बीएफ गाना भोजपुरी डीजे सॉन्ग

छवि स्रोत,हिन्दी सेक्स कहानीया

तस्वीर का शीर्षक ,

भिखारी सेक्सी: बीएफ गाना भोजपुरी डीजे सॉन्ग, मैं भी उसके किस का जवाब किस से देने लगा, उसके कपड़ों में हाथ डालकर उसकी गांड को सहलाने लगा और एक हाथ से उसकी चूचियों को मसलने लगा.

न्यू सेक्सी वीडियो इंडियन

कैम गर्ल रोल प्ले सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी ऑफिस की दोस्त को चोदना चाहता था। पर मैं साहस ना कर पाया. हिंदी सेक्स व्हिडिओ एचडीमुझे तो यकीन नहीं होता था कि तुम्हारा ये मूसल जैसा लंड मेरी चूत में पूरा घुस जाएगा.

अब आगे फ्रेंड वाइफ चीट स्टोरी:विलास को बाथरूम से बाहर आया देख कर सरिता बोली- देवर जी, जाइए आप भी जल्दी से फ्रेश होकर आइए. हम साथ साथ हैं हिंदी फुल मूवीफूफा जी मुझे उठा कर बेड पर ले आए और मेरी सेंडल उन्होंने खुद ही उतार दी.

मैंने उसको कहा- मेरे साथ होटल में चलो, मुझे आपके साथ और मस्ती करनी है.बीएफ गाना भोजपुरी डीजे सॉन्ग: उसने अपनी दोनों जांघों को मेरे सिर पर दबा दिया, इससे मेरा सिर उसकी चूत पर दब गया.

फिर उन्होंने मुझसे पूछा- बेटा तुम्हें कोई बीमारी है क्या?मैं बोला- नहीं तो आंटी, ऐसे क्यों पूछ रही हैं आप!आंटी बोलीं- मुझे कुछ कुछ पता है.वो मुझसे अपने आपको छुड़ाने की पुरजोर कोशिश कर रही थी पर कामयाब नहीं हो पाई.

सेक्सी अंग्रेजी सेक्सी फिल्म - बीएफ गाना भोजपुरी डीजे सॉन्ग

अब सरिता कसमसाने लगी और तड़फ कर बोली- हाय रे हर्षद … कितना मस्त चूस रहे हो.मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से भी दबा रखा था, जिससे वो मुझे धकेल रही थी.

मुझ जैसे सुंदर सुशील लौंडे को देखकर एक तो लड़कियां वैसे ही फिदा हो जाती हैं, फिर उन्हें लम्बा मोटा लंड भी नसीब हो जाए, तो बात ही क्या है. बीएफ गाना भोजपुरी डीजे सॉन्ग उसने मेरे दूसरे हाथ को अपने हाथ में लेकर उस पर दो-तीन किस कर दी और मेरे हाथों को चूमने लगा.

मैं करीब 5 मिनट तक उनकी चूत चाटता रहा और उन्होंने आंह आंह करते हुए अपनी चूत से पानी छोड़ दिया.

बीएफ गाना भोजपुरी डीजे सॉन्ग?

मेरा भी बस चरम पर पहुंचने वाला था, मैंने जोर जोर से धक्के लगाने शुरू किए. ये कहते हुए मैंने फिर से जोर का धक्का दे दिया और मेरा पूरा लंड अन्दर चला गया. हालांकि इससे पहले भी कई बार मैं दादी के साथ बुआ के यहां जा चुका था और बड़ी भाभी और मंझली भाभी मुझसे अच्छी तरह से पहचानती थीं.

एक मर्तबा मेरे दोस्त अरुण के साथ ये तय हुआ था कि संडे को एक्सट्रा क्लास के बहाने कैफे जाएंगे. मैंने अपने प्यारे पति से कहा- अब तुम नीचे लेट जाओ, मैं तुम्हारे ऊपर बैठकरअपनी गांड चुदवा लूंगी. छोटे आदमी का लंड बड़ा हो सकता है और बड़े आदमी का लंड छोटा।तब तक थापा ने कहा- मेम, आप झांटें सब साफ़ करवाएंगी या कोई डिजाइन बनवाएंगी?मैंने कहा- यार फिलहाल तुम सब साफ़ कर दो। डिजाइन बाद में बनवाऊंगी।उसने मशीन से मेरी झांटें एकदम साफ़ कर दी और क्रीम वगैरह लगा चूत एकदम चिकनी कर दी।मैं उसका लंड मुंह में लिए हुए चूसती रही। मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था.

