बीएफ फिल्म चुदाई वाली वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी गाना सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

पोछा लगाने वाला: बीएफ फिल्म चुदाई वाली वीडियो, जिसमें कई बार तो हमने दिन में और सुबह सुबह ही प्यार किया लेकिन कभी कभी यह प्यार अधूरा रहा क्योंकि अंतिम समय में कोई ना कोई आ जाता था इसलिए।मेरे पति के वापस जाने के बाद अकेली होने के कारण मैं वापस अपनी पढ़ाई पीएचडी की तैयार में लग गई। दीपावली की छुटियों में मेरी ननद प्रीति जैन फिर आई। इस बार वो बहुत चहकी चहकी लग रही थी एवं और बहुत खुश भी लग रही थी.

बीएफ फोटो वीडियो

आखिर कल से दो दिन की छुट्टी थी और आज बारिश की वजह से जल्दी छुट्टी कर दी गयी थी. 2021 की नई बीएफ हिंदीआंटी फिर बोली- सच-सच बता मुझे कब से चल रहा है ये सब?तो मैंने अपनी मम्मी-पापा की कसम खायी तो उनको थोड़ा विश्वास हुआ मुझ पर और वो नॉर्मल होकर मेरे बगल में आकर बैठ गयी और बोली- देखो जो तुमने मेरी बेटी के साथ किया वो ठीक नहीं किया.

यह कहकर उसने लंड फिर निकाला और मैं नीचे लेट गया और वह मेरे ऊपर चढ़ गयी. बीएफ चुदाई हिंदी सेक्सपटेल बोला- सच में यार … बहुत गर्म माल है … इसीलिए तो साली को जबरदस्ती उठाकर पकड़ा है कि एक बार इसकी चुत में हाथ लगेगा, तो खुद तैयार हो जाएगी.

वह एक हाथ से अपने हाथ से अपनी बुर को मींजे जा रही थी तथा दूसरे हाथ से अपनी चूचियों को दबाये जा रही थी.बीएफ फिल्म चुदाई वाली वीडियो: दो दिन बाद मैंने भाभी के बाथरूम का नल ख़राब कर दिया ताकि भाभी मेरे बाथरूम में नहाने के लिए आए और मैं उनको नहाते हुए देख सकूँ.

मैंने बाथरूम में जाकर सुनील के नंबर को अमन के नाम से सेव किया औऱ उनको कहा कि लोकेशन भेजो.उसकी चूचियां मेरी छाती पर दब गईं, फिर मैंने भी सारिका को बांहों में लेते हुए पकड़ कर उसके चिकने गाल पर किस कर दिया.

नाइस बीएफ - बीएफ फिल्म चुदाई वाली वीडियो

बेल बजाई तो दरवाज़ा एक आदमी ने खोला- मुझे समझ आ गया कि ये संध्या का पति होगा.अब उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोलीं- तू क्या कर रहा है, मुझे सब समझ आ रहा है.

कुछ पलों में उसने अपनी पैंट की जिप बंद की और पलट कर मेरी तरफ बढ़ने लगा. बीएफ फिल्म चुदाई वाली वीडियो भाभी ने बताया कि उन्होंने किस तरह दूधवाले को पटाया और कितनों का लंड लिया.

वो दोनों वहां से चले गए, ये सारी बातें पान दुकान वाला राजू मुँह खोल कर सुन रहा था.

बीएफ फिल्म चुदाई वाली वीडियो?

तब तक ज़रीना एक बार झड़ चुकी थी, पर मेरा लंड तो जैसे मानने को तैयार ही ना था. इसके बाद उसका हाथ हरकत में आया तो वह प्रशांत का अंडरवियर सरकाने लगी. मैंने आंटी के घर की बेल बजाई और आंटी ने दरवाज़ा खोला तो मैं हैरान रह गया.

बस दो मिनट में वाणी बोली- मेरे बारे में भी सोचो … इस कुतिया को तो ऐसे ही मज़ा आता है इसलिये ये हमारे मर्दों को उकसाती है और हर बार मैं ही सूखी रह जाती हूँ. हालाकि सब लहंगे के ऊपर से हो रहा था, पर अब बिल्कुल होश मेरा गुम होने लगा और मेरा पूरा ध्यान अब वहां द्वारपूजा से हटकर निहाल की हरकत पर नजर और ध्यान हो गया. मैंने कहा- दीदी क्या मैं आपकी चुत चूस लूँ?दीदी ने कहा- हां क्यों नहीं … लेकिन तू उसे चुत मत बोल, मुझे अच्छा नहीं लगता … तू उसे बिल्ली बोला कर.

