जानवरों की बीएफ जानवरों की बीएफ

छवि स्रोत,मोबाइल इंटेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

काम वाली लड़की की चुदाई: जानवरों की बीएफ जानवरों की बीएफ, काली पैंटी होने के कारण धब्बा तो नजर नहीं आ रहा था पर गीले होने का अहसास हो रहा था.

जुग जुग जिए ललनवा भवनवा के भाग जागल हो

वो मुस्कुराती हुई बोली- मेरे प्रियतम अन्नू, मजा आ गया आपके मधु में … क्या मजेदार टेस्ट था. कार्टून चित्रगुप्ता जी के यहां भी दो किरायेदार रहते थे, जिसमें दो परिवार रहते थे.

लॉकडाउन में मैं अपनी सहेली के साथ एक ऑफिस में इन्टरव्यू देने गयी तो …यह कहानी सुनें. స్నేహ సెక్స్ ఫొటోస్ओह भाभी आप तो सपने में मुझसे कई बार चुद चुकी हो, एक बार सच में चुदवा लो तो मजा आ जाएगा.

’उधर दूसरी रानियां पर्दे की आड़ में अपनी अपनी चूत को मसल रही थीं और सोच रही थीं कि उनका नंबर कब आएगा.जानवरों की बीएफ जानवरों की बीएफ: उसकी आवाज से मैं और रोमांचित होता गया और मेरे धक्कों की स्पीड बढ़ती गई.

मैं वहां लेट गया, पर मेरे मन में बहुत से सवाल थे कि आखिर ये लड़की क्या करेगी.इस समय दोनों तरफ आग लगी हुई थी और शायद आज की रात मुझे दीप्ति जैसी खूबसूरत और नशीले जिस्म वाली औरत के साथ सेक्स करने का मौका मिल सकता था.

फुल इंग्लिश सेक्सी पिक्चर - जानवरों की बीएफ जानवरों की बीएफ

उसे ये बात बहुत अच्छे से पता थी कि क्या बात कब और कैसे शुरू करनी है.थोड़ा और हाथ ऊपर की ओर बढ़ाया तो उसके कड़क मम्मे भी मेरे हाथ में आ गए.

वो मचलने लगीं और कहने लगीं- आह सागर … आह आज पहली बार मेरी चुत को किसी ने चूसा है … आह और चूसो जान मेरी चूत को खा जाओ आह मेरी चूत को बहुत मज़ा आ रहा है … आह खूब चूसो. जानवरों की बीएफ जानवरों की बीएफ मैंने गांड चुदाई पहली बार … वो भी अपने मामा से! मामा हमारे घर आए हुए थे.

सेक्स कहानी के अगले भाग में वो सब लिखूँगा, जिसे पढ़ कर आपके आइटम गर्मा जाएंगे.

जानवरों की बीएफ जानवरों की बीएफ?

मेरे लंड को उन दोनों की चूत कैसे मिली?मेरा नाम भोलू है। मैं एक 25 साल का हट्टा कट्टा नौजवान हूँ, गोरा चिट्टा हूँ, 5′ 10″ के कद वाला हूँ और तगड़ा तंदरुस्त हूँ।मैं नियमित रूप से कसरत करता हूँ और स्वस्थ रहता हूँ।हां मैं ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं हूँ।फिर भी अपनी X फॅमिली की चुदाई कहानी लिख रहा हूँ. मैंने उससे कहा- अभी मेरा दोस्त मेरे पास है, इसलिए मैं अभी नहीं, बाद में देता हूँ. उसने टांगें खोल कर मुझे आगे बढ़ने का इशारा किया तो मैंने धीरे से उस उंगली को चूत में पेल दी और अपने लंड को ज्योति को पकड़वा दिया.

मैं उठ कर कुतिया वाले पोज़ में आई तो दीप ने मुझे पीछे से चोदना शुरू कर दिया. यह देसी वाइफ सेक्स कहानी मेरी मम्मी और चचा की शादी के बाद उनकी पहली रात की है. वो सिसकारियां भरने लगी- ऊईई ईईई ऊई ईईई सीईईई ईईई आह हहह ओह हहह राज और तेज़ और तेज़ ऊईई ईईई!अब मैं भी जोश में आ गया और उसकी चूचियों को पकड़ कर चोदने लगा.