जैसे ही मेरा लंड खड़ा होने लगा, मैंने उनका हाथ अपने लंड से हटा लिया जिससे मौसी मां को मेरे लंड का कोई आभास न हो।जैसे ही मेरा लंड बैठता, मैं फिर से उनकी हथेली अपने लंड पर रख देता।ऐसा करने में मुझे मजा भी आ रहा था और डर भी लग रहा था क्योंकि जरा सी गलती और पकड़े जाना।इसी बीच मेरा ध्यान नाईटी की बांहों से झांकते आर्मपिट की ओर गया।अंदर का नजारा साफ नहीं दिख रहा था।मैंने उनकी नाइटी की आस्तीन थोड़ा ऊपर की. मैंने कहा- नहीं बोल ना!उसने कहा- यार हमारी दोस्ती करीब पच्चीस साल पुरानी है और मैं बिना किसी भूमिका के कहना चाहता हूँ कि मैं रीना से सेक्स करने की इच्छा मन में दबाए हुए हूँ. छोटे आदमी का लंड बड़ा हो सकता है और बड़े आदमी का लंड छोटा।तब तक थापा ने कहा- मेम, आप झांटें सब साफ़ करवाएंगी या कोई डिजाइन बनवाएंगी?मैंने कहा- यार फिलहाल तुम सब साफ़ कर दो। डिजाइन बाद में बनवाऊंगी।उसने मशीन से मेरी झांटें एकदम साफ़ कर दी और क्रीम वगैरह लगा चूत एकदम चिकनी कर दी।मैं उसका लंड मुंह में लिए हुए चूसती रही। मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था.

विलियम का हाथ मेरे बूब्स पर पड़ते ही और उसको दबाते ही मेरा भी दबाव उसके लण्ड पर हो गया, मैंने भी विलियम के लण्ड को जोरदार दबा दिया. मैंने अपनी बर्थडे गिफ्ट मांगी तो …दोस्तो, मैं आरव आपको अपने जन्मदिन के अवसर पर मिले एक स्पेशल गिफ्ट की सेक्स कहानी सुना रहा था.

चाची- प्यार तो मैं भी बहुत करती हूं, पर …मैं- चाची मैं बहुत ही प्यासा हूं, प्लीज मुझे ऐसे मत तड़पाओ.

कुछ देर बाद उन्होंने मुझे लंड पर से हटने को कहा और डॉगी स्टाइल में आने को कहा.

मगर ज्यादा जोर देने पर बताया कि रोहित उसको ज्यादा टाइम नहीं देता है और वो ये कहते हुए रोने लगीं. उसने मुझसे इस सेक्स कहानी को लिखकर आपके समक्ष पेश करने को कहा है, तो आइए इस हॉट कॉलेज गर्ल Xxx कहानी का रस लेते हैं. उसने मुझे काफी कुछ बताया कि उसके अम्मी अब्बू ने उसकी शादी मेरी मर्जी के खिलाफ की थी.

वो मेरे खड़े लंड को देख हैरान हो गयी और बोली- इतना बड़ा लंड है तेरा!मैं बोला- हां जान, ये तेरे लिए ही है. मेरी हिम्मत तो नहीं हो रही थी पर उसका लंड जब बाहर आया तो गांड खुद ब खुद उसकी तरफ हो गई. फिर लॉकडाउन में मेरी एक बार गांड ठुकाई होने के बाद मेरा इस सबसे मन हट सा गया था.

एक लड़के ने सिगरेट जला ली, तो मैंने उसे हाथ से सिगरेट लेकर कश लिया और उसे वापस दे दी.

शुरू में मना करने के बाद मैंने नवाज़ को अक्टूबर में पढ़ाने के लिए हाँ कह दिया क्योंकि मेरा भी घर पर समय नहीं कटता था।मेरी भाभी की चुदाई की कहानी और मन्नत और प्रीति भाभी की एक साथ चुदाई की कहानी आपको मैं आने वाले अंकों में विस्तार में सुनाऊंगा।3 महीने सामान्य तरीके से मैं शाम 5 से 6 बजे तक पढ़ाता रहा।मन्नत भाभी मुझे रोज चाय दिया करती थी।मैं आपको भाभी के बारे में बताना ही भूल गया. [emailprotected]लेखिका की पिछली कहानी:मोहल्ले की जवानी को धर्मशाला में चोदा. मैंने किसका लंड लिया पहली बार?दोस्तो, मैं मोनिका एक बार फिर से आपके सामने अपनी चुत की फड़फड़ाहट को एक मर्द के लंड से शांत करवाने वाली इस सेक्स कहानी को लेकर हाजिर हूँ.

