हिंदी बीएफ वीडियो में हिंदी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,1 से 10 तक घन

तस्वीर का शीर्षक ,

काली चूत वाली: हिंदी बीएफ वीडियो में हिंदी बीएफ वीडियो, तो जीजा बोले- मजाक था तो तुम सतना यहां ड्रेस के लिए क्यों चली आई? यह उसी मजाक में ही तो यह बात हुई थी।तब मैं कोई जवाब नहीं दे पाई.

सेक्सी पिक्चर हिंदी में विडियो

मैंने उससे कहा- ज़रा आराम से कीजिएगा, मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूँ. mp3 सेक्स वीडियोकरीब 15 मिनट किस करने के बाद मैंने उसको बेड पर धक्का देकर गिरा दिया और खुद भी उसके ऊपर चढ़ गया.

अब मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैंने उसके पास अपना एक पैर लाकर उसकी जांघों पर रख दिया. तमन्ना भाटिया के नंगे फोटोमेरी तो जान निकल गयी क्योंकि जो लण्ड के ऊपर जो खाल थी, वो अचानक से नीचे रगड़ खाते हुए निकली… मैंने उसको बाहर निकालने को बोला और फिर से बैठने को कहा।पर मैंने सोचा कि जब मुझे इतना दर्द हुआ तो इसको क्यों कुछ नहीं हुआ.

और तो और खुद भी जब दिल करता है लड़की लेकर आते हैं चोदने के लिए। साली हमारी मम्मी भी लंड की प्यासी है साली और ऊपर से पापा भी अलग अलग चुत के दीवाने।इतना सुनते ही मैंने शिवानी की स्कर्ट और टॉप उतर दी और खुद पूरा नंगा हो गया।शिवानी- भैया, मैंने बहुत सी ब्लू फिल्म देखी हैं, उसमें लंड को चूसते हैं मैं भी आपका चूसूंगी.हिंदी बीएफ वीडियो में हिंदी बीएफ वीडियो: दअरसल वो पढ़ने में बहुत होशियार थी और मैंने उसको काफी हेल्प की, इसके चलते वो मुझसे काफी इम्प्रेस हो गई थी.

अपना मज़ा मैं अपने हिसाब से लूंगी और चुदाई का कंट्रोल मैं अपने पास रखूंगी आप तो चुपचाप लेटे रहना!” बहूरानी मुझे चूम कर बोली.कुछ देर बाद मैंने टॉप उतार दिया और स्कर्ट भी अब एक पान के पत्ते जितना कवर जैसा था, जो स्प्रिंग के नीचे लगा था और उसने बस चुत को ही कवर किया हुआ था.

गेम बिल्ली वाला गेम - हिंदी बीएफ वीडियो में हिंदी बीएफ वीडियो

उसने मुझे किस करते अपने हाथों से मेरे हाथ नीचे कर दिए और अपने बूब्स टॉप्स से फिर छिपा लिया.मेरी सहेलियाँ हमेशा बोलती थी कि फेसबुक पर बहुत सारे लड़के परेशान करते हैं.

वो बहुत खुश थीं, उन्होंने कहा- बहुत टाइम बाद मैंने इतनी चुदाई की है. हिंदी बीएफ वीडियो में हिंदी बीएफ वीडियो तभी जीजा प्लेट रखकर मेरे को बोले- थोड़ा मुंह में होंठ के नीचे यहां पर कुछ लग गया है.

अगले ही पल उसकी चूत ने एक जोरदार पिचकारी छोड़ दी, जिससे मेरा मुँह पूरी तरह भीग गया लेकिन मैंने उसकी चूत के दाने को जीभ से चाटना नहीं छोड़ा.

हिंदी बीएफ वीडियो में हिंदी बीएफ वीडियो?

मेरा कोई भी बॉयफ्रेंड नहीं था क्योंकि मैं हमेशा घर में ही रहती हूँ और मेरे घर वाले मुझे कहीं जाने भी नहीं देते हैं. मैं जब चलती हूँ, तो मेरी गांड ऊपर नीचे होती रहती है, जो लोगों का दिल मचला देती है. जबकि वो अपने कॉलेज के कई कपल देखती रहती देखती थी कि हर किसी का अफेयर चल रहा है और सब ख़ुश भी हैं, बस वो ही नहीं है.

चू… चू …चूत कहां है?मैंने कहा- पर हॅास्टल में तो हम सब मिल कर यही गाते हैं, सब पसंद करते हैं, बहुत पॉपुलर है!पर वह हँसता रहा. इसके बाद मेरे सारे कपड़े और जेवर मेरे साथ रख कर मुझे वापिस माँ बाप के घर भेज दिया और साथ में कहा कि देख लो अपनी बेटी की करतूत. तो मेरी नंगी माँ ने मेरा मुंह दबा दिया, मां ने कहा- मेरी बहादुर बेटी, बस एक बार दर्द होगा, फिर उसके बाद कुछ नहीं होगा मम्मा है ना तुम्हारे साथ।माँ की बात सुन कर मैं थोड़ी शांत हुई पर मेरी चूत में भयंकर जलन हो रही थी.

