हिंदी बीएफ डाउनलोडिंग एचडी

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ सनी लियोन की चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी हद क्सक्सक्स: हिंदी बीएफ डाउनलोडिंग एचडी, रचना भाभी ने मुझसे पूछा- तुम पहले क्या खाओगे?मैंने कहा- दही भल्ले मेरा पसंदीदा हैं, मैं दही भल्ले पहले खाऊंगा.

सनी लियोन ट्रिपल एक्स बीएफ

फिर उसने मेरी पैंट का हुक खोला और उसको खोल कर नीचे खींचते हुए उतारने लगी. बिहारी ब्लू पिक्चर बीएफवो मदहोश हो चुकी थी।एक तरफ मैं उसकी चूत को चाटने लगा और दूसरी तरफ हाथों से चूचियों को भी दबा रहा था।फिर मैंने कहा- मैं तुम्हें चोदने जा रहा हूं.

लाल नाइट ड्रेस में करोना को देख कर चिन्ना की आँखों में एक अजीब से चमक आ गई और उसका मुँह खुला का खुला रह गया. भोजपुरी बीएफ एक्सथोड़ी देर आराम करने के बाद में जैसे ही पानी पीने के लिए उठा तो मुझे बहू के रूम से कुछ आवाज आयी.

उनको चुत में उंगली करते देख कर मैं समझ गया था कि मौसी को एक अच्छे और मोटे लंड की जरूरत है.हिंदी बीएफ डाउनलोडिंग एचडी: मैंने अनजान बनते हुए कहा- ‘वो’ मतलब कुछ समझ में नहीं आया?सिम्मी ने उत्तर दिया- ज्यादा नासमझ मत बनो.

दूसरे आदमी ने उससे पूछा- क्या हुआ?तो उस टीटीई ने अपनी जेब से दारू की बोटल निकाल कर उसे दिखाई और बोला- ये मैडम कुछ भी करने को तैयार हैं.रात को खाना खाने के बाद हम बेडरूम में आ गये, लेटते ही मैंने अपना हाथ मम्मी की चूचियों पर फेरना शुरू किया तो मम्मी ने मेरा हाथ पकड़कर चूचियों से हटा दिया और अपने पेट पर रखते हुए बोलीं- सोनू, तुम्हारा छोटा सोनू मेरे पेट में पल रहा है.

बीएफ बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ - हिंदी बीएफ डाउनलोडिंग एचडी

दोस्तो, बस इसी के साथ मैं प्रियल राज आप लोगों को धन्यवाद देते हुए आपसे विदा लेती हूं.मैंने नसरीन के दोनों पैरों को और फैलाया और लंड का सुपारा गीली हो चुकी दरार पर रख ऊपर नीचे रगड़ने लगा.

विशु अभी भी एकदम बुलेट ट्रेन की रफ्तार से मेरी मां की चुदाई कर रहा था. हिंदी बीएफ डाउनलोडिंग एचडी बाकी तुम ज़ब बोलोगी, जो बोलोगी सब करूंगा।वो बोली- मैं भी शादी से परेशान हूँ.

चाची भी मुझ से खुश रहती थीं और जब भी उन्हें कोई काम होता था तो मुझे ही बुला लेती थीं.

हिंदी बीएफ डाउनलोडिंग एचडी?

दीदी की टी-शर्ट हटते ही मेरे सामने उनकी काले रंग की ब्रा दिखने लगी, जिसमें से मेरी दीदी के टाईट मम्मे फंसे हुए बड़े कामुक लग रहे थे. आप लोगों को तो पता ही होगा कि गांव की लड़कियां शहर के लौंडों को बहुत पसंद करती हैं. उसके कहते ही मैंने अपने लंड को एक झटके के साथ उसकी गीली चिकनी चूत में अंदर घुसा दिया.

डिस्चार्ज के समय जब लण्ड का सुपारा फूलकर मोटा हो गया और बहुत फंसकर अन्दर बाहर हो रहा था तो हनी को एक बार फिर से कष्ट हुआ और बोली- बस करो फूफा जी, अब बस करो. वो मेरी मां के ऊपर झुके हुए थे और अपने चूतड़ों को जोर जोर से मां की चूत की ओर धकेल कर उनकी चुदाई कर रहे थे. मैंने कहा- नताशा डार्लिंग … जब तक दर्द न हो, तब तक चुदाई का मजा नहीं आता.

