बीएफ नंगी सीन दिखाओ

छवि स्रोत,सनी लियोन सेक्सी वीडियो न्यू

तस्वीर का शीर्षक ,

देवर भाभी की सेक्स: बीएफ नंगी सीन दिखाओ, नमस्कार पाठको, मैं आनंद मेहता … आपने मेरी पिछली सेक्स कहानीजवान बहू की चुदासपढ़ी और पसंद की.

मासी के साथ सेक्स वीडियो

उसकी गर्म सांसें और नंगी चिकनी और मुलायम त्वचा का स्पर्श मेरे लंड को एकदम खड़ा कर रहा था. हिंदी ब्लू पिकभाई साहब का हर धक्का मेरी बच्चेदानी पर लगता और उनका मेरे ऐसे बाल खींचना, मुझे एक अलग ही अहसास करवा रहा था, जिससे मैं आज तक अनजान थी.

मैंने भाभी की पैंटी को पूरा निकाला और अपनी जींस की जेब में रख लिया. बहन की चूत चोदीउसकी ब्रा हटते ही मैंने उसके सफेद मम्मों को अपने हाथों की पकड़ में ले लिया और जोर जोर से दबाना चालू कर दिया.

उनके मिन्नत करने पर मैंने अपना लण्ड बाहर निकाला तो आंटी ने बताया- मेरी बहन बार बार गांड मराने के लिए उकसाती थी और तेरे अंकल के लण्ड में इतनी दम नहीं थी कि मेरी गांड मार पाते लेकिन तुमसे गांड मराकर मेरा भूत उतर गया.बीएफ नंगी सीन दिखाओ: चूंकि पहली बार किसी के साथ ऐसा कर रहा था इसलिए मेरा पेशाब उतरने में समय ले रहा था.

मेरी आंखों को अब भी बंद रहते हुए देख, उसने अपना हाथ हटा लिया और उसी हाथ से मुझे अपनी ओर खींचने लगी.मैं ये सोचकर निराश होने लगा कि कहीं आंटी ने ये फ्लैट बदल न लिया हो.

संभोग के चित्र - बीएफ नंगी सीन दिखाओ

मधु- आह साले मादरचोद … निकाल ले भाई के लंड … साले गांड की मां चोद दी हरामी आह निकाल ले साले, तुमको दूसरी गांड दिला दूंगी आह.लेकिन मैंने उसको मना नहीं किया ये सब करने से!अब उसने एक हाथ से मेरी एक चूची पकड़ी.

उसकी चूत बिलकुल चिकनी हो चुकी थी, पूरा लंड फिसलकर उसकी चूत में समा गया. बीएफ नंगी सीन दिखाओ वो मुझसे बोला- साली तू बहुत बड़ी चुदक्कड़ है ना … बहुत हवस है ना तेरे अन्दर … आज इस लंड से तेरी सारी हवस मिटा दूंगा.

मैंने भी चाची की एक चूची को मुँह में दबाया और धकापेल चुदाई शुरू कर दी.

बीएफ नंगी सीन दिखाओ?

मुझे भी बहुत मज़ा आया … और आगे से जो भी तुम्हारी सेक्स फ़न्तासी है … मुझे बता देना. करीबन दस धक्कों के बाद ही एक ज़ोरदार धक्के के साथ मैंने चाची की चूत के अन्दर ही अपना सारा पानी छोड़ दिया. वो मेरे लौड़े को पहले भी देख चुकी थी, लेकिन उसने मेरा खड़ा लंड नहीं देखा था.

उसने कहा- क्या!मैंने कहा- आज कितना भी दर्द क्यों न हो, तुम मुझे रुकने के लिए मत कहना. करीब दस मिनट और चोदने के बाद मैंने मामी से कहा- मेरा होने वाला है!मामी ने कहा- अन्दर ही कर दे … कोई बात नहीं. उस नवविवाहिता जवान लड़की की कुंवारी चूत में मैंने उंगली डाल कर देखा तो उसकी चूत चिकनी हो चुकी थी.

