बीएफ सेक्सी वीडियो बिहार के

छवि स्रोत,साड़ी वाली बाई का सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो दूध वाला: बीएफ सेक्सी वीडियो बिहार के, तब वो मुझे तिरछी निगाहों से देखती हुई बोली- और करो न सर … रुक क्यों गए?मैंने कहा- लंड भी डालना है तुम्हारी चूत में … या उंगली से ही करूं?वो बोली- जो भी डालना है सर … जल्दी से करो.

खाली सेक्सी सेक्सी सेक्सी

बापू के हाथ काकी के मम्मों पर लगे हुए थे और वो काकी के पीछे से उनकी चूचियों की मां चोद रहे थे. सेक्सी पिक्चर चोरी चोराइस बार जैसे ही उसने चूत को लंड पर टिकाया और नीचे को बैठने की कोशिश की.

वो अपनी बच्ची को साथ में लेकर मेरे ऑफिस की तरफ शायद मुझे ही ढूंढती हुई जा रही थी. सेक्सी वीडियो अर्चनासबसे महत्त्वपूर्ण काम है मेहमानों के लिए खाना बनाना!उसी के लिए हमने घर में दो खाना बनाने वाली को भी रखा था जो हमारे घर में करीब 15 दिन तक रहने वाली थी।एक औरत का नाम सुधा था जबकि दूसरे का नाम रम्भा था।सुधा की लंबाई मुझसे थोड़ी सी कम थी यानि वह करीब 5 फुट 4 इंच की होगी.

उसने मेरी टांगें हवा में उठा दीं और मेरी गांड के छेद पर अपना लंड टिका दिया.बीएफ सेक्सी वीडियो बिहार के: कोई क्या कहेगा?तब मैंने उनको अन्तर्वासना की चाची भतीजे की चुदाई वाली कहानियां भी पढ़ने को दीं.

मैंने उसकी टांगों में हाथ फेरा तो उसने स्कर्ट पहनी थी और अन्दर चड्डी नहीं पहनी थी.अब मुझे आश्चर्य हुआ कि पीछे से रंजीत ने वंदना की स्कर्ट में अपना हाथ डाला और वह उसके चूतड़ मसलने लगा।अब वंदना सेक्सी महसूस कर रही थी और वह अपने हाथ से रंजीत के लंड को उसकी पैंट पर सहला रही थी.

सेक्सी नंगी चुदाई एचडी - बीएफ सेक्सी वीडियो बिहार के

वो मेरे ठीक पीछे ही खड़ी थी और उसका एक हाथ उसकी चूत के ऊपर था और उसके चेहरे पर एक नॉटी स्माइल थी.हालांकि एक बात मुझे समझ आ गई थी कि उसके मन में भी कुछ न कुछ चल रहा था.

मैंने पहले उन बालों को अपने उंगलियों से छुआ और चूत पर सभी जगह उंगली को घुमाने लगा. बीएफ सेक्सी वीडियो बिहार के बनियान को उतार उसने एक ओर रख दी और बालों से स्तनों को ढक कर सहजता से मेरी तरफ देखने लगी.

हम सबने उसी दिन तय कर लिया था कि आज तुम सबको वही मज़ा दिया जाए, जो गांड मरवाने में हमें आता है.

बीएफ सेक्सी वीडियो बिहार के?

कुछ देर तक मेरी चड्डी को चाटने के बाद उन्होंने मेरी चड्डी दोनों हाथों से खींची और फाड़ कर मेरे जिस्म से अलग कर दी. दो पल तक मुझे टकटकी लगाकर देखते रहने के बाद उनको होश आया तो बोले- सुभानल्ला, ये हुस्न किसी आदमी की जात का नहीं हो सकता, तुम तो सच में कोई हूर परी हो. एक दिन बाजार में मेरा एक्स बॉयफ्रेंड मिला जिससे मैं पहले भी चुद चुकी थी.

ज़्यादा ठुकाई के कारण चाची की चूत बुरी तरह सूज चुकी थी और गांड के छेद की भी बुरी हालत हो गई थी. सच में वोसेक्स सेक्सनहीं था, वर्जिन गर्लफ्रेंड लव था, एक मेडिटेशन था. तभी मेरी चीख के साथ लंड ने ज्वालामुखी छोड़ दिया और वीर्य से बुआ की चूत भर गई.

