बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो

छवि स्रोत,खूबसूरत लड़कियों की चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

क्ष्क्ष्क्ष्च्क्ष: बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो, फिर उसने धीरे धीरे मेरी गर्दन को चूमते हुए मुझे नीचे लिटा लिया और मेरी पूरी बॉडी को चूमने लगी.

पॉर्न व्हिडीओ दाखवा

मेरी चूत चुदाई की कहानी में पढ़ें कि मैंने कैसे पहली बार अपनी चूत और गांड चुदवाई? शादी से पहले मेरा एक बॉयफ्रेंड था कॉलेज का! मेरा सेक्स करने का बहुत मन करता था. बुर चुदाई की वीडियोबहन भाई सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी शादीशुदा बहन को सेक्स के लिए मनाया और अपने घर में बहन की चूत की चुदाई की.

फिर हम पटना से वेस्ट बंगाल आ गए और इस बार मैं अकेले नहीं बल्कि अपनी रखैल के साथ आया था. चुदाने वालीफिर उसने आकर मेरा हाथ पकड़ा और मुझसे कहा- देखो, मैं मजे लेने के लिए ही तुम्हें यहां ले आई हूं, तो आज की रात तुम भी खुलकर मजे लो और मुझे भी असली चुदाई का आनन्द लेने दो.

आंटी कराहने लगीं- आह्हह!जैसे ही मैं आंटी के बोबे को मुँह में लेता था, तो उनकी एक मस्त सीत्कार निकल जाती थी.बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो: तुम आज रात आ जाओ।फिर मैंने सोचा कि मौका तो बढ़िया है और तभी लाइट चली गई।मैं धीरे से दबे पांव उसके घर पहुंचा.

आप जानते ही हैं कि जब कोई लड़की सूट डालकर कमर पर हाथ रखे और सवालात वाली निगाहों से देखे तो उस दृश्य की आप कल्पना कर सकते हैं।मेरा तो ये सब देखते ही खड़ा हो गया था।थोड़ा संभालते हुए उससे कहा- बहुत अच्छी लग रही है इसमें.फुल वैक्सिंग का मतलब पूछने पर मुझे मेरे दोस्त ने बताया था कि इसमें चूत की भी वैक्सिंग करते हैं, यह काफी पेनफुल और टाइम टेकिंग जॉब है.

देवर भाभी का सेक्सी फोटो - बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो

आज की इस भाभी जी की चुत चुदाई कहानी की नायिका सोनिया (बदला हुआ नाम) है.भाभी ने बोला- कॉलबॉय ऐसे नहीं करता … वो तो सामने वाले की फरमाइश पूरी करता है.

फिर कुछ देर बाद उसका लंड फिर से खड़ा हो गया और उसने मुझे अपना लंड चूसने को कहा. बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो दुनिया के बारे में ज्यादा मत सोचो, कुछ महीनों के लिए अलग घर में जाओगे तो सब ठीक हो जायेगा।आखिरकार फिर दोनों ने अलग घर में रहने का निर्णय कर लिया।उनके इस निर्णय से मेरी तो जैसे लॉटरी ही लग गई.

तेरे बदन पर कहां कहां क्या निशान हैं वो तो मैं अच्छी तरह से देख चुका ही हूं.

बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो?

सच कहूं तो मैंने कभी इतने बड़े लंड से सेक्स नहीं किया था, मन बहुत था लेकिन, मौका नहीं मिला. उधर ज़ोहरा अपना ने कभी भी अपनी चूत अपने शौहर रफ़ीक़ से नहीं चुसवाई थी. उसका उतावलापन देख कर मैं उसके ऊपर चढ़ गया और अपने लंड को उसकी बुर के मुँह पर रखकर घिसने लगा.

कुछ देर तक लंड चुसवाने के बाद मैंने अपने लौड़े पर कॉन्डोम पहन लिया. उस समय मैं पढ़ता था मेरे पिता सरकारी नौकरी में थे और मेरी मां एक निजी स्कूल में टीचर थी. दो घंटे आराम करने के बाद हम दोनों ने एक दूसरे को रगड़ कर नहलाया और उसके बाद तैयार होकर वहां से निकल गए.

