साउथ के बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो ओपन इंडियन

तस्वीर का शीर्षक ,

ओपन डीपी बॉस: साउथ के बीएफ सेक्सी, लेकिन मुझे अपनी बहन पर यकीन था कि वह उसके हाथ नहीं आने वाली और इसी बीच उसका ग्रेजुएशन कंपलीट हो जायेगा।मैंने ऐसा ही किया.

आदिवासी जंगली सेक्सी वीडियो

मैंने सारा के दर्द की परवाह किए बगैर अगला झटका लगा दिया और अपना मूसल लंड चूत में घुसेड़ दिया. एचडी सेक्सी वीडियो मूवीफिर भी मैं तुम्हें प्रोमिस करती हूँ कि अगली बार मैं कोशिश करूंगी, आज जिद नहीं करो प्लीज़.

इस कहानी के पिछले भागचचेरी बहन की चुदाई-2में आपने पढ़ा कि मेरी चचेरी बहन मेरा लंड चूसा कर मजा ले रही थी और मुझे भी बहुत मजा आ रहा था. हिंदी भाषा का सेक्सदीदी पलंग से उठी और पलंग और सासू माँ के बीच में ऊपर एक रॉड था, उस पर एक नेट वाला परदा पड़ा था, वो खींच लिया.

फिर उसने मुझे नीचे लेटा कर मेरे मुँह में अपना लंड रख दिया और मेरी चूत चाटना शुरू कर दिया.साउथ के बीएफ सेक्सी: माँ ने आवाज़ सुनी और दौड़कर बाहर गयी- प्रणाम बाबा … धन्य हो गयी मेरी कुटिया जो आप पधारे, कृपा करके अन्दर पधारें.

जो चूत बड़े-बड़े अरबपतियों को नहीं देखने को मिलती वह चूत अब मेरे सामने नंगी थी.इस वक्त उसने बस एक झीनी सी मैक्सी पहनी हुई थी, जिसमें वो और भी ज्यादा हॉट एंड सेक्सी लग रही थी.

योगा सेक्सी वीडियो एचडी - साउथ के बीएफ सेक्सी

मैंने भी धीरे धीरे से उसकी चुत के किनारों को चाटना व चूसना चालू कर दिया.मैंने उसे जमीन की नर्म घास पर लिटाया और कंडोम का पैकेट को खोल कर कंडोम लंड पहनने लगा.

सासू माँ- बेटा, इस घर में काम करने के लिए नौकर नौकरानी हैं, तुझे क्या जरूरत काम करने की!मैं- ह्म्म्म … वो …फिर मैं अपनी बात कहते हुए रुक गयी. साउथ के बीएफ सेक्सी ज़रीना जोर से चिल्लायी।जितना चिल्लाना है जोर से चिल्ला, आज तेरी प्यारी अम्मी भी तुझे बचाने के लिये नहीं आ सकती, मैं आज तुम्हारी गाँड मार के रहूँगा, चाहे तुम राज़ी हो या न हो। अगर खुशी से मरवाओगी तो तुझे मज़ा भी आयेगा और दर्द भी कम होगा.

ज़रीना जोर से चिल्लायी। खून की धार बह निकली मेरी नई दुल्हन की गांड से!डरो मत मेरी जान! अब मेरा लंड पूरा का पूरा तुम्हारी गाँड में है, सब ठीक हो जायेगा.

साउथ के बीएफ सेक्सी?

मैंने रेड ब्रा पेन्टी स्ट्रिंग वाली और ब्लैक कलर का घुटने तक का सिल्क का गाउन पहन लिया. मैंने कहा- तुम खुद ही उतार लोउसने कहा- ठीक है, मैं ही उतार देती हूँ. मैंने कहा- अच्छा यह बताओ, तुम्हारी मम्मी की चूत कैसी है?सोनू कहने लगी- एकदम सुंदर, चिकनी और गोरी, अंदर से पिंक कलर की है.

कुछ देर बैठने के बाद हम दोनों अपने घर पे आने लगे, तो उसने धीरे से मेरे हाथ में एक कागज की एक चिट्ठी पकड़ा दी. और रही बात कि भाभी मुझसे चुदवायेगी या नहीं? तो पहली बात तो कि जब वह दीपक से चुदवा सकती हैं तो किसी और गैर मर्द से चुदवाने में वह बिल्कुल नहीं हिचकेंगी और भाभी मुझसे चुदवा लेगी. मैनेजर सर के पास सारी लड़कियां इंटरव्यू के लिए जाती हैं क्योंकि वो ही जॉब देते हैं.