उसने गाड़ी को अपने घर के दरवाजे के सामने रोका और मैं उतर कर अपने घर जाने लगी. भाभी बोली- बस करो जीतू … मार ही डालोगे तुम तो आज मुझे … आज तक तुम्हारे भाई ने भी मुझे इतना मज़ा नहीं दिया. मुझे दबाने में बहुत मजा आ रहा था। फिर मैंने धीरे से उसके गाउन के बटन खोल दिए और ब्रा के ऊपर से ही बूब्स दबाने लगा। फिर ब्रा (जो कि रेड कलर की थी) को ऊपर करके बूब्स को बाहर निकाला और दबाने लगा। उसके निप्पल को धीरे से घुमाने लगा। फिर एक को मुँह में ले कर चूसने लगा और दूसरे को हाथ से छेड़ने लगा.

तुम्हारा बदन कितना प्यारा है!” यह कहकर मैं उसके मम्मे चूसने लगा और बीच-बीच में उसके निप्पल को दांतों से काट रहा था. मैंने इलास्टिक वाला निक्कर पहना था, वाणी ने निक्कर को पकड़ कर खींच कर उतार दिया.

इसके बाद अगले भाग में अपनी आपा सारा की जबरदस्त सील तोड़ चुदाई का किस्सा सुनाने वाला हूँ.

उसके झुकते ही उसकी गांड गाउन के अन्दर से दिल के शेप की तरह दिखने लगी.

हम दोनों लोग की ये बात चलती रही और हम दोनों लोग एक दूसरे के करीब आते गए. मैं- तकलीफ कैसी, वो बच्चे पार्टी एन्जॉय कर रहे थे, तो मैं उनका मजा किरकिरा करना नहीं चाहता था और चलो इसी बहाने आपसे मुलाकात भी हो गई, वरना तो अक्सर फोन पर ही बात होती थी, अच्छा मैं चलता हूँ. प्रमिला की चुत का रस मेरे लंड से होता हुआ मेरी गोटियों और गांड पर भी आ गया.

आंटी ने मेरी तरफ शरारत भरी नजर से देखा और वहाँ से चलकर सीधी सामने वाले गन्ने के खेत में जा घुसी. उन्होंने अपनी चूत को मेरे लंड के ऊपर कुछ बार रगड़ा, जिससे मैं पागल हो गया और फिर माँ से अपने लंड को उनकी चुत में डालने की भीख माँगी।मम्मी मुझ पर हंसी और फिर मेरे लण्ड को सीधे हाथ से पकड़ कर धीरे-धीरे बैठने लगी जब तक उनकी चूत ने मेरे लण्ड को गहराई तक नहीं निगल लिया। मम्मी धीरे-धीरे ऊपर-नीचे हो रही थी। मम्मी के 36″ आकार के स्तन उनके साथ ऊपर-नीचे हो रहे थे. तभी वाणी भी आ गयी और बोली- अरे इतनी देर से आये क्या … अभी तक काफ़ी भी नहीं पी?हम दोनों मुस्करा दिये और बोले- समय नहीं मिला बनाने का.

मैंने पीछे हाथ ले जाकर उसकी ब्रा का हुक खोल दिया और बिना ब्लाउज़ उतारे उसकी ब्रा निकाल दी.

ऑफिस जाना शुरू हो गया था, शुरूआत की कुछ दिक्कतों के बाद सब स्थिर हो गया और काम में भी मन लगने लगा. जैसे ही फराज अंकल ने रवि से मेरी गांड मारने की बात कही, तो रवि बोले- अरे राज भाई बिल्कुल. उन्होंने अपना ओवरकोट, स्वेटर, साड़ी उतारी तो देखा कि उनके हाथ और कंधों पर हल्की चोट लगी थी.

कुत्ता भी उसके पेशाब को सूंघते हुए उसके पास आ पहुंचा और उसके चूतड़ों को सूंघते हुए कुतिया की योनि चाटने लगा. फिर अपना एक तरफ से आधा शरीर नंगा करके एक तरफ के चूतड़ और मम्मे दिखाने लगी, फिर जल्दी जल्दी पूरे बेड पर उलटने पलटने लगी. बिल्कुल नाजुक मुलायम चूत थी दोस्तो!भाभी पूरी तरह से गर्म हो गयी थीं और पूरे कमरे में उनकी सिसकारियां गूंज रही थीं- ओहफ़फ़ आहहह उम्म्ह… अहह… हय… याह… और तेज़ अन्दर तक उफ्फ्फ.

मुझे अभी भी लगता है कि वो भी मेरे साथ किये गए सेक्स के बारे में रोज़ सोचती होगी। अभी भी जब वो मायके वापस आती है तो मैं उसे चोदने की कोशिश में लगा रहता हूँ पर अभी तक सही मौका नहीं बन पाया है।मैं पूरी कोशिश में हूँ कि जैसे ही निहारिका दीदी के साथ चुदाई का सीन बनेगा मैं आप सबको जरूर बताऊंगा.

