हरियाणी बीएफ व्हिडिओ

छवि स्रोत,इंग्लिश सेक्स इंग्लिश सेक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

चेन्नई सेक्सी फिल्म: हरियाणी बीएफ व्हिडिओ, [emailprotected]कहानी का अगला भाग:एक लड़के को देखा तो ऐसा लगा … -2.

सेक्सी वीडियो फिल्म अंग्रेजी

उन्होंने अपने होंठ मेरी गर्दन से रगड़े, तो मेरे बदन में वासना की तरंगें उठने लगीं. कुत्ते पकड़ने वालों का नंबर delhiतब मैंने उसे अपना नाम बंध्या बताया, तो वह खुश हो गया और मुझसे बोला कि मेरा नंबर लिख लो और अपना नंबर बता दो.

फिर से मुझे नयी तरह से चोदें और ऐसे ही कुछ दिन और रात हवस की ज्वाला में जलते हुए निकल जाएं. दुनिया का सबसे पतला मोबाइलइस वजह से कभी वो उसकी पसंद के कुत्ते के आगे झुक जाती और जैसे ही उसकी पसंद का कुत्ता उस पर चढ़ने जाता, तो दूसरा भी चढ़ने को जाता और दोनों में लड़ाई होती.

पांच मिनट के बाद मैंने उसको फिर से खड़ी कर दिया और सुषी को दीवार के सहारे से लगा दिया.हरियाणी बीएफ व्हिडिओ: आरती ने कहा सच सच बोलो तुम्हें कोई ऐतराज़ तो नहीं होगा ना की अगर में इस का लंड ले लूँ तो.

मैं बेड से नीचे उतरा और भाभी को बेड के किनारे पर घसीट कर उनकी चूत में दोबारा लंड डाल कर उन्हें पेलने लगा.फिर हमने फोन पर बात की, तो वो दुखी मन से कहने लगी- काश मैंने आपसे शादी की होती.

टीचर की सेक्सी मूवी - हरियाणी बीएफ व्हिडिओ

उसने मेरे लंड को लगभग खींचते हुए अपनी चूत में घुसेड़ लिया और लगी धक्के लगाने.बात खत्म करने के पश्चात मैं बिस्तर से उठी और अपनी छुपाई हुई संदूकची बाहर निकाली.

मैं अपने बॉयफ्रेंड के लंड पर कूदने लगी और वो मजे से मेरी चूत में अपना लंड डाल कर सेक्स का मजा ले रहा था. हरियाणी बीएफ व्हिडिओ थोड़ी देर सोचने के बाद मैंने कहा- ओके, मैं आता हूँ … पर कोई समस्या हुई तो मैं तो कुछ नहीं करूँगा.

मैं शैम्पेन भी लाया था, हमने शैम्पेन पीते हुए डिनर किया और फिर बेड पे आ गए.

हरियाणी बीएफ व्हिडिओ?

उसने अपने जिम ट्रेनर से बोला कि मेरी कमर में कर्व आना चाहिए और बूब्स भी बड़े बड़े दिखने चाहिए. मैंने सोच लिया कि उसको फोन करके पूछ लेता हूँ, अगर वह आ रहा है तो मैं रुकूंगा नहीं तो फिर मेट्रो लेकर वापस चला जाऊंगा. रात भर तड़पना, करवटें बदलना और शौहर की याद में जिस्म की आग भड़की रहती थी.

मामी- किधर वाला नाश्ता?मैंने कहा- गर्म वाला जिधर से भी मिलेगा, सब खा लूँगा. सुबह फिर एक दूसरे को खुश करने के लिए जिन्दगी की गाड़ी आगे बढ़ने को थी. सूनी मांग, लंबे बाल, नितंब तो ओफ्फ़ … बड़े बड़े … और सुडौल एकदम टाइट और उठे हुए थे.

तुम्हारे भैया दुकान से रात को घर आते हैं और थकान के कारण जल्दी सो जाते हैं. मैं आधे घन्टे के बाद स्टेशन पर पहुंच गया और वहीं प्लेटफॉर्म पर इंतज़ार करने लगा. मेरे अन्दर एक बेचैनी थी कि मैं एक लड़के के साथ अपने घर में अकेली हूँ.

