ट्रिपल स्टार बीएफ

छवि स्रोत,कुत्तों के साथ लड़कियों की बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ फिल्म वीडियो पंजाबी: ट्रिपल स्टार बीएफ, ”प्लीज… गौरी यह दर्द तो बस थोड़ी देर का है पर वह आनंद तो हमें कितना रोमांच से भर देता है तुम अच्छे से जानती हो.

ट्रिपल एक्स बीएफ सेक्सी बीएफ

मैंने गाड़ी एक शेड के नीचे रोक दी और वहां पर रुक कर बारिश रुकने का इंतजार करने लगे. कंडोम वाली बीएफ सेक्सीरोहन- कोई बात नहीं … मैं बस यही सोच रहा था कि आपने मुझे मैसेज करने से मना क्यों किया.

लेकिन वो कहानी फिर कभी और सुनाऊंगा।आजकल मेरे लन्ड को मेरी साली पसंद आ गयी है।आपको अपनी साली के बारे में बताता हूं: कजरारे नैन, मस्त मस्त गोल गोल चूचे … मन करता है कि निचोड़ कर पी जाऊं!और मेरी साली की उठी हुई गांड!आह्ह …मेरी साली भी शादीशुदा है. ब्लू बीएफ सेक्सी ओपनइस खबर को मैंने अपनी साली से छुपा लिया और दारू के पैग लगाते हुए सोचने लगा कि स्थिति को कैसे संभाला जाये.

मैंने रोका भी लेकिन वो नहीं रुकी!मैंने उषा को कहा- तुम्हारी चूत से मेरा वीर्य गिरता हुआ गया था.ट्रिपल स्टार बीएफ: इस तरह मैंने अपनी शरीफ दिखने वाली चाची को अपना लंड दिखा कर और चोद कर अपना बना लिया.

हमने एक दूसरे को बांहों में भर लिया और होंठों को सटा करके स्मूच करने लगे.फिर वो पूछने लगी- औरत की चूत चुदाई के बारे में कहां से सीख कर आया है?मैंने कहा- पोर्न सेक्स वीडियो देख कर सीखा है बुआजी.

सेक्सी बीएफ इंदौर - ट्रिपल स्टार बीएफ

दोनों ने तौलिया हटा कर मेरी चूत को चूम लिया और दुबारा जल्दी ही मिलने को बोला.मुझे विश्वास ही नहीं हो रहा था कि मैं इतने समय तक रुक पाऊंगा … क्योंकि ये मेरा पहली बार था.

कहानी का पूरा मजा लेने के लिए नये पाठकों को यह सब जानना जरूरी हो जाता है. ट्रिपल स्टार बीएफ कुछ पल बाद गाड़ी जैसे ही वापस चली, सामने वाले ने उठ कर डिब्बे का मुआयना किया.

मेरी चूत फट गई क्या? घबराहट सी होने लगी क्योंकि असलियत तो मैं जानती थी कि मेरी सील इसने नहीं तोड़ी, मैं तो चार पांच बार चुद चुकी हूं.

ट्रिपल स्टार बीएफ?

जॉली रिया के नरम और नाजुक होंठों पर अपने सख्त लौड़े के टोपे को बड़ी धीरे से फेरने लगा. उम्मम्मम …”सश्सस स्स्स्स …”मेघा कितनी प्यारी खुशबू है!”उम्म्म्म सश्सस स्स्स्स … अअअअअ सर … कुछ हो रहा है!”सर की जीभ मेरी चूत के अंदर जा रही थी. जैसा कि आप सब जानते है कि भले ही ये पोज़ इंटरेस्टिंग है, पर इस पोज़ में थकान भी जल्दी लगती है और हुआ भी वही.

यहां यह बताना जरूरी होगा कि हमारे साथ हमारी बीवियां निहायत उत्तेजक लग रही थीं. चूंकि उसका पति तीन दिन के लिए बाहर जाने वाला था तो वो भी अपना कोई शिकार तलाश रही थी. रात को 2 बजे करीब मनोज ने आकर उसे दबोच लिया, वो सेक्स के मूड में था पर दीपा ने उस से कहा कि कल सतपुड़ा में जम कर सेक्स करेंगे, अभी सो जाओ, तुम्हें ड्राइव भी करना है.