मेरे पड़ोस में एक लड़का रहता है, जो किराये पर कमरा लेकर रहता है और पढ़ता है. मैंने अपना मोबाइल वहीं बाहर छोड़ दिया था, मुझे पता था कि भाभी इसे उठा कर जरूर देखेंगी.

बीएफ फिल्म चुदाई वाली वीडियो उसने पीछे से मेरे कूल्हों को पकड़ लिया और अपनी चूत में खुद ही मेरे लंड को अंदर की तरफ धकेलने लगी. फिर कुछ ही देर में उसने मेरे लंड को चड्डी से बाहर निकाल कर उसे अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

बीएफ फिल्म चुदाई वाली वीडियो अचानक से उसने मेरी पैंट को खोला और मेरे अंडरवियर में से मेरा लंड निकाल कर अपने हाथ से हिलाने लगी। फिर अचानक से उसने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया। उसकी छुअन बहुत ही सुंदर प्रतीत हुई और मुझे अपार आनंद देने लगी। उसने मेरे लंड को मुंह में लेकर वहीं पर चूसना शुरू कर दिया. फिर मेरी चूत पर अपने लंड का सुपाड़ा रखकर धीरे से दबाया। जैसे ही लंड चूत की झिल्ली के पास पहुँचा, सर ने थोड़ा ज़ोर से धक्का लगाया और मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए, इससे मेरी चीख़ की आवाज़ दब गई और लंड झिल्ली फाड़ते हुए अंदर घुस गया।मैं दर्द से छटपटा रही थी और उनको अपने ऊपर से हटाने की कोशिश कर रही थी। फिर सर थोड़ी देर रुके और मेरी चूचियाँ चूसने लगे.

मुझे देख कर उसने एक गाना गाया- आईए मेहरबां, बैठिए जानेजां … शौक से लीजिये जी इश्क के इम्तिहान!हम दोनों बांहों में बांहें डाल कर थोड़ा रोमांटिक डांस करने लगे, होंठों से होंठ, एक हाथ कमर को छूते हुए उसके चूतड़ को मसल रहा था.

एक्स एक्स एक्स हॉट सेक्स बीएफ

दोनों को ही एक दूसरे की चाहत बड़े लंबे समय से थी जो अब जाकर पूरी हुई. उसका सर कुर्सी में टकरा जा रहा था, तब भी पर वह मुझे पकड़े हुए मेरी चूत को चाटे जा रहा था. उन्होंने मेरे खड़े लंड को अपने हाथ में पकड़ा और अपनी चूत पर सेट करके नीचे की तरफ बैठ गई, भाभी के बैठते ही पूरा लंड चूत में घुस गया, भाभी मेरे लंड की सवारी करने लगी और फटाफट अपने चूतड़ों को ऊपर उछाल-उछाल कर लंड को अंदर-बाहर करने लगी.

इतने में ही नीचे से कब उसका हाथ मेरी लोअर पर जाकर मेरे लंड को टटोलने लगा मुझे इसकी खबर भी नहीं लगी. मैंने जोर लगाया, तो वो और जोर से सिसकने लगी ‘ओहहह हहह आआआ आहहहह आमिर जजज. इसके बाद जो प्रीति ने किया, मेरे तो रोंगटे खड़े हो गये जब प्रीति ने उस डिल्डो में वाईब्रेशन शुरू कर दिया.

दस मिनट तक ये स्टाइल ही चली, मैं चाटते चाटते नीचे से अपने लंड को भी देख रहा था.

जब पापा मेरी मम्मी की चूत चाट रहे थे तो मम्मी के मुंह से अजीब सी आवाजें आ रही थी और मम्मी अपना सिर इधर उधर मार रही थी. मैंने दरवाजा अंदर से बंद किया और अपने पूरे कपड़े खोलकर उसकी ब्रा और पैंटी से मूठ मारने लगा और थोड़े देर में अपना सारा लंड का माल उसकी पैंटी पर ही निकल दिया. आंटी … आंटी!” वह सकपकाते हुए बोला और मेरे हाथ को हटाने की कोशिश की, लेकिन मैंने उसके होंठों से होंठ सटा दिये और उसके शब्द गले में ही घुट कर रह गये।वह एकदम अनाड़ी था, कच्ची कली.

जैसे ही मेरा दर्द खत्म हुआ कि सामने से सुनील बोला- वन्द्या तू बहुत मस्त चुदवाती है, तेरी चुदाई देख कर हमसे रहा नहीं जा रहा है. अब मैंने उसकी पैंट को गांड के नीचे कर लिया और उसकी गांड को किस करने और चाटने लगा. भाभी ने मेरे लंड को जोर से दबाते हुए कहा- आज मैं तुम्हारे बिना नहीं रह सकती हूँ, मेरे पति मुझको सेक्स का मजा नहीं दे पाते हैं.

