बीएफ फिल्म चलते हुए

छवि स्रोत,इंग्लिश वाली ब्लू फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

भाई बहन के बीएफ सेक्स: बीएफ फिल्म चलते हुए, मुझे बहुत गुस्सा आया और थोड़ा कड़क आवाज में बोला- क्या यार ऐसा क्या हो गया?भाभी- तुम्हारा लंड बहुत मोटा और बड़ा है.

झांट वाली चूत

मैं इन सबकी बात इसलिए मान रही थी कि आज अपनी मन की करने के बाद शायद ये लोग मुझे भविष्य में परेशान न करें. सेक्स अश्लील वीडियोस्कूल की बारहवीं कक्षा की छात्रा सीमा को पेशाब लग आई थी तो वह बाथरूम में चली गई थी.

रेणु मेरे दोस्त की सैटिंग थी तो मेरे घर आ गई और वो दोनों मेरे घर में दूसरे कमरे में जाकर बातचीत करने लगे. एक्स एक्स एक्स मुसलमानहालांकि दूसरी तरफ मैं खुद भी इन हरामियों के लंड से चुत चुदवाने का मजा लेने लगी थी.

मेरा मन कर रहा था कि अंकल का लंड मुँह में ले ही लूं लेकिन अंकल बूब्स को चोद रहे थे.बीएफ फिल्म चलते हुए: फिर मैंने उनके बूब्स को दबाते हुए उनकी नाभि पर किस किया और नाभि पर किस करते हुए उनकी चूत के पास आ गया.

अपने एक हाथ को मैं उसकी छाती पर फेरने लगा, जिससे वो और भी ज़्यादा गर्म हो गई थी.दीदी भी पूरे जोश में थी और अपनी टांगें फैलाकर आराम से पूरा का पूरा लंड अपनी चूत में अंदर बाहर होने दे रही थी.

सेक्सी रंडी चुदाई - बीएफ फिल्म चलते हुए

मैं इस वक्त खुद को औरत महसूस कर रहा था जो मुझे बहुत आनन्द दे रहा था.वो सेक्स कहानी बाद में लिखूँगी लेकिन आपको ये क्रॉसड्रेसर गे स्टोरी कैसी लगी, वो जरूर बताना.

संभव फिर से मेरे मम्मों को चूसने लगा था और चूत में उंगली करने लगा था. बीएफ फिल्म चलते हुए मैं उसको मनाने लगा तो वो बोली- उतारो मत!मैंने कहा- उतार नहीं रहा, बस थोड़ी नीचे करके एक बार किस करूंगा.

अब तेरे पर कोई पहरा नहीं है तू बिलकुल आज़ाद है। इधर आ मेरा पास!मैं जब उसके नजदीक गयी तो उसने अपने बगल में लेटे हुए आदमी की चादर हटा दी.

बीएफ फिल्म चलते हुए?

तभी एक 23-24 साल का युवक सांवला रंग, पतला दुबला शरीर, बस में सवार हुआ और मेरे बगल में खड़ा हो गया. मैं- अच्छा जी … बस प्यार की और चूमने की … अब सारे कपड़े उतार कर बस यही करना था?रवि- नहीं मेरी जान … अब तो बारी है सबसे बड़ी ख्वाहिश पूरी करने की. उनकी उम्र 34 साल और फिगर साइज 36 – 24 – 36 का है जो चोदने के समय सही से पता चला।वो एक खूबसूरत भरे बदन की महिला हैं जो किसी भी बुड्ढे का लंड भी खड़ा कर दे।जब वो काली पोशाक पहनती हैं तो कयामत ढा देती हैं।एक दिन जब भाभी चाय लेकर आई तो मैं नवाज़ को मैथ्स पढ़ा रहा था.

आप लोग महसूस कर सकते हैं कि एक औरत तीन मर्दों के बीच में कैसे फंसी हुई होगी … मुझे भी बस आज यही आनन्द महसूस और फील करना था. देसी हॉट टीन गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे दोस्त ने मेरी दोस्ती एक बहुत गर्म लड़की से करवाई. तुम मेरे साथ चलो और खुद अपनी आंखों से रमेश सर के हाथों और होंठों का कमाल देख लेना.