मामी खुद से बोलीं- आंह … अब मुझे और मत तड़पाओ … तुम अपना औजार मेरी चुत के अन्दर डाल दे और मुझे चोदकर तृप्त कर दो. जो घर पहले वाला था, वो किरायेदारों के लिए बना दिया गया था और नए घर का उपयोग हम सब करने लगे थे. पैरों पर से किस करते करते मैं ऊपर की तरफ बढ़ गया, उसकी जांघों पर किस करने लगा.

और दूसरी तरफ भैया मां की गांड चोदते हुए विवेक से बोले- आज से तुम्हें अपनी नानी की सेवा करनी है.

सरिता बोली- तो क्या करती हूँ, वही सब देखकर तो मैं अपनी चुत की आग ठंडी करती हूँ. उसके बाद तो रोज ही ऐसा होने लगा था, मुझे जो चुदाई का सुख पति नहीं दे पा रहा था वो मुझे मेरे ससुर जी ने दे दिया था.

बीएफ गाना भोजपुरी डीजे सॉन्ग भाभी ने मुझे अलग किया और बोलीं- अभी इसका टाइम नहीं है, तुम जल्दी से अपना पानी निकाल लो. कुंवारी गर्लफ्रेंड हॉट सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी गली की एक लड़की मुझे पसंद थी.

बीएफ गाना भोजपुरी डीजे सॉन्ग उसने मेरा अंडरवियर निकाला तो मेरा लंड उसे देख कर फुंफकार मार रहा था. उनके झड़ जाने के बाद भी मैं चुत चाटता रहा जिससे भाभी फिर से गर्मा उठीं और चुदने के लिए मचलने लगीं.

अब रात के यही कोई 11 बज रहे होंगे, तो सब लोग यानि भाभी, शिल्पा, निशा, मैं और भैया पहले ही ऊपर वाले रूम में चले गए थे.

भोसड़ी की चुदाई वीडियो

ब्रीफ नीचे खिंचते ही मेरा तना हुआ लंड उछल कर बाहर आ गया और फड़फड़ाने लगा. थोड़ी देर बाद अभी मुझे गांड में मजा आना शुरू ही हुआ था कि उन्होंने अपना दूसरा झटका दिया और पूरा लंड मेरी गांड में डाल दिया. और तब मैंने उसका झड़ता हुआ लण्ड चाटा और खूब एन्जॉय किया।दूसरे दिन जब मैं अपने जेठ से चुदवा रही थी तो मेरी ननद अपने चचाजान का लौड़ा पकड़े पकड़े पकड़े मेरे कमरे में आ गयी।वह भोसड़ी की नंगी थी।मुझे लण्ड दिखाती हुई बोली- लो भाभी जान, अब मेरे चचा जान के लण्ड का मज़ा लो.

क्या शनाया इस बात के लिए राजी हो जाएगी?मैंने कहा- हां मैं उसे मना लूंगा, पर पहले तू शिल्पा को तो राजी कर ले. हमारे घर के बगल में एक परिवार रहता था, जिसमें एक चाचा, चाची और उनके 2 बच्चे रहते थे. हम दोनों का लेस्बो देख कर वो तीनों मर्द दारू सिगरेट का मजा लेते हुए एन्जॉय करने लगे.

मैंने भाभी को गोद में उठा लिया और बेड पर बैठा दिया, भाभी को होंठों पर किस करने लगा.

भाभी- तो गांव जा रहे हो?मैं- नहीं भाभी, पहले सोचा था कि गांव जाऊंगा और दोस्तों के साथ नया साल मनाऊंगा. मैं उसकी जवानी को भोगना चाहता था तो मैंने उससे नजदीकियां बनानी शुरू की लेकिन …दोस्तो, मैं इस साइट का बहुत पुराना पाठक हूँ और यहां प्रकाशित हुई लगभग सभी सेक्स कहानियां मैंने पढ़ी हैं. लेकिन मेरे पापा ने बोला- बेटा अपनी मम्मी को अपने मामा के घर छोड़ आओ.

मगर मैं कोई भी स्टेप नहीं उठा पा रहा था क्योंकि मुझको डर लगा रहता था कि अगर मैंने कुछ किया तो रायता न फ़ैल जाए. हनी को अपनी गांड पर सोहल की उंगलियों का चलना बेहद रोमांचक लग रहा था इसलिए उसने सोहल से कुछ नहीं कहा. चुदने से पहले ही एक बार शब्बो की चूत का पानी निकल चुका था।मगर वीरू के मोठे लौड़े की ठुकाई से फिर से शबाना की चूत अपना रस निकालने को बेताब थी- आअहह मालिक और जोर जोर से पेलो, फाड़ दो मेरी चूत … हऊऊम्म … अम्मीईईईई … फट गयी मेरी चूत!कहते हुए शब्बो और जोर जोर से अपनी गांड उठाने लगी.