मैं- मॉम ये क्या करने को कह रहे हैं?राहुल- चुप हो जा और चुपचाप बैठ कर देख. भाभी सिर्फ नाईटी पहनी हुई थीं, अन्दर में ना ब्रा थी और ना ही पैंटी, नाईटी एकदम से पारदर्शी थी, जिसमें से उनके बूब्स और नीचे उनकी बुर की झलक दिखाई दे रही थी. मैंने उसकी चुत से अपना लंड बाहर निकाल लिया और बुआ को बिस्तर पर लिटा कर बुआ की चूत में लंड घुसा दिया.

मैंने प्रियंका की चूत साफ करके जीभ लगाई मगर प्रियंका ने मेरी चूत अपनी जीभ से ही साफ कर दी और अपने होंठों को मेरी चूत में लगा कर मेरी चूत खाने लगी. मैंने उन्हें चॉकलेट दी, तो उन्होंने चॉकलेट फाड़ कर एक बड़ा सा बाइट काटा और बिस्तर पर बैठ गईं.

जब हम लोग छत पर सोते हैं तो मैं सुबह सुबह अपनी पत्नी की नाइटी ऊपर कर देता था, जिससे उसकी गांड कोई ना कोई देख सके.

उसने अपनी चूत को मेरे खड़े लंड पर घिसना शुरू कर दिया और घिसते-घिसते ही अपनी गांड उठाकर फच्च से मेरे लंड को अपनी चूत में घुसा लिया.

स्टोरी ऑफ़ सेक्स आफ्टर मैरिज में पढ़ें कि मेरी टीचर शादी के एक साल बाद जब मायके आयी तो मैंने उनको फिर से चोद कर मजा लिया. इसमें आप पढ़ेंगे कि कैसे मेरी पत्नी के बॉस ने मेरी पत्नी की अन्तर्वासना को शांत किया और मुझे एक बच्चे का बाप बनाया. थोड़ी देर में प्रियंका ने खड़ी होकर अपनी सलवार को घुटनों तक नीचे सरका दिया और पैर ऊपर उठा कर वापस पार्क की चेयर पर बैठ गयी.

मैं- आज मैंने आपकी मदद की, क्या उसका फायदा मिल सकता है?दीप्ति सेक्सी अंदाज में- उसका फायदा तो किस करके ले चुके हो. दोस्तो, मेरा नाम गौरव है। मेरी उम्र 28 साल है। मैं उत्तर प्रदेश के एक छोटे से गांव का रहने वाला हूं।आज मैं आपको अपने जीवन की एक पुरानी घटना बताने जा रहा हूं। यह देसी गर्ल Xxx कहानी मेरी चचेरी बहन से सेक्स की है. उनका शरीर देख कर अच्छों अच्छों के लण्ड खड़े हो जाएं … खासकर उनके बूब्स देख कर!पर वो नेचर से कड़क थी.

अनिल ने हल्का सा धक्का मारा तो मेरी मॉम की गांड में अनिल का लंड का टोपा जैसे ही घुसा, मॉम के मुँह से हल्की सी चीख निकल गयी.

मैंने समय ना गंवाते हुए फ़ौरन से भाभी को पलंग पर लिटा दिया और एक हाथ से एक कबूतर को और दूसरे को मुँह में लेकर चूसने लगा. तुमने अभी मुझसे वादा किया है।मैंने उसकी पैंट खोलकर लंड बाहर निकाल लिया. कभी कभी मेरी लड़के से बात भी हो जाती थी, पर अभी तो मुझे विशु के लंड की प्यास थी.

फिर मैंने ज्योति को पूरी नंगी कर दिया और उसके चुचों के ऊपर मानो टूट सा पड़ा. फिर भाई ने दुबारा अपना लौड़ा मेरी चूत में लगाया और थोड़ा अंदर करने के बाद एक जोरदार धक्का लगाया जिससे उनका आधा लौड़ा मेरी चूत में समा गया. वो अपने शहर में पीजी में कमरा लेकर रहती थी तो मिलना मुश्किल हो रहा था.

किसी भी तरह बात होने भी लग जाए, तो उसे अपनी चाहत सामने वाले को बताना बड़ा कठिन होता है.

मैंने जैसे ही उसको अपनी बांहों में उठाया, तो मेरा मुँह पहले उसके कड़क दूध पर लग गया, जिसका अहसास मुझे करंट लगने जैसा हुआ. आपको यह फर्स्ट टाइम ओरल Xxx कहानी कैसी लगी? मुझे कमेंट्स और मेल में बताएं.

