भोजपुरी देहाती बीएफ सेक्स

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ हिंदी दिखाओ

तस्वीर का शीर्षक ,

झारखंडी वीडियो सेक्सी: भोजपुरी देहाती बीएफ सेक्स, मेरी उम्र 21 साल है … जबकि मेरे पड़ोसी भैया भाभी की उम्र मुझसे कुछ साल ज्यादा है.

पलंग तोड़ बीएफ

नाना-नानी अपने कामों में व्यस्त रहते थे और मामा जी अपनी नौकरी पर ज्यादा ध्यान देते थे. बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में वीडियोमैंने जीभ अन्दर डालकर उनकी चुत को मुँह में पूरा भर लिया और चुत में जीभ घुमाने लगा.

मैंने यहीं पर चांस लेने की सोची और बोला कि क्या हम दोनों एक दूसरे की हेल्प कर सकते हैं?शिखा- क्या मतलब?मैं- मतलब … जो तुमको चाहिए क्या मैं वो हेल्प कर सकता हूँ?शिखा- नहीं नहीं … ये नहीं हो सकता, आप मेरी सहेली के पापा हैं, तो मेरे भी पापा समान ही हैं. बीएफ हिंदी में इंग्लिश मेंमेरे दोस्त की जवान मृत्यु के बाद मैं उसकी पत्नी की मदद किया करता था.

वो सर झुका कर चुपचाप मेरी बात सुन रही थी … मेरे शब्दों के चक्रव्यूह में वो उलझती जा रही थी.भोजपुरी देहाती बीएफ सेक्स: उधर बात ही बात में परिचय हुआ, तो पता चला कि दुकानदार के बहनोई राजकोट में हैं, जिनकी ज्वैलर्स की दुकान है.

मैं माहौल हल्का करने के लिए बोलने लगा कि आप फ़िक्र न करो … मैं हूँ ना.निशा के पहनावे को देख कर रवि ने उसे डांटा भी कि आज तुमने ये कैसे कपड़े पहने हुए हैं, आज तो ख़ास मेहमान आए हुए हैं.

बीएफ सेक्सी एचडी देसी - भोजपुरी देहाती बीएफ सेक्स

मेरी ये मजेदार सेक्स कहानी कैसी लगी, मुझे मेल या हैंगऑउट में अवश्य बताएं.वो कभी मेरे बालों को सहलातीं, तो कभी मेरी कमर से होते हुए मेरी गांड पर हाथ फेरतीं.

उसने कहा- क्यों … अभी क्या बाकी रह गया है … मैं पूरी नंगी तो तुम्हारे सामने पड़ी हूँ. भोजपुरी देहाती बीएफ सेक्स फोन करने वाले ने अपना परिचय देते हुए बताया कि उनका एक बेटा है जो तलाकशुदा है.

और फिर वह कहने लगी- विकी क्या तुम मेरी मदद कर सकते हो?मैंने कहा- मैडम आपको मुझसे क्या मदद चाहिए?तो कहने लगी- मुझे कुछ पैसे एडवांस चाहियें!मैंने उसे कहा- आपको कितने पैसे चाहिएँ?वह मुझे कहने लगी- तुम मुझे ₹25000 दे सकते हो?उस दिन इतने पासे मेरे घर में ही रखे थे तो मैंने उसे पैसे निकाल कर दे दिए.

भोजपुरी देहाती बीएफ सेक्स?

फिर भाभी ने अपने और मेरे सारे कपड़े उतार दिए और मेरा लंड, जो कि अकड़ गया था, उसको पकड़ लिया और लंड पकड़े हुए वो मुझे अपने रूम में ले गईं. बीच-बीच में चूचियों के निप्पलों को दो उंगलियों के बीच में लेकर दबा रहा था. मैं शादी-शुदा हूँ पर मेरा एक बॉयफ्रेंड भी है थोड़ी बड़ी उम्र का … करीब 45 साल का! और मेरे बॉयफ्रेंड की एक 19 साल की बेटी है जिसका नाम आशिमा है पर प्यार से उसे सब आशी कहते हैं.

उसे देख कर मुझे याद आ गया कि अपनी कजिन से जानकारी करूं कि क्या हुआ था, तुम उस समय वहां से ऐसे क्यों भाग गई थीं. मैंने कहा- आप अन्दर लोगी, तो मुझे भी ज़्यादा मज़ा आएगा और मेरे लंड को उसकी रानी मिल जाएगी. मैंने कहा- आज तक धार को चैक ही नहीं किया है … तो कैसे मालूम कर सकता हूँ कि कितनी तेज धार है.