उसने अपनी जीभ निकाली और मेरे मोटे लम्बे लंड के टोपे को एक बार चाटा. मैंने भाभी के पैरों को दबाना शुरू किया और उनके पैर की उंगलियों से धीरे धीरे उनकी जांघों तक हाथ लाकर उनकी जांघें मसलने लगा. मैंने उसे देखा तो मेरी तो आंखें फटी की फटी रह गईं और मेरा लंड धीरे-धीरे फिर से खड़ा होने लगा.

उससे मेरी नजरें मिलीं तो वो हाथ के इशारे से मुझे थम्ब दिखा कर मेरी तारीफ़ करने लगी. देर तक चोदने के बाद मैंने खुद को मन ही मन बहुत रोका लेकिन अब मैंने अपने लंड का लावा उनकी चुत में डालने का मन बना लिया था.

जब जब मैं अपने हाथ से उसकी नाभि को सहलाता, उसकी चूत तक हाथ ले जाता, वो सिहर उठती और अपने आपको मेरी छाती में छुपा लेती.

समझ ही नहीं आता कि मैं कहां किससे क्या बोलूं कि मेरा क्या खो गया है, मेरी ज़िंदगी वीरान सी हो गयी है.

लंड का सारा माल चूत में छोड़ दिया और उसके ऊपर ही लेट कर उसको किस करता रहा. मेरी जीभ अब दीदी की चूत में अंदर भी जा सकती थी क्योंकि चूत खोलकर दीदी ने मेरी जीभ के लिए रास्ता दे दिया था. पर अब मैं नहीं रुका और जोर जोर से अपने फनफनाते हुए लंड के ताबड़तोड़ प्रहार करते हुए उसकी चूत को चोदने लगा.

उन्होंने मेरा एक पैर उठाकर अपने दोनों पैर के बीच ले लिया और अपना एक पैर मेरे दोनों पैरों के बीच में कर दिया. तो उसने क्या किया?मेरी कहानी के पहले, दूसरे भागोंपरिवार में बेनाम से मधुर रिश्तेमामा भानजी भाई बहन चुदाई स्टोरीमें आपने मेरे द्वारा अपने परिवार में रिश्तों में किये सेक्स कारनामों के बारे में पढ़ा. संभव ने कहा- हां क्यों नहीं … मुझे तो हफ्ते में कम से कम दो बार बिना सेक्स किए रहा ही नहीं जाता है.

जब दोनों काफी करीब आ गए, तो मैंने सीमा से रात में मिलने की बात कही.

मैं हमेशा से अपनी बहन को गंदी नज़रों से देखता आ रहा हूँ, वो है ही इतनी कमसिन कली कि किसी का भी लंड खड़ा कर दे. ये मेरे मेरे पड़ोस में रहने वाली सेक्स आइटम भाभी और मेरे बीच हुई चुदाई की कहानी है. अब मैं उसकी चुत के पास किस करने लगा तो उसने मेरा सिर पकड़ा और मेरा मुँह अपनी चुत पर दबा दिया.

मैंने एक सिगरेट सुलगाई और कश खींचा, तो भाभी ने मेरे हाथ से सिगरेट ले ली और कश खींचने लगीं. मैन टू मैन सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक आदमी ने एक चिकने पहाड़ी लड़के से शादी का नाटक करके उसकी गांड मार के सुहागरात मनायी. फिर घुटनों के बल बैठकर उसने अपना लंड सोनम की गांड के छेद पर रखकर हल्का धक्का दे दिया.

ये एक काल्पनिक दास्तान थी, जिसमें मैंने अपने मामा की शादीशुदा बेटी के साथ सेक्स किया था.

फिर मेरा टाइट लंड उसकी चूत के छेद पर रखकर उसकी चुत को भोसड़े में बदलना शुरू कर दिया. फिर भाभी बोलीं- अच्छा एक बात सच सच बताओगे?मैं- हां भाभी, एक क्या … दो पूछो.