एक दो बार बैठने के बाद जैसे उसने बैठना चाहा तो मैंने कहा- मोटी मुझे जान से मारेगी क्या? इतना मोटी हो, मैं तो मर जाऊंगा, मेरे ऊपर मत बैठ!तब जाकर वो मानी, अब वो और वाइल्ड हो गई और धान कूटने जैसा मेरे लंड को कूट रही थी, जब थक जाती तब थोड़ा रुक जाती, फिर से धान कूटने जैसा मुझसे अपना गांड मरवाती रही. उसके पास बैठ कर कुछ इधर उधर की बातें करने के बाद मनोरमा उससे बोली- यह हमारी नई चिड़िया है. आह! आह! आह!”कुतिया जैसे जीभ पूरी बाहर निकाल के सुपारी को खूब अच्छे से लप लप लप करके चाटा.

मेरी मॉम उनके लिए ही साड़ी ब्लाउज सिलवाती थीं, सो मुझे उनका साइज़ पता चल गया था. अगले दिन मैं घर में बैठकर खाना खा रहा था और दीदी उसी समय नहाने लगी.

मैं अपने एक हाथ से उनका दूसरा आम दबा रहा था, कभी निप्पल छेड़ रहा था.

जिनको कहानी पसंद नहीं आई, उनमें से किसी ने कहा कि उन्होंने इसको जैसे ही पढ़ा… बस उसी समय ये सोचा कि इस कहानी की एक दो लाइन ही पढ़ कर छोड़ देनी चाहिए थी.

मेरे एक चाचा वहीं सिटी में रहते थे, इसलिए मैं उनके घर पर जाकर रहने लग गई. मैंने कहा- ये नई बात है मुझे मालूम ही नहीं था कि मर्द के वीर्य से औरत के मम्मे दोगुने खूबसूरत हो जाते हैं. अन्तर्वासना के सभी दोस्तो को मोहित का प्यार भरा नमस्कार, मैं नैनीताल का हूँ और दिल्ली यूनिवर्सिटी से से पढ़ाई कर रहा हूँ.

इसका तो बॉयफ्रेंड है… मेरा तो 4 महीने से उंगलियों से काम चल रहा है. मैं देखने में हैंडसम हूँ, लेकिन फिर भी मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है. सब कुछ बहुत ही सामन्य रूप से घटित हो रहा था लेकिन यह केवल तूफ़ान आने के पहले वाली शांति थी.

तब मुझसे बोला कि हां तो मैडम जी अपनी चुत और मम्मों का जरा जलवा इसको भी दिखाओ ना.

मैंने बोला- ये क्या है?तो भाभी बोलीं- तुम्हारे लिए स्वीड डिश यानि केला है. उन्होंने सिगरेट का कश मारा और मैंने एक लंड फंसा कर एक धक्का दे मारा. जाते जाते उसने मुझे स्माइल दी, मैंने भी उसकी स्माइल का जवाब स्माइल से दिया.

ये मेरी पहली चुदाई थी तो मैं इसके हर पल को एंजॉय करना चाहता था और सबसे बड़ी बात, भाभी जिस खुशी से इतने महीने से महरूम थीं, वो खुशी भी मैं उन्हें देना चाहता था. भाभी- क्या सोच लूँ?मैं- भाभी मुझे ब्वॉयफ्रेंड बनाने के लिए आपको बहुत कुछ करना होगा. उसको घर से बाहर नहीं निकलने दिया जाता है, सिर्फ़ कॉलेज जाने के लिए ही घर से निकलती है.

” उसने साफ साफ मना कर दिया।झूठ मत बोलो!” मैं जरा ग़ुस्से में ही बोली।सच मेमसाब, उतना ही था हमार पास!” वह फिर से बोला।देखो जी, तनिक थोड़ा होगा ही…” मैं उसकी ही भाषा में बोली।मेमसाब, झूठ ना बोलूं… थोड़ा है पर…” वह डरते हुए बोला।पर वर कुछ नहीं, थोड़ा है ना… थोड़ा तुम पियो थोड़ा मुझे पिलाओ, जाओ जल्दी लेकर आओ.

बात करीब डेढ़ साल पहले की है, मैं जहां ट्यूशन पढ़ने जाता था वहां मैंने नेहा नाम की एक लड़की को पटाया. जब तक भाभी फिर से गरम हो गईं और मेरे ऊपर आकर लंड अपनी चुत में लेकर कूदने लगीं.

