53 सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,कांबळे सेक्सी व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो प्रियंका: 53 सेक्सी बीएफ, मैंने अपना लंड उसके अंदर से निकाल लिया और उसे वैसे ही लेटे रहने को कहा ताकि मेरा वीर्य उसकी चूत में टिका रहे और गर्भधारण की संभावना बढ़ जाए.

xxxx हिंदी सेक्सी वीडियो

जिसमें मुझे लड़की या औरतों की फुलबॉडी मसाज और उनकी जरूरत के हिसाब से उनकी चुदाई भी करनी पड़ती है और कभी कभी रेणुका मैडम मुझे होम सर्विस के लिए भी भेजती हैं. चांगला सेक्सी व्हिडिओमंजरी को एक उबकाई सी आई, मगर उसने फिर भी अपने मुँह से लंड बाहर नहीं निकाला और चूसती रही.

रोहण का लंड मेरे चूतड़ों के नीचे खडा हो गया था औए मेरी गांड की दरार में घुस रहा था. सेक्सी ओरिजिनल वीडियोमैं उसे अपने केबिन में ले गया और कंप्यूटर पर बेसिक चीजें समझा कर मार्केट निकल गया.

मैंने पूछा- आज तुम अपनी फ्रेंड के साथ नहीं जाओगी क्या?उसने बताया कि उसकी फ्रेंड की माँ की तबियत ख़राब के कारण वो अपने घर चली गई है.53 सेक्सी बीएफ: अब रमेश और काजल, दोनों भाई बहन बिल्कुल नंगे चुदाई की मुद्रा में थे.

अब मैं अकेला मॉल में क्या करता, यह सोच कर नीचे पार्किंग में आकर ऐसे ही किसी की बाइक पर बैठ कर मोबाइल पर गेम खेलने लगा.खुशबू ने जल्दी से कपड़े पहने और जाने लगी, तो मैंने जाने नहीं दिया और पैन्ट के ऊपर से ही अपना लंड उसकी चूत पे दबाने लगा.

मियां खलीफा की सेक्सी फुल एचडी - 53 सेक्सी बीएफ

मैंने बोला- क्या देख रहा है आकाश?तो आकाश बोला- विशाखा तुम इन कपड़ों में बहुत ही अच्छी लग रही हो.हम दोनों अपने पुराने शहर में एक दूसरे की गांड मारा करते थे, एक दूसरे से मरवाते भी थे.

उसकी काले रंग की कुर्ती पायजामा को मैंने एक ही झटके में निकाल फेंका. 53 सेक्सी बीएफ एक दिन मैं और भाभी उन के कमरे में बैठे बातें कर रहे थे तो बातों के बीच में भाभी ने मुझ से पूछा- सनी, तुम यह तो बताओ कि तुम मुझे क़िस क्यों करते हो?तो मैंने कहा- बस भाभी… आप मुझे अच्छी लगती हो.

ऑफिस में कई लोग उससे फ़्लर्ट करते थे और माया को इससे कोई परहेज़ नहीं था.

53 सेक्सी बीएफ?

मेरा मन तो कर रहा था कि जाकर साली की गांड पे थप्पड़ ही थप्पड़ बजा दूँ. धीरे धीरे करके उन्होंने एकदम से अपने आधे से ज्यादा लंड को मेरी गांड में खोंस दिया. ? मैं इंतजार करूँगा और जब तक तुम बात नहीं करती, मैं खाना नहीं खाऊंगा.

मैंने कहा- भैया, आप बेफ़िक्र होकर जाइए, मैं हूँ ना यहाँ, मैं सबका ख्याल रखूँगा. पीछे विकास ने पूजा के टॉप मैं हाथ डाल कर उसके चूचे दबाने चालू किये हुए थे. दोनों पूरे नंगे बैठे थे कम्बल ओढ़ कर…दोनों ने मुझे डबल बेड पर अपने बीच में लिटा लिया और मेरे सेक्सी बदन पर से मेरे कपड़े एक एक करके उतारने लगे.

जवान अंजलि अपने ग़ुस्सैल रवैये से अपने पति पर हावी रहती थी और मनचाहा काम लेती थी. अब महेश मेरी तरफ़ देख कर मुस्कुरा रहा था उस की आँखों में अलग ही चमक थी. एक दिन मैंने देख भाभी मुझे देख कर मुस्कुरा रही थीं, पर उन्होंने मुझसे बात नहीं की.

मम्मी ने उसके काले लंड का ज़ोरदार चुम्बन लेते हुए कहा- वाउ इट टेस्ट सो गुड. थोड़ी देर में मैं भी अपनी चचेरी बहन की चूत में ही झर गया, वो तब तक दो बार झर चुकी थी.