मैंने कहा- मैं तुम्हारे साथ सेक्स के लिए तैयार हूं, पर मेरे साथ कभी भी गुस्सा मत होना. वो भी पूरे आठ इंच के लंड को पूरा अन्दर बाहर करने लगी और मुँह से तेज़ आवाजें निकालने लगी- यस ऊऊ यस यस यस … ऊऊऊऊओह अह्ह्ह्ह … फक हार्ड … सो बिग कॉक बेबी … फ़क डीप … याआआअह्ह यू फक सो गुड बेबी …एकता भी चिल्लाने लगी थी- आह … सक माय पुस्सी बेबी … यू सक गुड बेबी … ऊऊऊ … औह … माय पूस्सी याआआ याआआ याआआ … यस यस!उसकी गरम आवाजें निकल रही थीं.

जब मैं उससे बहुत बार चुद चुकी तो मेरा सारा डर जाता रहा ही कि वो मुझ से कुछ कह सकेगा मेरी पिछली चुदाई को लेकर, क्योंकि उसे यही लग रहा था कि मैं उसी से चुदी हूँ. कल्पना लंड बाहर करने की पूरी कोशिश करने लगीं, पर मैंने उन्हें अपनी बांहों में कस लिया और उनके होंठों पे अपने होंठ रख दिए. दोनों ने इस मस्त चुदाई के बाद कुछ देर आराम किया और कुछ देर तक एक दूसरे से चिपक करके यूं ही लेटे रहे.

मैंने भी पूछ लिया कि किसका देखा है?सोनू ने बताया कि उसके पापा रात को 10.

उनके बाल रेशम की तरह काले थे और उनका चेहरा बहुत ही गोरा, सोने की तरह चमकदार और उनका पूरा बदन भी वैसा ही था. मैंने उसके टॉप के अंदर से उसकी ब्रा को ऊपर करके उसके मम्मों को हाथों से सहलाना शुरू किया. फिर मैंने उसके पिंक निप्पल को भी मुँह में भर लिया तो प्रिया तो आनन्द से चिल्ला उठी- उउउईई … उउईई … मर गई!मैं रुका ही नहीं.

बाद में वो मेरे पापा से बोला- क्या हुआ … मज़ा आया ना?पापा बोले- हां. फिर उसने पल्लू पूरा नीचे गिरा दिया और बाल आगे कर अपने एक मम्मे को छुपा लिया.

मैं बोला- इंटरनेट का जमाना है, किसका क्या भरोसा, कौन कैसा एकाउंट बना के पागल बना रहा हो. करीब दस मिनट लंड चूसने के बाद वो खड़ी हो गयी और टांग उठा कर मेरे लंड को अपनी चूत में डालने की कोशिश करने लगी. मैं अवी हाजिर हूँ अपनी रीयल लाइफ स्टोरीमेरा पहला सेक्स कुंवारी लड़की के साथका अगला भाग लेकर.

बीएफ सेक्सी सनी लियोन के

इस सबमें लगभग 20 मिनट तक मुझे चुदाई के पहले की धुआंधार गर्म करने के खेल में मेरा पानी छूट गया.

उसने मेरे लंड को अपने हाथ में ले लिया और एक बार सहला कर फिर मेरे लंड को अपने मुंह में डाल लिया. मैंने भी पानी से उसकी चूत को साफ़ किया और बड़े से बाथटब में उसको लिटा कर उसकी चूत को चाटना चालू कर दिया. मैंने धीरे से अपना हाथ उसकी हथेली पर रख दिया, मेरे मुंह से निकल पड़ा- ठीक है, हम दोस्त हैं अमित जी.

मैंने धीरे-धीरे अपनी एक उंगली उसमें डाली और अंगूठे से सोनू की चूत का क्लिटोरिस रगड़ने लगा. मैंने उन्हें किस किया, खूब चूसा … उनके मस्त होंठों को और मम्मों को मैक्सी के ऊपर से दबाने लगा. देवता बीएफउसके बाद वह अपने पुराने बॉयफ्रेंड के बारे में कुछ और बातें बताने लगी और बातें करते-करते उदास हो गई.

उसने ये भी बताया कि उसको भी सेक्स करना बहुत पसंद है, लेकिन उसकी गर्लफ्रेंड गांव में रहती थी, इसलिए वो अपनी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स नहीं कर पाता था. गोरे, चिकने मस्त मम्मे … जिन्हें मैंने उनकी बेसुधी में बहुत बार देखा था.

आह कितने सॉफ्ट मम्मे थे, क्या बताऊँ यारो … मुझे तो बस यूं समझो, मजा ही आ गया. पटेल मुझे बोला- चल तू भी हम लोगों के साथ भाग … आगे चल के कहीं तुझे चोदेंगे … तेरा भी काम हो जाएगा. मेरी चूत से पानी निकल रहा था और वो मेरी पेंटी को चाटने के बाद मेरी चूत को चाटने लगा.