मैंने कहा- बहू, मुझे तुम्हारे कपड़ों से कोई प्रॉब्लम नहीं, जो चाहो वो पहन लो. यह मेरी खुद की कल्पना से लिखी कहानी है कि कैसे मैंने एक तरफा प्यार को पाया।मेरा नाम अंकित है और मैं एक लड़की से स्कूल के समय से काफी प्यार करता था. 20 मिनट की चुदाई में रानी का 2 बार पानी निकल गया था और वो थक गयी थी.

क्या पता यही वह वजह हो कि जो वे देखते हैं, वही मुझ पर प्रयोग करते हैं. मैंने देखा कि कंडोम पूरा वीर्य से भरा हुआ था और मेरा लंड अब भी थोड़ा ऊपर नीचे हिल रहा था.

उसकी चुत इतनी गर्म हो रही थी कि बस किसी भी पल बिस्फोट होने वाला हो.

हमें तेज नींद आ रही थी, लेकिन मेरा एग्जाम 10 बजे से था … मानवी का एग्जाम दो बजे से था.

मैं दो दिन के लिए शहर से बाहर जा रहा हूँ … कोई भी प्रॉब्लम हो, तो सम्भाल लेना. उसकी चूत से लगातार नमकीन टेस्टी पानी निकल रहा था, जिसे मैं चूसते हुए चाट रहा था. मैंने उसके साथ साथ गांड में उंगली करने और करवाने का मजा भी लिया था.

आप जानते ही होंगे जो इंसान आर्मी में काम करता है उसके हाथ कितने बड़े होते हैं. फिर मैंने मैसेज किया कि नहाने के बाद वो अपने रूम में ही रहे और गद्दी बिछाये रखे. एक बार मैं ट्रेन से अपनी सहेली की शादी में गयी तो …हाय फ्रेंड्स, मेरा नाम मंजीत कौर है.

बहू एक ब्रा में खड़ी थी मगर उसके पूरे बूब्स बाहर थे और बूब्स की गोलाई पर स्ट्रेप थे.

चुत पर हाथ लगते ही वो थोड़ी सी चिहुंक उठी थी, शायद मैंने जोश में ज्यादा ही तेज उसकी चुत को मसल दिया था. उन्होंने मेरी मजबूरी समझी और कहा- ठीक है सोनाली।मुझे भी लगा कि वे अच्छे इंसान हैं. उसमें लिखा था- आई एम् सॉरी प्रियल … प्लीज मुझसे बात करो … आई लव यू यार … मैं प्रॉमिस करता हूं कि आज के बाद आपको टच भी नहीं करूंगा … पर प्लीज़ मुझसे बात करो.

ऐसे ही करते करते पूरे 8 लोग उस दिन मेरे ऊपर एक एक करके चढ़ते रहे और मेरी चुत का भोसड़ा बनाते रहे. रचना भाभी ने मुझसे पूछा- तुम पहले क्या खाओगे?मैंने कहा- दही भल्ले मेरा पसंदीदा हैं, मैं दही भल्ले पहले खाऊंगा. जैसे ही जाने को हुई मैंने उसे पकड़ दिया और उसे अपने गले से लगा दिया.

फिर मैंने थोड़ा जानबूझ कर उसकी बुर पर उंगली से इधर उधर दबा कर खोलकर देखा कि कहीं बाल तो नहीं बचा है न.

किचन से निकल कर जब मैं बेडरूम की ओर आया तो मेरा लंड मेरी जांघों के बीच में दायें बायें डोल रहा था. शिल्पा- ठीक है, पर सिर्फ एक ही बार … वो भी इस कारण क्योंकि तुमने किसी के नहीं छुए.

हिंदी बीएफ डाउनलोडिंग एचडी आकांक्षा आंखें बंद किए हुए मादक सिसकियां ले रही थी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आहहह हहह ऊउफ़्फ़ फ़फ़ … कितने दिन बाद अन्दर गया है. कुछ देर बाद विशु खुद बेड पर लेट गया और मां उसकी ओर पीठ करके उसके लंड पर ऊपर नीचे हो रही थी.

हिंदी बीएफ डाउनलोडिंग एचडी मैं सोच रहा था कि दीदी भी मेरे लंड को पकड़ लेगी लेकिन उसने ऐसा कुछ नहीं किया. उसके बाद मैं कॉलेज की पढ़ाई के लिए बाहर चला गया था और अभी साल भर पहले ही लौटा हूं.