बीएफ फिल्म चलते हुए एक तो मेरा वजन उसके ऊपर था और उसकी काफी दिनों बाद की चुदाई की वजह से टाइट चूत में मेरा मोटा मूसल लंड फंसा हुआ था. दिनकर- हां बेटा मैं भूल गया था … मैं इसी के लिए आया था, मगर तूने मुझसे पाप होने से बचा लिया.

बीएफ फिल्म चलते हुए मैंने दीदी के निचले हिस्से को चूमते हुए उनकी शॉर्ट को निकाल दिया और साथ ही में उनकी पैंटी को भी निकाल दिया. उन्हें लड़कियों के समान बात करना स्पीचथैरेपी से सिखाया जाने लगा था.

मैंने उससे पूछा- ऐसा क्यों किया?वो बोली- ये हमारी फर्स्ट नाइट है, तो मैं इसे ऐसे ही कैसे जाने देती.

नोट सेक्सी फोटो सेक्सी

मैंने कहा- मैं तो हर तरह से तैयार हूं भाभी, आप मुझे कुछ भी काम दो, सब हो जाएगा, पर ये बात अपनी बहन से भी तो पूछो, ये काम कर पाएगी या नहीं. मुझमें अब और लंड लेने की हिम्मत नहीं थी पर गांड में अब खुजली सी मची हुई थी. फिर मैंने अपने लंड को दीदी के मुंह के पास कर दिया तो दीदी मना करने लगी.

उससे बर्दाश्त नहीं हो रहा था तो उसने मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर लगा कर सीधा ही खुद को नीचे धक्का देने लग गयी, जिससे मेरा आधा लंड उसकी चूत में चला गया. हसित मुस्काने लगा और बैठ कर दोनों हाथों से रीना के ब्लाउज के हुक खोलने लगा. उसे ये शादी नहीं करनी थी क्योंकि उसकी शादी उसके बॉयफ्रेंड से नहीं हो रही थी.

ऐसे ही धक्के मारते मारते मैंने आधे से ज्यादा लंड सोनाली की चूत में उतार दिया था.

अब मैं उसकी चुत के पास किस करने लगा तो उसने मेरा सिर पकड़ा और मेरा मुँह अपनी चुत पर दबा दिया. इस माँ बेटे की चुदाई हिंदी कहानी में आपको मजा आया?मुझे मेल और कमेंट्स में बताएं. मैंने उससे पूछा- तो क्या ख्याल है किधर मिलना चाहोगी?वो बोली- मैं अपने घर में ही तुमसे मिलना चाहती हूँ.

मैंने जैसे ही लाइट का स्विच खोला तो रूम को एकदम सजा हुआ पाया जो अंधेरे में साफ़ नहीं दिख रहा था … और हां … लवी ने डेकोरेशन काफ़ी अच्छी की हुई थी. मैं किनारे में ही खड़ी थी तो एक ने कहा- भाभी … हम आपके साथ रूकेंगे, तो आपको बहुत से फायदे हैं. पहले अंकल ने अपनी एक उंगली डाल दी, फिर दूसरी उंगली डाली और बाद में तीसरी उंगली डाल दी.

मैंने भाभी की साड़ी उतारने के लिए उनका पल्लू पकड़ा तो उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया. उन सब लोगों के लिए और सभी पाठकों के लिए एक नयी कहानी मतलब चुदाई का किस्सा आपके सामने पेश कर रही हूँ.

भाभी ने मुस्कुरा कर अपने देवर का लंड पकड़ लिया और उसको हिलाना चालू कर दिया. हॉट देसी भाभी सेक्स कहानी मेरे पड़ोस में रहने वाली गोरी चिट्टी चिकनी सेक्सी भाभी की है. थोड़ी देर बाद अपने लंड को दबाते हुए बोला- आप हो न भाभी …तो वो बोली- मैं तो हूँ … लेकिन आपका छोटा लगता है, मुझे झेल नहीं पाओगे.

नगर में चुदाई के कुछ नियम भी थे, जिसका वर्णन आपको आगे पढ़ने को मिलेगा.