मेरे दिल दिमाग में भी एकदम से कामुकता जागने लगी, लेकिन इस समय कुछ किया नहीं जा सकता था. मैंने कहा- हां मेरी जान, ये बताओ जी कि सुहागदिन की चुदाई के लिए मेरी जानेमन तैयार है?ज्योति ने मुझको कसके अपनी बांहों में भरते हुए कहा- हाँ मेरी जान, मैं तैयार हूँ।उसके बाद मैं उसको गोद में उठाकर बेडरूम में लेकर आया और बिस्तर पर बैठा दिया।मैंने उसके घूंघट को उठाया और कहा- ज्योति, तुम सच में बहुत ही खूबसूरत हो। आज तुम एक अप्सरा लग रही हो. उसी वक्त इस विचार ने मेरे लंड को एक सनसनी दे दी और वो तुनकी मारने लगा.

फिर अगले दस मिनट तक मैंने उसको प्यार से मजे ले लेकर चोदा और फिर उसकी चूत में तीसरी बार खाली हो गया. मेरी न्यू अन्तर्वासना स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैं अपनी इंस्टीट्यूट के ऑफिस के एक लड़के की ओर आकर्षित हो गयी.

वो तो मेरे पैरों पड़ गया और माफी मांगने लगा नहीं तो मैंने पूरे कुनबे में उसकी बेइज्जती करवाने की सोच ली थी.

पर तुम ये सब मुझे क्यों बता रही हो? मम्मी जी को बताओ ना!तो मीनाक्षी ने शक जताया- मुझे लगता है कि यह बच्चा आपका ही है.

वैसे तो उसका एक 3-4 साल का एक बच्चा है, लेकिन देखने में वो एक कॉलेज गर्ल जैसी थी. इस सबके फलस्वरूप मेरी दिनचर्या भी बदल गई और अब धीरे धीरे मैं अपना ज्यादा समय उनके यहां ही बिताने लगा. अगर आप सोच रहे हैं कि मैंअपनी बीवी की चुदाई की कहानीसुनाऊंगा तो आप ऐसा मत सोचें.

मेरी नंगी चूचियों को देख कर उस पुलिस वाले की नियत डगमगा गयी और उसने मेरी चूत को चोदने का प्लान बना लिया. सच में बड़े ही मस्त मम्मे थे … एकदम टाइट और रसीले … ऊम्म … मउम … क्या मस्त मजा आ रहा था. मैं पानी लेने के बहाने भाभी के पीछे ही उनके किचन में चला गया और उनकी गांड के जस्ट पीछे जाकर खड़ा हो गया.

धीरे धीरे करके मैंने अपना पूरा लंड उसकी चूत में घुसा दिया और धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा.

वो जैसे ही झड़ी तो उसकी गर्मी से मैं भी पिघल गया और उसकी चुत में ही झड़ गया. मेरी सेक्स स्टोरी का मजा लें कि उसके बाद क्या हुआ?नमस्ते दोस्तो, मैं आप लोगों के लिए अपनी एक कहानी लेकर हाजिर हूं. कभी एक बार फिर मुझे ही आकर खड़ा करना पड़े!!चाची अब हर बार डबल मीनिंग बात कर रही थी.

मैंने उससे पूछा- कैसा लग रहा है?वो बोली- मजे लूट रही हूँ … मैं तीन बार निकल चुकी हूँ. एक तो कुरते का गला वैसे ही ज्यादा गहरा खुला था और मेरे मम्मों की साइज़ भी कुछ ज़रूरत से ज़्यादा बड़ी थी. उनके घर वाले गांव में रहते थे और वह यहां किराए का मकान लेकर रहती थीं.

अब से मुझे जब भी भाभी को चोदने का मौका मिलता है, तो मैं भाभी को चोद लेता हूँ.

वह मेरे हिप्स पर बहुत तेज मारता भी था बीच-बीच में … जिससे मुझे बहुत मजा आता था. कुछ देर बाद उन्होंने मेरे चूतड़ की दरार को ढेर सारा थूक से भर दिया और गांड के छेद में एक उंगली डाल दी.

बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो लेकिन मेरे जो इंग्लिश के सर थे, वो मुझे थोड़ा अजीब ढंग से देखते थे. अब मैंने उसे कुतिया बनाए हुए ही बेड के कोने में खींचा और खुद बेड से उतरकर खड़ा हो गया.

बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो अपने लण्ड का सुपारा मैंने अवनीत की बुर के द्वार से सटा दिया था और उसकी चूचियां मेरे सीने से सटी हुई थीं. उसको गौर से देखा मैंने; हल्की सांवली रंग और भूरी आँखें, कन्धे तक बाल उसकी खूबसूरती को और बढ़ा रहे थे.