मैं चुत चाटते हुए दीदी के मम्मों भी दबाने लगा, जिससे दीदी और भी मदहोश हो रही थीं.

क्सक्सक्स सेक्सी मूवी हिंदी

उसके मुंह से अपने लंड की तारीफ में ये शब्द सुन कर मुझे गर्व सा महसूस हुआ. थोड़ी देर लंड चूसने के बाद मेरे बेटे ने बहू को किस करते हुए उसकी नाइटी निकल दी. मैंने मामी के एक दूध पर काट लिया, तो मामी जोर से चीख पड़ीं- आह बेटा, धीरे से काट … मैंने इन्हें दबा दबा कर तेरे ही लिए बड़े किए हैं.

ये देख कर मैंने फिर से एक ज़ोर का झटका दिया और पूरा लंड चूत में डाल दिया. पुरुष स्पर्श- नारी शरीर किसी भी तरह के स्पर्श के प्रति अत्यधिक संवेदनशील होता है. करोना ने भी तुरंत अपना शर्ट ऊपर कर लिया और अपनी सख्त चूचियों पर हाथ फेरने लगी.

जब मैंने दीदी के कमरे के दरवाजे पर दस्तक दी, तो दीदी ने दरवाजा खोल कर अन्दर आने को कहा.

भाभी के होंठ गुलाबी, गाल फूले हुए, नागिन जैसे लहराते बाल गांड तक अठखेलियां करते थे. उसकी चूत पर छोटे छोटे भूरे बाल थे जिससे मेरी बहन की चूत बहुत सेक्सी दिख रही थी. हनी के होंठ चूसते चूसते मैंने लण्ड का दबाव बढ़ाया तो मेरे लण्ड का सुपारा हनी की चूत के अन्दर हो गया.

रीना बेसुध सी बेड पर अस्त व्यस्त पड़ी हुई है। तभी दो हाथों ने उसकी गीली पैंटी खींच कर नीचे सरका दी. मैंने बहुत मिन्नतें की लाइट बंद करने की या फिर कम करने की लेकिन उन्होंने नहीं सुना. रूम में भाभी उस आदमी की गोदी में चढ़ी हुई थी और वो आदमी भाभी के बूब्स मसल रहा था.

नाश्ता आने के बाद मेरे शौहर ने मुझसे पूछा- कुछ किये तो नहीं तुम्हारे साथ वो लोग?मुझे गुस्सा तो था ही बोल पडी़- नही! बडे़ प्यार से मुझे बैठा कर मुझसे कहा कि बहन बहुत दिन बाद मिली है, मुझसे राखी बंधवाई और मेरी आरती उतारने लगे. वो दर्द से चिल्ला उठी लेकिन मैंने तभी उसके होंठों को अपने होंठों से बंद कर दिया.

अपनी जेब से मैंने फोन निकाला और उसके चेहरे के सामने करते हुए उसको आंखें खोल कर देखने के लिये कहा. आज मेरी सेक्स की प्यास इतनी अधिक बढ़ गयी थी कि मुझसे रुका ही नहीं जा रहा था. मैंने कहा- अगर तुम्हें भी दीदी की तरह मजा लेना है तो इस बारे में किसी को कुछ मत बताना.

तो मैं घुटनों के बल नीचे बैठ गई और वे अपने लंड से मेरे चेहरे पर मुठ मारने लगे और सारा पानी मेरे गोर चेहरे पर गिरा दिया।फिर मैंने एक तौलिये से से अपना चेहरा साफ किया और ऐसे ही उनके पास आके बैठ गई।हम दोनों ऐसे ही बेड पर नंगे लेट गए।थोड़ी देर बाद उनका लंड फिर से खड़ा होने लगा.

अगले दिन रविवार था तो मुझे भी किसी बात की चिंता नहीं थी और उसे भी काम पर जाने की चिंता नहीं थी. वह भी मुझे अपनी बांहों में भरकर बड़ी जोर से मेरे होंठों को चूमने लगी. वो कभी मेरे ऊपर के होंठों को चूस रही थीं … तो कभी नीचे वाले होंठ को काट रही थीं.