सेक्सी चाची के साथ सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी जवान चाची को आंगन में नंगी नहाती देखता था. उसकी फुंसियों सी चूचियां बड़े आराम से मेरी हाथ की गिरफ्त में आ गई थीं. मुझे ऐसा महसूस हुआ कि मेरी चोरी पकड़ी गई है और मैंने तुरंत अपना हाथ तुरन्त चूत के ऊपर से हटा दिया.

मैंने अपना एक हाथ उसके हाथ पर रख दिया और दूसरे हाथ को उसकी गर्दन पर फेरने लगा. मोनू- तुमने अन्दर क्यों नहीं लिया?कोमल- आपके इस गाढ़े माल जैसे वीर्य से मुझे प्रेग्नेंट नहीं होना यार!ये बोलकर दोनों हंस पड़े.

मैं अपने कड़क लंड को उसकी चूत के ऊपर रख ऐसे रगड़ने लगा कि मेरे लंड की पूरी लम्बाई उसकी चूत पर रगड़ करती हुई उसकी नाभि तक जाने लगी. मैं हमेशा से अपनी बहन को गंदी नज़रों से देखता आ रहा हूँ, वो है ही इतनी कमसिन कली कि किसी का भी लंड खड़ा कर दे. जैसे लंड बाहर आया, सोनाली की चूत से हम दोनों का कामरस मेरे लंड पर और सोनाली की जांघों पर बहने लगा.

गधे की और लड़की की सेक्सी

शायद अब तक मैंने जितना उसको तंग किया था, वो उसका बदला लेने का इरादा किए मेरे ऊपर बैठी थी.

तभी अचानक चाची थोड़ा सा हिलीं और मेरा हाथ पता नहीं कैसे चाची के टॉप के अन्दर चला गया. कुछ पल बाद उसने अपने मुँह से मेरे लंड के सुपारे पर ढेर सारा थूक टपका दिया और सुपारा मुँह में लेकर चूसने लगा. मैंने भाभी को फोन करके उन्हें सब बात बता दी कि मैं आज अपने पति को क्या गोली देकर आ रही हूँ.

कुछ समय तक ऐसे ही पड़े रहने के बाद हम दोनों अलग हुए और दीदी ने मेरी टीशर्ट से अपनी चूत को साफ किया. मुझसे अब रहा नहीं जा रहा था, तो मैंने फूफा जी से कहा- राज, न जाने मुझे क्या हो रहा है. ब्लू पिक्चर सेक्सी भोजपुरी मेंमैं- मेरी बहनों को पता चला तो क्या होगा?अम्मी- मैं उन्हें पता नहीं चलने दूंगी.

मैंने उसकी टी-शर्ट को गर्दन तक ऊपर कर दिया और ब्रा का हुक खोल कर उन दोनों कपोतों को जैसे अपना बना लिया था. फिर मैंने चुत से मुँह हटाते हुए कहा- भाभी, मेरा लंड चूसोगी?मेरे कहते ही भाभी ने लंड को लपक कर मुँह में ले लिया और चूसने लगीं.

एक दिन मैं फोन पर बात करते हुए घर के बाहर सिगरेट पीने में लगा था क्योंकि घर में पीता तो कुटाई होती. चूंकि दीदी की आंखें उनकी नाइटी के नीचे ढकी हुई थी तो वो मुझे देख नहीं सकती थी. सीमा भी सोचने लगी कि मैं भी तो उनकी चुदाई देख रही हूँ लेकिन मैं बाधा नहीं बनूंगी सर, बस हमें भी चुदाई का मौका दीजिए न.

तुम भी विलास के घर वालों से कितना घुल-मिल गयी हो और सबके लिए कितना काम करती हो. हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम हनी सिंह है; प्यार से सब मुझे हनी कहते हैं. मेरी मम्मी के दिमाग में मेरा लंड छप गया, वो तिरछी नजरों से मेरे लंड को बार बार देख रही थीं.

मैंने उनकी आंखों में देखा तो आंटी की आंखों में वासना साफ़ दिख रही थी.

लड़कियों की जींस उतारना, वो भी जल्दबाजी में … अपने आप में एक जंग जैसी होती है. मैं अपनी तारीफ सुन सुनकर खुश हो रही थी और साथ में मेरी चूत गीली हो रही थी.