चाय पीने के कुछ देर बाद वो चली गयी अपने घर!और अब हम दोनों घर में फिर से अकेले बचे।कुछ देर बाद मैं खाना बनाने चली गयी. पांच मिनट तक वो चुप होकर लेटे रहे और मैं दर्द को बर्दाश्त करता रहा. अंकल ने तेल की शीशी से तेल निकालकर मेरी कुंवारी गांड पर लगाया और अपने मोटे लंड पर भी लगा लिया.

तभी चाची ने अपना चेहरे को धोया और मुझे अपने चूचे देखते हुए देख लिया. भानू सिंह ने अपने शरीर की पूरी ताकत लगा कर शालू को चोदना शुरू कर दिया.

उसके बताने से मुझे पता चला उसके पति का लंड सिर्फ 4″ का है।मैंने लंड निकाल कर उसके मुंह में डाल दिया और वो लोलीपॉप के जैसे चूसने लगी।तभी मैंने सोचा कि यह जो लड़की मुझसे चुद रही है, ये असल में है कौन?मैंने उससे पूछा- वैसे तुम कौन हो?वो बोली- मैं सुनील की मौसी की लड़की हूं।मैंने कहा- तुमने पहले क्यों नहीं बोला? ये सब गलत है.

करीब सवा दस बजे डॉटेड कॉण्डोम का पैकेट लेकर मैं कुलजीत के घर पहुंचा तो हनी ने दरवाजा खोला.

मैंने भी एक पल की देरी नहीं की और अपने हाथों से उसके चुचे दबाकर मसलने लगा. गीता के गोल गोल तने हुए सेब जैसे मदमस्त कर देने वेल चूचे और नोकदार चुत किसी के भी होश उड़ाने के लिए काफ़ी थी. कुछ देर बाद हम तीनों ने उठ कर बाथरूम में जाकर एक साथ नहाया और कुछ खा पी कर सो गए.

मैंने आंख दबा कर पूछा- स्यू आज बड़ी रोमांटिक हो रही हो … कुछ ख़ास है क्या?मामी बोलीं- आज क्या अब से तू तो मेरे लिए रोज ही ख़ास है बेबी. कुछ दिन पहले मैं उसके घर गई थी, तब आंटी ने बताया था कि वो सभी औरंगाबाद जाने वाले हैं. नमस्कार दोस्तो, मैं विक्रांत कपूर आप सभी को अपनी मामी स्याली के साथ अपने सेक्स सम्बन्धों को लेकर Xxxsax कहानी सुना रहा था.

अब तक हमारे पुराने दोस्त जॉब छोड़ चुक थे और मैं और पुष्पा ही बचे थे उस ग्रुप में.

मेरे हाथ कभी उसकी गांड को दबा देते थे तो कभी फिर से ऊपर उसके चूचों पर आ जाते थे. मुखिया बाहर चला गया और गीता को सब समझा दिया कि तू ऐसे एकदम अनजान सी बनी रहना, जैसे तुझे कुछ पता ही नहीं है. इसके बाद मैं पापा के सामने गई और अपने दोनों बूब्स उनके मुँह के सामने रख कर अपने हाथों से दबा दिए.

रणजीत डरते हुए मुनिया के पास गया और उसके छोटे छोटे चूचों पर हाथ फेरने लगा. मैं बिना कुछ देर किए उठा और उसे अपनी गोद में ले कर उसके एक दूध को मुँह में लेकर उसकी चूची का रसपान करने लगा. चूंकि सुरेश को पता था कि आज चुत चुदाई होगी तो वो पहले से ही एक पावर बढ़ाने वाली गोली खा चुका था.

लेकिन मेरी अम्मी ब्याज का पैसा नहीं दे सकती थीं … इसलिए उसकी बातें सुनकर चुप रह जाती थीं.

लंड धीरे धीरे अपना सर उठा रहा था और देखते ही देखते वो 9 इंच का मूसल सा तन गया. बॉस ने मेरी चूत पर 4-5 बार अपने हाथ को फेर कर मेरी चूत को और भी ज्यादा रुला दिया.

बीएफ नंगी सीन दिखाओ तभी मेरे दिमाग में ख्याल आया कि क्यों न आंटी की गांड भी मारी जाए?मैं अपनी उंगलियों से आंटी की गांड के छेद को सहलाने लगा. सायली- आह ओर जोर से मादरचोद … आज इस चूत का भोसड़ा बना डाल … आह … बहुत दिनों से इसने लंड नहीं खाया, आज सारी तम्मना पूरी कर दे.

