हिंदुस्तान की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,झारखंड सेक्सी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

कामसूत्र २०१५: हिंदुस्तान की सेक्सी बीएफ, मैं- ठीक है और ऑनलाइन पढ़ाई का टाईम क्या होता है?भाभी- वो कुछ 9-12 के बीच में होता है.

चौकी सेक्सी

मैंने कम से कम दस मिनट तक उसके होंठों को खूब चूसा लेकिन तब भी उसके होंठों का रस कम नहीं हुआ. सनी लियोनी हॉट सेक्सी व्हिडिओचारों तरफ अच्छी तरह से देखा तो कुछ भी नजर नहीं आया, जिससे उस पर कोई शक़ कर सकता था.

मैंने अमन को उसके लंड से पकड़ा हुआ था और उसका लंड पूरे तनाव में था. भारतीय सेक्सी मूवी हिंदीइससे दोस्ती बना कर रखूंगा, तो हो सकता है किसी दिन बात करने का मौका मिल जाए … और शायद बात आगे बढ़ जाए.

बिना कुछ बोले मैं पापा को बाय कहकर वहां से अपनी गांड मटकाते हुए निकल गई.हिंदुस्तान की सेक्सी बीएफ: उसकी आवाज़ के साथ मैंने भी एक जोर का झटका दिया और लंड को चूत के अन्दर घुसा दिया.

और तभी पता नहीं उसको क्या हुआ, वह अपनी सीट से उठ कर मेरी गोद में आकर कुछ इस तरह से बैठ गई कि उसके दोनों स्तन मेरे सीने को छूने लगे थे.जैसे ही उसका बदन शांत हुआ, तो मैंने धीरे धीरे लंड चुत में अन्दर बाहर करना चालू कर दिया.

सेक्सी सेक्सी नंगी सेक्स - हिंदुस्तान की सेक्सी बीएफ

और पोर्न में मैं इतना खो गया कि मुझे दरवाजे में हुई दस्तक भी सुनाई नहीं दी।मेरे रेस्पांस न देने की वजह से भाभी दरवाजे को धक्का देकर कब मेरे बेड के पीछे आकार खड़ी हो गईं, मुझे पता ही नहीं चला।जब उन्होंने पीछे से आवाज़ दी तब मैंने चौंक कर पीछे देखा और हड़बड़ा कर फ़ोन एक तरफ रख दिया और उनसे बोला- आ.मैंने उसके दोनों चूचियों को पकड़ा तो बोली- चूसेगा?मैंने हामी भरी तो वो खुद मेरे सीने पर झुक गई और अपने हाथ से चूची पकड़ कर मुझे चुसाने लगी.

मैं तौलिया सूंघ रहा था, तो वो हंसते हुए मुझे पागल बोल कर मेरे लिए मैगी बनाने किचन में चली गयी. हिंदुस्तान की सेक्सी बीएफ कुछ देर बाद मैंने उन्हें हाथ से पकड़ा तो वो मेरे हाथ का सहारा लेकर टेबल पर बैठ गईं.

वो भी मेरी गाली का जबाव देते हुए कहने लगी थी- हां चोद न भोसड़ी के … कितना दम है तुझमें … मेरी चुत फाड़ दे कुत्ते.

हिंदुस्तान की सेक्सी बीएफ?

जब हम दोनों साथ में पढ़ाई करते थे, तो उस वक़्त हम दोनों ने बहुत से माल पटा पटा कर चोदे थे. पापा मम्मी के दोनों मम्मों को बारी बारी से चूस रहे थे और मम्मी की चूत में उंगली कर रहे थे. तो मैंने कुछ नहीं कहा और अपने लंड पर थूक लगा कर उसे चिकना किया और उसकी चुत पर लंड रख कर ऊपर नीचे करने लगा.

रात को भाभी थकान की वजह से गांड साफ करे बिना ही पहन कर सो गई थीं, जिस वजह से दाग बन गया था. उनकी मदहोश अनछुई कली के पीछे डोलते मोहल्ले के मनचले भौंरों को देख पहले दिन ही मुझे मालूम हो गया था कि अनु दीदी से अपनी जवानी को ज्यादा समय तक संभाल कर नहीं रखी पाएंगी और कभी भी बाहर सील मुहर तुड़वा लेंगी. साक्षी के लिए मेरे मन में आज से पहले सेक्स के ख्याल नहीं आये थे लेकिन अब मैं उसको एक चुदक्कड़ लड़की के रूप में देख रहा था.