उसके बाद मैंने अपनी साली को कैसे चोदा?मेरा नाम रमन है और मेरी बीवी रोजी है. शबाना को ऐसे लग रहा था कि किसी ने उसकी रीढ़ की हड्डी पर हथौड़ा मार दिया है और उसकी जान अब कुछ ही पल में निकलने वाली है, शबाना लगभग बेहोश हो चुकी थी.

उसका बट प्लग निकाल दिया, उसकी गांड के छेद को एनीमा देकर साफ कर दिया. नाश्ते में क्या दूं तुझे? और ये तेरी ट्रैक पैंट पर क्या लग गया है?मैं- पता नहीं, शायद कुछ चिकना पदार्थ गिर गया है, शायद तेल गिर गया होगा. जिया दीदी- ये तो तुम थे … अगर ऐसी बात किसी और ने की होती तो उसके गाल पर मैं तमाचा जड़ देती.

फिर हम दोनों साथ में लेट गए और बातें करने लगे कि सब लोग वहां पार्टी में क्या कर रहे होंगे.

मैंने आंटी को समझाया कि आप मेरी मम्मी को मुझसे चुदने के लिए तैयार करो क्योंकि मैंने अभी तक किसी को चोदा नहीं है. वो बोलीं- आप मुझे इतना क्यों देखते हो?मैंने कहा- आप देखने लायक चीज हो इसलिए देखता हूँ … काश मुझे आपके जैसी ही बीवी मिल जाए. दो दिन बाद उसका मैसेज आया ‘आज मूवी देखने चलें?’मैंने हामी भर दी और कॉलेज से बंक करके हम दोनों मूवी देखने आ गए.

पिछली बार आपने पढ़ा था कि सरिता भाभी को मैंने पहली बार चोदकर उसे कली से फूल बना दिया और हम दोनों साथ में नहाकर तैयार हो गए थे. उधर अपने सामने ये सब मस्ती देखकर प्रियंका अपनी ऐसी ही चुदाई होने के सपने देखने लगी.

लड़की की पहली बार चुदाई पर आपको मेरे विचार कैसे लगते हैं? मुझे ईमेल करो. घर में इसका खाविंद होता है तो इसकी चुदाई कैसे हो सकेगी?फिर उसने बातों बातों में बताया कि उसका शौहर 8 दिन के लिए कुछ काम से मुंबई जाने वाला है. कुछ महीने बाद सर का ट्रांसफर हो गया और मेरे लिए एक सैट किये हुए मर्द का साथ खत्म हो गया.

काजल एक्स

उन्होंने मुझे मोबाइल की लाइट बंद करने को कहा कि पहले अपने मोबाइल की मेरी आंखों में चुभ रही है.

मैंने उसे घुटने टेकने के लिए कहा और जमीन पर हाथ रख कर कुतिया जैसी बनने के लिए कहा. मैंने एक तेज झटके में लंड पेला था, तो मामी चिल्ला उठीं- आंह मर गई … धीरे चोद भोसड़ी के!मगर मैं कहां माने वाला था … मैंने दूसरा झटका मारा और इस बार मेरा लगभग पूरा लंड मामी ने अपनी चूत में ले लिया था. प्रिया- आआहह … भैया … क्या कर रहे हो … आआ आअहह … पागल हो जाऊंगी मैं … आआअहह!मैंने प्रिया की जांघें और फैलाईं और उसकी चुत को और खोल कर चूसने लगा.

फिर हम शनिवार की राह देखने लगी।शनिवार तो मानो सदियों दूर हो … ऐसा लग रहा था. सुम्मी को अपनी चुत में अन्दर से लंड की चोट पड़ रही थी और बाहर अपने बेटे के हाथ की चमाट पड़ी तो वो कराह कर जमीन पर लेट गई. हॉट गर्ल सेक्समॉम हंसने लगीं और बोलीं- अच्छा बेटा … मतलब अपनी मॉम से चिपके होने से तुम्हारा खड़ा हो गया था?मैं- मॉम आप हो ही इतनी सुंदर कि कोई क्या कर सकता है.

क्या लग रही थीं … ऐसा लग रहा था कि आज पूरी रात मुझसे जम कर चुदने के मूड में हैं. सरिता कामुक भरी आवाज में बोली- मैं क्या झूठ बोल रही हूँ हर्षद?अरे नहीं सरिता, मुझे भी तुम्हारी याद आते ही मेरा लंड फड़फड़ाने लगता है.