आखिर मुझे एक शेयरिंग रूम मिला, जिसमें दो स्टूडेंट्स के सामान पड़े हुए थे और वो लोग छुट्टी पर गए थे. फूफा जी मुझे उठा कर बेड पर ले आए और मेरी सेंडल उन्होंने खुद ही उतार दी. मैंने अपना एक हाथ प्यार से भाभी की गुलाबी चूत पर रख कर उसे सहला दिया.

हमारे घर के बगल में एक परिवार रहता था, जिसमें एक चाचा, चाची और उनके 2 बच्चे रहते थे. फिर उसके कुछ पल बाद ही दीदी ने मुझे अपनी तरफ खींच कर मुझे अपने बदन से लिपटा लिया और मेरी पीठ पर नाखून से गड़ाने लगी. फिर रीना ने खुद लंड अपनी चूत में लगाया और हसित ने हल्का सा धक्का दे दिया.

बीएफ फिल्म चलते हुए फिर वो मेरे पास बैठ गई और बोली- बेबी को सारा दिन उठाने की वजह से मेरी गर्दन बहुत ज्यादा दुख रही है. तो भाभी बोली- फिर तो हाथ से ही काम चलाना पड़ेगा?मैं और भाभी दोनों हँसने लगे.

झारखंड सेक्सी वीडियो ओपन

मोनू के वीर्य की मात्रा बहुत ज्यादा थी जिससे कोमल के बाल मुँह छाती सब जगह वीर्य से सन गया था. थोड़ी देर बाद मैं स्लो होने लगा तो मॉम बोलीं- लगता है मेरा राजा बेटा थक गया है … ऐसा करो तुम नीचे आ जाओ. मैंने उनको ऊपर आने को कहा, चाची ऊपर आ गईं और लंड को एक ही झटके में अपनी चूत में डाल लिया.

बाहर आकर सभी ने पैग का मजा लेना शुरू किया और सत्या ने कहा- आज वास्तव में शनाया के साथ मुझे मज़ा आ गया. डिनर के बाद जब मैं घर जाने के लिए उठ रहा था,तभी आंटी ने कहा- थोड़ी देर बैठो, घर जाकर सोना ही तो है. पति पत्नी की चुदाई हिंदी मेंइसके बाद मैं फ़ेसबुक पर रिलेशनशिप के लिए खुली खुली पोस्ट डालने लगा.

बिल्कुल गोल उठे हुए चूचे और उस पर ब्राउन कलर के निप्पल ऐसे मस्त लग रहे थे मानो मैंने फरिश्तों के अंगूर देख लिए हों.

सोनाली घुटनों के बल बैठकर अपनी चूत पौंछकर साफ करते हुए बोली- हर्षद, हर बार इतना सारा कामरस कहां से आता है? मुझे यकीन ही नहीं हो रहा है. इसी बीच ऊपर से चुदते हुए उसका पानी निकल गया और वो मेरी छाती पर सिर रख कर हांफने लगी.

ये एक ऐसी दमदार सेक्स कहानी है, जिसे पढ़ कर लड़की की चुत टपकने लगेगी और लड़के का लंड खड़ा होकर फटने को हो जाएगा. इधर मैं अपने दोनों हाथों की मुट्ठियां बिस्तर पर जमाए हुए चाची की चुत में लंड पेल रहा था और एक तरह से मैं डिप्स मार रहा था. अब जल्दी से मूत लो सोनाली!सोनाली मेरा लंड रगड़ती हुई बोली- बहुत बदमाश हो तुम हर्षद.

नीचे उसका लंड मेरी चुत को बजा रहा था, ऊपर हमारे होंठ घमासान कर रहे थे.

शनाया पहले भी मेरे दोस्त हार्दिक के बर्थडे पर उससे चुदी थी और हम दोनों कपल स्वैपिंग के अलावा कई और मौकों पर चुदाई का मजा ले चुके थे. उनकी गोरी गोरी जांघें मुझे मस्त करने लगीं और उनकी नशीली आंखों में एक अजीब सी मस्ती दिखने लगी. आज से पहले मैंने बस भाभी को देख कर सोचा था कि उन्हें चोदने का मजा मिल है.