प्रमिला का पानी फिर से निकलने लगा, जो उसकी गांड और मेरे लंड को चिकनाई दे रहा था. दीदी ने कहा- झूठ मत बोलो, तुम उस कैंटीन में जाते हो ना??मैंने कहा- हां दीदी. उसने मेरी पसंद के ब्लू कलर की कुरती और वाइट कलर की सलवार पहन रखी थी.

मैं इतनी ज़ोरों से धक्का लगा रहा था कि संध्या के दूध गोल-गोल झूलने लगे थे.

उनमें से एक आंटी थोड़ी मोटी थीं, पर उनका फिगर बड़ा कमाल का लगता था. अब तक हम दोनों बहुत गर्म हो चुके थे और एक दूसरे को चूमने और चूसने में लग गए थे.

वह बोले- अरे मेरी जगह आकर बैठ कर देख लेना, किस तरह से चल रहा था उनका प्रोग्राम. उसने मेरे लंड को खड़ा होने के बाद अपने हाथों में भरने की कोशिश की मगर पैंट बीच में आ रही थी. लंड का सुपारा बाहर निकाल कर उसने मेरी बीवी की गांड के छेद पर लगाकर अन्दर डालना शुरू कर दिया.

”उसकी बात सुन मैं उसकी तरफ घुमा और उसके चेहरे को देखा तो वो अब शांत थी और शायद अपनी बात पर शर्मिंदा भी थी- इट्स ओके … पर हुआ क्या जो इतना गुस्सा आया है तुम्हें?ऐसा कुछ नहीं है … बस मेरा एक बॉयफ्रेंड है जो आज मेरे साथ मूवी देखने आने वाला था … पर देखो ना अब तक नहीं आया … जबकि उसने मुझे कहा था कि तुम थिएटर के अन्दर चलो, मैं दस मिनट तक आ जाऊँगा और अब उसका फ़ोन भी बंद आ रहा है. बनाने वाला भी अपने खिलौनों से किस तरह का खेल खेलता है, ये किसी को आज तक न समझ आया है और न ही आएगा. मैंने बेड में देखा तो मेरी चुत का और गांड का बहुत सारा खून निकला पड़ा था.

बीएफ फिल्म चुदाई वाली वीडियो उनके मोटे लम्बे लंड को देख देख मेरी तो सलवार में मानो आग सी लगने लगी हो. मैं अकेला रहता था, सो मैंने एक मस्त चुदाई की वीडियो देख कर मुठ मारी.

हिंदी बीएफ वीडियो सेक्सी वीडियो

इन सब सेक्सी बातों से माहौल गर्म होने लगा और दूसरी बियर आधी खत्म होते तक तो दोनों पूरे रंग में आ गईं और एक दूसरे का गाउन खींच खींच कर उतार दिया. उसने कहा- प्लीज़ अंदर डाल दो… अब बर्दाश्त नही हो रहा है…लड़की को गर्म करके सेक्स करने में जो मज़ा है वो सीधे लिंग को चूत मे डाल कर करने में नहीं है, फिर मैंने सारिका के पैरों को ओर फैलाया व उसकी कमर के नीचे तकिया लगाया. वो सबका आकर्षण का केंद्र मेरे बदन के पीछे नाजुक पैरों के ऊपर और पतली कमर से नीचे है.

मिसेज पाटिल बोलीं- मिसेज रॉय को क्यों तड़पा रहे हो … बेचारी तुम पे कितना दिल रखती हैं?मैंने कहा- हां वो तो पता है, लेकिन इन दोनो ने मना किया हुआ है कि वो मुझे एक बार के बाद आने नहीं देगी, इसलिए नहीं जाता हूँ. हमारे रूम के ठीक राईट साइड में एक घर था, जिसमें अंकल, आंटी और उनके 2 बच्चे रहते थे. कुत्ता बीएफ कुत्ता बीएफफिर उसने धीरे धीरे ऋतु को चोदना शुरू किया और बाद में अपनी स्पीड बढ़ा दी.

आकर स्नान किया और लन्ड के पास के सभी बालों को साफ किया और अपने जीवन की पहली चुदाई के लिए माँ के घर लौटने का बेसब्री से इंतज़ार करने लगा.

उसने मेरी चूत को बहुत देर तक चाटा और उसके बाद मेरी चूत ने उसके चेहरे पर अपना पानी छोड़ दिया. वे सुजाता को नंगी देख कर बोलने लगे- आज मुझे भी तुम्हारी चुदाई करना है, तुम जो बोलगी, वो लाकर दूँगा.