लेकिन जब वो जाने के लिए उठी तो मुझे पता नहीं क्या हुआ और उसे फिर से कस कर अपने बदन को चिपका कर उसके होठों पर किस किया और थोड़ी देर वैसे ही रहे.

फिर पापा बोले- अरे वाह… तुम्हारे निप्पलस तो काफी अच्छे से ग्रो हो गए हैं.

और एक खास बात वो खुद कभी भी कोई गलती नहीं करती, लेकिन दूसरों की जल्दी ढूंढ लेती है. फिर मैंने उनकी गांड में अपना लंड लगाया और धक्का मारा मगर मेरा लंड फिसल गया. भाभी भी कहने लगीं- मुझे भी तेरे लंड से चुदने का काफी दिनों से इन्तजार था, तूने कभी हिम्मत नहीं की, यदि मुझे इशारा दे दिया होता तो अब तक हम दोनों कई बार मजे ले चुके होते.

”लाओ अब जल्दी से तुम्हारी ब्रा मुझे दे दो, जिससे में उस्मान को बता सकूं कि मैं कभी गलत नहीं होता. मैंने पूनम को देखा तो पूनम का भीगा हुआ बदन मुझे मदहोश कर रहा था क्योंकि भीगने से उसकी साड़ी उसके बदन से ऐसे चिपक गई थी, जैसे लड़का लड़की सेक्स के टाइम चिपके हुए होते हैं. मेरे दोनों चूचे चचा जान के हाथों में खेल रहे थे और उनके गीले होंठ मेरी मखमली गरदन को मसाज दे रहे थे.

मैंने उनसे पूछा कि क्या आप भी पियोगी?भाभी बोलीं- मैं वोड्का पियूंगी.

वो अपनी बांहों में मुझे दाबे जा रहा था, मेरी चूचियां दबी जा रही थीं, मेरे पैर जमीन पर नहीं लग रहे थे. मैंने 500 वाली बात किसी से नहीं बताई थी, लेकिन वो रूपये मैंने संभाल कर रखे थे. फिर भी नहीं हो, तब भी मैं मजा तो तुम्हारा लूँगा ही, चाहे जो करना पड़े मुझे.

यही सब मैं भी पिछले 5 सालों से मॉम को केवल देख कर और दूर से टच करके एंजाय कर रहा था. पिंकी भी मेरे साथ ही झड़ गई और उसकी चुत ने मेरे लंड को कस कर दबा लिया. बाबू जी के बिना बिखर गई है।तनु के पिता को गुजरे चार साल से ज्यादा हो गये थे, फिर माँ की जिन्दगी आज अचानक कैसे बिखर गई है, ये मेरे समझ में नहीं आ रहा था।कहानी जारी रहेगी.

अब वो पूरी तरह अपने होश खो बैठी थी और अपनी आँखें मूँदे मजा ले रही थी.

हमारी पहचान हुई स्टडी के बहाने क्योंकि वो ग्रेजुयेशन कर रही थी और उसकी बहन स्कूल में थी. मैंने कहा- सरिता अगर बुरा नहीं मानो तो मैं अभी व्हिस्की के 2-3 पैग लगाऊंगा.

53 सेक्सी बीएफ उसका फेस भी कमाल का था ही, जो उसको देखता था, बस सोचता होगा कि ये पट जाए बस, फिर चाहे जान चली जाए तो कोई गम नहीं. वो मज़े से लंड ले रही थी, मैंने थोड़ा स्पीड बढ़ा दी, वो और सेक्सी आवाजें निकालने लगी.

53 सेक्सी बीएफ इसके बाद भाभी जी से मैं धीरे धीरे खुलने लगा, पहले तो मैं उनके साथ नार्मल बातें ही करता था, फिर धीरे धीरे सेक्सी बातें भी करने लगा. अभी तक इस कहानी में आपने पढ़ा कि मैं तनु को चोदने वाला था तो उसकी मम्मी आँख की शर्म के कारण बहाना बना कर बाजार चली गई.

मैं उधर ही जा रहा हूँ और वापस कितनी देर में आओगी? मुझे कॉल कर देना मैं आ जाऊंगा.

बेस्ट पोर्न साइट्स

थोड़ी देर में फिर मैंने देखा कि भाभी कहीं दिख नहीं रही हैं तो मुझे लगा कि किसी काम से अन्दर गई होंगी. खैर दो दिन तो मुझे काम में निकल गए और तीसरे दिन मैंने शाम को किसी स्ट्रिप क्लब जाने का प्लान किया क्योंकि अमेरिका के न्यूड क्लब काफी मशहूर हैं. सन्नी- नहीं सर, वो बात नहीं करनी… और दफ़ा करो उस करण को, अब मेरा कोई दोस्त नहीं करण नाम का… मेरा कोई रिश्ता नहीं उसके साथ, साला जहाँ मरता है मरे, अच्छा किया जो आपने उसको अपनी टीम में नहीं लिया, और मैं सॉरी बोलना चाहता हूँ कि मैंने उस हरामी करण की वजह से आप लोगों से झगड़ा किया था, सॉरी सर.