श्वेता दीदी- तुम्हें घर में क्या दिक्कत है?दीदी- कोई ने देख लिया … तब क्या होगा. उसने मेरे लंड को बहुत मस्त तरीके से चूसा, मुझे तो जन्नत का मजा मिल रहा था. जीजा कहने लगे कि अगर तूने आज इनको खुश कर दिया तो मैं वादा करता हूं कि तेरी शादी आशीष के साथ करवा दूंगा.

मैंने शान्ति भाभी को अपनी बाहुपाश में भर लिया और कुछ पल यूं ही एक दूसरे को महसूस करने के बाद मैं भाभी के पास से हट गया. मैं मेम की गांड को ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा और उनकी चूत में जीभ डालकर चूसने लगा.

वहां उन्होंने कमरा लिया हुआ था क्योंकि वे वहीं से लोड उठाते और आगरा की तरफ या उसी साईड ही ज्यादा जाते.

फिर चुदाई के बाद मेरे सर के बाल को सहलाते हुए भाभी बोलीं- मेरा विद्यार्थी कुछ ज्यादा ही तेज है … सभी पाठ तुरंत याद कर लेता है.

मैंने अपना हाथ पीछे घुमा कर उसकी चूत में उंगली दे दी और उंगली से उसकी चूत चोदने लगा. अभी मेरे लंड का सुपारा ही गांड में गया था कि मेम ‘उह आह मर गई …’ करते हुए चिल्लाने लगीं. तुम बाद में शिकायत मत करना कि मैंने अपनी चूत गैर मर्दों से चुदवा ली.

आखिरकार चाची का सच सामने आ ही गया था और उन पर सेक्स हावी हो ही गया था. मैंने उसे पीछे बिठा लिया और चलने लगा। कई बार बीच में ठोकर आने की वजह से वो उछल कर मेरे पास ही सरक आई थी. मैं- अच्छा तुम उसके साथ सेक्स करना चाहते हो … लेकिन तुम्हारा खड़ा तो होता नहीं है … कैसे करोगे और किसके साथ करोगे.

अब मन तो उसका भी करने लग गया था पर वो अपनी तरफ से कुछ नहीं बोलती थी.

मैं इससे ज्यादा चुदाई करवाने की हालत में नहीं थी क्योंकि मेरी चूत और गांड दोनों ही सूज गई थी. हम दोनों झगड़ जरूर गए थे … मगर हम दोनों की मस्ती अभी भी कम नहीं हुई थी. सोनिया- हाय तो मेरी चूत में उंगली डालकर रब करो ना … मेरा दाने और दूसरे हाथ से मेरी चूचियों को दबाओ जानू.

उसके बाद उसने कहा कि मुझे जाना है क्योंकि मेरे बेटे के स्कूल से आने का वक्त हो गया है. मैंने लेडी बन कर ही उसको बताया कि वो लड़का तो अहमदाबाद में रहता है. मैंने अपनी किताब एक तरफ रख दी और हम दोनों करीब 1 घंटा बातें करते रहे.

कहानी पर अपने विचार देने के लिए नीचे दी गई मेल आई-डी का प्रयोग करें.

उसी वक्त उसने एक धक्का मार दिया और उसका आधा लंड मेरी चूत में घुस गया. मुझसे बोले- कभी किसी भी चीज की जरूरत हो तो मुझे कह देना शर्माना मत.

ट्रिपल स्टार बीएफ भाभी जी पूछने लगीं- मिस्टर आप यहां कैसे?मैंने कहा- भाभी जी मेरा नाम मिस्टर नहीं बल्कि करन है … और मैं तो इसी होटल में रुका हूँ. कुछ पल बाद कौसर मेम बोलीं- शकील यार क्या कर रहे हो … अब डाल भी दो ना … अपने इस मूसल को … मेरे राजा जी जल्दी से चोद दो … मुझसे रहा नहीं जा रहा है.

ट्रिपल स्टार बीएफ उसने मेरे लोअर के इलास्टिक को खोलते हुए अपना हाथ अन्दर घुसा कर मेरी चूत को सहला दिया. ये देख कर वन्दना बोली- वाह दीदी, आपके सन्तरे तो बड़े ही गए।नीरू- बड़े नहीं होंगे तो और क्या होंगे? तेरे ये जीजू इन्हें क्या कम मसलते और चूसते हैं।मैं- नीरू, अब तुम वन्दना को बिल्कुल नंगी कर दो और खुद भी नंगी हो जाओ।नीरू ने ऐसा ही किया.