मैंने अपनी पैंटी निकाल दी और वैसे ही बिना पैंटी के एक प्लाजो पहना लिया. फिर उसने अपना मुंह मेरी गांड पर लगाया और अपनी जीभ से मेरी गांड को चाटने लगा. फिर उसने अपने आंड मेरे मुँह में दे दिए, जिनको में मजे से चूसने लगा था.

गुजरे पांच साल में प्रकृति ने मुझे नारी को वश में करने की अद्भुत क्षमता दी है. पहले भागगांडू ने मकान मालकिन भाभी चोदीमें अब तक आपने पढ़ा था कि नईम सर रनवीर के साथ कमरे में चुदाई का मजा ले रहे थे.

लेकिन उस बस की भीड़ देखकर मेरी हिम्मत ना हो पाई तो मैं वहीं पर रुक गई.

हाथ में 8 इंची लण्ड पकड़ते ही लिली ने अपनी आँखें बंद कीं और एक लम्बी सांस भरी.

फिर मेरे दोनों हाथों को फैला दिया और ऊपर कर दिया और बोली– हाथ जरा से भी हिलाये तो फुद्दी के सारे बाल नोंच लूंगी।मैं उसके कहे अनुसार हाथ ऊपर किये हुए खड़ी रही।उसने अपना मजा लूटना शुरू कर दिया। मेरे गले व गालों को चूमती हुई वो मेरे स्तनों तक गयी और उन्हें बारी-बारी से मसल मसल कर कर चूसा. कहानी के बारे में अपनी राय जरूर दें।मेरी मेल आई डी है[emailprotected]. संगीता नौकर को समझा रही थी, यह ड्रिंक का सारा सामान उनके कमरे में पहुंचा दो … और जो भी मांगे उनको मिलना चाहिए … समझ गए!नौकर ने कहा- जी मैडम, उनको कोई परेशानी नहीं होगी.

तो मैंने भी सोचा कि क्यों ना ऐसा कुछ ट्राई किया जाए!क्योंकि मुझे अपनी लाइफ में हमेशा कुछ नया करने का चस्का लगा रहता है. दीदी के साथ बातों बातों में मुझे पता चला था कि कार में 5000 का खर्च आना था और दीदी, संजू को 4000 रुपये देकर आई थीं. उसने मेरे लंड को पकड़ लिया और जैसे ही उसके हाथ ने मेरे लंड का अहसास किया वो हैरानी से बोली- तेरा तो बहुत बड़ा है.

[emailprotected]देवर भाभी Xxx कहानी का अगला भाग:देवर और उसके दोस्त ने मेरी चूत गांड मार ली- 2.

मैं यह देख कर हैरान रह गया कि थोड़ी देर पहले तक मम्मी पापा को मना कर रही थीं और अब उन्हें मेरे सामने नंगी होने भी शर्म नहीं थी. मैंने ऊपर नजर उठाकर छत में लगे शीशे में देखा और उसकी करतूतों का मुआयना करने लगी. उन्होंने बोला- तुमने मेरा फ़ोन चैक किया था न!ये सुनकर मानो मेरा खून पानी हो चला था.

मेरे मुँह से चुत और लौड़ा शब्द सुनने के बाद वे दोनों शॉक्ड हो गईं और ताई मुझे डांटने लगीं. फ्रेंड्स, इस सेक्स कहानी की लेखिका सोनिया आपको एक बार नेहा को उसके रूप को बताने चाह रही हूँ. हम दोनों का कामरस था जिसकी वजह से अब लंड पिस्टन की तरह अन्दर बाहर जा रहा था.

अब मैं तेज़ी से भाभी की गांड में शॉट पे शॉट मार रहा था और भाभी भी बराबरी से मेरा साथ दे रही थीं.

रोशना की चीख निकल गई- आमां ऽहहहह मर गई!मैं थोड़ा रुक गया, फिर धीरे धीरे अन्दर बाहर करते हुए पूरा लंड चुत में घुसा दिया. दस मिनट के उस धक्का पेली में मानस उसकी चुत में नीचे से अपनी उंगलियां घुसा कर कुरेद रहा था.

हिंदुस्तान की सेक्सी बीएफ फिर स्नेहा अपने भाई से बोली- क्या हुआ भैया … कहां खो गए?ज्योति ने धीरे से शर्माते हुए कहा- चुप कर कहीं भी कुछ भी बोलती है. साहब बोले- अरे हम भी तो बुदेलखंड के हैं, अपने बच्चों का भला नहीं करेंगे, तो किसका करेंगे.