मैं- कोई बात नहीं, तुम एक बार मुझसे मिलो तो सही … तुम्हारा सारा डर निकाल दूंगा. हम दोनों के अंग एक दूसरे से रगड़ खाने लगे और दोनों में ही सनसनी भरने लगी. मैं उनके ऊपर लेट गया और उनके कोमल बदन पर होंठ फिराने लगा, फिर से उनकी एक चूची पर मुँह रख कर चूसने लगा.

वो नींद में थी और मुझे दीदी को ऐसे नींद में खुली चूत के साथ देखकर बहुत उत्तेजना हो रही थी. वो अपनी किसी बिज़नेस ट्रिप पर हैं और बच्चे उनके किसी फ्रेंड की बर्थडे पार्टी है, वहीं गए हैं … लेट आएंगे. वो धीरे धीरे आगे पीछे हो रहे थे और मैं सर के लंड का आनन्द ले रही थी.

मैं लंड लगाए हुए रुका था और वो अपनी चूत उठा उठा कर मेरे लंड को और अन्दर लेने की कोशिश कर रही थी.

प्रकाश ने कुछ बार उसके साथ संभोग किया, फिर उसकी अपनी बीवी साथ संभोग करने की इच्छा ख़त्म हो गयी. दीदी हंस दी और बोली- साले लंड दिखाने के लिए ही तूने बाथरूम में ड्रामा किया था और अब मुझसे बन रहा है.

मैंने पूछा- क्या हुआ तुझे … तू दिखावा कर रही है बस … ऊपर से ही हंस रही है न!फिर निशा बताते बताते रोने लगी- हां मुझको इस शादी से खुशी नहीं है. Xxx हॉट मेड सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक अमीर जवान लड़के ने अपने घर की नौकरानी शब्बो चाची की चूत को कैसे चोदा? चुदाई से पहले ओरल सेक्स हुआ. वो मेरे कान में अपनी गर्म हवा छोड़ती हुई बोली- तू क्या ठंडा है?ये सुनकर मेरा भेजा घूम गया.

क्यूंकि ये बहुत ही शर्मीला लड़का है इसलिए आप लोग इससे ज्यादा से ज्यादा बात करें ताकि ये भी जल्दी से हम लोगों के साथ घुल-मिल जाए. इससे पहले मैं कुछ बोलता, जमीला दुकानदार से बोली- आधा किलो चीनी, एक चाय पत्ती का पुड़ा, चार अंडे और एक पारले-जी का पैकेट दे दो. एक दिन जब मैं सुबह उठा तो देखा कि ड्राइवर गाड़ी निकाल कर बाहर खड़ा था और फूफा बुआ दोनों कुछ सामान बाहर रख रहे थे.

बीएफ गाना भोजपुरी डीजे सॉन्ग तब भी वो नहीं हटी और उल्टा अपने हाथों से मेरे चूतड़ों को कस कर पकड़ लिया. और मैं बहुत दिन से वीडियो बना रहा हूं, नानी आपकी इज्जत अब अपने नाती के लंड के ऊपर टिकी है.

noughty अमेरिका

मैंने झट से आंखें अधखुली कर लीं और सोने का ड्रामा करते हुए भाभी को निहारने लगा. मगर जब भाभी बोलीं कि कोई घर पर नहीं है और हम सबको रात भर अपने चुत की सेवा देंगी, तो हम मन मार कर रूक गए. फिर मैंने ज़्यादा ज़ोर दिया तो वो रोती हुई बोली- एक लड़का है, वो पहले मेरा ब्वॉयफ्रेंड था, मगर अब वो मुझे परेशान कर रहा है.

मैं जितनी जीभ बाहर निकाल सकता था, उतनी निकाल कर उसकी चुत के दाने पर रख कर चाटने लगा. फिर दीदी बोली- यार, मुझे बॉडी पर थोड़ी जलन सी हो रही है, आपने बड़े गहरे बाइट्स लिए. हिंदी पिक्चर फिल्म सेक्स फिल्मलंड सकिंग सेक्स कहानी पर अपनी राय देना न भूलें।मेरा ईमेल आईडी है-[emailprotected]लंड सकिंग सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरी पाठिका की कामवासना पूर्ति- 2.

मैंने सुरक्षा की दृष्टि से दोनों साधन छोड़ दिए और चाय पीने पर ध्यान लगाया.