मेरे साथ आज हुआ भी ऐसा ही था कि जगत अंकल, छत्तू अंकल और ठाकुर ने शुरूआत तो की मेरे साथ चुदाई की, पर तीनों ने बस थोड़ा थोड़ा करके मुझे छोड़ दिया. मैंने फोन उठाया तो मदन की मां बिना रुके बोलने लगीं- हैलो मदन बेटा जरा घर आ जा … वो आज मैं अपने दोस्त के यहां गयी थी ना किटी पार्टी में … मैंने अपना पर्स वहीं छोड़ दिया, जिसमें घर की दूसरी चाभी भी थी.

शादी में मिसेज पाटिल की चुदाई का एन्जॉयमेंट का पूरा मजा लेने के लिए आपको मेरी इस चुदाई की कहानी के अगले भाग का इन्तजार करना पड़ेगा.

मैंने पंकज को अपनी तरफ खींच लिया जिससे उसका लंड मेरी चूत पर फिसलने लगा.

भाभी- फिर बाथरूम में जाकर बाथरूम करने के लिए क्या करते हो?मैंने कहा- सिम्पली बाथरूम करता हूँ. उसका लंड अब पहले से ज्यादा टाइट हो गया था और बिल्कुल मोटे डंडे की तरह तन कर सख्त लगने लगा था. मेरी जान, थोड़ा दर्द सह लो … फिर तो तुम्हारे मज़े ही मज़े होने हैं.

उस दिन मेरी सहेली ने भी अपने एक दूसरे बॉयफ्रेंड को चुदाई के लिए बुला लिया था. उसने भी उत्तर दिया- वाओ क्या लौड़ा है यार तेरा … उममुआआह … मैं चूस लूँ इसे. मैं उन्हें दोनों हाथों से बहुत ही बुरी तरह से दबा रहा था और चूस काट रहा था.

मैंने उसके लंड को सहलाया और उसकी टोपी को आगे की चमड़ी से आजाद कर दिया.

तभी ऐसा लगा कि पीछे से कोई देख रहा है, तो हम दोनों जल्दी से एक दूसरे से थोड़े दूर हो गए और देखा. मैं इन लोगों की परेशानी समझ गयी, पर मेरी परेशानी कौन समझेगा, यही सोचते हुए मैंने बात की- ये सब तो ठीक है मम्मी जी पर वंश कैसे बढ़ेगा आपका … जब हितेश कुछ करेगा ही नहीं तो?सासू माँ ने लंबी सांस लेते हुए कहा- ये जरूरी तो नहीं ना बेटा कि हितेश ही कुछ करे, तो ही हमारा वंश आगे बढ़ेगा. झड़ते हुए उसने गीता को कस कर सीने से चिपका लिया और एक टांग उसके ऊपर रख कर उसे नीचे से भी दबा लिया.

मूतकर आने के बाद मैंने नीचे हाथ डाल कर दोनों की चुत में से डिल्डो खींचा और गीता की कमर से बेल्ट खोल कर उसको अलग किया. उसकी तेज आवाज निकली, लेकिन मैंने अनसुना करके एक बार फिर प्रयास किया. मैंने उसे नीचे किया, उसकी दोनों टांगों को फैलाया और अपने लंड से जोर जोर से उसकी चूत पर चाबुक चलाने लगा.

वो कभी मेरे ऊपर आ कर मेरी चूत को चोद रहा था, तो कभी मुझे अपनी बांहों में लेकर और मुझे उठा कर चोद रहा था.

अब डेविड ने कहा- मैं इसके पूरे मजे लेना चाहता हूँ … मुझे 2 घंटे के लिए पूरी तरह ये अकेली चाहिए. सोनू चूचियां दिखाने पर राजी तो हो गई थी लेकिन उसके गले में उसकी ब्रा और उसका टॉप फंसा हुआ था.

हरियाणी बीएफ व्हिडिओ मैं अपना लंड निकालने लगा, तो दीदी ने आपने हाथों से मेरी गांड पकड़ ली और कहा- अन्दर ही डाल दे अपना पानी मेरे छेद में … ओह मजा आ रहा है … प्लीज़ अन्दर ही सिंचाई कर दे. नीरू बहन मेरे लंड से चुद कर खुश दिखाई दे रही थी, मैंने उसकी चूत पर एक बार प्यार से पप्पी ली और फिर उसे वापस पैंटी पहना दी.

हरियाणी बीएफ व्हिडिओ अब मुझे इतना गुस्सा आया कि मैंने बिना कुछ सोचे समझे प्रीति को मां बहन की गालियाँ देते हुए उसको तीन चार जोर के थप्पड़ जमा दिये और खुद ही अपने ही पेशाब में नीचे गिर गई. ”अरे कुछ नहीं होगा मेरी जान!”मैंने थोड़ी जबरदस्ती की, थोड़ा सा थूक उसकी गांड पे लगाया और लंड को हल्के से उसकी गांड के छेद पे रख कर घुसा दिया.