फिर एक जोर के धक्के के साथ मेरा लगभग 2 इंच लंड चूत में अन्दर फंस गया. उसने अपनी दोनों टांगें हवा में उठा दीं और मेरी तरफ देख कर बोली- लो मेरी जान कर लो अपने मन की. तंग आकर मैंने बॉटली खोली और सोच रहा था कि फिर से दोस्तों की महफ़िल जमाऊं … लेकिन कल का आलम याद करके मैंने वो विचार छोड़ दिया.

रात को भी जब वह मेरा लंड चूस रही थी तो मुझे ऐसा मज़ा आ रहा था कि मैं 5 मिनट में ही झड़ जाऊंगा. कसम से कपड़े के अन्दर तो कुछ नहीं पता चल रहा था, ब्लाउज उतारने के बाद ब्रा में कैद उसकी चुचियां कहर ढा रही थीं.

मगर क्या आपने सोचा कि यदि कोई आपकी पसंदीदा हिरोइऩ किसी दिन आपके सामने ऐसे लिबास में आ जाए, जिसमें से उसका मलाई बदन करीब से निहारा जा सके तो आप पर क्या गुजरेगी.

इन दोनों को लगातार चोदने के बाद भी उनकी चुत में अभी भी मेरे लंड घुसने से दर्द होता है.

फिर देखना कैसे आराम से तुम्हारी चुत की गहराई नाप कर तुम्हें चुदाई के मजे देता है ये. शायद वह देख रहा था कि मैं पूरे नशे में हूँ। मैं भी आधे होश में था तो हवस जागना शुरू हो गई थी. दोस्तो, मैं अब तक इतना कामुक लड़का हो चुका था कि अब तक मैं लगभग 20 लड़कियों भाभियों और आंटियों के साथ सेक्स कर चुका था.

वे मेरी ब्रा निकाल कर मेरी चूची को चूसने लगे और मैं सिस्कारियां लेने लगी. उसने पूछा- तू संजीव को कैसे जानता है?मैंने उसे बताया कि इंटरनेट पर हमारी बात हुई थी और मैं ऐसे ही उससे मिलने के लिए आ गया. मूवी देखने के टाइम उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और मेरे कंधे पे सर रख के बैठ गईं.

वहीं उस घर में मेरी बुआ की बहू यानि मेरी भाभी रहती थी, जिसके बारे में यह कहानी है.

उसने बोला- प्लीज़ इसे बंद करो, इसको देखने से अच्छा है कि हम खुद ये करते हैं. जैसे-जैसे मैं लंड को सहलाता जा रहा था रीना के बदन के कपड़े भी उतरते जा रहे थे. जब वो मेरे सुपारे को अपने होंठों से लगाए हुए थी, तभी मैंने उसकी जांघ पर चिकोटी काटी, जिससे उसका मुँह एक चीख के कारण खुल गया.

हम्म … पर पेपर तो मेरा भी अच्छा नहीं हुआ … चल चलते हैं घर … रास्ते में बात करेंगे. मैं बोली- आशीष कोई आएगा तो नहीं? मुझे बहुत डर लग रहा है, मैं तो तुम्हारे प्यार में मजबूर होकर आ गई हूं … वरना मुझे बहुत डर लगा, पर तुम्हारे लिए तुमसे मिलने की चाह में आ गई. रवि मामा अपने फनफनाते लंड को मेरे हाथ में देने के लिए अब और भी बेताब हो चुके थे.

मैं- तू कुछ नहीं समझ पा रही है, अब देख करके बताता हूँ सुहागरात में तेरा पति क्या क्या करेगा औऱ तुझे क्या करना है.

अगले दिन ही तांत्रिक हमारे घर पर आया और आवाज देने लगा- बाहर निकल बालिके बाबा आये हैं. फिर मैंने अपने आपको सम्भाल कर उसे सवाल किया- हां जी कौन?उसने कहा- मैं अमीषी.

साउथ के बीएफ सेक्सी आज मैं छब्बीस साल का हो गया हूं, दिल्ली में नौकरी करता हूं और मैंने मामी के बाद चार चूत और चोदी हैं, लेकिन मामी की चूत चुदाई का मजा ही कुछ और था. मैंने कहा- आज पूरी रात मेरे घर कोई नहीं है, तुम चाहो तो रुक सकती हो.

साउथ के बीएफ सेक्सी पूरी नंगी लड़की को देख कर मेरा तो लंड फटा जा रहा था, मैंने फूलमती से कहा- मुझे चोदना नहीं आता!तो वो बोली- मुझे तो आता है, तू मेरे उपर आ जा!मैं उसके उपर आ गया. क्या उसमें तुम मेरी मदद करोगी?मैं- मुझसे क्या मदद चाहिए आपको?मैं बहुत ही कंफ्यूज हो गयी थी.