कुछ देर बाद मैंने मामी की गांड में लंड को निकाल लिया और मैं मामी की चूत फिर से चोदने लगा. मैं कमरे में बने बाथरूम में गया और ब्रा पैंटी पहन कर एकदम सज-धज कर रूम में आ गया. अब ड्राइवर ने मेरी चूत से लंड निकाला और मेरे स्तनों के बीच में फंसा दिया और मेरे दूध चोदने लगा.

जीजू- तो सब सीख लिया क्या तुमने?मैं- हाँ जीजू, कल रात को सब कुछ सीख लिया. मैं बाइक चलाते वक़्त इयर फ़ोन लगाता हूँ, तो मैंने कॉल उठा ली और बात करने लगा.

मेरी चूत से पानी छूट जाने के कारण चुदाई में फचाक फचाक की आवाजें आने लगी थीं और जीजू का लंड और भी आसानी से अंदर बाहर हो रहा था.

चूचियों को प्यार से सहलाना, उन्हें हल्के हल्के से प्यार करना और निप्पल को किसी बच्चे की टॉफी की तरह से चूसना बहुत पसंद है.

मैंने मम्मी को पलटाकर घोड़ी बना दिया और उनके पीछे आकर चूत का मुँह फैला कर अपने लंड का सुपारा रख दिया. फिर वो जैसे ही मेरे करीब आई, मैंने झटके से उसे अन्दर खींच लिया और दरवाजा बंद कर दिया. जलालुद्दीन साहब बोले- लेकिन तुमको तो चुदते हुए कई दिन हो गए हैं, अब वो पहली बार वाला दर्द कैसे दिया जा सकता है?मैंने मन ही मन अपनी जीत पर खुश होते हुए ऊपर से शांत रहते हुए कहा- तो फिर मैं इधर से नहीं जाने वाली.

मैं थोड़ी देर तक ऐसे ही उसके ऊपर पड़ा रहा, फिर उठकर अपने कपड़े पहने और उसके नंगे बदन पर चादर डालकर मैं अपने बिस्तर पर जाकर लेट गया. अपनी इन भाभीजी से मेरा थोड़ा परिचय तो शादी से लौटते समय कार में ही हो गया था. फिर हम दोनों नीचे आ गए।सेक्स अग्रीमेंट कहानी पर अपने विचार अवश्य बताएं.

तभी मैंने अपना लंड पकड़ा और माधुरी की चूत में डाल कर उसे अन्दर धकेलने लगा.

मैंने महसूस किया कि मोहित मुझे बहुत देर से चोद रहा था और ये अभी तक झड़ा भी नहीं था और थका भी नहीं था. फिर मुझे लगा कि मैं झड़ने वाला हूँ, तब मैं खड़ा हुआ और चाची की छाती पर जाकर बैठ गया. मैं वापस गया और पेटीकोट लेकर मॉम को देने के लिए बाथरूम के बाहर रख आया.

थक जाने पर कोमल की टागें हवा में उठ गईं और वो लंड से अपनी चटनी बनवाने का सुख लेने लगी. करीब 10:30 बजे चाची मेरे रूम में आ गईं और उन्होंने दरवाजा अन्दर से बंद कर लिया. जब उसकी चीख ‘इस्स काटो मत मेरी जान आह …’ करके निकली, तो मैंने पूरी चुची को मुँह में लेकर जोर जोर से उसका दूध पीना शुरू कर दिया.

मैंने उसकी ताकीद को अपने लिए मुफीद समझा और फिर से उंगली की- आपने जवाब नहीं दिया?कोमल भाभी- कुछ सवालों का जवाब नहीं होता.

गप्प ओं गों की आवाज़ के साथ साली की आंखें जो अभी तक बंद थीं, अपने प्यारे जीजू की इस हरक़त से खुल गईं. तुम्हें अपनी बीवी के साथ जो जो करने की इच्छा थी और कर नहीं पाए, वह मुझे बताओ, मैं पूरी करूँगा.

बीएफ सेक्सी वीडियो बिहार के फिर वही हुआ, कोमल ने मेरे हाथ से वो गुलाब का फूल ले लिया और मेरा प्रणय निवेदन स्वीकार कर लिया. लंड चूत में घुस न सका और मामी को भी शायद दर्द हुआ तो उसने करवट ले ली.