अब मैं सिर्फ ब्रा और पेंटी में उसके सामने लेटी थी। उसने मेरे बालों को अपने हाथों से सहलाया। मेरे सारे बदन पर अपनी उंगलियों फिर आई मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. वो चाहते थे कि मेरे स्तनों में दूध आ जाए क्योंकि उनको औरतों के स्तन का दूध बहुत अच्छा लगता है।इस तरह से मॉम सेक्स स्टोरी सुनाने लगी मुझे. जैसे ही चाची ने लंड अंदर मुंह में डाला मैंने चाची के सिर को पकड़ लिया.

फिर हम लोग खाना खाने लगे, अचानक से पनीर की ग्रेवी मेरे लंड पर गिर गयी निशा झट से उठी और मेरे लंड को मुँह में लेकर ग्रेवी के साथ लंड भी चाटने लगी. भाभी मेरे लंड को पैन्ट के ऊपर से मसलने लगीं और उन्होंने मेरी पैन्ट की चैन खोल कर लंड को बाहर निकाल लिया.

कपड़े की लंबाई महज इतनी कि जैसे बस चड्डी को बहुत मुश्किल से छुपा रही हो.

मॉम बोली- बेटा, देख बूब्स से आज बिल्कुल भी मत खेलना, कल से खेल लेना.

इतने में मैंने आशी के पापा को नंगा कर दिया और उनका लंड हाथ में लेकर सहलाने लगी. लेकिन काम की वजह से मैं उसको ज्यादा से ज्यादा समय नहीं दे पा रहा था जिसकी वजह से वह कभी-कभी मुझसे नाराज हो जाती थी. मैंने बोला- आपकी इस नंगी दावत के लिए मैं अपने कमीशन के एक महीने का किराया नहीं लूंगा.

कुछ देर तक यूं ही मजा करने के बाद उन्होंने दीदी की ब्रा पैंटी भी उतार दी. मैंने उसे ऑफिस का … और स्कूल का ढेर सारा काम थमा दिया, जिसमें बच्चों की कॉपी जांच करने का काम भी था. आंटी से मैंने कहा- अरे कैसी बात कर रही हो, आपका काम नहीं करेंगे तो किसका काम करेंगे फिर?वो बोली- तो फिर जल्दी से मेरे घर पर आ जाओ.

उसकी वो पतली सी कमर और नींबू के जैसे छोटे छोटे उगते हुए चूचे, उसके टॉप के ऊपर से उभरे हुए मालूम पड़ते थे.

उसकी मामी उससे ही घर का सब काम करवाती थीं, जिससे ज़िया बहुत परेशान थी. उसका नाम था दीपा। अगर वो भी मेरी कहानी पढ़ रही हों तो मुझे माफ़ करियेगा; मैं आपके साथ बिताए उन लम्हों को भूल नहीं पाया और कागज के पन्नों पर उकेर रहा हूँ।गोरी … गदराया बदन … लंबी … कुल मिलाकर पूर्ण रूप से किसी भी पुरुष को अपने सौन्दर्य की गिरफ्त में लेने का सम्पूर्ण साजो सामान उपलब्ध था उनके पास. मैं भाभी को गोद में उठा कर बेड पर ले गया और उनको बेड पर सुला कर उनकी साड़ी उतारने लगा.

मेरे लंड की लम्बाई छह इंच लंबी और ढाई इंच मोटी है … जिससे उसको लंड लेने में दर्द हुआ. मैं उनके इस तरह से अपने कंधे पर हाथ देख कर कुछ चौंक गया, लेकिन मैंने उनसे कहा- हां आप कुछ भी पूछ सकती हैं. मैं अपने कमरे में गया, और बिस्तर पर लेटे हुए मैं सोचने लगा कि मुझे तो पता ही नहीं लगा कब मेरी छोटी सी बहन आशिमा एक जवान लड़की बन गयी है और आज दूसरे मर्दों से चुदने भी लग गयी है.

मैं उसे लेकर टिक गया और हम लोग एक दूसरे को बांहों में लेकर सो से गए.