हिंदी बीएफ वीडियो में हिंदी बीएफ वीडियो फूफा जी बोले- तो कोमल… तुमने मेरी इज़्ज़त बचाने के लिए अपनी इज़्ज़त लुटा दी. दिनों दिन मैं अपनी हरकतों को बढ़ाने लगा क्योंकि उन्होंने शुरू शुरू में तो थोड़ा विरोध किया लेकिन धीरे धीरे उनका विरोध कम हो गया और मेरी हिम्मत दिन ब दिन बढ़ती गयी.

हिंदी बीएफ वीडियो में हिंदी बीएफ वीडियो अंदर गयी तो देखा कि मेरी सखी मधु अपने प्रेमी राज को अपने निप्पल चुसाने में व्यस्त थी, गोल गोल टाईट चूचियां थी मधु की… राज उन्हें बारी बारी से अपने मुंह में लेकर चूस रहा था और उसका एक हाथ दूसरी चुची को दबा रहा था. मैंने उससे कहा कि आज कल पापा बहुत टेन्शन में रहते हैं, क्या कोई ऑफिस की प्राब्लम है या कुछ और बात है?पहले तो झिझक कर कुछ भी बोलने से ना करने लगा.

हम रोज नई नई पोजीशन में सेक्स करने लगे, उसके हथियार ने मुझे जन्नत की सैर करा दी.

इंग्लिश सेक्सी देखने के लिए

वो जब मनोरमा के कमरे में वापिस आई, तो उसने गीता से कहा- पूरी नंगी हो जाओ. कुल मिला कर करीब 9 घंटे में हमने 3 बार चुदाई की और एक बार गांड भी मारी. मैं चुपचाप अपने बिस्तर में आ गया, जो लंड अभी तक फड़फड़ा रहा था, वो अब मेरी असफलता पे सर झुकाये खड़ा था!मैं चुपचाप सो गया, सुबह उठने पे मैंने मंजू को देखा… हाय, क्या सेक्सी खूबसूरत बला मेरे सामने थी!और मैं कुछ नहीं कर पाया.

साथ ही वो एक साथ पूरे लंड को चूसते वक़्त अपने कोमल हाथों से खड़े लंड को रगड़ने लगी. हल्की हल्की झांटों वाली चूत का भी एक विशिष्ट सौन्दर्य होता है जैसे हमारे सिर के केश हमारे चेहरे को सुन्दरता प्रदान करते हैं, ठीक वैसे ही छोटी छोटी झांटों वाली चूत भी मुझे अत्यंत मनोरम लगती है देखने और चोदने में. तो पाठको, एक अचंभित कर देने वाली कहानी पढ़ने के लिए तैयार हो जाएँ, मेरे साथ जो कुछ हुआ, शायद ही ऐसा किसी व्यक्ति के साथ हुआ हो.

फिर उसने मुझे जबरदस्ती मेरे बेड पर भेज दिया।उसके कुछ देर बाद मैंने जीजा को जगाया और उनके साथ स्टेशन चला आया.

मैं उन पाठकों के सुझावों का दिल से स्वागत करूँगी, जो मुझे अपनी कहानी के लिखने में सुधार का कोई भी सुझाव दें. ऐसा लग रहा था कि जैसे अब भाभी ने पूर्ण रूप से अपने आपको मेरे हवाले कर दिया हो. रोज मेरे पास आना इसी तरह मेरे लोड़े से अपनी चूत को चुदवाने! आंटी रोज मेरे पास आ जाना, मैं आपको बहुत चोदूंगा, आपकी चूत का भोसड़ा बना दूंगा…आंटी बोली- हां प्रशांत, चोद मुझे, और जोर से चोद… आह्ह्ह्ह प्रशांत, अपनी आंटी की चूत का भोसड़ा बना! उम्म्म आह्ह ऊईई आह्हह प्रशांत और चोद… बना दे मेरी चूत का भोसड़ा… चोद दे आह्ह आह्ह!मैंने आंटी से कहा- आंटी, घोड़ी बनो, मुझे तुम्हें घोड़ी बनाकर चोदना है.

आंटी ने कहा- प्रशांत… आह्ह्ह्ह चोद… और जोर से चोद! मैं झड़ने वाली हूं… तू भी मेरे साथ झड़ जाना! उम्म्म पूरा दम लगा कर चोद… चोद दे मेरी चूत को तू! आह्ह्ह् ऊईईईई… प्रशांत बस मैं झड़ने वाली हूं. बापू ने फिर से पद्मिनी को चूमना शुरू किया और उसकी चूचियाँ दबाने लगा. मुझे लगा रास्ता साफ़ है और फिर मैंने कहा- भाभी अगर कोई भी काम हो तो मुझे बता देना.

यह फ़ोरप्ले बहुत जरूरी होता है, जिसे हो सके तो ज्यादा से ज्यादा एन्जॉय करना चाहिए. मैं बिल्कुल सिमट के चिपक गई थी कि तभी लालजी ने अपनी उंगली मेरी चूत में डाल दी.