हिंदुस्तान की सेक्सी बीएफ बॉस ने मुझे बोला है कि मुझे उनका थोड़ा ध्यान रखना है जिससे कि मेरी डील फाइनल हो जाए. उसकी चूत चाटते चाटते मैं कभी उसके दाने को दांतों के बीच में दबा देता, तो उसकी सिसकारियों की आवाज और बढ़ जाती थी.

फिर भी भाभी पूरी ताकत से ऊपर नीचे होने लगीं और तेजी से चिल्लाने लगीं- ओह्ह यस्स आरुष मेरीई चुत फट गईई … आह!वो पूरी ताकत से चिल्लाते हुई गांड उछाल उछाल कर लंड पर कूदने लगीं.

हिंदी फिल्म बफ वीडियो

आपकी रूपा रानी[emailprotected]मेरी अन्तर्वासना की कहानी का अगला भाग:इस चुत की प्यास बुझती नहीं- 2. मुझे अकसर ऑफिस में देरी हो जाने के कारण में घर पहुंचने में कई बार देरी हो जाती थी. उसने कुछ ज्यादा जोर से दूध मसल दिया था तो जया दर्द के कारण चिल्ला उठी- ऊंह भोसड़ी के चूची उखाड़ेगा क्या … धीरे दबा न मादरचोद.

उसको फिर उसने एक तरफ फेंक दिया जैसे कि उससे उसको कुछ ज्यादा ही ऊर्जा मिल गयी हो. गोल गोल चूची, मस्त शेप वाली गांड किसी को भी उसे चोदने के लिए मजबूर कर सकती थी. मैं अपने मम्मी पापा के लौटने से पहले इस मौके का पूरा मजा लेना चाहता था इसलिए मैंने लंड पर से हाथ हटा लिये क्योंकि मैं इतनी जल्दी स्खलित नहीं होना चाहता था.

इसके आगे क्या हुआ और अब वो भाभी कहां हैं, ये सब मैं भाभी की चुदाई हिंदी में अगली कहानी में लिखूंगा.

मैंने मैम की बुर के लबों पर ऊंगली फेरते फेरते अपनी उंगली उनकी बुर में डाल दी तो उन्होंने मेरे होंठ अपने दांतों में दबा लिये. एक के बाद एक 3-4 बार हमारी मुलाकात हो चुकी थी मगर अभी तक सब कुछ सिर्फ बातों तक सीमित था. मैंने उसकी टी-शर्ट को ऊपर सरकाया और उसके बड़े बड़े बोबों से खेलने लगा.

कुछ देर इन्तजार करने के बाद मैं फिर बाहर गया और आँटी को पूछा- आँटी क्या यहीं सोना है?आँटी बोली- अंदर चलो, वहीं आ रही हूँ।अंदर आने के बाद आँटी बोली- बार बार लाइट आ जा रही थी, मैंने ऊपर आने की एक चाल चली. मैं उसकी चूचियां दबाने लगा, निपल्स को सहलाने लगा तो ज़ारा फिर से गर्म हो गयी. मैम की बुर पर मैंने हाथ फेरा तो एकदम चिकनी थी जैसे कि अभी शेव करके आई हों.

वो धीमे से बोली- अब बताओ कि सी कौन है?मैं हंस दिया और मैंने कान पकड़ कर उससे हार मानने का इशारा कर दिया. सीमा ने दरवाजा खोला, तो बाहर एक बहुत ही काला कलूटा एकदम मोटा आदमी खड़ा था.

छाया- तो भाभी जी यानि अपनी मम्मी से काम चला लो न! तुम्हें तो इतनी अच्छी और परमानेंट जुगाड़ दे दी हैं … जो सदियों से लंड की प्यासी है. कोई आधा घंटा चुत चोदने के बाद लंड का पानी बहने लगा और सिकुड़ कर चुत से बाहर आ गया. मेरी गांड के छेद को चाटने के लिए उसने मेरे चूतड़ों को फैला दिया और उसमें जीभ डालकर अंदर तक साफ करने लगा.

मगर उसकी इस हालत को देखने के बाद मुझे अब बेचैनी सी हो गयी थी और दिल में रह रहकर दर्द की एक सुनामी सी उठने लगी.

दोनों की एकदम क्लीन शेव चुत और मस्त भरे हुए चूचे देख कर मेरा लंड हिनहिनाने लगा. दी अपने भाई का लंड भी चूसती होगी … और उससे अपनी चूत भी चटवाती होगी?स्नेहा- हां यार … बोल तो तू सच रही है. उनकी चूमा चाटी देखते हुए मुझे पांच सात मिनट हो गये थे और अब मेरा लंड फिर से तनाव में आने लगा था.