मैं उसकी चुत को चाटने लगी और सोचने लगी कि इसका ये छेद मुझे कमाई करवाएगा. सबसे पहले तो उसके मन में डर था कि होटलों में ब्ल्यू फिल्म बन जाती है.

वो भी बराबर मेरा साथ दे रही थी!फिर उसने मुझे थोड़ा रिलैक्स होने को कहा. बहू ने पेंटी पहन रखी थी जिसकी सिर्फ डोरी ही थी जो उसकी गांड में घुसी थी. मैं अपने लंड महाराज को उसकी चुत के द्वार तक ले जाने के लिए उसके दोनों पैरों के बीच में बैठ गया और उसके दोनों पैरों को अपनी कमर पर टिका दिया.

एक्स एक्स एक्स हिंदी वीडियो देहाती

पर मैंने उसे कस कर पकड़ा था और वैसे ही आज बहुत दिनों बाद ये कुंवारी चूत लंड के नीचे आयी थी तो इतनी जल्दी मैं उसे अपनी से कैसे अलग कर सकता था।मैंने थोड़ी देर उसके ऊपर वैसे ही अपने आप को रहने दिया थोड़ी देर उसके होंठों को चूसा उसकी चूचियों को मसलने लगा।वह धीरे से बोली- बाबू, प्लीज बहुत दर्द हो रहा है.

मैं इन्तजार करूंगी तुम्हारा।मैं बोला- ठीक है, मैं रात में आ जाऊंगा. अब उससे भी बरदाश्त ना हुआ तो वो बोली- बस करो। मुझसे अब और ना रहा जा रहा है। अब चोद दो मुझे. मगर मेरी मामी को रात में देर तक टीवी देखने की आदत थी और मेरा बिस्तर टीवी वाले रूम में ही था.

दीदी- ठीक है, मैं तुम्हारी मदद करने के लिए तैयार हूँ लेकिन तुम वादा करो कि इस बार एग्जाम में अच्छे मार्क्स लाओगे. अब करोना भी समझ चुकी थी कि उसका कुंवारापन अब कुछ ही देर का मेहमान है क्योंकि उसे अपनी कुंवारी नाजुक चूत का दुश्मन यानि चिन्ना का खड़ा लण्ड लार टपकता झटके मरता हुआ अपनी आँखों के सामने नजर आ रहा था. हिंदी देहाती हिंदी बीएफमैंने उसे बहुत देर तक किस किया, वो कहने लगी- तुम तो मेरे होंठ ही खा जाओगे.

इससे पहले कुछ देर तक पीछे वाले टीटी ने भी मुझे पीछे से चोदा था … जो अब मेरी गांड से लंड निकाल कर मुझे लंड चुसवाने लगा. मैंने पूछा- कब?कल्पना ने कहा- तुम्हें याद है मैंने तुम्हें कहा था कि मैं तुम्हें कॉल करूंगी.

सिर्फ आपको अपने मन से मजबूत रहने की इच्छाशक्ति की आवश्यकता होती है. फिर मैंने तेल की शीशी उठायी और अपने लंड पर बहुत सारा तेल चुपड़ दिया. मैंने पर्स से कुछ मेकअप का सामान निकाला और अपना नोकिया एन ९७ का मोबाईल निकाला.

तभी बहू ने उसे मुँह में ले लिया और चूसने लगी वो खुद का पानी चाट चाट के साफ़ कर रही थी. अम्मी के मुंह में लंड देने के बाद जल्दी ही मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. और रही दर्द की बात … मैं आपके लिए दुनिया का हर दर्द झेल सकती हूँ।मुझे सिम्मी पर बहुत सारा प्यार आया और मैं उसे फिर से किस करने लगा.

सभी रिश्तेदारों के कहने पर हमने शादी टाली नहीं और सादगी के साथ मेरा विवाह हो गया.

हेल्प कर!उसने कहा- कैसे?तो मैंने कहा- अब तुझे तेरे हाथ से करना पड़ेगा. चूंकि मैं उनको ऐसी ड्रेस में अक्सर देखता रहता था, इसलिए मुझे कोई ताज्जुब नहीं हुआ.

क्योंकि मुझे मेरे जिस्म में जो सेक्स की आग लगी हुई है, अब बर्दाश्त से बाहर हो रही है. फिर मैंने कहीं से वशीकरण के बारे में पढ़ा कि इससे हम अपना प्यार पा सकते हैं। इसके लिए मैंने एक ऑनलाइन बाबा जी की मदद ली लेकिन उनको देने के लिए मेरे पास पैसे नहीं थे. वो लेट गयी और मैंने उसकी स्कर्ट को उठाया, तो देखा उसने पैंटी पहन ली थी.