बस 2-3 महीने तक कभी कभार लिफ्ट में मिल जाती तो किस कर देतीं या मेरा लंड दबा देतीं. ऐसा तो अब तक किसी ब्लू फिल्म में भी देखने को नहीं मिला था जिसमें मर्द के द्वारा लंड पर मुँह से दारू गिराई जा रही हो और औरत उस लंड से दारू के साथ सिगरेट का मजा लेते हुए लंड चुसाई का मजा दे रही हो. वो मेरी चूत को अपनी उंगलियों से चोदने लगा और मैं वासना से भरी सिसकारियां लेने लगी.

अब मैं एक हाथ से ज्योति का बांयाँ बूब दबाने लगा और दूसरे बूब को मुँह में लेकर चूसने लगा.

हमारी दोस्ती इससे ज़्यादा आगे न बढ़ सकी थी, हमने कुछ भी नहीं किया था. पता नहीं क्यों, हम चाहे कितने भी गोरे क्यों न हो, लंड थोड़ा काला ही रहता है. अगले दस मिनट के बाद दीदी ने मेरे लंड को फिर से हिलाना शुरू कर दिया था.

मैं खाला के कमरे में गया तो देखा कि एक मोहतरमा लाल कपड़ों में दुल्हन बन घूंघट ओढ़े मेरा बिस्तर पर इंतजार कर रही थी. भाभी ने पूछा- और क्या अब भी तुम्हारा मन होता है करने का?मैंने कहा- हाँ.

मैं शादीशुदा हूँ, मेरी शादी 3 साल पहले हुई है। मेरे पति बिजनेस के सिलसिले में अक्सर बाहर रहते हैं, मैं एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करती हूं, अभी तक मेरी कोई संतान नहीं है, मैं घर पर अकेली रहती हूं, मेरे पति महीनों महीनों में घर आते हैं. ” करने लगे और लंड को मेरे मुँह में ही आगे पीछे करते हुए बोले- अहहाआ. तभी चाचा बोले- देखो यह वन्द्या का दर्द गायब हो गया है, अब मनोहर वन्द्या की चूत में अपना लंड अन्दर बाहर करो और धीरे धीरे स्पीड बढ़ाना.

कॉलेज की चोरी की सेक्सी

तब तक मैं उनकी समीज की चैन खोल चुका था और उनकी नीली ब्रा के ऊपर से ही उनके नंगी पीठ को चूमने लगा.

दोस्तों उस रात हमने चार बार चुदाई के मज़े किए और बिल्कुल नंगे ही एक दूसरे के साथ सो गए. बापू के लंड को चूसते हुए एक अजीब सा अलग सा मज़ा आ रहा था, जो उसने पहले कभी नहीं महसूस किया था. पद्मिनी उसके बाद नहाती थी और स्कूल के लिए तैयार होकर घर से निकलती थी.

फिर कुछ देर बाद मैंने दोनों के नीचे की लैगीज को भी उनके शरीर से हटा दिया और उनके पास में रखी एक बेंच पर बैठा दिया. जब बापू के गरम होंठ उसने अपने गले पर महसूस किए तो पद्मिनी ने सर को पीछे की तरफ करते हुए आँखों को बंद कर लिया. सेक्सी फुल एचडी न्यूक्योंकि उसने मुझे इन पिक्चर्स के बारे में नहीं बताया था, तो मुझे यही दिखलाना था कि मुझे कुछ नहीं पता.

जैसे ही उससे आँखें चार हुईं, मुझे फ़ौरनमालूम हो गया कि इस क़यामत को चोदना तो पड़ेगा ही, वर्ना चैन नहीं मिलेगा. सुहैल तो अपने हाथ से अपनी मुनिया रगड़ रहा था, तुम कैसे रगड़ती हो?”यही तो परेशानी है कि लड़की कैसे रगड़े। ऐसे में उसे लड़के की जरूरत पड़ती है जिसकी मुनिया में भी खुजली हो रही हो।”फिर?” मैंने अविश्वास से दोनों को देखा।फिर क्या.

मैं आँखों को बंद करके अंकल और आंटी की चुदाई की कल्पना कर रोमांचित हो गया. अन्तर्वासना के प्रबुद्ध पाठको, आप मेरी मदद करें, आप ही मुझे बतायें कि मैं क्या करूँ?मैं अब 19 का होने वाला हूँ और वो 21 की हो गई है पर वो आज भी पहले जैसी ही है और मैं थोड़ा बड़ा हो गया हूं. लेकिन अभी कुछ समय पहले मेरे साथ एक ऎसी घटना घटित हुई जो मेरे व्यवहार के एकदम विपरीत थी.

रानी इतने ज़ोर से स्खलित हुई कि झड़ने से ज़रा पहले बदहवास होकर, चूतड़ उछाल उछाल के उसने बेड हिला के रख दिया. इतनी रात में उनका वहाँ से आना ठीक नहीं, तो प्लीज़ तुम उसके घर चले जाओ. मैंने अपनी जेब से रुमाल निकाला और शबाना के मुँह में भर दिया, जिससे वो हल्ला ना कर सके.