बीएफ नंगी सीन दिखाओ फिर वो मेरी गर्दन को अपने दोनों हाथों से पकड़ कर मेरे होंठों को काटने लगा और ज़ोर ज़ोर से झटके मार मार के मेरी चुदाई करने लगा. मैंने उसको अपने मजबूत हाथों से पकड़कर बिस्तर पर लिटा दिया और बोला- अरे लड़की! लन्ड की चाहत है तुमको, तब इतना नाटक क्यूं करती हो?वह हंसते हुए बोली- हमको तो आपको सताने में बड़ा मज़ा आया, खुद को कंट्रोल करके हमने आपकी खूब खबर ली.

नमस्कार दोस्तो, मैं विक्रांत कपूर आप सभी को अपनी मामी स्याली के साथ अपने सेक्स सम्बन्धों को लेकर Xxxsax कहानी सुना रहा था.

वीडियो चोदा चोदी चोदा

मीनाक्षी बोली- यह तो काफी अच्छा है!मैंने कहा- अभी तो यह तुम्हारा है!फिर उसने नीचे बैठ कर अपने होठों को मेरे लंड के टोपे को किस किया और उसके बाद उसने लन्ड को चूसना शुरू किया. इससे अच्छा तो यही है कि तुम ही इसको प्यार से चोद लो और इसकी गर्मी मिटा दो. उन पांचों लड़कियों में कोमल (बदला हुआ नाम) नाम की एक लड़की थी, जो कुछ अलग थी.

हम दोनों ने जो आर्डर किया था, वो सब सामान भी एक बजे तक आने वाला था. उसको एकदम से झटका लगा और वो जोर से चिल्लाई- ऊईई ईईई … ऊईईईई … आह्ह … मर गयी।आंटी की नींद खुल गयी. मैंने कहा- वो क्या है?स्यू- आज आप मेरी गांड मार लीजिये … अब तक किशोर ने मेरी गांड नहीं मारी है.

तब तक मैं अन्दर किचन से खाने के लिए कुछ नमकीन और बियर के लिए गिलास ले आती हूँ.

आज अपन दोनों करेंगे न पार्टी … खुश!मैंने चौंकते हुए पूछा- नूपुर … तू भी दारू पीती है क्या?तो वो हंसी और बोली- नहीं, मैं पीती तो नहीं हूँ … पर आज तेरे लिए ट्राई करूंगी. दीपक ने जल्दी से लंड को चूत के छेद पर टेका और इस बार एक ही झटके में पूरा लंड चूत में डाल दिया. मुझे भी लंड पर उसका हाथ महसूस करते ही मजा आने लगा और हम दोनों किस करने लगे.

वो शर्मा गयी और उसने कहा- हां मैंने ये सब कभी नहीं किया, बस एक दो बार पोर्न देखा है … वो भी अकेले में. अब आपका दूध मैं भला कैसे पी सकता हूँ!चाची- क्यों नहीं पी सकता! रूक, तेरे लिए अभी मैं दूध निकाल कर लाती हूँ. विनी बाहर आया, तो उसने बताया कि शाम छह बजे मामा जी का ऑपरेशन होना है.

दीपक मेरी ब्रा को अपने वीर्य से भर चुका था,मैंने अपनी ब्रा ले ली और कहा- तुम परेशान मत हो, मैं खुद ही धो लूंगी. मामी ने काफी कुछ बातें कीं और सभी में एक ही मतलब था कि क्या मैं उन्हें चोदने के लिए राजी हूँ.

सन्नो- अरे वाह मुनिया रानी, भाई के लंड का पानी तुझे दारू जैसा नशा दे गया क्या … जो सोये जा ही है. मैंने कहा- सुनो यदि मुझे चाहती हो, तो घर से स्कूल के लिए निकलना और मेरे घर में आ जाना. उसने मेरा लौड़ा हाथ में पकड़ा और उसे हाथ से ऐसे रगड़ने लगी, जैसे मैं मुठ मारता था.