भाभी बोलीं- डरो मत आदी … अच्छे से चल … कुछ पूछना है, बस आ जाना और मेरा रूम भी देख लो.

सेक्स नंगी पिक्चर वीडियो

ननकू ने दो-एक बार चिन्टू को कहा भी कि मौसी के घर में पड़े रहने से बेहतर है वो कोई कामधंधा करे, दो पैसे कमा कर अपने माँ बाप का सहारा बने. अगर आप दर्द बर्दाश्त करने के लिए तैयार हैं, तो हम शुरू करें?कल्पना- ह्म्म्म. यह बात जनवरी की थी और मार्च में होली के बाद मेरे दो दोस्तों ने मेरी इस समस्या से मुझे निकालने की कमान संभाली.

दीपक- तुम कुछ भी कहो विचित्र, लेकिन सच तो यह है कि मेरी भाभी का कोई जवाब नहीं … वह लाजवाब है. फिर मैंने उसकी पेंटी के अन्दर डाल कर उसकी चूत को सहलाना शुरू कर दिया. मैंने भाभी से पूछा- लिक्विड चॉकलेट है क्या घर में?उसने कहा- हां है, पर क्या करोगे?मैंने कहा- देखते जाओ जानेमन, बस तुम ले आओ.

मैंने चॉकलेट का रस लिया और अपने लंड पर टपकाते हुए उसके मम्मों को भी भिगो दिया.

एक बार की चुदाई के बाद कल्पना भाभी काफी रिलैक्स नज़र आ रही थीं, पर थकान का असर अब भी उनके चेहरे पर साफ दिख रहा था. अगली सुबह मणि ने कोमल की चूत में लंड पेल दिया और उसे चोदने के बाद संजय को उठाया. फिर मजाक में ही मैंने सबसे पूछा- कौन सुबह में जल्दी उठता है?मैंने कहा- मैं 5 बजे उठ जाता हूँ.

मेरी बीवी ने जब से मेरे बारे में कमर दर्द का इलाज बताया था, तब से मेरी मामी का नजरिया मेरी ओर कुछ अलग ही नजर आने लगा था. मैं मामी के मुँह में जोर जोर से जीभ को घुसाने लगा और मामी भी मेरा साथ देने लगीं. तभी मामा ने मुझे बहुत जोर से अपनी बांहों में कसके दीवार में पीछे चिपका दिया और अपने हाथ से अपने लंड को पकड़ कर मुझसे बोले- बंध्या तू अब कुछ मत कहना … मेरे पास कोई कंडोम भी नहीं है … पर अब बर्दाश्त नहीं हो रहा … मैं क्या करूं.

फिर वह अपने चूतड़ को उठा कर मेरे होंठों पर अपनी चिकनी चूत को रगड़ने लगी. मेरी मुलाक़ात उन दोनों से हुई, बातें हुई, और अच्छी पहचान बन गई क्योंकि मैं भी मज़ाक और जोक्स का माहिर था, तो हमारी खूब जमने लगी.

उन्होंने झट से अपनी पैंट की ज़िप खोल कर अपना लंड मेरी आँखों के सामने निकाल दिया. जैसे उसने गांड को फैला दिया, वैसे ही मैंने उसकी गांड के छेद में ढेर सारा थूक छोड़ दिया और मेरे लंड के सुपारे से थूक को उसके गांड के अन्दर करने लगा. जब उसकी वासना काबू में नहीं रही तो अपनी जेठानी के कमरे में जाकर मीना ने पूछ ही किया- कई दिन से चिन्टू दिखाई नहीं दिया? आया नहीं क्या?जेठानी ने जवाब दिया- वो आया तो था, पर चला गया, कुछ जल्दी में था.

इधर मेरे सास ससुर को अपने गांव जाना पड़ा, तो वे मुझे भी साथ लेकर गए.

तब मैंने उससे पूछा- क्या हुआ?उसने मुझसे पूछा- क्या इस उम्र में संभोग, रतिक्रिया की कामना करना गलत है?मैंने उसे उत्तर दिया- अगर कोई स्त्री पुरुष स्वेच्छा से शारीरिक आनन्द उठाना चाहते हैं, तो इसमें गलत क्या है. अब मिसेज पाटिल अपनी चुत को ऊपर नीचे मटकाती हुई लंड चूसने का लुफ्त लेने लगीं. अब ले … और चोद ले अपनी मर्जी से!” कहते हुए प्रशांत के हाथ कभी न आने की धमकी देने लगी.

