाकार मचेगा, वो मैं आपको अपनी चाची की देसी चुदाई की कहानी के अगले भाग में लिखूँगा. मैंने उनसे कहा- मैम सारे काम हो गए हैं … कुछ और हो तो बताइए?उन्होंने कहा- कोई काम नहीं है, तुम घर चले जाओ.

पर मेरे लन्ड का उभार आंटी ने देख लिया था।वो मुस्कुरा रही थीं।हम दोनों लोग काम करते करते पसीने से भीग गए थे. उन्होंने मेरे दोनों पैर चौड़े किए और अपना लंड मेरी चूत में पेल दिया.

दोस्तो, मैं आपको बता देना चाहता हूँ कि वो इस तरह से कभी भी अपने पति के पास भी कॉल करके उनको नहीं बोलती थीं. एक गोरी और बिना बालों की सफाचट फूली हुई चूत और गांड की मालकिन मेरे सामने नंगी चुदने के लिए राजी थी. उसके एक बार झड़ने के काफी देर तक भी मैं उसकी गांड चाटता रहा और अब उसकी हालत बेकाबू होने लगी.

रवि सेक्सी

सोनल ने एक छोटी सी फ्रॉकनुमा मरून रंग की नाइटी पहनी हुई जो सिर्फ उसकी चूत तक आ रही थी.

सुबह 7:00 बजे मेरी मम्मी मुझे चाची के घर बुलाने आईं- चलो उठो जॉब पर नहीं जाना क्या?मैं उठा तो मेरा लंड पूरी तरह से मेरी नाइट पैंट के अन्दर ही बंद था और ऐसे लग रहा था, जैसे मैंने रात को लंड बाहर बाहर निकाला ही नहीं. कुछ दिनों में ही पता नहीं कैसे जोगी सर को लगा कि मैं किसी दिक्कत में हूँ तो उन्होंने पूछा- क्या बात है टीना. भले ही उनकी उमर बढ़ गयी है, पर चूत आज भी लपक के देती हैं।अब मेरा लन्ड 6 इंच का हो गया है मोटा भी हो गया है.

फिर मैंने अपने दोनों हाथों से उनकी चूत को खोला और जीभ को नुकीला करके अन्दर डाल दी. फिर ढेर सारा सरसों का तेल चूत के छेद में डाला और मैं दो उंगली घुसा कर अन्दर बाहर करने लगा. सेक्सी बीएफ इमेजउसके दूध चूसने और दबाने में एक अलग ही नशा था … उफ्फ्फ मैं तो उसकी दीवानी हो गई थी.

एक वेटर मेरे पैरों से जींस खींच कर उतारने लगा; दूसरा मेरे टॉप को उतारने लगा. उसी वक्त मैंने पलट कर उन्हें पीछे से जोर से पकड़ लिया और उनके गले को चूमने लगा.

चाची बोलीं- पक्का ना … हम जाएंगे ना!मैं बोला- हां मेरी प्यारी चाची जी, हम जरूर जाएंगे और खूब चुदाई करेंगे. अब मेरे अंदर की कामवासना शांत हो चुकी थी क्योंकि मैं सोनी की चूत के नादर ही भरपूर वेग से झड़ गया था।उस रात हम दोनों ने 4 बार सेक्स किया।हमने 12 बजे चुदाई शुरू की थी और अब 3 बज चुके थे।उसके बाद मैंने दोबारा चुदाई के बारे में पूछा तो कहने लगी कि फोन पर तय कर लेंगे. मैं भी बहुत खुश था कि मुझे इतनी खूबसूरत और बेहद सेक्सी औरत के साथ साथ चुदाई करने का मौका मिला है.

मैंने चाची के दोनों मम्मों को करीब दस मिनट तक चूसा और चूस चूस कर दूध लाल कर दिए. कुछ देर आराम करने के बाद आंटी बोलीं- अब तुम मेरी गांड की चुदाई करो. कभी-कभी वो अपने कमरे में कुछ काम कर रहा होता तो मैं काम करने के बहाने उसके लंड पर अपनी गांड टच कर दिया करती थी.

इसे मुँह से चूस कर प्यार करो न!भाभी- मैंने कभी भी अपने पति का लंड नहीं चूसा था.