मेरे दोनों हाथ उसके चुचों को पकड़े हुए थे और नीचे लंड उसकी चूत पर रगड़ खा रहा था. उन्होंने मुझसे कलर पूछा, वह भी मैंने उन्हें बताया- वाइट ब्रा और ब्लैक पैंटी.

तो मुझे मेरी ईमेल आईडी पर कमेंट कर अगली सेक्स कहानी लिखने को प्रेरित जरूर करें. भाभी बोलीं- हां मगर तुम ये बात आज बता रहे हो … इससे पहले क्यों नहीं कहा … मुझे भी तुम अच्छे लगते हो. मुझे भी बहुत जोश आ गया और उसकी गांड को अपने हाथों से पकड़कर लंड पर दबाव बढ़ाने लगा.

मुझे जो आईडिया आया था, उसी के मुताबिक मैंने सोचा क्यों न अंकल को ही उत्तेजित करूं, शायद ये मुझे चोद भी दें.

उनका लन्ड मुरझाया हुआ होने के बाद भी मेरे पति के लन्ड से मोटा लग रहा था. कमरे के अन्दर आते ही मैंने भाभी के गुलाबी होंठों पर अपने होंठ लगा दिए और जम कर किस करने लगा. मैंने कहा- आप दोनों नग्न थे और सोफे में …उसने कहा- हम्म … क्या तुम हमें रोजाना देखते हो?मैंने कहा- नहीं … वो एक दिन संयोग से मैंने देखा था.

विद्या बालन के नंगे फोटोदीदी ने दर्द को बर्दाश्त करने के लिए अपने मुंह पर अपना ही हाथ रख लिया. फिर हम काफी देर तक बात करते रहे और एक दूसरे के अंगों के साथ खेलते रहे और कब गोरखपुर आ गया पता ही नहीं चला।बस अभी गोरखपुर शहर में घुसी नहीं थी।मैंने उससे उसके फिगर के बारे में पूछा तो उसने कहा कि ये सारी बातें हम लोग फ़ोन पर करेंगे.

मिया खलीफा वीडियो सेक्स

इस बार मुझे दर्द कम हुआ, पर मुझे लग रहा था कि उसका लंड मेरे पेट को छू रहा है. मैं नहीं झड़ा था तो उसने मेरे लंड का पानी निकाल कर मुँह में ले लिया. शिवम बोला- गिराओ ना … अब तो घर का माल बन गई मेरी मां!उसी पोजीशन में मां लेटी रही.

जिया दीदी हंस कर मेरी ओर घूम गईं और मेरी नजर जिया दीदी के नंगे मम्मों पर टिक गईं. गगन अपना लंड अपनी मां के मुँह में जोर जोर से मारने लगा और उसका सर पकड़कर जोर से लंड पर दबाने लगा. अब मैं तुम्हें वो सब खुशी देना चाहता हूँ, जो मेरा दोस्त नहीं दे सका.

अर्चना मेरे लंड को अपने मुँह में लेने के लिए न बोल रही थी लेकिन मेरे बोलने पर उसने लंड मुँह में ले लिया और आगे पीछे करने लगी. फूफा जी जब ये बातें कह रहे थे, तब मैं हर चेहरे को पढ़ने की कोशिश कर रहा था कि किसका कैसा रिएक्शन था. वे तो हांफती हुई जमीन पर ही बैठ गई, मैंने हाथ पकड़ कर उन्हें उठाया और सीने से लगा लिया.

एक ने चूची पर अपना लंड रगड़ना चालू किया, तो एक ने गांड पर और तीसरे ने पारुल के मुँह में अपना लंड पेल दिया. देसी आंटी की चुत चोदी गांव के एक चोदू लड़के ने! वो शहर में पढ़ने आया तो कमरा किराये पर लिया.

फिर भाभी मजे लेती हुई मुझसे कहने लगीं- अब तो ठीक है ना … दोनों सालियां तुम्हारे साथ ही सो रही हैं.

पिछली कहानी में आपने पढ़ा था कि मोहन और रवि कारखाने में काम करते थे. मम्मी पापा का सेक्सी वीडियोवो मेरी ब्रीफ मुझे देती हुई बोली- अब बताओ नंगे क्यों सोये थे?मैंने भी कह दिया- तुम्हारे पति ने ही मुझे नंगा किया था. महाराष्ट्र सेक्सी वीडियो ओपनवो सिहर उठी तो मैंने उसकी टांगें फैलाते हुए उसकी बुर पर अपने होंठों को रख दिया. बोलो क्या तुम इधर आओगी?वो हंस कर बोली- हां, मगर उधर कोई खतरा तो नहीं है?राजेश ने कहा- अरे यार वो मेरा पक्का दोस्त है.