जानवरों की बीएफ जानवरों की बीएफ दूसरी पारी में मैंने विशाल की बीवी चोदी, विशाल ने अमित की बीवी चोदी और अमित ने मेरी बीवी चोदी. उसने मुझसे कहा- तुमने कपड़े क्यों नहीं पहने?मैंने कहा- मेरे कपड़ों तेल लग जाता, इसलिए उतार दिए.

जानवरों की बीएफ जानवरों की बीएफ हम दोनों फुल चुदाई का मज़ा ले रहे थे और एक-दूसरे को पागलों के जैसे चूम रहे थे. मैं भी बाथरूम में चला गया।बाथरूम से आने के बाद डाइनिंग टेबल पर चाय रखी दिखी मुझे और दीदी रसोई में थी।मनीष तुम्हारी चाय रख दी है”। दीदी ने बिना मेरी तरफ देखे ही कहा।रात की बात याद आते ही मुझे कुछ समझ में नहीं आया कि दीदी से कैसे बात करूँ।कल रात में जो हुआ वो अचानक से हो गया.

रात होते ही उसने सब खाना टेबल पर रख दिया और बोली- जीजू शुरू करें?मैंने भी कहा- हां … लो पैग उठाओ.

देवर भाभी की चुदाई का बीएफ

एक दिन वो जब पार्लर के लिए जा रही थीं तो मोनिका ने मुझे बुला लिया था. मैंने खुलकर कह भी दिया- बीवी जी, किसी दिन मुझे अपनी बेटी वर्तिका की भी दिलवा दो बुर!वह बोली- वर्तिका की माँ का भोसड़ा … मैं जानती हूँ वह भी बुर चोदी लण्ड पकड़ने लगी है. सामने बैठे उसके साथ के दोनों मर्द मिहीन और रमेश उस सीन का मजा लेने लगे.

इससे उसकी आग बढ़ रही थी और अब वो जोर जोर से सीत्कार भरने लगी थी ‘आह … इ…उ … सी … सी … आराम से अन्नू जी … आह. थोड़ी देर ऐसे ही पड़े रहने के बाद मैंने उसकी टांगें फैलाईं और चूत पर हल्का सा चुम्बन करके अलग हो गया. मीरा थक कर ऐसे ही सो गई लेकिन तीनों ने बैठकर फिर से व्हिस्की पी और एक घंटे के बाद सोती हुई मीरा को फिर से एक बार चोदा.

मैंने उसे अपने पास ही बिस्तर पर लिटा लिया, उससे कहा कि फैसल अब हमें सो जाना चाहिए.

मैं उनसे नजरें मिलाते हुए बोला- कुछ कमी रह गई हो, तो माफ कर देना क्योंकि यह मेरा फर्स्ट टाइम था, सब जल्दी जल्दी के चक्कर में हुआ. मैंने उसको अपने पास खींच लिया और उसकी चूचियों पर अपना मुँह रख कर जीभ से चाटने लगा; उसकी छाती पर मुँह रगड़ने लगा. मैंने फिर से कुहनी उसकी तरफ की तो इस बार उसने कुछ नहीं कहा बल्कि वो खुद अपनी चूची मेरी कुहनी से रगड़वाने लगी.

दोस्तो, यह थी मेरी ममेरी बहन की कमसिन अदा!आप सबको मेरी हॉट सिस्टर Xxx कहानी कैसी लगी? ई-मेल करके मुझे जरूर बताइएगा जिससे मेरा हौंसला बढ़े!कमेंट्स भी करें. दीदी ने कहा- दिन में सोने की वजह से मुझे भी अभी नींद नहीं आ रही है. मैं दीदी के मम्मों को मालिश करने आ गया और पूछा- और अच्छे से मालिश करवाना है क्या?दीदी ने बोला- हां आज मेरी अच्छे से मालिश कर दो.

दीप्ति के मम्मों को सहलाते हुए मेरी उत्तेजना बहुत ज्यादा बढ़ गई थी. क्या बताऊं दोस्तो … क्या माल लग रही थी मेरी बहन रिशू!फिर मैंने दूध दबाये थोड़ी देर तक उसके बाद रिशू की ब्रा और पैंटी भी निकाल दिया.