कुछ देर बाद सोच कर जारी रहते हुए दीपक बोले- लाओ इसकी जिम्मेदारी अब मेरी, तुम दोनों पार्टी एंजॉय करो. मुझे ऐसा लग रहा था कि पायल अपनी नाभि रोज़ अपने पति के लंड से चुदवाती है.

उसके एक बार झड़ने के काफी देर तक भी मैं उसकी गांड चाटता रहा और अब उसकी हालत बेकाबू होने लगी. मैं इस कल्पना में अपने लौड़े को हिला रहा था कि भाभी शायद मुझे अपने कमरे में बुलाएंगी. मेरा अभी फिर से मन हुआ कि आंटी की पैंटी को चोदने के लिए उठा लूं लेकिन मुझे आंटी का डर था.

[emailprotected]डॉक्टर सेक्स कहानी का अगला भाग:डॉक्टरनी और नर्स की चूत चुदाई का मजा- 2. ये सुन कर प्रकाश ने मेरे होंठों पर अपने होंठों रख कर चूसना शुरू कर दिया. और तुम भी क्या कह रहे हो यार … तुम्हें मेरे से भी ज्यादा प्यार करने वाली पत्नी मिलेगी.

ओपन बीएफ हिंदी वीडियो इमरान फटाफट गया और सबके लिए एक-एक पैग बना लाया और मेरे लिए व्हिस्की मिला हुआ कोल्ड ड्रिंक का गिलास ले आया. चाची सास- ओह्ह कितना दुःखी हो तुम!मैं- और क्या हो सकता है सासु मां.

जम्मू कश्मीर सेक्स

मेरा हाथ खुद ब खुद अपने लंड पर आ गया और उसी वक्त मैंने चाची को याद करके अपने लंड की मुठ भी मारी. मेरी जान अब चलो मैं तुम्हें होटल में ले जाकर जन्नत की सैर करवाती हूं. हम दोनों के अन्दर आग लगी थी जबकि हमें चुदाई का कोई मौका नहीं मिल पा रहा था.

आंटी जब वरूण को खाना परोस रही थीं तो उस वक्त मैंने देखा कि आंटी इतना ज्यादा झुकी हुई थीं कि उनकी चूचियों की गहराई साफ़ दिख रही थी. कामिनी बोले जा रही थी- आह और चोदो मुझे … बहुत दिनों के बाद चुद रही हूँ मैं … आह बहुत सुकून मिल रहा है. बांग्ला सेक्सी बीएफ बीएफफिर मैं झड़ने के कगार पर आया और मैंने अपनी सास की चूत में अपना वीर्य डाल दिया.

मॉम का पानी पेशाब की तरह पूरे उफान के साथ बाहर निकला और उसने मॉम को पूरा भिगो दिया.

मेरे ऊपर आते ही उसने मेरी जांघों की तरफ से मुझे चूमना शुरू कर दिया. मेरा लंड अंडरवियर के अन्दर से पूरा तना दिख रहा था और स्वाति साड़ी में थी.

एक दिन सुरभि रूम में अकेली थी, तब मैं उसके रूम में गया और सुरभि से पूछने लगा- क्या कर रही हो?सुरभि अंगड़ाई लेती हुई बोली- अरे आ जा … मैं तेरी ही तो राह देख रही थी. मैंने आंटी को बाथरूम में ही लेटा दिया और उनकी चूत चाटना शुरू कर दिया. अगले दिन जब मैं उन्हें खाना देने गई तो अब उनके और मेरे बीच में पहले जैसी बात नहीं रही.

फिर किसी वजह से ऐसा नहीं हो पाया उसकी मम्मी ने आने के लिए इसलिए मना किया था क्योंकि उनको अपनी कंपनी संभालनी पड़ती थी.

इन वेटरों को लंड लेगी तू … वो भी एक साथ! यार तू तो कमाल करती है और वो भी यहां, ये सब कैसे हो पाएगा यार!मैं- तू चिन्ता मत कर मेरी जान, बस मेरा एक काम कर दे, जब सारा फंक्शन खत्म हो जाए … तो मेरे लिए एक घंटे के लिए एक कमरे का इंतजाम कर देना. नतीजा ये निकला कि मेरी चाची सास अंजलि आज मेरे बेटे की मां बन चुकी हैं, उसका चेहरा बिल्कुल मेरे ऊपर गया है. फिर गांड मारने वाले और मराने वालियां इस बात को समझती होंगी कि गांड में लंड लेने में शुरुआत में दर्द होता ही है.