मैं उसके होंठों को किस करने लगा और उसके होंठों को काटने लगा, उसकी गर्दन पर लव बाइट्स देने लगा, उसको सक करने लगा. तो मम्मी मुझे एक कमरे में ले गईं, जहां बहुत सारे बिस्तर लगे हुए थे. मेरी बात सुनकर तनु बोली- जब तुम इतनी सारी चूत चोद चुके हो तो तुमने मेरी बेचारी बुर क्यों चोदी?मैंने कहा- जब मैंने तुम्हें पहली बार देखा तो तभी मेरा मन तुम्हें चोदने के लिए कर गया था.

हिंदी बीएफ डाउनलोडिंग एचडी अगली सुबह जल्दी उठ कर मैंने ऑफिस में मेरे सर को कॉल करके कहा- मेरी तबीयत ठीक नहीं है, इसलिए मैं आज ऑफिस नहीं आ पाऊंगा. अम्मी आह्ह … याह्ह … आई … ओह्ह … मजा आ रहा है… चोद… अहह् और चोद… करके मस्ती भरी आवाजें निकालने लगी.

सेक्सी ब्लू पिक्चर नई

मैंने मम्मी की चुत से लंड निकाल कर उनकी गांड के छेद में सैट कर दिया. वे भी अपना लंड अपने हाथ में पकड़ कर मेरे मुंह में डालने लगे। थूक का लार मेरे होंठ और उनके लंड से चिपका पड़ा था।फिर उन्होंने मुझे बिस्तर पर सीधा लेटा दिया और मेरी जांघें फैला दी. मुझे अब एहसास हुआ कि मेरा लंड उसकी गांड के छेद के पास चुभ रहा है पर अब मैं उसके साथ थोड़ा खेलने के मूड में आ गया था।मैं- ऐसे किधर चुभ रहा है?शिल्पा- जैसे कि तुम्हें पता नहीं है.

उसकी चुदक्कड़ हरकतें रात में मेरे लंड को अक्सर परेशान कर दिया करती थीं और मैं मुठ मार कर सो जाता था. ब्रा के ऊपर से उसकी चुचियों का उभार काफी मस्त लग रहा था।मैं इंतजार नहीं कर सकता था तो ऊपर से ही उसके बूब्स को दबाने लगा।मैंने अपना हाथ उसके अंदर डाल दिया. जिंदगी बीएफमैं मां की चूत को चोदने लगा और मां भी मस्त होकर अपनी चूत को चुदवाने लगी.

तो भाभी बोली- मैं तुम्हें इसी समय बुला लिया करूंगी, जब घर पर कोई नहीं हुआ करेगा.

हनी इतनी जोर से चिल्लाई कि एक बार तो मैं भी डर गया लेकिन अब छोड़ने का कोई मतलब नहीं था. वो कभी मेरे स्तनों को मसलता, कभी मेरे चूतड़ों पर हाथ फिराता कभी निप्पल उमेठता.

जैसे ही वापस आकर मेरे स्तनों को सहलाने को हुआ मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और उसे पास खीच कर फुसफुसाई- नीन्द नहीं आ रही तो मेरे सीट पर आ जाओ. तुम ऐसा करो, बैड पर आ जाओ और मेरे ऊपर ऐसे बैठ जाओ जैसे घोड़े पर बैठते हैं. बोलो तुम तैयार हो?”उसने धीमे से सर हिलाया।मैंने फिर से उसे कस के पकड़ कर होंठों से होंठों को दबाया और उसकी चूत में एक जोरदार धक्के के साथ अपना आधा लंड अन्दर सरका दिया।वह फिर तेज दर्द से तड़पने लगी.

मुझे ऐसा लगा कि जैसे अभी मेरे लंड का सारा लावा कल्पना के मुँह में चला जाएगा.

क्या बताऊं दोस्तों … उसकी बुर का अमृत जीभ से लगते ही मुझे तो मानो जैसे उसकी जवानी का नशा छा गया था. मेरे इतना कहते ही भाभी ने अपनी टांगें खोल दीं और चुत उठाते हुए कहने लगीं-मेरे राजा … अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है. मैंने पूछा- वोवरान का इंजेक्शन लेना है क्या?वोवरान का इंजेक्शन एक दर्द निरोधक इंजेक्शन है … जो प्राथमिक उपचार के लिए घरों में रखा जाता है.