धीरे धीरे मेरा राइट हाथ, जो अंकिता की जांघ पर था, उसे धीरे धीरे सहलाना शुरू कर दिया.

मतलब ये कि हम दोनों में एक चिंगारी सी फूट चुकी थी और अब बस इस आग में घी डालने की जरूरत थी. इसके बाद हम दोनों ने अपने लंड चुत पौंछ कर साफ़ किए और नंगे ही चिपक कर सो गए. झांटें साफ होने के बाद इशिका की चुत गोरी मक्खन की तरह दिखाई देने लगी.

जैसे ही मैंने डोरबेल बजाई तो उसने तुरंत गेट खोला, जैसे वो मेरा ही इंतजार कर रही थी. हम दोनों बातचीत ही कर रहे थे कि अरुण बाबू पास आए और सोनाली को एक मरहम और दो तरह की गोलियां देते हुए बोले- ई वाला अभी खा लो, प्रेग्नेंसी का पूरा चान्स खत्म हो जायेगा, दूसरा वाला एक एक गोली सुबह शाम खा लेना, जख्म ठीक हो जायेगा.

मैंने बेल्ट खोल दी तो हनी ने मेरी जींस और जॉकी नीचे खिसकाकर मेरा लण्ड पकड़ लिया. और उनसे कह दिया है कि तुम लोग खेलो, मैं अब नहीं खेलूंगा।अब चाचा ने मेरी तरफ देखते हुए कहा- अब तो उस गेंद से नहीं, तुम्हारी दोनों गेंदों से खेलूंगा।यह कहते हुए चाचा ने मेरी टांगों को खींच कर मुझे खाट पर लिटा दिया. सबकी चूत गांड पहले से फटी थी।पहले राउंड में साहिल 45 मिनट बाद पहली बार झड़ा.

y2 वीडियो डाउनलोड

मैंने भाभी से बोला- भाभी आज ब्लैक कलर की नाइटी में आप कमाल लग रही हो!भाभी ने मुस्कुरा कर जवाब दिया कि ऐसी कमाल लगने का क्या फायदा, जब कोई देखने वाला ही नहीं हो.

भाई साहब ने एक हाथ से मेरी कमर को पकड़ लिया और दूसरे हाथ से वो मेरी चूत में लंड डालने की कोशिश कर रहे थे. लेकिन मैंने उसके लंड को पकड़ लिया था जिससे उसका लंड और अन्दर नहीं जा सका. मैं अगली बार बताऊंगा कि मैंने भाभी के सहेली उस आंटी को कैसे चोदा और प्रेग्नेंट कर दिया.

अब आगे गरम लड़की की चुदाई कहानी:मीता नंगी होकर लेट गई और रवि उसके पास जाकर उसको निहारने लगा. उस समय मुझे जोरों से पेशाब लगी थी, जिस कारण से मेरा लंड एकदम सख्त हो गया था. सेक्सी पिक्चर का वीडियो गानाआज मेरा बड़ा मन हो रहा था कि दारू के साथ किसी चुत को चोदने का मौक़ा मिल जाए तो संडे का मजा आ जाए.

भानू सिंह ने अपने शरीर की पूरी ताकत लगा कर शालू को चोदना शुरू कर दिया. चाची ने कराहते हुए कहा- आह धीरे कर … मैं कई दिनों से चुदी नहीं हूँ.

गर्ल स्टूडेंट सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी बिल्डिंग में एक सीधी सादी कॉलेज गर्ल से मेरी दोस्ती हो गयी. मेरे लंड उस्ताद का नपातुला साइज 5 इंच का है, जो किसी भी लड़की और भाभी को संतुष्ट कर सकता है. मैंने रेखा को सीधा किया और उसकी चूत से प्लास्टिक का लंड खोल कर उसकी चूत में अपना लंड घुसा डाला.

एक बात और थी कि अम्मी बिल्कुल घरेलू महिला थीं, उनको देखकर कोई भी नहीं कह सकता कि वो इतनी कामुक तरीके से चुदवाती होंगी. दर्द भरी चिल्लाहट सुन कर साहिल रुका और फिर देर बाद फिर से धक्का मारने लगा. उसको दर्द नहीं हुआ तो वो बोली- कितना बड़ गया?तो मैंने बोला- आधा!वो बोली- तेरे भाई ने एक दिन पूरी जोर से धक्का मारा, मेरी गान्ड ही फाड़ दी होती.