वहां से मैं उसकी पैंटी के पास आ पहुंचा और दांत से पेंटी को खींचते हुए उसके शरीर से अलग कर दिया.

अरबी ब्लू फिल्म

उसने अपना माइक्रोवेव यहीं रख लिया था ताकि जो स्नैक्स गर्म सर्व होने हों वो हाथ की हाथ गर्म होकर सर्व हो जाएँ. फिर विराम देने के बाद मैंने राखी की गांड में लंड को हिलाना शुरू किया. मुझे मालूम था कि चाची जी शाम को फिर से खाना बनाने के लिए आने वाली थीं.

मेरे पति के फौजी लंड ने भी पच-पच की आवाज के साथ मेरी चूत को बजाना शुरू कर दिया. अबकी बार मेरे लंड का टोपा उसकी चुत में घुस गया और इसके साथ ही यशिमा की चीख निकल गई. रोहित संजू की चूत में लंड घुसाये हुए ही उसके पेट पर बैठ गया और अपने कमर को आगे पीछे करने लगा.

तो चाची बोलीं- क्या बात है लाड़ले … अभी भी दिल नहीं भरा क्या? इतनी जबरदस्त चुदाई करने के बाद भी तू जोर लगा रहा है … मेरा तो एक एक अंग डोल गया है.

मैंने फिर से जोर लगाया और अपने लंड अन्दर डाला … अब उन्हें तकलीफ नहीं हुई. उस दिन मैंने स्लीवलेस टीशर्ट और जीन्स पहनी हुई थी, अंदर ब्रा और पैंटी दोनों थी. मैं तुम्हें नहीं बता सकता कि मैं कितना खुश हूं और मेरे लिए तुम्हारा ये मैसेज कितना कीमती है.

फिर बॉस और विनय दोनों ने खड़े होकर मुझे अपने हाथों में उठा लिया और मुझे उछाल उछाल कर मेरी चूत गांड को फाड़ना शुरू कर दिया. जेठजी समझ गए कि मेरी नज़र क्या ढूंढ रही हैं, इसलिए उन्होंने अपनी दोनों टांगों को थोड़ा और खोला और आराम से बैठ गए. मैंने कहा- नहीं तो, मैंने क्या झूठ बोला तुमसे??उसने कहा- बिल्कुल बोला है, तुमने कहा था कि तुम कभी भी किसी लड़की के साथ रिलेशन में नहीं रहे हो.

कहानी को आगे लिखूँ, इससे पहले मैं खुद के बारे में बता दूं, मेरा नाम शरद (बदला हुआ नाम) है. इतने दिनों से लंड न मिलने से हुआ ये कि कुछ दिन बाद मेरी चुत में आग लगने लगी थी.

मैंने और जोर लगा कर धक्का मारा तो उसकी चूत में लंड का सुपाड़ा घुस गया. डिनर लेते समय अचानक सुनील बोला- ये सतपुड़ा हिल्स कितनी दूर हैं?मनोज ने बताया कि 5-6 घंटे का रास्ता है. अब मेरा पानी निकलने वाला था, मैंने नीरू को बताया तो वो दोनों मेरे ऊपर से उठ गई.

मेघा, तुम बहुत सुन्दर लग रही हो! आँखें खोलो अपनी!”नहीं सर, मुझे शर्म आ रही है.

वैसे किसी भी व्यक्ति का खुलापन या झिझक उसके जीवनकाल में पाए अनुभवों या माहौल का ही नतीजा होता है. अलमारी सेकॉन्डोम निकाल के दिया और बोला- बिना कॉन्डोम के सेक्स मत करना. आप सभी के द्वारा अपने लंड हिलाने और चुत सहलाने के बाद मिलने वाले सुकून से आपकी दुआओं के जरिए मुझ तक आपका प्यार पहुंच जाएगा.

मैंने भाई की निक्कर की जिप को खोल कर उसका लंड बाहर निकाल लिया और उसको मुंह में लेकर मजे से चूसने लगी. उस समय मैं तो उनके यहाँ होने वाली पार्टी में अच्छा खाना खाने के लिए गया था.

इस दौरान चूंकि मैं चाची की चुत में भी उंगली कर रहा था, तो उनका भी 2 बार काम हो चुका था. क्योंकि हम पार्क में काफी अन्दर घुस कर बैठे हुए थे … इस बात से सबा भी निश्चिंत होकर मेरे साथ लगी हुई थी. बस इसी बीच सारिका ने मुझे यशिमा के बारे में बताया कि उसने लव मैरिज की थी, पर उनकी शादी के 4 साल बाद ही दोनों में तलाक हो गया.