मैंने अपने धक्के एकदम से तेज कर दिए और दीदी ने अपनी चूत का पानी फैंक दिया. मेरे गांव के जितने भी जवान लड़के थे, वो सब इस जवानी के रंग को देखने में जरा भी नहीं चूकते थे. हॉट मॉम लेस्बियन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरी मम्मी मेरे पापा से अलग रहती थी.

रात में मुझे गर्मी लग रही थी तो मैंने अपने सारे कपड़े उतारे और नंगे बदन ही सो गया.

मीरा का सारा नशा उतर गया था लेकिन वो अब ग्रुप सेक्स का मज़ा लेने लगी थी. तब मैंने उससे घर का एड्रेस पूछा और चाभी का पूछ कर उसके घर पर गया तो लॉक लगा था. फिर मैंने उसको आवाज देकर पूछा- क्या हुआ, सो गई या नहीं?दीदी ने कहा- सोई नहीं हूं लेकिन अभी नींद आ जाएगी.

मैं उसकी मालिश कर ही रहा था तो मीनाक्षी ने कहा- रियांश बहुत मजा आ रहा है. जब मुझे लगा कि वो भी गांड हिला कर मेरा साथ दे रही है तो मैंने स्पीड बढ़ा दी.

लगभग दस मिनट के बाद जब मेरा लंड छूटने वाला था, तब मैंने अपना तगड़ा लंड उसकी चूत में से निकाला और उसके बाल पकड़ कर उसका चेहरा लंड के सामने कर लिया. उसे देख कर मुझे ऐसा लगा कि जैसे उसके शरीर से उसकी आत्मा निकल गई हो. अब चाचा ने अपने होंठों को चुत से निकलती खाल या यूं कहें कि चुत के होंठों पर रख दिए.

हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ

फिर मैंने पूछा- मुझसे आप क्या चाहती हो भाभी?तो भाभी ने कहा- बहुत सारी ख़ुशी.

मेरी कोई भी गर्लफ्रेंड नहीं थी पर मेरे अन्दर जो वासना की आग भड़क रही थी उसे शांत करने के लिए मैं सिर्फ मुठ ही मार सकता था. कुछ देर की चूमाचाटी के बाद पापा ने दीदी को डॉगी स्टाइल में करके उनकी कमर के नीचे तकिया लगा कर उन्हें झुका दिया. मैंने अपने हाथ उसकी कमर के पास रखे और अपने दोनों हाथों से उसकी मालिश करने लगा.

लंड चुसवाने के बाद मैंने बाहर निकाला और उसको थोड़ा किस किया, उसके दूध चूसे. जब मैं उसके घर से निकल कर ऑटो में बैठ कर जाने लगा तो मेरी गर्लफ्रेंड की बहन बोली- मुझे तुम्हारे और आपा के बारे में सब पता है. गांव की फुल सेक्सीमेरे मुँह से तेज आअहह निकलते ही बाबा जी ने अपने हाथों से मेरा मुँह बंद कर दिया.

ए सेक्स स्टोरी ऑफ़ लस्ट में आप पढ़ेंगे सेक्स से वंचित एक नवविवाहिता भाभी की कहानी. पर मैंने देखा कि पड़ोस के कुछ लोग उन्हें बहुत घूरा करते थे और बात करने का बहाना ढूंढते थे.

मैं अपनी आंखों से एक गैर मर्द के हाथ से अपनी बीवी के दूध दबाकर देखते हुए मस्त होने लगा. मैंने कहा- सच में अम्मी … अगर आपको यकीन नहीं है, तो आप भी एक पैग लगा कर देखिए. तो भाई ने अपनी प्यारी बहन की बात को मांन के अपना लौड़ा बाहर कर लिया.

यह देख ऋतु को बहुत गुस्सा आया और उसने मुझसे कहा- तेरी सुई अभी तक पल्लवी पर ही क्यों अटकी है?यह कहते हुए उसने मेरे होंठ अपने मुँह में ले लिए. मुझे दर्द हुआ पर मैं बंधा हुआ लेटा रहा और अपने साथ सब कुछ होने दिया. यह सेक्स ट्रेनिंग का स्कूल के बारे में मैं अगले भाग में लिखना जारी रखूँगा.

महेश सर लगातार किस करते करते मम्मी की कभी गांड दबाते तो कभी उनके बालों को सहलाते.