गुजराती सेक्सी खुल्लम खुल्लाउसकी न मना करने वाली मना पर मैं भी समझ गया कि ये भी मूड में आ गई है. मैंने दोनों को किस किया, नीतू की चूचियां दबाने लगा और जोर जोर से उसे किस करने लगा.

हिंदी में बफ मूवी

इस बार चुदाई में बहुत मजा आ रहा था और झड़ने में भी काफी समय लग रहा था. मेरी पिछली कहानी थी:सहकर्मी की पत्नी की प्यासी चूत की चुदाई का आनन्दइस बार मैं अपनी प्रिय पाठिका दिशा राजपूत की गैंग बैंग सेक्स फंतासी को आपके सामने रख रहा हूँ. पर वो मिलने की जिद करता रहता था, जिस कारण उसने कोमल से बात करना बंद दिया था.

फिर मैंने किचन से बाथरूम की तरफ देखा तो बाथरूम का दरवाजा लगा हुआ था. थोड़ी देर मैं उसके साथ बातें करता रहा वो हर बात का जवाब हां और ना में दे रही थी. कसरत में मदद के समय कोई लड़का जब मुझे छूता, तब मुझे बहुत अच्छा लगता था.

उसका थोड़ा सा ही लंड मेरी गांड में जा पाया था मगर मेरी मां चुद गई थी. आखिरकार मैंने उसकी पैंटी को भी उतार कर दूर फेंक दिया और उसकी बिना बाल वाली गुलाबी बुर देख कर मैं पागल हो गया. पहले तो मैं हक्की बक्की रह गई मगर मन था तो मुझको बहुत मजा आने लगा था.

मेरे दोस्त की प्रेयसी पानी से निकली मछली की तरह छटपटा रही थी; वो चुदने को बेताब हो रही थी।मैंने अब उसकी टॉप को खोल दिया और अपना पैंट भी उतार दिया।वो ब्रा पैंटी में बहुत हॉट दिख रही थी।मैंने तब उसकी ब्रा को खोला और फिर पैंटी भी उतार दिया।हम दोनों अब पूरे नंगे हो गए थे।मैं अब सोनी के ऊपर आ गया और उसकी चूत में लण्ड का मुंड रगड़ने लगा. मतलब सामने चुदासी रांड के जैसे आंटी नंगी थी और मैं चूतिया मुठ मारने की सोच रहा था.

पोर्न चाची Xxx कहानी में पढ़ें कि मेरी गर्म चाची मुझे होटल के कमरे में लायी.

एक आदमी दरवाजे तक आया और मुझे देख कर मुस्कुरा कर बोला- मस्त रंडी है … आज तो मजा आ जाएगा. ब्लू फिल्म ब्लू ब्लू ब्लू फिल्मपर हमारे गांव में एक कहावत है कि अगर लड़की मर्द के सामने अपना नाड़ा खुद खोले, तो वो साला नामर्द है. डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफउसका गर्म गर्म लावा मेरे गले में जाता हुआ मुझे ऐसा लग रहा था, जैसे मैं गर्म गर्म पानी पी रही हूँ. वो बोला- यार, तेरा लंड तो मस्त खड़ा होता है, फिर भी तुझे गांड मारने की इच्छा नहीं होती, कमाल है?मैं बोला- मेरा लंड गांड मराते समय झड़ता भी है.

मैं बाथरूम से बाहर आया और चाची से पूछा कि आपने ड्रिंक पी लिया न!तो चाची बोलीं- हां पी लिया, अच्छा था.

मैं चाची को उछल उछल कर चोद रहा हूं, मैं ऐसा सपने में देख रहा था और चाची जोरों से चिल्ला रही थीं. इस प्रकार से भाभी अब पूरी तरह से बदल गई थीं और उनका अब लगाव भईया से कम हो गया था. वो लिख कर बोला- अगर तुम वीडियो कॉल करना चाहती हो तो पहले तुम अपनी चूत और चूची दिखाओ.