हिंदी देसी भाभी

मैं बोला- खा भी जाना … लेकिन अभी तो कुछ करो … मेरा तो पेन्ट फाड़ कर बाहर आने की कोशिश कर रहा है.

चूंकि मैं पहले से ही उत्तेजित थी और संदीप के अहसास ने मुझे और गर्म कर दिया. विराट ने मुझे वापस बिस्तर पर धकेला और 69 के पोज़ आकर मेरे मुँह में अपना लंड और मेरी चुत अपने मुँह में ले ली और चाटने लगा. इस पर उसने कहा कि पर मैं तुम्हारी बहन लगती हूं … शायद ये सब ठीक नहीं है … ये पाप है.

खाना गर्म करने के बाद मैंने फिर से रसोई से झांक कर देखा, पर अभी भी जेठजी नहीं दिखे. लेकिन इस बार भी मैं एक बार फिर झड़ गई और कुछ देर बाद इनके बॉस भी झड़ गए और सारा पसीना पसीना हो गए. बीएफ एचडी यूट्यूब चैनलमेरी चुदाई की कहानी के पिछले भाग में आपने अभी तक पढ़ा था कि कुछ हालत और कुछ शरीर की जरूरतों के वजह से मैं और जेठजी रसोई में ही चुदाई का मज़ा लेने लगे थे और जेठजी मुझे कई आसनों में चोदने के बाद अब अपनी गोद में उठा कर चोद रहे थे.

इतने भी बेरहम न बनो जी!वो बोले- क्या मेरा लंड लेने के लिए मेरी बीवी की चूत मचल रही है?उनकी बात पर मैंने कहा- मचल नहीं रही, बहुत बुरी तरह से तड़प रही है. मेरी चुदाई की कहानी के पिछले भाग में आपने अभी तक पढ़ा था कि कुछ हालत और कुछ शरीर की जरूरतों के वजह से मैं और जेठजी रसोई में ही चुदाई का मज़ा लेने लगे थे और जेठजी मुझे कई आसनों में चोदने के बाद अब अपनी गोद में उठा कर चोद रहे थे.

कुछ ही पलों में वो अपनी चूत को सिकोड़ने लगी थी और पूरी तरह से मेरे लंड पर बैठ कर अपनी गांड मटकाने लगी. इससे वो पूरी तरह से मदमस्त हो चुकी थी और गांड उठा उठा कर साथ दे रही थी. उसके घर का बाहर का गेट खोला तो वो सामने खड़ी थी, मेरी पसंदीदा रंग की गहरी नीली साड़ी में.

बीच बीच में मैं उसको कमर से खींच कर अपने लंड का दबाव उसकी चुत पर भी डाल रहा था. अब वो अपने पैर को फैलाने लगी थी … जिसका फायदा उठाते हुए मैंने अपना एक हाथ उसकी फुद्दी पर रख सहलाना शुरू कर दिया. ” (अपनी रंडी को चोदिए मेरे मालिक)उम्मम हम्मम्म यसस … आहहहह फ़क मी लाइक होर.

एक सामने से मेरे लंड को सहलाते हुए मेरे होंठों को चूस रही थी और दूसरी पीछे से अपने चूचों को मेरी पीठ पर सटाये हुए मेरी गर्दन को चूमते हुए मेरे लंड के नीचे मेरी गोलियों को सहला रही थी.

पर दोस्तो, सबको पता है ना कि डॉगी स्टाइल में लड़के की पकड़ अच्छी होती है. सभी नाचने में लगे थे, तभी कुछ लोगों ने ज्यादा खुश होते हुए शोर करना शुरू कर दिया और कुछ लोग फार्म हाउस के एक रूम की तरफ लपके.

रिया के बूब्स जॉली के पीठ से दब गए और रिया के होंठ जॉली के गले से चिपक गए. मैंने कहा- कोई बात नहीं!और फिर:क्या मैं तुम्हें किस कर सकता हूँ?”ठीक है … कर लीजिये!!”और रीतेश सर मुझे बेड पे बिठा के चूमने लगे. उसने भी मस्ती में कहा- आपका ये दीवाना थोड़ी देर में आपकी खिदमत में हाजिर हो जाएगा जानेमन.

