बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,पेट्रोल वाली सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

नई भोजपुरी बीएफ: बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ, ” मैंने उसे भरोसे में लेते हुए कहा।सड़क की पोल-लाइट से आ रही हल्की रोशनी में उसके एब्स चमक रहे थे.

देवर भाभी का सेक्सी बीपी वीडियो

चुदते हुए गच-गच की आवाज होने लगी और उसके बाप का लंड उसके मुंह में घुसा होने की वजह से उसके मुंह से गूं-गूं के सिवा कुछ और नहीं निकल रहा था. सेक्सी वीडियो चूत की चुदाई हिंदीवह फिर से मछली की तरह मचलने लगी और बोलने लगी- आ ह आ… … ह … मेरे आका … रुक क्यों गए … चोदिए ना … ये मेरी रंडी चूत आपकी दासी है … इस दासी पर ऐसे रहम नहीं करते सरकार … इस रंडी की चूत पर आपका अधिकार है.

अब दोनों मर्द अपने हाथों से अपने लंड की मुठ मारने लगे और जोर जोर से लौड़ों को रगड़ने लगे. सेक्सी फ्री व्हिडिओमैंने जयपुर में यात्रा ऑफिस खोल लिया और लोगों के टिकट बुक करने लगा.

फिर अगले दिन स्कूल में उदय सर और प्रिंसीपल सर से चुदने के बाद छुट्टी के समय मैंने अपने क्लास में ही सबके जाने के बाद कपड़े बदल लिए और कबड्डी सीखने चली आयी.बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ: जीजा साली की जवानी की कहानी में मजा आने लगा है ना अब?[emailprotected]जीजा साली की जवानी की कहानी जारी रहेगी.

मेरा ये अंदाज़ देख कर गीत फिर नेहा से बोली- धार मार दे रवि की जीभ पर!गीत की बात का जवाब देते हुए मैंने कहा- हाँ जरूर साली, मुझे तो अच्छा लगेगा.ऐसी बात नहीं है निष्ठा, तू तो मेरी सगी इकलौती साली है, साली आधी घरवाली होती है वैसे भी!” मैंने कहा.

सेक्सी वीडियो चूत चुदाई वीडियो सेक्सी - बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ

मेरे पास एक सबसे आसान आदमी के रूप में मेरे स्कूल का प्रिंसीपल सर थे.फिर मैंने उन लोगों के सामने ही नील को किस किया जिससे उस लड़की की झांटें सुलग गयी और वो दोनों वहां से चले गये.

वो नशे में बोली- जल्दी करो, तड़पाओ मत।मैंने पूछा- क्या करूं?वो पहली बार एकदम बिंदास अंदाज में बोली- चोद दो मुझे … स्स्स. बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ मैं भी सोचते हुए कहने लगी- हां यार ईशिता … अब हम क्या करेंगे?ईशिता ने कहा- रुमित तुम एक काम करो.

मैंने मामी को ये बताया, तो मामी ने कहा- तू चिंता मत कर … दो बजे तो उनके स्कूल की ही छुट्टी होगी … फिर यहां आते आते उनको आधा घंटा और लग जाता है.

बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ?

उसने मुझसे कहा- तुम यह सब क्या कर रहे हो?मैंने कुछ नहीं कहा और अपने कपड़े पहनने लगा. साथ में सॉरी लिखकर कहा गया था कि उस डेट पर फ्लाइट की टिकट नहीं हो पाई।मैंने ‘कोई बात नहीं, यही बहुत है. मैं ऊपर मुंह उठाये पिंकी रानी की आँखों में आंखें डाल कर उसको निहार रहा था.

होम सेक्स स्टोरी का पिछला भाग:लॉकडाउन में चरमसुख की प्राप्ति- 2अब आगे की होम सेक्स स्टोरी:राजेश को घूरता देख शीला बोली- अब तो साफ़ सुथरी दिख रही हूँ न?तो राजेश मुस्कुरा दिया. अबे ओय लल्लू … साले तू पक्का चूतिया है क्या? तेरी कड़क जवान साली तेरे जिस्म को तेल लगा कर तेरे स्पर्श के मजे ले रही है. कहते हुए मैंने उसे बेड पर खीँच लिया और उसको नेहा के पेट के ऊपर क्रॉस की तरह लिटा दिया.