बीएफ सेक्सी वीडियो बिहार के बुआ को चोदते चोदते मैं उनकी गांड को हाथ से सहारा देकर खड़ा हो गया और बुआ अपने दोनों हाथ मेरे गले में डालकर लंड पर ऐसे कूदने लगीं जैसे कोई घोड़ी मखमली गद्दे पर कूद रही हो. मैं उसका पेट, उसकी नाभि को चूमने लगा और मेरा हाथ उसकी चूत की गहराई को नापने लगा.

तो मैंने वह रिक्वेस्ट उसी समय एक्सेप्ट कर ली क्योंकि फोटो में मुझे वह शादीशुदा औरत बहुत ही सेक्सी और सुंदर लग रही थी.

कैटरीना का नंगा फोटो

एक शनिवार को हम दोनों शराब पीते समय आगे की जिंदगी में क्या करना है, इस पर चर्चा करने लगे. ‘अब क्या करोगे पढ़ाई के बाद?’जॉब आदि के बारे में बात करते ‌करते मीना को नींद आने लगी और वो मेरी तरफ अपनी गांड करके सोने‌ लगीं. हम दोनों के मुँह से मस्त आवाज़ें निकलने लगीं ‘आआहह ओहह …’क़रीब 20 मिनट तक लंड पर कूदने के बाद चाची ने लंड को चूत से बाहर निकाल कर अपनी गांड में डाल लिया और फिर से लंड पर कूद कूद कर गांड में लंड को अन्दर तक लेने लगीं.

अब माधुरी ने उठ कर अपने बैग से टिश्यू पेपर निकाला और मेरे मुँह को साफ कर दिया, साथ ही साथ अपने मुँह को भी उसी से पौंछ लिया. मैंने आखिरकार एक दिन उसे मिलने के लिए राजी कर ही लिया लेकिन इस शर्त पर कि हमारे बीच सेक्स जैसा कुछ नहीं होगा. उस रात चार बार चुदाई का खेल हुआ और वो पूरी तरह से चुदाई में खुल गई थी.

उसने मुझे घुमा दिया और मेरे भारी भरकम कूल्हों की दरार में वो लंड रगड़ने लगा.

फिर मैं चुप हो गयी तो उसने एक झटके में लंड मेरी गांड में उतार दिया. बड़े ही सेक्सी अंदाज से कोमल अपनी गांड थिरका कर मुझे और ज्यादा उत्तेजित कर रही थी. मैंने धीरे से अपना लंड उसकी चूत में सरका दिया, गीली चूत में लंड का सुपारा आसानी से घुस गया.

मैं समझ गया कि चुदने को मचल तो रही है लेकिन कुछ डर रही है,मैंने कहा- तुम्हारी मौसी कुछ नहीं देख सकेगी. तभी पीछे वाले लड़के ने रिया का पजामा पीछे से नीचे कर दिया और रिया की पैंटी दिखने लगी. मुझे गालियां सुन कर और भी मजा आ रहा था तो मैं भी जीजू का साथ देते हुए बोलने लगी- चोद ले मादरचोद … अपनी अम्मी की चूत समझ कर चोद … फाड़ कर टुकड़े टुकड़े कर दे मेरी चूत के … प्यास बुझा डाल इसकी.

दोस्तो, कानपुर से मैं अभिनव फिर से आपके समक्ष अपनी नई सेक्स कहानी रखने जा रहा हूँ. मैंने उसकी चूत का पानी पिया और वो निढाल होकर उधर ही बेड पर लेट गयी.

मैंने उसे सोफे पर लिटा दिया और अपने एक हाथ की उंगली उसकी चूत में डाल दी. दोस्तो, आप लोगों को बता दूँ कि जो भी औरतें अपनी चूत हमेशा साफ़ रखती हैं और सेक्स की प्यासी होती हैं, उनकी चूत की खुशबू में ऐसा नशा होता है कि आपको असली जन्नत का मजा दिला दे. मेरी उंगली चलने से वह बहुत ज्यादा मचल रही थी और अपने हाथ से मेरे लौड़े को पकड़ना चाह रही थी.

आशा है कि आगे भी वो प्यार और स्नेह मुझे आप लोगों से मिलता रहेगा ताकि मैं आगे भी ऐसे ही रोचक कहानियाँ लेकर आप सबका मनोरंजन करती रहूँ।वैसे तो मुझे बहुत सारे लोगों के मेल आते हैं मगर अभी कुछ दिन पहले मुझे मेरे एक प्रशंसक ने मेल किया जिसमें उसने एक कविता लिखी है.