उस डिब्बे में दो एक टुकड़े मैंने ताज़ा भी रख लिए और मनोरमा को बुला कर सब समझा दिया.

किस करते करते उनके लन्ड तक पहुँच गया, वो बोले- मुँह में लो ना?पहले तो मैंने मना कर दिया लेकिन बाद सोचा एक बार ट्राय करके तो देखूँ कि कैसा लगता है. कुछ दिन हम दोनों की चुत को कोई खुराक नहीं मिली, तो लंड के लिए तड़फ गईं.

उसने मुझे अपने घर का पता दिया और कहा कि आने से पहले एक बार फोन जरूर कर लेना. कुछ झटकों के बाद उन्होंने अपने चूतड़ मेरे लण्ड पर जोर जोर से मारने शुरू कर दिए और जल्दी ही झड़ गई. उसके साथ मॉल में जाकर उसको नए कपड़े दिलवा दिए, जो उस पर पूरे फिट होते थे.

और सुबह जब मेरी आँख खुली तो देखा कि मैं बस अकेला और नंगा ही उस कमरे में सो रहा था। वो तो शुक्र था कि मैंने रजाई ओढ़ रखी थी और उस कमरे का दरवाजा भी बन्द था, नहीं तो मेरी क्या हालत होती!मैं जल्दी जल्दी अपने कपड़े पहनने लगा. मुझे बुखार था और होटल में एसी चल रहा था इसलिए मेरा शरीर कांपने लगा. जब वे ऐसा कहती थीं, तो मैं उनसे मजाक में कह देता था कि बुआ तुम ही अपना दूध पिला दिया करो.

हिंदी बीएफ वीडियो में हिंदी बीएफ वीडियो मैं आपको एक बार करने के लिए 3000 की फीस दूँगा और अगर पूरी रात रहोगी तो 7000 दूँगा. उनकी नजर मेरे खड़े लंड पर पड़ी वो अपने हाथों को आश्चर्य से अपने मुँह पर ले गईं और बोली- ओ गॉड इतना बड़ा.

इंडियन देसी गांव की सेक्सी वीडियो

उधर मनोरमा ने मुझसे पूछा कि अब गीता को और चुदवाना है या नौकरी से निकालना है?मैंने कहा- नहीं नौकरी से नहीं निकालना. उनके मस्त चुचे और नीचे उनकी चूत की बाल भी हल्के हल्के से दिख रहे थे. तैयार न होती तो यह न कहती कि कल की कल देखेंगेबल्कि साफ़ साफ़ मना कर देती.

मैंने रेखा रानी को हौले से सीधा कर दिया और उसकी टाँगें थोड़ी से फैला दीं. मैंने अपनी जीभ को अन्दर डालने की कोशिश की और उसको जोर से किस करने लगा. आसमां में जैसेमैंने लंड देखते ही उसके कहने से पहले ही उसका लंड अपने मुँह में ले लिया.

मेरा पति यहाँ नहीं है, क्या आप उनकी तरह बन कर मेरा साथ दे सकते हैं?वो तो यह सुन कर बहुत खुश हो गया, बोला- मैं तो आपका पूरी रात भी साथ दे सकता हूँ बस आप कुछ इशारा तो करें.

मैं तैयार थी, मैंने लाल साड़ी पहनी थी, जमाई जी के साथ ट्रेन में बैठ गयी। मेरे बगल में जमाई जी बैठे थे जमाई जी मेरी कमर में हाथ डाल दी. मैं भी पीछे के दरवाज़े से भाग कर नीचे आ गया लेकिन लंड अभी भी खड़ा और प्यासा ही था, मैंने बाथरूम में जाकर उसके नाम की मुठ मारी और फिर सब नार्मल हुआ।उसके बाद फिर कभी हमें वैसा चांस नहीं मिला.

उनकी चूचियों की मनमोहक खुशबू मेरे नाक से होते हुए मेरे पूरे जिस्म में फैल गई. तभी बड़ी चाची बाथरूम से निकलीं, मैंने उन्हें देखा, वो मुझे देख रही थीं. वो मेरी चूची को ऐसे चूस रहा था, जैसे वो मेरी चूची को एकदम निचोड़ ही देगा.

अभिलाषा जब खड़ी हुई तो वह टाँगें चौड़ी करके बाथरूम जाने लगी, वीर्य उसकी टांगों व पटों पर से होता हुआ बाथरूम तक फर्श पर टपकता हुआ गया.