माया सबके सामने तो साड़ी ठीक कर नहीं सकती थी, इसलिए उसने अपनी प्रेजेंटेशन चालू की. मैंने देर ना करते हुए उसकी पेंटी उतार दिया और उसकी चुत को चाटने लगा. ’मैं भी एकदम से उसकी चुत के दाने को अपनी जीभ से बहुत जोर से रगड़ने लगा.

वो दस सेकंड तक कुछ नहीं बोली, सिर्फ आँखें बंद करके बैठी रही और मजा लेती रही.

फाड़ डालो मेरी चूत को… ये मुझे बहुत सताती है बहुत ही परेशान करती रहती है. टेरेस पे जाते ही रिया ने मुँह सा बनाया और कहा- निक्की, यहाँ बैठेंगे तो दो मिनट में हमारी कुल्फी बन जाएगी चल अंदर ही ठीक है. उसकी चूत पर हल्के हल्के बाल नज़र आ रहे थे, जैसे उसने अभी कुछ दिन पहले ही चूत की झांटें साफ़ की हों.

मैं तुम्हें कैसे मारना चाहूँगा… प्लीज़ माफ़ कर दो… आइ लव यू… मेरी प्यारी पायल रानी…मैं हँसने लगा. बस 5 मिनट और चुसवाने के बाद मैंने भी अपना वीर्य अंकल के मुँह में छोड़ दिया. फिर मैंने दोनों को अपने आगे बैठा दिया और अपना लंड पिंकी के मुँह में घुसा कर अपना बीज गिराने लगा.

मेरी इच्छा है कि मेरी भाभी खिड़की में खड़ी हो… तब मैं जाकर उनकी साड़ी ऊपर करके उनकी चड्डी नीचे करके मेरा लंड उसकी चूत में डालूँ और मैं उनको यह बताऊं कि वो ऐसे ही खड़ी रहें जैसे दूसरे लोगों को यही लगे कि वो सिर्फ ऐसे ही खिड़की पर खड़ी हैं और बाहर देख रही हैं. हम सगे भाई बहन हैं और तुम ऐसा सोच रही हो?मीना- कल जब मैंने तुम्हारे लंड का पानी चखा, तब से मैं पागल ही हो गई हूँ.

” उसने अपने मन की बात कह दी।यू थिंक मैं हॉट हूँ?” उषा का रिप्लाई आया।इसमें सोचना क्या है; तुम तो पत्थर को भी पिघला दो. मैं उस के पास जा कर धीरे धीरे किस करने लगा, बहुत मुश्किल से उस ने मुझे टॉप उतारने दिया और मैंने उसकी ब्रा भी उतारी और उस के दूध चूसना शुरू कर दिए. मैंने मस्ती मस्ती में भाभी से बोला- भाभी आप हमेशा नेट वाली पेंटी ही पहनती हो क्या?उन्होंने बोला- जी नहीं, आज आपकी पसंद से पहली बार पहनूंगी.

बीस मिनट की जबरदस्त चुदाई के बाद मेरा वीर्य उनकी गांड में निकल गया और मुझे बहुत आनन्द का अनुभव प्राप्त हुआ.

मैं आफिस में था कि बीवी का फोन आया कि रश्मि को पैसों की जरूरत है, तो शाम को आप उसे 2000 रुपये दे दीजिए. सुमन मामी के मुँह से मादक सिसकारियां निकल रही थीं- ओह यस्स ओह्ह…मेरे लंड का साइज फूल कर तन चुका था. वो फिर से चीखी, मैंने कोई ध्यान नहीं दिया और उसकी कमर पकड़ के धक्के लगाने लगा.

अब मैं भाभी का एक पैर को उठा कर जोर जोर से धक्के मारने लगा और खूब चोदा. मुझे बहुत रोना आ रहा था, मेरी सास ने मुझे समझाने की काफी कोशिश की मगर मेरे आंसू नहीं रुक रहे थे.

मैंने भाभी के रूम के पास जा कर देखा कि भाभी गहरी नींद में सो रही हैं तो मैं भाभी के पास बेड पर जा कर लेट गया. फिर मैंने कुछ रोमांटिक गाने बजा कर इधर उधर की बात करके माहौल को हल्का किया. मैंने उसके लंड को पकड़ा और कसके दबाते हुए नीचे ले गई, तो लाल वाला सुपारा पूरा बाहर आ गया.