मैंने बिस्तर के गद्दे के नीचे से कंडोम निकाल कर अपने लंड पर चढ़ा लिया. उसके लिंग का उभार अंडरवियर पर साफ़ नज़र आ रहा था, मानो मेरे योनि को चीरने के लिए तैयार हो.

वो मेरे ऊपर चढ़ सा गया और मेरे चूतड़ों के ऊपर अपनी दोनों टांगें फैला कर झुक गया. मुझे पता चल चुका था कि चुदाई से पहले लड़की को कैसे ज्यादा गर्म किया जाता है और उसको कैसे ज्यादा मजा दिया जाता है. हम दोनों एक दूसरे के साथ सेक्स करने के लिए चुदासे हो उठे थे, पर हमें सेक्स करने के लिए मौका नहीं मिल रहा था.

कॉलेज ट्रिपल एक्स

अंकल- करेक्ट, मुझे किसी जवान लड़की को किस करने के बाद मन में उठते हुए फीलिंग्स के बारे में आर्टिकल लिखना है.

धीरे धीरे वो मेरी तरफ बढ़ने लगा और बड़ी ही उत्सुकता से मुझे आगे से पीछे से घूर घूर निहारने लगा. दोस्तो! पहली बार मुझे पता लगा कि औरतों के अंदर बहुत ज्यादा ईर्ष्या होती है. गुड … वैरी गुड राजे … देख मैंने तेरा वीर्य पी लिया है इसलिए अब तू मुझे मैडम जी न बोला कर … अब से तू मुझे बाली रानी कहा करेगा … अब से मैं तेरी रानी और तू मेरा गुलाम राजा … आयी समझ मादरचोद.

5 मिनट तक इस पोजीशन में चुदाई के बाद मैं घोड़ी बन गयी और बैडमैन मुझे बिस्तर के कोने में लेकर खड़े खड़े मुझे घोड़ी की तरह चोदने लगा था, बड़ा ही आनंद आ रहा था. मैंने दोनों हाथों से उसकी गांड दबा कर अपने मुँह को उसकी चूत में घुसा कर चूसना शुरू कर दिया और पूरा नमकीन चूत-रस पी गया. कश्मीरी सेक्सी गर्लरितिका ने हॉस्टल से छुट्टी ली और मुझे कॉल कर दिया- जान, आई एम कमिंग ऋषिकेश फ़ॉर माय फर्स्ट फकिंग!मैं बोला- रितिका मेरी जान, जल्दी आओ, मैं तो कब से तेरा इंतजार कर रहा हूँ.

मैंने उसकी मुलायम जुबान को मेरी जुबान से चाटना शुरू किया और उसकी जुबान मेरे मुँह में लेके मजे से चूसना शुरू किया. लगभग दस मिनट तक उसके होंठों को चूसने के बाद मैंने उसकी टांगों के बीच में आकर चुत पे किस कर लिया, जिससे वो एकदम से गनगना उठी और मेरे बाल पकड़ कर मेरे सर को अपनी चुत पे दबाने लगी.

लेकिन जब भी कुछ काम से वो आते, मैं उन्हें देखता और छूने की कोशिश करता. सिर्फ उह … आह … उह्ह … आअह … हम्म … हम्म … बस … जैसी आवाजें हम दोनों के ही मुंह से निकल रही थीं. मामी की नंगी पीठ को चूमते हुए मैं फिर से घुटनों के बल नीचे बैठ गया.

मामी जी- राहुल, आपकी चुदाई और आपका लंड तो इतना मस्त शानदार है कि जी चाहता है कि आप मुझे चोदते जाओ और मैं आपसे चुदवाती रहूँ. तब अजय आगे आकर बोला- कोई बात नहीं, मेरा लन्ड डलवा दो न?तभी मैं चिल्लाई- दीदी प्लीज मुझसे रहा नहीं जा रहा, लन्ड दिलवा दो मुझे …तब दीदी ने अजय को छूट दे दी. अपने अलग तरह के खास अंदाज में करीब तीन-चार मिनट तक फिंगरिंग करने के बाद प्रशांत ने नीना की एक टांग को उठाया और चूत के मुहाने पर अपना लंड सटा दिया.

उसके बाद वह मेरे पास बैठ कर अपनी निजी जिंदगी की बातें मुझे बताने लगी.

जब दूसरी बार मुझे महसूस हुआ कि अब मेरा पानी निकलने ही वाला है तो मैंने जीजा की तरफ अपने होंठों को बढ़ा दिया. लेकिन ऐसे ही दो महीने निकल गए और मुझे लगा कि कोई फेक लड़का होगा, जो मेरे मजे ले गया.