इस समय ऐसा लग रहा है कि साउथ हीरोइन काजल अग्रवाल मेरे सामने बेड पर नग्न अवस्था में लेटी है.

इसके बाद मैं पापा के सामने गई और अपने दोनों बूब्स उनके मुँह के सामने रख कर अपने हाथों से दबा दिए. वो किचन से निकल कर मेन गेट के पास गईं और उसे अन्दर से बंद करके ऊपर अपने रूम में अब्बू के पास चली गईं.

ये बात सुन कर राज बोला- क्यों ना हम कुछ ऐसा करें कि मुझे तुम्हारी मम्मी की नंगी चूत चाटने का मौका मिले … और तुम्हें पापा का लंड चूसने को मिल जाए. वो बोला- कल जैसे तेरी मां ने मेरा लौड़ा पकड़ा था वैसे ही तू भी पकड़ और रूम में ले चल मुझे. ये तो मुझे मालूम था कि मैं किसी भी चुत को बहुत ही अच्छी तरह से चोद सकता हूं, मगर अम्मी की जैसी अगर अच्छी तरह से चुदवाने वाली औरत मेरे लंड के नीचे हो.

वो हंस कर बोली- ख़ुशी से लीजिए … आप कभी भी बोलिए, मैं आपको पार्टी देने के लिए रेडी हूँ. वो हंस कर बोली- तू ही पिला दे मुझे, तेरे हाथों से पीना अच्छा लगता है. कुछ ही पलों बाद भाई साहब और मैं एक दूसरे को पागलों की तरह चूम रहे थे.

बीएफ नंगी सीन दिखाओ अब कोमल हर रविवार को रंडी बनती है और बाकी दिन मेरी पत्नी बनकर रहती है. अगले दिन सुबह आठ बजे की ट्रेन से मेरे दोस्त वापस चले गए और मेरा साथ वाला भी दोस्तों के साथ गांव चला गया … तो मैं भी अकेला था.

ब्रेजर ब्रेजर

मुझे जब एक लड़की अपनी बांहों में लेकर प्यार देती थी तो मेरी पूरी दिलचस्पी उसी में होती थी. जब मैं सीधा लेट गया, तो प्रिंस ने मेरे दोनों पैरों को अपने कंधों पर रख लिए. कालू ने सुमन को इस रूप में देखा, तो वो बस मंत्रमुग्ध होकर टकटकी लगाए सुमन को देखने में लग गया.

इसकी फिजिक्स कमजोर है … घर पर इसे कुछ अधिक पढ़ा कर होशियार कर दूंगी. उन्हें देखकर मेरा लंड एकदम लोहे जैसा सख्त हो गया और ऊपर नीचे होकर फुंफकारने लगा. sonu सेक्सीपूरा लंड अंदर डालने के बाद वो दीदी पर झुक गये और कुत्ते की तरह मेरी बहन की गांड चुदाई करने लगे.

भाभी हंसते हुए बिस्तर पर फ़ैल गईं और मैं उनके ऊपर चढ़ कर उन्हें तेज तेज से किस करने लगा.

चाची घुटनों के बल बैठ गई और चड्डी नीचे करके मेरे लंड को चूसने लगीं. मैंने अपने हाथ की उंगलियां भाभी के ब्लाउज में नीचे से डालीं और ब्रा के साथ ही ब्लाउज को भी ऊपर कर दिया.

कुछ देर की ऊहापोह के बाद मुझसे रहा नहीं गया और मैं हिम्मत करके उसके पास चला गया. तभी मैंने अपनी जेब से विल्स सिगरेट की डिब्बी और लाइटर निकालकर मैडम से पूछा- क्या मैं ले सकता हूँ?मैडम ने आंखें नचाते हुए कहा- बड़े शौक से लो … मैं खोलूँ?हम दोनों एक बार से हंस पड़े. वो मुझसे कहने लगीं कि भोसड़ी वाले पहले मुझे तो चोद लो … फिर मेरी मां को चोद लेना.