सासु ने मुझे बधाई देते हुए कहा- लो आज से तुमको मैंने अपनी दोनों बेटियां पत्नी के रूप में सौंप दीं. मैंने फटाफट अपने कपड़े पहन लिए और लैपटॉप में देख रहा था मॉम भी अपनी ब्रा पैंटी पहन रही थी फिर उन्होंने अपनी नाइटी भी पहन ली और नकली लन्ड को लेकर अपने बेडरूम की चली गई फिर मैंने लैपटॉप बंद कर दिया और अपने बेड पर सोने का नाटक करने लग गया क्योंकि मॉम नकली लन्ड को अपने कमरे में रखकर मेरे कमरे में आयेंगी.

भोजपुरी देहाती बीएफ सेक्स उसने मेरे सर को हाथ से दबाते हुए मुझे बैठाने की कोशिश की और कहा- कोई आ जाए, उससे पहले मुझे खुश कर दे. फिर लंड पर आकर उसने साबुन से लंड को रगड़ा, जिससे मेरा लंड फिर खड़ा होने लगा.

भोजपुरी देहाती बीएफ सेक्स उसने कराहते हुए बोला- जीजू मार दिया … दर्द हो रहा है … अभी फिर से मत डालना. मॉम ने आवाज देते हुए पूछा- कौन?सरिता चाची ने आवाज दी- मैं हूँ सरिता.

मैंने पूछा- मौसी आपने इससे पहले भी सेक्स किया था क्या?वो बोली- हां, अपने बॉयफ्रेंड के साथ किया था.

9:00 बजे घड़ी की सुइयां बनाती है

जब मेरा लंड चुत में नहीं गया, तब मैंने उन्हें नीचे ज़मीन पर लिटाया, एक टांग खोल कर सीट पर रखी और चुत पर लंड सैट कर दिया. मैंने पूछा- दीदी, ये प्राची कौन है?दीदी के तो मेरे मुँह से ये नाम सुनते ही होश उड़ गए. सरिता चाची अपनी चूची के निप्पल को ठीक से दबा कर दूध पिलाते हुए कहने लगीं- तो ठीक है … आज उस औरत से बात करना पड़ेगी, जिसके पास गदहा है.

मैंने सोचा कि शायद मेघा पार्टी के लिए कोल्ड ड्रिंक लाने की बात कर रही है. दो मिनट के बाद मेरे मुँह से आह की आवाज़ निकली और इसी के साथ मेरे लंड से जोरदार पिचकारी की तरह मेरा माल सीमा के मुँह के अन्दर गिरने लगा,लंड का माल गर्म और गाढ़ा, सफेद रंग का था. हम दोनों ने रसोईघर, छत पर भी चुदाई का मजा लिया था … मतलब ये कि हम दोनों ने घर का कोई कोना ऐसा नहीं छोड़ा था, जहां सेक्स न किया हो.

उसने पूछा- अभी ही क्यों नहीं?मैंने कहा- अभी मिष्टी के पापा को आना है.

चाची बोली- तू तो सच में मर्द बन गया है रे!मैंने कहा- नीचे वाले को भी मर्दानगी साबित करने का मौका दो न चाची!वो बोली- तो फिर नीचे क्यों खड़ा है!इतना सुनना था कि मैं उछल कर बेड पर चढ़ गया. मुझे थोड़ी चिंता होने लग गई कि मॉम ने कहीं अपने इरादे तो नहीं बदल दिए? कहीं उनके संस्कार, मां बेटे के सैक्स के रिश्ते को गलत तो नहीं मानने लग गए?तभी मॉम बाथरूम से आई टाईट शॉर्ट, टी शर्ट पहने हुए … जो लंबाई में ब्रा जितना ही था. जब मुझे लगा कि ये हाथ किसी और का है, तो मैंने तुरंत हाथ छोड़कर पीछे पलट कर देखा.

दोस्तो, यह थी मेरी सलहज काव्या के साथ पहली मस्त चुदाई की सत्य कहानी!आशा करता हूं आपको मेरी रिश्तों में चुदाई की ट्रू सेक्स स्टोरी पसंद आई होगी. इससे भाभी की वासना पूरी प्रज्ज्वलित हो गयी और उन्होंने जल्दी से मेरा अंडरवियर उतार दिया. गर्लफ्रेंड की पहली चुदाईजब मैंने की तो उस दिन के बाद से वो मेरे अलावा किसी को नजर उठा कर भी नहीं देखती थी.