इधर निहाल उन दोनों लड़कों से बोला- कुछ नहीं यार ऐसे ही … मुझे नहीं पता तुम लोग भी बस यही ताक झांक करते हो, जाओ उधर सामने द्वारपूजा देखो.

सेक्सी पिक्चर ब्लू पिक्चर चुदाई

आआआ … आआहह … मार डालो मुझे राहुल … आपका लण्ड … ओह माई गॉड … मेरे राहुल. वो चूत चाटने लगा और साथ ही अपनी एक उंगली भोसड़ी के छेद में डाल कर अन्दर बाहर करने लगा. वो वहां पेट में नाभि में हाथ चलाता रहा और फिर धीरे से भीड़ का फायदा उठाते हुए उसने अपना हाथ और नीचे कर दिया.

मैंने जैसे ही लंड निकाला, वो उसे हिलाने लगी और मैंने पूरा माल उसके चेहरे पर छोड़ दिया. कहते हैं न कि समय का फेर कब किस करवट ले ले, किसी को कुछ पता नहीं होता. सबके सब ज्यादातर हम लड़कियों की तरफ घूरने में लगे थे, इशारे करने लगे और सीटी मारने लगे.

मैं- सच में! वैसे तुम्हारे रूम का क्या किराया है?वो- पहले तुम बताओ, तुम वहां एक महीने का कितना देते हो?मैं- मेरे से तो यहाँ महीने के 4000 लिए हैं.

मैं देख कर और घबरा गई क्योंकि जो उसके हाथ में थी, वह उस झाड़ी के पीछे गुम हुई मेरी पैंटी थी. थोड़ी देर में सारा भी आ कर मुझे चूमने लगी और मेरे निप्पल पर दांत मारने लगी. धीरे-धीरे मेरी रफ़्तार बढ़ने लगी, और मैं ज़ोर-ज़ोर से लंड को लुंगी से बाहर निकाल कर पंप करने लगा था.

गीता की चुचियां बहुत मस्त थीं और अब तक के खेल में उसकी निप्पल भी टाइट हो गये थे. मेरा लंड उसकी गांड से टच हो रहा था और वो पीछे से अपने पैर मोड़ कर मेरे चूतड़ों पर लात मार रही थी. अब मुझे बर्दाश्त नहीं हुआ, मैंने कौशल्या को गोद में उठाया और बेड पे अपने नीचे किया.

मैंने ज़रीना को चूमते हुए कहा- तुम्हारा हाथ तो मैंने खाला से खुद मांगा है. शांत होते ही उसका लिंग सिकुड़ कर बाहर आ गया और उसके निकलते ही चिपचिपा पानी मेरी योनि से बह निकला, जिसमें सफेद वीर्य के हिस्से भी थे.

बस 5-6 मिनट बाद मैं भी उसकी चूत में झड़ गया और उठ कर अपने लंड को पानी डाल कर साफ़ किया. मैंने अपनी बीयर ख़त्म की, राहुल और संध्या ने अपने दो-दो पैग पूरे किए. फिर इसके बाद तो उस का हाथ मेरे पीछे तरफ अपने आप मेरी कूल्हों में चलने लगा और उसका लंड भी दोनों चलने लगे.

वह बोले- अरे मेरी जगह आकर बैठ कर देख लेना, किस तरह से चल रहा था उनका प्रोग्राम.

उसके चूचे ब्लाउज मैं समा नहीं रहे थे और उनकी दरार उसके ब्लाउज के बाहर तक आकर साफ-साफ दिखाई दे रही थी. मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागतलाकशुदा माँ की अगन-2में आपने पढ़ा कि मेरी मां ने मुझे बताया कि कैसे उसने अपने बेटे से पहली बार चुदाई करवाई. वो मूंछों वाले दादा साहेब बोले- जल्दी ही कर रहा हूं … नहीं तो तू तो ऐसी गर्म आइटम है, ऐसी माल है कि पहले तो तेरे एक एक अंगों को पहले चाटता, उसे प्यार करता और एक एक अंग को सहलाता, उनसे दो चार घंटे खेलता, तब जाकर तुझे चोदता, पर अभी समय बिल्कुल नहीं है.