मैंने नीरू से कहा- बहन एक बार मुंह में तो लेकर देख ले कैसा लगता है लंड का स्वाद!वह मना करने लगी, बोली- नहीं, मुझे मुंह में नहीं लेना है. मुझे इसका कारण पता नहीं चल पा रहा था। मैंने कई दिन एक मेडीकल स्टोर से दवा भी खाई लेकिन कुछ आराम नहीं मिला। फिर मेरे छोटे भाई ने मुझे न्यूरो सर्जन के पास ले जाने के लिए कहा. मेरे लंड ने उसके गर्म मुंह में फिर से अपना वीर्य छोड़ना शुरू कर दिया.

तो दोनों एक दूसरे को देख कर हंसने लगीं और बोलीं- नहीं ऐसी कोई बात नहीं है.

मैं कुछ कहता, उससे पहले ही वो मेरे ऊपर कूद पड़ी और पागलों की तरह मुझे चूमने लगी. निहाल नया लड़का था, तो उसका लौड़ा बहुत बड़ा और कड़क महसूस हो रहा था. शीशी को एक तरफ फेंक कर मैंने तीसरी बार पूरा जोर का झटका मारा तो लंड उसकी चूत में घुस गया.

सेक्सी और बीएफ हिंदी मेंअब वाणी बोली- मैं तो तैयार हूँ, तू तैयार है क्या?गीता भी बोली- हां, मैं भी तैयार हूँ. इस वक्त भी मुझे इतना जम के गर्मी और करवाने घुसवाने का मन हो रहा था कि जल्दी से बस कोई लंड डाल दे और रगड़ कर चुदाई करे.

सेक्सी बीएफ व्हिडीओ दिखाइए

मैंने उसके मुँह पर अपने होंठों का ढक्कन लगाया और जोर से लंड को पेला. मैंने आँख मारी और कहा- ओ हैलो … किधर नजर है?वो सकपका गया और झेंप कर बोला- आप बहुत सेक्सी लग रही हो. उसने मेरे लहंगा को ऊपर किया और अपनी पेंट की जिप खोल कर मेरे ऊपर हल्का सा चिपक गया.

मैं कुछ देर तक आराम से अपनी उंगली को शिल्पा की मखमली गांड के छेद में अन्दर बाहर करता रहा. मैं अगले दिन अपनी बीवी को साथ लेकर उस ऑफिस में आ गया और वहां मैं मैनेजर से मिला. वह बोला- तो फिर ये भी बता दीजिये क्या अच्छा लगा आपको मेरे अंदर?मैंने कहा- आपके बात करने का अंदाज मुझे बहुत पसंद आया.

एकता ने अन्नू और डोली को बताया कि कैसे लंड बूब्स और चुत पर … आजकल नथ पहनने का फैशन चल रहा है. अपना ही बच्चा है, उसका जब तक दिल चाहे, वो मेरे घर रह सकता है और आपको उनसे बात करने की जरूरत नहीं है. जब भी कभी मैं मेरे भाई-भाभी को साथ में हंसते हुए देखती हूँ … तो मुझे भी किसी की ज़रूरत महसूस होती है.

मेरे लहंगा चोली का जो दुपट्टा था, उसे भी सर में जल्दी से डाल लिया और सीधी हो गई थी. इस बार वो चिंहुक गईं, पर इस बार उन्होंने मुझे रोका नहीं, उन्होंने दर्द को बर्दाश्त कर लिया.

तो यह थी मेरी सहेली की चोदन स्टोरी!ओके बायआपकी अपनी प्यारी प्रिया चौहान[emailprotected].

इस दौरान भाभी को पता भी नहीं चला कि मैंने कब उनका पेटीकोट उतार दिया. एचडी में बीएफ मूवीअब मेरी चूत बिल्कुल ऊपर उठ गई थी। मेरी चूत बिल्कुल छत की सीध में आ गई थी. हिंदी में ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी मेंपर वो नहीं मानी और बोलीं- मैंने कभी किया ही नहीं और मुझे अच्छा नहीं लगता. उसने मुझे टॉवेल दिया और चली गयी फिर मैं भी उसके नाम की मुठ मार के बाहर आ गया और ऐसे बर्ताव किया मानो कुछ हुआ ही नहीं.

मैंने भाभी से कहा- भाभी, आपको भैया अच्छी तरह से नहीं चोदते क्या?तो भाभी कहने लगी- उनकी तो आप बात ही छोड़ो, अब हमारे अंदर यह संबंध रहा ही नहीं है, शादी के 7 साल हो चुके हैं, और कहावत है कि 7 साल के बाद आदमी का औरत से मन भर जाता है परन्तु तुम्हारे भैया का तो 3 साल में ही भर गया था, आज बहुत दिनों बाद तुम मेरी चूत की आग को शांत करोगे.