मैं भी पूरा नंगा और वो भी अपनी छोटी छोटी चूचियों के साथ नंगी हो गई थी.

विशाल ने मोहिनी का और प्रकाश ने सोनम का समाज और रिश्तेदारों से बीवी के रूप में परिचय कराया. मैंने एक गोली लेकर दरवाजा फिर से लॉक कर दिया और गोली सोनाली को लेने को कहा. रात को हम दोनों ने चुदाई नहीं की क्योंकि कल दिन में मेरी चूत गांड की जमकर चुदाई होना तय थी.

बीच-बीच में वो मेरे चेहरे को भी छू लेते थे और मेरी गर्दन पर अपना सर भी रखते थे लेकिन मुझे फूफाजी होने के कारण किसी प्रकार का कोई संदेह नहीं हुआ और मैं उनके साथ फ्री होकर बातचीत करने में लगी रही. उन कहानी को पढ़ने के बाद मेरे दिमाग में आया कि क्यों न मैं भी अम्मी को पटा कर उनकी जमकर चुदाई करूं. फिर सोचा कि ये तो वैसे भी मेरे लंड से चुदने के लिए रेडी हैं और अभी पूरी रात पड़ी है … तो जल्दबाजी क्यों करूं!मैंने अपने बैग में से अपना बरमूडा निकाला और कपड़े बदलने चला गया.

क्यूट का मतलब

सिमर बहुत सुंदर थी, उसका जिस्म बेहद ही खूबसूरत था, उसका गोरा रंग था और बड़े बड़े कूल्हे थे और पतली कमर थी. ये सुनते ही मैंने भी हंस दिया और भाभी की छोटी बहन से वादा कर दिया कि तुमको भी मां बना दूंगा. मैंने हाथ आगे करते हुए शिल्पा को हैलो बोला और शिल्पा ने भी मुझसे हाथ मिलाया.

मगर शारीरिक सुख से वंचित सासू माँ ने कुछ समय बाद अपने जवान होते बेटे को सहारा बना लिया।ये बातें सुनकर मैं भी सकते में था.

हनी अब भी चुदना चाहता था लेकिन इस बार वो किसी विदेशी लंड से अपनी गांड मरवाना चाहता था.

उनका शरीर काफ़ी गदराया था इसलिए मुझे वो ब्रा पैंटी एकदम फिट हो गयी. हाई हैलो के बाद सत्या, शिल्पा को लेकर घूमने निकल गया लेकिन मेरे मन में सिर्फ़ शिल्पा को चोदने के ख्याल आ रहे थे. लेडीस और कुत्ताहम दोनों ने खाना खाया और खाना खाने के बाद मॉम फिर से रसोई में बर्तन साफ करने चली गईं.

तो वहाँ गुजरात राजस्थान और महाराष्ट्र के सभी बड़े बैंक कर्मचारियों की मीटिंग है. कुछ देर तक उसके दोनों चूचों को जी भरके चूसने के बाद मैं धीरे धीरे नीचे की तरफ बढ़ चला. दोस्तो, मैं राज एक बार फिर से अपने छोटे भाई की बीवी के साथ हुई चुदाई की कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.

फ़िर मैंने उसकी टांगें ऊपर कर दीं और उसकी चूत के छेद में जीभ डालकर अन्दर बाहर करने लगा, चूतरस का पान करने लगा. इससे पहले मैं कुछ बोलता, जमीला दुकानदार से बोली- आधा किलो चीनी, एक चाय पत्ती का पुड़ा, चार अंडे और एक पारले-जी का पैकेट दे दो.

बालों की खूबसूरती, गोरा रंग, पिंक होंठ, हाइट सबकुछ एक सा लग रहा था.

मैंने मालिश करते हुए उन्हें कहा- भाभी, आपका ब्लाउज तेल से खराब न हो जाए. मैं एक कोने में कुर्सी पर बैठ गई और उधर रखी वोडका की बोतल मुँह से लगा कर सिगरेट पीने लगी. उन्हें ये नहीं पता था कि वो जिसकी बात कर रहे हैं, वो मेरी मम्मी है.

सीआईडी इंस्पेक्टर दया वो बोला- मुजफ्फरनगर ही जाना है या उसके पास किसी गाँव में?दरअसल वो अब बातचीत करने का प्रयास कर रहा था, जो मैं समझ चुका था. वे लोग दुबई से आए थे।उनका नाम हर्ष और प्रीति था। दोनों ही स्वभाव से बहुत ज़िंदादिल लग रहे थे।हर्ष और प्रीति की शादी नहीं हुई थी, बस एक साथ रह कर जिन्दगी का मजा लूट रहे थे.