इतने में भाभी की चुत ने पानी छोड़ दिया और वो निढाल होकर बेड पर गिर गईं. मैंने कहा- कोई बात नहीं!और फिर:क्या मैं तुम्हें किस कर सकता हूँ?”ठीक है … कर लीजिये!!”और रीतेश सर मुझे बेड पे बिठा के चूमने लगे. मैंने धीरे धीरे करके अपना आधा लंड उनकी गांड में डाल दिया और फिर 5 मिनट रुक कर इन्तजार करने लगा.

ट्रिपल स्टार बीएफ घटना जो मेरे साथ हुई उसको मैंने अपने पाठकों को रीयल हिंदी सेक्स स्टोरी के रूप में बताने का सोचा. वो कहानी यहाँ पढ़ें:दोस्त की बहन को चोदालेकिन अभी दो ढाई महीने से हमारी मुलाकात नहीं हुई थी.

హిందీలో సెక్స్ వీడియోలు

सोनिया- तुम्हें ज्यादा इंतजार तो नहीं करना पड़ा?रोहन- नहीं बस 20 मिनट. इसके बाद विक्की को भी कॉल करके यही सब बोल दिया और कह दिया कि आज के बाद तुम दोनों मुझे दिखना भी नहीं. कुछ देर बाद मेरे बीवी ने मेरा बांया हाथ पकड़ कर अपने खूबसूरत फूली हुई चूत पर रखकर मेरा हाथ चूत पर दबा दिया.

मैंने फिर से जोर लगाया और अपने लंड अन्दर डाला … अब उन्हें तकलीफ नहीं हुई. फिर जब मुझे बरामदे की लाईट बंद होने का आभास हुआ, तो मैंने अपनी जगह से उठ कर खुद को आश्वस्त किया और अपने कमरे का दरवाजा बंद करके बिस्तर पर चली आई. सेक्सी बीएफ पोर्न मूवीचाची मेरे लंड को जोर जोर से रगड़ने लगीं और बोलीं- मैं तो कल ही मोहित हो गई थी तेरे इतने मोटे लंड पर, मैंने आज तक इतना मोटा लंड कभी नहीं देखा … अब तक कहां छिपा रखा था इस खजाने को.

वो मुझसे इस तरह चिपकी हुई थी कि उसके दूध मेरे सीने में दबे जा रहे थे।कुछ देर इस तरह चोदने के बाद मैंने उसे दीवार से सटा कर पेट के बल खड़ा कर दिया, अब उसकी गांड की तरफ से उसके चूत में लंड डाल कर उसकी चुदाई किये जा रहा था.

मैं बस इंतजार कर रही थी उनका लंड अपनी चूत में लेने का।बॉस ने मुझे ऐसे ही किस करते करते मेरी चूत में लंड डाल ही दिया. मैं और मम्मी शैली के पास गए। मम्मी ने उसकी चोली और ब्रा उतार दी और मैंने उसका लहंगा। पैंटी पहले ही उतरी हुई थी।मम्मी ने उपिन्दर से कहा- लीजिए दामाद जी, ये नई ताज़ी दुल्हन पूरी नंगी आपके लिए तैयार है, इसका भोग लगाइए.

”ओह… फिर?”उन्होंने डॉक्टर से पूछकर मुझे पीने के दवाई और टेबलेट्स लाकर दी हैं. अब सुनील के पैर दीपा के पैरों को सहला रहे थे और सुनील बार बार अपनी चम्मच से दीपा को कुछ न कुछ खिला रहा था. वो हो गई, तो रोहित उससे सट कर संजू की तरफ करवट बदल कर लग गया और उसने मेरी बीवी की चूत में लंड को फिर से घुसा दिया.

जब मैं बाहर आई, तो मयूर मुझे देख कर दंग रह गया और धीरे से बोला- ऊम्म … आहह … मेरी तृप्ति को किसी की नजर ना लगे.

लेकिन जालिम मर्द को मेरे दर्द के साथ जरा भी सहानुभूति नहीं हो रही थी. अब तो हम दोनों जॉब की वजह से अलग हो गए हैं, लेकिन छुट्टियों में हम दोनों किसी न किसी जगह घूमने जाते हैं और गांड चुदाई का मज़ा लेते हैं. तब तक ससुर तेल की बोतल लेकर आ गए और मैंने ढेर सारा तेल अपने मोटे लंड पर लगा लिया.