तो मैंने अपना पिस्टन जोर जोर से मारना शुरू किया… और पूरा पानी उनकी चुत में डालके ही उसके ऊपर पड़ा रहा. एक तो नमकीन लौंडा, ठंड का मौसम, एक ही कम्बल में हम दोनों चिपक कर सोए, उसका खड़ा लंड मेरे पेट से टकरा रहा था, मैं उसे सहलाने लगा, दिनेश मजा ले रहा था. हालाँकि वो बड़े रफ तरीके से मेरी धर्मपत्नी की चूत मारने में लगा हुआ था लेकिन क्योंकि नताशा को भी नशा चढ़ा हुआ था, इसलिए उसे मजा आ रहा था और वो भी खूब जोर-जोर से चिल्लाते हुए आर्थर के लंड को अपनी चूत में पिलवा रही थी.

सेक्सी पिक्चर अंग्रेजी वालीडॉली भी उठ कर एकता को किस करने लगी और एकता के हिप्स पकड़ कर ऊपर नीचे करने लगी. इन सब बातों से मुझे चुदास सी भड़कने लगी थी और अब मैं हमेशा यही सोचता था कि बुआ को कब प्रपोज करूँ.

नई लड़कियों की सेक्सी वीडियो हिंदी में

तो क्या तुम इस ग्रुप के इकलौते आदमी सदस्य बनोगे? फैसला तुम्हारे ऊपर है. उम्मीद है आप सबको मेरी पहली रिअल सेक्स स्टोरी पसंद आई होगी। आगे की सच्ची वाली कहानी लिखने के लिए मुझे ईमेल लिख कर प्रेरित करें।[emailprotected]. एक दिन जब मैं अपने घर से बाहर निकला तो मेरी एक फ्रेंड भाभी के पास खड़े होकर उनसे बात कर रही थी.

मैं हंसने लगा और बोला- दीदी आप हो ही इतनी गजब कि और अधिक शैतान बनने का जी करता है. दीक्षा- आप नाराज़ हो गए न… इसीलिए मैं नहीं बता रही थी… प्लीज नाराज़ मत हो ना।उसकी बच्चों सी मासूमियत ने मेरे अंदर तूफान ला दिया था। एक तरफ मैं उससे प्यार करने लगा था तो दूसरी तरफ मेरी वासना बढ़ती जा रही थी। मुझे समझ नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूँ। जिसके कारण मेरा ग़ुस्सा बढ़ता चला गया और मैं उस पर बरस पड़ा- दीक्षा जाओ यहाँ से… वरना मैं कुछ कर बैठूँगा. मेरी वाइफ ने उसे ऊपर से नीचे तक देख रही थी और उसकी नज़र उसके लंड पर टिक गई… तो फूला हुआ लंड ऊपर से ही मस्त दिख रहा था.

उस समय जो अनुभूति हुई, उसको शब्दों में बयां करना मुश्किल है दोस्तो. अब उन्होंने अपने लंड पर तेल चुपड़ा, तेल की भीगी उंगलियाँ मेरी गांड में ठूँस दीं. इसका मतलब ये भी हुआ कि आपको लंड का इन्तजार रहता है, अब वो चाहे मेरा हो या भैया का हो.

मैं चाची को चुदाई करते वक्त कहता हूँ कि आपके मम्मों में जो दूध आएगा, वो आधा मेरा होगा. आप लोगों को मेरी कहानी पसंद आई या नहीं, मुझे मेल करें, मेरी मेल आईडी है.

दअरसल वो पढ़ने में बहुत होशियार थी और मैंने उसको काफी हेल्प की, इसके चलते वो मुझसे काफी इम्प्रेस हो गई थी.

उसने शिफोन की साड़ी पहनी हुई थी और गहरे गले के ब्लाउज से उसकी जवानी मुझसे कुचले जाने के लिए बेकरार दिख रही थी. কলকাতা সেক্সি ভিডিওफिर एक बमपिलाट धक्के से पूरा लंड उनकी बच्चेदानी तक चोट करता हुआ घुस गया. 5 फुट 4 इंचउनका पति उन्हें सही से नहीं चोदता है, इसलिए वो जब भी घर आती हैं तो मैं ही उन्हें चोद कर संतुष्ट करता हूँ. फिर उसने बोला- क्या आप कभी मुझसे मिलने आ सकते हो?यह सुनकर मैं तो खुशी से झूम उठा और उसको हाँ बोल दिया.

तीसरे लड़के मेरे दोस्त को देख कर पूछने लगी- इसे क्या हुआ? ये लंगड़ा कर क्यों चल रहा है?तब मैंने मजाक से कहा- रास्ते में हम लोगों का एक्सीडेंट हो गया था तो उसे चोट लग गयी है.

मैंने साथ में ये भो सोचा कि इससे फिलहाल बना कर रखने में ही भलाई है. इस बार उन्होंने अपना मंगलसूत्र अपने दांतों के बीच दबा लिया और बेड की चादर अपनी मुट्ठियों में कस के पकड़ ली और दांत भींच लिए. मेरे मुँह से आउच निकल गया, मैंने जानबूझ कर आज ब्रा और पैंटी नहीं पहनी थी.