मैं उनको खा जाने वाली नज़रों से देख रहा था और आंटी भी मेरे हथियार को देख कर खुश हो रही थीं. लेकिन मेरी बीवी को रत्ती भर भी डर या संकोच नहीं लगा कि कहीं उसकी भतीजी ने देख लिया तो क्या होगा. लेकिन मैं था कि साक्षी के चुचों की खुशबू और निप्पलों से निकलते दूध को पीने में एकदम खो सा गया था.

अब जीजू तेज तेज धक्के मारने लगे और मेरा सारा बदन उनके धक्कों के साथ हिलने लगा. उसकी स्पीड किसी एक्सप्रेस ट्रेन की तरह मेरी बुर पर चल रही थी, जिससे पूरी कमरे में मेरी सिसकारियों और पच पच की आवाज गूंजने लगी थी.

मैंने प्यार से पूछा- ये सब तुम क्या कर रही थी कविता?‘कुछ नहीं साहब जी, वो गलती से हाथ फिसल गया. देसी पोर्न दृश्य को आगे बढ़ाते हुए चाची ने हवा में हाथ उठा कर दूध तानते हुए कहा- अब देख क्या रहा है … जल्दी से निकाल … मुझे कीड़ा काट रहा है. मॉम फ्रेंड सेक्स कहानी कैसी लगी आपको?आपका अपना शरद[emailprotected].

औरत की तस्वीर

मैंने हाथ से उनका लण्ड पकड़ा और चमड़ी पीछे कर के सुपारा बाहर कर दिया तो उनके लण्ड से रस की बूँदें नीचे टपकने लगीं.

मेरी आंखों में बार बार बारिश में भीगी बहन ही दिख रही थी, बाथरूम में उसकी नंगी जवानी मुझे गर्म कर रही थी. मैं रात में नंगा लेटकर अन्तर्वासना पर रिश्तों में चुदाई पर चाची की चुदाई की कहानी पढ़ रहा था. पहले उन्होंने मेरी चूत पर लंड को रगड़ा और एक झटका लगाया पर उनका लंड अन्दर गया ही नहीं … और मुझे दर्द भी हुआ.

चाची की मादक सिसकारियां बढ़ने लगीं और वो ‘उईई ऊईईई आह आह …’ करने लगीं. जब तक उसकी गोटियां मेरे पाले में और मेरी गोटियां उसके पाले के नजदीक न पहुंच गईं. बच्चे कैसे होते हैं सेक्सी वीडियोमगर थोड़ी देर बाद मेरी चूत में भी खुजली होने लगी तो मैंने सबको चुदाई करने से रोका.

उधर जाने के लिए मैं रोज़ सुबह क़रीब साढ़े छह बजे अपने गांव से बस पकड़ कर रोहतक निकल जाता था. दोस्तो, आपको बता दूँ कि जब भी आप किसी औरत या लड़की की गांड मार रहे हों … और आपके सामने या बाजू में अगर कोई आईना है, तो आप डॉगी बनी लौंडिया की गांड मारने का दोगुना सुख ले सकते हैं.

मैंने उसकी लेगिंग्स की इलास्टिक को उसकी कमर के नीचे घुटने तक खिसका दिया. एक हिजड़े ने मेरी बलाएं लेते हुए कहा- कहीं हमारी नजर ही ना लग जाए इस हूर परी को!मैं तो बस अपनी तारीफें सुन सुन कर झूमे जा रही थी. उसने मुझे नीचे उतार दिया और एक झटके में मेरा टॉप मेरे जिस्म से अलग कर दिया और ब्रा के ऊपर से ही मेरे बूब्स खाने लगा.

मैं दरवाजे पर जाकर बोला- अर्चना, दरवाजा खोल, मैं हूँ राहुल!उसने दरवाजा खोला, मैं अंदर आ गया और उसके बेड पर उसके साथ बैठ गया. मैंने धीरे से उसके पैंटी में हाथ डालने की कोशिश की पर उसने मना कर दिया. रात के एक बजे मैं बाथरूम में गया और देखा कि उधर मामी की नाइटी रखी हुई थी और उनके उतरे हुए ब्रा पैंटी भी थे.

शेखर बोला- ऐसा कैसे हो सकता है? तुम तो इतनी स्मार्ट और सुन्दर हो, फिर तुम्हारा बॉयफ्रेंड कैसे नहीं है?मैंने कहा- मैं लड़कियों के स्कूल में पढ़ती थी और इसी साल कॉलेज में आई हूँ इसलिए कभी लड़कों से घुलने मिलने का समय ही नहीं मिला.