शिल्पा शेट्टी की बीएफ फिल्मचौड़े मांसल कंधे, फूले हुए बड़े स्तन जिन्हें रीना ने अपनी हथेलियों से अभी भी छुपा रखा था. फिर मैंने कहा- पार्थिव ने कुछ समय पहले मुझसे पैसे लिए थे, तो मुझे जरूरत है पैसों की, तो मैं लेने आया था.

anita सेक्सी

दोस्तो, यह है एक यौन या व्यक्तिगत समस्या जिसको कम शब्दों में समेटना मुश्किल ही था. मेरी मौसेरी बहन की चुत चुदाई की कहानी पढ़ कर मजा लें कि मैंने कैसे उसकी चूत चोदी. क्योंकि इस वेलेंटाइन-डे पर मैंने एक ही दिन में दो अलग अलग पार्टनर के साथ अलग तरीके से एंजॉय किया.

उसने बोला- भाई तुम पहली बार दिल्ली आए हो, बहुत से ऐसे इलाके हैं, जहां इतनी रात में जाना ठीक नहीं है. अपने चचेरी बहन की चूत चोदने में इतना मजा आयेगा मैंने कभी सोचा भी नहीं था. मुझे इस बात पर गुस्सा आ गया क्योंकि बात मशीन की नहीं थी, बात अब मेरे शहर की थी.

चोपड़ा ने मुझे किस किया और कहा- माल कहां है?मैं- जी अन्दर रूम में है. उसका हाथ नीचे सरक कर मेरे पेट को सहलाता हुआ मेरे पैंट तक पहुंच गया था. मर्द की मर्दानगी औरत देखकर ही परख लेती है और मैंने तुम्हारी मर्दानगी का अंदाजा तुमको देख कर लगा लिया था.

इसी के चलते मैं ऑफिस से बाहर फील्ड पर निकल गया और शाम को घर आकर मैंने कल्पना को कॉल किया- कल जरा जल्दी आना … और देर तक रुकना. क्योंकि उस वीडियो में दीदी और दीदी की सहेली रिया दोनों सिर्फ ब्रा और पैंटी में एक दूसरे को किस कर रही थीं.

जो लड़की मुझे पहले मना कर रही थी अब वो ही मेरा लंड अपनी चूत में लेने के तड़प रही थी.

थोड़ी देर बाद मम्मी बाथरूम से निकलीं और कमरे की लाइट बंद करके बेड पर आ गईं. साऊथ बीएफमकान मालिक किसी से कोई मतलब नहीं रखता था पर मालकिन जल्दी ही मुझ से घुल मिल गयी उसी ने मुझे बाकी सभी किराएदारों से मिलवाया।पहली मंजिल पर होने के कारण जो भी सीढ़ियों से ऊपर को जाता. भोजपुरी साड़ी वाली बीएफलेकिन वे एकदम तसल्ली में थे और सब कुछ बहुत ही इत्मीनान से कर रहे थे. 20 मिनट की चुदाई में रानी का 2 बार पानी निकल गया था और वो थक गयी थी.

मैंने नसरीन के दोनों पैरों को और फैलाया और लंड का सुपारा गीली हो चुकी दरार पर रख ऊपर नीचे रगड़ने लगा.

गोलाकार ऊपर को उठे हुए प्राकृतिक मम्मे और उन पर भूरे रंग के बड़े से निप्पल … आह लाजवाब सीन था. उसकी चूत बार बार ऊपर की ओर आकर मेरे लंड को जैसे खुद ही अपने अंदर समा लेना चाह रही थी. मैं थोड़ा सब्र से काम लेना चाहता था इसलिए मैंने मम्मी को सिनेमा चलने के लिए राजी कर लिया.