एक तरफ से मॉम की चूचियों का ऊपरी भाग भी हल्का हल्का बाहर दिख रहा था.

दुआ सेक्सी

अभी इससे ज्यादा हम दोनों कुछ नहीं कर सकते थे क्योंकि मेरी मम्मी आने ही वाली थीं. लेकिन मैंने वो नहीं लिया और उस लेडी को बांहों में भर कर खूब प्यार किया. करीब 10 मिनट में उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया और वो एकदम से अकड़ गयी थी.

वो लेडी गाड़ी फुल स्पीड से चला रही थी और मैं पीछे की खिड़की से बाहर झांकते हुए उसी से अपना सर लगाकर आराम करने लगा. कुछ देर बाद मुझे कुछ आराम हुआ, तो सर ने अचानक से एकदम झटका देते हुए लंड को अन्दर ठेला. मैंने दीदी की चूत पर होंठों से चूमा और उसकी चूत की खुशबू मुझे आने लगी.

साली लौड़ा लेकर चिल्लाएगी जरूर!मैंने उसके होंठों पर अपनी होंठ लगाए और एक जोरदार झटका मार दिया.

मैंने जैसे ही आगे की ओर झुककर हाथ बढ़ाया तो पीछे से मेरा पैर फिसल गया और मैं धड़ाम से नीचे गिर गया. वो बाईं करवट लेकर लेटी हुई थी और मैं उसके पीछे बैठा हुआ उसकी कमर पर बाम लगाने लगा. थोड़ी देर बाद मैं अपना लंड मॉम की मुँह के तरफ ले गया, तो मॉम ने उसे मुँह में लेने से इंकार कर दिया.

तो वो बोली- आफिस में जाकर पता कर लो, वहीं से मिलेगा।अब मैं चली आयी आफिस!वहां तीन या चार लोग अलग अलग केबिन में बैठे थे. उसकी इस अदा से मैं तो घायल ही हो गया। चारू आज मुझे हुस्न की मलिका दिखाई दे रही थी. मुझे यह जानकर बहुत खुशी हुई कि उसने मेरे प्यार को स्वीकार कर लिया और उसने एक बार भी मना नहीं किया.

कुछ देर चोदने के बाद मैंने अपना लंड उसकी चुत से निकाल कर उसके मुँह में डाल दिया- आंह … चूस मेरी रंडी चूस इसे. मैं यहीं तुम्हारे बगल में लेट गया और फिर जब तुमने अपने ऊपर खींचा, तो मैंने अपना लंड तुम्हारी चूत में घुसेड़ दिया.

और शायद खुद चुदने के चक्कर में ही उन्होंने ये बात और किसी को नहीं बताई. उसको किस करना शुरू किया मैंने और धीरे धीरे करके उसकी चूत में आधा लंड घुसा दिया. आपको यह मामी की वासना कहानी जरूर पढ़ कर मजा आया या नहीं? मुझे जरूर बताएं.

पर अपने आप पर कंट्रोल कर उससे ऐसे ही सामान्य बात कर दोस्ती की और फिर मोबाइल नंबर लेकर व्हाट्स एप्प पर बात करने लगे।माफ कीजियेगा उसका नाम प्रियंका था और उसके जिस्म का साइज 30 34 38 इंच था.

मेरी बहन मेरे लंड पर चढ़कर अपने मुँह से आवाज़ निकालने लगी- उउन्न्ञह … आआह इसस्स्स्श बहुत मस्त चुदाई कर रहे हो भाईजान … आह मजा दिला दिया आज आपने अपनी बहन को … वादा करो अपनी बहन को ऐसे ही चोदते रहोगे. 2-3 मिनट बाद वह नीचे से अपनी गांड को उठाने लगी तो मैंने फिर से एक जबरदस्त झटका दे मारा. उसकी चूत में लंड लेकर एक सुकून सा पहुंचा जिसके बदले में उसने मेरे हाथों को चूम लिया और चूत को और ऊपर करके मेरे लंड को अंदर तक लेने की कोशिश करने लगी.

शिल्पी के जाने के बाद नीता ने मेरा लंड चूसा क्योंकि नीता और मैं पहले से ही कई बार सेक्स संबंध बना चुके थे।अब आगे की गर्लफ्रेंड सिस्टर सेक्स कहानी:उस दिन फिर हमने साथ में खाना खाया और सो गये. क्या मैं आप दोनों को एक साथ चोद सकता हूँ? आप देख लेना दोनों को मज़ा आ जाएगा.