ज्यादा समय बर्बाद न करते हुए अब सीधे हॉट देसी इंडियन चुत चुदाई कहानी की ओर चलते हैं. मगर बढ़ती ज़िम्मेदारियों और आने वाले सुनहरे कल की उम्मीद में दोनों ने अपने दिल पर पत्थर रख कर इस बात को स्वीकार कर लिया.

मैंने थोड़ा खुलते हुए कहा- आपका कोई ब्वॉयफ्रेंड है?भाभी मेरी पीठ पर एक धौल मार कर बोलीं- नहीं है यार … शादी के बाद तो पति ही सब कुछ हैं. एक मिनट से कम समय में मेरा लंड हिनहिना उठा और मैं बिना कुछ कहे उनके ऊपर चढ़ गया. उसके गालों पर, होंठों पर, गर्दन पर चुम्बन करते करते मैंने अपना हाथ उसकी बुर पर रखा तो उसने बड़े सलीके से मेरा हाथ हटा दिया और बोली- कुछ न करो विजय, बस ऐसे ही लेटे रहो.

बीएफ हिंदी में निबंध बेटी बचाओ

उनके लंड चूसते ही मैं झड़ने को हो गया और मैंने अपने दोनों हाथों से उनके सिर को पकड़ कर अपना पूरा लंड मामी के गले तक उतार दिया.

उसकी एक तेज सिसकारी निकली और अपनी गांड में अच्छी तरह चिकनाई मसल कर उसने अपनी उंगलियां वापस से बाहर निकाल लीं. किंजल अपनी प्यारी सी नशीली आंखों से देख कर मुझे स्माइल पास कर देती. पहले मैंने सोचा कि बात करूं या ना करूं … कहीं उस दिन जैसे नाराज़ हो गयी तो?संयोग से उस दिन शीतल भी घर पर नहीं थी, तो फिर मैंने सोचा कि जो होगा सो देखा जाएगा.

मैं सोनिया वर्मा फिर से आपको सेक्स कहानी के अगले भाग चाची चाचा की चुदाई में स्वागत करती हूँ. मस्ती को बढ़ाने के लिए मैंने अपने मुँह में भाभी के एक बोबे को लेकर चूसने लगा. देशी मारवाडी सेक्सीपर मजा भी देता है, जो गांड मराने का शौक रखता है, इसे वही समझ सकता है.

दोस्तो, आपको कुंवारी बुर की चुदाई की ये कहानी पसंद आई हो तो मुझे अपने विचार जरूर बतायें. कभी दायें वाले को तो कभी बाएं वाले को!और उनके दोनों हाथों को खोल कर अपनी हथेलियों से जकड़ लिए.

वो लंड पर बैठे बैठे खिड़की की तरफ घूम गई और जैसे ही दोनों की नजरें आपस में मिलीं, स्नेहा मुस्कुरा उठी. जब उसका पानी निकला, तो पूरा लंड उसने मेरी चुत के अन्दर ही रोक दिया था. थोड़ी देर बाद मैं उसे बेड पर लिटा दिया और उसको उल्टा लिटाकर उसके ऊपर लेट गया.

अंत में एक बार फिर से मैं और कश्मीरी गर्ल लिली इकट्ठे चरमसीमा पर पहुँचे और मेरे लण्ड से वीर्य की धार ने चूत की गर्म दीवारों को ठंडक पहुँचा दी. उसके गले पर काटने के साथ साथ मैं उसकी गांड भी दबाने लगा और अब मैंने फिर से उसके होंठों को चूमते हुए उसकी गांड पर ज़ोर से एक चपत लगा दी।मेरी यह हरकत उसको भी बहुत अच्छी लगी और उसने अपनी ब्रा के हुक खोल दिए. भाभी जी- ठीक है, मैं तुम्हारे हाथ पीछे से खोल कर आगे से बांध देती हूं, जिससे तुम्हें लेटने में दिक्कत ना हो.

अब मैं ये जान चुका था कि आज नहीं तो कल मैं इसके साथ सेक्स ज़रूर करूँगा।यह फ़ोन सेक्स का सिलसिला अच्छे से चल पड़ा था मगर हमको मिले हुए काफी वक़्त हो गया था।एक दिन घर पर कोई नहीं था और मैंने उसको मिलने के लिए बुलाया।मैं यह सोच चुका था कि आज तो मैं उसको सेक्स के लिए पूछ ही लूंगा।वह घर आई और उसने उस वक्त एक खुली टीशर्ट के नीचे शॉर्ट्स पहन रखे थे.