असल में राजेश की उंगली ने उसकी चूत को घायल कर दिया था और राजेश के दांत भी उसके मम्मों में कई जगह गड़ गए थे. अब दोनों लड़कियों को इतना मजा मिल रहा था कि दोनों मज़े से जोर जोर से सिसकार रही थीं. यह भैंसा ऐसा था जैसे कोई 20- 22 साल का जवान लड़का होता है! जैसे तुम हो!मैंने देखा आंटी अपनी पशुशाला की बातें बता बता कर चुदासी होने लगी थी और उन्होंने मेरे पट के ऊपर हाथ फिराना शुरू कर दिया.

कुछ पल बाद जब मैं उनसे छुड़ाने के लिए पलटी, तो वो मेरे नीचे आ गए और मैं उनके ऊपर चढ़ गई. उसकी शर्मोहया ने आग में घी डालने का काम किया और मैंने लपक कर चूत की पप्पी ले ली.

उसके बाद से तो जब चाहे आंटी की चूत में लंड लगा आकर चुदाई हो जाती रही थी.

एक तो वो अनुभवी होती हैं, दूसरी बात ये कि वो किसी तरह की कोई नखरा नहीं करती हैं … और भरपूर प्यार भी देती हैं.

मैंने होंठों से होंठों को दबा दिया और प्यार से उसे चूसते हुए अपनी जीभ का स्वाद उसे भी चखा दिया. ”अब तो तुम खुश हो ना?”हओ!” सानिया पता नहीं किन सुनहरे सपनों में खो सी गई थी।सानूजान … मैंने तुम्हें इतनी अच्छी खुशखबरी सुनाई और तुमने तो कुछ बोला ही नहीं?”ओह … हाँ थैंक यू सल!” सानूजान तो कहते हुए अब शर्मा भी गई थी।सानू अब दर्द तो नहीं हो रहा ना?”किच्च …”सानू … बस एक बार थोड़ा सा दर्द और होगा फिर देखना तुम्हें बहुत अच्छा लगने लगेगा. मैं तो शांत पड़ गया था … मगर जब उसने ऐसा किया तो मैंने उसे अपने ऊपर से हटाया और उठ कर उसकी टांगों के बीच में आ गया.

मेरी कहानी की नायिका है- प्रीति भाभी!जी हां, हम सबकी प्यारी भाभी प्रीति जी। नाम पढ़ते ही सबके लंड खड़े हो गए न? और हों भी क्यों न, प्रीति भाभी कुदरत का करिश्मा जो है और अन्तर्वासना की सबसे उम्दा लेखक भी है।मुझे लगता है कि प्रीति को भगवान ने अपने यहां लॉकडाउन रखकर बड़ी फुर्सत में बनाया है. ”हओ” कहकर सानिया मंद-मंद मुस्कुराने लगी।अरे … सानिया तुमने कभी साड़ी पहनी या नहीं?”किच्च?”तुम्हें आती है क्या साड़ी बांधना?”ना!”एक बात तो है?”क्या?”तुम अगर साड़ी पहन लो तो उसमें तुम बहुत ही खूबसूरत लगोगी. तो क्या पता मेरी बात बन जाए।मगर इसके लिए बहुत हिम्मत चाहिए थे।तो उस रात मैंने चोरी से अपने एक दोस्त की मदद से दो पेग लगाए.

मगर रति के सामने वो नाटक करते हुए बोला- आ गयी मेरी बिजनेस वूमेन बेटी।रिया- जी डैड।रमेश- बेटी कैसा रहा तेरा इवेंट?रिया ने रमेश के छिछोरे सवाल पर उसे देखा और मुस्कराती हुई बोली- बहुत बढ़िया डैड, बहुत मजा आया।रमेश- गुड, कल के इवेंट में किधर से ज्यादा मजा आया? आगे से या पीछे से?रमेश के सवाल का मतलब रिया अच्छी तरह जानती थी.

मैंने सिसकारी भरते हुए चिल्लाकर कहा- साले कमीने, मुझे जोर से चोद, अपनी मालकिन की चूत को फाड़ दे अगर तू उसका सच्चा वफादार है, साले रंडी की औलाद … आह्ह … चोद दे मुझे … आह्ह।इस तरह से मैं हाँफती रही और सिसकारियां लेती रही. मैंने सरोज की टांगों को थोड़ा चौड़ा किया और खड़े खड़े उसकी चूत की दरार में अपने लौड़े के फूले हुए सुपारे को टिका दिया. भाभी ने मुझे गाल पर किस किया और नीचे उतर गई और बोली- कितना मज़ा आया?मैंने कहा- स्वर्ग दिखाई दिया भाभी.