अब वो बाइक पर हाथ फैला कर खड़ी हो गई … उसे ऐसे ही लगने लगा था कि किसी और गाड़ी में उसके लिए लंड हो सकते थे. इसी भयानक लंड ने मुझे चोदकर आनन्दित किया था। मुझे अजय के लन्ड पर प्यार आया और मैं अजय के सीने से लग कर लन्ड पर प्यार से हाथ फेरने लगी।तभी मेरी नजर जीजू पर पडी. मामी मेरे ऊपर थीं, मैं मामी की चूत चाट रहा था और वो मेरे लंड को चूस रही थीं.

जब भाभी उठ कर बाथरूम जाने लगी तो मेरा वीर्य उनकी चूत से निकल कर उनके पटों पर बह रहा था और वह अपनी टांगों को चौड़ी करके चल रही थी, जिससे फर्श के ऊपर वीर्य के टपके गिर रहे थे. वह बोली- तो मैं कब कह रही हूँ कि मैं तुम्हारे ऊपर अहसान कर रही हूँ। मैं अगर पैसे दूंगी तो फायदा भी पूरा उठाऊँगी तुम्हारा. मैंने उसको अपने पास बैठाया और उससे पूछा- क्या हुआ तुम उदास क्यों हो?तो वो बोली- मैंने तुमसे झूठ बोला और बताया नहीं कि मेरा एक बच्चा भी है.

साउथ के बीएफ सेक्सी पर चपड़ चपड़ की आवाज साफ सुन रही थी मैं।दीदी बुरी तरह तड़पकर लगभग चिल्लाने लगी- जल्दी चोदो मुझे … बर्दाश्त नहीं हो रहा. मेरी आंखें तो बंद थीं लेकिन अभी भी वह चुदाई का सीन मेरी आंखों में यूं का यूं चल रहा था.

चुदाई भोजपुरी

अब भैया भाभी के पेटीकोट को भी ऊपर करके उनकी जांघों पर भी रंग ले ले कर मलने लगे. पहले तो मैंने मना कर दिया फिर कहा- ठीक है, मैं रुक जाता हूँ।मैं वहीं सोफे पर बैठकर टीवी देखने लगा. कुछ देर बाद भैया उठे और बोले- मैं बाहर जा कर अमित के साथ दारू पीता हूँ … तू थोड़ी बहुत देर आराम कर ले.

हाँ इतना ख्याल रखना कि किसी को पता ना लगने पाए वरना बहुत मुश्किल हो जाएगी. तो हमारी बात काफी सेक्सुअल भी होने लगी थी लेकिन मर्यादा के अंदर ही. रेडमी नोट 8 प्रो कितने का हैमैं जब भी उसके मम्मों को जोर दबा देता तो उसकी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ की आवाज निकल जाती.

उसने एक बार मुझे देखा और वो हंसने लगी और बोली- ऐसे घूर के क्या देख रहे हो?मैंने कुछ नहीं कहा, बस एक आंख मार दी.

अंकल बोले- ऐसे क्या देख रही हो, कहीं कुछ सामान तो नहीं बिखरा पड़ा?मैंने कहा- कितनी साफ सुथरा है आपका रूम, मेरा रूम तो आपके रूम से गंदा होगा. उसके बाद मैंने दूसरा टुकड़ा पूरा नहीं खाया और आधा अपने होंठों के बाहर ही रहने दिया.

आपा भी दर्द के मारे चिल्लाने लगी … जो इर्द गिर्द गूँज उठी थी- आहहह आय मर गई … उउउइइ ओहह … बहुत दर्द हो रहा है … प्लीज इसे बाहर निकाल लो … मुझे नहीं चुदवाना तुमसे … तुम बहुत जालिम हो … यह क्या लोहे की गर्म रॉड घुसा डाली है तुमने मुझमें … निकालो इसे … नो प्लीज बहुत दर्द हो रहा है … मैं दर्द से मर जाऊंगी प्लीज निकालो इसे!सारा आपा की आँखों से आंसू की धारा बह निकली. अब तो अंकल की छवि मेरी आंखों के सामने आ गई थी और चुत एक झटका दे कर झड़ने लगी थी. फिर एक ही झटके में उसकी गांड पर जोर से थप्पड़ मारते हुए उसके बालों को खींचा और उसकी चुत में पूरा लंड पेल दिया.

” मैं दरवाजे के पास चली गई और न जाने मुझे क्या सूझा और मैं पलट कर उन्हें बोली- और अगर आप जानबूझ कर भी उधर हाथ रखते, तो भी मैं आपसे गुस्सा नहीं होती.