सनी लियोन एक्स फोटो

मैंने अपनी चूत पे टैटू बनवाने का फैसला किया और पहुँच गई स्टूडियो में… पहली सिटिंग में एक लड़की से आधा टैटू बनवाया और बाक़ी अगले दिन होना था.

सागर नशे में आ गया था बोला- ब्लाउज भी उतार दो ना दीदी तो और आराम लगेगा. मैं भला ऐसी रसदार चुत को क्यूँ छोड़ता, उसकी चुत को फैला के अपनी जीभ के करतब दिखने लगा. पहले तो मैंने ज़्यादा ध्यान नहीं दिया था, लेकिन पता नहीं एक दिन क्या हुआ कि मैंने उससे बोला कि खुशबू मेरी एक बात मानेगी, मुझे कुछ कहना है.

पहली बार किसी ने मेरा इतना खयाल रखा था तो कब उनसे प्यार हुआ, मुझे इसका पता ही नहीं चला. जब मुँह में मेरा लंड जाता तो दोनों के मुँह की गर्मी से मेरा लंड और टाइट हो जाता था. ससुर बहू की सेक्सी कहानी हिंदीमैं सेक्स के बारे में कुछ ख़ास नहीं जानती थी, ये सब नहीं सोचती थी कि स्टूडेंट्स की लाइफ में सेक्स जैसा भी कुछ होता है.

वैसे ही उस दिन मैंने एक बार सोचा कि जो पानी निकलता है ब्लू फिल्म में वो रस लड़की चाट जाती है, मैं चाट कर देखूँ, तो मैंने फिर से मुठ मारी और टेस्ट करके देखा, सच में लंड के पानी का टेस्ट बहुत अच्छा था. जब ये भाभी उन्हें बोलेगी कि क्या देखते हो, तब तुम उठना और पैर फैला कर बैठ जाना ताकि वो तुम्हारी चड्डी देख सके.

वो बात यह है कि मैंने देखा है इन लोगों का बहुत मोटा और लम्बा होता है. उसका निप्पल भी एकदम हार्ड और एक सेंटीमीटर का हो चुका था, चूची देखते ही मैंने उसे चाटना शुरू कर दिया, उसका निप्पल चूसने लगा जिससे उसका निप्पल और बड़ा हो गया और उसकी पकड़ और टाइट हो गयी. तभी भाई एकदम से हल्का सा हिला तो मैं वहीं हाथ रोक कर दम साधे लेटी रही.

अब तो ये उसके बस की बात नहीं रह गई थी, वो बोली- सैम, मेरी चुत में लंड डाल कर मेरी प्यास बुझा दो।मैंने उसकी एक ना सुनते हुए उसे बेड पर बैठने को कहा। रमन अपनी पत्नी के नीचे लेट गया और अनामिका की चुत चाटने लगा। अनामिका रमन के चेहरे पर बैठी चूत चुसवा रही थी और मैं अपना लंड चुसवा रहा था, वो रंडी की तरह गुर्राते हुए चुपड़ चुपड़ करके लोड़ा चूस रही थी. शायद पूनम को मजा आने लगा और वो आँखें बंद कर ‘आअहह आअहह इसस्स्स्स्शह. किड के भयंकर धक्कों के बीच परिश्रमी नाता के मुंह से निकलने वाली चप-चप की मीठी आवाज रेगिस्तान में पानी की बूंदों के समान मालूम पड़ रही थीं! मेरी प्राण प्यारी अर्धांगिनी के मुंह से किड के वीभत्स धक्कों के बीच उड़ती हुई मधुर ध्वनि आर्केस्ट्रा की मधुर ताल प्रतीत हो रही थी.

फिर चचा जान ने मेरे टॉप को मेरे कंधों तक ऊपर कर दिया जिससे मेरे चूचे बाहर आ गए.

रीना घर में अकेली है और रात में अकेले उसे डर लगता है, तो तुम रात को वहीं पे सो जाना!रीना मौसी मेरी सगी मौसी नहीं हैं, वे मेरी माँ की पक्की सहेली हैं. काफी देर तक वो मुझे चोदता रहा और उसके बाद हम दोनों शांत हो कर दूसरे को किस करने लगे.

अमित- क्या कुछ ज़्यादा ही शरीफ लड़की है वो?सन्नी- जी अमित भाई… तभी तो डर लगता है… अगर चालू होती तो कब से सेट कर लेता उसको।अमित- साला यही पंगा होता है शरीफ लड़कियों का… पहले बात करने से डरती है और फिर खाने पीने में भी बहुत टाइम लग जाता है. सुबह मैं उनको उठाने के लिए गई तो देखा उनका लंड नेकर में तंबू बनाए खड़ा था. पूरा लंड घुसते ही मैंने तेज़ी से बिना रुके दीदी की चूत को चोदना शुरू कर दिया और दीदी हल्के दर्द भरी सिसकारियाँ लेती रही और बेड की शीट को हाथों से ज़ोर से मसलने लगी, बेड की शीट पूरी बिखर गई थी और दीदी के हाथों में आ गई थी, बेड पर उतनी ही जगह पर बेड शीट बिछी रह गई थी जितनी जगह पर हम लोग लेटे हुए थे.