बीएफ वीडियो रिकॉर्डअब डॉक्टर ने कुछ सोचा और बोली कि हम तीनों ही साथ मिल कर पीयेंगे और खायेंगे. पोर्न वीडियो में भी गांड चुदाई के सीन देखते हुए मैं काफी उत्तेजित हो जाता था.

इंडियन चुदाई सेक्सी

वे बहुत प्यार से वो मेरी बुर को चाटने लगे।मेरी आँखें अपने आप बंद होती चली गई, मुझे पहली बार स्वर्ग सा आनन्द प्राप्त हो रहा था। मेरे मुँह से अपने आप ‘सी सी’ की आवाज निकलने लगी, मेरी पूरी बुर चिपचिपे पानी से सराबोर हो गई. उनका लंड नीचे से कमाल दिखा रहा था और वो ऊपर अपने हाथ और मुँह से मुझे मजा दे रहे थे. उसने कहा- बिटिया बिना दूध पिये ही सो गई है, मैं उसको दूध पिला दूँ अगर उसने पी लिया … तो हम आधी रात तक फ्री हैं.

मैं भी उसके चूचे देखने के लिए एक्साइटेड हो रहा था लेकिन उसके लिए मुझे उसको पहले गर्म करना था. इसके अलावा भी बहुत कुछ पता है।मैं कुछ समझ नहीं पा रही थी कि ये कौन है।तभी वो बोला- यार, मैं रोहित हूँ। भूल गयी क्या?मैं सोचने लगी कि कौन रोहित!तभी वो बोला- यार, हम एक ही कॉलेज में पढ़े हैं।तभी मुझे याद आया कि ये तो मेरे कॉलेज में पढ़ता था और मेरा सेक्स पार्टनर था।वो फिर बोलने लगा- न जाने कितनी रात हम लोगों ने साथ गुजारी हैं। इतनी जल्दी भूल गयी?फिर मैं बोली- ओह … तुम रोहित हो!मैंने भी ख़ुशी से पूछा. अन्तर्वासना पर मेरी यह पहली कहानी है अगर कोई गलती हो तो दिल पर मत लेना.

अगर तुम चाहो तो हम इस खेल का और खुल कर मजा लेते हैं। बहुत मजा आयेगा।”मैं बोली- नहीं, मुझे डर लग रहा है! ये सब नहीं।वो बोले- अरे कुछ नहीं होगा … तुम्हें चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है।मैं चुप ही रही और वो मेरी सहमति पा गये थे।अगली ही सुबह वो अपने किसी दोस्त से फोन पर बात कर रहे थे. उस समय भाभी के गेट के बाहर ही कई कुत्ते थे और एक कुत्ता कुतिया पर चढ़ कर उसको चोद रहा था. मेरी बीवी ने रोहित के लंड को धीरे धीरे अपने मुँह में ले लिया और लंड चूसने लगी.

इससे पहले के भाग में आपने पढ़ा कि मेरे यार आशीष ने मेरे साथ फोन पर बात की तो मैंने उसे सारी बात बता दी. मेरी फ्रेंड समझ गयी और बोली- क्या प्लान है?मैं बोला- कुछ नहीं यार … मैं तो तेरे से मिलने आया हूँ.

घर के माहौल के कारण और अपने नेचुरल स्वभाव से मैं बहुत रोमैंटिक लड़की हूं।मेरी फिगर का साइज है 32-26-36.

उसके बाद उसने फिर से इशारा किया और अबकी बार मैंने पूरा जोर लगा कर लंड को गांड के छेद पर धकेल दिया. बाप बेटे की सेक्सी बीएफमैं- तो!दीदी- तो … तू जल्दी से खाना खा कर सो जा … सुबह जल्दी जागना भी है. लड़कियों वाली सेक्सी बीएफदोस्तो, आपका स्वागत है मेरी रीयल सेक्स कहानी के दूसरे भाग में।कहानी के पहले भागजवान लड़की की सेक्स कहानी-1में आपने पढ़ा कि किस तरह मैंने पूजा और सुखविन्दर की चुदाई का कार्यक्रम बना दिया. घूम फिर के वे लोग थक गए तो एक रेस्तरां में डिनर लिया और होटल वापिस.

उसने मेरा पूरा पानी पहले तो अपने मुँह में ले लिया, लेकिन बाद में उसने सारा लंड रस बाहर थूक दिया.