हैलो, मेरा नाम नवीन है, मैं झाँसी में रहता हूँ और एक बिज़नेसमैन हूँ. मेरी जीभ जैसे ही भाभी के चूत के दाने पर लगी 2 मिनट बाद ही भाभी ने मेरा सिर अपनी जांघों के बीच में दबा लिया और आ … आ … करने लगी. फिर मैंने उसकी पेंटी को उसकी टांगों से बिल्कुल ही अलग कर दिया और उसकी नंगी चूत पर अपने होंठ रख दिये.

लेडीज ज्वेलरीसीमा ने मेरे लंड को अपने मुंह में ले लिया और नीचे से मैं उसकी चूत को चाटने लगा. मैं उसके बोबों को दबा देता था, कभी उसकी गांड पर हाथ फेर देता था लेकिन इससे चुदाई की प्यास और ज्यादा बढ़ने लगी थी और अब मैं उसको कॉलेज भी छोड़ने चला जाता था.

सपना के सेक्सी वीडियो

मैंने चादर उठाकर उनको निमन्त्रण दिया- आ जाओ मामी, यहीं सो जाते हैं. तो वो भी मान गयी।फिर मैं तन्वी के साथ मार्केट गयी और वहाँ से हम दोनों कुछ अच्छे कपड़े खरीदे. थोड़ी देर चुसवाने के बाद मैंने उसे फिर से लिटाया और उसके ऊपर चढ़ गया.

उसने कुछ देर के बाद मेरे सिर के बालों में हाथ फिराना शुरू कर दिया और मेरे बालों को सहलाते हुए मेरा सिर अपनी चूचियों पर दबाने लगी- आह्ह … राहुल, मैं बहुत दिनों से प्यासी हूँ. मेरी माँ भी नीचे से अपनी गांड को उछाल-उछालकर मेरे लंड से अपनी चूत को चुदवा रही थी. जब इंदु ने मेरे बालों को पूरा साफ कर दिया तो मुझे खड़ा करवा के खुद घुटनों में बल बैठ के मेरे मेरे लंड को लगी चूसने! अम्म्ह … महह … हहह चप चप … की आवाजों के साथ मुझे बहुत मजा आ रहा था.

मुझे एक बार तो हल्का सा दर्द हुआ लेकिन उसके सेक्सी गोरे बदन की फीलिंग ने जल्दी ही गांड को विरोध करने से मना कर दिया और उसकी उंगली मेरी गांड में अंदर तक जाने लगी. कहती हुई वह मेरे पास आई और मेरे पेट पर हाथ फिराती हुई कहने लगी- तुम बस मुझे खुश कर दो और मैं तुमको खुश कर दूंगी. मैंने किस करते हुए उनको जोर से दबाया तो उसकी आंखें खुलीं और वो भी मुझको बेसब्र बन कर किस करने लगी.

पर मेरे जोर देने पर वो मान गयी और उसने मेरा लंड जैसे ही मुँह में लिया. आखिरी कौने में सामने ही एक कमरा बना हुआ था जिसका दरवाज़ा हल्का सा खुला हुआ था.

कभी कभी सलवार सूट पहनना होता था, तो वो भी गांव का ही सिला हुआ पहनती थी.

सोनल मेरे सीने पर बैठ गई, वह भी अपना चेहरा मेरे पैरों की तरफ करके … यह 69 की पोजीशन थी, जो कि मुझे सोनल ने ही बाद में बताया था. बाल काले करने का तेलcom/teen-girls/jatni-ki-sawari/में पढ़ा था कि कैसे नीरजा मेरे रूम में आकर मुझसे चुद कर गई. मलाइका अरोड़ा सेक्समेरी चुत को और गीला कर रहे थे, मेरी उंगलियों को अपनी ओर खींच रहे थे. मैंने उसके मम्मों को कसके दबाया और उससे पूछा- आज से पहले तूने किसी का लंड अपनी चुत में लिया है?तो उसने मना कर दिया.

उस दिन चिन्टू के जाने के पश्चात मीना काफी देर तक चिन्टू के बारे में ही सोचती रही कि आखिर चिन्टू क्या चाह रहा है.

उस रात उन्होंने मुझे फोन किया और बताया कि अभी भी बहुत दर्द हो रहा है. मेरी पिछली कहानी थी:बहन की चुदासी सहेली को चोदाकाफी समय से सोच रहा था कि मैं भी अपनी कहानी अन्तर्वासना के प्यारे पाठकों के लिए एक और नयी कहानी लिखूं और एक दिन मैं लिखने बैठ गया. अब वो मुझे बोलने लगी- मेरी चूत में लंड डाल!मैं मना करता रहा पर वो नहीं मानी, वो बोली- तेरा लंड तो तेरे भाई से भी तगड़ा है.