डॉक्टर ने मुस्कुरा कर कहा- नीचे कहां?मेरी पत्नी ने शर्मा कर कहा- उधर चूत में. तो मैंने कहा- आप चिंता मत करो, हम डाक्टर पास चलते हैं।हम डॉक्टर के पास गए, उसने कुछ दवाई दी और एक तेल दिया और कहा- इससे पीठ, कमर और पैर की हल्के हाथ से मालिश करनी है।फिर हम घर आए.

मैंने पूछा- क्या हो गया मेरे बाबू को?उसने कहा- यार, अब मुझसे नहीं रहा जाता. उसकी सहेली बोली- मैंने तो कल अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुदाई करवाई थी और तू उससे बात भी नहीं कर पा रही है. मम्मी थोड़ी धीमी आवाज में बोलीं- एक बार फिर से सोच लो नरेश, मैं तुमसे कोई जबरदस्ती नहीं कर रही हूँ.

इससे दो इंच लंड मेरे मामा की बेटी में बुर में चला गया और उसके मुँह से चीख निकल गई. मैंने उनसे पूछा- कहां निकालूं?तो उन्होंने कहा- अन्दर ही डाल दो, बहुत दिनों से सूखी है … आज इसकी प्यास बुझ जाएगी. मैंने घबरा कर कहा- निकाल लूं क्या?वो बोलीं- नहीं, मेरे ऊपर लेट जाओ.

जानवरों की बीएफ जानवरों की बीएफ करीब आधा लंड वो अपने मुंह में अन्दर बाहर कर रही थी और दीप आँखें बंद करके उससे मुख मैथुन का आनंद ले रहा था. मैं नीचे से उसकी पैंटी को नाक से और होंठों से रगड़ रहा था और वो भी अपनी चूत जोर लगा कर मेरे मुँह पर रगड़ रही थी.

नंगी सेक्सी ब्लू बीएफ

आखिर वो दिन आ ही गया, जिसका मैं कई दिनों से बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहा था. सिर्फ़ ब्लाउज में उसके चूचियां जो की आधे से ज्यादा ही बाहर थी मुझे दिख रही थी।पर दाइशा जी का ध्यान ड्राइविंग सीट पर बैठते ही स्टियरिंग पर अपने हाथों को ले जाने की जल्दी में था. जब मैंने मैडम को छोड़ा तो वो सीधी खड़ी हो गईं और अपनी गांड पर हाथ रख कर दर्द महसूस करने लगीं.

मैक्सी के अंदर हाथ डालकर मैं धीरे धीरे उनके चूतड़ों पर हाथ फेर कर मालिश कर रहा था. मैं अपना लंड हिलाने लगा पर मेरे लंड में तो मानो कुछ भी नहीं हो रहा था, बस मैं लौड़ा हिलाए जा रहा था. सेक्सी वीडियो घाघरा वालीमैंने उसे बताना शुरू किया कि जब किसी लड़की की चूत में पहली बार लंड जाता है, तो चूत के अन्दर एक झिल्ली होती है, जो लंड पेलने से फट जाती है और उसे ही सील टूटना कहते हैं.

मैंने उन्हें आंखों से चोदते हुए कहा- हां भाभी, ठीक है … लेकिन क्या आप सिर्फ आज रात के लिए ही मुझे अपने साथ चाहेंगी या हमेशा के लिए?उन्होंने हंस कर कहा- सागर ये तो आपके ऊपर निर्भर करता है कि सिर्फ आज ही आप मेरे साथ सुहागरात मनाएंगे या हमेशा के लिए ही मुझे अपनी बीवी बना लेंगे.

अगर आराम से गांड मारी जाए तो मजा आता है … और जान मैं तेरी तो बड़े प्यार से फाड़ूँगा … बस थोड़ा सा झेल लेना. मैंने उससे कहा- दो चार धक्कों तक दर्द होगा … उसके बाद में तुम्हें बिल्कुल भी दर्द नहीं होगा.

कभी कभी मैं नींद में होता, तो वो चुपके से मेरे रूम में आ जाती और खुद ही पैंटी साइड में करके मेरे मुँह चूत लगा देती. मैंने उसकी सारी शर्तें मान लीं और सुबह सुबह उठ कर नहा धोकर रेडी हो गया. कुछ देर बाद वो शांत हो गईं और बोलीं- अब दो धक्का!मैंने धक्के लगाने शुरू कर दिए.