उसका गोरा संगमरमर का बदन और टाइट दूध देख कर मेरे पायजामे में लंड खड़ा हो गया.

पापा ने मेरे दोनों मम्मों को अपने हाथों से पकड़ लिया और मस्ती से दूध मसलने लगे और चूसने लगे. फिर मैं भी चुप हो गया और मैंने मन में सोचा कि लो डाल लो हाथ और पकड़ लो लंड. मैंने कहा- स्वीटी, मुझे तुमसे किसी दिन रात में मिलना है … और तुम जानती हो ये मैं किस लिए कह रहा हूँ.

हाउसफुल ४ फुल मूवीअनीता ने मेरी कमर को पकड़ कर धक्का मारा और बोली- अरे तू तो रुक ही गया … चल जल्दी जल्दी चोद दे अब. बुआ ने मेरे दोस्त का लंड बाहर निकाल लिया और हिलाने लगी।दोनों जाने पूरे नंगे हो गए और 69 की पोजीशन में आ गए।थोड़ी देर बाद बुआ के ऊपर आकर सुनील ने लंड को चूत में घुसा दिया और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा.

अफगानिस्तान की सेक्सी वीडियो

चाची की गांड से चिपक कर बैठने से मेरी नाईट पैंट में मेरा लौड़ा मस्त होने लगा. [emailprotected]Xxx गांड चुदाई कहानी का अगला भाग:मेरी जवानी और सेक्स की प्यास- 5. खाना खत्म होने के बाद मैंने व्हाट्सएप्प चैक किया तो भाभी का मैसेज आया था.

मैडम- क्यों … अब तक आपकी शादी नहीं हुई है क्या?मैं- जी नहीं अभी मेरी शादी नहीं हुई है. उसकी सारी बात जानने के बाद मैंने उसका काम अपने दोस्त से बोल कर करवा दिया. सच में क्या सेक्सी सीन था दोस्तो!उसके बाद मैंने पूजा से बोला- बगल में रखी मोमबत्ती को अपनी चूत में डाल कर आगे पीछे करो.

उसने अपने जिस्म पर शहद गिराया और वो मेरे ऊपर टांगें फैलाकर मुझसे चिपटते हुए मेरे जिस्म पर भी लगाने लगी. अस्मा कासिब का लंड अपनी चूत में लेकर चिल्लाते हुए बोली- उन्ह भाई बहुत दर्द हो रहा है … और तू अब मेरे दोनों चूचे मसल और अपना पूरा लंड मेरी चूत में धीरे धीरे डाल दे. उनके दोनों हाथ मेरे सर पर थे और वो मुझे मानो अपनी चुत में घुसेड़ लेना चाह रही थीं.

दोस्तो, फिर मैंने भाई को बोला कि आसिफ़ के साथ मिलकर थ्रीसम करेंगे लेकिन भाई ने मना कर दिया. अब आगे की पड़ोसन सेक्स की कहानी:मैंने सॉरी बोला और उनके घर से निकल कर जाने लगा.

समता के जरिये वो दूसरी महिला कार्यकर्ताओं की चूत भी मारना चाहता था.

भाभी सेक्सी वाली हंसी के साथ बोली- अच्छा जी … चल तुझे भी जल्दी ही मौका मिलेगा. ब्लू फिल्म सेक्सी नईपहली बार उसके चूचे दबाने में वो एकदम से सिहर गयी और उसने मेरा हाथ पकड़ लिया. चुदाई करते हुए सेक्सी वीडियोशाम को आठ बजे रौनकी सेठ हमारे घर आया और उसने आते ही अम्मी को देख कर उनसे बात की कि क्यों बुलाया था. मैंने पहले अपने आंड उसके मुँह में डाल दिए और कहा- लो मेरे अखरोट चूसो … ये तो लंड से छोटे हैं, इन्हें तो चूस ही सकती हो.

मैंने बता दिया- ओके … कल जहां पर मुझे आपने छोड़ा था, मैं वहीं पर मिल जाऊंगा.