इससे पहले मैंने किसी मर्द को इस तरह अकेले में बिना कपड़ों के नहीं देखा था. बेचैन होकर मैं रोने लगी, तब दीदी ने अजय को रोकने का प्रयास किया पर अजय गुर्राकर आंख दिखाने लगा. मेरी उत्तेजना के साथ ही साथ मेरे शिश्न में भी उत्थान आ रहा था, जो मामी की जांघों में धंसा जा रहा था.

राजस्थानी 3x वीडियो

मैं अपने हाथों से उसकी टी-शर्ट में हाथ डाल कर उसकी कमर पर हाथ घुमा रहा था. पर मेरा बाकी था, तो मैं उसके ऊपर आ गया और उसको जोर जोर से चोदने लगा. मैंने उसका सिर मेरे सीने पर दबा के रखा, फिर जैसे हम मर्द स्तनों को चूसते हैं, वैसे ही वो मेरे सीने को चूसने और काटने लगी, मेरे निप्पल्स को दांतों से काटने लगी.

मिसेज पाटिल मुझे सभी जगह चूमे जा रही थीं और एक वासना भरी निगाह से देख रही थीं.

दस मिनट में वो 2 बार छूटी, कमरे में मेरे झटकों की आवाज़ बहुत बुलंद थी.

मैंने फिर से तीन-चार बार बेल बजाई मगर दरवाजा कोई खोल ही नहीं रहा था. आप भी अपने लंड को पकड़ कर रखिए, कहीं कहानी के बीच में ही आपका लंड आपका साथ न छोड़ दे. सेक्सी वीडियो फिल्म कामैंने उसकी आंखों में आंखें डाल कर देखा तो उसने मेरे लंड को पकड़ लिया.

जी करता था कि बस सारा जीवन इस मदमस्त कर देने वाली उंगली को चूसते चूसते ही बिता दूँ. उनके सीधे खड़े होते ही, उनकी गांड से वीर्य की धार बह कर बाहर निकलते हुए, उनकी जांघों से होते हुए नीचे फर्श पर गिरने लगी थी. अनेक लोगों को मेरी आगे की कहानी की प्रतीक्षा थी और कुछ पायल से मिलना भी चाहते थे.

फिर बोला- बंध्या तुम अब कोई चिंता नहीं करो, मैं तुमसे वादा करता हूं कभी उस तरह से नहीं होगा. यानि उसने मेरे तने हुये लंड को अपनी फुद्दी के नीचे इस तरह से सेट किया कि वो उसकी दोनों जांघों की गहराई में बड़े अच्छे से फिट हो गया।मैंने उस से पूछा- तुम्हें पता है कि इस वक़्त किस चीज़ पर बैठी हो?उसने हाँ में सर हिलाया।मैंने पूछा- क्या है?वो धीरे से बड़ी मीठी सी आवाज़ में बोली- लंड।कितनी मिठास थी उसकी आवाज़ में। अब मुझे बड़ी तसल्ली सी हुई कि ये भी पूरी तरह से मन बना कर आई है.

वो मुझे होंठों से लेकर गालों और गले में चूमते हुए मेरे दोनों मांसल स्तनों को मसलने लगा.

उस दिन तो कुछ खास अनुभव नहीं लगा, कुछ भी पर अगले दिन पता नहीं क्यों, मैं उसी की दुकान में चली गयी. उसने कमरे का दरवाज़ा बंद कर दिया और मुझे कम्बल ओढ़ने के लिए कह दिया. कहीं बाद में …” सर की बात को मैंने खुश होकर बीच में ही काट दिया।जी … वो किसी को कुछ नहीं बताएगी … बुला लाऊँ उसको?” मैं खुश होकर बोली।हां … ऑफिस में लेकर आ जाओ!” सर ने कहा और अंदर चले गये.

रेशमी देसाई जूस पीने के बाद मैं लेडी संग झप्पी मार कर बेड पर लेट गया और उसे किस करने लगा. जब मैंने नीचे आँगन में खड़ी एक बहुत ही सुंदर सी लेडी से पूछा कि क्या कमरा खाली है? तो उन्होंने बताया कि बीच वाले फ्लोर में जो रहते हैं, उनसे बात करो.