मैंने पूछा- इतना रंगीन आदमी है कौन?वो बोला- तेरी कमसिन गांड की पूरी दुनिया दीवानी है, यह भी उनमें से कुछ दोस्त हैं. अब आगे देसी हिंदी Xxx चुदाई:मैं अभी बाथरूम की रोशनी की तरफ देख ही रहा था कि तभी अंदर से गेट खोलकर रम्भा बाहर आ गई.

कुछ देर बाद मैं नीचे आ गया और चाची की टांगों को फैला कर मैंने उनकी चूत को चाटना शुरू कर दिया. फिर दूसरे दिन रोज़ की तरह सुबह 8 बजे उठा और नहा धोकर बाइक पर जॉब पर चल गया. फिर हम सबने अपने अपने धक्कों की स्पीड बढ़ा दी, जिससे लड़कों की गांड में दर्द भी बढ़ गया.

उन्होंने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ा और धीरे धीरे टोपे को सहलाने लगीं. उसने कहा- सर आज क्या काम है?मैंने कहा- कुछ जरूरी काम है, मिल कर काम निपटा लेंगे. उन दोनों की धकापेल चुदाई और गालीगलौच से मुझे भी अपनी चूत में सुरसुरी होने लगी.

बीएफ सेक्सी वीडियो बिहार के फिर चाची बोलीं- आज की रात तू सबको भूल जा और अपनी चाची को जमकर चोद दे मेरे बेटे. मेरा लंड भी कड़क होकर कोमल की सलवार के ऊपर से उसकी चूत के ऊपर ठोकर मार रहा था.

नंगि फिल्म दिखाओ

यदि कभी तूने घर के बाहर किसी दूसरे से सेक्स कर लिया और कुछ लफड़ा हो गया तो बड़ी बदनामी होगी और हो सकता है कि तू किसी परेशानी में फंस जाए. जब मैं हवस की आग में जल रही थी तो फटी गांड का दर्द महसूस नहीं हो रहा था लेकिन अब तो दर्द के मारे मुझसे उठा ही नहीं जा रहा था. जलालुद्दीन साहब बोले- हाँ रंडी, पहले ठीक से गांड तो मार लेने दे, फिर तेरी चूत मारूंगा.

मम्मी की चूत के लबों को खोलकर अपने लंड का सुपारा मम्मी के चूत के मुख पर सैट करके मैं आगे की ओर झुका और मम्मी की दाहिनी चूची अपने मुँह में पकड़कर चूसने लगा. अब मुझे लेटाकर भैया मेरे ऊपर चढ़ गया और मुझे किस करते करते मेरी चूचियों को दबाने लगा. सेक्सी वॉलपेपर कीसमीर ने मुझे पहले ही गर्म कर दिया था इसलिए मेरी चूत ने मुझसे बगावत कर दी.

अब नहीं रहा जा रहा है मुझसे!कह कर वो अपने कपड़े उतारने लगा।और जैसे ही उसने अपनी अंडरवियर निकाली, मैं तो साले का लण्ड देखता ही रह गया.

चाची मुझसे पूछने लगीं- इस बार गुड़गांव में किसे किसे चोदा?मैंने बताया कि बबलीबुआ और उसकी एक सहेली भाभी को. मुझे मतली आने लगी थी लेकिन मैं कुछ कर नहीं सकती थी इसलिए मैं उसका गन्दा लंड चूसने लगी.

वो मुझसे कैसे चुदी?दोस्तो, मेरा नाम अतुल चौधरी है और मैं एक बैंक में मैनेजर हूं. हाय, मैं एक नया नया बिजनेसमैन हूं और अपने घर से ही अपना सारा काम करता हूं. मेरे घर से सभी लोग वहीं गए थे और उसके दोनों भाइयों को भी शामिल होने जाना था.

नंगी मॉम को देख कर बहन ने आंख बंद कर ली … क्योंकि मैं और मॉम दोनों नंगे थे.

वो मेरे पास आयी और उसने कहा- क्या तुम्हारे पास मोबाइल का चार्जर है … मेरे मोबाइल की बैटरी खत्म हो गयी है. गड्डों की वजह से हमारे बीच का फासला कम होता जा रहा था और मेरा लंड जो डिंपी की चूचियों की वजह से खड़ा हुआ था, अब बस डिंपी की गांड तक पहुंचने वाला था. Xxx वर्जिन मेड सेक्स कहानी मेरे चाचा के घर की जवान कामवाली की पहली चुदाई की है.