आप मेरे साथ बने रहिए और इस हॉट वाइफ हार्ड सेक्स कहानी पर किसी भी प्रकार की राय देने के लिए आप मेल पर मुझसे संपर्क कर सकते हैं. दोस्तो मैं अपनी इस Xxx चुदाई की कहानी के अगले भाग में आपको बताऊंगा कि किस तरह से सोनल मेरे लौड़े से चुदी और मेरी बीवी नैना के बारे में उसने क्या खुलासा किया. मेरा पानी निकल जाने के बाद मेरा दिमाग एकदम फ्रेश हो गया और मैं प्यार से चाची के चेहरे को देखने लगा.

सेक्सी लड़की का सेक्स

फिर मैंने उसकी ब्रा का हुक खोल दिया और उसके खूबसूरत चूचों के जोड़े को देखने लगा. इसी तरह शाम के 4 बजे तक उसने मुझे 4 बार चोदा और स्कूल के बंद होने के समय के साथ ही मैं वहां से निकलकर घर आ गई. मेरी जगह रोहित ने संभाल ली और उसने हमारी घोड़ी की चूत में लंड डाल दिया और पीछे से ज्योति को चोदने लगा.

comपर जाएं और Savita Bhabhi Video” को सर्च करें।आप पहले परिणाम में ओरिजिनल सविता भाभी वीडियो साइट देखेंगे।या आप सीधे ट्रेलर वीडियो के आखिर में बताई गई वेबसाइट पर जा सकते हैं।.

फिर मैंने भाभी के पेटीकोट का नाड़ा खींचा जिससे भाभी का पेटीकोट नीचे गिर गया और अगले ही पल मैंने भाभी की चड्डी भी उतार दी.

लगभग दस मिनट किस करने के बाद और बूब्स मसलने के बाद मैं अपनी बहन से अलग हो गया. गुरबचन जी मुझसे बोले- सोच रहा हूँ कि आज रात अरुणिमा रंडी को घर ले जाऊं, आज रात इसे तबीयत से चोद कर सुबह वापस पहुंचा दूँ. एचडी हिंदी बीएफ सेक्समैं अपनी जीभ उसकी चूत के अंदर डाल कर चारों तरफ घुमाने लगा और जोर से उसकी चूत के दाने को अपने मुख में लेकर चूसने लग गया.

कुछ देर पहले तक जो चूत देने से मना कर रही थी, वो कुछ ही पलों में ऊपर से नंगी होकर मेरी बांहों में थी. अब उसने ही दिमाग लगाया और मेरे दोनों पैर अपने अपने कंधों पर रख लिए और अपने दोनों हाथ मेरे गले के आजू बाजू रख दिए. मेरे साथ पहली घटना होने के बाद मुझे लड़कियों के साथ सेक्स करने में ज्यादा मजा नहीं आता था.

इधर वसीम भी फुल मस्ती में आ गया था और उसने अपने धक्कों की स्पीड बढ़ा दी थी. मैं चिल्लाना चाहती थी मगर उन्होंने अपने होंठों से मेरे होंठों को बंद कर रखा था.

मेरा पति मेरे साथ ठीक से चुदाई नहीं करता है क्योंकि मेरे पति की उम्र 40 साल है और मेरी उम्र 31साल है.

आपको मेरी पहले की कहानियां अवश्य पसन्द आई होंगी, आपकी मेल मेरा उत्साहवर्धन करती है कि मैं और अच्छी कहानियां लिख सकूं और आपको अपनी कहानियों के माध्यम से सेक्स का आनन्द महसूस करा सकूं. हम लोग पैदल ही स्कूल जाते थे और गांव के बाद जब खेत का इलाका खत्म होता था, तो थोड़ा सा जंगल पड़ता था. भाभी जोर जोर से सिसकारियां भरने लगीं और कहने लगीं- आंह ओम … और जोर जोर से चोदो मेरे राजा … मैं झड़ने वाली हूं.

जंगल का बीएफ मैंने लंड बाहर निकाला और सुरभि को सहलाया, फिर सुरभि की चूत साफ की और उसे शांत होने दिया. मैंने लंड बाहर निकाला और सुरभि को सहलाया, फिर सुरभि की चूत साफ की और उसे शांत होने दिया.