मैंने पीछे से संजना आंटी के ज़ुल्फें पकड़ लीं और उन्हें धकापेल चोदने लगा. तभी संजय अंकल ने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे खींच कर अपनी गोद में बैठा लिया. हमारी पहले ही बात हो गई थी यानि कि मैंने उसको बता दिया था कि मैं आ रहा हूं.

सेक्सी वीडियो दिखाइए अच्छे-अच्छे

उनकी निगाहें भी मेरी तरफ ही थीं और लग रहा था कि भाभी मुझे बोल रही हैं कि चढ़ जा मेरे ऊपर और चोद दे मुझे.

भाभी कहने लगीं कि मैंने नेट पर बहुत खोजबीन की, मगर मुझे किसी पर भरोसा नहीं हुआ. मां ने ब्रा खोलते हुए कहा- तू चड्डी खींच कर निकाल दे और आज बिना किसी डर के मुझे चोद दे. लेकिन मैंने वो नहीं लिया और उस लेडी को बांहों में भर कर खूब प्यार किया.

कुछ मिनट बाद उसको भी मज़ा आने लगा और वह अपनी गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी. हां तुम्हारे स्कूल से बात हो गयी है, सोमवार से तुमको जाना है … लेकिन पहले प्रॉमिस करो कि जो हुआ था, अब कभी नहीं होगा. हिंदी इंग्लिश ब्लु फिल्मउसके बाद वो मेरी चूत में अपना पूरा लंड डाल कर मेरी चूत को चोदने लगे.

उसकी इस अदा से मैं तो घायल ही हो गया। चारू आज मुझे हुस्न की मलिका दिखाई दे रही थी. चूंकि अभी थोड़ी देर पहले ही तनिष्क के लम्बे लंड से गांड मराने के कारण मेरी गांड खुली हुई थी, इसलिए कुछ ही देर में मेरी गांड में मुझे मजा आने लगा.

मैं आंटी के ऊपर लेट गया और उसकी चूचियों को मसलते हुए उसकी पीठ को काटने लगा. अचानक से गांड में लंड पेल देने से एक बार तो यीशा बहुत जोर से चिल्लाई ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ फिर शांत हो गई. ये बोल कर उसने दीदी को बर्थ पर लिटा दिया और दीदी ने भी अपनी दोनों टांगों को पूरा फैला दिया.

उसकी चीख निकल गई- उईई सीईई घग घग आहह आहह आहह!मैंने उसके मुंह को बंद कर दिया और तेज़ तेज़ चोदने लगा. ये सब दिन भर यूं ही चलता रहा, लेकिन मैंने गौर किया कि तनिष्क बार बार मेरे पास से गुजरने की कोशिश करता. मैं चुपचाप पड़ा रहा और वो भी मस्ती से सोती रही। उसकी गर्म सांसें मुझे मदहोश कर रही थी और उनकी ब्लाउज वाली मोटी छाती करीब से धड़कती हुई दिख रही थी।उनकी चूची 38 या उससे भी ज्यादा की होंगी शायद ऐसा लग रहा था। मैं तो उनकी इस तरह नजदीकी से पिघल गया और मेरा लंड खड़ा हो गया.

कभी वो मेरा पूरा लौड़ा मुँह में भर लेती, तो उसकी सांस अटकने को हो जातीं.

उसकी टीशर्ट उसके बूब्स की जगह से पूरी ऊपर उठी हुई थी और पेट के ऊपर टीशर्ट हवा में झूल रही थी।शिल्पी का चिकना और स्लिम पेट साफ साफ दिखाई दे रहा था। उसका पेट एकदम मलाई जैसा था और पेट के बीचोंबीच नाभि बहुत सेक्सी लग रही थी।मैं तो उसे आंखो से ही चोदने लगा था. परंतु जब माही को बहुत ज्यादा दर्द होने लगा, तो वो एक बार फिर से चिल्लाने लगी- साले कुत्ते, जान निकालेगा क्या?मुझमें भी जोश आ चुका था.

फिर मैं एक तरफ जाकर योगा करने लगा, तो थोड़ी देर बाद वो भी मेरे सामने आकर योगा करने लगी. बुआ ने थोड़ी दूर जाकर मुझसे कहा कि तू यहीं कर ले, मैं थोड़ा आगे जाती हूं. मेरी चुदक्कड़ बहन उसका चेहरा देख कर मुस्कुरा रही थी और सौरभ लगातार झटके मार रहा था.