सेक्सी मूवी फिल्म एचडी मेंयह सुनकर शेखर ने टेक्सी में से एक मोटा कम्बल निकाल कर घास पर बिछाया और मुझे लेटा दिया. मैं- ये दर्द बस कुछ देर का है, कल तेरी चूत फिर से लंड की ऐसे प्यासी हो जाएगी, जैसे उसे कुछ हुआ ही न हो.

ब्लू फिल्म इंग्लिश दिखाओ

वो बोली- कंडोम तो तुम भी नहीं लाए हो शायद?मैंने कहा- कोई बात नहीं, मैं टेबलेट खिला दूँगा बाद में. मैं हॉल में रखे सोफे पर धप्प से पसर गया और अपने बैग को सामने की टेबल पर रख दिया. जब थोड़ा आगे गए और बाइक पर ठंडी हवा लगी और दिमाग शांत हुआ, तब ठंडी हवा में मेरी पीठ पर उसके जिस्म की गर्माहट महसूस हुई.

वो इससे एकदम से पागल हो चुकी थीं और बार बार अपना हाथ मेरे लंड पर ले जाने की कोशिश कर रही थीं. दोस्तो,मेरी कहानी के पिछले भागमुझे आलिम साहब से मुहब्बत हो गयीमें अपने पढ़ा कि आलिम ने मुझे दुल्हन की तरह सजवाया. कहानी के पहले भागचचेरी बुआ के साथ सेक्स की शुरुआतमें अब तक आपने पढ़ा था कि बुआ मेरे लिए खाना बना रही थी और मैं टीवी देख रहा था.

जहां जहां उसके होंठ मुझे छू रहे थे, ऐसा लग रहा था जैसे वहां के रोंगटें खड़े हो रहे हों।फिर उसने मेरे हाथों को ऊपर उठा लिया और मेरी शर्ट को निकालने लगा. मैंने चाची को उठाकर घोड़ी बना दिया और चूत में लंड लगाकर जोर से धक्का लगा दिया. इतने में उसने आवाज दी- मामा जी गाड़ी रोको ना, मुझे पीछे बैठने में प्रॉब्लम हो रही है.

हम दोनों के मुँह से मस्त आवाज़ें निकलने लगीं ‘आआहह ओहह …’क़रीब 20 मिनट तक लंड पर कूदने के बाद चाची ने लंड को चूत से बाहर निकाल कर अपनी गांड में डाल लिया और फिर से लंड पर कूद कूद कर गांड में लंड को अन्दर तक लेने लगीं. फिर मैंने अपने लंड को खड़ा किया और 2-4 अच्छी सी फोटो खींच कर उसको भेज दीं.

फिर मैंने भाभी का पैर टब के किनारे से उठा कर अपने कंधे पर रखा और अब मैं और जोर से चूत का रस पीने लगा, चूत के दाने को मसलने लगा.

कविता ने मुझे बताया कि मम्मी शाम को वापस आएंगी और अब घर में तुम्हारे अलावा कोई नहीं है. जापानी लड़कियों की नंगी सेक्सी चुदाईछोटू मेरे मुंह के पास आया और अपना लंड मेरे मुंह में उतारने की कोशिश करने लगा. मां बेटे की सेक्सी डॉट कॉम‘देख तूने पूरे पांच कपड़े पहने हुए हैं और मैंने कुल चार … तो इस हिसाब से तेरे पास गेम में जीतने के ज्यादा चांस हैं. दरअसल मेरी मम्मी को घर के काम में मदद के लिए कोई चाहिए था और उसी समय मेरे उन दूर के मामा ने कहा कि वो अपनी बेटी रचना को भेज देंगे.

कहानी के पिछले भागभतीजी ने मुझे अपने पति से चुदवा दियामें आपने अब तक पढ़ा था कि मेरी भतीजी मंजू के पति रोहित ने मेरी चूत चुदाई कर दी और मेरी चूत से लंड निकाल लिया था.

मुझे उसके साथ किस करने में बहुत मज़ा आ रहा था तो मैं भी उसका पूरा साथ दे रही थी. ‘क्या हुआ, नहीं करूं?’मैंने फिर पूछा, उसने कहा- ऐसा नहीं है … पर दर्द होगा. मैं घबरा कर रोने लगी और दौड़ कर अपनी अम्मी के पास गई और उनको सारा वाकया बताया.