फिर कुछ देर बाद मुझे लगा कि मेरा रस निकल जाएगा तो मैंने उसके मुँह से अपना लंड निकाल कर उसको बिस्तर पे सीधा लेटा दिया. कई बार तो मैं परेशान हो जाता था क्योंकि मैं पहले कभी इतना फोन पर बात करता नहीं था. मैंने शीशे की तरफ इशारा करते हुए कहा- आप मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछ रही थीं न.

अमेरिकन सेक्सी टीचर

मुझे चलना चाहिए अब!मैंने ओला कैब बुक कर दिया, वो कपड़े पहन कर पीछे के दरवाज़े से निकल गयी. किस चोदू को यह न पसंद होंगी।” नितिन ने उसके दूध से मुंह हटाते हुए कहा और उठ कर उसकी योनि देखने लगा।मैंने उंगली और अंगूठे के दबाव से उसकी योनि फैला कर अन्दर देखा. मैंने कहा- भाभी मेरी कोई गर्लफ्रैंड नहीं है सो ऐसे ही टाइम पास के लिए एन्ड एडवेंचर के लिए.

मैं बहू के नग्न शरीर से नीचे उतरा और उसकी बगल में लेट कर बातें करने लगा.

मैंने पूछा- अब ठीक हो?तो बोली- हाँ!बस मैं धीरे धीरे धक्के मारने लगा.

चाचा एक प्राइवेट नौकरी करते हैं, चाची जी घर पर रहती हैं और उनकी एक 3 साल की बेटी है. वो दोनों मेरी वाइफ की चुचियों को बुरी तरह से चूस रहे थे और मेरी वाइफ को भी मज़ा आ रहा था. अबॉर्शन कैसे होता हैमेरी हिचकिचाहट देख कर बोली- यहाँ पहली बार आये हो, शर्माओ नहीं, तुम जैसे चाहो वैसे मेरे साथ मस्ती कर सकते हो.

जब तक इस्तेमाल होना नहीं शुरू होतीं तब तक छोटी रहतीं, इस्तेमाल होने लगेंगी तो बढ़ जायेंगी।” अहाना ने उन्हें सहलाते हुए कहा।ऐसा नहीं था कि उसका हाथ ‘वहां’ पहली बार लगा हो, लेकिन आज अजीब सा महसूस हुआ. वो हांफ रही थीं और उनके दोनों हाथ मेरे सर से हटके उनके कमर के दोनों तरफ बेड पे पड़े हुए थे. मैंने उसकी चूत से लंड निकाला और उसके मुँह में दे दिया, वो गरम लंड चूसने लगी.

मैं उनके ऊपर चढ़ गया और चूमने लगा, कभी उनकी गर्दन को तो कभी कान को. मैंने पहले तो सिर्फ उनके होंठों को अपने होंठों से छुआ फिर कुछ सेकंड बाद अपने होंठों से उनके होंठों को चूसने लगा.

मेरी योनि के ऊपरी सिरे पर उसके अंगूठे की सहलाहट वापस उसी अजीब सी तरंग को जिंदा कर रही थी, जो पहले टूट गयी थी।धीरे धीरे नशा चढ़ता गया और दर्द पर हावी होता गया.

तो आज गुड्डा गुड्डी के खेल में मैं और तुम दुल्हा-दुल्हन बनेंगे, वाह मजा आ जाएगा. जब सुबह हुई तो मैंने देखा सासू मां अपने काम करने में बिज़ी थी और सुबह सुबह मेरा लंड भी सख़्त हुआ पड़ा था. चाची ने बड़ी चाची की चुत को मुँह से चोद कर एक गहरी कराह भरी और बोलीं- अरे ये ताला बहुत दिन से बन्द पड़ा है जरा प्यार से कर मादरचोद.

सेक्सी सेक्सी सेक्सी सेक्सी व्हिडिओ यह कहते हुए दोनों ऐसे ही अगल बगल आ कर मेरे निप्पल और पेट पर किस करके नहाने लगीं. कल उसे मार्केट ले जाकर नया मोबाइल जो दिलवाना था, शायद इसलिए…तो अन्तर्वासना के मेरी प्रिय पाठिकाओ और पाठको.

तभी मेरी नजर पड़ी मेरी बहू की चूत के पास पड़ी एक लम्बी मोटी गाजर पर… मैंने अनुमान लगाया पूजा उस गाजर को अपनी योनि में घुसा कर सेक्स का मजा ले रही होगी, अपनी कामुकता को शांत करने की कोशिश कर रही होगी. मैंने दीदी को बताया कि मेरे घर पर भी कोई नहीं, आजकल तो मम्मी पापा भी गाँव गए हैं. मैं भी उसके मूसल लंड से हिल हिल कर और चुत को उछाल उछाल कर चुदती थी.