उसका लंड जब मेरी गांड में अंदर बाहर हो रहा था तो मुझे भी मजा आने लगा था. इस खबर को मैंने अपनी साली से छुपा लिया और दारू के पैग लगाते हुए सोचने लगा कि स्थिति को कैसे संभाला जाये. पर मैं अपने दिल की बात जेठजी को कैसे कहती इसलिए मैंने सोचा कि चलो जेठजी को कुछ हिंट दे दी जाए, शायद वो समझ जाएं.

उसकी एक बात बहुत ही अच्छी थी कि वो और मेरे पति आपस में बहुत ही अच्छे दोस्त थे, तो मयूर कभी भी हमारे घर आ जा सकता था. जब मैं उसके घर के बाहर पहुंचा, तो मैंने इधर उधर देखा और उनके घर के कंपाउंड में दाखिल हो गया. फिर श्वेता दीदी दीदी को छेड़ते हुए बोली- ऐसे भी तो सब खोलना ही पड़ेगा … कुछ भी पहन लो.

সেক্সি বিএফ ফিল্ম

जब तक मैंने सलाद में मसाला मिलाया, तब तक मेम ने खाना भी टेबल पर सजा दिया. जिस दिन हमको मिलना था तो उस दिन मैं तो सुबह से ही वहां पर पहुंच गया था और उसके आने से पहले उसने जो फोटो व्हाट्स पर भेजी हुई थी उसी को देख कर मैं मुठ मार चुका था. उसने भी मेरी टांगें उठाईं और दो तीन झटकों में लंड चूत में उतार दिया.

अब आगे की पोर्न हिंदी स्टोरी का मजा लें:नीलम दरवाज़े की आवाज़ को सुनकर अपने ससुर से अलग हो गई और जल्दी से अपनी साड़ी को उठाकर अपने जिस्म को आगे से ढक लिया।बापू जी आप भी न … दरवाज़ा तो बंद कर लेते! आप को पता है जब हम दोनों साथ में होते हैं तो टाइम कितनी जल्दी आगे बढ़ता है.

ये तो तब मालूम पड़ा, जब भाभी की भाभी ने उन्हें कहा और मुझसे बात करने को मुझे बुलाया.

पैंटी निकलते ही मेरी चूत पर ठंडी हवा लगने लगी और मैंने उसको अपने हाथों से छिपाने की कोशिश की. शादी और बच्चा होने के बाद उसकी जवानी ऐसे खिल गई थी जैसे गुलाब की कली फूल बन गई हो. बीएफ xxxxxनित्या- उह्ह … ह्म्म्म आअह ह्हह … हम्म्म म्मम … आई … मर्रर्र … गईईई मैं आ … रहीई … हूँ … ओह्ह्ह … ह्म्म्म … और … उह्ह … ह्म्म्म्म … अब और मत तड़पाओ जानू.

जब मैं उनके कपड़ों के पास पहुंचा तो वापस आते हुए भाभी ने मुझे देख लिया. सामने संजय का लौड़ा तो फनफनाते ही जा रहा था और दूसरी तरफ संदीप का लंड पैंट में ही फुंफकारने लगा था. ” इतना कह कर ज्योति ने जल्दी से अपने बाप के लंड को चूम लिया और फिर कुतिया बन गयी.

घर के माहौल के कारण और अपने नेचुरल स्वभाव से मैं बहुत रोमैंटिक लड़की हूं।मेरी फिगर का साइज है 32-26-36. तभी ज़ायरा कहने लगी कि ट्रेन का टिकट कैंसिल कर दो यार आज और रुकने का मन है.

मैं बोली- मैं बहुत किस्मत वाली लड़की हूं कि मुझे तुम जैसा ओपन माइंडेड बॉयफ्रेंड मिला है.

वो गर्मागर्म आहें भरते हुए कहने लगीं- आह अनिकेत प्लीज … मेरी चुत की प्यास बुझा दो. ऐसे ही चुम्मा चाटी करते हुए स्कूल पूरा हो गया लेकिन हम कभी चुदाई नहीं कर पाए. उसके दिमाग में केवल यही विचार आते थे कि कैसे अंकित उसके शरीर के ऊपर आकर उससे प्यार कर रहा था.

1 साल की लड़की की बीएफ फिर आंखें खोलते ही उसने मुझे देखा मेरी नजरें उसके छिपे लंड पर ही गड़ी हुई थीं. ‘आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… चोद दो मुझे प्लीज़ … मुझे चोदो और मत तड़पाओ.