पायल उसकी सहेलियां कुछ रिश्तेदार और उसके कुछ भाई ढोल की थाप पर थिरकने लगे थे. उसने एक ही दिन में उस से दोस्ती कर ली बल्कि मेरी बीवी के आने के पहले दिन रात का खाना भी नैना ने अपने घर पर ही हमें खिलाया. मैं तुम्हें चाहती हूँ, आज पहली बार मैं किसी के सामने अपने प्रेम की खातिर खड़ी हूँ.

तुमने क्या सोचा कि तुम उन्हें यहां ले कर आओगे, तो मैं तुमसे जलूंगी और तुमसे दूर हो जाऊंगी! नहीं रमित … मैं तो खुद कब से उस से मिलना चाहती थी, उसे देखना चाहती थी कि वो कैसी होगी, जिसे मेरा रमित इतना प्यार करता है.

मैंने उसकी चूचियों को ध्यान से देखा और फिर उसको घुमाकर उसकी ब्रा के हुक को खोल दिया. ये कह कर सलीम मेरा हौसला बढ़ाते रहे- आह … फाड़ डालो फाड़ डालो … और जोर से … आह रगड़ दो … मेरी लाल कर दो.

बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ इस पोजीशन में चुत चोदना मुझे पसंद है … ये मेरा पसंदीदा आसन है, तो बस चुत गीली करके कुछ ही देर में मैंने स्पीड बढ़ा दी और लगातार चोदने लगा. फोन पर सेक्स चैट करने लगे।उसने मुझे बताया कि वो अभी तक कुंवारी ही है। उसने एक बार अपने ब्वॉयफ्रंड के साथ सेक्स करना चाहा.

बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ भाभी कुछ देर यूंही मेरे ऊपर चिपकी रही और मेरी चूचियों को अपनी छाती के नीचे मसलती रही. निष्ठा फुर्ती से उठ कर किचन में चली गयी और कुछ देर बाद लौट के बोली- जीजू, वहां तो कोई भी पेन किलर नहीं मिला मुझे.

मेरी उंगली अंदर जाते ही वो जोर से चीखी- आह … ओह्ह!मैं धीरे धीरे अपनी उंगली अंदर बाहर करने लगा.

ఆంటీ సెక్స్ రొమాన్స్

ग्रुप सेक्स स्टोरी के इस भाग में पढ़ें कि हमने कैसे रात भर सेक्स पार्टी की. मैं घर आया तो उसने ख़ुश हो कर बताया कि उसका पति 4 से 5 दिन के लिए काम के सिलसिले में बाहर गया है. सुबह जल्दी उठकर वो आधा घंटे लॉन में योगा करता है, फिर साइकिल चला कर जिम जाता है.

दोस्तो, मुझे दिल्ली सेक्स चैट वेबसाइट का वो लाइव सेक्स चैट वीडियो सेशन करके बहुत मजा आया. तो मैंने जाते हुए उसका हाथ पकड़ लिया और उसे अपने ऊपर गिराते हुए बोली- मैंने आज तक तुम जैसा शरीफ लड़का नहीं देखा. वो डीप नेक ब्लाउज के साथ ब्लू साड़ी में बेड पर टांगें क्रॉस करके बैठी हुई थी.

मैंने नेहा को थोड़ा स्लैब पर ही झुकाया और पीछे से लण्ड को चूत में ठोक दिया.

इसलिए मैं भी उन लोगों का जोश बढ़ाने के लिए दोनों के कभी होंठों को चूमती, तो कभी गाल. बहुत ज़्यादा हसीन है ना! इसलिए नखरे तो उसके स्वभाव में बने रहना तो आवश्यक ही है. मैंने सोचा था कि शायद नैना मुझसे थोड़ा नाराज़ होगी, गुस्सा करेगी और थोड़ा दूर रहेगी.

थोड़ी देर बात करने के बाद मैंने गुस्से में फ़ोन कट कर दिया और वही बैठकर रोने का नाटक शुरू कर दिया. पूरे रूम में उसकी चुत की खुशबू महक रही थी … हम दोनों बिना कुछ बोले बिस्तर पर पड़े थे. पानी की हल्की पतली धार ने उसके टीशर्ट को भिगोना शुरू कर दिया जिससे उसके ऊभरे हुए वक्षों की बाहरी रेखा साफ साफ दिखाई देने लगी.