मुझे तो लगा था कि मेरे सच्चे प्यार का अंत हो गया, पर नहीं मेरी जिंदगी में एक नया मोड़ आया और शायद भगवान भी यही चाहता था. वो बोलीं- सोनू, तुझे क्या हो जाता है, जिसके लिए हम यहां आए थे, तू वहीं नहीं रही.

ऐसा करते देख कर सारा ने खुद ब खुद अपनी टांगें फैला दीं और मेरे बालों में हाथ फेरने लगी. उसने जल्दी से मेरा शर्ट निकाल कर फेंक दिया, तो मैंने भी उसके सारे चेहरे पर किस करना चालू कर दिया. उसने मेरे हाथ हटाते हुए कहा- इतनी भी जल्दी क्या है? कर लेंगे आराम से!कहकर वह मेरे होंठों को फिर से चूसने लगी.

सेक्सी फिल्म बड़े लंड

अब उसने मुझे बेड पर लिटाया और मेरी दोनों टांगें अपने कंधों पर रख लीं.

मुझसे भी अब रहा नहीं गया तो मैंने व उसकी पीठ पर हाथ रख दिया और धीरे धीरे सहलाने लगा. जब मेरी नींद खुली तो भोर के 3 बज चुके थे, कौशल्या मेरी तरफ पीठ करके लेटी थी, मैंने कमर से सटते हुए उसकी चुचियों को पकड़ा और उसके निप्पल मसलने लगा. फिर उसने मेरा पूरा दूध अपने मुँह में भर लिया और दबा दबा के चूसने लगा.

उसके बाद मैंने कहा- ठीक है, जैसे तुम पहले हाथ से कर रही थी वैसे ही कर दो. ये नाइटी बहुत छोटी और जालीदार थी, इसकी मैचिंग की ब्रा भी जालीदार थी. काला यूट्यूबएक दिन मैं उनके घर गया था तो मैंने हिम्मत की और उन्हें अकेला पाकर उनके बूब्स दबा दिए.

मेरे सर पर हाथ फेरते हुए सासू माँ बोलीं- बेटा, मैंने खुद 2-3 बार भाड़े पर बुला कर मज़े किये हैं, अगर तू कहे तो तेरे लिए भी किसी को बुला लूँ?मैंने आश्चर्य से कहा- आप जानती हैं ऐसे बंदों को?सासू माँ- जानती तो नहीं हूँ, पर ऐसे बंदे ढूंढना कोई मुश्किल काम भी नहीं है. मैं अपना लंड अपनी कजिन की कुंवारी बुर में लंड घुसेड़ कर कुछ देर ऐसे ही रुक गया.

तीन धर्मों का पवित्र पानी एक साथ मेरे अन्दर जाता, लेकिन क्या करूं?’‘वाह क्या मस्त बात की है कामिनी. गुड़गांव (अब गुरूग्राम) के हुड्डा सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन पर उतर कर मैंने उसे फोन किया. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:बड़े लंड से दो चूत चोदने का मजा-2.

उम्म्ह… अहह… हय… याह… मैंने बेतहाशा अमित की गर्दन को चूमना शुरू कर दिया और उसने प्रतिउत्तर में मेरी योनि में लिंग के धक्कों की शुरूआत कर दी. तुझे याद है, जब मैंने लाईट ब्लू कलर का पंजाबी ड्रेस पहना था, तब मैं दो बार पीछे मुड़ी थी, उस वक्त मैंने तुम्हें वहां देखा था. उफ्फ़ … अहह … हाँ … और चोदो, अपनी भाभी की चूत … अंदर तक घुसेड़ दो राहुल … अपने लण्ड को … उफ्फ … अह्ह … आह … चोदो.

तो भाभी कहने लगी- कोई बात नहीं, एक बार देखो तो, मुझमें और उसमें क्या अंतर है?मैंने कहा- ठीक है अगर वह अपने आप अपनी चूत मुझे देंगी, तो मैं ले लूंगा, वरना मैं खुद ट्राई नहीं करूंगा.

मैं उसका लंड रस गटक भी गई, अजीब सी खुशबू थी और टेस्ट नमकीन सा थोड़ा अलग ही लगा. तभी नैना बोली- तुम्हारी ये बातें सुन के मुझे तुम पे और भी प्यार आ रहा है.

धीरे धीरे उनकी मस्त आहें फिर से निकलने लगीं, तो मैंने एक लास्ट धक्के के साथ अपना पूरा लंड उनकी बुर में घुसा दिया. रोज रोज एक जैसे लंड से चुदाई का अहसास अच्छा नहीं लगता, इसे बदलते रहना चाहिए. भाभी मुझे देख कर हंस दी- तुम भी तो माल लग रहे हो … हां बस जरा पतला हो जा तू.