और वैसे भी हास्टेल जा नहीं सकते और कोई चारा है नहीं! फिर डरना कैसा!बस यही सब सोच के मैंने हाँ कर दी.

मैंने उसके करीब आते ही दिलप्रीत को अपनी बांहों में भर लिया और उसे दीवार से चिपका कर चूमने लगा. दोस्तो, वैसे मेरी मामी भी गजब की माल हैं पर उनके बारे में फिर कभी बताऊँगा अभी आगे चलते हैं. फिर महेश सर ने मम्मी के पेटीकोट और पैंटी को एक साथ उतार दिया और अपनी जीभ मम्मी की चूत पर ले जाकर चूसने लगे.

सेक्स साडीमुझे उसे लंड चुसवाने में बहुत मजा आ रहा था और मैं उसकी नमकीन चूत में जीभ घुसा कर चोद रहा था. उसने पूछा- क्यों?तो मेरे पास कोई जवाब नहीं था तो उसको बोला- क्योंकि इसके बाद तुम और आगे बढ़ोगे फिर कुछ और चाहिएगा.

नेपाली बीएफ दिखाएं

उस्ताद जी की धोती व लंगोटी को खोलते ही उनका नौ इंच का काला लंबा अजगर सा लंड मेरी आंखों के सामने था. फिर मैंने सोचा कि कहीं ये प्रेग्नेंट हो गयी, तो लेने के देने पड़ जाएंगे. करीब 10 मिनट तक चली जबरदस्त चुदाई के बाद मैं भी झड़ने वाला था, मैंने अपना सारा गाढ़ा माल उसकी चूत में ही निकाल दिया।5 मिनट तक मैं उसके नंगे जिस्म के ऊपर ही लेटा रहा और उसके बोबे चूसता रहा।अब मैंने उससे उसकी गांड मारने को बोला.

अचानक अम्मी थोड़ा हिलीं तो मैं डर गया और फिर से सोने का नाटक करने लगा. मैंने चारों तरफ देखा, कहीं अकेली लड़की के पास बैठने की जगह दिखी ही नहीं. क्या गजब लन्ड चूस रही थी वो … मैं सातवें आसमान की ऊंचाइयों में खो सा गया.

मेरी मम्मी के मुँह ये सुनकर आप अंदाज लगा सकते हैं कि चाचा का लंड कितना मोटा होगा कि मम्मी को इतने दर्द के साथ चिल्लाना पड़ा. आज मैं आप सबको अपनी जिंदगी के सबसे अनमोल लम्हों के बारे में बताने जा रहा हूँ, उम्मीद है कि आप सबको यह कहानी पसंद आएगी. वो भी तेजी से सांसें लेकर ‘सूंसूं … हूँ … आह इसस्स …’ की आवाज निकाल रहा था.

लगभग 3 बजे किसी ने गेट बजाया, तो मैं डर गया और सोचने लगा कि अब कौन आ गया. थोड़ी देर में हम दोनों रूम के अन्दर आ गई और दरवाजा लगाते ही बिना किसी देरी के हमने अपने कपड़े वहीं उतार दिए, एक दूसरी से लिपट कर चूमने लगी और हमारे हाथ भी अपना काम बखूबी से करने लगे.

अंकित ने कुछ ही मिनट में अपना सारा माल मेरे मुँह के अन्दर झाड़ दिया.

अब मैं उठा और दो ग्लास उठा लाया, जिसमें से एक मैडम को दिया और एक खुद पीने लगा. राजस्थानी महिला सेक्स वीडियोमेरा लौड़ा बिल्कुल एक भाले की तरह भाभी की चूत की गहराई में गोते लगाने को तैयार था. इंग्लिश शॉर्ट सेक्स वीडियोमैं रिया हूँ, मेरी पिछली कहानीदेवर को पिलाया अपना मीठा गाढ़ा दूधमें आपने पढ़ लिया था कि मैं अपने देवर को कैसे रोज दूध पिलाने लगी थी. अब हम दोनों इसी तरह से अलग अलग मर्दों से और औरतों से चुदाई का मजा लेने लगे हैं.

भाभी बहुत ज्यादा थक चुकी थीं, इसलिए मैंने उनको नींद से नहीं जगाया, सोने दिया.