हम दोनों ने एक दूसरे को इतनी जोर से जकड़ रखा था कि जैसे सिर्फ एक जिस्म का ढेर हो … सांसें इतने तेज थीं कि धड़कनें सुनाई दे रही थीं. उस डिल्डो के नीचे दो आण्ड भी बनाये गये थे जो उसको सपोर्ट कर रहे थे.

आपकी मर्जी, चाहो तो सब जगह से चोदो हमें!” उसने मुझसे लिपटते हुए संक्षिप्त सा उत्तर दिया. अब तो पिछले एक साल से तो चार झटके भी कभी महीने में एक या दो बार ही नसीब होते थे. कहते हुए मैंने उसे बेड पर खीँच लिया और उसको नेहा के पेट के ऊपर क्रॉस की तरह लिटा दिया.

मैंने कहा- ईशिता … तू कहां आगे बैठ गयी … मेरे साथ पीछे आजा ना प्लीज़!तो वो बोली- यार क्या तू भी … आज मुझे रुमित के साथ बैठने का मौका मिला है … तो बैठने दे ना प्लीज़.

तो भैया बोले- जान, दोस्तों ने जबरदस्ती पिला दी थी।फिर विदाई हो गई और सारे बाराती बस में बैठ गये. वो हमेशा स्लीवलेस टॉप पहना करती थी जिसमें से उसकी सांवली कांख दिखाई दे जाती थी. मैंने शांति का हाथ अपने लण्ड पर रखते हुए कहा- शांति, यह लण्ड तुम्हारा है, इसे अच्छे से प्यार करो, इंज्वॉय करो.

आह निष्ठा … हां स्सस्सस्स ऐसे ही करती रहो … जादू है तुम्हारे हाथों में!” मैंने कहा. मैंने वैसे ही मीता के माथे को चूम लिया और धीरे से उसको अपने ऊपर से हटा कर बगल में लिटा दिया.

उसने सांस लेते हुए कहा- अब बस अब और नहीं!मैं उसे चूमते हुए बोला- मेरी जान अभी तो मेरा बाक़ी है. किसी न किसी तरह से भाभी मौका देखकर मुझे बुला लेती है और मैं भाभी की चूत को जमकर बजाता हूं. चौथी बार जब मैंने बुर में लंड को पेला तो उसकी बुर खुद ऊपर उठ कर लंड का स्वागत करने लगी.

चंडीगढ़ कॉल गर्ल

मैंने उनके सर को अपनी ओर खींचा और उनके होंठों में लगे अपनी चूत के रस का स्वाद लेने लगी.

उसको डिस्चार्ज के बाद थोड़ी शांति और थोड़े विश्राम की आवश्यकता थी, तो मैंने उसे बाथटब में अपने साथ खींच लिया. धीरे धीरे पूरा लौड़ा जब जड़ तक चूत में बैठ गया तो नेहा ने गहरी सांस ली और मेरी आँखों में देखा और मुझे चोदने का इशारा किया।मैंने लंड को अंदर बाहर करना शुरू किया और जल्दी ही नेहा की चूत ने लंड के ऊपर अपना चिकना पानी फैलाना शुरू कर दिया. दीवारों पर कुछ पेंटिंग्स, कुछ वाल हैंगिंग्स और कुछ फोटो लगे हुए थे.

दादी दरवाजे तक ही गई होगी कि भैंसा ने फिर जंप लभैंसा और भैंस को तेजी से चोदना शुरू किया. ये ड्रेस इतना टाइट था कि मेरी फिगर का हर एक उभार उसमें साफ साफ नापा जा सकता था. सेक्सी वीडियो दोस्तों के साथमैं नीचे से लेटा हुआ जोर जोर से झटके लगा रहा था। इसी बीच वो थक गई और मेरे ऊपर झुक कर मेरे सीने से लिपट कर लेट गयी.

मैं थोड़ी ही दूर पर एक दुकान पर जाकर 2 बियर और 1 वोडका की बोतल लेकर आया और हम वहां से दूर चल दिये. भाभी ने अपनी आंखें बंद कर ली और अपने नीचे वाले होंठ को दांत से दबा लिया.

आखिर शाम को सवारी गाड़ी पकड़ने का फैसला करके मैं, अनीता और उसके बच्चों सहित जोधपुर रेलवे स्टेशन आ पहुंचा. अंकिता भाभी ने पहले पीने को मना किया, पर मुकेश के फोर्स करने के बाद उन्होंने दो पैग ले लिए. फ्री कामुकता सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी कमसिन कामवाली को तोहफे देकर लुभा रहा था.