उनके मुँह की गर्माहट में एक अलग ही जादू था, मेरा लंड किसी खीरे की तरह मोटा हो गया था. मैंने उसके चुचों को दोनों हाथों में पकड़ा और उसकी रसभरी चुचियों को दबाने लगा, चूसने लगा. उनमें से 7 लड़कों के साथ मेरी बहुत अच्छी दोस्ती हो गई थी, उनके नाम थे राजीव, रवि, महेश, योगेश, दीपक, बिजेंदर उर्फ बीजू, सुदेश.

53 सेक्सी बीएफ मेरा लंड बार बार उसकी गांड को छू रहा था और शायद अब उसे भी इस बात का अहसास हो गया था. हमारा मकान जहां बन रहा था, वहां मैं चाय देने गई, वहां पर पांच मजदूरों के साथ में किशोर भी था.

गांव की सेक्सी वीडियो ओपन

मैंने जब से मामी को देखा है, तब से लेकर मामी को चोदने तक रोज उसके नाम की मुठ मारी है. चूस चूस कर ही थोड़ी देर में उसने मेरा लंड फिर से खड़ा कर दिया और मेरे लंड पर बहुत सारी क्रीम लगा कर उस पर ऊपर से बैठने लगी, लंड उसकी चूत में जाने लगा, वो एक साथ दर्द से चिल्लाने लगी पर रुकी नहीं और एक ही झटके से पूरा लंड अपनी चूत में उतार लिया. अब भाभी धीरे से अपने एक हाथ से मेरी जीन्स को उतारने लगीं, तो मैंने उनकी थोड़ी मदद कर दी.

मैंने उससे कहा- मैं आ रहा हूँ, कहां निकालूँ?उसने कहा- मेरे मुँह में आ जाओ मेरे राजा. मैं जब सामान उठा रहा था, तो मैंने देखा उसमें 5 अलग अलग कलर की पेंटी और सेम कलर की 5 ब्रा थीं. सेक्सी वीडियो इंग्लिश ब्लू फिल्मफिर अगले दिन मैं पीछे के गेट पर अपने डॉग को बिस्किट्स खिला रहा था, तब वो मुझे खिड़की से देख रही थीं.

मम्मी ने अपने ब्लाउज के ऊपर के दो बटन खोल रखे थे, जिससे उनकी चूचियाँ रह रह के बाहर निकलने के लिए उतारू थीं.

उसने अपने हाथ पीछे करके मुझे रोकते हुए कहा- जानू ये तुम्हारे लिए गन्दा है. मम्मी ने ऊपर वाला रूम खोल दिया और उनका सामान लगा दिया, मैं वहां पर उनके लिए जो भी सामान था वो लेकर गई.

एक दिन शाम के आठ बजे जब ऑफिस के सब लोग निकल चुके थे और मैं अकेला फेसबुक देख रहा था तो आकांक्षा वहाँ आई और साथ लाई भेल पूरी को प्लेट में डाल कर मेरे सामने रख दिया. मैं कभी उसके होंठ चूसता तो कभी उसकी जीभ… इतना मजा मुझे जिंदगी में कभी नहीं आया था. अब भाभी थोड़ा चिढ़कर मेरी छाती पर मुक्के मारने लगीं- यू नॉटी बॉय… मैं तुमसे कभी बात नहीं करूँगी.

और भी थे… अब किस किस का नाम लूँ!ट्रेन अपनी रफ्तार से चली जा रही थी.

उसके मुँह से हल्की हल्की कामुक सिसकारी निकल रही थी- उहह आअहह एस इस्स्स्स. अब तक उन्होंने छोटी उम्र से लेकर पच्चीस साल तक के गांव के सारे ही लौंडे निपटा दिए थे. मैंने पूछा तब उन्होंने बताया कि उन के पति का लंड केवल 5″ का ही है और काफी पतला है.

सेक्सी पुलिस वालों कीगाड़ी के बाहर खड़े उसके लोगों ने देख लिया तो वो अपने आप ही अपना लंड पैंट के ऊपर से ही रगड़ने लगे. उसने मुझे सीधा किया और अपने लंड का जो वीर्य बचा था, वो उसने मेरी क्लीवेज में भर दिया.