दिस सेक्सी

एक बार चूत में घुस गया ना तो फिर उसको चूत से बाहर निकलवाने के लिए हाथ जोड़ोगी. मगर यह बात किसी से भी ना बताना क्योंकि जब भी कोई अच्छा काम सोचा जाता है तो बहुत सी अड़चनें आ जाती हैं. ” चेतना बोली।नंगा ही नहा रहा था क्या?” रंजू ने पूछा।नहीं यार… नंगा कैसे नहाएगा… पर उसका टॉवल खुल गया और मुझे दिखाउसका… मूसल!” चेतना शर्माते हुए बोली.

मैंने कारण पूछा- क्या हुआ… कुछ तकलीफ हुई क्या?भाभी बोलीं- यार इस तरह का सेक्स मैंने जिंदगी में पहली बार किया है… ये खुशी के आंसू है प्रकाश… मैं ऐसी कभी नहीं झड़ी थी… ये पहली बार हुआ है. चाचा एक प्राइवेट नौकरी करते हैं, चाची जी घर पर रहती हैं और उनकी एक 3 साल की बेटी है.

तब तक मैं उनकी समीज की चैन खोल चुका था और उनकी नीली ब्रा के ऊपर से ही उनके नंगी पीठ को चूमने लगा.

मैं भी प्रश्नाकुल चेहरे से देखने लगा, फिर पूछा- क्या बात है?तब देवेश- बोला सर! अब हमारी बारी है।मैंने कहा- मैं तैयार हूँ, थोड़ा घूम कर आते हैं, मना कहां कर रहा हूं?तब वे सन्तुष्ट हुए दोनों शांत हो गए। हम घूमने चले, ढाबे की ओर गए, सबने चाय पी, नाश्ता किया. उसने कहा कि उसके फ्रेंड को यहाँ पर आने में 40-45 मिनट लगेंगे, तब तक मैं अपना लंड तुम्हारी चुत में एक बार फिर से पेल दूं. ब्लॉउज के अन्दर से चूचे इतना मन मोह लेते हैं कि उन पर झपटने को दिल ललचाता है.

मैंने अपनी दोनों बहनों को कामिनी को दो बार और वैशाली को एक बार सुबह के 5 बजे तक चोदा और फिर हम तीनों साथ साथ नहाये. कई बार मैंने उसको अपने लौड़े वाली जगह पर ताकते हुए पाया जैसे अंदाज़ा लगाने की कोशिश कर रही हो कि मेरी पैंट के पीछे जो औज़ार छुपा है वो कैसा है, कितना लम्बा है, कितना मोटा है. एक बात समझ लो, जो काम हमें दिया जाता है, उसके लिए तो वो लोग किसी से पांच हजार देकर भी करवा सकते हैं.

सारी क्लिप्स मेमोरी कार्ड में हैं।”तुम आखिर चाहते क्या हो?” मैंने बेबसी से उसे देखते हुए कहा।तुम दोनों को चोदना और वह भी फुल इत्मीनान से। कुछ इंतजाम बनाता हूँ कि सुहैल को दिन भर के लिये बालागंज, लखनऊ या बाराबंकी भेज दूं.

हिंदी बीएफ वीडियो में हिंदी बीएफ वीडियो: मेरा लंड पूरा सख़्त हो चुका था और मेरे हाथ उसकी चूचियों को बड़ी बेरहमी से मसल रहे थे. अब वह इलाहाबाद में रहती है, जब कभी वह नोयडा आती है, हम खूब मस्ती करते हैं.

जिस पर अंजलि भी सिसकारी भरने लगी!तभी शीतल ने शिवानी की स्कर्ट उठा कर बियर उड़ेल दी जिससे शिवानी की पैंटी गीली हो गयी और मुझे बोली- भैया, अब आगे बढ़ो और पूरी पैंटी चाटो!मैंने शिवानी की स्कर्ट उठा कर उसकी चूत पैंटी के ऊपर से चाटनी शुरू कर दी. वहां पहुच कर हमने होटल बुक किया और मैंने राज को मिलने के लिए बुलाया. मैंने रूम अंदर से बंद कर लिया और दोनों साथ में सो गये चादर डाल के!सुबह किसी ने दरवाज़ा नॉक किया.

वो सिर्फ अंडरवियर में थे, उनका लंड अंडरवियर में उभार बना रहा था जिसे देखकर भाभी हंसने लगीं।अब भैया वापिस बिस्तर पर आ गये और भाभी के पीछे बैठ कर उनकी गर्दन पर किस करने लगे.

उसने मेरा हाथ पकड़ कर मुझे अपने गले लगा लिया और वो मेरे हाथ को किस करने लगा. वो चुत पर मेरे मुँह को देखते हुए ही कहने लगी- ये क्या कर रहे हो विराट. तू बिल्कुल अपनी माँ पर गयी है मेरी गुड़िया, तुझपे बहुत प्यार आ रहा है.