तब मैं मम्मी से बोली- मम्मी आशीष मुझे प्यार करता है और मैं भी उससे बहुत प्यार करती हूं. राहुल का लण्ड ज्यादा बड़ा नहीं था लेकिन एकदम सख्त लोहे की रॉड की तरह तना हुआ खड़ा था. उसको अच्छी तरह पता था कि मर्दों को कौन सी जगह पर किस करने या सहलाने से वे उत्तेजित होते हैं.

हरियाणी बीएफ व्हिडिओ प्रमिला एकता की चुत को चाटती कभी मेरे लंड पर जीभ फेरती, तो कभी गोटियों को मुँह में ले के हम दोनों को मजा दे रही थी. मैंने अपने हाथ को भाभी की कमर से ले जाकर उनके पेट पर फिराना शुरू कर दिया.

भरवाड सेक्सी वीडियो

उधर इतना ज्यादा अंधेरा और भीड़ थी कि न कुछ दिख रहा था, न कुछ सुनाई दे रहा था. हम दोनों रात के धुंधलके में मिलते थे, इसलिए उसको कुछ अच्छे से दिखा नहीं और मामला टल गया. मैंने महसूस किया कि उनका गर्म वीर्य मेरे अन्दर गया और मेरी चूत उसके वीर्य से भर गई। वो हाँफते हुए मेरे होंठों को चूसते हुए मेरे ऊपर निढाल हो गए।करीब 5 मिनट वो मेरे ऊपर ही पड़े रहे। फिर वो मुझसे अलग हुए.

मैं- हाँ, बोलिये?कल्पना- मुझे आपके बारे में एक विज्ञापन से पता चला है. फिर उसने मेरी गर्दन पर किस किया और मैंने चूमते हुए उसको बेड पर लेटा लिया. इंग्लिश सेक्सी पिक्चर व्हिडिओऔर फिर हम सीधे पास के ही एक रेस्तरा में डिनर करने चले गए।दोनों ने साथ बैठ कर डिनर किया। तब तक वो मुझसे इतना खुल चुकी थी जैसे हम थोड़ी देर पहले नहीं बल्कि बरसों से एक दूसरे को जानते हैं।डिनर करते करते लगभग साढ़े दस का समय हो गया।वो जाने लगी तो मैंने उसको अपनी कार से छोड़ देने का कहा.

वहां जाकर मैं जल्दी-जल्दी आन्सर कॉपी करने लगी। उन्होंने भी अपना वादा निभाया और रोज मुझे आंसर देते रहे। मैं हर पेपर में उन्हीं के द्वारा बताए गए आन्सर को लिखने लगी.

मैं बोला- इंटरनेट का जमाना है, किसका क्या भरोसा, कौन कैसा एकाउंट बना के पागल बना रहा हो. ये सुनकर मैंने उसे कुतिया बनाया और उसकी चूत में लंड जोर के झटके से घुसा दिया.

उसने एक बार मेरे तने हुए लौड़े को पैंट के ऊपर से ही सहला दिया तो मेरे लंड ने एक जोर का झटका देकर अपना तनाव और ज्यादा बढ़ा लिया. समय 12 बजे से अधिक हो गया, तो मैं उन्हें ढूंढने चली गयी, पर वे दोनों वहां नहीं थीं. हम दोनों की बातें एक दिन सेक्स की बातों में बदल गईं और वो मुझे अपने कॉलेज के बारे में बताने लगा कि कैसे उसके दोस्त कॉलेज में गर्लफ्रेंड बनाई हैं.

आरती के पड़ोस में एक लड़का प्रसंग रहता था जिसकी शादी तो हो चुकी थी मगर उसकी बीवी किसी दूसरे शहर में रहा करती थी.

उसने पूछा तो मैंने बताया कि मोबाइल कम बैटरी की वजह से स्विच ऑफ़ हो गया है. उधर द्वारपूजा चल ही रही थी, तभी मेरे पीछे कूल्हों में कुछ चुभता हुआ एहसास हुआ. फिर मैंने अपने लंड को उसकी चुत के द्वार पर सैट करके हल्का सा धक्का लगा दिया.

सेक्स वीडियो कुत्ता वालाफिर मैंने उसकी गांड पे दांत से काटना शुरू कर दिए, जिससे वह मरने की हद तक पहुंच गयी. तभी पटेल बोला- सही बोलता है तू!उसने तुरंत अपना मुँह वहीं मेरी चूत में लगा दिया.