जान सेक्सीउधर विलास ने दरवाजा खोला तो भाभी ट्रे में चाय का थर्मस और चाय के कप लेकर अन्दर आयी. मैंने कहा- नहीं बोल ना!उसने कहा- यार हमारी दोस्ती करीब पच्चीस साल पुरानी है और मैं बिना किसी भूमिका के कहना चाहता हूँ कि मैं रीना से सेक्स करने की इच्छा मन में दबाए हुए हूँ.

इंग्लिश सेक्सी पिक्चर सेक्सी पिक्चर

कुछ मिला कर 15 मिनट में वो दोबारा झड़ चुकी थी और मैं एक बार भी नहीं झड़ा था. मेरे लंड का हाल देखकर विलास मेरी ब्रीफ नीचे खींचने लगा तो मैंने अपनी कमर ऊपर उठा कर उसकी मदद की. मैंने उसे बुलाया तो वो थोड़ा गुस्से में बोली- कहां रह गए थे, मैं कब से वेट कर रही हूँ.

दोस्तो, मैं हर्षद आपको अपने दोस्त की गांड चुदाई और उसकी बीवी सरिता भाभी की चूत चुदाई की कहानी सुना रहा था. मैं उनके घर से निकल आया और पीजी में जाकर फ्रेश होकर वापस भाभी के घर आ गया. बाइक पर बैठने के दौरान मैंने अपनी साली से कहा- तुम मुझे पकड़ लो वर्ना तुम गिर सकती हो.

कोमल ने कपड़े से अपने को और मोनू को साफ किया और मोनू की बांहों में लेट गयी. जब भी गांव में जाता, वहां पर घूम रही भाभियों और लड़कियों के उठे हुए बड़े बड़े दूध व बड़ी बड़ी गांड को देख कर मेरा लंड कड़ा हो जाता. इससे जिया दीदी की चुत ने पिघल कर लंड को रस से चूम लिया और चुत की गर्मी बढ़ गई.

‘उम्म मम्मआआ आआ नहीं रुको …’ की मदमाती आवाज कमरे में गूंजने लग गयी थी. यह सेक्स कहानी मेरे और मेरी सगी बड़ी बहन के बीच हुई चुदाई की कहानी है.

उसने मेरे लंड पर दबाव बनाये रखा और मेरा पूरा लंड कुछ ही पलों में उसके गले तक घुस गया था.

मैंने अपनी रात वाली चड्डी बाथरूम में ही छोड़ दी क्योंकि मुझे पता था कि मेरे नहाने के बाद ससुर जी भी नहाने आयेंगे. सेक्सी व्हिडिओ एक्स एक्सउस दिन में मैंने बहुत महीनों के बाद चुदाई की थी और कल से आज तक तीन बार मुठ मार लेने के कारण मेरा रस निकल ही नहीं रहा था. বড়ো বাঁড়া ছেলে বএফइसके लंड को लेने के बाद मेरा क्या होगा!मैंने उसके लंड पर तेल लगा कर थोड़ी मालिश की. एक दिन शॉप के पास कोई सरकारी काम चालू था, वहां ड्रेनेज लाइन के लिए बहुत बड़ा गड्डा बनाया गया था.

अब आगे बाथरूम Xxx चुदाई कहानी:फिर मैं बेड से नीचे उतर कर सोनाली से बोला- मुझे जोर से मुत्ती आ रही है.

फिर मेरा अंडरवियर भी उतार दिया और लंड को सहलाने लगी, उसको हाथ में लेकर आगे पीछे करने लगी जैसे मुठ मारते हैं।मैंने सासू माँ को लिटा दिया उनकी पैंटी को उतार दिया. भाभी ने मुझसे पूछा कि मैं भाभी को दरवाजे पर ऐसे क्यों देख रहा था?तो मैंने भाभी से कहा- मैंने आपको इन कपड़ों में पहली बार देखा है. इससे मेरी मम्मी एकदम से डर गईं और उन्होंने तुरंत मेरी कमर के दाहिने हिस्से के पास हाथ रख दिया.