बॉस ने आंखें खोल कर देखा, विनय नीचे बैठ कर मेरी गांड को मन लगा कर चाट रहा था. इसके बाद उसने मेरे घर पर काफी बार आकर मेरी चुदाई की, मुझे उसके साथ बहुत मज़ा आता था. तब से वह समीर से नफरत करने लगी है जिस का कुछ फ़ायदा मैं उठा रहा हूं.

राजस्थानी बीपी सेक्स

’ से खेलकर?सोनिया- तुम्हें अच्छे से पता है … मैं किसकी बात कर रही हूंरोहन- नहीं जान … प्लीज खुल कर बताओ ना. अब अंदाजा लगा सकते हैं कि ब्रा और पैंटी जो पहले से औरत के जिस्म में गड़ी हुई हो तो वह भीगने के बाद किस तरह से उसके चूचों और गांड को सबके सामने उभार दे रही होगी. पर मनोज ने अपना हाथ उसके टॉप के अंदर कर दिया और अब वो उसके निप्पल तक पहुँच गया था.

उफ़ क्या हसीं चेहरा, उसको देखते ही लगा कि ‘हाँ यही तो है वो जिसे मेरा दिल ढूंढ रहा है. बिना किसी समस्या के और बिना अपनी पहचान बताने के साथ ही किसी और की पहचान बताये बिना भी अपनी बात रख सकते हैं.

अगले दिन हम दोनों ने प्लान बनाया कि बाहर चलेंगे घूमने … फिल्म देखेंगे, शॉपिंग करेंगे.

दोस्तो, मैं माफ़ी चाहती हूँ मैं आपको हमारे शहर का नाम नहीं बता सकती हूँ आप मान लीजिएगा कि मैं इंदौर से हूँ. ज़ायरा ने मेरी शर्ट उतारी और अपने मम्मों को मेरी छाती पर रगड़ने का मजा करवा रही थी. मैंने उनकी मैक्सी हौले से ऊपर करके उनकी घुंडियों को चूमने लगा, तो तब वो पागलों के जैसे तड़पने लगी थीं.

उसकी गांड को अच्छी तरह से देखा और जांचा कि गांड कहां-कहां से और कितनी फटी हुई है. फिर वो बोली- मुझे आज तुम्हारे लंड की सैर करनी है जानू … मुझे अपने लंड की सवारी करवा दो।मैंने कहा- हां मेरी जान … अभी करवाता हूं. कुछ देर बाद मैंने अपना लंड गांड से बाहर निकालकर गांड में थूक दिया और फिर से लंड को गांड में डाला, तो मेरा आधा लंड आराम से अन्दर चला गया.

आप सभी को मेरी और मेरी माँ की चुत चुदाई की कहानी कैसी लगी, प्लीज मुझे मेल करना न भूलें.

ट्रिपल स्टार बीएफ: पीछे की तरफ हमारे रहने का मकान था और बीच में खाली जगह और आगे वाले हिस्से में किरायेदार रहते थे. अब वो चूचों से हट कर नीचे पेट को किस करता हुए नीचे पैंटी की तरफ जाने लगा.

बेझिझक होकर मैं उनके बच्चों को बताता कि कुछ विषय को याद करने में गाली शब्द को भी बीच में डाल लो, जल्दी याद आ जाएगा. बाक़ी बीस प्रतिशत भी इतनी अधिक मनोरंजक होती हैं कि लंड खड़ा हो ही जाता है. मेरी छोटी बुआ बड़ी वाली से कह रही थी- अगर मीना हमारे पप्पू को पटा ले तो मैं भी अपने भतीजे से अपनी चूत की चुदाई करवा लूं.

सबसे पहले हम अपने पार्टनर के साथ ही डांस करेंगे और एक तरह से उससे इस मस्ती की परमिशन लेकर जल्दी जल्दी अपने पार्टनर्स बदलेंगे.

मैं उसके पास बैठ गया और मैंने उसकी आंखों में आंखें डालते हुए कहा- मतलब तुम्हें भी सेक्स पसंद है. ऐसा कहते हुए अभय ने अपने लन्ड का सुपारा ताकत लगा कर मेरी चूत में अंदर करना शुरू कर दिया. मैं उठ कर खड़ा हुआ और उन्हें नीचे लेटा कर उनकी गांड के नीचे एक तकिया लगा दिया.