भाभी बोली कि क्या हुआ … कितना काम हो गया?मैंने कहा- अभी थोड़ा टाइम लगेगा. फिर जब वो बाहर आतीं, तो शायद उनको पता चल जाता कि मेरा लंड टाइट हो गया है और भाभी मुस्कुरा कर अपने रूम में चली जाती थीं. फिर राजेश ने रेणु से पूछा- कैसा लगा?उसने कहा- आज तो तुम दोनों ने मुझे मजा ही दे दिया.

सनी लियोन ब्लू

मैंने विलास के पिताजी से कहा- अंकल, मेरी छुट्टी कल तक की है, तो मैं कल पांच बजे चला जाऊंगा. भाभी कह रही थीं- आह मेरे राजा … और जोर से और जोर से … आंह आज मेरी चुत फाड़ डालो … आह आह आह और जोर से आह चोद डालो. मैंने हजारों लोगों के मेल सभी मेल का रिप्लाई भी दिया है और जिनको रिप्लाई मिला है वे जानते हैं कि अबकी बार मैंने सबको रिप्लाई दिया है.

वहां एक ड्रम रखा था जिसके सहारे मैंने उसको घोड़ी बना दिया और पीछे से सना की चूत में लंड डालकर उसे चोदने लगा. उसने फोन उठाते ही पूछा- आप पहुंचे या नहीं? सब ठीक है ना?सासू माँ मुझसे बिल्कुल चिपकी खड़ी थी, उन्हें सब कुछ साफ सुनाई दे रहा था.

हज़ीरा- मेरी जान आप तो बस मेरी चूची चूसो … उस साली की चुत में ये सब देख कर ही चींटियां रेंगने लगेंगी.

उस रात 30-35 मिनट में मैं पहली बार झड़ा था, जबकि वो 3 बार झड़ चुकी थी. समय से कुछ पहले ही मैं और मेरे चार दोस्त तैयार होकर होटल में पहुंच गए. मोटी लड़की की चुदाई की मैंने बारिश में! वो मकान मालिक की बेटी थी। एक दिन वो बारिश में नहा रही थी तो मैं भी नहाने लगा.

धीरे धीरे करके डाल … तेरा बड़ा और मोटा भी है तो एडजस्ट करने में टाइम लगेगा … आह … आह …’मैं तो लंड पेलते ही मानो जन्नत में पहुंच गया था. कुच्ची- अच्छा … लेकिन तुम्हें आई लव यू नहीं, बल्कि थैंक्यू बोलना चाहिए. मैं- अम्मी, दोनों बहनों की शादी और सुहागरात के पहले उन सबकी सील मैं तोड़ूँगा.

मॉम हांफती हुई बोलीं- बेटा बहुत देर से मैं तुम्हें देख रही हूं, तूने जो आग लगाई है … अब तुम ही उसे बुझाओगे.

बीएफ गाना भोजपुरी डीजे सॉन्ग: कोई 5 मिनट की चूत चुसाई के बाद वो उठा और कोमल से बोला- जान, अब आप डॉगी पोजीशन में आ जाओ. उन सब लोगों के लिए और सभी पाठकों के लिए एक नयी कहानी मतलब चुदाई का किस्सा आपके सामने पेश कर रही हूँ.

मैं आंटी की ब्रा पैंटी ले तो आया, मगर फिर घबरा गया कि कहीं आंटी को पता ना चल जाए कि मैंने उनकी चड्डी चुराई है. कुछ देर के बाद भाभी रूम में आकर बेड पर बैठ गईं और बोलीं- अभी तुम्हारी पढ़ने की उम्र है. अब विलास लंड चूसते चूसते अपने दोनों हाथों से मेरी जांघों को सहलाने लगा तो मैंने दोनों टांगें दोनों बाजू फैला दीं.

मैं और कामुक हो गया और उसके दोनों स्तनों को बारी बारी से तब तक चाटता रहा जब तक चॉकलेट का स्वाद खत्म नहीं हो गया.

ये सुनकर हसित ने रीना के पैरों को पकड़ लिया और उसकी जांघों को चाटने लगा. ये अलग बात थी कि मुझे एक रंडी बनकर चुदवाने में कोई पैसा नहीं मिलने वाला था जबकि मुझे अंदरूनी सुख भी मिल रहा था. इससे अब तुम ही निकाल सकते हो।मैंने कहा- लेकिन मम्मी, मैं शालू से बहुत प्यार करता हूं.