मैंने मेम की मदद की, उनकी स्कूटी को एक मिस्त्री को बुला कर उसके हवाले किया और इस तरह मैंने उनकी गाड़ी को गैराज में सुधरने दे दिया था. एक मिनट बाद भाभी बोलीं- अब मत तड़फाओ … चोद दो मुझे अपने लंड से … ठोको. फिर उनकी दोनों टांगों को उठा कर उनके सिर के पास दोनों हाथों से अपने कस के पकड़ लिया और मामी से गांड के छेद पर अपना लन्ड सेट करने को बोला।मामी ने थोड़ा सा थूक लिया अपने मुँह से और सागर के लन्ड पे मल दिया.

बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो हम सब जिस बरामदे में सो रहे थे वहां की लाइट भी बंद हो गई थी।फिर मैं सो गया. सागर मामी की पिंक पैंटी भी उतार कर मामी की गांड को काटने और चाटने लगा.

सेक्सी फिल्म कर्तव्य

लेकिन पीछे मुड़कर आंटी ने एक कातिल स्माइल दे दी और अपनी गांड को भी हिलाते हुए कहा- थैंक्यू. उसकी आहह ऊईई ऊईई आआआ आहह आहह हह आहह से मेरे लौड़े को जोश आ रहा था।अब हम दोनों बिस्तर पर चुदाई का पूरा मज़ा ले रहे थे। अब वो भी अपनी गांड को आगे पीछे कर लंड ले रही थी।तब मैंने लंड निकाल लिया और उसे कहा- तुम मेरे लौड़े पर बैठ जाओ. मैंने उससे दोस्ती करके अपनी गर्लफ्रेंड बना कर उसकी चूत और गांड दोनों को कैसे चोदा?अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज के सभी पढ़ने वालों को मेरा नमस्कार!प्रिय मित्रो और सभी सेक्सी आंटी, लड़कियो भाभियो!अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली सेक्स स्टोरी है, अगर कोई गलती हो तो मुझे माफ़ कर दें।मेरा नाम नीलेश है.

उस समय मैं पढ़ता था मेरे पिता सरकारी नौकरी में थे और मेरी मां एक निजी स्कूल में टीचर थी. मैंने अपनी काम रस में लिथड़ी हुई उंगलियां चारू की योनि की दरार पर टिका दीं।उधर चारू अपने दायें हाथ से मेरे लिंगमुण्ड को नीम्बू की तरह निचोड़ने के लिए तैयार थी और जबरदस्त तरीके से ऊपर नीचे कर रही थी. नेपाली ब्लू फिल्म सेक्सीअंतर्वासना में कहानियां पढ़ कर मुझे लगा कि मुझे भी अपने साथ बीती अपनी आप बीती आप लोगों के साथ शेयर करनी चाहिए.

थोड़ी देर में भाई ने मेरी चुत में सारा रस छोड़ दिया और मेरे ऊपर ही लेट गया.

मुझसे भी बहुत ही कम बात किया करती थी लेकिन औरों से ज्यादा किया करती थी. मैंने पूछा- कैसे?वो बोला- जब तू उसको छेड़े तो उसकी चूत में उंगली करके देखना.

कुछ देर बाद मेरी गांड ने लंड को एडजस्ट कर लिया और अब चुदाई में पच … पच की आवाज आने लगी और मुझे भी चुदने में मजा आने लगा. अब बाबा लंड को धीरे धीरे धकेलने लगे थे और मैंने फिर एकदम से पीछे हाथ ले जाकर बाबा की कमर को पकड़ा और अपनी गांड पर उनके बदन को सटा लिया. इसी कारण मैं भी नई-नई हसीनाओं, भाभियों व आंटियों की चूत का दीवाना रहता हूं.

अम्मी ने थोड़ा सा सरसों का तेल अपने कूल्हों और गांड में लगाया क्योंकि फूफा को गांड मारने का बहुत ज्यादा शौक था.

वो सर्दियों की छुट्टियों में आई हुई थी और मैं तो बहुत खुश था उसको देखकर. फिर जब मुझसे रहा न गया तो मैंने उसकी पैन्टी को उतार दिया और उसकी चूत को एकदम से नंगी कर दिया. उसकी बड़ी गांड मेरी आँखों के सामने थी।मैंने बैठकर उसकी गांड को खोलकर देखा.