फिर मैंने अपनी जीभ को गोल करके उसकी चूत में डाल दिया और उसकी चूत का रस पीने लगा. उनकी भरी हुई चूचियों पर कड़क और ब्राउन कलर के निप्पल बड़े मस्त लग रहे थे. तकरीबन एक मिनट बाद वह भी अपनी गांड को उचका उचका कर मेरे लंड का आनन्द लेने लगी थी.

लाल साड़ी वाली सेक्सी पिक्चर

मुझे लंड छूने का अनुभव नहीं था फिर भी ऐसे माहौल में लंड पकड़ने पर मुझे कोई परेशानी नहीं हुई. अब आगे वर्जिन ऐस फक़ स्टोरी:मैंने भी कहा- हां, इस बार हम दोनों बहुत ज्यादा ही झड़ गए हैं. उसी दौरान अचानक से कुछ ऐसा हुआ कि मेरी नज़र उसके टॉप से झांकते मम्मों पर जा पड़ी.

कभी वो मेरे मुंह के अंदर अपनी पिचकारियां मारते तो कभी मेरी चूत में वीर्य का तालाब भर देते.

मैं बहुत परेशान था और सोच रहा था कि साला ऐसी भी क्या जल्दी थी कि मैंने उसे बिना पटाए बिना कुछ सोचे ऐसा बोल दिया.

आह्ह!मैंने 15-20 मिनट भाभी को जन्नत की सैर कराई।इस बीच भाभी 2 बार झड़ चुकी थी।जब मेरा काम तमाम होने लगा तो मैंने भाभी से पूछा- भाभी, कहाँ निकालूं अपना माल?तो वो बोली- मेरे मुंह में डाल दे।मैंने लंड चूत से निकाल कर भाभी के मुख में दे दिया और मुखचोदन करने लगा. हार कर आपा बोली- अच्छा चल ठीक है, तेरे लिए तो कुछ भी कर सकती हूँ, आज रात को मैं अपने कमरे की खिड़की खुली रखूंगी, तू आकर देख लेना कि एक आदमी और औरत के बीच में क्या क्या होता है. ब्लू फिल्म वीडियो सेक्सी ब्लू पिक्चरआप सब को मेरी यह वर्जिन गर्लफ्रेंड लव स्टोरी कैसी लगी प्लीज़ मेल करके जरूर बताएं.

इस हॉट माँ Xxx कहानी को पढ़ कर आप भी नहीं सोच सकेंगे कि ऐसा हुआ होगा. उसने अपना काला लंड मेरी गोरी चिकनी गाड़ के छेद पर रखा और आगे पीछे घिसने लगा. हॉट इंडियन भाभी न्यूड स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपने भैया के घर गया तो मुझे रात को वहां रुकना पड़ा.

आप मुझे मेल करें कि आपको इस देसी गर्ल बर्थडे सेक्स कहानी पर क्या कहना है. दो साल पहले उसके पति का देहांत हो गया और वो अपने माता पिता के साथ रहती है.

मगर रिया की चूत में अभी भी खुजली हो रही थी तो वो आयेशा के पास आ गई.

मुझे अब दोनों तरफ से चुदाई का मज़ा मिल रहा था।थोड़ी देर ऐसे ही चोदने के बाद जब वो झड़ने को हुआ तो उसने लंड मेरी चूत से निकाल लिया. आह्ह!मैंने 15-20 मिनट भाभी को जन्नत की सैर कराई।इस बीच भाभी 2 बार झड़ चुकी थी।जब मेरा काम तमाम होने लगा तो मैंने भाभी से पूछा- भाभी, कहाँ निकालूं अपना माल?तो वो बोली- मेरे मुंह में डाल दे।मैंने लंड चूत से निकाल कर भाभी के मुख में दे दिया और मुखचोदन करने लगा. फिर हम दोनों ने कपड़े पहने और कोमल बगीचा में जाकर मीनू की मदद करने लगी.

सेक्सी किन्नर सेक्सी वीडियो हमारे बीच बातें साफ़ होने लगी थीं और जवानी की तपिश हम दोनों को ही जलाने लगी थी. कुछ देर इसी पोजीशन में रगड़ सुख लेने के बाद कोमल ने चुदाई करने का कहा.