काफी देर तक ऐसे ही तेज लगातार चोदते रहने के बाद हम दोनों साथ में झड़ गए. गीता के गोल गोल तने हुए सेब जैसे मदमस्त कर देने वेल चूचे और नोकदार चुत किसी के भी होश उड़ाने के लिए काफ़ी थी. चूंकि मैं पहली बार सेक्स कहानी लिख रहा हूँ, इसलिए ये तो पक्का है कि मुझे गलती होगी.

[emailprotected]इंडियन सेक्सी आंटी कहानी का अगला भाग:बबीता और उसकी बेटी करीना की चुदाई- 3. मैं पूजा की गांड में तेल लगाने लगा, तो मधु समझ गई कि अब पूजा की गांड फटने की बारी आ गई है. अंकल ने एक कुर्सी की तरफ इशारा किया और बोले- आओ खड़े क्यों हो, बैठो बेटा.

सेक्स कैसे कैसे किया जाता है

मेरा हाथ भाई साहब के सर पर चला गया और मैंने उनका सर चूत पर दबा दिया. मैंने तेल की शीशी को उनकी पीठ से टपकाते हुए गांड के छेद तक गिराया, जिससे उनकी गांड में कुछ अधिक चिकनाई आ गई और लंड को आगे पीछे होने में आसानी होने लगी. वो बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थीं, जो उनकी तेज़ चलती सांसों से पता चल रहा था.

फिर मैंने आंटी को फोन करने की कोशिश की लेकिन उनका फोन बंद आ रहा था.

तभी चाची की नजर मुझे पर पड़ी और उन्होंने मुझसे भी बात करनी शुरू कर दी.

मैं ज्यादा समय तक उसको रोक नहीं पाया क्योंकि वह काफी बुरी तरीके से वाइल्ड होकर लन्ड को चूस रही थी. मैं अपने बाएं हाथ की कोहनी पर संगीता के नाजुक स्तन को महसूस कर रहा था. कैटरीना कैफ हॉटमैं- वो तो देखना तू साली रंडी … तेरी चुत भी माफ़ी मांगेगी छिनाल … अब ले मजा.

उनकी छाती के ऊपर से थोड़ी सी ब्रा दिख रही थी, तो भाभी ने मुझे फिर पकड़ लिया और बोली- अब कौन सा घास देख रहा है तू!मैं चुप हो गया कि कहीं भाभी गुस्सा ना हो जाए. दोपहर का खाना खाना खाने के बाद बच्चे सो गए … मगर मुझे अब सब जगह भाई साहब का लंड दिख रहा था. उसके सीधे लेटते ही दरोगा ने गीता के पैर पकड़ कर मोड़ दिए और उसकी टांगें फैला कर खुद को सैट कर लिया.

वो थोड़ा शांत हुआ … तो मैंने उसका पैर सामने की ओर बांध दिया और वैसे ही दूसरा पैर भी बांध दिया जिससे उसकी गांड का खुला हुआ छेद मुझे मेरे सामने दिख रहा था. अब तक मधु मेरा लंड अपने मुँह में लेकर उसे चूसने लगी थी और मेरा लंड खड़ा होने लगा था.

दरअसल गन्ने को काट कर उसको ट्रैक्टर में भरके फैक्ट्री में जाना होता है, जिसे देसी भाषा में मिल कहते है.

उसके बाद वो उठा और मेरे बालों को पकड़ कर जोर जोर से मेरे मुंह को चोदने लगा. अब आगे की स्टूडेंट्स Xxx चुदाई कहानी:उस रात का कांड देखकर मेरा दोस्ती पर से भरोसा उठ गया था. उसके बाद मैं मधु के ऊपर में 69 के पोज में आ गया और पूजा मेरे ऊपर चढ़ गई.

हनीमून कैसे बनाया जाता है मैं शाम का इन्तजार करने लगा जब मधु के मम्मी पापा जाएंगे, तो मैं मधु और पूजा की रात भर चुदाई करूंगा. उसकी गर्दन पर चुम्बन करने लगा।फिर उसने उसका साड़ी का पल्लू गिरा दिया.