वहां देखा तो नाना, नानी और मामी गेट पर ही मेरा इंतजार कर रहे थे क्योंकि मैं उन सबका बहुत लाड़ला हूँ. मिशैल- ठीक है, क्या तुम मेरे सेक्सी डांस के बाद मेरी बॉडी को तेल से मसाज होते देखना चाहोगे?मैं- हां, इसमें तो बहुत मजा आयेगा.

वह मेरे ऊपर झुक कर मेरी छाती, कंधों और बाजुओं पर अपने नर्म हाथों को फिराने लगी. जब मैं अपनी वासना के आगे विवश हो गयी तो वो कैसे न होती।वो पूरी ताकत से मेरे स्तनों को मसलने लगी और मैं उसके स्तनों को। हम पागलों की तरह एक दूसरे को चूमने लगे थे।कुछ देर के बाद उसने मुझे खड़ी कर दिया और दीवार से सटा दिया. मैंने जब उसका लौड़ा आगे पीछे किया, तो उसके सुपारे की चमड़ी से साफ़ महसूस कर लिया.

और अन्दर ले भैन के लंड … साले गांडू आज तेरी गांड को ऐसे चोदूंगा कि अब तक किसी ने नहीं चोदी होगी. उसके बाद दो तीन दिन तक मैं मौके की तलाश में रहा … लेकिन मौका नहीं मिला. साथ ही साथ मेरे दोनों हाथ कभी भाभी के चुचों को ब्लाउज़ के ऊपर से सहलाते, तो कभी उनकी कमर को मसलने लगते, जिससे मोना भाभी के ऊपर बहुत मस्ती छाने लगी.

हिंदुस्तान की सेक्सी बीएफ इस कॉलेज फ्रेंड सेक्स कहानी के अगले भाग में आपको डॉक्टर प्राची के साथ चुदाई की कहानी लिखूंगा. गुलजान को खींच कर मैंने अपने मुँह पर बिठा लिया और उसकी चूत चाटने लगा.

बीएफ बुर की चुदाई दिखाओ

मेरे परिवार में मेरे अलावा मेरी दो बड़ी बहनें और मम्मी-पापा हैं।लड़की की सेक्सी कहानी तब की है जब मैं कॉलेज में पढ़ता था और मेरी एक दोस्त संजना के साथ मेरे शारीरिक सम्बन्ध बने।यह कहानी बिल्कुल सच्ची है जो मेरे साथ मेरे कॉलेज के दिनों में सच में हुई थी. मैंने भाभी की गांड में अच्छे से घी लगाया और छोटी उंगली से गांड के अन्दर घी लगाया, जिससे उनकी गांड चिकनी हो जाए. मेरा नंगा कड़क लंड भाभी के लहंगे के ऊपर से ही उनकी गांड की दरार में रगड़ने लगा था.

अब उसने मुझको घोड़ी बनाया और पीछे से अपना कड़क लौड़ा मेरी गांड में दे दिया. एक गेस्ट रूम था और एक बेड रूम।तो सर बाहर बैठे और मैं बेड रूम में आ गई. सेक्सी व्हिडीओ सेक्सी व्हिडीओ कॉममैंने अब दो उंगलियां चुत में डाल दीं और जोर जोर से भाभी की चूत में उंगली चलाने लगा.

अब आगे देसी नंगी भाभी की सेक्स कहानी:उससे मिलने का वादा करके मैं घर वापस तो गया लेकिन ऐसा लग रहा था कि कुछ वहीं पर छूट सा गया।ना मैं उन लम्हों को भुला पाया और न ही रेनू।तड़प क्या होती है, मुझे अब पता चल रहा था। उसके पति ने उसके सारे सोशल अकॉउंट बन्द करवा दिए थे.

अंकल मेरी चुत देखते ही रह गए, एकदम गोरी चिकनी सीलपैक चुत उनके सामने थी. ये सोचकर मेरा लंड भी खड़ा होने लगा था लेकिन मैं गाड़ी चलाता रहा और उसका इंतजार करने लगा कि कब वो गाड़ी को रोकने के लिए कहेगी.