भोजपुरी चुड़ै वीडियोसर ने ये बात बोली ही थी कि अबकी बार फिर से मैडम के चीखने की आवाज़ आयी. मैंने उससे पूछा- अपना पानी कहाँ निकालूं?तो उसने कहा- अपनी भाभी की चूत में डालो!फिर मैंने अपना लंड भाभी की चूत में डाला और 8-10 झटकों के बाद मैं झड़ गया.

raj का सेक्सी वीडियो

पिछले एक हफ्ते से मैंने चुदाई नहीं की थी तो मुझे पूरा जोश चढ़ा हुआ था. उसने ये सुना तो बोला- मैं भी आपके साथ चलूं?मेरे बोलने से पहले ही सपना ने कह दिया- हाँ तुम साथ चले जाओ. वो पतली है लेकिन उसके चूचे एकदम सामने की तरफ नोकदार उठे हुए हैं और बड़े मस्त लगते हैं.

मैंने उनके मुंह को एकदम से दबाया और उनके बदन के अंगों को बेतहाशा चूमने चाटने लगा. लेकिन मैंने जो देखा अपनी आँखों से … वही आपके सामने हूबहू पेश करने का यत्न कर रहा हूँ. अपनी सांसों को सामान्य करते हुए नीता ने कहा- हां, मैं … मैं तो बिल्कुल ठीक हूं.

उसने मेरी पीठ पर अपनी चूचियों को लगा दिया और मेरी गर्दन पर चूमने लगी. मैंने उन्हें पीछे से पकड़ लिया और अपना लंड उनकी गांड में घुसाने लगा. दोस्तो, आपको मेरी ये टीचर की चुदाई की कहानी कैसी लगी, कमेंट में जरूर बताएं और आगे की सेक्स कहानी के लिए भी मैं कोशिश करूंगा कि आपको लिखूं कि मैंने मैम के अलावा और कौन कौन सी लड़कियों को भी चुदाई का मजा दिया.

इंसान में सेक्स की शुरुआत किस उम्र से हो जाती है यानि कि सेक्स क्रिया, कामक्रीड़ा से पहला परिचय कब होता है. वह भी मेरी कोली भरकर मुझे जमकर चोद रहा था और इसी पोज में मेरी चूत ने अपना पानी छोड़ दिया.

मैंने अपनी गोटियों को भाभी के होंठों तक सटाया और उनके मुँह में पूरा लौड़ा ठांस दिया.

अब ज्यादा फोरप्ले का समय तो मेरे पास था नहीं … तो मैंने मीनाक्षी की चूत में अपना किल्ला ठोक दिया. मद्रासी एक्स एक्स एक्स वीडियोमेरी उम्र 29 वर्ष और मैं मध्य प्रदेश के इंदौर का रहने वाला हूं। मेरी हाइट 5’5″ है और लन्ड का साइज 6. হট বৌদি সেক্সपर गांड टाइट होने के कारण मेरा लन्ड फिसल गया।दूसरी बार कोशिश करने पर मेरा लन्ड मेरी गर्लफ्रेंड की गांड में घुस गया और वो जोर जोर से चिल्लाने लगीं और रोने लगी. माँ- राजा मैं तेरी मॉम नहीं … रांड हूँ और मुझे मॉम मत बोल … मेरा नाम लेकर बोल … और रही बात चुदने की, तो ये तो तेरा लंड तय करेगा.

मैंने उल्फ़त से पूछा- उल्फ़त तुम्हारा कोई ब्वॉयफ्रेंड है क्या?उल्फ़त बोली- नहीं भाईजान, मेरा कोई ब्वॉयफ्रेंड नहीं है.

मैंने उस देसी लड़की की कुंवारी बुर की चुदाई कैसे की?मैं प्रेम शर्मा, मैंने अपनी पिछली कहानीबिछड़ा हुआ मूसल लंड मिलामें बताया था कि मैं बाई-सेक्ससुअल हूँ. सागर ने अपनी शर्ट निकाल दी और वहीं पर टंगी अपनी शॉर्ट्स पहनकर वो वहीं सोफे पर लेट गया. वह मेरी गांड को दाँतों से काटता और कभी कभी मेरी गांड के छेद को जीभ से चाट जाता जिससे मेरी आह… सी निकल जाती।मैं अज़ीम का लंड दिल भर कर चूस रहा था जैसे कभी मैंने जवान लड़के का लंड देखा ही नहीं हो.