वो भी अपनी चूत की फांकों में लंड के सुपारे की गर्माहट का मजा लेने लगी. पीछे बैठे होंगे” पीऊन ने कहा।मैंने अंदर जाकर देखा तो दोनों ऑफिस में पीछे सोफे पर साथ-साथ बैठे कुछ पढ़ रहे थे. इस तरह से उसे पूरी तरह से समझा बुझा कर मैं आरती के पास आ गई और उससे बोली- आज चूत की पूरी सफाई करके जाना उसके पास … वो चूत को चूसने का बहुत बड़ा शौकीन है.

रात को दीदी की बातों के बारे में मैंने शिखा से बात की तो पता चला कि भैया जयपुर की किसी फैक्ट्री में काम करते हैं. उसने पूछा- क्या बात है?मैं उसको जवाब देने ही वाला था तभी अंदर से वह दीदी आ गई जिससे पहले दिन मेरी बात हुई थी. मैंने उससे पूछा कि उसको मेरी सर्विस कहां पर चाहिए तो उसने बताया कि वह दिल्ली में ही मिलना चाहती है.

बीएफ सेक्सी लड़की वाली

क्या मैं जान सकता हूँ कि आप क्या करती हो?वो बोली- मैं अपने ऑफिस में काम करती हूँ. मैं तो पहले ही चाहता था, अतः यही सोचकर कि कहीं लता को बुरा न लगे, मैं हेमा के साथ पहल नहीं कर रहा था. उसी दिन मैंने जाल बिछाया और उसको उठा कर चाय आदि देने के बाद बाथरूम में चली गई उधर उसके खड़े लंड के नाम से अपनी फुद्दी में उंगली की और हस्तमैथुन करके नहायी.

शारदा ने कहा- आज से आप ही मेरी गांड के मालिक हो और मेरी चूत के दूसरे हक़दार भी.

मैं अपने कपड़े उतार कर अन्दर नहाने चला गया और अभी मैंने शॉवर चालू ही किया था कि गीता मेरे पीछे आ कर मुझसे चिपक गयी.

फिर उन्होंने कहा- आज तुमको हमारे घर आना है शाम को सात बजे और खाना ख़ाकर मत आना. रात का वक्त था और समय भी काफी हो गया था। उसके बाद हम दोनों फिर एक बार ज़बरदस्त तरीके से किस करने लगे. नेपाली बीएफ सेक्सी हिंदी मेंलंडखोरी चूतों को मस्त लंड मिल रहे थे इसलिए सब खुश थे और लंड भी कभी इस चूत में तो कभी उस चूत में लंड डाल डाल कर मज़े कर रहे थे.

करीब 5 मिनट बाद दोनों का जब पानी निकल गया, तो वो दोनों उठ गईं और मेरे आगे पीछे चिपक गईं. पर मुझे उस समय उन बातों से कुछ लेना देना नहीं रहा और मैं भूल भी गई. कल्पना- आप कब फ्री हो?मैं- आप जब बोलेंगी, तब मैं मैनेज कर लूंगा, बस आप ये बताइए कि आपको कब और कहां मिलना है और कितने टाइम के लिए?कल्पना- आप परसों दोपहर में मिल सकते हैं?मैं- दोपहर में कब और कहां?कल्पना- दोपहर में 3 बजे तक.

मैंने कोमल के सामने बात तो छेड़ दी थी मगर फिर वह भी मेरे पीछे ही पड़ गई थी क्योंकि हम दोनों में बहुत अच्छी बनती थी. उसके इस तरह से लंड घिसने से मुझे बड़ी कामुकता और व्याकुलता का अहसास हुआ जा रहा था.

रात में हॉस्पिटल हमारे यहाँ से 13-14 किलोमीटर था। सोनू जो अभी मात्र ढाई साल का था, आगे बैठा होने से मैं बाइक धीरे-धीरे चला रहा था। अचानक स्पीडब्रेकर आने से मुझे ब्रेक लगाने पड़े और रेखा जो कि मेरे पीछे बैठकर आगे सोनू को पकड़े हुए थी.

जब लंड पूरी तरह खड़ा हो गया तो मुझे लिटा कर वो मेरे ऊपर चढ़ गईं और अपनी चूत मेरे लंड पर रख कर उछलने लगीं. अब मैंने पक्का ठान लिया था कि अब मैं खुद को काबू में रखूंगी, चाहे कुछ भी हो, मेरी खुद की चूत मेरा नहीं मानेगी, तो चाकू से काट के कुत्तों को डाल दूंगी. पुनीत मेरी गांड से बहुत जोर से चिपक गया और हांफते हांफते गांड में अपने लंड से धक्के भी मारते जा रहा था.

सनी लियोन इन बीएफ मैं उसको बस देखे जा रहा था जैसे उसको आँखों ही आँखों में सब कुछ समझाने की कोशिश कर रहा था. मेरा लंड उत्तेजना के कारण ऊपर नीचे हो रहा था।फिर मैंने उसका हाथ पकड़ कर लंड पर रख दिया और धीरे से आगे पीछे करने लगा और लंड अपनी फुल साइज़ में खड़ा था और दर्द कर रहा था.