कमेंट या ईमेल करके प्रोत्साहन दें ताकि ऐसी ही कहानी आगे भी आपके सामने प्रस्तुत कर सकूं।मुझे इस ईमेल पर मैसेज करना ना भूलें-[emailprotected]. कुछ देर बाद मैंने लंड निकाल लिया और बोला- जान, ऐसे ही पेट के बल लेट जाओ. प्यासी चूत अंदर से चिकनी होने के कारण मेरे लंड के सुपाड़े को जल्दी ही अन्दर निगल गई.

फिर भाभी जी ने मेरे शरीर और पैरों को पिलर से खोला और बेडरूम में लेकर आ गईं.

मैंने उसकी गर्म चूत पर लंड रख कर उसके होंठों से होंठ जोड़ दिए और एक करारा धक्का दे मारा. मैंने उसको हैरानी से देखा तो वो बोली- इतनी आसानी से नहीं जाने दूंगी. ये सोचकर कुछ देर बाद मैंने एक बार फिर से उसके घर के दरवाजे को खटखटाया मगर फिर भी शायरा के घर का दरवाजा नहीं‌ खुला.

सेक्सी वीडियो भोजपुरी में चोदाउस कम्पनी का सारा स्टाफ मुझे बहुत पसंद करता है क्योंकि मैं सबकी मदद भी करता हूँ और देखने में भी मैं बहुत स्मार्ट हूँ. भाभी की चूत काफी कसी हुई थी।अभी आधा लंड ही गया होगा कि भाभी जोर से चिहुँक उठी और बोली- आराम से … दर्द हो रहा है।मैं कुछ पल के लिये रुका और फिर धीरे धीरे झटके लगाने शुरू कर दिए.

गांड में सेक्सी वीडियो

लेकिन अब बच्चा होने और उम्र थोड़ा बढ़ने से चाची का शरीर भर गया और चाची सेक्स बम्ब तो क्या, सेक्स की तोप बन चुकी थी. डॉक्टर बोला- क्या!मैं बोली- तुम्हें अपना स्पर्म मेरी चूत में ही डालना होगा. मैंने अपने बायें हाथ की उंगली और अंगूठे से चूत को खोला और उसमें लण्ड का सुपारा अंदर डाल दिया.

चलती हुई बस में सब एंजॉय करते हुए स्नेहा- ज्योति, तू मेरे भाई को प्रपोज क्यों नहीं कर देती है. मैं गुस्से से प्राची को देखने लगा, तो उसने लंड को मुँह में रखकर ही शरारत वाली मुस्कान देकर फिर से एक बार अपने दांतों के बीच मेरे सुपारे को दबा दिया. हैलो फ्रेंड्स, मैं आर्यन एक बार फिर से अपने भाई मयंक के साथ एक धनवान जवान विधवा की चुदाई की कहानी में आपके सामने हाजिर हूँ.

रास्ते में जाते जाते उन्होंने मुझे एक दर्द कम करने की दवाई और दी, और जैसे ही हम घर पहुंचे उन्होंने बोला- तुम्हारी तनख्वाह बढ़ा दी जाएगी और करन की भी।मैं बहुत खुश थी मगर दर्द के मारे मेरा शरीर टूट रहा था तो मैं चुपचाप रूम में गई और बेहोशी की हालत में गिर कर सो गयी. यदि किसी पुरूष मित्र ने ऐसे ही कभी अपने बॉस की बीवी को चोदा हो तो मुझे भी बतायें. थोड़ी देर के बाद दीदी को भी मजा आने लगा- आउउफ्फ आआह बहुत मजा आ रहा है.

मेरे मुँह से चुत और लौड़ा शब्द सुनने के बाद वे दोनों शॉक्ड हो गईं और ताई मुझे डांटने लगीं. उसने भी मुझे मेरा लंड दिखाने के लिए बोला, जब मैंने अपना लंड दिखाया तो मेरे लंड को देखकर उसकी आंखें चमक उठीं.

हॉट भाभी देवर कहानी में पढ़ें कि मैं भाभी भाभी के साथ फ़्लैट में रहता था.

अमन ने इसी का फायदा उठाया और वो मेरे चूतड़ों पर अपने लंड को लगाकर दबाव बनाने लगा. ब्ल्यू फिल्म फुल सेक्सीअब पापा ने एक जोर का झटका मारा तो उनका आधा लंड चुत में घुसता चला गया. सेक्सी वीडियो सुहागरात की सेक्समैंने बिल्कुल एक ही शेप की ऐसी खूबसूरत चूचियाँ और उनके ऊपर अति सुंदर भूरे गुलाबी रंग के गोले आज से पहले कभी नहीं देखे थे. अगर मैं उसकी उत्तेजना के हिसाब से चलता तो सब कुछ बहुत जल्दी ही खत्म हो जाने वाला था.