पर उसने मेरी बात पर ध्यान नहीं दिया और थोड़ी देर में मेरे लंड ने अपना सारा माल उसके मुँह में छोड़ दिया और वह मेरा सारा माल गटक गई. अब मैंने उसे बातों में बहला कर एक तेज शॉट मारा और पूरा लंड उसकी चूत में घुसा दिया. मगर मेरी नींद के साथ ये समस्या थी कि मैं एक बार अगर कच्ची नींद से उठ जाऊं तो फिर मुझे इतनी जल्दी दोबारा से नींद नहीं आती थी.

नागपुर सेक्सी फिल्म वीडियो

आंटी ने अपने गुलाबी होंठों से मेरे लंड को पूरा दबा लिया और अन्दर लेकर लंड चूसने की आवाज निकलने लगी. सागर मामी की पिंक पैंटी भी उतार कर मामी की गांड को काटने और चाटने लगा. फिर एक दूसरी की फुद्दी को फुद्दी से रगड़ रगड़ कर चोदने लगी और चूची मसलने लगी.

उसने मुझे आगे धकेल दिया और मैं गद्दे पर जा पर जाकर लेट गई और वो कपडे़ उतार कर मेरे पास आ गया.

जैसे मॉम को 4 आदिवासियों से चुदवा दिया, मॉम की सहायता से बुआ को चोदा, ये सब बारी बारी से अगली सेक्स कहानी में बताऊंगा.

मैं अभी ये सब सोच ही रहा था कि पीछे से किसी ने मेरे कंधे पर हाथ रखा. तो भाभी ने बोला- आराम से डालना।मैंने एक ही झटके में पूरा लंड उनकी चूत में उतार दिया. भोजपुरी चुदाई पिक्चरमेरा लिंग 7″ के लगभग है तो उसे काफी दर्द हो रहा था। वो भी पहली बार किसी का लन्ड ले रही थी.

ज़ोहरा नहीं चाहती थी कि कल रात के हादसे के बारे में शनाज़ को कुछ पता चले!शनाज़ हंस कर बोली- आपा, आप रात को ठीक से सो नहीं पाती होंगी. मैं आपको बताना चाहती हूँ कि शादी से पहले मेरा चुदने का बहुत मन होता था लेकिन मैं कभी किसी से चुदी नहीं. मैंने उसकी बात सुनकर उसकी पैंटी कि इलास्टिक में उंगलियां फंसाईं और बजाए उतारने के मैंने उसकी पैंटी फाड़ दी.

फिर मैंने पूछा- क्या आपने नाश्ता किया माँ?तो उन्होंने- नहीं बेटा, अभी नहीं।मैंने अपने लण्ड की तरफ इशारा करते हुए कहा- क्या आप ये टेस्टी नाश्ता करना चाहेंगी?तो माँ मुस्कुरा दी और और नीचे बैठ कर मेरा लण्ड चूसने लगी और चूसने के बाद मेरा रस पी गयी।फिर माँ ने कहा- चल बेटा, अब जल्दी जा और कपड़े पहन ले।मैं रात होने का इंतज़ार करने लगा. तभी भाभी की मोटी गांड पर मैंने कसके काट दिया, तो भाभी आह करने लगीं.

पहले तो मैंने उनके इस तरह से कागज़ डालने के लिए सॉरी बोला और फिर कहा कि मेरे पास उसके अलावा कोई रास्ता नहीं था.

दो मिनट बाद जब मॉम नॉर्मल हुईं, तो मैंने उनके कान में बोला- रानी थोड़ा दर्द होगा, पर संभाल लेना … फिर मजा आएगा … बस हिलना मत. कभी कभी मैं उसके मम्मों और निप्पलों को हल्का सा काट भी देता था, जिससे वो और भी मचली जा रही थी. मेरा नाम संजय है, उम्र 24 साल, मैं जिला होशियारपुर पंजाब का रहने वाला हूं.

हरयाणवी चुत मैंने उससे दोस्ती करके अपनी गर्लफ्रेंड बना कर उसकी चूत और गांड दोनों को कैसे चोदा?अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज के सभी पढ़ने वालों को मेरा नमस्कार!प्रिय मित्रो और सभी सेक्सी आंटी, लड़कियो भाभियो!अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली सेक्स स्टोरी है, अगर कोई गलती हो तो मुझे माफ़ कर दें।मेरा नाम नीलेश है. भाभी की कुमक आवाजें मेरे जोश बढ़ा रही थीं तो मैंने उनकी पैंटी भी निकाल दी.