एक्स एक्स एक्स हॉट वीडियो एचडी

फिर मैंने उससे बोला- पहले तो तेरी चुत मारने की सोची थी लेकिन पहले गांड मार दी. सुभाष की शादी फिक्स होने के बाद उसकी शादी का सारा अरेंजमेंट मैंने ही किया क्योंकि सुभाष की फैमिली ओर मेरी फैमिली के रिलेशन बहुत ही अच्छे हैं. बेडरूम में जाकर मैंने सागर को कह दिया था कि तुम सेक्स के लिए ज़रा भी पहल नहीं करना, तुम्हारी दीदी को ही पहल करने देना.

उम्म्ह!पर अब मुझे विवेक का लंड लेने की आदत पड़ गई थी, तो दर्द भी कम होता था. तो पानी ना होने के कारण वो नीचे हमारे बाथरूम में नहाने आ गईं। उनके हाथ में सिर्फ़ पेटीकोट और ब्लाउज था।हमारे बाथरूम के दरवाजे में एक छेद था। कुछ देर बाद मैंने उस छेद से देखा. फिर भाभी जी ने भी मेरी कैप्री के ऊपर से मेरे लौड़े को देखा, तो वो भी समझ गईं कि आज मेरा लौड़ा गर्म हो गया है.

’ की आवाजें निकालने लगीं और मेरे सर को बालों से पकड़ कर अपनी चूत पर दबाने लगीं. और इतना कह कर वो बाथरूम में चली गई, वो चाहती थी कि मैं उसको देखूँ इसलिए उसने बाथरूम की लाइट ऑन की और गेट भी थोड़ा सा खुला छोड़ दिया. वो बोली- कैसे? चूची मसली और चूत को क्या किया?पिंकी बोली कि पहले पूरे कपड़े उतरवाये और दूध पिया.

चपरासी बोला- साहब 7:30 बज गए और मुझे जाना है!तो मैंने उसको बोल दिया- तू चला जा, हमको थोड़ा टाइम लगेगा. मैंने भी उसे आराम से झड़ने का अहसास लेने दिया।जब वो झड़ चुकी तो मैंने उसे घोड़ी बना दिया और उसकी चूत में एक ही धक्के में जड़ तक लंड पेल दिया.

मेरे ऐसे करते ही बहूरानी अपनी चूत और ताकत से ऊपर तक उठा उठा के मेरे लंड से भिड़ाने की कोशिश करने लगी.

मैं अपने दोनों हाथों में उसकी एक एक चुची पकड़ कर सहलाने लगा, मसलने लगा. भोजपुरी सेक्सी मूवी फिल्मउसने बाजू में रखी पानी की बॉटल उठाई और खोली… फिर धीरे से वो अपने स्तनों के ऊपर पानी डालने लगी और मेरा मुँह अपनी चूचियों से लगा दिया. एक्स वीडियो सेक्सी एक्स एक्स एक्सदोनों भाई काजल के अगल बगल में गिर गए और अब तीनों भाई बहन आराम करने लगे थे. प्रिय मित्रो, कहानी आगे बढ़ाने से पहले कुछ बातें मेरी पिछली कहानीबहूरानी की चूत की प्यासकी.

सिराज के उस धक्के से मैं तो आगे गिरने को हुई मगर आगे दूसरा था, जिसका लंड मेरे गले में अंदर तक घुस गया.

अब मैं साबुन उठाया और अच्छे से झाग बना कर भाभी के मम्मों पर… चूत पर… और गांड को अच्छे से साफ करने लगा. जैसे ही मेडिकल स्टोर वाली भाभी गईं, तो वो अपना सामान उठा कर निकलने लगीं और उनका नोट नीचे गिर गया. फिर मैं उसकी चूत को हाथ लगाने लगा तो उसने मेरा हाथ हटा दिया और बोली- प्लीज़ तुमने दूध को टच करने का वादा किया था.

तो उसके बाद मैंने उसको छोड़ दिया, कारण कि वो जब भी मिलता सेक्स करने को बोलता था और मेरा पूरा नहीं हो पाता था।मैं बोला- मैंने तो तुम्हारी माँ को जब चोदा तो पता नहीं कितनी बार वो झड़ी थी. तभी बाहर के दरवाज़े की घंटी बजी, हम दोनों को जैसे शॉक लग गया, साक्षी भाग कर दरवाज़े पे गयी तो कोई सेल्समेन था, उसे वापस कर के साक्षी दौड़ के मेरे कमरे में आयी. यह बात तब की है जब मैं मार्किट गई थी तो वहां अवी का दोस्त मिला जिसने उसकी बर्थडे पार्टी पर मेरे साथ डांस किया था.