घर आकर मैं कुछ सोच में पड़ गई कि कल किस तरह की ड्रेस डाल कर जाऊं, जिससे मैं उसको अपनी तरफ आकर्षित कर सकूं.

तभी अचानक सुलतान बाथरूम से बाहर आया और नीचे लेटकर मेरे आण्ड चाटने लगा. यह कह कर उसने पक्की स्याही वाले मार्कर पेन से अपने लंड पर मुझसे लिखवाया ‘रूपा का लंड. मैंने दीदी की गीली पैंटी को उठा लिया और उसे उल्टा किया, तो देखा कि जहां पर दीदी की चूत का छेद था … वहां पर सफ़ेद मलाई सा चूत का पानी लगा हुआ था.

मैं ट्रेन से अपने घर गया और उधर एक दिन रुक कर उधर से बस से उसके गांव गया. अब मैं उसको किसी और नजर से देख रही थी और उसको अपनी तरफ आकर्षित करना चाहती थी. फर्स्ट फ्लोर पर हम लोग खुद रहते हैं और बाकी के दोनों फ्लोर हमने किराये पर दे रखे हैं.

बीएफ सेक्सी लंड वाला

मेरे बाद वो भी बाथरूम में गयी और जब वो वापस आयी तो सिर्फ टॉवल में ही थी. लेकिन रूपाली अभी भी इस सब से अनजान थी।मित्रो, हॉट मौसी की चुत कहानी में आपको मजा आ रहा है ना?कमेंट्स करके मुझे बताएं. वो बोलती- जान, मैं ये पल कभी नहीं भूलूंगी … आज मैं कितनी खुश हूं, वो शब्दों में बयान ही नहीं कर सकती.

उस दिन मेरी वाइफ को कहीं अर्जेंट काम से जाना था, तो वो सुबह ही निकल गई.

चाची- शर्मा क्यों रहे हो, बताओ न!मैं- हां एक है, जिसे मैं बहुत चाहता हूँ.

खाने के बाद लिली ने उसकी मम्मी से कहा- मम्मी, आप सो जाओ, सर को मैं सी-ऑफ़ कर दूँगी. भाभी का पति यानि मेरा बड़ा भाई टूरिस्ट गाइड है और वो घर पर बहुत ही कम आ पाता है. इंग्लिश सेक्सी वीडियो घोड़े वालीअजय ने जया को देखा तो उसे आंख मारते हुए अपने पास आने का इशारा किया.

मैंने अपने लौड़े की रफ्तार तेज कर दी और गपागप गपागप अन्दर बाहर पेलने लगा. मेरे लंड की नसें चारों ओर तनी हुई थीं और पूरा लंड मेरे कामरस में चिपचिपा हो चुका था. मैं उन पर टूट पड़ा और मैंने रोशना के दोनों दूध चूस चूस कर लाल कर दिए.

मैं उसके निप्पलों पर बाइट करने लगा जिससे उसकी हालत खराब होने लगी और उसकी चुत ने पानी छोड़ दिया. फिर एक दिन बुआ और घर के सब लोग उसका रिश्ता पक्का करने के लिए बाहर जाने वाले थे.

मैं उम्मीद करती हूं कि आप लोग अच्छे होंगे और अपनी अपनी माशूका की चूत गान्ड फाड़ रहे होंगे। और जिनके पास माशूका नहीं है, वो मेरे नाम की मुठ मार रहे होंगे।लेकिन आप लोगों से एक आग्रह है कि स्पर्म मेरी चूत में ना डालें।आप लोगों में से बहुत सारे लोग मुझे चोदने की इच्छा जताई.

वो मेरी गांड में इस तरह अपनी जुबान घुसाकर घुमा रही थी, मुझे लगा मैं इस दुनिया में नहीं हूं. भाभी ने अच्छे से मेरे पूरे लंड पर उसे लगा कर मेरी आंखों की पट्टी खोल दी. तुम भी उसकी प्यास नहीं बुझा पाओगे, तो और कौन प्यास बुझा पाएगा?मैं- पापा घर पर हैं यार और मम्मी भी आजकल कुछ करने नहीं दे रही हैं.