इसका इतना बड़ा कैसे है!उसने जवाब दिया- लंड, लंड कहते हैं इसे … अभी देखकर घबरा रही हो, जब ये तुम्हारी चूत के अन्दर जाएगा, तो बहुत मजा देगा. वे किसी काम से भारत आए हुए हैं और एक नई लड़की के साथ चुदाई करना चाहते हैं. उसके भाई जयेश को सिर्फ गांड मारने और मरवाने का शौक था जो उसकी बीवी को पसंद नहीं था.

मैं अपनी पाठिकाओं को बताना चाहती हूँ कि मेरे देवर का लंड इतना ज्यादा मोटा था कि पूछो मत. मैंने थोड़ा और एस्केलेटर लेने बोला और अपने दायें हाथ से गियर को फ्री करके रुका. मैंने अपने दोनों हाथ आगे किए और उसकी चूचियां पकड़ कर धकापेल करने लगा.

हिंदी में बीएफ पंजाबी

एक झटके से मैंने उसकी पैंटी को उतार दिया और झुक कर उसकी चूत की महक लेने लगा. मुझे भाभी से रूबरू मिलने का समय नहीं मिला इसलिए हम दोनों कभी मिल नहीं पा रहे थे. मुझे कुछ देर नींद नहीं आई, बाद में मैं कब सो गया, कुछ पता ही नहीं चला.

मैं मन ही मन प्रसन्न था कि नैना के साथ मेरे मिलन की यह बाधा भी दूर हो गयी थी.

मैंने भी बिना समय गंवाए दबाव डाल दिया और मेरा लंड सरकते हुए भाभी की चूत में जाने लगा.

मेरी चूत उसके गरम वीर्य का अनुभव कर रही थी और उसका माल मेरी चूत से बाहर आने लगा. दोस्तो, यह थी मेरी ममेरी बहन की कमसिन अदा!आप सबको मेरी हॉट सिस्टर Xxx कहानी कैसी लगी? ई-मेल करके मुझे जरूर बताइएगा जिससे मेरा हौंसला बढ़े!कमेंट्स भी करें. लड़का लड़की की सेक्सी फिल्ममैंने पूछा- एक किस ले लूं तुम्हारी?उसने गर्दन हिलाई तो मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और अपनी जीभ उसके मुँह में डालकर उसका रसपान करने लगा.

अब मैं उन्हें चोदने की तरकीब सोचने लगा कि कैसे अम्मी की चूत चुदाई की जाए. चुत से रस रिसना किसी को भी ये बताने के लिए काफी होता है कि चुत गर्म होने लगी है और चुत वाली को मजा आ रहा है. वे दोनों लड़के आगे बारी-बारी से अपना लंड रानी के मुँह को भोसड़ा समझकर चोदने में लगे हुए थे.

हुआ कुछ यूं कि दीदी बहुत गुस्सा करती थीं, इसके लिए उनको एक पंडित के पास ले जाकर पूजा करवानी थी. मम्मी- अच्छा!चाचा- हां बिल्कुल, इसे हाथ में लेकर देखो न!वे मम्मी का हाथ पकड़ कर अपने लंड पर ले आए और बोले- इसे सहला दो मेरी जान!मम्मी- तुम भी ना.

जब जाटनी उस नए लंड को चूस लेती और मजा लेकर उसकी गांड पर लात मार देती.

मैंने उससे कहा- हीर, मुझे अभी और बीयर पीनी पड़ेगी क्योंकि इतना जो हुआ इसमें मेरी मस्ती खत्म हो गई है … और अब जो करूंगा, उसमें मुझे बहुत हिम्मत चाहिए. महेश सर ने खड़े होकर अपने कपड़े उतारे और अंडरवियर में आ गए, जिसमें से उनका लंड काफी टाइट लग रहा था. इधर उन दोनों की आवाजों को सुन कर कुछ रानियों का ध्यान छोटी रानी के कक्ष पर गया.

पूरी सेक्सी पिक्चर फिर जब मैंने इधर देखा और सेक्स कहानियां पढ़ीं, तो मेरा मन सेक्स करने का होने लगा. चूंकि भाभी के घर में जाने के लिए मुझे मेरे घर के पीछे जाना था, तो मैं पहले तो घर से कुछ दूर स्थित नाले पर गया.