मुंबई सेक्स बीपी

[emailprotected]कहानी का अगला भाग :बीवी की चुत चुदाई मेरे दोस्त से-2. मैं 4 तारीख को ही वहां का इन्तजाम देखने और शादी की तैयारी करने गया था. फिर शाम को हमारे बिस्तर पर शानदार ग्रुप फकिंग भी चली और मशहूर इतालियन पोर्न एक्टर ने मेरी सुन्दर गुड़िया को अपने मोटे लंड से खूब जी भर के चोदा!ओमार खुश हो गया और उसने नताशा को एक मोटी रकम भेंट दी, जिसके साथ साथ उसने उसे और बीस हजार डॉलर देने का वादा भी किया क्योंकि वो पूरे हफ्ते उसका साथ चाहता था!अगले दिन हम उसके साथ होटल के नजदीक ही घूमने निकले और हमारे सामने एक छोटी सी झील थी.

वो अपने जीवन के सेक्स के ये पहले अनुभव को बड़े आराम से आनन्द लेना चाह रहा था.

मैं समझ गया कि अब वो पूरी गर्म हो गई है और मेरा लंड अपनी चूत में लेने को तैयार है.

मैंने माला की कमर में हाथ डाल कर नाचते हुए उससे कहा कि तुम बहुत ही अच्छा डांस करती हो!तो उसने मुझे ‘थैंक्यू. मैं- याद है मुझे, मिनी वाली बात है ना?मैंने ये सोच कर कि अमित अभी कुछ और बताएगा ऐसा जानबूझ कर लिखा. देसी भोजपुरी सेक्सी मूवीयह मेरी पहली हिंदी पोर्न स्टोरी है मैं आशा करता हूँ आप सभी को पसंद आई होगी क्योंकि यह सेक्स से ज़्यादा रोमांटिक है.

मैंने ये देख आकाश को बोला कि आकाश तुमको भी अपनी गर्लफ्रेंड को लाना चाहिए था. अगले दिन रक्षाबंधन था, उसने राखी बांधी और सभी अपना अपना काम करने लग गए. तभी दरवाजे पर आहट हुई, मैंने अपने कपड़े जल्दी से पहने बाल बिखरे हुए ही थे.

यह नशीला और कामुक शो बस दो मिनट ही चला, तभी अचानक मॉम की मुझ पर नाराज़ पड़ी और उन्होंने झट से दरवाज़ा बंद करते हुए अन्दर से ही मुझे बोला- अरे तू कब आया. उसने अपने पुराने बॉयफ्रेंड के बारे में बताया तो मैंने पूछा- तुमने उसके साथ कभी सेक्स किया है क्या?तो उसने बोला- मैंने तो आज तक कभी किस भी नहीं किया!पर मुझे तो पता था कि उसने बहुत सारे लंड लिए हैं.

आप सोच रहे होंगे कि ये बेबू कैसा नाम है, ये मेरी लाइफ की पहली गर्लफ्रेंड ने दिया जिसका नाम अंशु था और मैं उसे कट्टो कहकर बुलाता था.

लंड क्या घुसा वो सारी मुहब्बत भूल गई और दर्द के मारे निकालने के लिए चिल्लाने लगी. मेरी मम्मी राधिका ने लंड चूसते चूसते ही पोजीशन बदली और ब्रायन की टी-शर्ट को भी खींच कर उतार दिया. आखिरकार मैंने अपनी आंखें बंद करके चाचा जी को ग्रीन सिगनल दिया, जिसे समझते हुए चाचा जी ने अपने दोनों हाथों को मेरे बालों में डालते हुए मेरे कांपते हुए होंठों पे अपने होंठ रख दिए और चूसना शुरू कर दिया.

सेक्सी सेक्सी मोटी मैं आप लोगों को बता दूँ कि वो सिर्फ वेस्टर्न ड्रेस ही पहनती थी जीन्स टॉप या जीन्स शर्ट… यही उसकी पसंद थी।उस दिन वो सफ़ेद शर्ट और डेनिम जीन्स पहन कर आई थी. भाभी ने सर हाँ में हिलाया तो मैंने उनके मुँह पर वीर्य की पिचकारी मार दी और उन्होंने कुछ बूँद पी लीं.

इसके बाद तो वे सब कोरी चुत देने में रूचि रखने वाली मुझसे किनारा करने लगीं और सब भोसड़ी वालियां मेरी जगह कुँवारा लंड ढूँढने लगीं. अब वो मुझे देखता रहा फिर उसने धीरे से कहा- मादरचोद क्या क़यामत लग रही है. जब मेरी भाभी के पति यानी मेरे भैया उनके आस पास ही हों, तब मैं उन से और सब से बच कर भाभी की छाती की गोलाई नाप सकूँ और हो सके तो भाभी की चूत को स्पर्श करके चूत में उंगली भी डालनी है.