मेघा ने अपने गिलास में नमक डाला और हल्का सा नमक सबके गिलास में डाला. मैंने उसकी ब्रा को खोल दिया और उसकी चूचियों को अपने हाथों में भरकर दबाने लगा.

मैंने जैसे ही निप्पल को बाहर निकाला, मैंने देखा शिवा मेरी तरफ लड़खड़ाते हुए आ रहा था. यहां पर मैं उसका रियल नेम नहीं बता रहा हूं क्योंकि यह किसी की पहचान और इज्जत का सवाल है. फिर से मुँह का ज़ायका चिकन खाकर ठीक किया और मैंने अपने लिए एक सिगरेट जला ली.

एक तरफ मेरा लंड उसकी चूत में आनंद दे रहा था और दूसरी तरफ मैं उसकी चूचियों को दबा रहा था.

अब मैं उठकर उसके ऊपर आया, उसकी बुर के लब खोले और अपने लण्ड का सुपारा रख दिया और उसकी चूची चूसने लगा. चाची बोल रही थी- दर्द हो रहा है … अब रहने दीजिए प्लीज!पापा बोले- यार बस होने वाला है … मज़े लो … चुदाई में दर्द में ही तो मज़ा है. कोमल- ठीक है … दो दिन बाद मेरे घर वाले मेरे मामा के घर जा रहे हैं, मैं घर में बहाना बना कर रुक जाऊंगी.

मैं उसके लिए कमरे से जुड़े किचन से एक ग्लास में कोल्ड ड्रिंक ले आया और उसे पीने के लिए देकर उसके सामने वाले सोफे पर बैठ गया. मैं उसकी ये बात से और भी ज्यादा गर्म हो गया और जोर जोर से उसके मम्मों को दबाने लगा.

दोस्तो, क्या बताऊं, उसकी गांड इतनी टाइट थी कि पूरा जोर लगाने के बाद लंड मुड़ जा रहा था. उनके परिवार में उनकी पत्नी प्रमिला उनकी दो बेटी व 1 लड़का था। उनकी एक बेटी दिल्ली में सिविल सर्विस की तैयारी कर रही थी तथा एक बेटी 12वीं में पढ़ रही थी व बेटा सबसे छोटा था।अब मैं कहानी पर आता हूं, हमारा परिवार पिछले 10-12 साल से उनके ही घर में रह रहा था मेरे परिवार के संबंध मकान मालिक के परिवार से बहुत अच्छे हो गये थे. उससे मैंने अपना डर बताया, तो उसने मुझे बहुत प्यार से समझाया और बोला- आज से हम दोनों गर्लफ्रेंड ब्वॉयफ्रेंड हैं.

தமிழ்நாடு செஸ்

वो बोली- अच्छा, एक बात तो बता, ये सब कब से चल रहा है तेरे दिमाग में?मैंने कहा- सच कहूं चाची?वो बोली- तो क्या अब भी छिपाएगा मुझसे!मैंने कहा- नहीं चाची, मैं तो आपको बहुत पहले से ही पसंद करता था.

मुझे समझते देर न लगी कि अब्बू और बाजी दोनों एक दूसरे के होंठों को चूस रहे थे. वह मस्त हो गई और बोलने लगी- कुछ करो यार … अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है. मैं उसकी गांड से चिपक के डांस कर रहा था और एक हाथ उसके पेंटी के अन्दर डाल कर चुत को सहला रहा था.

और पापा को भी यही दिखाना चाहती थी मॉम!फिर मॉम बोली- बेटा, तू बेडरूम में जाकर बैठ जा तेरे पापा को मालूम नहीं चलना चाहिए कि तू इधर ही है क्योंकि अब वो मुझसे वीडियो कॉलिंग से सेक्स करेंगे और जिससे मुझे और तेरे पापा को संतुष्टि मिलेगी. मैंने उसके दूध दबाते हुए कहा- ठीक है मेरी जान … मुझे इन्तजार रहेगा. बीएफ सेक्सी व्हिडिओ बीएफ बीएफवो अपनी चूत को चटवाने का मजा ले रही थी मगर प्रीति ने उसको बीच में ही छोड़ दिया.