मुझे समझ में नहीं आ रहा था कि मैं दर्द से रोऊं या चूत लंड के मिश्रण को एंजॉय करूं. तब तक के लिए सभी चूतों को मेरे खड़े लन्ड का प्रणाम।[emailprotected]. मैं नहाने के बाद काम से गया और वापस आकर एक बार फिर से भाभी के साथ चुदाई के मजे लेने लगा था.

मैंने शाही सर को मशवरा दिया कि अगर वो सभी चाहें, तो मेरे घर आ सकते हैं.

”अरे नहीं मेरी जान … तुम्हारे बापू को इन सब बातों की हवा तक नहीं लगेगी। अगर तुम्हारा भी देखने का मन हो तो मैं भी तुम्हें अपना सब कुछ दिखा सकता हूँ. जवानी आने के साथ ही मैं अपनी मां के साथ सेक्स करने के सपने भी देखने लगा था.

मैं अपनी आपबीती सौतेली मम्मी की चुदाई की कहानी का अगला भाग आपके लिए लेकर हाजिर हूँ. दो मिनट की चुदाई के बाद ही थोड़ी देर में उसकी चूत से पानी की धार निकल पड़ी और चूत ढीली पड़ गयी. आते ही मैंने उसको बाइक पर बैठने का इशारा किया और हम फटाक से वहां से चल निकले.

निष्ठा की नज़र मेरे खड़े लंड पर पड़ी और उसने झट से अपनी आंखों पर हाथ रख लिए. मेरे लिए बाथटब में रोमांस करना भी एक नया अनुभव था, नेहा किसी जलपरी की भांति मुझसे लिपटकर छटपटा रही थी. मैंने उसके मम्मों को ब्रा के ऊपर से ही चूमना और हल्के से काटना शुरू कर दिया.

बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ सेक्सी फैमिली स्टोरी में पढ़ें कि एक घर में मुझे तीन शानदार चूतें मिल रही थीं. मैं अपने दोस्त की बीवी की चुदाई करने के लिए उसे वहां से लेकर निकल गया.

की सेक्सी फिल्म दिखाएं

चाहे कुछ भी हो जाए, हम दोनों की बात को राज रखोगे, वरना मेरी जिंदगी और घर दोनों बर्बाद हो जाएंगे. वो बहुत खुश थी और मैं भी।बातों ही बातों में वो मुझ पर हक जताते हुए बोली- अब आज से तुम्हारा लंच डिनर सब मैं ही तैयार करूंगी. हम दोनों लिपलॉक फ्रेंच किस में मग्न हो गए और साथ ही एक दूसरे के पानी में भीगे बदन को सहलाने लगे.

प्रीति ने पीछे से मेरी बांहों में अपने हाथ डाल दिये तो मैं जानबूझकर बाइक को धीरे चलाने लगा।जब उसने मेरी कमर में हाथ डाले तो लगा जैसे सारी दुनिया का प्यार भगवान मेरे ऊपर ही बरसा रहा है. भाभी- तुमने ऐसा क्यों कहा कि सारी बात हज़्बेंड को नहीं बतानी चाहिए. दिल चोरी सेक्सीमैं जोर से चिल्ला पड़ी- आह मर गई … छोड़ो मुझे … साले ने मेरी गांड फाड़ दी … हट जा कुत्ते छोड़ दे मुझे!मैं छटपटाने लगी.

कार्यक्रम की शुरूआत भी हो चुकी थी, अभी बच्चों की प्रस्तुति ही चल रही थी.

दोस्तो, मजा आ रहा है ना हॉट बेडरूम सेक्स स्टोरी में? कमेंट्स करते रहें. जवान खूबसूरत कुंवारी साली के तेल सने हाथ की चिकनाहट में मेरा खड़ा लंड खेल रहा था.

पहले वाले पिक में भी टैग लगे थे पर मैंने ध्यान ही नहीं दिया था।मैंने टैग पढ़ा उसमें सबसे कम रेट का सूट सतरह हजार का था जो मेरून कलर का था और एक सूट इक्कीस हजार का था जो जर्मन ब्लू कलर का था।बाकी सभी चालीस या पचास हजार के ऊपर वाले थे. कोई जुर्म तो नहीं कर रहे जिसका पता पुलिस को कैमरा फुटेज देखकर लगेगा जब तेरी शक्ल दिख जायगी. तुम्हारे पिता रात में तुम्हारी मां की चुदाई करते हैं और तुम दिन में अपनी मां की चूत चोद सकते हो और दिन भर मेरे साथ मजा ले सकते हो.