मैंने धीरे से पूछा- आपकी वाईफ नहीं करने देती है क्या?उसने भी धीरे से कहा- बहुत पहले से चुदाई करवाना बंद कर दिया है उस छिनाल ने और मुझे उसके साथ मजा भी नहीं आता. जब नींद खुली तो पता चला कि उसको बहुत टाइम हो गया है और होस्टल भी पहुंचना है।वो उठी तो निशा कतई ठीक से चल नहीं पा रही थी।उसने मुझसे ही गर्भ-निरोधक दवाई मंगवायी और मेरे सामने ही खा ली. इसलिए मैंने मन बहलाने के लिए ओल्ड मॉन्क की हाफ के पैग अकेले ही लगाने शुरू कर दिये.

वव हिंदी सेक्सी वीडियो

आज उसने एक अलग जोश में मुझे आफिस में चोदा जिससे मेरी हालत खराब हो गई. मैंने उसकी दोनों टांगों को हाथ में पकड़ कर लंड को चूत के मुँह पर रख दिया. सुनीता आंटी अपने बेड पर जाकर सो गई थी लेकिन अम्मी और शकील दोनों अभी जाग रहे थे.

अगर मैंने अपनी बहन को गर्भवती नहीं बनाया तो वो किसी बाहर के आदमी से गर्भवती हो जाएगी. दीदी डर गई थीं, पर एक तो मैं उनसे उम्र में छोटा था और वो शादीशुदा थीं, तो स्वतंत्र थीं.

मैं- ठीक है तब सुषमा मादरचोद … अब तू देख … कैसे तुझे रंडियों के जैसे चोदता हूँ.

मैं टेबल के नीचे घुस गया और उमेश सर ने अपना लंड पेंट से बाहर निकाल कर मेरे सामने कर दिया. उस वक्त मैं अपनी बीएससी पूरी कर चुका था और मास्टर्स शुरू करने वाला था. मैंने पूछा- आपको कितने बजे जाना है?वो बोले कि हम दोनों शाम की ट्रेन से जाएंगे.

चलो मैं मन ही मन खुश होने लगी कि पापा भी मिल लेंगे अमित जी से।फिर मैंने सोचा कि मैं भी बैंक चली जाती हूँ. अगर आपको कोई दिक्कत नहीं हो, तो क्या आप 3 दिन रात के लिए अमित को सोने को हमारे घर भेज सकती हैं?उनकी बात सुनने के बाद मम्मी ने कहा- हां हमें कोई परेशानी नहीं है, अमित रात को आपके घर पर आ जाएगा और इसके अलावा भी कोई दूसरी दिक्कत हो, तो बता देना. भाभी के रेडी हो जाने के बाद वो थोड़ा सा पीछे को हुई और मेरे ऊपर आ गयी.

मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को रखा और उसे चूमते हुए फिर से एक धक्का मार दिया.

बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो: तो मामी ने बोला- अभी वो है नहीं!और वो चली गयी।वापस आते टाइम मामी जानबूझकर अपना पैर टेबल पर फंसा कर सागर के ऊपर गिर गयी और उनका हाथ सीधे सागर के लन्ड पर पड़ा. अम्मी ने सुनीता को गले लगाया और और गाल पर एक जोरदार चुंबन किया व कहा- मुबारक हो, यह तुम्हारी सुहागरात थी.

मैंने दीदी की चूत पर लंड लगाया और उसको अंदर करने की कोशिश करने लगा. इस पर सोनल ने काजल से बोला कि देख मिल बांट कर खाएंगे और जब तक हमारी शादी नहीं हो जाती, हम दोनों प्रेम के साथ मजा लेंगे. मैं दिन भर इधर उधर घूमता रहा और रात को 11 बजे मैं भाभी के घर पहुंच गया.

और वो है कि 12 साल से चुदी नहीं है।मनीष- क्या सच अमिता? उस साली को चोदने में तो और मजा आएगा.

तो क्या ज़ोहरा आपा ने जानबूझकर …?तभी शनाज़ दोबारा छत पर आई और मेरे पास आकर बोली- आज मैं आपा को पहले ही दूसरे कमरे में सोने के लिये कह दूंगी. तभी पीछे से टीचर ने मेरी साड़ी को उठाया और अपना लंड मेरी गांड में डाल दिया और चोदने लगा. वो भी मेरा साथ देने लगी और मैंने उसको नंगी करके ऊपर से नीचे तक चूमना शुरू कर दिया.