मुझे यकीन हो गया कि आज मुझे गर्लफ्रेंड सेक्स का अवसर मिलने वाला है. फिर वो मेरे ऊपर गिर कर मेरे कान में बोलीं- चोद दे मुझे … बना ले अपनी रानी … तुझे आज तक कोई प्यार करने वाली नहीं मिली ना … मैं दूंगी प्यार … बस मुझे मम्मी बना दे … बन जा मेरे बच्चे के बाप … आह … हां बाबू और तेज फाड़ डाल आह आह मैं गयी जानू.

ज्यादा कसाव में तो नहीं थे मगर देखने में ऐसे लग रहे थे जैसे पके हुए मोटे आम हों लेकिन सफेद दूधिया रंग लिए एकदम रसीले. आंटी की चूचियां इतनी बड़ी और मस्त थीं कि उनको देख कर लंड से पानी निकलने लगता था. लेकिन मैंने मॉम की गान्ड पर आइस क्रीम अच्छी तरह से लगाई और वो तेल मैंने अपने लन्ड पर लगाया.

उन्होंने मेरे सामने देखा और मुस्कुराने लगीं, बोलीं- इतनी जल्दी क्या है मेरे राजा … आराम से करो … मैं कहीं भागी थोड़ी जा रही हूँ. बच्चे का डीएनए आपके डीएनए से मेल न खाने का कोई एक कारण नहीं हो सकता है. भाभी हंस कर बोलीं- फिर इसके बाद क्या अपनी भाभी को बिना चुत के कर दोगे?मैंने भी हंस कर भाभी को चूम लिया.

आपको मैं एक बात बताना चाहता हूं कि आप अभी भी बड़ी हॉट और सेक्सी दिखती हो.

बहुत ही मस्त मक्खन जैसे बूब्स थे … मज़ा आ रहा था छूने भर से! पापा ने इन बूब्स को काफी निचोड़ दिया था. वो मेरे पिता के दोस्त की बेटी थी, हम दोनों साथ में एक ही क्लास में पढ़ते थे.

जैसे ही लंड अन्दर घुसा, मॉम की एक हल्की सी आह निकली और उन्होंने पापा के लंड को अपनी चुत में गायब कर लिया. इसका परिणाम यह हुआ कि लंड उसकी गांड की दरार को चीरता हुआ सीधा गांड में समा गया. मेरा जो लंड है न, वो बहुत मोटा है और हमारे लंड की लम्बाई भी बहुत है ज्यादा है.

फिर उसके पेट पर किस करते करते उसकी नाभि में जीभ डाल कर घुमाई तो भाभी मचल उठी. मैंने उसकी आंखों में देखा और देखते ही देखते हम दोनों के होंठ आपस में मिल गये. मैंने सोते सोते महसूस किया कि कोई मुझे जगा रहा था, पर मैं इस वक्त थकान के कारण इस हालत में नहीं था कि जाग सकूँ.

भोजपुरी देहाती बीएफ सेक्स मैं अगर चाहता, तो अब तक ये सब कुछ, बहुत पहले ही अपनी मर्जी से कर चुका होता. मैं अब तक कुछ समझ पाता कि उसने वो काम किया, जो मैंने सपने में भी नहीं सोचा था.

हिंदी सेक्स पिक्चर हिंदी सेक्स

क्या थी उस जवान लड़की की चाहत?दोस्तो, मेरा नाम संजू है और मैं 23 साल का हूं और आगरा का रहने वाला हूं. माँ बोलीं- अब मेरे में इतनी हिम्मत नहीं रही … उम्र 45 से ज्यादा की हो गयी है और तू जब भी चोदने लगता है … मेरी जान निकाल देता है. उसने मेरे लंड के पास अपने मुंह को किया तो बोली- नहीं हो पायेगा मुझसे.

कभी वह मेरे कमरे में खुद कपड़े छत पर डालने के बहाने आ जाती या मैं कभी-कभी उनके घर जब पति और उनकी लड़की नहीं रहती, तब चला जाता. मॉम मेरे जवाब से मुस्कराई और बोली- गुड बेटे!फिर वो बोली:बेटे, आज पूरे दिन मैंने तेरी परीक्षा ली थी. दर्जी वाला सेक्सी बीएफवो हंस दी और बोली- तुम्हारे पास मुझे पूरी तरह से जानने का क्या तरीका है?मैंने कहा- वो कोई तरीका नहीं होता है … बस एक दूसरे को समझना ही एक तरीका होता है.