उनके जाने के बाद मैं फ्रेश होने गया मोबाइल बाहर ही रह गया था तो मौसी के लड़की मोबाइल चलाने लगी. हार्दिक शनाया की चूत चाट रहा था और मैंने अपना लंड शनाया के मुँह में दे रखा था. मोनू- हैलो क्या हुआ जयदीप भाई!जयदीप- सो गया क्या? यार तेरी पूनम तो बड़ी हॉट है.

एक्स एक्स एक्स देसी सेक्सी वीडियो हिंदी

सर मुझे देखकर यही सोच रहे थे कि मैंने आज शर्ट नहीं पहनी है लेकिन वो कन्फर्म नहीं कर पा रहे थे. नंगी लड़की की Xx कहानी में पढ़ें कि कैसे हम दो सहेलियों ने एक सर्राफ को उसकी दूकान में उसके जेवर पहन नंगा फोटो शूट करवाने के लिए मनाया. ये मेरी हॉट सिस्टर की सेक्स कहानी तब की है जब मैं 19 साल का था और मेरी दोनों बहनें क्रमश: 24 और 23 साल की थीं.

मैं जब भी अपनी बहन को देखता, तो बस मेरा यही मन करता कि अभी इसको यहीं नंगी करके चोदने लगूँ, पर गांड फट जाती थी कि उसके बाद मेरा क्या हाल होगा.

मैंने कहा- आप ये क्या कर रही हैं?वो बोलीं- क्या हुआ, प्लीज़मेरी प्यास बुझा दो.

मुझे मेरे फूफाजी ने होटल के कमरे में चोदकर मेरे कुन्वारेपन का भोग लगाया. अब उनका एक हाथ मेरे बालों में चल रहा था और दूसरा हाथ पैंट के ऊपर से मेरे लंड को टटोलने लगा. सेक्सी चुदाई ब्लू पिक्चरमुझ जैसे सुंदर सुशील लौंडे को देखकर एक तो लड़कियां वैसे ही फिदा हो जाती हैं, फिर उन्हें लम्बा मोटा लंड भी नसीब हो जाए, तो बात ही क्या है.

उसने कहा- रीना को मैं पटा लूँगा, बस तेरे से मैं कुछ छिपाना नहीं चाहता था. अब मैंने स्पीड और तेज़ कर दी और 10-15 झटके तेज़ देकर मैं भाभी की चुत में ही झड़ गया. वो दिखने में किसी परी से कम नहीं लग रही थी।फिर मैं घुटनों पर खड़ा हो गया और भाभी ने मेरे अंडरवियर अचानक से उतार दिया जिससे मेरा लंड उनके लबों से टकरा गया.

लंड का सारा माल चूत में छोड़ दिया और उसके ऊपर ही लेट कर उसको किस करता रहा. उसने अपनी जीभ निकाली और मेरे मोटे लम्बे लंड के टोपे को एक बार चाटा.

चाची के मुँह से सिसकारी निकल गई- आंह आह दबा दे … आंह मजा ले ले और दे दे.

मैंने जैसे ही पहला धक्का मारा, मेरे लंड के आगे का हिस्सा उसकी चुत में घुस गया और वो हल्का सा चिल्ला दी- आयई … मर गई!मगर मैंने बिना रुके एक और धक्का दे मारा, जिससे मेरा आधा लंड उसकी चुत में घुस गया. उन्होंने आंख दबाते हुए कहा- मेरा कोई इरादा भी नहीं है अपने देवर से छूटने का … आ जाओ सब साफ़ सफाई मिलेगी. मैं भी पूरा नंगा और वो भी अपनी छोटी छोटी चूचियों के साथ नंगी हो गई थी.

मुस्लिम बीपी सेक्सी जब वो फिर से खड़ा हो गया तो पहले मेरे चेहरे पर बैठ कर भाभी ने अपनी चुत चटवाई. दस मिनट तक मेरे लंड को चूसने के बाद दीदी बोली- आज तो तू पूरा बहनचोद बन जा, आज तुझे अपनी बहन को तुझे जितना चोदना है, चोद ले.