फिर मैंने जैसे ही उसकी गांड के छेद पर अपनी उंगली रखी, उसकी गांड का छेद और टाइट होने लगा. उसकी चूत पे बाल थे।अब मैं उसकी चूत में उंगली डाल कर फांक के पास अपनी उंगलियाँ फेरने लगा. कुछ देर ऐसे ही धक्के मारने के बाद मैंने चूमते हुए उससे पूछा- दर्द हो रहा है?उसने न में सर हिलाते हुए जवाब दिया.

सेक्सी स्टेज शो

बीवी का तो बिल्कुल भी मन नहीं करता था लेकिन मैं सेक्स के लिए तड़पता रहता था. ’उनके मुँह से गाली सुनकर मैं और उत्तेजित हो गया और पूरे जोर से उनकी गांड मारने लगा. अन्दर आकर सबसे पहले मैंने घुटनों पर बैठकर गुलाब को कोमल की तरफ बढ़ाया और उसके सामने अपना प्रणय निवेदन किया.

जिन्दगी में पहली बार गांड में लंड लिया था तो मेरी आंखों में आंसू आ गए. उसके बाद मैं उनकी कच्छी को सूंघता था, अपनी जीभ से चाटता और मॉम की कच्छी को अपने लंड पर लपेट कर मैं अपनी मॉम की नाम की मुठ मारता था.

वह अपनी चूत को साफ करके कमरे में आई और मुझे लंड का खून साफ करने का इशारा किया.

तभी निखिल मेरे ऊपर आ गया और जोर से मेरे होंठों को पीने लगा, मेरे होंठों को चूसता रहा और मेरी आँखों में दर्द के मारे पानी आ गया. मैंने झूठ मूठ बोल दिया कि एक फ्रेंड की मैरिज में एक बैंक्वेट में तुम अपनी फ्रेंड्स के साथ थीं, तो किसी फ्रेंड से मैंने तुम्हारे बारे में पूछा था. उसने कहा- तुम भी तो मुझे ऐसी नजर से देखते हो?मैंने कहा- नहीं, वो तो मैं बता रहा था कि तुम कैसी लगती हो.

थोड़ी देर में मंजू को भी मजा आने लगा और वह आह आह आह ओह ओह करने लगी. तापोश- क्या मैं आज रात नीना की गांड मार सकता हूँ, क्या तुमने नीना की गांड को मारने के लिए तैयार कर दिया है?मैं- तैयार तो कर दिया है, मेरा अनुमान है कि नीना खुद ही तुमको गांड मारने को कहेगी. मैं उसकी लार को अपने मुँह में लेकर किसी अमृत की तरह चूसे जा रहा था.

अंकल कुणाल सोचते हैं कि अगर उनका बेटा अशोक को सविता के साथ सुखी वैवाहिक जीवन जीते हुए देखेगा तो शायद शादी के बारे में उसका मन बदल जाएगा।आयुष सविता और अशोक से मिलने आता है.

बीएफ सेक्सी वीडियो बिहार के: हम दोनों ने घर से लाया हुआ खाना साथ में खाया, फिर बातचीत करने के लगे. [emailprotected]मेरी पिछली कहानी थी:उत्तराखण्ड की कुंवारी चुत का मजा.

वो बीच बीच में मेरे मम्मों की तारीफ भी करते थे- वाह कितने प्यारे, नर्म और रसीले मम्मे हैं. जैसा कि आप जानते हैं मैं अपनीविधवा बुआ को पहले भी बहुत बार चोद चुका हूं. वो बोली- हां तो कॉल कट क्यों कर दी?मैंने कहा- वो तो बस यूं ही, मुझे लगा कि तुम पता नहीं क्या सोचोगी.

तब मैंने देखा कि आंटी थोड़ी भीगी हुई थी मानो तुरंत बाथरूम से निकली हों नहा कर!जो कपड़े वे फैला रही थी, वे बहुत गीले थे इसलिए कपड़ों का सारा पानी उनके बदन पर और साड़ी में गिरा हुआ था.

उसने मुझे देख कर कहा- क्यों कैसे लगी मेरी नयी दुकान … अभी सैट की है पूरी शॉप को. उसने उसके उलटे हाथ को मेरे फड़फड़ाते लंड पर रख दिया और सीधे हाथ को मेरी छाती पर रख कर मेरे एक निप्पल को सहलाने लगा. शाम को जब मैं पहुंची, तब समीर ने हिना के घर में मेरा अच्छे से स्वागत किया.