आफताब का भी यही हाल था, और आप शायद मानेंगे कि कुंवारे लड़के की यही हालत रहती है.

ज़िया बहुत ही सेक्सी, हॉट और मस्त लड़की है, जिसके पीछे मोहल्ले के सब लड़के पड़े थे. तेरे पापा अपनी उंगली से ही मेरी चूत को खुश कर देते थे, उंगली से ही खुदाई कर देते थे.

इस बार मैंने नूर को घोड़ी बनाया और उसके पीछे आकर पूरा लंड एक बार में ही उसकी चूत के अंदर डाल दिया. अगर मेरे होंठ उसके होंठों ना होते तो वह बहुत जोर से चीखती जिससे उसकी आवाज मकान मालिक तक भी जा सकती थी. इसके बाद सबसे जरूरी काम ये था कि हम दोनों ने जल्दी से अपने नम्बर एक्सचेंज किए और रात को बात करने का वायदा कर लिया.

उसको हटाया और उसका अपर पीस हटते ही भाभी की चूचियां उसकी ब्रा में कैद मेरे सामने आ गयीं.

उसके बाद हम अलग हुये तो देखा कि उसकी चूत हमारा सफेद पानी निकल रहा था. वह जोर-जोर से चिल्लाने लगी, मुझे कहने लगी- भोसड़ी के … जोर से … जोर जोर से चोद!और आहें भरने लगी और कहने लगी- विक्की, तेरा लंड बहुत प्यारा है, तुम मुझे इस लंड से अब हर रोज चोदना. जब उसकी चूत में सारा वीर्य झटके दर झटके के साथ मेरे लंड से खाली हो गया मैं उसके ऊपर ही लेट गया.

ब्लू बीएफ ब्लू ब्लूअनिल ने तभी उसकी ब्रा का हुक खोलकर ब्रा भी निकाल दी और उसके चूचों को बारी बारी से चूसने लगा. वो मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ने की कोशिश करते हुए उसको सहलाने लगी.

इंडियन पिक्चर सेक्स

अब्बू ने पीछे से बाजी की चूत में लंड पेल दिया और पका-पक-पका-पक की आवाज के साथ मेरी बहन की चूत चुदाई करने लगे. अगर ज्यादा दर्द हुआ, तो ठीक से नहीं चल पाऊंगी और मेरे हसबेंड को शक हो जाएगा. उसने व्हाइट स्पोर्ट ब्रा पहनी हुई थी, जिसे ढकने के लिए उसने अपनी हथेलियों का सहारा लिया, लेकिन मैंने जरा देर किए बिना उसकी ब्रा को भी खींच कर उतार डाला.

(उसका इशारा मेरी पानी छोड़ रही चूत से था) इस पर अपना 8 इंची हथौड़ा चला दो. इस तरह की संभावित मानविक त्रुटि के कारण भी कई बार आपको अपना स्वयं का जैविक बच्चा मिलने की बजाय किसी अन्य का बच्चा मिल जाता है. मुझे देख कर उन्होंने अपने मुँह पर हाथ रख लिया, फिर मुझसे जोर से लिपट गईं.

इस पर उसने मुझे मना कर दिया, वो बोली- अभी नहीं … तुम्हें जो भी करना है, रात में कर लेना. मॉम अपनी स्तन की बड़ी बड़ी काली निप्पलों को छोटे बच्चों की तरह चूसे जा रही थी. हम चारों बारी-बारी से फ्रेश हुईं और फिर मेघा और सुरेखा अपने घर वापस चली गईं.

उसका कुर्ता ऊपर उठाकर कबूतरों को आजाद कर दिया और उसकी बुर सहलाने लगा. दूध देखने के बाद मेरी नजर उनके पूरे इलाकों पर बारी बारी से घूमने लगी.

वह बहुत ठंड महसूस कर रही थी मैं जाकर के उसके कम्बल में घुस गया और उसको किस करने लगा.

सबने आकर रेस्टोरेंट में खाना खाया, फिर ऑटो में बैठ कर हम स्टेशन के लिए निकल गए. हिंदी ऑडियो सेक्सी बीएफ[emailprotected]कहानी का अगला भाग:मेरी संस्कारी मॉम सेक्स की प्यासी-3. भोजपुरी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्मएक बार मैंने उसकी तारीफ की और बोला- तुम बहुत खूबसूरत हो और मुझे लंबी लड़कियां पसंद हैं. वो बोली- अगर इसी तरह बेड पर पड़े रहे तो शाम तक भी नहीं पहुंच पाओगे.