गुरजीत का ग्रेजुएशन कम्पलीट होने के बाद आगे की पढा़ई के लिए उसकी मौसी उसे कनाडा ले गई.

हर जवान लड़का या लड़की किसी न किसी तरह से अपनी जवानी में सेक्स का पहला अनुभव कर ही लेते हैं. उसने आहें निकालनी शुरू कीं तो कविता ने अपनी हथेलियों की साइडों से उसकी चूत को मसाज देनी शुरू कर दी. मैंने अपने हाथ को उसकी गांड पर रखा और कौड़े लगे एरिया पर हाथ से भींचने लगी.

आदिवासी सुदाइ सेक्सी वीडियोअब आगे:सुबह जब रमेश की आंखें खुलीं तो उसने पाया कि रिया रवि के ऊपर अपनी एक टांग चढ़ा कर सो रही थी. मैंने डांटा- चुप हरामज़ादी … तेरी माँ भी चोद दूंगा खड़ी करके … मरी क्यों जा रही है रंडी? भोसड़ी वाली, पचास बार झड़ के फालतू टांय टांय कर रही बहन की लौड़ी.

राबिया सेक्सी

मेरी एक पाठिका ने तो यहाँ तक कहा कि उन्हें और उनके पति को अंडरगारमेंट्स पहने ही दो महीने हो गए. चूंकि आज अलग ब्लू फिल्म थी … इसलिए आज अलग तरीके से चुदाई के खेल चल रहे थे. दसवें दिन जब मित्र का फोन आया, तब हम तत्काल कार द्वारा बैंगलोर पहुंचे.

फिर मैंने अपना रूमाल निकालकर आंखों पर पट्टी बांध ली, मुझे सच में कुछ दिखाई नहीं दे रहा था. इसी दौरान मेरे दिमाग में एक आइडिया आया कि क्यों ना आज नेहा के साथ नहाया जाए?किसी ने सच ही कहा है दुनिया के सारे अच्छे आइडिए संडास के वक्त ही आते हैं. वीकेंड में मैं अपना सारा स्ट्रेस निकालना चाह रही थी (उसके साथ ही कुछ और भी)।मैंने अपने कई दोस्तों के पास फोन किया लेकिन कोई भी उस रात को फ्री नहीं था.

थोड़ी ही देर में मां कमरे में अन्दर आ गईं और दरवाजा बंद करके मेरे पास आकर लेट गईं. उसकी साड़ी को खोल कर उसके पेटीकोट समेत सब नीचे करते हुए उसने रति को नंगी कर दिया. मैं- मैंने भी आपकी कराहटें रात को सुनी थी मां, क्या हुआ आपको? सब ठीक तो है न?भाभी- कल रात को मैं किसी और वजह से कराह रही थी.

भावना ने मुझ पर झुक कर फिर से माऊथकिस करना शुरू कर दिया और अनीता ने मेरी शर्ट ऊपर सरका कर मेरे निप्पल और पेट को सहलाते हुए मुझे चूमना शुरू कर दिया. तो उसने धीरे से मेरे चेहरे को अपने से अलग किया और बोला- तुम अभी नशे में हो.

वो फिर से हंसने लगी और बोली- अब बता भी दो यार कि आपकी गर्लफ्रेंड है या नहीं है.

उसने मुझे जल्दी से नंगा कर दिया और मुझे अपने ऊपर लेकर मेरे होंठों को पीने लगी. घोड़ा सेक्सी वीडियो ओपनऔर फिर झड़ने के करीब भी पहुँच गये।मेरे पूरे जिस्म में आनंद ही आनंद भर गया. कॉलेज लड़कियों की सेक्सी वीडियोआखिर में मैंने क्लब, जो किराए पर लिया था, उसकी पेमेंट किया और मैं भी निकल गया. उस समय मेरी उम्र बिन्दू जितनी होगी अर्थात मेरे शरीर में बदलाव आ चुके थे, मेरी चूत कुलबुलाने लग चुकी थी, लेकिन दुनियादारी की समझ नहीं थी.

उसकी टीशर्ट के अंदर उसकी गोल गोल चूचियां हिलती हुई आगे पीछे हो रही थी.