ब्लू फिल्म सेक्सी हिंदी में नई

मैं- अरे भाभी तुम 15 मिनट रुको, फिर मजे करते हैं ठीक है!भाभी- हां ठीक है … अच्छा मैं तुमको शाम को बोल रही थी, तुम यहाँ मेरे घर पे किराये पे रह सकते हो? तुम अगर चाहो तो?मैं- रह तो सकता हूँ … लेकिन मैंने यहाँ किराया दे दिया है यार, तो मैं अभी कैसे आ सकता हूँ. और मैं खुद को तभी जाहिर करूँगी, जब मुझे आप पर भरोसा हो जायेगा। बाकी मेरी कहानी अब यहीं खत्म होती है।समाप्तअब एक बात मेरी इमरान की तरफ से: मैंने यह कहा था कि अगर आपके पास कोई ऐसी कहानी है जो अलग है, हट कर है, मन में दबी गांठ जैसी है जो आप कह डालना चाहते हैं लेकिन कह नहीं पा रहे किसी वजह से तो मुझे बताइये. फिर मदन और शंकर जी दोनों तैयार होकर अपने अपने घर चले गए, उस रात मेरी जिंदगी में एक नयी औरत मोहिनी जी का आगमन हुआ था.

उन दिनों हल्की ठंडक रहती ही है उसके ठंडे हाथ से मैं एकदम से बौखला सा गया और जब रंग लगा देखा तो मुझे बहुत गुस्सा आया. आज तेरी वजह से सुहागरात हो जाएगी, तेरा नाम हमेशा लूंगा कि मेरे भाई के कारण मेरी सुहागरात हुई थी. अब मोहिनी जी घर पे अकेली होती थीं, मैं अक्सर उनकी चुदाई करने उनके घर चला जाता था.

उसने पूछा- क्या बात है?मैं उसको जवाब देने ही वाला था तभी अंदर से वह दीदी आ गई जिससे पहले दिन मेरी बात हुई थी. मैं महसूस करने लगी कि मेरे मुँह में उसका लिंग बड़ा हो रहा है और मैं झड़ने के जोर में दांतों और होंठों से ताकत से उसे दबाती चली गयी. कुछ ही देर में मैं झड़ने वाला था तो मैं उसके मुँह में ही झड़ गया और थोड़ी देर तक मैंने लंड को मुंह में ही रहने दिया और उसने मुझे जोर से धक्का देकर हटा दिया और थोड़ा वीर्य पी गयी मेरी प्यारी बहन.

खैर उसने मेरे लंड की टिप पर ज़ुबान रख दी और लंड को हाथ में पकड़ा, जो उसकी चूत के पानी से बिल्कुल गीला हो चुका था. दूसरे दिन मेरी सहेली ने मुझे एक पड़ोसी के बारे में बताया, जिससे मेरी सहेली चुदवा चुकी थी.

कल से रेगुलर कमलेश सर से ट्यूशन अच्छे से पढ़ना और मैं उस लड़के से बात करूंगी.

मैंने लंड को आगे जाने से रोक लिया और फिर इस बार थोड़ा अन्दर तक डाला. हिंदी सेक्सी पिक्चर भेजेंदोस्तो! कैसे हो आप सब? मेरी रीयल चुदाई की गर्म कहानी को पढ़कर आप सब मज़ा लें!आज मैं आपको बताऊँगा कि कैसे मैंने एक लेडी डॉक्टर की चुदाई की।यह कहानी पिछले हफ्ते की ही है। जब मैं मेरे बड़े पापा के घर मुंबई गया था. ब्रदर सेक्सी फिल्मइससे वो एकदम से गरमा गई और गाली देते हुए बोली- मादरचोद, क्यों सता रहा है … छेद पर भी कर ना. वह मेरी चूत में जोर-जोर से धक्के मारने लगे और एकदम से उनकी गति रुकने लगी.

निप्पल चूसते चूसते पद्मा बोली- तू सही कह रही थी, दिल करता है कि अपने सैयां का लंड चूसते रहें और मज़ा लेते रहें.

इसी के साथ कुछ पुराने फ़िल्मी गाने भी भेजे तब भी उसका अच्छा रिस्पोंस ही रहा. भाभी की आंखें पहले ही नशीली थी और जब उनके ऊपर सेक्स का खुमार चढ़ा तो उनकी आंखें बिल्कुल ही शराबी की तरह से हो गई. मैं आपको एक बात बता दूं, मैं उससे प्यार तो करता था और सिर्फ प्यार ही करना चाहता था.