इसके बाद मैंने उसकी बुर को पूरी हथेली से सहलाया, तो उसने अपनी आंखें बंद कर लीं. भाभी ने कपड़े पहनने को कहा और खुद भी मैक्सी पहन कर अपनी पैंटी को बाथरूम में डाल आईं. उसकी बुर में से जो रस निकल रहा था मैं उसे बार-बार जीभ के साथ चाट रहा था.

xxx हिंदी video

वो एक बार तो उचकी लेकिन मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से दबा लिया और उसको बांहों में लेकर कमर से पकड़ लिया और अपने लंड का जोर उसकी चूत पर लगा दिया. टेलर के लंड से चुत चुदाई की कहानी का पूरा मजा आपको अगले भाग में लिखूंगी. मैंने जोर से उनको मसला, तो कल्पना के मुँह से फिर से आह … की आवाज निकल गई.

हमेशा की तरह मर्दों की कामुक निगाहें मेरी चूचियों और मेरी गांड को निहार रही थीं.

इसलिए मैं हर एक एंगल से उनकी चुदाई का मजा लेने के लिए दूसरी खिड़की पर गया और वहां से देखा.

मैं सोच रहा था कि आज तक कई लड़कों ने सपने में दीदी को चोदने के लिए मुठ मारी होगी, लेकिन आज मैं अपनी दीदी की इसी गर्म चुत में लंड घुसाने वाला हूँ. बलखाती कमर 30 इंच की और पहाड़ी सी उठी हुई गांड 36 इंच की जोकि पूरी बाहर निकली हुई है. सेक्स व्हिडीओ हिंदी बीएफऔर मुझे लिटा कर मेरे पैर दोनों जोड़ कर ऊपर की ओर करके मेरी चूत में लंड घुसा दिया.

अंदर रूम में पूरी तरह से मैं एंटर भी नहीं हुआ था कि मुझे अम्मी के मुंह से ये लफ्ज सुनाई दिये- परवीन … जरा मेरे चूचों पर भी हाथ मार दे, बहुत सख्त हो रहे हैं. ब्लाउज खोल कर चाची ने ब्रा भी निकाल दी और मेरे सामने ही अपने दूधों को आजाद कर दिया. करीब बीस दिन निकले होंगे, पापा को किसी की डेथ पर आउट ऑफ़ स्टेशन जाना पड़ा.

फिर मैंने परेशान होने का बहाना करके चाची को पूरी तरह से अपनी गोद में ही बिठा लिया. यौनांगों पर यदि केमिकल युक्त हिना या मेंहदी का प्रयोग किया जाये तो समस्याएं पैदा हो सकती हैं.

अह!उधर मीनू के सांसें भी तेज हो गयी थी और उसकी चूचियां, जो काफी बड़ी थी, बड़ी जोर से हिल रही थी.

मैंने खड़े लंड को ज़ोर से दबा कर उसे अपनी गोद में ले लिया और एक हाथ पेट पर ले जाकर उसका पेट सहलाने लगा. शिल्पा- उसमे इससे भी ज्यादा मज़ा आयेगा क्या?उसकी आँखों में चमक अलग ही दिख रही थी. मेरे लंड में एकदम से करंट सा दौड़ गया और मैंने अपनी अंडरवियर को निकाल दिया.

बीएफ सेक्सी गांव देहात की इस अचानक हमले से करोना की जोरदार सिसकारी निकल गई और जैसे उसकी नजरें चिन्ना से मिली चिन्ना ने तुरंत उसे आँख मार दी। करोना इस दोहरे हमले से बुरी तरह शरमा गई. जो उन्होंने ही मुझे बाद में बिस्तर में कबड्डी खेलते समय मेरे पूछने पर बताया था.

अब उसने मां की गांड को थोड़ा हवा में रखा और अपना लंड मां की चूत के अंदर बहुत तेजी से ऊपर नीचे करने लगा. इंटरनेट के द्वारा पोर्न और सेक्स के बारे में मनोवांछित सामग्री की उपलब्धता और सिनेमा में यौन रचनात्मकता का बढ़ता चलन आधुनिक समाज की लड़कियों को इस तरह के प्रयोग करने के लिए अब ज्यादा प्रेरित करने लगा है, बस जरूरत एक समझदार और खुले विचारों वाले साथी की होती है, उसके बाद कुछ भी असंभव नहीं है. ’मैंने उसके मुँह में अपना गर्म गरम माल भर दिया, जिसे नताशा चटकारे ले कर पी गयी.