जब जब भी भाभी अपने चूतड़ों को ऊपर उठाकर मेरी चूत के ऊपर थाप मारती थी तो आनंद से मेरे सारे शरीर में सिरहन दौड़ जाती थी और मैं भाभी को पकड़ कर जोर से भींच लेती थी. इससे मेरा ध्यान उसकी बड़ी बड़ी चुचियों पर चला गया और मेरा लौड़ा खड़ा हो गया. मैंने भाभी से पूछा- भैया के साथ नहीं करती क्या?भाभी कहने लगी- रानी, सच तो यह है कि जब दिल करता है उसी वक्त लण्ड चाहिए, बाद में तो सब ठंडा हो जाता है और वैसे भी तुम्हारे भैया तो अब महीनों महीनों नहीं करते हैं.

फिर उसके एक बोबे को मुँह में लेकर चूसने लगा और हाथ से दूसरे बोबे को मसलने लगा. वो भावुक होकर बोली- सच में … तुम मेरी जिंदगी में नया बदलाव लेकर आये हो. भाभी कहने लगी- राज, बताओ कमरा पसन्द आया?मैंने कहा- भाभी कमरा तो एकदम आलीशान है लेकिन इसका किराया कितना है?भाभी बोली- जो तुम देना चाहो दे देना.

मां बेटे की चुदाई हिंदी सेक्सी वीडियो

पिछले कुछ महीनों से पहली बार सेक्स में मैं जल्दी स्खलित होने लगा था. दीवारों पर कुछ पेंटिंग्स, कुछ वाल हैंगिंग्स और कुछ फोटो लगे हुए थे. जब भी वो मेरे सामने आतीं, मैं बड़े गौर से उन्हें और उनके मम्मों को घूरता था.

हालाँकि कार के नंबर की फोटो रिकॉर्ड हो गया होगा सीसी टीवी कैमरे में.

उन्होंने कहा- जल्दी से अन्दर तक घुसेड़ो न … क्यों सता रहे हो?उनका इतना कहना हुआ और मैंने एक तेज झटका मार दिया.

उसकी ऐसी सेक्सी बातें सुनकर मैं और जोश में आ गया और जोर जोर से लंड अन्दर बाहर करने लगा. नीचे मालिक रहते हैं और फर्स्ट फ्लोर पर गर्ल्स पीजी है और सेकंड फ्लोर पर बॉयज पीजी. गर्ल सेक्सी वीडियो बीपीमैंने अब नेहा को दोनों टांगें उठाने को बोला और अपनी जीभ सीधे उसके क्लिट पर रख दी.

मुझे भी मज़ा आ रहा था, मैं भी मस्ती में आआह्ह्ह ह्ह्ह्ह जानू ज़ोर से चोद मुझे आआह्ह्ह ह्ह्ह्ह करने लगी. थोड़ी देर लिपलॉक करने के बाद मैंने उसके गालों पर धीरे से काटते हुए उससे कहा- आओ मेरी जान … आज फिर कुछ नया ट्राई करते हैं. लाइव सेक्स चैट सेशन के दौरान उसकी तत्परता को देखते हुए मैंने अस्मि को टिप भी दिया.

तो मैंने लंड अन्दर ही फंसाये हुए उसे घुमा कर पटक दिया और एक टांग हवा में उठा कर अपने कंधे पर रख ली. फिर आगे क्या हुआ … पूरी रात भर हमने कैसे मजा किया … ये सब मैं अगले भाग में लेकर आपके सामने पेश करूंगा.

जब लण्ड अन्दर जाता और मनजीत की बच्चेदानी से छूता तो आंखें बंद किये हुए मनजीत कहती- विजय, मेरे राजा, मेरी जान.

बीच बीच में भाभी अपनी चूत में मेरे लंड को कस लेती थी जिससे मैं स्वर्ग में पहुंच जाता था. आज बहुत दिनों के बाद मैं आपके सामने मेरी एक ऐसी ही सच्ची घटना लिखने जा रही हूँ. फिर कमल ने मेरी मेरी गांड में अपना वीर्य निकाला और रमेश ने मेरी चूत में अपना माल भर दिया.

सेक्सी व्हिडीओ हिंदी साडी वाला चूंकि वीर्य निकलने का ये पहला अनुभव था तो मैंने अपने दोस्त के साथ इसको शेयर करने का सोचा. सेक्सी जवानी की कहानी में पढ़ें कि पति से सेक्स में नाखुश एक जवान लड़की ने एक युवा लड़के से अपने जिस्म को खुश करने की कोशिश की.