इंडियन सेक्सी वीडियो देखने वाला वो सेक्स कहानी बाद में लिखूंगा, आप फिलहाल लंड चुत हिलाना छोड़ कर इस अपने मेल लिख कर बताएं कि गाँव की सेक्सी भाभी की कहानी कैसी लगी. इसी प्रकार की मस्ती करती हुई दोनों फ्रेश हुईं और तैयार होकर हॉल में आ गईं, जहां पहले से सभी बैठे थे.

फिर उन्होंने मेरे लंड को चाट चाट कर गीला कर दिया और मेरे गोटों को मुँह में भर के चूसने लगीं. उनकी चुत के नमकीन रस से मैंने शराब की कड़वाहट को खत्म किया और उनके निप्पल पर फिर से मुँह लगा दिया. उसने मुझसे पूछा कि आप क्या करते हैं?तो मैंने बताया कि मैं एक बिजनेसमैन हूं.

बीएफ पिक्चर इंग्लिश वीडियो

दो मिनट तक मैं संगीता का मुँह चोदता रहा तो उसके मुँह का रंग लाल हो गया. मगर जब मैंने उसे दूसरी बार फिर से पकड़ा तो इस बार वो पूरी गर्म हो गई क्योंकि वो लंबे समय से सेक्स की भूखी थी. मेरे मन में एक डर भी था परंतु मैंने मन बना लिया था कि राहुल से मैं मिलूंगा।राहुल ने बताया कि वह रूम लेकर अकेला रहता है तथा शाम को मुझसे मिल सकता है.

ललित के हिसाब से बतायी गयी बातों को मानें तो इस समय धारा के चैट रूम में होने की सम्भावना थी. जिसने मेरी पुरानी कहानी नहीं पढ़ी है वो ऊपर दिए लिंक पर क्लिक कर मेरी सारी कहानियां पढ़ सकते हैं।तो आज आप सब के लिए मैं Xxx बस सेक्स कहानी लायी हूँ.

मैं उसकी आंखों को देख कर अब भी ये न समझ सका था कि अलवीना क्या चाहती है.

वो- आर्यन तुम्हारे लंड के नीचे जो काला तिल है, ये तुम्हारे लौड़े को और भी ज्यादा सुंदर बना रहा है. मैंने भाभी की गांड में अच्छे से घी लगाया और छोटी उंगली से गांड के अन्दर घी लगाया, जिससे उनकी गांड चिकनी हो जाए. हर वक्त मेरी चुत लंड के इंतजार में पानी छोड़ती रहती है ये तुम्हारे लंड के लिए तड़फती रहती है.

भाभी ने बाथरूम का दरवाजा खोला लेकिन मैंने अपना मुँह दूसरी तरफ किया हुआ था और भाभी को कपड़े देने लगा. मैं- फ़लक, मुझे ब्रा और पैंटी से नफ़रत है, ये दोनों चीजें लड़की के हुस्न को छिपा लेती हैं. वे मुस्करा दिए- चलो, मैं भी उसके गेस्ट को इन्टरटेन करता हूं … सब साथ चलेंगे.

फिर दोनों हाथों से उसके चूतड़ पकड़ कर फैला दिए और लंड अन्दर बाहर करने लगा.

हिंदुस्तान की सेक्सी बीएफ: फिर लगभग 3 मिनट बाद उनके झटके और तेज हो गए और उन्होंने आःह्ह करते हुए अपना सारा पानी मेरे मुंह में निकाल दिया. मेरा सपना था कि भाभी को पूरी तरह से उन्मुक्त कर दूं और तभी उनकी चुदाई का मजा लूं.

उनके घर के पास एक नाला था … उसमें मैंने भाभी की फटी हुई नाईटी को फैंक दिया. संगीता मेरे लंड की तारीफ में बोले जा रही थी- आर्यन, आज मैं तुमको एक और खास बात बताती हूं. चाची ने नाईट गाउन में से एक मम्मा बाहर निकाला और मेरा सिर नीचे दबा कर मेरा मुँह अपनी चूची के निप्पल पर टिका दिया.

फिर डॉक्टर अपनी पैंट उठाते हुए बोला- ठीक है यार … अब तुम जाओ और अपने पति को बुलाकर लाओ.

लेकिन जैसे ही मैंने उसका सलवार का नाड़ा खोलना चाहा, उसने मना कर दिया. संगीता भी मेरी पैंट में फूलते उभार को देख कर अपनी आंखों में वासना का नशा भर रही थी. ”जैसे ही वो ब्रा को उठाने के लिए फर्श पर लेटा, मैंने उसकी चुस्त गांड पर अपना पैर रख कर दबा दिया.