கேரளா ஆபாச வீடியோ

मैं पेशाब करके आया और सारिका की चूचियां चूसने लगा तो सारिका जाग गई और हम दोनों ने फिर से जन्नत का दीदार किया. मैं रचना भाभी को पेलना तो बहुत पहले से चाहता था लेकिन मुझे लगता था ये औरत ऐसी नहीं है मजाक तो कर लेती है गंदा लेकिन मेरे बिस्तर में नहीं आ सकती. मानवी ने लंड शब्द सुना, तो मेरी छाती पर मुक्का मार कर कहने लगी- इतनी क्या हवस है … तुमने कभी सेक्स नहीं किया क्या?मैंने कहा- किया होता, तो बात ही अलग होती.

भाभी बोली- वो मौका तब ही मिल सकता है, जब मुझे समझ आ जाएगा कि तुम चुदाई में क्या क्या करते हो?मैंने उसे बताया कि मुझे औरतों की गांड सूंघने और चाटने में बहुत मजा आता है और गांड के छेद में लंबी जीभ डालने में बहुत अच्छा लगता है. उसके बाद वो उसको लेकर बाहर सोफे के पास आये और उसको सोफे पर लिटा दिया.

वो सोच में पड़ गई और मैंने इसी का फायदा उठाकर उसके टॉप को उतारना शुरू कर दिया.

मैं जोर जोर से चिल्ला रही थी- चोदो मुझे पवन … और ज़ोर से चोदो … जान निकाल दे मेरी … आह … फॅक मी बेबी … और ज़ोर से चोदो … आह … अम्म … अह … उन्ह. उसका पति घर पर नहीं होता तो उससे बात करने का ज्यादा मौका मिलता है और वह मुझसे थोड़ा घुल मिल भी गई है. हम दोनों एक पल के लिए एक दूसरे से लिपटे रहे … फिर से चूमाचाटी शुरू हो गई.

चिन्ना- नहीं मेरी प्यारी बिटिया, तुझे चोदने का प्रोग्राम तो मैंने उसी दिन बना लिया था जिस दिन तू पहली बार मुझ से मिलने मेरे ऑफिस में आई थी. उसने मुझे बांहों में भर लिया और बोली- बाबू, मुझे कुछ हो रहा है। जोर जोर से … और और और जोर से!और वो सिसकारियां लेते हुये बोली- हां बाबू, मैं तो बस मैं तो गई. मैंने दरवाजा खोला, तो मोहन भाई ही आया था और उसके साथ एक 25-26 साल का युवक भी था.

अपनी चुत में उंगली करने में मैं इतनी ज़्यादा उत्तेजित हो गई थी कि मैं वॉशरूम का दरवाज़ा ही बंद करना भूल गयी थी.

हिंदी बीएफ डाउनलोडिंग एचडी: बाहर व दरवाजा बार बार आवाज कर रहा है, टीवी देखने में भी मजा नहीं आ रहा है।”दरवाजा बंद कर भाभी मेरे पास ही आकर बैठ गयी और हम दोनों चाय पीने लगे. नीचे उनकी गांड बाहर की तरफ उठी हुई थी। गाउन रेड कलर का था और उसका गला बहुत बड़ा था। नीचे से टाइट था और उनकी पैंटी की लाइन दिख रही थी।मेरा तो ये देख के खड़ा ही हो गया जिसे मैं यहां वहां घूम के छिपा रहा था.

दीदी ने अपनी आंखें बंद कर लीं और मैं फटाफट से फोन लॉक करके अपने आप को ठीक करने लगा. अगले दिन सुबह मेरा कॉलेज था और कॉलेज की ड्रेस नीला शर्ट और सफ़ेद सलवार पहन कर सिटी की लोकल बस पकड़ कर कॉलेज पहुँच गयी. वो लड़का बोला- चुप कर रन्डी, इतने टाइम से चुदवा रही है फिर भी नाटक करती है.

उसने वैसे ही मुझे बेड पर लेटा दिया और मेरी साड़ी ऊपर की और मेरे ऊपर चढ़ गया.

हर लड़की की कुछ ना कुछ परेशानियां होती हैं, कुछ मजबूरियां होती हैं, जिनके चलते वो इस नर्क में चली जाती है. मेरे घर में सभी बच्चों के एक साथ आने पर सभी ख़ुश थे, इसलिए मम्मी ने हम सबके लिए एक बड़े कमरे में सोने का इंतजाम किया था. ’मेरी चीख को शिप्रा ने बाहर से सुना और तेज आवाज में बोली- अरे क्या हुआ?मैंने कहा- आह … मैं गिर गया.