अब नेहा मेरे लौड़े पर अपनी जीभ से लार टपका टपका कर उसकी चुसाई कर रही थी जिससे मेरा लंड स्खलित होने के करीब पहुंच चुका था. मैंने उन दोनों के लवड़ों को अपने हाथों से पकड़ा और आगे पीछे करने लगी. अभी तो मेरे शौहर घर पर ही हैं, मगर बहुत जल्द वो अपने बिज़नेस टूर पर विदेश जाने वाले हैं.

செக்ஸ் மூவி வீடியோ

वो चुदाई के नशे में एकदम चूर थी। इसी पोज में करीब 7 से 8 मिनट तक चुदाई करने के बाद मैंने उसको अपनी गोद में बिठा लिया और फिर गोद में बिठा कर झटके लगाए. उनको सेक्स वीडियो देखना पसंद था … तो मैं भाभी को अपने एक सेक्स ग्रुप से वीडियो भेजता रहता था. ”घूमो जरा देखें?” कहते हुए मैंने उसे घुमाया और उसका कुर्ता ऊपर उठाकर उसकी ब्रा में लगी साइज स्लिप देखने लगा.

मैं भी विक्की के सामने नंगी होने के लिए मरी जा रही थी जैसे। उसको नंगी चूत दिखा कर मैं उसको तड़पाने का मजा लेना चाहती थी. मैंने देखा कि प्रतिभा की साड़ी भी प्राची भाभी की तरह ही नाभि के नीचे बंधी थी.

फिर रमेश मेरे मुंह में झड़ गया और कमल ने एक बार फिर मेरी गांड में लंड पेल दिया.

” कहकर मैं हंसने लगा।उसके चहरे पर कई भाव आ-जा रहे थे। वह कुछ बोलना चाह रही थी पर उसके होंठ काँप से रहे थे और शायद उसकी जबान उसका साथ नहीं दे रही थी।एक बात तो हो सकती है. निशा को देख कर और उससे मिल कर मैंने जाना कि वो सच में प्यार के काबिल है. मेरे मुंह से आहें निकलने लगीं और उसने अपनी एक उंगली मेरे मुंह में डाल दी.

मैंने उसके मुँह से ये सब सुना, तो मैं गनगना उठा और उसकी चुत को भंभोड़ने लगा. जीजू, मैं बार बार आपको छू कर देख रही थी आपका टेम्परेचर डाउन ही नहीं हो रहा था, तो मैं क्या करती फिर?” निष्ठा ने अपना पक्ष रखा. भाभी मेरे लोअर में हाथ मारने लगी और लंड पकड़ कर बोली- ये आज क्यों सुस्त है?मैंने कहा- कल की तैयारी में है.

मुझे यकीन था कि जैसे ही किट्टू का गर्म लावा मेरे लण्ड को भिगोएगा, मैं भी झड़ जाऊंगा।मैं आज किट्टू की चूत का सेवन कर के निहाल हो गया था.

बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ: नेहा ने भी ऊपर स्लीवलेस टॉप और नीचे बहुत ही टाइट घुटनों तक की चिपकी हुई स्लैक्स पहन रखी थी. घर पर रहते हुए अन्तर्वासना की कहानियों का आनंद लें और मुझे ईमेल करके जरूर बताना कि कहानी कैसी लगी।मुझे मेरी ईमेल पर मैसेज करें अथवा कमेंट बॉक्स में कमेंट डालें.

वो तो लंबी चुदाई का मज़ा लेते हैं, मगर गश्ती की तो चूत का बाजा बजा देते हैं. जवानी आने के साथ ही मैं अपनी मां के साथ सेक्स करने के सपने भी देखने लगा था. मैंने खड़े खड़े नेहा को अपने लौड़े पर चढ़ाते हुए उसकी दोनों टांगों को अपनी भुजाओं में उठा लिया.

उसने पैंटी उतार कर फैंक दी और पैर फैलाकर मेरे मुँह के सामने अपनी चुत खोल कर बैठ गई.

मुझे इतने पैसे दे दो और चोद लो।रमेश- क्या तू मुझसे भी चुदने के पैसे लेगी?रिया- सेठ, यह चूत खैरात की नहीं है कि जब चाहो तब अपना लंड इसमें घुसा दो! वैसे भी तुम तो इतने मालदार सेठ हो. पर होशियार नैन्सी ने चुपके से उसकी फिल्म बना ली और रवि को विदा करते समय ये बता भी दिया ताकि वो हमेशा के लिए इस रात को भूल जाए. और भाभी की फिगर का तो बस पूछो ही मत … कसा हुआ 36-30-38 का मस्त बदन था.