मैंने चाची को सोफे पर ही अपनी बांहों में ले लिया और होंठ पर किस करने लगा. अब मैं पूरी तरह से समझ गया कि दीदी मेरी लंड की सवारी जरूर करने को रेडी हैं. हम दोनों का सफर करीब डेढ़ घंटे का होने वाला था क्योंकि वो सड़क गांव की थी और बहुत सही हालत में नहीं थी.

सेकसि विडिया

पहली बार चूत चुसाई का मजा देने उसकी चूचियों को दबाते हुए मैंने कहा- और मेरी रंडी … मजा आया?उसने बोला- यही बाकी रहा था भोसड़ी के … तुमने मुझे जान से रंडी बना दिया. शमशुद्दीन जी उठ कर बाथरूम चले गए और अरुणिमा अपनी कमर नीचे करके पूरी तन्मयता से गुरबचन जी का लंड चूसने लगी. भाभी ने अपनी गांड उठा दी और मैंने भाभी की टांगों से पैंटी निकाल कर उनकी चूत को देखा.

जल्द ही मैंने अपना मुँह चूत के ऊपर रख दिया और चाची की चूत पर अपनी जीभ फिराने लगा. इससे चाची की गांड मेरे लंड के साथ दबाने लगीं और मेरा लंड टाईट हो गया.

हैलो फ्रेड्स, मैं असलम एक बार फिर से अपनी सेक्स कहानी के साथ हाजिर हूँ.

अब वह बार बार बोलने लगी- निखिल ओर डालो आआ आहह उउफ्फ़!पायल हांफ रही थी और मैं जोर जोर से झटके मार रहा था. उन्होंने मेरे लंड को अपने मुँह में गले तक ले लिया और बड़ी मस्ती से अन्दर बाहर किए जा रही थीं. मैंने उसके होंठों का चुम्बन लिया तो वो जाग गई और मुस्कुरा कर मेरे सीने पर सर रख कर लेट गई.

साथियो, मैं परिमल पटेल आपको अपनी चुदक्कड़ चाची की चुदाई की कहानी सुना रहा था. और हम किस करते रहे।अचानक उसने मेरा हाथ लेकर अपनी गांड पर रख दिया और मैंने उसकी गांड को सहलाना शुरू कर दिया. सुबह की एनर्जी ड्रिंक अभी भी दो बॉटल बची हुई थी, तो हमने वह ड्रिंक ले ली.

मेरे साथ पहली घटना होने के बाद मुझे लड़कियों के साथ सेक्स करने में ज्यादा मजा नहीं आता था.

ओपन बीएफ हिंदी वीडियो: कुछ ही दिन में मैं चुदाई की इतनी आदी हो गई थी कि रात में घर वालों के सोने के बाद मैं अकेली ही छुपते हुए उसके खेत में चली जाती और रात भर उसके साथ रहती. उसने अपने दोनों हाथ मेरी पीठ पर रखे हुए थे और बड़े प्यार से सहला रही थी.

मैंने भी अपनी हिम्मत बनाये रखी और बोली- बहनचोदो … चोदो साले फाड़ो मेरी चूत और गांड को … मैं भी देखती हूं कि तुम सबमें कितना दम है. मैंने फिर से वो थोड़ा तेल अपने लंड पर लगाया जिससे लंड चिकना हो गया. ”मैं उससे बोला- तो बता ना साली … हितेश मेरी बीवी की कौन सी रंगीली बातें करता था, वो उसके साथ क्या क्या करना चाहता था साला.

मैडम हंस पड़ी और बोली- साले इतनी छोटी उम्र में इतनी बड़ी बात कर रहा है?मैं बोला- मैडम आप मौका तो दो.

करीब आधा घंटा तक मेरे मम्मे निचोड़ने के बाद किशोर ने मुझे अलग कर दिया. और भाभी बेहद जोर से चिल्लाई।मानो उनके चिल्लाने की आवाज घर से बाहर निकल गई हो. मैंने महसूस किया कि आयशा भाभी और हुसैना भाभी दोनों के चेहरे पर सेक्स की लालिमा छाई हुई थी.