मैंने उससे पूछा- कल तुम कहां थी?उसने मुस्कुराते हुए कहा- मुझे अपना वादा याद है.

हम दोनों साथ में गए और मैंने उसके ड्राईवर के साथ जाकर उसी एरिया में एक होटल में रूम बुक किया और निशा को गुड नाईट विश करके विदा ले ली. मैंने उसकी चूत को सहलाना शुरू कर दिया और वो भी सिसकारियां लेने लगी. वो बोली- अंकल, अब सहन नहीं हो रहा … अब चोद दो प्लीज … मर जाऊंगी चोद दो मेरी फुद्दी को.

आकृति पीती नहीं थी, लेकिन मेरे कहने पर उसने दो पैग वोदका के जरूर पी लिए. भाभी मुझे धक्का देते हुए कह रही थीं- यार समझा करो, तुम्हारे भैया हैं. आह … चोदो मुझे जोर से … मेरी चुत कब से लंड लेने के लिए मचल रही थी … आज इसकी प्यास बुझा दो … और मुझे कली से फूल बना दो.

सेक्सी सेक्सी फुल वीडियो

फिर उसने अपना हाथ मेरे लंड पर रख दिया और उसे जोर से पकड़ कर कहने लगी- मुझे तुम्हारा प्यार और यह तुम्हारा प्यारा लंड चाहिए. अगले दिन मैं अपने ऑफिस में था तो लड़के के पापा का फोन आया कि वो मुझसे मिलना चाहते हैं. वो अब सिसकारते हुए कहने लगी- आह्ह बेटा, चोद दे मुझे, आज मुझे अपनी रंडी बना ले.

मेरा बॉयफ्रेंड भी मेरी गांड चुदाई करने की कोशिश करता है मगर उसके साथ मुझे कभी मजा नहीं आया.

मैंने आशी के पापा से कहा- अब देर मत करो, आपकी बेटी अब आपकी रांड बनने को तैयार हो चुकी है.

आपको हमारा सेक्स सम्बन्ध कैसा लगा, मेल से जरूर बताएं तथा इस चुदाई की कहानी के बारे में अपनी राय जरूर भेजें. बिल्कुल जैसे किसी 18-19 साल की लड़की की चूत हो, एकदम सुर्ख लाल और अन्दर से गुलाबी बिल्कुल साफ बंद चुत थी. कन्नड़ बीएफ वीडियोउन्होंने साड़ी पहन रखी थी, मुझे उनके बूब्स थोड़े-थोड़े दिखाई दे रहे थे.

कुछ देर बाद जब मेरी मां अपने रूम आईं, तो मैंने कहा- और शालिनी डार्लिंग क्या हाल है. जब वह आगे की ओर मुड़ी तो मेरा मुंह एकदम से खुला का खुला रह गया उसने काफी गहरे गले का ब्लाउज पहन रखा था. आंटी ने जब हम दोनों को नंगा देखा, तो वो समझ गईं कि सुजन भी मिष्टी को चोद चुका है.

हेमा चाची बोलीं- ये क्या कर रहे हो?तब मैंने कहा- आज मैं अपनी प्यारी हेमा चाची को चोदूंगा. उसने मेरे लंड के पास अपने मुंह को किया तो बोली- नहीं हो पायेगा मुझसे.

मैंने मामी को किस करते हुए बेड पर लिटा दिया और खुद भी उनके बाजू में लेट कर उनकी चूचियों को मसलने लगा.

ये जान कर मैं धीरे से उठा और पास में रखी नारियल तेल की शीशी लाकर मैंने उसकी चूत पर ढेर साराह तेल गिरा दिया. भाभीजान की जीभ फेरने की अश्लील स्टायल देख कर मुझे मजा गया और मेरे मुँह से सीत्कार निकल गई. उसके उरोज मेरे नाक के सामने था, जिससे आ रही भीनी भीनी गंध मुझे मदमस्त कर दे रही थी.