मैं सोच रहा था कि अभी मेरा लंड अपनी चूत में ले लेगी लेकिन उसने मेरे पेट पे लेट कर इस पोजीशन में कर लिया कि मेरा लंड बस उसकी चूत के मुँह को टच करता रहे. उसके बाद मैंने अपनी चुदाई तेज कर दी और जोर जोर से उसकी चूत को चोदने लगा. किसी लड़की को आधा अधूरा चोद कर नहीं छोड़ देने का दर्द मैं पहली बार आज महसूस कर रही थी.

साउथ के सेक्सी व्हिडीओ

मैंने भी ऐसा ही कुछ करने का डिसाइड किया कि इस बार एक ही बार में पूरा घुसा दूंगी. मैंने तेज़ी से पिच पिच करके पानी की तेज़ धार उसके मुँह में ही छोड़ दी. इस दुबारा की चाटने की क्रिया ने हम दोनों को फिर से गर्म कर दिया था.

थोड़ी देर उसकी चुत में लंड पेलने के बाद मैं नीचे लेटा और वो मेरे लंड के ऊपर बैठ गई और खुद से पूरा लंड अपने चुत में लेने लगी.

अब आप लोग तो जानते ही हो कि चुत का नशा बहुत गंदा होता है और आज मुझे एक नई चूत मिलने वाली थी.

बस फिर क्या था, मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और धीरे धीरे चूसने लगा. भीगी-भीगी इस मस्त समा में प्रशांत का नौ इंच लंबा कड़क लंड भला वी-कट अंडरवियर में कहां छिप पाता. जबरदस्त सेक्स मूवीउसकी पैंटी को हाथ से सहलाया तो पता चला वह पहले से ही गीली हो चुकी थी.

‘सॉरी डार्लिंग, तुम चुदाई में नयी नयी हो, तो मैं समझा तुम मजाक कर रही हो, क्या ज्यादा दर्द हो रहा है?’ यह कहकर मैं अपने लंड को अन्दर बाहर करने लगा. हल्के से झटकों के साथ ही आंटी भी मुझे चूमने लगी, कहने लगी- चोद सौरभ … मुझे चोद दे … चोद-चोद कर अपने वीर्य से मेरी चूत का कुँआ भर दे. दस मिनट बाद मुझे उसने घोड़ी बना लिया और मेरी कमर को पकड़ कर अपना 9 इंच लंबा लंड मेरी चूत में पेल दिया.

एक उसे दी और एक मैंने ली और चियर्स करते हुए हम दोनों ने एक लम्बा घूंट ले लिया. भाभी ने मेरे लंड को जोर से दबाते हुए कहा- आज मैं तुम्हारे बिना नहीं रह सकती हूँ, मेरे पति मुझको सेक्स का मजा नहीं दे पाते हैं.

इस तरह से हम दोनों के बीच सेक्स की स्थिति लगभग बन चुकी थी, बस चुदाई होना शेष थी.

मैंने भी कुत्ते की तरह उनकी चूत में लंड डाल कर जोर जोर से झटके मारना शुरू किए और उनकी गांड पर दोनों हाथों से बारी बारी तमाचे मारने शुरू कर दिए ताकि वो अपनी चूत टाइट करती रहें और अपनी गांड ऊपर उठाती रहें. फिर नीचे की ओर हो कर उसने मेरे जॉकी के ऊपर से ही मेरे लंड पे चुम्बन लिया, फिर मेरा जॉकी खोलने लगी. मैंने उसका एक पैर अपने हाथ में पकड़ कर ऊपर उठा लिया ताकि उसकी चूत सही पोजीशन में आ जाए.

न्यू हिंदी सेक्सी एचडी वीडियो मैं कितना प्यार करती थी उसको … कितना भरोसा करती थी उसका … वो कितना कमीना निकला, मेरे पापा को धक्का मार के चला गया. ”उसकी शक्ल ऐसी हो चुकी थी की जैसे अभी रो देगी।अगर तुम अपने बॉयफ्रेंड के साथ मूवी देख रही होती तब क्या करती?” मैंने सवाल किया।बॉयफ्रेंड होता तो शायद उसके साथ उसके रूम पर चली जाती … पर वो कमीना भी आज आया नहीं … सब उसकी वजह से ही हुआ है.