अब तक ब्लूफिल्म में ही चुत को देखा था मगर आज सामने से उसकी फूली हुई चूत को देखकर मैं पागल सा हो गया. मैं- वो सब छोड़ो भाभी … आपको कैसी लगी?भाभी कुछ नहीं बोलीं, तो मैं समझ गया कि भाभी को अच्छा लगा होगा. माय बेस्ट फ्रेंड वाइफ Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मेरी सेटिंग मेरे दोस्त की बीवी से हो चुकी थी.

हिंदी सेक्सी सारी

हसित ने रीना को गोदी में उठा लिया और ज़मीन पर बिछे कालीन पर लिटा दिया. इधर मेरे छोटू का भी बहुत बुरा हाल था इसलिए मैंने अपन जिप खोली और लंड बाहर निकाल लिया. तभी भाभी ने मेरी तरफ देखा और मुझे लगा कि मैं गया काम से, पर भाभी ने मुझे एक सेक्सी सी स्माइल दी.

पर मैंने घर का दरवाजा पहले ही बंद कर रखा था तो वो अंदर नहीं आ पाई और बाहर से ही आवाज देने लगी. भाभी- अच्छा किसके साथ?मैंने उनकी बात का उत्तर ने देते हुए उन्हें दूसरी तरफ मोड़ते हुए कहा- आप तो भैया जी के साथ करती ही हो.

‘उई मां मैं मर गयी … कितना जोरदार झटका मारा तुमने, मुझे दर्द हो रहा है थोड़ा बाहर निकालो.

अब आगे मैन टू मैन सेक्स कहानी:एक दिन विशाल ने मोहन और रवि को कहा कि उसका जिगरी दोस्त प्रकाश शौकीन मिज़ाज का है. मैंने पूछा तो बोली- आप बस डालो बाबू … जितना दर्द होगा, उतना मज़ा आएगा. हनी की गांड में कुलबुली होने लगी थी और वो भूल गया था कि आज उसकी गांड का उद्घाटन होने वाला है.

मैंने उससे साफ़ शब्दों में पूछा- मस्ती में वो कैसा लगा था?वो हंस दी और बोली- ज्यादा ख़ास नहीं था. पहले तो लगा कि तू मेरी जान ही निकाल देगा, मगर बाद में मुझे स्वर्ग का सुख दे दिया. मैंने फिर से पूछा- बोलो तो क्या हुआ?वो बोली कि कुछ काम के लिए पैसे रखे थे, यहां आते टाइम कहीं गिर गए.

मॉम हांफती हुई बोलीं- बेटा बहुत देर से मैं तुम्हें देख रही हूं, तूने जो आग लगाई है … अब तुम ही उसे बुझाओगे.

बीएफ फिल्म चलते हुए: जब भी मैं उसे याद करता हूँ … उसके साथ वो बीते पल सोचता हूँ, तो जैसे सब सपना सा लगता है. मैं ऐसे ही आंखें बंद करके गाड़ी की डिक्की में बैठी रही और एक मस्त अनुभव जो हुआ था, उसका आनन्द अन्दर ही अन्दर उठाने लगी.

मैंने उनके बाल पकड़ कर थोड़ा पीछे लेकर एक झटके में पूरा लंड उनकी चूत में डाल दिया और धक्के मारता रहा. भाभी- अच्छा ये बता … तू खाली देखता ही है या … कुछ करता भी है?मैंने कहा- करता हूं न … हाथ से हस्तमैथुन. मैं- आप चिंता मत करो दीदी, अगर हमारा प्रेम मिलाप इसी तरह से चलता रहा तो तुम जरूर प्रेग्नेंट हो जाओगी.

मेरा हाथ उसके कड़क लंड पर रखते ही मेरी नींद खुल गई लेकिन मैंने आंखें नहीं खोली, मैं उसके पैंट के ऊपर से ही उसके लोड़े को पूरा महसूस कर सकती थी.

जब मैं अपने सास ससुर के कमरे के पास से गुजरी तो उनके कमरे से कुछ आवाज आई. सामने अपनी बहन की नंगी चुत देख कर मुझसे ज्यादा कन्ट्रोल नहीं हो रहा था. मेरे दिमाग में बार बार वही सारे दृश्य घूम रहे थे और गुदगुदी पैदा कर रहे थे.