लड़की का दिया हुआ पहला चुम्बन और फिर उसके हाथ से लंड पर पहला स्पर्श! मेरा दिल सरपट दौड़ने लगा. कितने दिनों से बृजेश के साथ सम्बन्ध नहीं बना था तो मेरा जी भी मचल गया, सोचा कि अगर वो छू लेता है तो मज़ा भी तो आता है तो चलो छू लेने दो. फिर मैंने बिना कुछ कहे उठा कर गुलाबो को अपनी गोद में घसीटा और गुलाबो के लिपस्टिक से रंगे होंठ बिना लिपस्टिक के कर दिए। गुलाबो भी पागल सी हो गई और अपने हाथ मेरी गर्दन पर फिराने लगी। मैंने गुलाबो का दुपटा उतार डाला और फ्रॉक की डोरियों की खिंच कर उतार डाला.

ગુજરાતી સેક્સી વિડિયો

जब आंखें खुलीं, तब फिर से हितेश के वीडियोज का सीन आंखों के सामने था. … मेरी गांड में … अह्ह्ह फाड़ डालो … ऊऊहह … आआहह … अन्दर … और अन्दर आज्ज्जाआ … आअहह … मेरी गांड. मैं उसकी बात सुन हंस पड़ी और भीतर ही भीतर अपनी प्रसंसा सुन खुश हो रही थी.

उसने अपनी जोरू मीना से थोड़ा रौब से पूछा- ये चिन्टू का यहाँ रोज रोज आने का क्या काम? क्या चक्कर है ये?अपने पति की बात सुन मीना के हृदय की धड़कन बढ़ गई- ये आप क्या कह रहे हैं? वो आपका रिश्तेदार है तो कभी कभार आपके घर आ जाता है. उस समय मुझे रवि मामा और सभी लोग छोटा ही समझते थे, इसीलिये मेरी बातों को गम्भीरता से नहीं लेते थे.

मैं अपनी चूत को थोड़े से बालों से सजा कर रखती हूँ क्योंकि मुझे ऐसा करना अच्छा लगता है.

तभी भाभी मुझे हटा कर बैडमैन के सामने घोड़ी बन गयी और वो भाभी की चूत में इत्र डाल कर चोदने लगा. वो पहली क्लास में पढ़ता था। मैंने उनको अपनी फीस बताई और यह भी बता दिया कि मैं किस समय उसके बेटे को ट्यूशन पढ़ाने के लिए आया करूंगा. उस दिन भी वो खुले गले का टॉप पहन के आयी थी और मेकअप भी प्यारा किया हुआ था.

मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि इतनी सुंदर भाभी के इतने करीब कभी आ भी पाऊंगा। दो मिनट तक किस करने के बाद मैंने उनको अपनी बांहों में भर लिया और उनके गले पर चूमने लगा. मैं- कौन सी फोटो दी है मैंने?तो उसने सुबह वाली फोटो मेरे को भेजी। मैं देख कर शरमा भी गयी और गुस्सा भी आया कि वो मेरे ही घर में था और मुझे पता भी नहीं चला. फिर मेरे पति ने मुझे उठाकर मेरी ब्रा को खोल दिया और मेरी चूची नंगी हो गई.

वो समझ गई और कहने लगी- अच्छा जी इस लिए क्लास घर पर लगाने की कह रहे थे.

साउथ के बीएफ सेक्सी: दोस्तो, मेरा नाम दिव्या है और मैं अहमदाबाद गुजरात की रहने वाली हूँ. करीब 20-25 जबरदस्त शॉट लगाने के बाद मैं उसकी गांड में ही झड़ गया और उससे लिपट कर कुछ देर शान्त हो गया.

किसी को नहीं मालूम था कि मैंने भी उन तीनों की ये चुदाई देखी। लेकिन तब से मैं दीदी के घर जाने से हिचकने लगी। मगर अनन्त का दीदी के घर पर आना-जाना आज भी जारी है. आज चाची ने मुझे व्हाट्सएप पर मैसेज भेजा- कहां है मेरे राजा … मैं बाथरूम में हूँ. पापा अपने हाथों से मेरे सिर को सहलाते रहे और मैं उनका लौड़ा अपने मुँह में लेकर चूसती रही.

धीरे धीरे रवि मामा मेरे साथ काफी फ्रेंक होना चाहते थे और अब वह मुझसे कोई जुगाड़ या चुदाई के लिए कोई लड़की के लिए पूछते रहते थे.

जिसमें मैंने आपको बताया था कि कैसे मेरी रूममेट कोमल के बॉयफ्रेंड मणि ने मेरी चुदाई की थी. फिर दोनों हाथ ऊपर करके एक एक हाथ में मेरे दोनों मम्मों को पकड़ के दबाने लगा. मेरे को उठती देख कर अचानक से भाभी चली गयी, मैं भाभी को आवाज़ लगाती रही पर वो नहीं रुकी।मुझे जो प्लानिंग बैडमैन ने बताई थी वो मैंने अम्मी को बता दी, अम्मी सुन कर बहुत खुश हुई.