मैं अपने साथ एक गर्भ निरोधक टेबलेट भी ले गई थी क्योंकि बॉस यदि कंडोम लगा कर मेरी चुदाई करने से मना कर देता, तो मुझे अपनी सुरक्षा के लिए ये गोली काम में आने वाली थी. दोस्तो, मैं राज फिर से अपनी सेक्स कहानी में भाभी हॉट चीटिंग सेक्स स्टोरी को आगे बढ़ा रहा हूँ, आप मजा लीजिए. भाई साहब हाथ से टटोलते हुए मेरे घुटने के पास आए और मेरी टांगें फैला दीं.

मुनमुन दत्ता xxx

आंटी के होंठ चूसते चूसते उनकी चूत पर हाथ फेरते हुए मैंने आंटी का हाथ अपने लण्ड पर रख दिया. उसकी बात सुनकर मैं फावड़ा उठा कर जल्दी से अन्दर की तरफ गया, तो मेरा पानी सच में निकला हुआ था. एक मिनट बाद ही भाभी बड़े मजे से लंड चुत में अन्दर बाहर करते हुए चुदाई का मजा लेने लगी थीं.

पापा की बात को बीच में काटते हुए मम्मी बोलीं- हां, दामाद जी का लंड भी बड़ा मस्त है. हम इतने मस्त हो चुके थे कि हम दोनों के बाकी बचे कपड़े कब उतर गए, हमें कुछ पता ही नहीं चला.

भाभी के मस्त तने हुए मम्मों को देखकर मेरे अन्दर का शैतान जाग उठा और मैंने आंख मारते हुए अपनी भाभी को घुमा दिया.

मैं लंड को अंदर बाहर करने लगा और लंड की रफ्तार बढ़ा दी।मेरे झटकों से उसकी सिसकारी निकल पड़ी. शालू के मुंह से आह्ह … आह्ह … आआ … आआ … करके सिसकारियां निकलने लगीं. जब मधु आई तो वो बोली- अरे सबके सब ऐसे ही क्यों बैठे हो यार … अब तक फिल्म शुरू ही नहीं की.

वो भी मेरे लंड को देख रही थी और मैं उस जवान लड़की की चुदाई का मन बना चुका था. मुझे तब तो समझ नहीं थी लेकिन बाद में जान गई कि वो हिला हिला कर लण्ड खड़ा करने की कोशिश कर रहे थे. मैं बेड पर नीचे था और वो मेरे ऊपर हांफती हुई मेरे सीने में सर रखे पड़ी थी.

इस बार उनका टोपा गांड में अंदर घुस गया और मेरी गांड में जैसे मिर्ची लग गयी.

बीएफ नंगी सीन दिखाओ: एक पल बाद उन्होंने कहा- क्या तुम मुझे हग कर सकते हो!मैंने कहा- क्यों नहीं. उसने मेरी आर्डर की हुई अंडरवियर पहनी थी, तो वो थोड़ा शर्मा रहा था क्योंकि मैंने उसके लिए भी लड़कों के लिए जो थोंग आती है … वो आर्डर की थी.

मैं टॉयलेट में गया और अपनी पैंट की ज़िप खोल दी और लंड को बाहर कर लिया. मैं जैसे ही उनके कमरे से जाने लगी, तो भाई साहब की आवाज आई- अनुराधा!उनके मुँह से अपना नाम सुनकर मैं वहीं खड़ी हो गयी. उसकी ये नाइटी पारदर्शी थी, जिसमें से उसका जिस्म बड़ा ही कामुक लग रहा था.

अस्मा कासिब का लंड अपनी चूत में लेकर चिल्लाते हुए बोली- उन्ह भाई बहुत दर्द हो रहा है … और तू अब मेरे दोनों चूचे मसल और अपना पूरा लंड मेरी चूत में धीरे धीरे डाल दे.

कभी वो पूरा लंड मुँह में ले लेती, तो कभी सिर्फ सुपारा चाट देती … तो कभी लंड के बॉल्स मुँह में ले लेती. अब चाची बोले जा रही थीं- आह इसमें इतना मजा आएगा … मैंने कभी सोचा ही न था … आह और जोर से पेल आह और जोर से चोद … आज फाड़ दो मेरी गांड. उसको दोपहर में बुलाया है, जैसे मीनू का किया था … समझी!मीता- लेकिन दोपहर में तो मुझे गीता के लिए दवा लेकर जाना है, उसको बुखार है.