जब एक बार यह तय कर लिया कि उन दोनों को छूट देनी ही है तो फिर मन से सब नैतिक अनैतिक निकाल दिया। कभी शादी से पहले यह सब वीणा ने भी किया ही था और मेरी बेटी भी इंग्लैंड में रह रही है तो क्या करती न होगी। यह सब जवानी की सहज स्वाभाविक प्रतिक्रियायें हैं जिनका आनंद सभी ले रहे हैं। मैं नहीं ले पाया तो यह मेरी कमी थी. मुझसे भी अब रहा नहीं गया तो मैंने व उसकी पीठ पर हाथ रख दिया और धीरे धीरे सहलाने लगा. मैंने महसूस किया कि ऐसे डर के साथ चुदाई करने में जल्द पानी नहीं निकलता.

दो लड़कों का बीएफ

अब डेविड ने कहा- मैं इसके पूरे मजे लेना चाहता हूँ … मुझे 2 घंटे के लिए पूरी तरह ये अकेली चाहिए. उसे अपनी बुर चिरती सी महसूस हो रही थी जोकि उसकी फैलती आँखों से समझ आ रहा था. थोड़े से उन्माद में मैं भी भर चली थी पर लज्जा के मारे हल्का सा विरोध कर रही थी- आप क्या कर रहे हैं अमित जी … हम सिर्फ़ दोस्त बने हैं.

मेरा मन करता था कि झपट कर उसकी गांड पकड़ कर को चूम लूँ और चूतड़ों पर एक दो जोर से थप्पड़ मार दूँ. सारा तड़फ कर बोली- आज क्या हो गया है तुम्हें? मार ही डालने का इरादा कर रखा है क्या?मैंने धीरे-धीरे शॉट लगाने शुरू किए.

दिन रात बस रोती रहती थी कि या अल्लाह ऐसी कौन सी खता हुई मुझसे कि तूने मुझसे सब कुछ छीन लिया.

आंटी भी गरमा गई, वो मादक सिस्कारियां भरने लगी- आआह … इस्स … ऊउह … ओह … और जोर से दबा दे. लेकिन मुझे कन्नड़ नहीं आती थी और वो दोनों कन्नड़ में बातें करने में लगी थीं. साथ ही आप सभी का धन्यवाद करता हूँ कि आपने मेरी कहानीनागपुर के मॉल में मिली मैडम की चुदाईको पढ़कर मुझे बहुत प्यार दिया.

मेरी गांड की सुराख में धीरे से उंगली डालते ही मुझे बहुत अजीब सा महसूस होने लगा और मैं अपनी कमर उछालने लगी. मैंने कहा- मगर बताओ तो सही क्या है ये?उसने कहा- तुमको मुझ पर भरोसा नहीं है क्या?उसकी ये बात सुनकर मैंने उसके बाद उससे कोई सवाल नहीं किया और चुपचाप उसके हाथ से गोली लेकर खा ली. पहले मैं आप सभी को बता दूँ कि हमारा घर के पुनर्निर्माण का काम चल रहा था, तो हम लोग किराए से एक घर में रहते थे.

अगले तीन दिनों तक आरती हमारे यहाँ रही और इन तीनों दिन ही आरती को अशोक ने दबा दबा कर चोदा.

बीएफ फिल्म चुदाई वाली वीडियो: थोड़ी ही देर में हमारे बीच में पिछली बार की मस्त चुदाई को लेकर बात होने लगी. मुझे उस लड़के से चुद कर ऐसा लगा कि जिंदगी का मजा तो सेक्स में ही है.

उसके झुकते ही उसकी गांड गाउन के अन्दर से दिल के शेप की तरह दिखने लगी. मैंने भी एक जोरदार झटके के साथ अपना लंड आंटी की चुत की गहराइयों में उतार दिया और उनके ऊपर लेट गया. कुछ देर तक मैंने अपने लंड की हरकत रोक दी और लंड को चूत में डाल कर भाभी के ऊपर लेट गया और भाभी को प्यार करने लगा.

हम दोनों ने सेक्स करते हुए अपनी पोजीशन को बदल दिया और अब मैं अपने बॉयफ्रेंड के ऊपर आ गयी.

मैं थोड़ा नीचे खिसका और उसकी जांघों के बीच आकर उसकी चूत को चाटने लगा. आह्ह … ओह … उम्म … करके वह अपने लंड को चुसवा रहा था और मैं मजे के साथ उसके लंड को चूस कर पंकज को मजा दे रही थी और साथ में खुद भी उसके लंड का मजा ले रही थी. मुँह से निकलती सलोनी की मादक सीत्कारों की आवाज़ ट्रेन की आवाज़ में खो सी जाती थी.