चाची तभी जोर से पादी और बोली- भैन की लौड़ी चूत में से हाथ हटा!उसी समय निकिता के मुँह में पाद चला गया. हम दोनों इस स्पीड में चुदाई करते हुए काफी देर तक संभाल नहीं पाए और मोनिका ने अपना पानी छोड़ दिया. कुछ देर बाद भाभी की चुत में मैंने अपने लंड का एक जोरदार धक्का मारा तो मेरा लंड उनकी चुत को चीरते हुए सीधा अन्दर चला गया.

बीएफ मूवी सेक्सी इंडियन

माया के देखने के बाद मैंने उस पर से नजरें हटा लीं और चाची की गांड को देखने लगा. चाचा ने हम सभी को पूरी बात बताई और पूछा कि तुम लोगों को तो इस शादी से कोई ऐतराज़ नहीं?हम तीनों ने भी समझदारी के साथ उन्हें कह दिया कि हमको किसी तरह का कोई ऐतराज नहीं है. थोड़ी देर बाद अंकिता को भी मजा आने लगा- भोसड़ी के और दम लगा कर चोद मादरचोद … साले ने गांड का गुड़गांव कर दिया!मैंने लंड की ठोकर देते हुए कहा- साली कमीनी … पहले तो नखरे दिखा रही थी कि मुझे गांड नहीं मरवानी.

घर में कोई नहीं होने के कारण वो बहुत जोर जोर से आवाजें निकाल रही थी. लगभग दोपहर 3 बजे चुके थे, आनन्द भी दूसरी फैक्ट्री के लिए निकल चुका था.

जीवन में पहले बार किसी औरत के होंठों को चूसा मैंने!दीप ने मेरी जाँघों को चूमते हुए मेरी पेंटी उतार दी और मेरी दोनों टाँगें फैला कर जैसे ही उसने अपने होंठों से मेरी चूत को छूआ.

मैं- मॉम ये क्या करने को कह रहे हैं?राहुल- चुप हो जा और चुपचाप बैठ कर देख. उसने मेरे पैंट का बटन खोला और पैंट की चैन खोल कर थोड़ा सा खिसका दिया. कुछ देर बाद चाचा ने फिर से आसन बदला, वो फिर से मम्मी के ऊपर आ गए और मम्मी की चुत में अपना लंड पेल कर अन्दर बाहर करने लगे.

अब हमें यहां पर आए 7 दिन हो चुके थे, पर कोई वापिस नहीं जाना चाहता था. इसके बाद लॉकडाउन में हम दोनों कई बार मिले और मैंने Xxx दूधवाली सेक्स का मजा लिया. मैंने कहा- तुझे कैसे मालूम कि इतनी बियर में ये ठंड नहीं जाएगी?हीर हंसने लगी.

इसलिए मैं दीप्ति के दर्द को अनसुना करके उसकी चूत में लंड पेले जा रहा था.

जानवरों की बीएफ जानवरों की बीएफ: वो- अब रूक जा साले … लौड़े मुझे दर्द होता है … मैं झड़ गयी कमीन … अब रुक जा. अब मैं उसके लंड के लिए तड़प रही थी और सोच रही थी कि विशु से चुदाई कैसे करवाई जाए.

मैंने खुलकर कह भी दिया- बीवी जी, किसी दिन मुझे अपनी बेटी वर्तिका की भी दिलवा दो बुर!वह बोली- वर्तिका की माँ का भोसड़ा … मैं जानती हूँ वह भी बुर चोदी लण्ड पकड़ने लगी है. हुआ कुछ ऐसा कि मैं ऑफिस के काम से 2-3 महीनों के लिए कंपनी के ब्रांच ऑफिस में दूसरे शहर में गया था. कुछ ही देर में भाभी भी पूरी गर्मजोशी के साथ मादक आहें लेती हुईं गांड चलाने लगीं- आह … आह … प्रवीण … आह मजा आ रहा है … आह मुझे चोद दो मेरी जान.

वो अकसर ही हमारे घर आते जाते रहते थे जिससे मम्मी और उनकी अच्छी घुटने लगी थी.

मैंने दीदी से कहा- तुम आराम करो, कुछ चाहिए हो तो मुझे कॉल करना या आवाज दे देना. इधर एक बात आपको बता दूँ कि जो लड़का गांडू किस्म का होगा, वही मर्द की तरफ आकर्षित होगा. अगली बार हम दोनों ने होटल में मिलने की सोची … और उसने भी हां कर दिया.