तभी एकदम से एक मिनट बाद ही जगत अंकल के लंड का पूरा रस मेरे मुँह में पिचकारी की तरह आने लगा. जब हेमा भाभी चली गई तो लता भाभी बोली- राज! आज तो इसे पक्का शक हो गया है. उसके बाद फिर वो खुद मेरे लंड को आगे पीछे करने लगी और चमड़ी को खींचकर पीछे कर दिया। मुझे इसमें बहुत मजा आ रहा था क्योंकि कोई लड़की पहली बार मेरी मुट्ठ मार रही थी।मैं आँखे बंद कर के उस जन्नत में था जिसका आनंद मैं यहां पर बता नहीं सकता हूँ। फिर मैंने उसे लंड चूसने को कहा तो वो मना करने लगी.

2021 सेक्सी 2021 सेक्सी

वो मुझे बेड पे भी वो रेस्पेक्ट नहीं देता, बस वो मुझे एक खिलौना समझ कर रौंद कर सो जाता है. मैंने अपने लंड को बाहर निकाला, लंड के बाहर निकलते ही ढेर सारा वीर्य उनकी चूत से निकल कर उनके चूतड़ों को भिगोता हुआ बेड की चादर पर गिरने लगा. मैंने उनको समझाया, तो कुछ देर बाद मान गईं और बोलीं- कल उसको बिलासपुर आने को बोलूंगी, अगर आ गई तो ठीक है.

आंटी ने मेरे खड़े लंड को अपने मुंह में भर लिया और उसको पूरा मुंह में लेकर चूसने लगी. मुझे ऐसा लगा कि मेरी योनि की मांसपेशियों पर मेरा वश नहीं रहा और अब पानी का फव्वारा सा छूट निकलेगा.

इसीलिए मैं पूनम को याद करके अपना लंड सहलाया, जिससे वो पूरी तरह खड़ा हो गया.

जब उसने मुझे बहुत देर तक किस किया, तो मैं भी गरम हो गई और उसको किस करने लगी. इसके बाद उसने मेरी बीवी को अपनी गोद में बिठा लिया और अपने दोनों हाथ से उसकी गांड पकड़ कर दबाने लगा. उसने भी अपना लंड मुझे पकड़ा दिया और बोला- तुम दोनों लंड को मुट्ठी में पकड़ पकड़ के रगड़ो.

रमेश ने सिगरेट सुलगाते हुए एक ठहाका लगाया और बोला- और तू क्या सूखी सूखी होली खेलेगी? चल एक और बना. वाणी चिल्लाई- कमिनी कुतिया तो तुझे पता था?गीता हंस कर बोली- साली मुझे भी ऐसे ही दर्द हुआ था. एक दिन मैं उनके घर गया था तो मैंने हिम्मत की और उन्हें अकेला पाकर उनके बूब्स दबा दिए.

फिर जैसे उसने समझा कि उसके हाथ कहाँ हैं उसने तुरंत हाथ हटा कर अपनी आँखों को हाथों से बंद कर लिया.

हरियाणी बीएफ व्हिडिओ: दूसरे लंड की चाहत में जब मुझसे बिल्कुल भी कंट्रोल नहीं हुआ, तो मैंने नेट पर एक कॉलब्वॉय को सर्च किया. उसने अपने जिम ट्रेनर को बोल कर अपनी गांड को बड़ी, गोल और सुडौल करने वाली एक्सर्साइज़ करनी शुरू कर दी थी.

बॉस ने जब पेटीकोट पूरा ऊपर कर दिया तो नीचे मेरी बीवी की गुलाबी रंग की पेंटी नजर आने लगी. पापा ने भइया को जोर से थप्पड़ मारा और कहा- तेरी बहन घर में चुद रही थी और तू बाहर बिस्किट खा रहा है, पागल बेशरम कहीं के. फिर करीब 4 बजे जब मेरी नींद खुली, तो मेरा लंड अभी भी भाभी की चुत में ही था.

पर कोई रंडी कैसे सील पैक हो सकती है? अगर सील पैक होती तो इसकी नथ उतारने की डील हुई होती.

मैंने कहा- आप चाहो तो थोड़ी मालिश कर दूँ?भाभी बोली- अगर आपको बुरा न लगे तो कर दो, वही ठीक रहेगा. उसकी टांगों को फैलाया और अपने लंड को हिला कर हल्का सा प्रीकम उसकी चूत पे लगा दिया. मैं फौजी हूं और एयरपोर्ट रोड पर ग्रीन फील्ड में अपने एक दोस्त के साथ किराये पर रहता हूं.