पार्ट ऑफ प्लांट

हाय… सन्नी… म…र… ग…ई… छोड़ दे!”लेकिन मैं तो बस झड़ने ही वाला था इसलिए दीदी की बातों को सुन कर भी अनसुना कर रहा था. बिस्तर पे जाते ही ही उसने मुझे धक्का दे दिया और मुझे बिस्तर पे गिरा कर मुझ पे चढ़ गई. फिर ससुर मोहन लाल ने अपनी जुबान बहू मयूरी की गांड के छेद पर रख दी और जुबान गांड के छेद पर चलाने लगा.

भाभी और मम्मी नीचे सोती थीं क्योंकि भैया रात में 11-12 बजे तक आते थे क्योंकि आजकल उनके ऑफिस में ज़्यादा काम चल रहा था. एक दिन सुबह मेरा और इरफान का किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया, बात इतनी बढ़ गई कि मुझे इरफान ने अनाप शनाप बातें सुनाईं और एक चांटा भी जड़ दिया.

बस मुझे और मेरी मॉम को पता था, लेकिन मॉम को ये नहीं पता था कि वो मैं हूँ, उसको लगा कज़िन है.

इसके बाद भाभी उसे तुम्हारे साथ अकेला छोड़ेगी, तुम उसे सब कुछ करने देना, लेकिन चोदने मत देना, तब तक मैं इसे चोदूँगा. मॉम की चुदाई की इस कहानी के पिछले भागसेक्सी विधवा मॉम की चुदाई का मजामें आपने पढ़ा कि मेरी मॉम विधवा है, बहुत सेक्सी है. मैंने भी जल्दी करने के चक्कर में अपना लंड उसके मुँह में गीला करके उसकी चूत में रख दिया और रगड़ने लगा.

कहानी का पिछला भाग :मेरी जवान भानजी ने मेरी बेटी की कुंवारी बुर दिलाईआपने मेरी हिंदी सेक्स स्टोरी में पढ़ा कि कैसे मैंने अपनी भानजी को चोदा, फिर उसने मुझे मेरी बेटी की चूत चोदने में मदद की. कुछ मिनट बाद मैंने हिम्मत करके पायल भाभी को बेड पर लिटाया और खुद भी उनके बगल में झटके से गिर पड़ा. अब मेरी बॉडी को कहीं यहाँ तो कहीं वहां गांड को छूने लगा, तो कहीं मम्मों को दबाने लगा.

मेरी सेक्स कहानी के बारे में आपके जो भी अच्छे सुझाव हों, आप मुझे मेल कर दीजिये। फालतू के मेल में आपका और मेरा कीमती वक्त जाया मत होने दीजिये। मेल करते वक्त कहानी का टाइटल क्या है और आपको उसका कौन सा हिस्सा पसंद आया, या क्या ठीक नहीं लगा, ये बता देंगे तो मेल का उद्देश्य समझ में आयेगा।[emailprotected].

53 सेक्सी बीएफ: हालाँकि उसके बूब्स से दूध नहीं निकलता था लेकिन चूसने में ऐसा लग रहा था जैसे अभी दूध निकल पड़ेगा. चूंकि सब एक दूसरे को रंग लगा रहे थे सो मैंने भी भाभी को भी रंग लगाया और भाभी को रंग लगाने के बहाने उनके चुचे दबा दिए.

आप अपनी रायमुझे मेरी ई मेल पर भेज सकते हैं।[emailprotected][emailprotected]. सभी लोगों के मन में सिर्फ़ ये ही बात रहती कि मुझसे दोस्ती कैसे की जाए, लेकिन उस टाइम में बहुत घमंड में रहती थी और गर्ल्स के अलावा किसी लड़के से बात करना तो दूर उनकी तरफ देखती भी नहीं थी, लड़कों को मेरा ये घमंड बिल्कुल पसंद नहीं था. उम्र में ज्यादा फर्क ना होने की वजह से मैं और इरफान दोनों ही चचा जान से काफी फ्रेंक थे.

अब मेरे मन में आ रहा था कि कमीने गांव में इतना किया, सिर्फ 500 दिया.

तभी उसने मेरी चूत के दाने को मसला, तो मेरी चुत ने जोश में आकर फच से पानी बाहर फेंक दिया. मेरे भैया ने कहा- सर वो एग्जाम देकर 25 दिनों के लिए घर आई है, यहाँ कैसे बुला लूँ?उनके सर ने कहा- ये लो रूपये और उसका यहाँ तक टिकट करवा दो और उससे कहो कि वो यहाँ आ जाए, तुमको उसकी याद आ रही है और बंगलौर भी घूम लेगी. उसने पहले बहुत विरोध किया, पर मैंने उसे छोड़ा नहीं और लंड पेल कर चोदता रहा.