औरत के सेक्सी बीएफ उसके 38 डी के बड़े बड़े बूब्स और 32 इंच की पतली कमर और 42 इंच की गांड जो की कच्छी में थी. सीमा बोली- कल रात को मैं सोने जा रही थी, तो मैंनेँ अपने भैया के कमरे से कुछ आवाजें सुनी थीं.

मेरी पत्नी बात को समझ गई और उसने अपने भाई को फोन कर दिया कि भाई एक दो दिन की छुट्टी ले कर आ जा. राजेश की देवरानी ने मुझे बताया- तुम देखने में अब राजेश की घरवाली लग रही हो. कोई 5 मिनट ही हुए थे कि वो चुत में ही झड़ गए और अपना माल मेरी चुत में भर दिया.

अमेज़न जंगल का मालिक कौन है

उसके बाद तो रास्ते भर मैंने अर्पणा से खूब सारी बातें की … और ये भी बताया कि मैं विवाहित हूँ. फिर मैंने अपने दोनों हाथों से उसकी गांड को उठा लिया, उसकी गांड का छिद्र बिल्कुल मेरे सामने था. जब चाहे चोदने को बुला लेना … जब चाहे चोद लेना … दौड़ती हुई आ जाउंगी.

मैं बोला- कैसे मॉम?मॉम बोली- तेरे पापा और मेरी रोज बात होती है, कल मैं थोड़ा दुखी दिख रही थी तो उन्होंने बोला कि सीमा दुखी मत हो. कुछ महीने बाद एक दिन मामा का फ़ोन आया, तो मालूम हुआ कि वो वो बाप बन गए हैं.

कुछ देर तक अब्बू ने बाजी की चूत को चोदा और फिर बाजी की गांड के छेद में अपनी उंगली घुसाने लगे.

मैं अभी उसके लंड को बाहर निकाल पाता कि उसने मेरा सर अपने लंड पर दबा दिया और मैं अपना मुँह हटा ही न सका. आशी थोड़ी देर तक देखने के बाद बोली- आंटी के साथ ये सर क्या कर रहे हैं?मैंने कहा- ये जीवन का सबसे बड़ा आनन्द ले रहे हैं … जो सभी लेते हैं. मैंने अब जोर से पांच-सात धक्के लगाये और मैं भी उसकी चूत में ही झड़ गया.

तो दोस्तो, आपको मेरी यह इंडियन सेक्स स्टोरी कैसी लगी, आप मुझे इसके बारे में मेल करके बताना. चूंकि मेरा प्लान पहले से ही उसके साथ मजा लेने का था, तो मैंने कार्नर सीट ली थी. ज़िया खुद रसोई से तेल लेकर आई और उसने मेरे लंड और अपनी चूत पर लगा दिया.

लगभग 10:00 बज चुके थे मैंने उसे दिलासा दिलाई कि रवीश सुबह तक आ जाएगा, किसी तरह रात काट लो.

भोजपुरी देहाती बीएफ सेक्स: यदि हम दोनों उनकी चुदाई करें, तो तुमको कोई ऐतराज तो नहीं होगा?पहले तो मिष्टी चुप रही, फिर बोली- मुझे कोई दिक्कत नहीं है बल्कि मैं खुद तुम दोनों की इस काम में मदद करूंगी. मैं मॉम को पूछ रहा था- मॉम, आप ठीक हो ना?मॉम बोली- बेटा, आई एम फाइन! बेटा चालू रखो.

अब बरखा कभी भी मेरे रूम पर आ जाती और मेरे साथ ढेर सारी गप्पें मारा करती थी. तभी मैंने देखा उसके लंड से एक के बाद तीन चार धार निकली और आगे सीढ़ी पर जा गिरी. मेरा बॉयफ्रेंड भी मेरी गांड चुदाई करने की कोशिश करता है मगर उसके साथ मुझे कभी मजा नहीं आया.

मैं उनके पास गया और उन्हें हैप्पी होली बोल कर मैंने उनके गालों पर रंग लगा दिया.

मॉम- आह … आराम से चूस मेरी जान … मैं मॉम हूँ तेरी … कोई रंडी नहीं हूँ, जो एक दो घंटे में चली जाए. ये सब देख कर मुझे तो गुस्सा आने लगा कि मम्मी एक पराये मर्द के साथ ये क्या कर रही हैं. जब मैं जा रही थी तब राजेश बोल रहे थे- चलती हुई सरदारनी की गांड किसी के भी लंड खड़ा कर देगी.